GLIBS
17-05-2020
क्वारंटाइन सेंटर में सिलेंडर में लगी आग, मची अफरा-तफरी, कोई हताहत नहीं

कवर्धा। बाहर से आने वाले प्रवासियों के लिए भगुटोला स्थित सरस्वती शिशु मंदिर में क्वारंटाइन सेंटर बनाया गया है। जहाँ सिलेंडर के पाइप में आग लग गई। गैस लीक होने से लगी आग से अफरा-तफरी मच गई। दअरसल सुबह करीब 9.30 को क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे लोग खाना खा रहे थे। इसी दौरान सिलेंडर पाइप लीक होने से आग लग गई। इससे पुलिस पेट्रोलिंग पार्टी ने लोगों को आग लगे रूप से बाहर निकाला, जिससे कोई बड़ी घटना नहीं हुई।

वही कुछ देर बाद आग को बुझाया गया। प्रशासन ने बाहर से आए मजदूरों के लिए भागुटोला के सरस्वती शिशु मन्दिर स्कूल में क्वारेंटाईन सेंटर बनाया गया है। जहाँ वर्तमान में 20 से अधिक लोग है, जिनके लिए सुबह का भोजन बना रहे थे। इसी दौरान भोजन जहां बनता है वही बैठकर मजदूर खाना खा रहे थे और अचानक गैस पाइप में आग लग गई। इसके बाद पुलिस ने मजदूरों को बाहर निकाले जिससे कोई हताहत नहीं हुआ है।

07-05-2020
भूपेश बघेल ने विशाखापट्नम की दुर्घटना पर दुख व्यक्त किया, रायगढ़ हादसे पर जताई चिंता

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विशाखापट्नम के केमिकल प्लांट में हुए गैस रिसाव हादसे में लोगों की मृत्यु पर दुख प्रकट किया है। मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करते हुए इस घटना में प्रभावित लोगों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।मुख्यमंत्री बघेल ने छत्तीसगढ़ के रायगढ़ के तेतला गांव स्थित एक निजी पेपर मिल में जहरीली गैस के रिसाव से मजदूरों के बीमार होने की घटना पर भी चिंता जताई है। उन्होंने कहा है कि लॉक डाउन के बाद फिर से शुरू किए जा रहे कारखानों में सुरक्षा संबंधी सभी एहतियाती उपायों का गंभीरतापूर्वक पालन तय किया जाना चाहिए। उन्होंने गैस रिसाव से प्रभावित सभी मजदूरों को बेहतर से बेहतर इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।

07-05-2020
विशाखापट्टनम गैस हादसे पर टीएस सिंहदेव ने दु:ख व्यक्त किया

रायपुर। आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम गैस रिसाव मामले में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने दुख व्यक्त किया है। उन्होंने ट्वीट कर पीड़ितों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। सिंहदेव ने कहा कि विशाखापट्टनम में गैस लीक का दुखद समाचार सुनकर व्याकुल हैं। पीड़ितों और उनके परिवार के लिए प्रार्थना करता हूं। उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है स्थानीय प्रशासन और राज्य सरकार वहां लोगों की सुरक्षा के पर्याप्त उपाय कर रहे हैं।

 

 

01-05-2020
एलपीजी उपभोक्ताओं के लिए राहत भरी खबर, गैर सब्सिडी वाले सिलेंडर के दामों में आई कमी

नई दिल्ली। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण देशभर में जारी पूर्णबंदी के बीच खाना पकाने की गैस (एलपीजी) का इस्तेमाल करने वाले उपभोक्ताओं के लिए एक राहत भरी खबर है और शुक्रवार से गैर सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर 162 रुपये की बड़ी कमी की गई है। देश की अग्रणी तेल विपणन कंपनी के अनुसार नई दरें आज से प्रभावी हो गए हैं। दिल्ली में गैर सब्सिडी वाला सिलेंडर 162.50 रुपये कम होकर पहले के 744 रुपये से मई माह के लिए 581.50 रुपये प्रति सिलेंडर पर मिलेगा। सरकार रसोई गैस उपभोक्ता को एक वित्त वर्ष में 12 सिलेंडर सब्सिडी दर पर देती है और इससे अधिक की मांग पर बाजार कीमत देनी पडती है। मुंबई में नई दर 579 रुपये प्रति सिलेंडर होगी। कोलकाता में यह 584.50 रुपये और चेन्नई में 569.50 रुपये प्रति सिलेंडर पर मिलेगा।

06-03-2020
ज़रा सी चूक ने उजाड़ दी परिवार की खुशियां, माँ को बचाने में चली गई भाई बहन की जान

रायपुर। गैस लीक होने के कारण अपनी मां की जान बचाने के चक्कर में भाई-बहन बुरी तरह झुलस जाने के बाद इलाज के दौरान दोनों की मौत होने का मामला सामने आया है। बता दें कि​ मूूंगेली जिले के ग्राम भथरी निवासी रोहित चतुर्वेदी मजदूरी का काम करता है। पत्नी सुशीला बाई गृहिणी है। घटना 25 फरवरी की रात करीब आठ बजे की है। सुशीला घर में गैस चूल्हे पर खाना बना रही थी। इस दौरान अचानक पाइप से गैस लीक हो गया। देखते ही देखते आग भड़क गई। मां के चिल्लाने पर बेटा सलीम चतुर्वेदी व बेटी साक्षी रसोई में पहुंचे।

