GLIBS
14-11-2020
चैंबर चुनाव : जय व्यापार पैनल ने की दो मुख्य पदों का घोषणा,अजय भसीन और उत्तम गोलछा का नाम तय 

रायपुर। छत्तीसगढ़ चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के आगामी चुनाव के लिए जय व्यापार पैनल ने दो नामों की घोषणा की है। अमर परवानी ने शनिवार को प्रेसक्लब में इस संबंध में प्रेसवार्ता ली। इधर मुख्य चुनाव संचालक नरेन्द्र दुग्गड़ और जितेन्द्र दोशी ने है कि जय व्यापार पैनल से महमंत्री पद के लिए अजय भसीन और कोषाध्यक्ष पद के लिए उत्तम गोलछा के नाम की घोषणा की गई है। जय व्यापार पैनल के वरिष्ठ व्यापारी और मार्गदर्शकों आसुदामल,भारामल मत्थानी, महेन्द्र धाड़ीवाल, प्रदीप गुप्ता की उपस्थिति में यह ऐलान किया गया है। उन्होंने बताया कि जय व्यापार पैनल चुनाव लड़ने जा रहा है। अमर पारवानी ने 2014-2017 तक छग चैंबर का नेतृत्व किया है। अपने कार्यों, व्यवहार से, नि:स्वार्थ सेवा कर आपने अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया है। साथ ही साथ चैंबर की गरिमा को भी बढ़ाया है। फलस्वरूप आपने लोकप्रियता के शिखर को प्राप्त किया। 2017 से आज तक अमर परवानी कैट के माध्यम से लगातार व्यपारियों की सेवा कर रहे हैं। पिछले 3 वर्षों मे अनेक ऐसे अवसर आए जब चैंबर के सदस्य, जो कैट के सदस्य नहीं थे, उनकी भी समस्याओं का बिना किसी भेदभाव के आपने समाधान किया है। आज अनेक शहरों  से पिछले कुछ माह से अनेक व्यापारियों ने आग्रहपूर्वक छग चैंबर के चुनाव पुन: लड़ने का निवेदन किया । रायपुर के व्यापारी और कैट टीम ने इस प्रस्ताव का पुरजोर समर्थन किया। सभी की राय से जय व्यापार पैनल का गठन कर हम मैदान में है।
नरेन्द्र दुग्गड़ और जितेन्द्र दोशी ने कहा कि अध्यक्ष पद के प्रत्याशी का नाम सबसे पहले घोषित किया गया। अब 2 मुख्य पद की भी घोषणा भी सबसे पहले की गई। जो यह साबित करेगी की हमारे पास अच्छे  कार्यकर्ता है। जो पद की जिम्मेदारी को बखूबी निभाएंगे । हमारा पूरा प्रयास होगा कि छग चैंबर विशुद्व व्यापारी संगठन बनें । पदाधिकारियों और सदस्यों के बीच मैत्रीभाव के साथ़़ सम्मान और अच्छा तालमेल रहे। हमें पूरा विश्वास है कि हमारा पैनल विजयश्री को प्राप्त करेगा और हम ऐतिहासिक कार्यकाल सम्पन्न कर चैंबर की प्रतिष्ठा को नई ऊंचाई देने में सफल होंगे।

22-09-2020
नोवाक जोकोविच ने इटालियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट का खिताब किया अपने नाम

रोम। शीर्ष वरीयता प्राप्त सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने आठवीं वरीयता प्राप्त अर्जेंटीना के डिएगो श्वार्ट्जमैन को हराकर इटालियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया। जोकोविच का यह 36वां मास्टर्स 1000 खिताब है और इसके साथ ही उन्होंने स्पेन के राफेल नडाल का रिकॉर्ड तोड़ दिया। जोकोविच ने श्वार्ट्जमैन को लगातार सेटों में 7-5, 6-3 से हराया। जोकोविच ने मुकाबले में तीन एस लगाए जबकि श्वार्ट्जमैन ने एक एस लगाया। इस जीत के साथ ही सर्बियाई खिलाड़ी ने नडाल के 35 मास्टर्स 1000 जीत का रिकॉर्ड तोड़ दिया। यह उनका पांचवां इटालियन ओपन खिताब है। जोकोविच ने इस साल 32 में से 31 मुकाबले जीते हैं। उन्होंने इस साल पांच इवेंट में से चार इवेंट जीते हैं,जिनमें ऑस्ट्रेलिया ओपन ग्रैंड स्लेम, दुबई ड्युटी फ्री टेनिस चैंपियनशिप और वेस्टर्न एंड सदर्न ओपन शामिल हैं। जोकोविच ने कहा, “यह काफी अच्छा और चुनौतीपूर्ण सप्ताह था। मुझे नहीं लगता कि मैंने पूरे सप्ताह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया लेकिन लेकिन मेरे ख्याल से जब भी मुझे जरुरत थी मैंने अच्छा प्रदर्शन किया, चाहे वो सेमीफाइनल मुकाबला हो या फाइनल मैच।” उन्होंने कहा, “इस जीत से मैं काफी संतुष्ट हूं और गर्व महसूस कर रहा हूं कि मैं पांचवीं बार यह खिताब जीतने में कामयाब रहा जब मुझे इसकी काफी जरुरत थी। पेरिस की बात करें तो मैं रोम में अच्छे टूर्नामेंट की उम्मीद नहीं कर सकता था। यह एक और बड़ा खिताब है और मैं काफी खुश हूं।”
 

