GLIBS
30-06-2020
12वीं के स्टेट टॉपर को इंजीनियरिंग करने छत्तीसगढ़ पुलिस करेगी आर्थिक मदद

रायपुर। पुलिस महानिदेशक डीमए अवस्थी ने मंगलवार को पुलिस मुख्यालय में 10वीं और 12वीं के मेरिट छात्र-छात्राओं का सम्मान किया। इस दौरान सभी के साथ डीजीपी ने चर्चा की। 12वीं के स्टेट टॉपर टिकेश वैष्णव ने डीजीपी को बताया कि वह कम्प्यूटर साइंस से इंजीनियरिंग करना चाहते हैं लेकिन उनकी आर्थिक स्थिति कमजोर है। टिकेश ने बताया कि उनके पिता की छोटी सी दुकान है इससे फीस जमा कर पाना संभव नहीं है। इस पर डीजीपी अवस्थी ने कहा कि फीस की चिंता नहीं करने की जरूरत नहीं। हम आपको फीस के लिए आर्थिक सहयोग देंगे। आप अपने लक्ष्य की ओर कदम बढ़ाइये और बिट्स पिलानी जाने की तैयारी करिए। डीजीपी ने कहा कि संघर्ष से ही सफलता मिलती है। सफलता ना मिलने पर निराश नहीं होना चाहिए। जीवन एक मैराथन दौड़ की तरह है जिसमें हार-जीत लगी रहती है, और ये जरूरी नहीं कि दौड़ की शुरूआत में जो आगे हो अंत में वही जीते। इसलिए माता-पिता को भी बच्चों के प्रतिशत पर ध्यान देने की बजाय उन्हें अच्छा और सफल इंसान बनाने पर जोर देना चाहिए। आप लोग पढ़ाई के साथ-साथ खेल पर भी ध्यान दें। शारीरिक और मानसिक विकास के लिए खेल बहुत ही जरूरी है। उन्होंने छात्र-छात्राओं को कोर्स की किताबों के साथ ही अन्य अच्छी किताबें पढ़ने की सलाह दी।
अवस्थी ने 12वीं कक्षा में पहली रैंक पर आए मुंगेली के टिकेश वैष्णव, सातवीं रैंक पर आई रायपुर की आयशा अंजुम, 10वीं रैंक पर आए रायपुर के देवेन्द्र कुमार तारक, व्यवसायिक में पहली रैंक पर आई दुर्ग की मिनाल हिरवानी,10वीं कक्षा में पहली रैंक पर आई मुंगेली की प्रज्ञा कश्यप, पांचवीं रैंक पर आए रायपुर के विरेन्द्र कुमार तारक और नवमीं रैंक पर आए दुर्ग के आदर्श गिरि को प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर एआईजी राजेश अग्रवाल, मुंगेली एएसपी कमलेश्वर चंदेल उपस्थित रहे।

26-05-2020
15 दिन पहले जारी होंगे नीट और जेईई मेन की परीक्षाओं के लिए एडमिट कार्ड

रायपुर। मेडकिल और इंजीनियरिंग प्रवेश के लिए नीट 2020 और जेईई मेन की परीक्षा का एलान पहले ही हो चुका है। मेडिकल के यूजी कोर्सेस में प्रवेश के लिए एंट्रेंस एग्जाम नेशनल एंट्रेंस कम एलिजिबिलिटी टेस्ट रविवार 26 जुलाई और इंजीनियरिंग के यूजी कोर्सेस में प्रवेश के लिए एंट्रेस एग्जामिनेशन मेन का आयोजन 18 से 23 जुलाई तक किया जाएगा। इसके लिए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने नोटिस जारी कर सूचना दी है। बता दें कि इन परीक्षाओं के लिए एडमिट कार्ड परीक्षा की तारीख से 15 दिन पहले जारी किए जाएंगे। इसमें एडमिट कार्ड पर अभ्यर्थी के रोल नंबर, एग्जाम सेंटर, तारीख, शिफ्ट टाइमिंग की जानकारी रहेगी। वहीं एडमिट कार्ड एनटीए, जेईई मेन और नीट की संबंधित वेबसाइट पर जारी होगा।