दोनों भाई-बहन अपनी मां को बचाते हुए गैस से लगी आग बुझाने की कोशिश करने लगे। हादसे में सलीम व साक्षी के साथ ही उसकी मां सुशीला बुरी तरह से झुलस गए। रोहित ने आनन-फानन में परिजन की मदद से उन्हें इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया, जहां से उनकी गंभीर हालत देखकर सिम्स रिफर किया है। बहरहाल महिला का सिम्स में उपचार चल रहा था। जबकि, दोनों बच्चों की गंभीर स्थिति को देखते हुए उन्हें बर्न एंड ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया। उनका उपचार जारी है। बुधवार को इलाज के दौरान बेटे सलीम की इलाज के दौरान मौत हो गई। गुुरुवार को साक्षी ने भी दम तोड़ दिया। तारबाहर पुलिस इस मामले में मर्ग कायम कर जांच कर रही है।

05-03-2020
स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है ज्वार की रोटी, वजन कम करने में मिलती है मदद

नई दिल्ली। हर कोई चाहता है कि वह हैल्दी खाना खाएं और स्वस्थ रहें। ऐसे में आज हम आपके लिए लाएं हैं ज्वार की रोटी जो आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद है। आइए जानते हैं ज्वार रोटी बनाने की विधि...

ज्वार रोटी बनाने की सामग्री :
पानी- 1 कप
सफेद तिल- 1 टेबलस्पून
काले तिल- 1 टेबलस्पून
नमक- स्वादानुसार
देसी घी- 1 टेबलस्पून

ज्वार रोटी बनाने की विधि :

- सबसे पहले पानी में नमक मिलाकर गैस गर्म करने के लिए रखें।
- एक उबाल आने के बाद इसमें ज्वार का आटा डालें।
- अब इसे 2 मिनट के लिए ढककर गैस की धीमी आंच पर पकाएं।
- पकने के बाद इसे प्लेट में निकाल लें।
- ठंडा होने के बाद इसमें सफेद काले तिल, घी डालें।
- इसमें थोड़ा-थोड़ा पानी डालकर इसका आटा गूंथ लें।
- अब तैयार आटे की लोइयां बनाएं और बेल लें।
- इसके बाद एक पैन को गैस पर रखें।
- एक-एक कर सभी रोटियां सेंक लें।
- आप चाहे तो रोटी बनाते समय घी का इस्तेमाल भी कर सकते है।

आपकी ज्वार की रोटियां बन कर तैयार है। आप इसे अदरक, लहसुन, मूंगफली, हरी मिर्च और नमक से तैयार चटनी के साथ खा सकते है।

यह खाने में टेस्टी होने के साथ हैल्थ के लिए काफी फायदेमंद है। आपको बता दें ज्वार की एक रोटी में सिर्फ 38 कैलोरी पाई जाती है, जिससे वजन कंट्रोल में रहने में मदद मिलती है।

17-02-2020
शेयर बाजार में मायूसी,गिरावट के साथ बंद हुआ बाजार

मुंबई। तेल एवं गैस और वित्त क्षेत्र की कंपनी के शेयरों में बिकवाली के बीच सेंसेक्स और निफ्टी सोमवार को लगातार गिरावट के साथ बंद हुए। बीएसई का 30 कंपनियों के शेयरों का सूचकांक सेंसेक्स 202.05 अंक यानी 0.49 प्रतिशत घटकर 41,055.69 अंक पर बंद हुआ।
इसी तरह एनएसई निफ्टी 67.75 अंक यानी 0.56 प्रतिशत टूटकर 12,045.80 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स में शामिल 19 कंपनियों के शेयर गिरकर बंद हुए। जबकि 11 कंपनियों के शेयर में तेजी का रुख दिखा। सेंसेक्स में शामिल ओएनजीसी, सन फार्मा, एनटीपीसी, बजाज ऑटो और एचडीएफसी के शेयर गिरकर बंद हुए। टाइटन, नेस्ले, टीसीएस, कोटक बैंक और टाटा स्टील के शेयर में उछाल का रुख देखा गया। एशियाई बाजार मिश्रित रुख के साथ बंद हुए।

 

21-11-2019
वैश्विक स्तर पर छत्तीसगढ़ पर्यटन को बढ़ावा देने तैयार करें बेहतर कार्ययोजना : ताम्रध्वज साहू

