GLIBS
13-09-2020
अवैध रेत परिवहन के खिलाफ प्रशासन ने की कार्रवाई, 1 जेसीबी सहित 21 वाहन ज़ब्त

रायपुर /बलौदाबाजार। कलेक्टर सुनील कुमार जैन के निर्देश पर जिले में अवैध रेत परिवहन के मामलों में तेज़ी से कार्रवाई की जा रही है। अवैध रेत खनन और भंडारण के विरुद्ध प्रशासन द्वारा सख्त कार्रवाई की गई। बीते दिन और  आज रविवार को सुबह खनिज विभाग द्वारा जोक नदी किनारे बसे ग्राम हसुवा,बलौदा एवं रामपुर कोट अवैध रेत घाटों से रेत परिवहन के खिलाफ जब्ती और जुर्माने की कार्रवाई  की गई। इसमें 8 टैक्टर एवं 4 डालाबाड़ी हाइवा शामिल है। यहाँ पर जोक नदी से रेत खोदकर लगभग 85 घन मीटर अवैध रूप से भंडारित रेत जब्त की है। उसी तरह बलौदाबाजार विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम सोनपुरी में आज अवैध मुरम खदान से मुरम का परिवहन करते पाया गया। इस पर मौके से 6 हाईवा गाड़ी भंडारित मुरूम सहित एक जेसीबी गाड़ी को जब्त कर जुर्माने की कार्रवाई की गई है।

इसके साथ ही एक ट्रैक्टर चुना पत्थर एवं एक ट्रैक्टर ट्राली ईट सहित जब्त किया गया है। सहायक खनिज अधिकारी बबूल पांडेय एवं किशोर बंजारे के नेतृत्व में उक्त कार्रवाई की गई। पांडेय ने बताया कि सभी कार्रवाई छत्तीसगढ़ गौण खनिज नियम 2015 एवं एमएमडीआर एक्ट 1957 की धारा 21 से 23 के अंतर्गत किया गया है।  कलेक्टर जैन ने कहा है कि ऐसी कार्रवाईयां आगे भी जारी रहेंगी। अवैध रेत खनन व धंधा करने वालों पर प्रशासन की पैनी नजर है और ऐसे अवैध धंधे करते पकड़े जाने पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 

07-09-2020
कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए कलेक्टर बलौदाबाज़ार सुनील कुमार जैन जारी किए महत्वपूर्ण निर्देश

रायपुर/बलौदाबाजार। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री से मिले मार्गदर्शन के बाद कोरोना के पड़ते प्रकोप के लिए निर्देश जारी किए हैं। परिवार में किसी एक व्यक्ति की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर सम्पूर्ण परिवार को कोरोना पॉजिटिव मानते हुये तत्काल घर पर ही इलाज़ शुरू कर दिया जायेगा। ऐसे लोगों को होम आइसोलेशन में रखकर अस्पताल जैसी दवाई-पानी उपलब्ध कराई जायेगी। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने कहा कि अब केवल गंभीर मरीज़ों को अस्पताल में भर्ती किया जाएगा। सामान्य लक्षण वाले मरीज़ों का इलाज उनके घर पर ही किया जाएगा। एसपी आई के एलेसेला, जिला पंचायत सीईओ फरिहा आलम सिद्दीकी, अपर कलेक्टर राजेन्द्र गुप्ता, एडिशनल एसपी, निवेदिता पाल, सीएमएचओ डॉ सोनवानी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

