GLIBS
10-12-2019
राहुल गांधी ने सरकार पर कसा तंज, वित्त मंत्री के लिए कही ये बात...

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सरकार पर एक बार फिर करारा तंज कसा है। उन्होंने देश की बदहाल आर्थिक हालत के लिए केन्द्र सरकार पर फिर से हमला बोला है। राहुल गांधी ने सरकार और वित्त मंत्री को निशाने पर लेते हुए कहा कि सरकार देश को बताये कि देश की की अर्थव्यवस्था की हालत क्यों खस्ता हो गई है। सरकार को लहसुन-प्याज का चक्कर छोड़कर लोगों को ये बताना चाहिए कि देश की अर्थव्यवस्था की हालत क्यों खराब हो गई है। राहुल गांधी ने झारखंड विधानसभा चुनाव में आयोजित एक चुनावी रैली में कहा कि वित्त मंत्री कहती हैं कि वह लहसुन-प्याज नहीं खाती हैं। अरे, तुमको जो खाना है खाओ लेकिन देश को ये बताओ कि देश की अर्थव्यवस्था की ऐसी हालत क्यों हो गई है।

05-12-2019
संसद पहुंचे पी चिदंबरम, कांग्रेस नेताओं के साथ मिलकर किया प्रदर्शन

नई दिल्ली। संसद के शीतकालीन सत्र में गुरूवार को लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक को चर्चा के लिए पेश किया जा सकता है। बुधवार को मोदी कैबिनेट ने इस बिल को मंजूरी दी है। वहीं तिहाड़ जेल से जमानत मिलने के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम राज्यसभा की कार्यवाही में हिस्सा लेने के लिए संसद पहुंच गए हैं। संसद परिसर में उन्होंने कांग्रेस नेताओं के साथ प्याज की कीमतों पर विरोध प्रदर्शन किया। गुरुवार दोपहर 12.30 बजे चिदंबरम एक प्रेस कांफ्रेस करेंगे।
 
पूर्वोत्तर के लोगों की समस्या का होगा समाधान

केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने नागरिकता संशोधन विधेयक पर कहा, 'पूर्वोत्तर क्षेत्र के लोगों की चिंताएं हैं जिनका समाधान किया जाएगा। यह आश्वासन हमें गृह मंत्री अमित शाह ने दूरदर्शी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देखरेख में दिया है।'

 

19-11-2019
कांग्रेस की चेतावनी : गांधी परिवार को कुछ हुआ तो भाजपा होगी जिम्मेदार

नई दिल्ली। संसद के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन भी लोकसभा में शुरू होने वाली बैठक हंगामे के साथ शुरू हुई। कांग्रेस नेता सोनिया, राहुल गांधी से एसपीजी की सुरक्षा वापस लिये जाने के मुद्दे पर कांग्रेस, द्रमुक के सदस्यों ने पूरे प्रश्नकाल में आसन के समीप नारेबाजी की। शून्यकाल में इन दलों ने इस विषय पर सदन से वाकआउट किया। शून्यकाल में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने जब इस विषय को उठाने का प्रयास किया तो लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि कांग्रेस सदस्य पहले ही इस विषय को नियम-प्रक्रिया के तहत उठा चुके हैं। चौधरी ने कहा कि गांधी परिवार के सदस्यों की जान खतरे में है। सोनिया गांधी और राहुल गांधी साधारण सुरक्षा प्राप्त करने वाले लोग नहीं हैं और 1991 से एसपीजी की सुरक्षा प्राप्त कर रहे थे। उन्होंने प्रश्न किया कि अचानक से एसपीजी सुरक्षा क्यों हटा ली गई? गांधी परिवार पर अगर किसी तरह का हमला होता है तो इसके लिए बीजेपी जिम्मेदार होगी। लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने कहा कि चौधरी इस विषय को पहले ही उठा चुके हैं। स्पीकर ने उन्हें आगे बोलने की इजाजत नहीं दी।