18-09-2020
प्रदेशभर में जांच और उपचार के नाम पर लूट जारी: संजय श्रीवास्तव 

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कोरोना मामलों की जांच और इलाज में मची लूट को प्रदेश सरकार की एक और विफलता बताया है। उन्होंने कहा है कि कोरोना टेस्ट के लिए सरकार की नई गाइडलाइन के बावजूद न केवल राजधानी, अपितु प्रदेशभर में जांच और उपचार के नाम पर लूट जारी है। सरकार की नाक के नीचे राजधानी के कई बड़े निजी अस्पतालों में कोरोना का डर दिखाकर, बेड की कमी बताकर बेड मुहैया कराने, चाकू के वार से जख़्मी के इलाज के लिए लोगों से लाखों रुपए न केवल मांगे जा रहे हैं, बल्कि परिजनों को इसके लिए बाध्य तक किया जा रहा है। श्रीवास्तव ने इसे प्रदेश सरकार की कलंकित कार्यप्रणाली का नमूना बताया है। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने आरोप लगाया है कि अपने तमाम दावों के ढोल पीट रही सरकार यह देखने की जरूरत महसूस नहीं कर रही है कि कोविड सेंटर्स में कोरोना के नाम पर किस कदर लूट मची हुई है। हालात अब इस बात की आशंका को बल प्रदान कर रहे हैं कि क्या प्रदेश सरकार और निजी अस्पतालों में कोई गुप्त समझौता हुआ है,जिसके चलते राजधानी समेत प्रदेशभर के निजी अस्पताल सरकार की तयशुदा गाइडलाइन के बावजूद लूट का यह खेल चल रहा है। श्रीवास्तव ने कहा है कि कोविड सेंटर्स को इस कदर नारकीय यंत्रणा का केंद्र बनाकर प्रदेश सरकार ने रख दिया है कि वहां भर्ती मरीज भागकर ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या के लिए विवश हो रहे हैं और सरकार व प्रशासन अब भी अपनी झूठी वाहवाही में आत्ममुग्ध होते जरा भी नहीं लजा रहे हैं। निजी अस्पतालों में मरीजों और खाली बेड्स की जानकारी हर तीन घंटे में अपडेट करने की व्यवस्था का पालन तक सरकार नहीं करा पा रही है और मरीज इलाज के लिए अस्पतालों के चक्कर लगाने विवश हैं।

18-09-2020
रायपुर में कोरोना हॉटस्पाट बन चुके हैं कई इलाकें, देखिए इलाकों के नाम,बेवजह ना जाने कलेक्टर ने की अपील

रायपुर। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने कोरोना संक्रमण के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए जिले और शहर में किए जा रहे जोनवार कार्यों की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने आम नागरिकों से अपील की है कि, वे  रायपुर शहर के कोरोना संक्रमण क्षेत्र वाले हॉटस्पाट इलाकों में अनावश्यक  न जाएं। उन्होंने कहा है कि, शहर के सभी जोन में जिला प्रशासन और सामाजिक संगठनों के सहयोग से निशुल्क आयुर्वेदिक काढ़ा का वितरण किया जा रहा है, जो कि कोरोना से बचाव में सहायक साबित हो सकता है। शरीर की प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाने में भी असरकारक हो सकता है। आम नागरिक इस निशुल्क आयुर्वेदिक काढ़ा का सेवन अवश्य करें। कलेक्टर डॉ. भारतीदासन ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में इंसिडेंट कमांडर और जोन आयुक्त की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने जिले में कोरोना से बचाव और रोकथाम की दिशा में कड़े कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने जोन आयुक्तों को निर्देशित किया कि ,कोरोना की दवाई का पर्याप्त भण्डारण हो, इसके वितरण में किसी प्रकार की लापरवाही न हो। इसी तरह यह भी ध्यान रखें कि होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को दवाई की कोई कमी न हो।

