GLIBS
10-09-2020
दो जोड़ी स्पेशल ट्रेन दौड़ेंगी पटरी पर,दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे से भी होकर गुजरेंगी

रायपुर। रेलवे बोर्ड के दिशा निर्देशानुसार 12 सितंबर से दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे से होकर खुर्दा रोड अहमदाबाद- खुर्दा रोड और गांधीधाम - खुर्दा रोड- गांधीधाम स्पेशल ट्रेन की सुविधा दी जा रही है। 02843/02844 खुर्दा रोड अहमदाबाद- खुर्दा रोड स्पेशल ट्रेन का परिचालन सप्ताह में चार दिन होगा। 02843 खुर्दा रोड -अहमदाबाद स्पेशल ट्रेन 12 सितंबर से प्रत्येक मंगलवार, गुरुवार, शुक्रवार और  शनिवार को खुर्दा रोड से रवाना होगी। इसी प्रकार 02844 अहमदाबाद- खुर्दा रोड स्पेशल ट्रेन 14 सितंबर से प्रत्येक सोमवार, गुरुवार, शनिवार और रविवार को अहमदाबाद से रवाना होगी। इसी तरह  02973 / 02974 गांधीधाम - खुर्दा रोड- गांधीधाम साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन का परिचालन 16 सितंबर से होगा। 02973 गांधीधाम - खुर्दा रोड साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन का परिचालन सप्ताह में (प्रत्येक बुधवार को) 16 सितंबर से और 02974 खुर्दा रोड- गांधीधाम साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन का परिचालन सप्ताह में (प्रत्येक शनिवार को ) 19 सितंबर से होगा। इस गाड़ी का ठहराव अहमदाबाद, आंदन, बडोदरा, सूरत, भुसावल, मलकापुर, अकोला, बडनेरा, वर्धा, नागपुर, गोंदिया, दुर्ग,  रायपुर, महासमुंद,  काटाभांजी, टिटलागढ़,केसिंगा,रायगढ़ा,विजयनगरम आदि स्टेशनों पर रहेगा।

10-07-2020
अब दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की 3 पार्सल ट्रेने 31 दिसंबर तक पटरी पर, रेलवे ने जारी किए नंबर  

रायपुर। खाद्य सामग्री, दवाएं,चिकित्सा आपूर्ति, चिकित्सा उपकरण, खाद्य तेल, आदि आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता करने के लिए रेलवे प्रशासन की ओर से पार्सल गाड़ियां चलाई जा रही है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे भी 1 विशेष पार्सल और 2 पार्सल ट्रेनों का परिचालन कर रहा है। पहले सुविधा 30 जून निर्धारित की गई थी, अब मांग को ध्यान में रखते हुए इन गाड़ियों के परिचालन अवधि में विस्तार किया गया है। ये गाड़ियां 31 दिसंबर तक चलाई जाएगी। रायपुर रेल मंडल ने यह जानकारी दी है।रेलवे के मुताबिक 00881/00882 इतवारी-टाटानगर-टाटानगर के मध्य विशेष पार्सल ट्रेन,  इतवारी से 31 दिसंबर तक प्रतिदिन और  टाटानगर से 31 दिसंबर  तक प्रतिदिन चलेगी। इस गाड़ी का ठहराव दोनों दिशाओं में गोंदिया, राजनांदगांव, दुर्ग, रायपुर, बिलासपुर, चांपा, रायगढ, झारसुगडा, राउरकेला, चक्रधरपुर स्टेशनों में दिया गया है।गाड़ी संख्या 00113 / 00114 मुबई-शालीमार-मुबई के मध्य पार्सल ट्रेन, मुबई से 31 दिसंबर तक प्रतिदिन और शालीमार से 31 दिसंबर तक प्रतिदिन चलेगी।

इस गाड़ी का ठहराव दोनों दिशाओं में गोंदिया, दुर्ग, रायपुर, बिलासपुर स्टेशनों में दिया गया है। इस गाड़ी में एक वीपी दुर्ग से शालीमार के लिए जोड़ा जाता है।गाड़ी संख्या  00913 / 00914 पोरबंदर-शालीमार-पोरबंदर के मध्य पार्सल ट्रेन, पोरबंदर से 31 दिसंबर तक प्रत्येक सोमवार,बुधवार,शुक्रवार और शालीमार से 31 दिसंबर तक प्रत्येक बुधवार, शुक्रवार,रविवार को चलेगी। इस गाड़ी का ठहराव दोनों दिशाओं में दुर्ग, रायपुर, बिलासपुर स्टेशनों में दिया गया है। इस गाड़ी में एक वीपी दुर्ग से शालीमार के लिए जोड़ा जाता है।रायपुर रेल मंडल के पार्सल कार्यालय से फोन पर विस्तृत जानकारी ली जा सकती है। फोन नंबर 9752877967 मुख्य पार्सल सुपरवाइजर रायपुर और मुख्य पार्सल सुपरवाइजर दुर्ग से 9109112682 पर बात कर सामग्री बुकिंग की जा सकती है। साथ ही आवश्यक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। रेलवे ने पार्सल ट्रेनों के माध्यम से वस्तुओं के परिवहन के लिए इच्छुक पार्टियों को,इस सुविधा का अधिक से अधिक लाभ लेने की अपील की है। पार्सल के संबंध में इच्छुक पार्टियां मुख्यालय में 9752475973, बिलासपुर मंडल में 9752876970, रायपुर मंडल में 9752877995 और नागपुर मंडल में 8600109149, मोबाइल नंबरों पर भी संपर्क कर, आवश्यक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