संसदीय कार्य राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि कांग्रेस सदस्य के इस विषय पर कार्यस्थगन प्रस्ताव के नोटिस को स्पीकर खारिज कर चुके हैं। यह अब शून्यकाल का विषय नहीं है और इसे बिना नोटिस के कांग्रेस सदस्य कैसे उठा सकते हैं। इस पर कांग्रेस के सभी सदस्य खड़े होकर विरोध दर्ज कराने लगे। चौधरी को इस विषय पर आगे बोलने की अनुमति नहीं दिये जाने पर कांग्रेस और राकांपा के सदस्यों ने सदन से वाकआउट किया। इसके बाद द्रमुक के टीआर बालू ने भी इस विषय को उठाने का प्रयास किया। लेकिन उन्हें भी बोलने की अनुमति नहीं दी गई। जिसके बाद द्रमुक सदस्यों ने भी सदन से वाकआउट किया। इससे पहले मंगलवार सुबह सदन की बैठक शुरू होते ही कांग्रेस सदस्यों ने आसन के पास आकर नारेबाजी शुरू कर दी। द्रमुक सदस्य भी गांधी परिवार के सदस्यों की एसपीजी सुरक्षा हटाये जाने के विरोध में आसन के समीप पहुंच कर नारेबाजी करने लगे। गौरतलब है कि हाल ही में सरकार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी की एसपीजी सुरक्षा वापस ले ली थी। अब उन्हें जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है। हंगामे के बीच ही लोकसभा अध्यक्ष ने प्रश्नकाल चलाया और किसानों से संबंधित विषय पर सदस्यों ने कृषि मंत्री से प्रश्न पूछे। बिरला ने नारेबाजी कर रहे सदस्यों से अपने स्थान पर जाने की अपील करते हुए कहा कि किसानों के विषय पर चर्चा हो रही है और ऐसे में सदन में हंगामा अच्छी परंपरा नहीं है।
 

14-10-2019
रक्षा मंत्री का आरोप, कांग्रेस नेता इंग्लैंड जाकर कश्मीर का कर रहे अंतरराष्ट्रीयकरण

मुंबई। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। ठाणे में जनसभा को संबोधित करते हुए राजनाथ ने कहा कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग भारत आए और उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अनौपचारिक बैठक की। उन्होंने कहा कि  पीएम मोदी ने जिनपिंग के साथ कश्मीर पर चर्चा नहीं की। आपके नेता इंग्लैंड जाते हैं, हमारे कश्मीर के आंतरिक मामले का अंतरराष्ट्रीयकरण करने का साहस करते हैं और आप इसकी निंदा भी नहीं कर रहे हैं। राजनाथ ने आगे कहा कि दुनिया मानती है कि भारत अब कमजोर देश नहीं है। भारत ऐसा देश नहीं है जो अपने घुटनों पर खड़े होकर किसी से बात करे। भारत आज अपने पैरों पर खड़े होकर और पूरी ताकत से बात करने की स्थिति में है। अनुच्छेद 370 पर कांग्रेस द्वारा सवाल उठाए जाने पर राजनाथ सिंह ने कहा कि कांग्रेस पांच साल से हमारे प्रधानमंत्री के खिलाफ आरोप लगा रही है, फिर भी हमारी पार्टी सुपरसोनिक स्पीड से ऊपर जा रही है और कांग्रेस सुपरसोनिक स्पीड से नीचे आ रही है।

 

 

24-09-2019
चोरी की गाड़ी खरीदी-बिक्री मामले में 3 आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। प्रदेश की राजधानी रायपुर में चोरी की गाड़ी खरीदी-बिक्री के मामले में पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों में एक कांग्रेस नेता बताया जा रहा है। सरस्वती नगर थाने में एक शख्स अपनी स्कूटी चोरी होने की शिकायत दर्ज करवाई थी। प्रकरण की जांच करते हुए पुलिस कांग्रेस नेता व उसके साथियों तक पहुंची। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मामले में शामिल राहुल शर्मा और पुखराज जोशी को भी गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले भी कांग्रेस के नेता आस के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज हो चुके हैं। सरस्वती नगर थाने से मिली जानकारी के अनुसार चोरी की गाड़ी खरीदी-बिक्री मामले में कांग्रेस नेता आस मोहम्मद समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि तीनों ने चोरी की गाड़ी खरीदी-बिक्री करने में अहम भूमिका निभाई है। पुलिस ने तीन गाडिय़ां भी आरोपितों के पास से बरामद की हैं। सरस्वती नगर थाना प्रभारी के मुताबिक तीन बाइक चोरी कि रिपोर्ट दर्ज हुई थी। इसकी जांच के दौरान यूथ कांग्रेस नेता आस मोहम्मद, पुखराज जोशी और रोहित शर्मा के नाम सामने आए। पुलिस ने तीनों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। इसके बाद तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

आरोपी के पास गाड़ी के दस्तावेज नहीं
पुलिस की पूछताछ में सामने आया कि यूथ कांग्रेस नेता आस मोहम्मद की दोस्ती रोहित शर्मा के भाई से थी। आस मोहम्मद ने रोहित शर्मा से चोरी की गाड़ी खरीदी। आस के पास गाड़ी का कागज नहीं था। जानकारी के मुताबिक आरोपित पुखराज जोशी और रोहित शर्मा ने बाइक चोरी की थी। आस मोहम्मद ने चोरी की बाइक खरीदी थी।

