GLIBS
30-06-2020
पत्नी, प्रेमी और दोस्त ने की थी पति की हत्या, अनुकंपा नौकरी और पैसों के लालच में बनाया था प्लान, अब सलाखों के पीेछे

रायपुर/सूरजपुर। जिले के भटगांव थाना क्षेत्र में सेवानिवृत्ति से तीन दिन पहले एसईसीएल कर्मी की हत्या के मामले का पुलिस ने रहस्य का खुलासा कर दिया है। कॉलरीकर्मी की हत्या उससे 20 साल छोटी तीसरी पत्नी ने प्रेमी व उसके दोस्त से करा दी थी। हत्या का कारण मृत्यु उपरांत मिले रुपयों व अनुकंपा नौकरी से दोनों आगे की जिंदगी पत्नी व उसके प्रेमी ने साजिश की थी। पुलिस ने आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं प्रेमी का दोस्त फरार बताया जा रहा है। बता दें कि सूरजपुर के भटगांव थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बंशीपुर निवासी बाबूलाल शिवानी खदान में पंप ऑपरेटर के पद पर पदस्थ था। वह अपनी तीसरी पत्नी सागरमती 40 वर्ष व 2 बेटों के साथ रहता था।

उसकी तीसरी पत्नी उससे 20 साल छोटी थी। उसने घर के सामने वाले हिस्से में ढाबा भी खोल रखा था जिसे बच्चों के सहयोग से पत्नी चलाती थी। बाबूलाल 31 मार्च को सेवानिवृत्त होने वाला था। इसी बीच 28 मार्च की सुबह घर से कुछ दूर नहर के पास उसकी संदिग्ध अवस्था में लाश मिली थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। एसपी राजेश कुकरेजा के नेतृत्व में पुलिस जांच में पता चला कि पत्नी के प्रेमी मणिरंजन मिश्रा उर्फ पिंटू मिश्रा ने दोस्त सीताराम यादव के साथ मिलकर बाबूलाल की गमछे से गला व मुंह दबाकर हत्या की थी और शव को नहर के पास फेेंक दिया था। इस मामले में पुलिस ने पत्नी सागरमती व प्रेमी मणिरंजन उर्फ पिंटू मिश्रा को गिरफ्तार कर धारा 302, 201, 120बी व 34 के तहत जेल भेज दिया।

08-06-2020
स्वच्छंद जीवन जीने की ख्वाहिश में पत्नी ने पति को उतारा मौत के घाट

सूरजपुर। पति की हत्या के मामले में पुलिस ने पत्नी और पत्नी के भाई को गिरफ्तार किया है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक भटगांव थाना क्षेत्र अन्तर्गत चुनगड़ी-खोपा मुख्य मार्ग पर खुरखुरियापारा के पास किसी व्यक्ति का शव होने की सूचना स्थानीय ग्रामीणों ने 26 मई को दी थी। सूचना पर पुलिस घटना स्थल पहुंची थी और शिनाख्त की। इसमें पता चला कि मृतक भटगांव न्यू माईनस का रहने वाला एसईसीएल कर्मचारी भैयालाल साहू उम्र 43 वर्ष है। मौके पर पुलिस ने मृतक के परिजन को बुलाया,जहां मौके पर मृतक की पत्नी और मृतक का साला पहुंचे और पहचान बाद मृतक की पत्नी की ओर से एक्सीडेंट मृत होने की संभावना व्यक्त की गई थी। पुलिस ने प्रथम दृष्टया मृतक की मृत्यु एक्सीडेंट से होना प्रतीत नहीं हो रहा था। मृतक भैयालाल साहू के शव का पीएम रिपोर्ट में डाॅक्टर द्वारा मृतक की मृत्यु (हत्यात्मक प्रकृति) का होना लेख करने से प्रकरण में अज्ञात आरोपी के द्वारा धारा 302 का अपराध दर्ज कर जांच में लिया गया।