 

22-05-2020
दो करोड़ से ज्यादा के विकास कार्यों का विधायक ने किया भूमिपूजन               

दुर्ग। कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के साथ शहर के विकास को पटरी पर लाने विधायक अरुण वोरा ने मीनाक्षी नगर से पोटिया पहुंच मार्ग के डामरीकरण कार्य का भूमिपूजन किया। जहां करीब 2 करोड़ 50 लाख रुपए की लागत से डामरीकरण कार्य शुरू हो गया है। वोरा ने वार्ड 53 स्थित माता तालाब में बरसात के पहले रिटर्निंग वॉल निर्माण शुरू करने के निर्देश भी दिए। वोरा ने बताया कि नेहरू नगर चौक से मिनीमाता चौक तक 64 करोड़ की लागत से मार्ग चौड़ीकरण व सौंदर्यीकरण के कार्य के अलावा मिनीमाता चौक से अंजोरा तक 58 करोड़ की सिक्स लेन सड़क निर्माण की निविदा जारी की जा चुकी है।

बोरसी से रूआंबांधा तक 6 करोड़ की सड़क प्रशासकीय स्वीकृति में प्रक्रिया चल रही है। सभी कार्य शीघ्र प्रारंभ होंगे। वोरा ने कहा कि इन कार्यों से दुर्ग शहर को संभागीय मुख्यालय के रूप में एक अलग पहचान मिलेगी। ये कार्य शहर के सौंदर्यीकरण में मील का पत्थर साबित होंगे। हमर दुर्ग- स्मार्ट दुर्ग की दिशा में आगे बढ़ते हुए विगत कई वर्षों से इन सड़कों के निर्माण के लिए प्रयास जारी था कांग्रेस की सरकार बनने के बाद अब शहर के विकास का मार्ग प्रशस्त हो गया है।

17-05-2020
अब रेल मंत्री ने बदली पटरी : भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि रेल मंत्री पीयूष गोयल ने पहले यह कहा कि छत्तीसगढ़ ट्रेन की अनुमति नहीं दे रहा है। हमने जवाब दिया कि सभी ट्रेन की अनुमति सहमति दी जा चुकी है। छत्तीसगढ़ में कोई अनुमति लंबित नहीं है। इसका जवाब रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अभी तक नहीं दिया है। अब रेल मंत्री ने पटरी बदल दी है। रेलवे केंद्र के अधीन है और वर्तमान प्रक्रिया के अनुसार रेलवे दोनों राज्यों रिसीविंग स्टेट और सेंडिंग स्टेट की सहमति के बाद ट्रेन देता है। हमने जम्मू, उत्तरप्रदेश,कर्नाटक आदि से सहमति मांगी है। सहमति संबंधित राज्यों में लंबित है। रेल मंत्री को इसमें मार्गदर्शन देना चाहिए कि क्या करें और इसे कैसे हल करना चाहिए। लेकिन रेल मंत्री समस्या का हल करने के बजाय चुनौती दे रहे हैं।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रेल मंत्री पीयूष गोयल से अनुरोध किया है कि यह समय राजनीति करने और चुनौती देने का नहीं है बल्कि साथ मिलकर संकट का सामना करने व मजदूरों की मदद का है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि रेलवे की ओर से मजदूरों का रेल किराया मांगे जाने के बाद छत्तीसगढ़ सरकार ने ट्रेनों का किराया भी जमा किया है। हमने अभी तक 1 करोड़ 16 लाख रुपए से अधिक की राशि मजदूरों के रेल किराए के रूप में रेलवे के पास जमा कर दी है।

 

23-04-2020
अमरजीत भगत ने पीएचडी सीसीआई के पदाधिकारियों से की चर्चा,अर्थव्यवस्था पटरी पर लाने मिले सुझाव