24-05-2020
कोरोना से ज्यादा खतरनाक दुष्कर्मी, अस्पताल में छात्रा से दुष्कर्म

रायपुर/बिलासपुर। श्रीराम केयर अस्पताल में इलाज के लिए आईसीयू में भर्ती इंजीनियरिंग की छात्रा के साथ गैंग रेप की शिकायत ने इस अस्पताल को शक के दायरे में ला खड़ा किया है। अस्पताल में भर्ती इंजीनियरिंग छात्रा के पिता ने पुलिस से शिकायत की है कि इस अस्पताल में काम करने वाले 2 वार्ड ब्वाय ने उनकी बेटी के साथ दुष्कर्म किया है। सिविल लाइन पुलिस में की गई शिकायत के मुताबिक यह घटना 21 मई की रात की है। 22 मई को सुबह पीड़िता ने अपने पिता से पहले इशारे-इशारे में खुद के साथ हुई दुष्कर्म की घटना के बारे में बताया। लेकिन उनकी समझ में नहीं आने पर उसने मास्क लगी हुई हालत में ही कागज पेन मांगा और घटना के बारे में पिता को जानकारी दी। इससे मर्माहत बच्ची के पिता ने सिविल लाइन थाने पहुंचकर इस मामले में शिकायत दर्ज कराई। इस मामले में ह्रदय विदारक बात यह है कि जिस लड़की के साथ उक्त घटना होने की शिकायत की गई है वह अभी भी वेंटिलेटर में है और पुलिस को उसके वेंटिलेटर से बाहर आने का इंतजार है। ताकि वह उसका बयान ले सके।

पुलिस भी हैरान....!
इस मामले में लड़की के पिता की शिकायत और पीड़िता की हालत देखकर पुलिस के अधिकारी भी हैरान हैं। बीती रात सिविल लाइन के टीआई परिवेश तिवारी से इस बारे में बात होने पर उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता की पुत्री अभी वेंटिलेटर में है। उन्हें उसके वेंटिलेटर से बाहर आने का इंतजार है..। बावजूद इसके पुलिस ने मामले को काफी गंभीरता से लिया है। शिकायत मिलते ही टीआई सिविल लाइन श्रीराम केयर अस्पताल पहुंचे और वहां घटना के मामले में शुरुआती जांच प्रारंभ की।

मामले को दबाने की साजिश...
ऐसी चर्चा है कि श्रीराम केयर अस्पताल में इस घटना को लेकर 2 दिन से खदबर्रो मचा हुआ था। अस्पताल के कर्ताधर्ता डॉक्टर अमित सोनी तथा नताशा सोनी को भी मामले की जानकारी हो चुकी थी। सवाल यह उठता है कि अगर ऐसा है तो उन्होंने पीड़िता के पिता को लेकर खुद सिविल लाइन थाने आकर अपने वार्ड बॉय द्वारा कथित रूप से की गई इस हरकत की शिकायत खुद क्यों दर्ज नहीं कराई?

05-05-2020
 जेईई मेन और नीट परीक्षा की तारीखें घोषित, जुलाई में होंगी दोनों परीक्षाएं

नई दिल्ली। नीट और जेईई की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए अच्छी खबर है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने जेईई और नीट परीक्षा की तिथि की घोषणा कर दी है। उन्होंने कहा कि जेईई मेन परीक्षा 19 जुलाई से 23 जुलाई के बीच आयोजिक होगी। जबकि नीट परीक्षा 26 जुलाई को आयोजित किया जाएगा। बता दें कि मेडिकल की पढ़ाई के लिये नीट और इंजीनियरिंग के लिए जेईई का एग्जाम कराया जाता है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के मुताबिक इन दोनों परीक्षाओं के लिए करीब 15 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने छात्रों से ऑनलाइन संवाद में परीक्षाओं की तारीखों सहित अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात की। संवाद में मंत्री ने जेईई और नीट 2020 परीक्षाओं की तिथियां घोषित की। जेईई मेन परीक्षा 19 से 23 जुलाई के बीच आयोजित की जाएंगी।

वहीं नीट 2020 परीक्षा 26 जुलाई 2020 को आयोजित की जाएगी। इसके अलावा मंत्री ने ये भी कहा कि सीबीएस की परीक्षाओं को लेकर फैसला अगले कुछ दिनों में किया जाएगा। इससे पहले स्थिति की समीक्षा की जाएगी। उन्होंने ये भी कहा कि अगले एकेडमिक सत्र के सिलेबस को कम करने का फैसला किया गया है। ऐसे में अगली जेईई मेन और नीट 2021 की परीक्षाएं घटे हुए सिलेबस के आधार पर ही की जाएगी। गौरतलब है कि संयुक्त प्रवेश परीक्षा- मुख्य का आयोजन देश भर के इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए होता है जबकि राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा के जरिए देशभर के चिकित्सा महाविद्यालयों में प्रवेश लिया जाता है। देश भर में 15 लाख से अधिक छात्रों ने नीट परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया है। यह परीक्षा भारत के चिकित्सा महाविद्यालयों में प्रवेश पाने का रास्ता है। वहीं नौ लाख से अधिक छात्रों ने जेईई परीक्षा के लिए आवेदन किया है, जिसके जरिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों को छोड़कर देश के अन्य सभी इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश होता है। 