इन कोरोना हॉटस्पाट क्षेत्रों में जाने से बचें लोग :
कलेक्टर डॉ. भारतीदासन ने कोरोना हॉटस्पाट क्षेत्र में आने वाले रायपुर शहर के जोन क्रमांक 1- संतोषी नगर, डब्ल्यूआरएस कॉलोनी, खमतराई, शिवानंद नगर सेक्टर 1, 2, झंडा चौक,  जोन क्रमांक 2- देवेन्द्र नगर सेक्टर 1, 2 , पारस नगर, गुढ़ियारी, साहू पारा, मंगल बाजार, जवाहर नगर, राठौर चौक, तेलघानी नाका, नहर पारा। जोन क्रमांक 3- आदर्श नगर, एलआईसी कॉलोनी, अशोका रतन, लोधी पारा, राजीव नगर, खपरा भट्टी, राजा तालाब, न्यू शांति नगर। जोन क्रमांक 4- कंकाली पारा, ब्राम्हण पारा, आजाद चौक ,कोतवाली चौक ब्रिटल चौक छोटापारा, पंडरी, नूरानी चौक। जोन क्रमांक 5- अश्वनी नगर, कुशालपुर, लाखेनगर, चंगोरा भाठा, शिव नगर, डंगनिया, सुंदर नगर, डीडी नगर, रोहनीपुरम। जोन क्रमांक 6- मठपुरैना, दुर्गा पारा, दावदा कॉलोनी, संतोषी नगर, शैलेन्द्र नगर, टैगोर नगर।  जोन क्रमांक 7- भाठागांव ढेबर सिटी, साईं मंदिर, पुलिस लाइन, जनता कॉलोनी, टिकरापारा संजय नगर।  जोनक्रमांक 7 आमानाका, कुकुरबेडा, कोटा, समता कॉलोनी, चौबे कॉलोनी। जोन क्रमांक 8- कबीर नगर, रोटरी नगर, टाटीबंध, अयप्पा मंदिर, शिव मंदिर। जोन क्रमांक 9- मोवा, एकता चौक, दुबे कॉलोनी, शिव नगर, खम्हारडीह, गायत्री नगर। जोन क्रमांक 10- अमलीडीह महावीर नगर के क्षेत्रों में अनावश्यक जाने से बचने की अपील की है। कलेक्टर ने कहा कि, इन हॉटस्पॉट क्षेत्रों में सर्विलांस दलों की ओर से घर-घर जाकर स्वास्थ्य की जानकारी ली जा रही है। विशेष रूप से सैनेटाइजेशन का कार्य भी किया जा रहा है। उन्होंने आम नागरिकों से कोरोना संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए शासन की ओर से जारी आदेशों का पालन करने की अपील भी की है।


 

आम नागरिक निशुल्क काढ़ा का उठाएं लाभ :

कलेक्टर डॉ. भारतीदासन ने कहा है कि, कोरोना संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए शहर के सभी जोन में जिला प्रशासन व सामाजिक संगठनों के सहयोग से 41 स्थानों पर निशुल्क आयुर्वेदिक काढ़ा का वितरण किया जा रहा है। यह काढ़ा कोरोना से बचाव में सहायक साबित होने के साथ-साथ शरीर की प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाने में भी असरकारक है। आम नागरिक इस निशुल्क आयुर्वेदिक काढ़ा का सेवन अवश्य करें। काढ़ा का यह वितरण चौक-चौराहों, सड़क किनारे लगने वाले चाय दुकानों सहित महत्त्वपूर्ण स्थानों में स्थाई के साथ चलित वाहनों से भी किया जा रहा है।



 

आपातकालीन सेवा के लिए आमजन जारी नंबर पर करें संपर्क :

कलेक्टर डॉ. भारतीदासन ने कोविड-19 संक्रमण के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए आपातकालीन सेवा के लिए जिला प्रशासन द्वारा जारी हेल्प लाइन  नंबर पर आमजनों को संपर्क करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि दवाएं, स्वास्थ्य जांच, परिवहन व किसी भी तरह की आपात स्थितियों के लिए जारी नंबर पर संपर्क किया जा सकता है। होम आइसोलेशन सहायता के लिए 75661-00283,कलेक्टर कार्यालय आपातकालीन सहायता केंद्र 0771-2445785 और दक्ष कमांड सेंटर आपातकालीन सहायता केंद्र 0771-4320202 में आमजन संपर्क कर सकते हैं।

 