माना से दूसरी गाड़ी जब्त

बाइक चोरी के मामले को लेकर पुलिस को अहम सुराग मिला। मुखबिर से सूचना मिली कि आस मोहम्मद के पास एक गाड़ी है। बताई जगह में पुलिस की टीम पहुंची तो गाड़ी खड़ी मिली। आस मोहम्मद से पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अन्य दोनों के बारे में बताया। इसके आधार पर पुखराज जोशी और रोहित शर्मा को गिरफ्तार कर अन्य गाडिय़ों के बारे में सख्ती से पूछताछ की तो आरोपित पुखराज ने एक गाड़ी माना में होना बताया। बताई जगह से पुलिस ने गाड़ी जब्त कर लिया है।

19-09-2019
मध्यप्रदेश : भोपाल के मंदिरों के बाहर कांग्रेस नेता दिग्विजय के खिलाफ लगाए गए पोस्टर

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के मंदिर वाले बयान पर अब सियासी बवाल मच गया है। आरोप-प्रत्यारोप के बाद अब पोस्टर वार शुरु हो गया है। राजधानी है, जिसमें उन्हें मंदिर में प्रवेश ना करने का मैसेज लिखा गया है। वही पोस्टर लगने के बाद कांग्रेस में हड़कंप मच गया है। हालांकि एक दिन पहले ही भाजपा विधायक विश्वास सारंग ने साधु-संतों और मंदिर प्रबंधकों से अपील की थी दिग्विजय को हिन्दू धर्म से निकालकर मंदिर में प्रवेश पर रोक लगाई जाए। ऐसे में अब इन पोस्टरों को अब भाजपा से जोड़कर देखा जा रहा है। हालांकि अभी तक इस मामले पर किसी भी नेता का बयान सामने नही आया है चाहे वह कांग्रेस का हो या भाजपा का।

बुधवार देर रात भोपाल में दिग्विजय सिंह के विरोध में शहर भर में पोस्टर लगाए गए है। शहर में कई मंदिरों के बाहर पोस्टरों को चिपकाया गया है। इन पोस्टरों में दिग्विजय सिंह को मंदिरों में प्रवेश नहीं देने का जिक्र किया गया है। ये पोस्टर भोपाल के परशुराम मंदिर, हनुमान मंदिर, साईं मंदिर सहित कई मंदिरों के बाहर चस्पा किए गए है। ये पोस्टर हिन्दू समाज द्वारा लगाए गए है। पोस्टर के साथ लिखा गया है कि हिन्दू समाज की यही पुकार हिन्दू विरोधी दिग्विजय सिंह के लिए मंदिरों के दरवाजे बंद हो बंद हो।
पोस्टर वार के बाद कांग्रेस में खलबली मच गई है।  प्रदेश की कमलनाथ सरकार बचाव मुद्रा में आ गई है। कैबिनेट मंत्री गोविंद सिंह का कहना है कि दिग्विजय सिंह से बड़ा कोई धार्मिक रीति रिवाजों को मानने वाला व्यक्ति मध्यप्रदेश मे कोई नहीं है। कुछ दिन पहले ही दिग्विजय ने गोवर्धन पर्वत की पैदल परिक्रमा की थी। वही उन्होंने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि हिन्दू विरोधी प्रमाण पत्र आरएसएस और बीजेपी देते है जिन लोगों ने ये ठेका ले रखा है। कांग्रेस महासचिव और राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को संत समागम भोपाल में कहा था कि भगवा वस्त्र पहनकर लोग चूरन बेच रहे हैं। उन्होंने कहा कि भगवा वस्त्र पहनकर बलात्कार हो रहे हैं। मंदिरों में बलात्कार हो रहे हैं। उन्होंने पूछा क्या यही हमारा धर्म है। कांग्रेस नेता ने कहा कि जिन्होंने हमारे सनातन धर्म को बदनाम किया है, उन्हें ईश्वर भी माफ नहीं करेगा। 

 

12-09-2019
नगरपालिक लाज मामले में कांग्रेस नेता के आरोप को कांग्रेसी पार्षदों ने ही दिखाया ठेंगा

