GLIBS
15-10-2019
धरदेई स्कूल में मनाया गया ग्लोबल हैंड वाश डे

मुंगेली। शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला धरदेई में ग्लोबल हैंड वाश डे मनाया गया। बच्चों को हाथ होने के स्टेप बताकर हाथ धुलाई कराई गई। यदि हम नियमित रूप से खाना खाने से पहले और शौच के बाद अपनी हाथों को साबुन से धोएं तो हम कई बीमारियों से बच सकते हैं। यह बातें विद्यालय के शिक्षक अमित सोनी ने हाथ धुलाई के अवसर पर विद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में कहीं। उन्होंने यह भी बताया कि प्रति वर्ष शासन के नियमानुसार हाथ धुलाई दिवस पर यह कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। कार्यक्रम में शिक्षक सत्यवान सिह एवं रामेश्वर साहू ने  भी अपना विचार रखते हुए बच्चों को हाथ धुलाई के फायदे बताये। इस अवसर पर सभी शिक्षक एवं विद्यालय के अध्ययनरत बच्चे उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन शिक्षक अमित सोनी ने किया।

12-08-2019
बीमारियों से लेकर ब्यूटी तक की कई समस्याओं से छुटकारा दिलाएगी ब्लूबेरी

नई दिल्ली। फल खाने में स्वादिष्ट ही नहीं बल्कि सेहत के लिए भी फायदेमंद होते हैं, उन्हीं में से एक है ब्लूबेरी। ब्‍लूबेरी का नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है। एंटीऑक्‍सीडेंट और फाइटोन्‍यूट्रिएंट्स जैसे पोषक तत्वों से भरपूर ब्लूबेरी का सेवन कई बीमारियों से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। इतना ही नहीं, इससे आप अपनी कई ब्यूटी प्रॉब्लम्स से भी छुटकारा पा सकते हैं। चलिए आज हम आपको ब्लूबेरीज के कुछ ऐसे फायदे बताते हैं, जिसके बाद आप भी इसे खाना शुरू कर देंगे।

ब्लूबेरी के गुण
1 कप ब्लूबेरी में 85 कैलोरी व 0.5 g फैट के अलावा 1.5 mg सोडियम, 114 mg पोटेशियम, 21 g कार्बोहाइड्रेट्स, 14% डाइटरी फाइबर, 15 g शुगर, 2% प्रोटीन, विटामिन ए, 24% विटामिन सी, 2% आयरन, 5% विटामिन B-6 और  2% मैग्नीशियम होता है।

ब्लूबेरीज के हेल्थ बेनिफिट्स

आंखों के लिए फायदेमंद : फाइटोन्यूट्रिएंट्स ऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण ब्लूबेरी आंखों के रेटिना को खराब होने से बचाता है। साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट आंखों की रोशनी बढ़ाने के साथ मोतियाबिंद जैसी समस्याओं से भी बचाता है।

ब्रेन के लिए फायदेमंद : रोजाना 1 कटोरी ब्लूबेरीज खाने से ब्रेन फंक्शन बूस्ट होता है और दिमाग तेज होता है। इसके अलावा इसका सेवन अल्जाइमर, बैरीस जैसी बीमारियों से भी बचाता है। 

तनाव को रखें दूर : इसका सेवन करने से नर्वस सिस्टम ठीक रहता है, जिससे तनाव और डिप्रेशन की समस्या नहीं होती है। अगर आपको स्ट्रेस हो तो मुट्ठीभर ब्लूबेरी का सेवन करें। इससे स्ट्रेस मिनटों में दूर हो जाएगा।

महिलाओं के लिए फायदेमंद : जहां ब्लूबेरी का सेवन पीरियड्स दर्द से छुटकारा दिलाता है वहीं प्रेगनेंसी में भी इसका सेवन काफी फायदेमंद है। साथ ही इससे यूरिन इंफेक्शन का खतरा भी कम होता है।

दिल को रखे स्वस्थ : इसमें फ्लेवोनोइड्स पाया जाता है जो शरीर में खून के थक्के बनने को रोकता है। इससे दिल स्वस्थ रहता है और हार्ट अटैक व स्ट्रोक का खतरा कम होता है।

