GLIBS
15-09-2018
Rahul Gandhi : अक्टूबर में प्रदेश आएंगे राहुल गांधी, हेलीकॉप्टर से करेंगे बस्तर का दौरा 

रायपुर| आल इंडिया कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अक्टूबर माह में प्रदेश आ सकते हैं।  शुक्रवार को हुई प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल की बैठक में यह फैसला लिया गया| उनके प्रदेश दौरे के दौरान रोड शो और सभाएं होंगी | इस दौरे में खास यह होगा कि वे बस्तर का दौरा हेलीकॉप्टर से करेंगे| हालांकि राहुल के कार्यक्रम रूपरेखा एआईसीसी द्वारा दी जाएगी| 

प्रदेश में लगभग तीन महीने बाद चुनाव होने वाले हैं| ऐसे में राहुल गांधी का यह दौरा चुनावी लिहाजे से भी महत्वपूर्ण मानी जा रही है| इस चुनावी साल में अब तक राहुल गांधी दो बार प्रदेश आ चुके हैं| यह उनका तीसरा दौरा होगा| प्रदेश कांग्रेस कमेटी में फ़िलहाल टिकट को लेकर उठापटक जारी है| प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने भी यह साफ़ कर दिया है कि 20 सितम्बर तक नामों की घोषणा कर दी जाएगी| वहीं दिल्ली से वापस लौटे प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल ने भी एक सप्ताह के अंदर नामों की घोषणा के संकेत दिए हैं| 

 

 

13-09-2018
PL Punia : चौकीदार अब भागीदार ही नहीं गुनहगार भी: पुनिया

नई दिल्ली। चौकीदार अब भागीदार ही नहीं गुनहगार भी बन गया है। गुरुवार को ये बातें राज्य सभा सांसद और छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया ने ट्विटर पर कही। 9 हजार करोड़ रुपए का लोन लेकर विदेश भागने वाले विजय माल्या को लेकर मचे  सियासी घमासान में अब पीएल पुनिया भी कूद पड़े हैं। इससे पहले भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी पर गंभीर आरोप लगाए थे। उसी के जवाब में पीएल पुनिया का ये ट्वीट आया है।

वित्त मंत्री से मिला था माल्या:

दरअसल भारतीय बैंकों से 9000 करोड़ रुपये से अधिक का लोन लेकर विदेश भागे कारोबारी विजय माल्या ने कहा कि वह भारत छोड़ने से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिला था। माल्या के इस बयान ने देश की राजनीतिक सरगर्मी बढ़ा दी है। इस मुद्दे पर कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दल अरुण जेटली पर हमलावर हो गए हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जहां जेटली के इस्तीफे की मांग की है।

पुनिया ने खुद को बताया चश्मदीद:

वहीं, पीएल पुनिया ने कहा कि विजय माल्या के भागने के दो दिन पहले संसद में अरुण जेटली के साथ उनकी लंबी बैठक हुई थी। मैंने यह खुद देखा था। हालांकि, इस पूरे मामले को अरुण जेटली बेबुनियाद बता रहे हैं। कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद पुनिया ने ट्वीट कर कहा, अरुण जेटली झूठ बोल रहे है। मैंने विजय माल्या और अरुण जेटली को संसद के सेंट्रल हॉल में बातचीत करते देखा था। यह देखने से गंभीर वार्ता लग रही थी। हो सकता है कि उसी बातचीत में जेटली ने माल्या को देश छोड़ने की सलाह दी होगी। कहा होगा कि चले जाइए यहां से, यहां की जांच एजेंसी आपके पीछे पड़ी है। चौकीदार न केवल भागीदार बल्कि गुनाहागर भी है। संसद सदस्य होने के नाते मैं भी वहां सेंट्रल हॉल में था। अब अगर वित्त मंत्री अरुण जेटली में दम हो तो वे इस पर अपनी सफाई दें।

10-09-2018
PL Punia : पीएल पुनिया भी पहुंचे रायपुर, बंद कराने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ सड़क पर उतरे 