कलेक्टर जैन ने जिला कोविड अस्पताल सहित सभी कोविड केअर सेण्टरों में खान-पान और साफ-सफाई की उचित व्यवस्था करने को कहा है। उन्होंने कहा कि सीसीटीवी के जरिये इन अस्पतालों की रोज़ निगरानी रखी जायेगी। जिला प्रशासन के वरिष्ठ अफसरों को निगरानी का दायित्व सौंपा गया है। कोरोना नियंत्रण कक्ष को 24 सौं घण्टे सक्रिय कर दिया गया है। इसका नम्बर 07727 223532 है। जैन ने कहा कि जिले में कोरोना मरीज़ों के इलाज़ की पर्याप्त इंतज़ाम है। लगभग 100 से ज़्यादा बेड अभी भी खाली हैं। किसी को परेशान होने अथवा चिंता करने की कतई जरूरत नहीं है। कलेक्टर ने कहा कि अब पहले से ज्यादा संख्या में मरीज़ों की पहचान हो रही है। इसका एक प्रमुख कारण पहले से ज्यादा संख्या में टेस्ट किया जाना है। जिले में प्रतिदिन फिलहाल 700 के आसपास टेस्ट हो रहे हैं। इसकी क्षमता बढ़ाकर हमें 1 हज़ार तक ले जाने का है। उन्होंने फिर से जोर देते हुए कहा कि घर से बाहर निकलने पर मास्क पहनना, भीड़-भाड़ से बचना, हाथ की बार-बार सफाई और योग-व्यायाम ही कोरोना से बचने का प्रभावी उपाय है। निजी हित, राज्य हित और देश हित के लिए इससे बड़ा कोई योगदान और त्याग नहीं है।

17-07-2020
फसलों का रकबा सत्यापन के लिए 1 अगस्त से शुरू होगी गिरदावरी

बलौदाबाजार। धान खरीदी के पहले बोये गए खरीफ फसलों का रकबा सत्यापन किया जायेगा। किसानों के खेत-खेत पहुंचकर बोए गए फसल और रकबे की जांच की जायेगी। यह राज्यव्यापी अभियान 1 अगस्त से शुरू होगा,जो कि 20 सितम्बर तक चलेगा। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने गिरदावरी के संबंध में राजस्व एवं कृषि विभाग के अधिकारियों और पटवारियों को दिशा-निर्देेश जारी किये हैं। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज वीडियो कन्फ्रेंसिंग के जरिये आयोजित कलेक्टरों की बैठक में अन्य विषयों के अलावा धान खरीदी की प्रारंभिक तैयारियों की समीक्षा भी की। उन्होंने खरीदी के पूर्व सुव्यवस्थित तरीके से गिरदावरी का काम निपटा लिये जाने के निर्देश दिये हैं। कलेक्टर जैन ने कहा कि गिरदावरी का काम किसानों की मौजदूगी में पारदर्शिता पूर्ण तरीके से किया जाना है। इसे किसी के घर में बैठकर नहीं बल्कि किसानों के असल खेत में पहुंचकर पूरा करना है।

किसानों और स्थानीय जनप्रतिनिधियों को गिरदावरी की जानकारी पूर्व से ही दी जाये। इसके लिये गांवों में मुनादी करनेे के निर्देश दिये गय हैं। कलेक्टर ने कहा कि गिरदावरी के लिये वर्ष 2019-20 के धान खरीदी पंजीयन की सूची डाउनलोड कर सरल क्रमांक के अनुसार खेतों की फसलवार बोआई का विवरण तैयार किया जाना है। प्रत्येक किसान के खसरावार वर्तमान खेत में बोआई का रकबा और पड़त का रकबा भुईयां साफ्टवेयर में दिये गये विवरण के अनुसार तैयार किया जायेगा। इसके साथ ही प्रत्येक खसरावार रकबे का किसानवार मोबाइल में फोटो संधारित किया जाना है। संयुक्त कलेक्टर एवं भू-अभिलेख शाखा के प्रभारी अरविन्द पाण्डेय ने बताया कि गिरदावरी काम में लगे अधिकारी-कर्मचारियों का 21 जुलाई से प्रशिक्षण शुरू किया जा रहा है। यह प्रशिक्षण जिला पंचायत के सभाकक्ष में सवेरे साढ़े 11 बजे से शुरू होगा। इसके अंतर्गत 21 जुलाई को बलौदाबाजार तहसील, 22 जुलाई को पलारी तहसील, 23 जुलाई को भाटापारा तहसील, 24 जुलाई को सिमगा तहसील, 25 जुलाई को कसडोल तहसील एवं 27 जुलाई को बिलाईगढ़ तहसील के अधिकारियों-कर्मचारियों का प्रशिक्षण होगा। राजस्व, कृषि एवं उद्यानिकी विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी इस महत्वपूर्ण अभियान में लगाई गई है। बैठक में जिला पंचायत की सीईओ डाॅ.फरिहा आलम, अपर कलेक्टर जोगेन्द्र नायक, राजेन्द्र गुप्ता भी उपस्थित थे।