बीजापुर। पिछले कुछ दिनों से जिला मुख्यालय में बन रहे नगरपालिका लाज मामले को लेकर कांग्रेसी नेता अजयसिंह ने नगरपालिका के मुख्यकार्यपालन अधिकारी पर सांठगांठ का आरोप लगा के धरना करने की चेतावनी दी थी। अजय सिंह सहित कांग्रेस पार्षद पुरुषोत्तम सल्लुर ने आरोप लगाया था कि लाज को बिना पार्षदों की जानकारी के जबरन उक्त ठेकेदार को दिया गया है, जिसमें नियमों का पालन नहीं हुआ है। मामले को लेकर नगरपालिका मुख्यकार्यपालन अधिकारी पवन मेरिया के सामने वार्ड क्रमांक 7 के पार्षद सल्लुर 19 अगस्त की बैठक में रखा, जिस पर परिषद में अगली बैठक के दिन विस्तृत चर्चा करने की बात हुईं। उसके बाद 11 सितम्बर को पुनः नगरपालिका परिषद की बैठक हुई, जिसमें पार्षद पुरुषोत्तम सल्लुर ने लीज प्रक्रिया को गलत बताते हुए अनुबन्ध कैंसल करने के साथ दोबारा नीलामी करने की बात रखी, जिस अधिकारी द्वारा परिषद सदस्यों से चर्चा कर अनुमोदन कराया। इस पर 15 पार्षदों में से 14 पार्षदों ने अनुबन्ध को नियमतः एवं नगरपालिका के हित मे सही बता कर अपनी सहमति जताई।

नगरपालिका सीएमओ पवन मेरिया ने बताया कि जिला कार्यालय द्वारा पुराने बस स्टेंड के लाल बंगला को तुड़वाकर काम्प्लेक्स का निर्माण करा नगरपालिका को दिया, जो अभी निर्माणधीन है। उस पर कलेक्टर के निर्देशानुसार उस पर पालिका की आय बढ़ाने के लिए परिषद की बैठक 10 अप्रेल 2018 को कर 35 लाख की लागत में लाज बनाने का निर्णय लिया, जिसमें पूरी लागत नीलामी प्रक्रिया से ही करने की चर्चा हुई। इस पर बन्द लिफाफा नीलामी प्रक्रिया चालू की गई, जिसके लिए तीन अखबारों में निविदा प्रकशित की गई,जिस पर 9 लोगों ने आवेदन दिया। इसमें 3 लोगों ने ही नीलामी में हिस्सा लिया,जिसमें जय माँ वेंकटेश्वरी स्टील एंड फेबिरिकेशन की बोली सबसे ज्यादा होने पर उसके साथ 30 साल की लीज के लिए स्टाम्प अनुबन्ध किया गया।

इस अनुबन्ध के लिए पंजीयन व मुद्रक विभाग को स्टाम्प ड्यूटी भी नीलामीकर्ता ने जमा कराई। वही अभी निर्माण कार्य प्रगति पर है। इस दौरान नीलामी कर्ता ने अपनी पहली किस्त 17 लाख रुपये की समय पर जमा भी की गई, पालिका को इस लाज से जहां 35 लाख की राशि का फायदा हुआ वही 7200 रुपये प्रति माह किराया से 25 लाख 92 हजार की राशि भी मिलेगी। कांग्रेस नेता अजय सिंह के आरोप के बाद वापस नगरपालिका के परिषद में मामले को रखने पर पार्षदों ने एक बार फिर पालिका के निर्णय को हित में बताते हुए 15 पार्षदों में से 14 पार्षदों ने अपनी सहमति दी। इधर उक्त पालिका लाज को लेने वाले किरण रेड्डी ने बताया कि उन्होंने पूरी प्रक्रिया के साथ लाज का अनुबन्ध कराया है और जबरन राजनीति के चलते मामले को तूल दिया जा रहा है जबकी मेरा किसी भी पार्टी से कोई संबंध नहीं है।

06-09-2019
कांग्रेस नेताओं को तिहाड़ जेल में पी चिदंबरम से मिलने की नहीं मिली अनुमति