रायपुर। गृह और पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू की अध्यक्षता में आज राजधानी रायपुर के उद्योग भवन सभाकक्ष में छत्तीसगढ़ पर्यटन बोर्ड के संचालक मंडल की बैठक हुई। बैठक में पर्यटन बोर्ड की नयी पॉलिसी सहित टूरिज्म बोर्ड द्वारा संचालित इकाईयों में आवश्यक रेनोवेशन, बोर्ड की स्वीकृत पद संरचना अनुसार अधिकारियों एवं कर्मचारियों की भर्ती कराए जाने, बोर्ड की इकाईयों को पी.पी.पी. मॉडल पर संचालित किए जाने आदि के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई। बैठक में मंडल के सदस्यों ने प्रस्तावित बिन्दुओं पर चर्चा के साथ छत्तीसगढ़ पर्यटन को बेहतर बनाने के लिए अपने-अपने सुझाव दिए। यह पर्यटन बोर्ड के संचालक मंडल की 30वीं बैठक थी। पर्यटन मंत्री ने बैठक में कहा कि वैश्विक स्तर पर छत्तीसगढ़ पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए आधुनिक तौर-तरीकों के साथ बेहतर कार्ययोजना तैयार किया जाए। उन्होंने अन्य देशों और प्रदेशों में टूरिस्टों के लिए किए जा रहे उत्तम व्यवस्थाओं का अनुकरण करते हुए छत्तीसगढ़ में पर्यटकों की संख्या बढ़ाने के लिए बेहतर कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने छत्तीसगढ़ पर्यटन का वैश्विक स्तर पर व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मंडल द्वारा विभन्न राज्यों में स्थित पर्यटन केन्द्रों के आस-पास सूचना केन्द्र स्थापित किया जाए। उन्होंने बोर्ड के होटल, मोटल, रिसॉर्ट और रेस्ट हाउस को आय मूलक बनाने के लिए हाउस कीपिंग और खान-पान की व्यवस्था एवं गुणवत्ता को बेहतर करने पर बल दिया। 

अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में होटल, मोटल, रिसॉर्ट और रेस्ट हाउस मिलाकर कुल 50 इकाईयां है जहां पर पर्यटकों को लॉजिंग, बोर्डिंग, कैटरिंग आदि की सुविधाएं प्रदान की जा रही है। प्रदेश के विभिन्न पर्यटन स्थलों में वर्ष 2018-19 में लगभग एक करोड़ 94 लाख पर्यटक आए है। इस वर्ष विभिन्न इकाईयों से चार करोड़ पांच लाख रूपए की आय प्राप्त हुई। इनमें से चार करोड़ 97 लाख रूपए साफ-सफाई, खान-पान सामागियों, विद्युत देयक, गैस एवं अन्य कर्मचारियों का वेतन तथा मरम्मत एवं रखरखाव कार्यों में व्यय किया गया है। बैठक में पर्यटन मंडल के विशेष सचिव पी. अन्बलगन, प्रबंध संचालक इफ्फत आरा सहित संचालक मंडल के प्रतिनिधि एके पाण्डेय संयुक्त सचिव वित्त, पीडी.पूरिबीया उपसचिव संस्कृति, धमरसिंह उपसचिव वन, अनुशमन सिसोदिया उपायुक्त परिवहन, तन्मय मुखोपाध्याय, वरिष्ठ वाणिज्य प्रबंधक रेल, संदीप चोपड़ा प्रबंधक एअरपोर्ट और विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
 

24-04-2019
शेयर बाजार की बल्ले-बल्ले, सेंसेक्स 490 अंक उछला 

मुंबई। आम चुनावों के नतीजों से पहले विदेशी निवेशक खरीदारी कर रहे है। इसीलिए शेयर बाजार में तेजी आ गई है। शेयर बाजार में तीन दिन से जारी गिरावट थम गई है। बुधवार के आखिरी सत्र में सेंसेक्स-निफ्टी दिन के सबसे ऊपरी स्तर पर बंद हुआ है। एक्सपट्र्स का मानना है कि शेयर बाजार में तेजी की  इलेक्शन से पहले विदेशी निवेशकों की ओर से लौटी खरीदारी है। इस तेजी में निवेशकों ने 1.44 लाख करोड़ रुपये की कमाई की है। कारोबार के अंत में बीएसई का 30 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 490 अंक की बढ़त के साथ 39054.68 के स्तर पर बंद हुआ है।  एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 150.20 अंक की बढ़त के साथ 11726.15 के स्तर पर बंद हुआ है। बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों के शेयरों की वैल्यूएशन 1,51,74,915.17 करोड़ से बढ़कर 1,53,19,467.81 करोड़ रुपए हो गई है यानी एक दिन में शेयरों की कीमत 1.44 लाख करोड़ रुपए बढ़ गई है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.43 फीसदी की बढ़त के साथ 15218.34 के स्तर पर बंद हुआ है। वहीं स्मॉल कैप इंडेक्स 0.42 फीसदी की बढ़त के साथ 14846.65 के स्तर पर बंद हुआ हैं। ऑयल एंड गैस शेयरों में आज जोरदार रिकवरी आई जिसके चलते बीएसई का ऑयल एंड गैस इंडेक्स 2.32 फीसदी की ऊछाल के साथ बंद हुआ है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804