रायपुर।  पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हो रही बढ़ोतरी और डॉलर के मुकाबले रुपए की कमजोर स्थिति के विरोध में भारत बंद को समर्थन आज प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया कार्यकर्ताओं के साथ आज सड़क उतरे। खुली जीप में सवार होकर वे रायपुर बंद कराने निकले। इसके पहले जय स्तंभ चौक पर सैकड़ों कार्यकर्ता एकत्रित हुए। यहां केंद्र सरकार की नीतियों का विरोध करते हुए नारेबाजी हुई। उसके बाद पीएल पुनिया का काफिला शहर बंद कराने निकला। वे मालवीय रोड, सदरबाजार होते हुए शहर के प्रमुख मार्गों से गुजरे। लोगों से बंद को समर्थन देने गुजारिश की। पीएल पुनिया ने कहा कि मोदी सरकार के आने के बाद पूरा देश महंगाई की आंच में जल रहा है। पेट्रोल और डीजल की महंगाई ने आम आदमी को परेशान कर दिया। घरेलू रसोई गैस के दाम में पिछले चार साल में कई गुना  इजाफा हो गया है। केंद्र में जुमले की सरकार है। केंद्र सरकार को अपने किए का खमियाजा 2019 में भुगतना होगा। जनता उसे जवाब देगी। पूर्व महापौर किरणमयी नायक, पार्षद एजाज ढेबर घोड़े पर सवार होकर बंद कराने निकले। वहीं महापौर प्रमोद दुबे और शहर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष विकास उपाध्याय बाइक पर सवार होकर बंद कराने निकले। 

बता दें कि कांग्रेस की ओर से बुलाए गए इस बंद को 20 से ज्यादा दलों का समर्थन हासिल है। बंद को दौरान देश के विभिन्न राज्यों में विपक्षी दल विरोध प्रदर्शन कर अलग-अलग मुद्दों पर मोदी सरकार के खिलाफ अपना रोष व्यक्त कर रहे हैं। कांग्रेस ने सीधे तौर पर महंगाई के खिलाफ इस बंद का आह्वान किया है लेकिन विभिन्न दलों के अपने-अपने मुद्दे भी हैं जिनको लेकर वो आज सड़कों पर उतर रहे हैं।

09-09-2018
CG Congress :मोदी की सरकार आने के बाद इंधन के दाम आसमान पर, महंगाई से कराह रही जनता : पीएल पुनिया

रायपुर। देश में आसमान छूते पेट्रोल-डीजल की कीमतों के बीच कांग्रेस ने सोमवार 10 सितंबर को 'भारत बंद' का ऐलान किया है। इसे लेकर राजीव भवन में आयोजित प्रेसवार्ता में प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया ने छग चैम्बर ऑफ कॉमर्स और ट्रांपोर्टर्स से मिले समर्थन से अपनी खुशी जाहिर की है। उन्होंने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि जब से इनकी सरकार बनी है जनता महंगाई की मार झेल रही है। आपको याद होगा कि जब यूपीए की सरकार आई थी इंधन के दाम कम थे, लेकिन जब से मोदी सरकार आई है भारतीय रुपए भी डॉलर के मुकाबले कमजोर होता जा रहा है। पहले जो पैट्रोल 71 था वह आज 81 है। डीजल का रेट 55 से 70 के पार पहुंच गया है। जनता को 400का गैस 900 में मिल रहा है।

उन्होंने आगे कहा कि मोदी सरकार के आने से ट्रांसपोर्ट भी महंगा हो गया। जब ट्रांसपोर्ट महंगा होगा तो उसके साथ दैनिक जीवन में उपयोगी वस्तुओं के मुल्यों में भी वृद्धी होगी। अंतराष्ट्रीय बाजार में तेल काम होने पर भी देश में महंगी है । भारत से पेट्रोलियम पदार्थ नेपाल भेजा जा रहा है । नेपाल में यही पेट्रोल  35 से 40 रुपए में बेचा जा रहा है जबकी हमार देश में आज 80 रुपए पार कर गया है। वहीं भुपेश बघेल ने कहा कि देश में महंगाई कम करने का केवल एक ही तरीका है एनडीए की सरकार चली जाए।

02-09-2018
PL Punia : प्रधानमंत्री राफेल की डील तो पर्रिकर गोवा में खरीद रहे मछली: पुनिया 
सितंबर के सारे कार्यक्रम फाइनल, सरजियस मिंज ने किया कांग्रेस में प्रवेश
02-09-2018
PL Punia : पुनिया आज लेंगे विधानसभा सम्वय्कों की बैठक

रायपुर। प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया दो दिन के लिए छत्तीसगढ़ प्रवास पर हैं। वे आज यानि कि दो सितम्बर को जिलों के प्रभारी, प्रदेश प्रभारियों, जिला कांग्रेस अध्यक्षों, विधानसभा सम्वय्कों की बैठक लेंगे। इस बैठक में चुनावी रणनीतियों पर मुख्य रूप से चर्चा की जाएगी। बैठक में सभी प्रभारियों, अध्यक्षों और समन्वयकों को उनके द्वारा किये गए कामों की समीक्षा भी की जानी है। बैठक में सभी प्रभारियों, अध्यक्षों और समन्वयकों नई जिम्मेदारी दी जाने की संभावना है।