 

03-05-2020
मानव संसाधन विकास मंत्री 5 मई को करेंगे जेईई मेन और नीट परीक्षा की नई तारीख की घोषणा

नई दिल्ली। देश की प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेज में प्रवेश के इच्छुक छात्रों को राहत देते हुए केंद्रीय मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय ने रविवार को कहा कि पांच मई को जेईई और नीट परीक्षाओं की नई तारीख घोषित की जाएगी। ये परीक्षाएं कोविड-19 महामारी को फैलने से रोकने के लिए लॉगू राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की वजह से स्थगित कर दी गई थी। बता दें, मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल मंगलवार दोपहर 12 बजे इसकी घोषणा करेंगे। केंद्रीय मंत्री मंगलवार को देशभर के छात्रों से वेबिनार के माध्यम से सीधे संवाद करने जा रहे हैं। इसी कार्यक्रम के दौरान निशंक जेईई मेन और नीट परीक्षा की डेट की घोषणा भी करेंगे। जेईई मेन और नीट परीक्षा जून के अंतिम सप्ताह में आयोजित होने की संभावना है।

मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक केंद्रीय मंत्री दूसरी बार छात्रों से संवाद कर रहे है। पिछले संवाद में छात्रों के अभिभावकों के साथ शिक्षक भी जुड़े थे। लेकिन 5 मई के इस संवाद में केवल छात्रों को ही चुना जाएगा। उल्लेखनीय है कि संयुक्त प्रवेश परीक्षा- मुख्य (जेईई-मेंस) का आयोजन देशभर के इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए होता है जबकि राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) के जरिये देशभर के चिकित्सा महाविद्यालयों में प्रवेश लिया जाता है। देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने अप्रैल में आयोजित होने वाली जेईई मेन की परीक्षा और बाद में नीट परीक्षा को भी स्थगित कर दिया गया था। इसके बाद छात्रों को परीक्षा केंद्र बदलने का मौका दिया गया, ताकि जो जहां हैं वो वहीं के आसपास के केंद्र में परीक्षा दे सकें।

18-02-2020
भारतीय पायलट जुटे गगनयान का सपना साकार करने, घने जंगलों और बर्फीली सर्दी में ले रहे प्रशिक्षण

नई दिल्ली। मॉस्को स्थित गागरिन रिसर्च एंड टेस्ट कॉस्मोनॉट ट्रेनिंग सेंटर में प्रशिक्षण हो रहे है। पायलट समुद्र के भीतर रहने और जंगलों में जोखिम लेने जैसे शारीरिक श्रम के अलावा उन्नत इंजीनियरिंग की भी पढ़ाई कर रहे हैं। भारत के महत्वाकांक्षी मानव मिशन को सफलतापूर्वक अंजाम देने के लिए वायुसेना के चार जांबाज पायलट रूस में कंपाने वाली सर्दी और बर्फीले इलाके में गहन प्रशिक्षण ले रहे है। पांच वर्षों के प्रशिक्षण को एक साल में पूरा करने का लक्ष्य लेकर चल रहे इन पायलटों को कई बार जान जोखिम में भी डालनी पड़ रही है।