रायपुर। खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने गुरुवार को पीएचडी चैम्बर्स आफ कॉमर्स एवं इंडस्ट्रीज (सीसीआई) के पदाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा की। खाद्यमंत्री ने कोविड-19 के खिलाफ जंग में छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से उठाए गए कदमों के बारे में बताया। खाद्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ के 28 जिलों के 12308 पीडीएस केंद्रों के माध्यम से खाद्यान्न का वितरण किया गया है। इस माध्यम से न सिर्फ राशनकार्ड धारियों बल्कि उन्हें भी राशन दिया गया है जिनके पास राशनकार्ड नहीं है। चर्चा के दौरान पीएचडी सीसीआई के पदाधिकारियों ने कुछ सुझाव भी दिए, जिन पर अमल करके लॉक डाउन के बाद अर्थव्यवस्था को वापस पटरी पर लाई जा सकती है।पीएचडी सीसीआई के पदाधिकारियों ने खाद्य मंत्री के सामने अपने विचार रखते हुए कहा कि कोविड 19 के कारण उत्पन्न संकट और लॉकडाउन से अर्थव्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हुई है। इसकी वजह से निजी क्षेत्रों में रोजगार के अवसर घटे हैं, इससे अर्थव्यवस्था को संभालना बहुत बड़ी चुनौती है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था में सबसे बड़ा योगदान कृषि क्षेत्र का है। कृषि कार्यों को सम्मिलित करने अर्थ व्यवस्था का पहिया धीरे-धीरे रफ्तार से घूमने लगेगा। कृषि के साथ उत्पादन-इस्पात उद्योग, ट्रांसपोर्ट, खाद्य प्रसंस्करण, वन्य उत्पाद, प्रोसेसिंग इकाइयों को जोड़कर अर्थव्यवस्था को दोबारा संभाला जा सकता है। कॉन्फ्रेंस में खाद्यमंत्री अमरजीत भगत के साथ पीएचडी चैम्बर्स आफ कॉमर्स एवं इंडस्ट्रीज के पदाधिकारी प्रिंसिपल निदेशक डॉ.योगेश श्रीवास्तव, अध्यक्ष डॉ. डीके.अग्रवाल, चेयरमेन शशांक रस्तोगी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष संजय अग्रवाल ने बात की।

 

17-04-2020
मालगाड़ी के चार डिब्बे पटरी से उतरे, दीपका चौक जाम

कोरबा। जिले के दीपका नगर में एक मालगाड़ी के चार डिब्बे पटरी से उतर जाने से रेल मार्ग यातायात बाधित हो गई। कोरबा रेलवे स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया कि दीपका रेलखंड के पास कोयले से भरे मालगाड़ी के चार डब्बे पटरी से उतर गए, जिससे रेल यातायात बाधित हो गई। इसे बहुत जल्द ठीक कर लिया जाएगा। बता दें कि मालगाड़ी गांधीनगर दीपका से लोड होकर जा जा रही थी इसी दौरान ये हादसा हुआ। इस घटना के बाद दीपका चौक के पास मुख्य मार्ग में जाम की स्थिति निर्मित हुई। मालगाड़ी जैसे ही बेपटरी हुई लोग कोयला बिनने के लिए उमड़ पड़े और कोयला लूटने की होड़ मच गई। अफरा-तफरी में सोशल डिस्टेंस का यहां पालन भी नहीं हो रहा है।

05-11-2019
टूटी थी रेल पटरी, ड्राइवर ने लगाया इमरजेंसी ब्रेक,टला हादसा

कटनी। जबलपुर से रीवा जा रही शटल ट्रेन मंगलवार को बड़े हादसे की शिकार होते होते बच गई। ट्रेन में बैठे यात्रियों को अचानक तेज झटका लगा, जिससे बोगियों में हड़कंप मच गया, लोग ट्रेन के रुकते ही नीचे कूदने लगे। बताया जा रहा है कि शटल पैसेंजर निवार स्टेशन से माधवनगर स्टेशन की ओर जा रही थी। तभी अचानक लोको पायलट की नजर टूटी पटरी पर पड़ी। आनन-फानन में ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक दिया। इससे यात्रियों को जोर का झटका लगा, जिससे लोग दहशत में आ गए। ड्राइवर द्वारा ट्रेन को इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोकने से बड़ा हादसा टल गया। ट्रेन के रूकते ही यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई।

वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना देने के बाद रेलवे अमले ने 1 घंटे में सुधार कार्य के बाद ट्रेन को गंतव्य के लिए रवाना किया है। घटना के समय ट्रेन की सभी बोगियों में बड़ी संख्या में यात्री मौजूद थे। रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि गाड़ी क्रमांक 51701 रीवा-जबलपुर शटल निवार स्टेशन से रवाना होकर माधव नगर की ओर जा रही थी। जैसे ही शटल गाड़ी 1073/2/3 ट्रेन किलोमीटर के पास आईबीएच सिग्नल के समीप पहुंची वैसे ही लोको पायलट की नहर टूटी हुई पटरी पर पड़ी। आनन-फानन में लोको पायलट ने ट्रेन को बड़ी दुर्घटना से बचाने के लिए इमरजेंसी ब्रेक लगाया।