 

15-07-2020
बलौदाबाजार के सरकारी इंग्लिश मीडियम स्कूल में वर्चुअल क्लासेस शुरू

रायपुर /बलौदाबाजार। जिले के एकमात्र सरकारी अंग्रेजी माध्यम स्कूल में ऑन लाइन पद्धति से वर्चुअल क्लास शुरू हो गई। एसडीएम हायर सेकेण्डरी स्कूल के बच्चे अपने घर में मोबाइल से पढ़ाई कर रहे हैं। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने जिला ग्रंथालय में ऑन लाइन कक्षाओं का औपचारिक शुभारंभ किया। उन्होंने वर्चुअल कक्षाओं में हिस्सा ले रहे कुछ बच्चों से चर्चा कर उनका अनुभव सुना और उत्साहवर्धन भी किया। अंग्रेजी के लेक्चरर रमेश कुमार नेगी और फिजिक्स के लेक्चरर कौशिक मुनि त्रिपाठी के व्याख्यान से कक्षायें शुरू हुईं। नेगी ने पहले दिन कक्षा नवमीं में अंग्रेजी विषय के ग्रामर और त्रिपाठी ने फिजिक्स के फिजिकल क्वांटिटी टॉपिक पर सरल तरीके से बच्चों को पढ़ाया। कक्षा नवमीं में 27 और ग्यारहवीं में 14 बच्चों ने पहले दिन लाईव्ह क्लास में भाग लिया। जिला शिक्षा अधिकारी आरके वर्मा ने बताया कि स्कूल शिक्षा विभाग की पढ़ाई तुंहर दुआर योजना के अंतर्गत ऑनलाइन क्लास शुरू की गई है। बहुत जल्द अन्य कक्षायें भी शुरू होंगी। इंग्लिश स्कूल के लिये शिक्षकों की भर्तियां शुरू हो गई है। इनकी छंटनी का काम चल रहा है। राजीव गांधी शिक्षा मिशन के जिला समन्वयक सोमेश्वर राव ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के चलते घरों में रहते हुए बच्चों को पढ़ने-लिखने और सीखने का अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से स्कूल शिक्षा विभाग की ओर से वर्चुअल क्लास संचालित की जा रही है। सभी कक्षाओं को वर्चुअल क्लास में तब्दील कर दिया गया है अर्थात वेबसाईट पर संबंधित शाला के शिक्षक और बच्चे आभासी रूप से जुड़ चुके हैं। विद्यार्थी ऑनलाइन कक्षाओं के अलावा वेबसाइट में उपलब्ध पुस्तकें, पठन सामग्री, आडियो-वीडियो आदि देखकर विभिन्न पाठों को आसानी से समझ सकते हैं।

 

03-07-2020
दसवीं बोर्ड की बलौदाबाजार जिला स्तरीय प्रावीण्य सूची में अव्वल सुनील व सौरव का सम्मान किया कलेक्टर ने

रायपुर /बलौदाबाजार । कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने कक्षा दसवीं बोर्ड की जिला स्तरीय प्रावीण्य सूची में प्रथम स्थान हासिल करने वाले दो छात्रों सुनील निषाद और सौरव वर्मा का सम्मान किया। संयुक्त जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित एक संक्षिप्त कार्यक्रम में कलेक्टर ने दोनो मेधावी छात्रों को स्मृति चिह्न भेंटकर उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। उन्होंने बच्चों का मुंह मीठा भी कराया। कलेक्टर ने कहा कि इन मेधावी बच्चों की आगे की पढ़ाई के लिए जिला प्रशासन की ओर से  हरसंभव सहयोग किया जायेगा। गौरतलब है कि जिले की सिमगा तहसील के शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल तुलसी के छात्र सुनील निषाद और भाटापारा तहसील के स्वामी आत्मानंद विद्यापीठ देवरी के छात्र सौरभ वर्मा ने संयुक्त रूप से जिले की प्रावीण्य सूची में प्रथम स्थान हासिल किये हैं।