पाचन क्रिया के लिए फायदेमंद : जिन लोगों की पाचन क्रिया ठीक नहीं रहती और भोजन पचाने में परेशानी होती है, उनके लिए ब्लूबेरी रामबाण औषधी है। इसमें फाइबर और मिनरल्स भरपूर मात्रा में होते हैं, जिससे कब्ज, एसिडिटी जैसी पाचन समस्याएं दूर रहती हैं।

कैंसर से बचाव : शोध के अनुसार, जो लोग रोजाना ब्लूबेरी का सेवन करते हैं उनमें कैंसर का खतरा 50% तक कम होता है। दरअसल, इसमें कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो शरीर में कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता हैं।

डायबिटीज में लाभदायक : इसमें शर्करा का स्तर बहुत कम होता है। ब्लूबेरी मेटाबॉलिज्म की क्रिया को सुचारू रूप से चलाता है। शरीर के सभी अंगों तक ग्लूकोस पहुंचाने का काम करता है। खून के भीतर शर्करा का स्तर संतुलित रखता है, जो डायबिटीज मरीजों के लिए फायदेमंद है।

बेलूबेरीज के ब्यूटी बेनिफिट्स

डार्क पिग्‍मेंटेशन : पिसी हुई स्‍ट्रॉबेरी, शहद और नींबू का रस मिलाकर चेहरे व गर्दन पर 10 मिनट के लिए लगा रहने दें। फिर सादे पानी से चेहरा धो लें। इससे डार्क पिग्‍मेंटेशन गायब हो जाएंगे और आप एंटी-एजिंग की समस्याओं से भी बचे रहेंगे।

पिंपल्स व दाग-धब्बे : ब्‍लूबेरी को अच्‍छे से क्रश करके उसमें 1 टेबलस्पून दही और 1 टीस्पून शहद मिलाकर चेहरे पर स्‍क्रबिंग करें। फिर 10-15 मिनट बाद चेहरे को ताजे पानी से धो लें। इससे पिंपल्स, मुहांसे व दाग-धब्बे गायब हो जाएंगे।

बालों के लिए फायदेमंद : ब्लूबेरी का रस और जैतून का तेल मिलाकर लगाने से बाल घने और काले होते हैं। बालों के विकास में मदद मिलती है। साथ ही इससे डैंड्रेफ की समस्या भी नहीं होती।

16-05-2019
संक्रामक बीमारियों के रोकथाम के लिए नगर निगम गंभीर

रायपुर। ग्रीष्म ऋतु और बारिश पूर्व जलजनित व संक्रामक बीमारियों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए नगर निगम, जिला स्वास्थ्य व चिकित्सा, मलेरिया व महिला बाल विकास विभाग की संयुक्त बैठक की गई। बैठक में बीमारियों से बचाव के लिए सार्थक प्रबंध करने सभी विभागों ने अपनी भूमिका पर चर्चा की। आयुक्त शिव अनंत तायल के निर्देश पर इस बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में नगर निगम के अपर आयुक्त लोकेश्वर साहू, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. केआर सोनवानी, नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ बीके मिश्रा सहित जिला मलेरिया विभाग के अधिकारी, सभी  जोन कमिश्नर, जोन स्वास्थ्य अधिकारी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन भी शामिल थेे। निगम मुख्यालय में आयोजित इस बैठक में जल जनित बीमारियों की रोकथाम हेतु उठाए जाने वाले कदम पर सभी ने मिलकर चर्चा की। सभी विभाग पीलिया, डेंगू, मलेरिया जैसी बीमारियों से बचाव के लिए हर स्तर पर आम नागरिकों को जागरूक करने मिलकर प्रयास करेंगे। प्रदूषित खाद्य व पेय पदार्थों, अखाद्य बर्फ  के विनिष्टीकरण के लिए नगर निगम खाद्य विभाग के साथ मिलकर अपनी सतत कार्रवाई आगे भी जारी रखेगा। इसी तरह पानी में क्लोरीन की मात्रा की जांच नियमित रुप से नगर निगम द्वारा आगे भी की जाएगी। विभिन्न कार्यों के संचालन व त्वरित क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए जिला स्वास्थ्य विभाग तथा नगर निगम  नियंत्रण कक्ष स्थापित करेगा ।  चिकित्सा व स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वास्थ्य शिविर लगाए जाएंगे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804