आपको बता दें प्रदेश में तीन महीने बाद चुनाव होने वाले हैं, ऐसे में कांग्रेस पार्टी में लगातार बैठकों का सिलसिला जारी है। शनिवार को भी कांग्रेस ने लगातार तीन बैठकें ली, और उन सभी बैठकों में चुनावी रणनीतियों को लेकर चर्चा की गई । बैठकों का सिलसिला ना केवल कांग्रेस में जारी है बल्कि सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी में भी जारी है। दोनों ही पार्टियां प्रदेश में अपनी सरकार बनाने के लिए अभी से जुट गई हैं।

01-09-2018
Exclusive : पीसीसी ने जारी की 45 विधानसभा उम्मीदवारों के नाम, पढ़ें पूरी खबर 

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के लेटरपेड से आगामी विधानसभा चुनाव के लिए 45 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी गई है। यह सूची बिलासपुर से वायरल की गई है। लेटरपेड में यह सूची 27 अगस्त को जारी की गई है। यह सूची अधिकृत तौर पर जारी की गई है कि किसी ने शरारतवश इसे वायरल किया है, यह अब तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। 

 बता दें कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने 15 अगस्त तक विधानसभा प्रत्याशियों की सूची जारी करने का ऐलान किया था। इसके बाद प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया ने तिथि आगे बढ़ा दी थी। बताया जा रहा है कि सितंबर के पहले पखवाड़े में नामों की घोषणा की जा सकती है।

06-08-2018
PL Punia: पुनिया आज लेंगे एनएसयूआई और चुनाव प्रचार समिति की बैठक

रायपुर। छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रभारी पीएल पुनिया आज एनएसयूआई के प्रदेश कार्यकारिणी और चुनाव प्रचार-प्रसार समिति की बैठक लेंगे। बैठक में संगठन की गतिविधियों और आगामी चुनावी रणनीतियों पर चर्चा करेंगे। पीएल पुनिया शाम चार बजे कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक करेंगे। इस बैठक में विधानसभा चुनाव प्रचार, नई रणनीतियों को लेकर चर्चा की जाएगी। वरिष्ठ नेताओं की बैठक के दौरान प्रत्यशियों के नाम पर भी चर्चा भी की जाएगी। 10 अगस्त को कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी छत्तीसगढ़ आ रहे हैं, उनके स्वागत की तैयारियों का भी वे जायजा लेंगे। पीएल पुनिया आज मैराथन बैठक लेने के बाद नियमित विमान से दिल्ली लौट जाएंगे। 

18-07-2018
PCC अध्यक्ष भूपेश बघेल को आया अज्ञात नक्सली का फोन, कथित तौर पर पुलिस को की गई शिकायत

रायपुर। अभी प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया का झीरम को लेकर दिए गए विवादास्पद बयान का शोर अभी थमा भी नहीं था कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल को किसी नक्सली के फोन आने से मामले में नया ट्विस्ट आ गया है। मंगलवार की शाम को भूपेश बघेल के मोबाइल पर कथित तौर पर एक नक्सली ने फोन कर उनसे चुनाव परिणाम प्रभावित करने की बात की। इसकी शिकायत भी कथिततौर पर पुलिस से की गई है। इस मामले में अमित जोगी ने कहा कि जो बयान वरिष्ठ मीडिया प्रभारी इकबाल अहमद रिज़वीं ने दिया था वही काफी है।

क्या कहते हैं रिजवीं:

जकांछ के वरिष्ठ मीडिया प्रभारी इकबाल अहमद रिज़वी ने कहा कि ये काल्पनिक और तथ्यहीन बातें  हैं। इन पर टिप्पणी करना उÑचित नहीं है।

कहीं इसके पीछे भी सियासत तो नहीं:

सियासी गलियारों के जानकारों का कहना है कि ऐसे आरोप लगाने वाले लोग खुद की छवि  को नुकसान  पहुंचा रहे हैं। एक  राष्ट्रीय पार्टी के इतने जिम्मेदार पद पर  बैठकर कोई भी व्यक्ति बगैर तथ्यों के कोई बात नहीं कर सकता।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804
Visitor No.