03-06-2020
कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट का नाम अब श्यामाप्रसाद मुखर्जी के नाम पर होगा

कोलकाता। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को बताया कि कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट का नाम बदलकर श्यामा प्रसाद मुखर्जी ट्रस्ट रखने के फैसले को केंद्रीय कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 जनवरी को डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट का नाम रखने की घोषणा की थी। उन्होंने कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट की 150वीं वर्षगांठ समारोह के अवसर पर यह घोषणा की थी।पीएम मोदी ने कहा था कि मुखर्जी बंगाल के थे और औद्योगिकीकरण के अग्रदूतों में से एक थे। ऐसे में बंदरगाह का नाम मुखर्जी के नाम पर रखना एक जरूरी कदम है। पीएम मोदी ने कहा था,'इस बंदरगाह को अब श्यामा प्रसाद मुखर्जी बंदरगाह के रूप में जाना जाएगा।'प्रधानमंत्री ने कहा था कि यह देश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण था कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी और बाबा साहेब आंबेडकर द्वारा सरकार से इस्तीफा देने के बाद उनके सुझावों को लागू नहीं किया गया था जैसा कि किया जाना चाहिए था।

18-05-2020
क्वॉरेंटाइन सेंटर के नाम पर सिर्फ खाना पूर्ति कर रही है सरकार : देवजी पटेल

रायपुर। पूर्व विधायक देवजी भाई पटेल ने कहा कि क्वॉरेंटाइन सेंटर के नाम पर अनाप-शनाप खर्च प्रतिदिन प्रति व्यक्ति सिर्फ कागजों पर किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि क्वॉरेंटाइन सेंटरों में प्रतिदिन भोजन के नाम पर कहीं प्रति व्यक्ति खर्च अलग अलग दिखाया जा रहा है। पटेल ने राज्य सरकार की इस रवैया को बड़ा ही हास्यास्पद बताते हुए कहा कि प्रदेश में 16700 से अधिक क्वारेंटाइन सेंटर मजदूरों के लिए बनाए गए हैं। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि गांव में रोजगार की गंगा बहाने के बयान देने वाली राज्य सरकार आज खुद मान रही है कि गांव से लोग पलायन कर बाहर थे। प्रदेश सरकार राज्य के मजदूरों के लिए क्वॉरेंटाइन सेंटर नहीं बल्कि रस्म अदायगी कर रही है।

07-04-2020
जरुरतमंदों की सूची में राशनकार्डधारी भी नाम जुड़वानें कर रहे प्रयास, होगी कार्यवाही   

रायपुर। कोरोना संक्रमण से हुए लॉकडाउन के कारण जिला एवं नगर निगम प्रशासन रायपुर की ओर से जरुरतमंद व्यक्तियों को आवश्यकतानुसार राशन प्रदान किए जाने की व्यवस्था की जा रही है। कलेक्टर रायपुर के जारी आदेश में नगर निगम के जोन कमिश्नरों को ऐसे व्यक्तियों की जो भिक्षुक, बेघर, दिहाड़ी मजदूर, कचरा बीनने वाले, आजीविका विहीन गरीब व्यक्तियों को जिनके पास राशन कार्ड नहीं है,को प्राथमिकता में रखते हुए सूची तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। उक्त सूची के आधार पर खाद्यान्न का वितरण किया जा रही है। नगरीय निकायों में देखने को आया है कि अनेक व्यक्ति जिनके पास स्वयं का परिवार में राशन कार्ड है। अपना नाम सूची में जुड़वाने का प्रयास कर रहे हैं। यदि इस श्रेणी में व्यक्ति सूची में पाए जाते हैं तो प्रशासन द्वारा उनके राशन कार्ड निरस्त करने की अपराधिक प्रकरण दर्ज करने की कार्यवाही की जाएगी।
 

14-08-2019
'जिंदगी मौत न बन जाये' की प्रस्तुति के साथ एक शाम शहीदों के नाम

बीजापुर। न्यू पुलिस लाइन में एक शाम शहीदों के नाम का जिला पुलिस बल एंव सद्भावना मंच के तत्वावधान में आयोजन किया गया। स्थानीय कलाकारों सहित पुलिस एंव सीआरपीएफ के जवानों ने देशभक्ति गानों की प्रस्तुति दी ।  कार्यक्रम के दौरान बस्तर प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, कलेक्टर केडी कुंजाम, पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल, सीआरपीएफ  85 बटालियन के कमांडेंट यादव,  229 बटालियन कमांडेंट भंडराल, डीएफओ गुरुनाथन, कांग्रेस नेत्री नीना रावतिया उद्दे, सत्तार अली, अजय सिंह, लालू राठौड़ सहित जिले के पुलिस अधिकारी, जवान व मीडियाकर्मी उपस्थित थे। 