रिपोर्ट के मुताबिक, दिन-रात अपने लक्ष्य को हासिल करने में जुटे ये भारतीय पायलट रूसी यान सोयुज में रूसी भाषा में प्रशिक्षण ले रहे है। इसके लिए उन्हें रूसी भाषा भी सिखाई जा रही है। उन्हें तीन दिन और दो रातों के लिए जीवित रहने के लिए कड़ी ट्रेनिंग भी दी जाएगी। उन्हें खतरनाक दर्रों और सोचि के समंदर में भी कड़ा प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रशिक्षण के बाद इन पायलटों को हफ्तेभर की छुट्टी भी दी जाएगी ताकि वे ठीक हो सकें। ट्रेनिंग सेंटर के प्रमुख पॉवेल व्लेसोव ने कहा, मुझे पूरा यकीन है कि भारतीय वायुसेना के पायलट ये अंतरिक्षयात्री इन चुनौतियों से जूझते हुए आगे बढ़ जाएंगे और सफलता हासिल करेंगे। भारतीय पायलटों के लिए रूसी भाषा के साथ-साथ रूसी खाना भी चुनौती बना है। ट्रेनिंग सेंटर में पायलटों की पसंद के हिसाब से खाना बनाया जा रहा है। उन्हें शाकाहारी खाना भी परोसा जा रहा है। धार्मिक भावनाएं आहत न हों, इसलिए भोजन में बीफ को हटा लिया गया है। गगनयान के लिए 2022 के शुरुआती माह का लक्ष्य तय किया गया है। इसके लिए 10,000 करोड़ रुपये की राशि जारी की गई है। मिशन के तहत तीन सदस्यीय क्रू सात दिन के लिए अंतरिक्ष की यात्रा पर जाएगा। अंतरिक्ष पर मानव मिशन भेजने वाला भारत दुनिया का चौथा देश होगा। इसरो प्रमुख के सिवन ने ऐलान किया था कि 2022 तक गगनयान भेजा जा सकेगा। इससे पहले इसरो 2020 और 2021 में दो मानवरहित मिशन भेजेगा।

09-12-2019
सीधे इंटरव्यू के जरिये पाए इसरो में नौकरी, ऐसे करें आवेदन

रायपुर। केंद्र सरकार अपने अंतरिक्ष विभाग के तहत सैकड़ों पदों पर सरकारी नौकरी देने जा रही है। केंद्र सरकार की ये नौकरियां भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के प्रोपलशन कॉम्प्लेक्स के लिए दी जा रही है। आईटीआई्, डिप्लोमा व डिग्री होल्डर इन नौकरियों के लिए अप्लाई कर सकते हैं। किसी अनुभव की जरूरत नहीं है। आयुसीमा भी 35 वर्ष तक है। केंद्र सरकार की इस भर्ती की खास बात यह है कि इसके लिए कोई परीक्षा नहीं देनी है सीधे इंटरव्यू के जरिए अभ्यर्थियों का चयन होगा। उक्त उल्लेखित विषयों की परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर चयन होगा। यानी आईटीआई, इंजीनियरिंग व डिप्लोमा में जिसके जितने अधिक मार्क होंगे उनका सिलेक्शन पक्का।

इसरो की इस भर्ती में तीन पद इंजीनियरिंग के अलावा आर्ट, साइंस व कॉमर्स में ग्रेजुएट कर चुके अभ्यर्थियों के लिए भी रिक्त हैं। सभी को अलग-अलग तारीखों में तय स्थान पर पहुंचकर इंटरव्यू देने होंगे। कुल 220 पद रिक्त हैं।

रिक्त पदों की संख्या

इंजीनियरिंग ग्रेजुएट-38

आर्ट/साइंस/कॉमर्स- 03

डिप्लोमा होल्डर- 59

 आईटीआई-120

इंटरव्यू की तिथियां

इंजीनियंरिंग ग्रेजुएट-14-12-2019

टेक्नीशियन (डिप्लोमा होल्डर)-21-12-2019

आईटीआई-1-4-2019

दो पालियों में इंटरव्यू

इन तारीखों पर इंटरव्यू दो पालियों में संपन्न होंगे। पहली पाली 9 बजे से शुरू होगी तो दूसरी दोपहर 1:30 बजे से। अभ्यर्थियों को निर्धारित प्रारूप में आवेदन भरकर अपने संपूर्ण ओरिजनल दस्तावेजों के साथ इंटरव्यू के लिए पहुंचना होगा।डाक कुरियर व अन्य माध्यमों से भेजे गए आवेदन स्वीकार नहीं होंगे। अपने साथ आईडी प्रूफ रखना अनिवार्य है।

आयुसीमा-35 वर्ष, नियमानुसार छूट का प्रावधान।

इंटरव्यू का स्थान- तमिलनाडु के तिरुनेलवेली जिले में महेंद्रगिरी स्थित इसरो के प्रोपलशन कॉम्प्लेक्स

केंद्र सरकार की अप्रेंटिस आधार पर इस भर्ती का संपूर्ण विवरण प्राप्त करने के लिए क्लिक करें  Link 

