GLIBS
07-05-2020
हो गई शादी पर नहीं पहुंचे पाए घर, विवाहित जोड़े को जाना पड़ा क्वारेंटाइन सेंटर में

कोरिया। मनेंद्रगढ़ निवासी सुनील गुप्ता को सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए शादी करने की प्रशासन से अनुमति मिल गई। किसी तरह शादी भी हो गई, दुल्हन मायके से विदा भी हुई पर ससुराल नहीं पहुंच पाई और दूल्हा अपने घर तक नहीं जा सका।मिली जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश के नरोजाबाद में हुई शादी के बाद जब विवाहित जोड़ा छत्तीसगढ़ के मनेंद्रगढ़ पहुंचा तो शहर की सीमा में तैनात पुलिस टीम ने उन्हें घर जाने की अनुमति नहीं होने की बात बताते हुए प्रशासन द्वारा बनाए गए क्वारेटाइन सेंटर में 14 दिन के लिए रहने की जानकारी दी।दरअसल सुनील गुप्ता की शादी 6 मई को सुमन से नरोजाबाद में हुई, जिसमें दोनों पक्ष को मिलाकर कुल 9 लोग शामिल हुए। सुनील एक गाड़ी में अपनी मां और छोटे भाई के साथ बारात लेकर गया था। जब वह अगले दिन अपनी दुल्हन को लेकर वापस लौटा तो वह विवाह के बाकी बचे रीति रिवाज पूरे करने घर तक नहीं पहुंच पाया। उसे अपनी दुल्हन के साथ 14 दिन के लिए क्वारेंटाइन में जाना पड़ा। जब इसकी जानकारी कोरिया कलेक्टर डोमन सिंह तक पहुंची तो उन्होंने तत्काल पूरे परिवार को होम क्वारेंटाइन करने निर्देश दिया। 

 

24-05-2019
गेस्ट हाउस और भोजनालय में पुलिस का छापा, संदिग्ध अवस्था में मिले कई जोड़े

 

नवापारा-राजिम। रायपुर पुलिस ने शुक्रवार दोपहर उच्चाधिकारियों के निर्देश के बाद नगर के लक्ष्मी नारायण भोजनालय और आनंद गेस्ट हाउस में  दबिश दी । दोनों ही रेस्ट हाउस में 7 जोड़े महिला-पुरुष और 1 युवती बंद कमरे में संदिग्ध तरीके से मिले। पुलिस सभी जोड़ों और दोनों ही रेस्ट हाउस संचालकों को लेकर थाने आई। थाने में लगभग 3 घंटे की गहन पूछताछ और साक्ष्य देखने के बाद 2 जोड़े पति-पत्नी निकले, जबकि एक युवती का अपने निजी कार्य से रुकना प्रमाणित होने पर दोनों जोड़ों और युवती को बिना कार्यवाही के जाने दिया गया। शेष 4 जोड़े महिला-पुरुष और युवक-युवती प्रेमी निकले। इन जोड़ों के परिजनों को फोन कर थाने बुलाया गया और वस्तुस्थिति से अवगत कराते हुए पूरी तरह परिजन होने की पुष्टि होने के बाद उन्हें जाने दिया जबकि चारों पुरुषों और दोनों लाज संचालकों के विरुद्ध प्रतिबंधात्मक कार्यवाही करते हुए एसडीएम अभनपुर के न्यायालय में पेश किया गया । एसडीएम के अभनपुर में मौजूद नहीं रहने के कारण आरोपियों को रायपुर ले जाया गया। बता दें कि 
रायपुर पुलिस की स्पेशल टीम के एएसआई राजेंद्र पाण्डेय अपने 7 मातहतों संचित शर्मा, रोहित कुमार, शुभम यादव आदि के साथ दोपहर 1 बजे अलग-अलग भागों में बंटकर एक ही समय स्टेट बैंक के सामने स्थित लक्ष्मीनारायण लाज और पोस्ट ऑफिस के बाजू स्थित आनंद गेस्ट हाउस में घुसे। लक्ष्मीनारायण लाज से 3 जोड़े और 1 सिंगल युवती जबकि आनंद गेस्ट हाउस से 4 जोड़े महिला-पुरुष बंद कमरों के पीछे मिले। पकड़े गए लोगों में रायपुर, धमतरी सहित गरियाबंद जिले के तरीघाट, कुंडेल गांव के लोग शामिल हैं। थाना प्रभारी अमित तिवारी ने इस कार्यवाही की पुष्टि करते हुए बताया कि बलिराम पिता पुनाराम सोनकर (36) आमापारा राजिम, उमेश्वर पिता भागीरथी साहू (38) मुजगहन थाना कुरूद धमतरी, योगेश पिता रामा साय (24) मैनेजर आनन्द गेस्ट हाउस, मनीष उर्फ बबलू पिता गोपाल वैष्णव (31) खम्हारडीह पंडरी रायपुर, दुबेलाल पिता धनसिंह साहू (25) कौन्दकेरा राजिम, हरिशंकर पिता स्व- प्रभुलाल देवांगन (31) संचालक लक्ष्मीनारायण लाज के विरुद्ध धारा 151 के तहत कार्यवाही की गई है ।   

16-04-2019
खाप पंचायत ने प्रेमी जोड़े को एक घंटे तक मुर्गा बनाकर रखा

प्रतापगढ़। उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में एक खाप पंचायत ने एक प्रेमी जोड़े को पूरे गांव के सामने एक घंटे तक मुर्गा बनने का तालिबानी फरमान सुना दिया। प्रेमी जोड़ा कुछ दिन पहले गांव से फरार हो गया था। वापस आने पर गांववालों ने यह सजा सुना दी। जब प्रेमी जोड़े को सजा देने का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो हड़कंप मच गया। एसपी एस. आनंद ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए जांच के आदेश दिए हैं। एसपी ने दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने का भी आश्वासन दिया है। जानकारी के अनुसार यह घटना महेशगंज थाना के गुजवर गांव की है जहां के प्रधान पर तालिबानी सजा सुनाने का आरोप है। बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले जब फरार महिला और उसका प्रेमी गांव वापस लौटे तो घरवाले पुलिस में शिकायत करने की बात करने लगे। इसके बाद गांव में पंचायत बुलाई गई। महिला को अपने पति के साथ रहने का फरमान सुनाया गया जिस पर सभी राजी हो गए। फिर पंचायत ने प्रेमी जोड़े को एक घंटे तक मुर्गा बनने की सजा सुना दी। युवक और महिला को सबके सामने मुर्गा बनने पर मजबूर होना पड़ा।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804