 

22-07-2019
हॉस्पिटल में नौकरी देने के नाम पर युवाओं से लाखों की ठगी

कोरबा। वल्र्ड वेलफेयर एंड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन द्वारा संचालित श्री हॉस्पिटल नर्सिंग होम एंड पैरामेडिकल कॉलेज उरगा में नौकरी के नाम पर ठगी का मामला सामने आया है। पीडि़तों ने बताया कि उनके साथ नौकरी के नाम पर ठगी की गई है, फर्जी नियुक्ति पत्र व नौकरी लगाने के लिए लाखों रुपए लिए गए हंै। आवेदनकर्ताओं ने कॉलेज प्रबंधन से एक माह के अंदर नौकरी देने की मांग की है। कॉलेज प्रबंधन का कहना है कि उन्होंने डीडी के द्वारा रुपए लिए हैं, जबकि आवेदनकर्ताओं का सीधा आरोप है कि प्रबंधन ने नौकरी के नाम पर, अवैध रुपए वसूल किए हैं जो जांच का विषय है। 

 

 

28-06-2019
तहसीलदार ने 900 करोड़ की शत्रु संपत्ति कर दी पाकिस्तानी के नाम


नई दिल्ली। आजादी के वक्त हिंदुस्तान छोड़ लाहौर जा चुके शख्स की शत्रु संपत्ति पर अधिकारियों की मिलीभगत से स्थानीय लोगों काबिज रहे। तहसीलदार ने सारे प्रकरण को जानते हुए उसी व्यक्ति के नाम पर संपत्ति दर्ज कर दी जो भारत छोड़ पाकिस्तान जा चुका है। 

मामले में जांच हुई तो पता चला कि मोदीनगर की सिकरी में करीब 900 करोड़ की संपत्ति है, जो तहसीलदार की वजह से अभी तक सरकार में निहित नहीं हो सकी। 
अब डीएम ने करीब 500 एकड़ जमीन को सरकार में निहित करने के लिए मुंबई स्थित कस्टोडियन को पत्र लिख दिया है। उधर, तहसीलदार के खिलाफ शासन से विभागीय कार्रवाई की सिफारिश कर दी है।

 बीते वर्ष डीएम को शिकायत प्राप्त हुई थी कि सिकरी में रोड किनारे कई सौ करोड़ रुपये की जमीन पर स्थानीय लोगों का कब्जा है। जमीन आजादी के वक्त पाकिस्तान जा चुके एक व्यक्ति के नाम पर थी, जो नियमानुसार उसके पर सरकार को मिलनी चाहिए थी।

27-06-2019
गोरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा पर सरकार सख्त, बनेगा कड़ा कानून, सजा, जुर्माने का प्रावधान

भोपाल। गोरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा पर लगाम लगाने ने लिए मध्यप्रदेश सरकार सख्त कानून बनाएगी। इस कानून में गोरक्षा के नाम पर हिंसा एवं भीड़ द्वारा हत्या करने वाले स्वयंभू गोरक्षकों को जेल की सजा का प्रावधान किया जाएगा।
मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में कैबिनेट बैठक में गोवंश वध प्रतिषेध अधिनियम-2०4 में संशोधन करने की मंजूरी दी गई है। प्रदेश के पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव ने इसकी पुष्टि की है। सूत्रों के अनुसार मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार 8 जुलाई से होने वाले आगामी विधानसभा सत्र में इस अधिनियम के संशोधन बिल को अमलीजामा पहनाने के लिए पेश करेगी।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार इस संशोधन के विधानसभा में पारित होकर कानून बनने के बाद यदि कोई शख्स अकेला गोरक्षा के नाम पर हिंसा करेगा तो उसे छह महीने से लेकर तीन साल की सजा और जुर्माना देना पड़ेगा।  उन्होंने कहा कि गाय के नाम पर भीड़ द्वारा हिंसा या हत्या की जाती है, तो उनकी सजा को बढ़ाकर न्यूनतम एक साल और अधिकतम पांच साल किया जाएगा. उन्होंने कहा कि यदि अपराधी दोबारा अपराध करता है तो उसकी सजा दोगुनी कर दी जाएगी। 
अधिकारी ने बताया कि संशोधन में उन लोगों को एक से तीन साल की सजा देने का प्रावधान किया जाएगा जो हिंसा के लिए लोगों को उकसाने का कार्य करेंग। संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले गोरक्षकों को भी इसके तहत सजा दी जाएगी। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804