GLIBS
08-03-2021
सदन में फिर स्पीकर और विपक्ष हुए आमने-सामने, डॉ. महंत ने कहा-नियमों और परंपराओं की है जानकारी

रायपुर। विधानसभा में स्पीकर और विपक्ष के बीच टकराव जारी है। सोमवार को विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत विपक्ष के तीखे तेवर से नाराज हो गए। स्पीकर डॉ. महंत ने कहा कि गरिमा का प्रश्न है, नियम का प्रश्न है, परंपरा का प्रश्न है। सबका पालन होगा। दरअसल विधानसभा में पूर्व मंत्री व भाजपा विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने बठेना मामले में स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा कराने की मांग की। इसे  ग्राह्य नहीं किए जाने से विपक्ष ने विरोध किया। शून्यकाल में स्थगन की सूचना के दौरान बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि हाउस ऑफ कॉमन्स भी परंपराओं से चलता है। भाजपा विधायक यदि अपनी बात रखना चाहते हैं तो पहले उन्हें मौका दिया जाना चाहिए। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि स्थगन की सूचना हमने दी है। स्थगन की सूचना में नाम है। हमारे सदस्य यदि किसी विषय पर कुछ  कहना चाहते हैं तो उन्हें बोलने का मौका दिया जाए। विधानसभा अध्यक्ष डॉ.चरणदास महंत ने कहा कि आसंदी में आप मुझसे पहले से विराजमान रहे हैं। मुझे भी नियमों और परंपराओं की जानकारी है।

01-11-2020
छत्तीसगढ़ विधानसभा के सचिव होंगे दिनेश शर्मा, अपर सचिव राममोहन अग्रवाल सेवानिवृत्त

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा सचिवालय के अपर सचिव पद से राममोहन अग्रवाल 31 अक्टूबर को सेवानिवृत्त हुए। उनकी सेवा निवृत्ति पर विधानसभा सचिवालय परिवार ने सम्मान कार्यक्रम रखा। उन्हें भावभीनी विदाई दी गई। इधर छत्तीसगढ़ विधानसभा के सचिव की जिम्मेदारी दिनेश शर्मा को दी गई। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने अपर सचिव दिनेश शर्मा को सचिव प्रमोट करने का निर्देश दिया है। छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद पहली बार छत्तीसगढ़ के मूल निवासी को विधानसभा सचिव की जिम्मेदारी मिली है। राममोहन ने 1984 से अपनी सेवा प्रारंभ की। विधानसभा सचिवालय में वर्ष 2000 से पदस्थापना के बाद अवर सचिव, उप सचिव पद पर कार्य करते हुए वे अपर सचिव (लेखा) के पद से सेवानिवृत्त हुए। सम्मान कार्यक्रम में विधानसभा के प्रमुख सचिव चंद्रशेखर गंगराड़े ने उन्हें शाल, श्रीफल और स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।  अग्रवाल के सुखी, उज्जवल और समृद्धि शाली भविष्य की कामना की। राममोहन अग्रवाल ने भी सचिवालयीन सेवा में सहयोग के लिए सचिवालय के समस्त अधिकारियों व कर्मचारियों के प्रति आभार व्यक्त किया।
बता दें कि विधानसभा के नए सचिव दिनेश शर्मा ने विधानसभा में अवर सचिव, उपसचिव और अपर सचिव के पद पर कार्य किया। उनकी कार्यकुशलता ने सभी को प्रभावित किया। दिनेश शर्मा की नियुक्ति अविभाजित मध्यप्रदेश के समय वर्ष 1987 में विधानसभा में सीधी भर्ती से हुई थी। वे द्वितीय श्रेणी राजपत्रित अधिकारी के रूप में नियुक्त हुए थे। वर्ष 2000 में राज्य निर्माण के बाद उनकी सेवाएं छतीसगढ़ विधानसभा में स्थानातरित हो गई।

27-10-2020
विधानसभा का विशेष सत्र शुरू : राज्य में कृषि कानून पास कराना चाहती है सत्ता पक्ष

रायपुर। छत्तीसगढ़ के विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत की अध्यक्षता में मंगलवार को  विधानसभा के समिति कक्ष में कार्यमंत्रणा समिति की बैठक हुई। बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक और संसदीय कार्यमंत्री रविन्द्र चौबे समेत समिति के सदस्य बैठक में मौजूद रहे। गौरतलब है कि आज से दो दिनों का विशेष सत्र बुलाया गया है। इस सत्र में सत्ता पक्ष राज्य के नए कृषि कानून को पास कराना चाहती है। बहरहाल विपक्ष इस बिल के विरोध में सरकार को घेरने की तैयारी पूरी कर चुकी है।

26-09-2020
वरिष्ठ पत्रकार मोहन राव के निधन पर राज्यपाल और विधानसभा अध्यक्ष ने जताया शोक 

रायपुर। वरिष्ठ पत्रकार मोहन राव के निधन पर राज्यपाल अनुसुईया उइके और विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने शोक व्यक्त किया है। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने वरिष्ठ पत्रकार मोहन राव के निधन पर दुख व्यक्त किया है। राज्यपाल ने कहा है कि, राव के निधन से छत्तीसगढ़ की पत्रकारिता जगत को अपूरणीय क्षति पहुंची है। राज्यपाल ने उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है और उनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने भरे मन से कहा है कि,वरिष्ठ पत्रकार मोहन राव के निधन का समाचार बेहद ही दुखद है।

मेरे उनसे  निजी संबंध रहे हैं, वे कलम के धनी थे। पत्रकार जगत को यह अपूरणीय क्षति है। डॉ. महंत ने ईश्वर से प्रार्थना की है कि,स्व. राव की आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें और उनके परिजनों को दुख की इस घड़ी में शक्ति संबल प्रदान करें। बता दें कि, शुक्रवार देर रात वरिष्ठ पत्रकार मोहन राव के निधन की खबर से मीडिया जगत में शोक की लहर दौड़ पड़ी। हैदराबाद में उन्होंने अंतिम सांस ली। उन्हें बेहतर उपचार के लिए हैदराबाद ले जाया गया था। जहां उपचार के दौरान निजी अस्पताल में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804