पुलिस ने अपने जांच में पाया कि मृतक भैयालाल साहू की पत्नी का अन्य व्यक्ति से अवैध संबंध था, मृतक शराब पीने का आदि था,जो शराब पीकर अपने पत्नी के साथ मारपीट किया करता था। मृतक की पत्नी महात्वाकांक्षी थी और अपनी अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए निजी जाॅब नेटवर्क मार्केटिंग कर रही थी। महात्वाकांक्षा के चलते और स्वच्छंद जीवन-यापन करने की ख्वाहिश में पिछले एक साल से अपने पति की हत्या करने का साजिश इसके मन में चल रही थी। पुलिस ने अपने जांच में पाया कि 25 मई 2020 को मृतक की पत्नी अपने भाई विकास साहू को प्रेमनगर से फोन करके बुलवायी थी, जो रात में भटगांव अपनी बहन के पास पहुंच गया था।

इस दौरान घूमने जाने के बहाने घर के चार पहिया वाहन से चुनगड़ी-खोपा रोड की तरफ चल दिये। सुनसान जगह आरोपी महिला ने तवे से अपने पति के सिर पर वार के हत्या की घटना का अंजाम दिया। घटना को एक्सीडेन्टल स्वरूप देने के लिए गाड़ी को मृतक भैयालाल साहू के उपर में चढ़ा दिया। वापस आकर घटना को छिपाने के नियत से गाड़ी को गैरेज में खड़ा कर दिये और सबेरे लोगों से यह कहने कि रात में कोई अज्ञात व्यक्ति मोटर सायकल में भैयालाल साहू को लेकर गया है और एक्सीडेन्ट कर दिया है। मामले में पहले तो आरोपी बहन-भाई ने पुलिस टीम को लगातार गुमराह किया और काफी पूछताछ के बाद हत्या की वारदात को अंजाम देना बताया। आरोपियों ने हत्या की वारदात को बड़ी चालाकी से एक्सीडेंट का स्वरूप देकर साक्ष्य छुपाने का भरसक प्रयास किया था।
पुलिस ने वाहन एवं तवा जब्त करते हुए मामले के आरोपी महिला और उसके भाई विकास साहू  को गिरफ्तार किया है।

 

27-03-2019
Murder : पत्नी ने की शादीशुदा जिंदगी से तंग आकर पति की हत्या

नई दिल्ली। पत्नी ने शादीशुदा जिंदगी से तंग आकर अपने पति की हत्या कर दी और उसके शव के टुकड़े कर जमीन में दफन कर दिए। मामला नई दिल्ली के स्वरूपनगर क्षेत्र का है। इस इलाके के एक घर में जमीन में गांड़े गए शव के टुकड़े बीत सप्ताह मिले थे। 

इसमें शव का सिर गायब था। पुलिस को शव की शिनाख्त नहीं हो पा रही थी और जांच में जुटी थी। आखिरकार पुलिस को सफलता मिली और आरोपी मृतक की 38 साल की पत्नी निकली। पत्नी अपनी शादीशुदा जिंदगी से तंग आ गई थी और रिश्ता खत्म करना चाहती थी। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पति की हत्या की वारदात को वैलंटाइन्स डे के दिन अंजाम दिया गया था, जिसके बारे में पिछले सप्ताह पता चला। सुनीता जिस मकान में पति राजेश के साथ बतौर किराएदार रहती थी, उसके मालिक ने मिट्टी खुदी देखी। सवाल पूछे जाने पर वह कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाई। इसके बाद मकान मालिक ने मिट्टी को और खुदवाया तो अंदर से इंसान की उंगली मिली। उसके होश फाख्ता हो गए। पुलिस को खबर की गई। खुदाई में शरीर के टुकड़े मिले लेकिन सिर गायब मिला। 

आरोपी महिला सुनीता और राजेश की शादी साल 2006 में हुी थी। दोनों के रिश्तों में तब खटास आना शुरू हो गई जब वे करीब एक साल पहले नए घर में शिफ्ट हुए। पति को शक था कि पड़ोस में रहने वाले युवक के साथ सुनीता के अवैध संबंध हैं। इसे लेकर आए दिन तकरार होती थी और इससे तंग आकर पत्नी ने यह खौफनाक कदम उठाया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804