आवेदन का प्रारूप प्राप्त करें

 

05-12-2019
20 दिसंबर को छात्रवृत्ति के लिए आवेदन की अंतिम तिथि

रायपुर। पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति शिक्षा सत्र 2019-20 के लिए ऑनलाइन आवेदन 20 दिसंबर तक भरे जाएंगे। शासकीय महाविद्यालय, विश्वविद्यालय, इंजीनियरिंग, मेडिकल कॉलेज, आईटीआई आदि में अध्यनरत अनुसूचित जाति—जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग के जो विद्यार्थी विभाग द्वारा संचालित पोस्टमौट्रिक छात्रवृत्ति की पात्रता रखते हैं वे आवेदन कर सकते हैं।

 

04-12-2019
गूगल अल्फाबेट के सीईओ बने भारतीय मूल के सुंदर पिचाई  

सैन फ्रांसिस्को। गूगल के सह संस्थापकों-लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन ने एक युग का अंत करते हुए अपनी मूल कंपनी में अपने वर्तमान पद से इस्तीफा देने का निर्णय लिया है। भारतीय मूल के सुंदर पिचाई को अब गूगल के साथ-साथ अल्फाबेट का भी मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) बना दिया गया है। अल्फाबेट ने कहा कि उसके सीईओ पेज और अध्यक्ष ब्रिन ने अपने पदों से इस्तीफे देने का फैसला किया है। कंपनी ने कहा कि यह तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है।
पेज और ब्रिन कंपनी के साथ उसके सह संस्थापक, शेयर धारक और अल्फाबेट के निदेश मंडल के सदस्य के तौर पर जुड़े रहेंगे। पिचाई गूगल के सीईओ और अल्फाबेट के निदेशक मंडल के सदस्य भी रहेंगे। अल्फाबेट के निदेशक मंडल के चेयरमैन जॉन हेनेसी ने एक बयान में कहा, “लैरी और सर्गे के 21 सालों तक दिए गए योगदान के बारे में बताना असंभव है। मैं उनका आभारी हूं कि वे बोर्ड में आगे भी काम करते रहेंगे।” पिचाई ने कहा, “अल्फाबेट और प्रौद्योगिकी के माध्यम से बड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए दीर्घकालिक फोकस करने के लिए मैं उत्साहित हूं। मैं नई भूमिकाओं में लैरी और सर्गे के साथ काम जारी रखने के लिए भी उत्साहित हूं।” उन्होंने कहा, “उन्हें धन्यवाद, हमारे पास एक अनंत मिशन, स्थायी मूल्य और सहयोग तथा अन्वेषण की संस्कृति है। हम एक मजबूत आधारशिला पर प्रगति करना जारी रखेंगे।” 

पिचाई 2004 में गूगल से जुड़े थे और गूगल टूलबार विभाग और इसके बाद गूगल क्रोम के प्रमुख बने थे। गूगल क्रोम बाद में दुनिया का सबसे लोकप्रिय इंटरनेट ब्राउजर बन गया था। वर्ष 2014 में उन्हें गूगल के सभी उत्पादों और प्लेटफॉर्म्स के सभी प्रोडक्ट्स और इंजीनियरिंग की अगुआई करने के लिए नियुक्त किया गया। गूगल के प्लेटफॉर्म्स में सर्च, मैप्स, प्ले, एंड्रोएड, क्रोम, जीमेल और गूगल एप्स (अब जी सुइट) शामिल हैं। चेन्नई में पले-बढ़े पिचाई ने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान में इंजीनियरिंग की और स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से मास्टर डिग्री और व्हार्टन स्कूल से एमबीए की डिग्री ली है।

 

28-11-2019
प्रदेश की इस बड़ी कंपनी में निकाली बंपर भर्ती, ऐसे करें आवेदन  

रायपुर। छत्तीसगढ़ में विभिन्न पदों पर बड़ी संख्या में सरकारी नौकरी मिलने जा रही है। इसके लिए छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर जनरेशन कंपनी लिमिटेड ने  बंपर भर्ती निकाली है। इस भर्ती के तहत फ्रेशर से लेकर अनुभवी हर तरह के अभ्यर्थियों को सरकारी नौकरी मिल सकती है। 12वीं से लेकर आईटीआई व पॉली टेक्नीक व इंजीनियरिंग कर चुके युवा अन्य विषयों से स्नातक कर चुके लोग भी अप्लाई कर सकते हैं। हर 13 श्रेणियों में कुल 70 रिक्त पदों के लिए छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर जनरेशन कंपनी लिमिटेड की ओर से नौकरियां दी जा रही है। सर्वाधिक 36 पद माइनिंग सरकार के रिक्त हैं। इसके लिए तनख्वाह 37 हजार 674 रुपए प्रति माह है। इन सरकारी नौकरियों के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 9-12-2019 है। इच्छुक अभ्यर्थी को ऑफलाइन मोड में ही आवेदन करना होगा। पंजीकृत डाक या स्पीड पोस्ट से भेजे गए आवेदन ही स्वीकार किए जाएंगे।