13-08-2019
 मालगाड़ी के इंजन का पहिया पटरी से उतरा, यातायात हुआ प्रभावित 

कोरबा। मानिकपुर रेलवे साईडिंग में मालगाड़ी का पहिया पटरी से उतर गया। कोयले से लदी मालगाड़ी के इंजन का पहिया पटरी से उतर गया। हादसे में इंजन पटरियों के बीच में आकर रूक गया। इस तरह बड़ी दुर्घटना टल गई। हादसे में किसी प्रकार के जनहानी नहीं हुई है।  कोल साईडिंग में मौजूद कर्मियों ने घटना की सूचना रेलवे के अधिकारियों को दी। अधिकारी मौके पर पहुंचे। इंजीनियर व पटरी सुधार करने वाली टीम को बुलाया गया। निरीक्षण उपरांत पटरी सुधार का काम शुरू किया। रेलकर्मियों द्वारा की गई कड़ी मशक्कत के बाद इंजन के पहिए को उठाकर पटरी में व्यवस्थित रखा गया। इस दौरान लाइन से मालगाड़ी का परिचालन नहीं किया जा सका। लगभग पांच घंटे तक मालगाड़ी से कोल परिवहन बाधित रहा। दुर्घटना में रेलवे व एसईसीएल प्रबंधन को काफी नुकसान हुआ है। हालांकि फिलहाल नुकसान का आंकलन नहीं किया जा सका है। इस संबंध में रेलवे के अधिकारी जानकारी देने से भी बच रहे हैं।

08-02-2019
Railway Track: रेलवे ट्रैक पर पटरी में दरार, बड़ा हादसा टला

कोरबा। कोरबा रेलवे फाटक के समीप रेलवे ट्रैक पर पटरी में दरार थी। मालगाड़ी के गुजरने पर ट्रैक से लगातार अजीब आवाज आने पर गेटकीपर को संदेह हुआ उसने देखा कि पटरी पर फैक्चर था। इस घटना से विभागीय अफसरों से हड़कंप मच गई फिलहाल ट्रैक को दुरुस्त कर लिया गया है। शाम के वक्त जब कोरबा सिटी समपार रेलवे फाटक से मालगाड़ी गुजरी तो ड्यूटी बजा रहे गेटकीपर सालिकराम के कान खड़े हो गए। ट्रैक के एक ही जगह से अजीब आवाज आ रही थी। कुछ देर बाद  गेटकीपर ने मौके पर जाकर देखा तो रेल लाइन में फैक्चर नजर आया। ट्रैक पर बड़ी दरार पड़ गई थी। इसकी भनक लगते ही रेलवे के अफसर मौके पर पहुंच गए और ट्रैक दुरुस्तीकरण प्रारम्भ कर दिया गया। बताया जा रहा है की क्षतिग्रस्त रेल लाइन से छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस भी गुजरी थी अगर बड़ा फैक्चर होता तो बड़ा हादसा हो सकता था। ट्रैक का सुधार कर लिया गया है।

28-01-2019
Naxalites : नक्सलियों ने मालगाड़ी पर चिपकाएं बंद के बैनर पोस्टर, पटरी पर फेंके पर्चे

दंतेवाड़ा। जिले के कामालूर और भांसी स्टेशन के बीच नक्सलियों ने एक मालगाड़ी रोककर उसमें बंद से संबंधित बैनर पोस्टर चिपका कर सनसनी फ़ैलाने की कोशिश की है। पटरी के आसपास बड़ी संख्या में पंपलेट भी फेंके हैं। नक्सलियों ने 25 से 31 जनवरी तक भारत बंद का आह्वान किया है। इसी के मद्देनजर इन दिनों बस्तर के कई इलाकों में बैनर पोस्टर के माध्यम नक्सली बंद को सफल बनाने ऐसी हरकत कर रहे हैं। सोमवार देर शाम कामलूर और भांसी  रेलवे स्टेशन  के बीच नक्सलियों ने एक मालगाड़ी को रोका और पिछले हिस्से में बंद से संबंधित बैनर लगाएं और मौके पर बड़ी संख्या में पम्पलेट फेंकें। नक्सलियों ने जाते-जाते मालगाड़ी के गार्ड से वाकी टाकी भी छीन लिया। मालगाड़ी बैलाडीला से लौह अयस्क भरकर विशाखापट्टनम के लिए निकली थी। आस पास बरामद पंपलेट में नक्सलियों के भैरमगढ़ एरिया कमेटी का जिक्र है, जिसमे बंद को सफल बनाने की बात लिखी गई है। घटना की पुष्टि दंतेवाड़ा के पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव ने की है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804