नई दिल्ली। कांग्रेस नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम से मिलने के लिए तिहाड़ जेल पहुंचा। लेकिन उन्हें कांग्रेस के वरिष्ठ नेता से मिलने नहीं दिया गया क्योंकि निर्धारित समय खत्म हो गया था। इस प्रतिनिधिमंडल में मुकुल वासनिक, पीसी चाको, मनिक्कम टैगोर, अविनाश पांडे और अन्य नेता शामिल थे। वहीं राज्यसभा सदस्य केटीएस तुलसी और मनोज झा ने पी चिदंबरम के खिलाफ कार्रवाई कर रही जांच एजेंसियों की भूमिका पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने देश की कानून व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किए हैं। सीबीआई अदालत द्वारा आईएनएक्स मीडिया मामले में चिदंबरम को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के सवाल पर तुलसी ने जांच एजेंसियों की भूमिका पर सवाल उठाए और कहा कि वह केवल विपक्षी नेताओं को निशाना बना रहे हैं। तुलसी ने कहा मैं केस के बारे में कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता क्योंकि मैं इसके तथ्यों से परिचित नहीं हूं। लेकिन मैं केवल इतना कहना चाहता हूं कि देश में एक तीव्र बहस चल रही है कि कैसे जांच एजेंसियां केवल विपक्षी पार्टियों को निशाना बना रही हैं। क्या देश में कोई कायदा कानून है या नहीं? क्या यह संभव है कि एजेंसियों ने निष्पक्ष होकर मामले की जांच की है? यह कानून का मखौल उड़ाना है। राष्ट्रीय जनता दल के नेता मनोज झा ने कहा मैं  अदालत के निर्देश पर किसी तरह की कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता क्योंकि यह सही नहीं होगा। लेकिन अहम तथ्य यह है कि जांच एजेंसियों की कार्यप्रणाली कानून के साथ ही देश के लिए भी अच्छा संकेत नहीं है। यदि जांच एजेंसी बलप्रयोग के तहत कार्य करती रहेगी तो यह अच्छा संकेत नहीं है।

01-09-2019
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने भाजपा और बजरंग दल को लेकर दिया विवादित बयान

नई दिल्ली। अपने बयानों को लेकर अकसर विवादों में रहने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह एक बार फिर विवादित बयान की वजह से सुर्खियों में हैं। दरअसल दिग्विजय सिंह ने कहा है कि बजरंग दल और भारतीय जनता पार्टी आईएसआई से पैसा ले रहे हैं। उन्होंने ये बयान मध्यप्रदेश के भिंड में दिया, जहां वो महाराणा प्रताप की प्रतिमा का अनावरण करने आए थे।

दिग्विजय सिंह ने कहा, “बजरंग दल और भारतीय जनता पार्टी आईएसआई से पैसा ले रहे हैं इस पर थोड़ा ध्यान दीजिए। और एक बात और बताओ पाकिस्तान से आईएसआई के लिए जासूसी मुसलमान कम कर रहे हैं गैर मुसलमान ज्यादा कर रहे हैं।” मध्यप्रदेश के सतना में टेरर फंडिंग के आरोप में 5 आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर प्रहार किया। उन्होंने टेरर फंडिंग के आरोपियों का भाजपा से कनेक्शन करार देते हुए सवाल पूछा है कि बताओ शिवराज देशद्रोही कौन है। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया कि आईएसआई पाकिस्तान के लिए खुफियागीरी करते हुए भाजपा के नेताओं को एनएसए में गिरफ्तार कर सख्त सजा मिलनी चाहिए। धिक्कार है शिवराज तुम्हें। तुम्हारे चेले पाकिस्तान आईएसआई के एजेंट निकले, जिन्हें तुमने जमानत पर छुड़वाने में मदद की। अब बताओ कि देशद्रोही कौन है?

28-08-2019
कश्मीर भारत का आंतरिक मामला, किसी बाहरी के दखल की जरूरत नहीं : राहुल गांधी

नई दिल्ली। कश्मारी मामले में पाकिस्तान की दखलंदाजी पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लताड़ लगाई है। धारा 370 पर बुधवार को राहुल गांधी ने ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारत का आंतरिक मामला है। इसमें पाकिस्तान या किसी अन्य देश की दखलंदाजी की जगह नहीं हैं। उन्होंने ने ट्वीट में लिखा, 'मैं सरकार से कई मुद्दों पर असहमत हो सकता हूं। लेकिन एक बात साफ तौर पर बताना चाहता हूं। कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है। पाकिस्तान या किसी अन्य देश की दखलंदाजी की जगह नहीं हैं।' एक अन्य ट्वीट में राहुल गांधी ने लिखा, 'जम्मू सख्मीर में हिंसा इसलिए है क्योंकि वहां पाकिस्तान भड़काता है, जिसे दुनिया में आतंकवाद समर्थक देश के रूप में जाना जाता है।' इससे पहले कश्मीर दौरे से लौटाए जाने के बाद राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर हमला बोला था। उन्होंने कहा था कि वहां उन्हें उस बर्बरता का अहसास हुआ जिसको कश्मीरी झेल रहे हैं। राहुल की इस बयान की चर्चा पाकिस्तान में हुई थी। पाकिस्तान के मत्री ने भी राहुल गांधी को श्रीनगर जाने की इजाजत ना मिलने का मुद्दा उठाया था। राहुल गांधी के हालिया बयान से उन्होंने पार्टी से उपर उठकर देशहित मामले में केंद्र सरकार से सहमति जताई है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804