सभी जरूरी दस्तावेजों के साथ इस पते पर भेजना है आवेदन

चीफ इंजीनियर

छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर जनरेशन कंपनी लिमिटेड

शेड नंबर 3

विद्युत सेवा भवन परिसर, डंगनिया

रायपुर (सीजी), 492013, ईमेल-hr.cspgcl@cspc.co.in

इस भर्ती के श्रेणीवार रिक्त पदों की संख्या, पदवार शैक्षणिक योग्यता व अन्य शर्तों को जानने व आवेदन का प्रारूप प्राप्त करने के लिए क्लिक करें-Link

इसके बाद आप साइट पर चले जाएंगे, जहां न्यू लिखे हुए पर क्लिक करें, पीडीएफ पेज खुलेगा जिसमें सबसे नीचे आवेदन का फार्मेट मिलेगा।

19-11-2019
107 बैगा युवक-युवती बने शाला संगवारी 

रायपुर।  प्रदेश के कबीरधाम जिले में निवासरत बैगा समाज (अति पिछड़ी जनजाति) को एक बार फिर बड़ी सौगात देते हुए इस वर्ग के 50 शिक्षित युवक-युवतियों के लिए शाला संगवारी के रूप में चयन कर रोजगार के द्वार खोल दी है। इन 50 बैगा युवक-युवतियों को मिलाकर अब तक 107 शाला संगवारी हो गए है, जिन्हें स्थानीय स्तर पर निश्चित आय के साथ रोजगार मिल रहा हैं। छत्तीसगढ़ सरकार के वन,परिवहन, आवास एवं पर्यावरण मंत्री तथा कवर्धा विधायक मो. अकबर ने आज उन सभी 50 शाला संगवारियों को चयन का प्रमाण पत्र प्रदान किया। वनमंत्री मो.अकबर ने कबीरधाम जिले के आज 50 और बैगा (अति पिछड़ी जनजाति) के युवक-युवतियों को शाला संगवारी का प्रमाण पत्र प्रदान करते हुए कहा कि प्रदेश में निवासरत अति पिछड़ी जनजाति वर्ग के शिक्षित युवक-युवतियों को शिक्षा और विकास के मुख्य धारा में लाना सरकार की प्राथमिकता में शामिल है। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा इस वर्ग के युवक-युवतियां को रोजगार देकर उन्हे मुख्यधारा में लाने की शुरूआत कबीरधाम जिले से कर दी गई हैं। हमारी सरकार ने जिले के अब तक 107 बैगा युवक-युवतियों को स्थानीय स्तर पर रोजगार दे रही है।

मंत्री अकबर ने बताया कि छत्तीसगढ़ में नई सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आयोजित मंत्रीमंडल की बैठक में छत्तीसगढ़ खनिज संस्थान न्यास नियम 2015 में संशोधन की मंजूरी दी गई है। नए संशोधन के बाद अब डीएमएफ की राशि से शासकीय अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाओं के उन्नयन और उन्हें प्रभावी बनाने के लिए संसाधनों की उपलब्धता बनाने स्कूलों के शिक्षकों की कमी दूर करने तथा खनन और संबंध गतिविधियों में प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष प्रभावित इलाकों के परिवार के सदस्यों को नर्सिग, चिकित्सा शिक्षा, इंजीनियरिंग, निधि प्रबंधन,उच्च शिक्षा,व्यवसायिक,तकनीकी शिक्षा,शासकीय संस्थाओं, महाविद्यालयों एवं विश्वविद्यालयों में शैक्षणिक शुल्क और छात्रावास शुल्क में भुगतान के साथ ही सभी प्रकार की प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग और आवासीय प्रशिक्षण की समुचित व्यवस्था करने का फैसला लिया गया है। जिले में राज्य सरकार की इस फैसले का सफल क्रियान्वयन किया जा रहा है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804