दोनों छात्रों ने 600 पूर्णांक में 581 नम्बर लेकर 96.83 प्रतिशत अंक बनाये हैं। दोनों को गणित विषय में 100 में 100 अंक मिले हैं। दोनों मेधावी बालक गणित विषय लेकर आगे की पढाई करने के इच्छुक हैं। कलेक्टर जैन ने बच्चों के माता-पिता एवं शिक्षकों को भी गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए बधाई एवं धन्यवाद दिया। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी आरके वर्मा, सहायक संचालक शिक्षा बरतराम पटेल सहित स्कूल के शिक्षक एवं बच्चों के अभिभावक उपस्थित थे।

23-06-2020
बलौदाबाजार जिले के प्राकृतिक आपदा पीड़ित 6 परिवारों के लिए भूपेश सरकार ने की 24 लाख  की आर्थिक सहायता मंज़ूर

रायपुर/बलौदाबाजार। प्राकृतिक आपदा से पीड़ित जिलों के 6 परिवारों के लिए 24 लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है। इसमें सभी पीड़ित परिवार के लिए 4-4 लाख रूपये स्वीकृत किये गये हैं। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने राजस्व पुस्तक परिपत्र की धारा 6-4 के अंतर्गत ये स्वीकृतियां प्रदान की है। पानी में डूबने,बिजली गिरने,सांप अथवा बिच्छू काटने के कारण हुई मौत के कारण उनके निकट परिजनों के लिये यह आर्थिक सहायता प्रदान की गई है। कलेक्टर ने संबंधित तहसीलदारों को आरटीजीएस के माध्यम से हितग्राहियों के बैंक खाते में भुगतान सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं। जिला कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार लाभान्वित हितग्राहियों में अदालत ग्राम कोयदा तहसील बलौदाबाजार निवासी प्रमिला साहू, ग्राम डोटोपार तहसील बलौदाबाजार  निवासी गुणेशु बंजारे ग्राम गातापार तहसील पलारी निवासी संतोष कुमार धृतलहरे,ग्राम भानपुर तहसील कसडोल निवासी संतराम, ग्राम छुहिया तहसील बिलाईगढ़  निवासी भीषम लाल, ग्राम सकरी (स) तहसील पलारी निवासी रेशमा साहू इनमें से प्रत्येक हितग्राही के लिये जिला कलेक्टर ने 4-4 लाख रूपए  की आर्थिक सहायता राशि की स्वीकृति प्रदान की है।

 

17-05-2020
महासमुंद में 31 मई तक लॉकडाउन के आदेश जारी, इन शर्तो के साथ खुलेगी दुकानें

महासमुंद। लॉक डाउन 4 में दुकानों की खुलने की अवधि में महासमुंद में ढील दी गई है। कलेक्टर सुनील कुमार जैन के आदेशानुसार अब दुकानें सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक खुली रहेंगी। इससे पहले जिले में दुकानें सप्ताह में दो दिन सुबह 9 से 2 बजे तक खुली रहती थी। महासमुंद जिला ग्रीन जोन में होने के कारण कलेक्टर ने रियायत बरती है और लोगों को राहत दी है। जिलें की सभी मेडिकल स्टोर्स सुबह 9 से रात 9 बजे तक खुले रहेंगे। इसके साथ ही शापिंग मॉल, होटल, लॉज, सामूहिक आयोजन, स्कूल, कॉलेज, जिम, पर्यटन स्थल पूर्णत: बंद रहेंगे। सार्वजनिक यातायात जैसे आटो, बस, जीप बंद रहेगी। गुटका, तंबाकू का विक्रय प्रतिबंध रहेगा। सार्वजनिक स्थानों पर थूकते पाए जाने पर जुर्माना वसूला जाएगा। मई माह के प्रत्येक शुक्रवार रात 11 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक पूर्ण लॉकडाउन रहेगा। इसमें सिर्फ मेडिकल स्टोर्स, दूध, सब्जी, अण्डा, फल की दुकानें खुली रहेगी। घर से बाहर निकलने पर मास्क लगाना अनिवार्य होगा, और दुकानदारों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा।  आदेश देखने के लिए यहां क्लिक करें...   

 

 

 

23-03-2020
महासमुन्द में कोरोना वायरस के मिले 8 संदिग्ध, धारा 144 लागू

महासमुन्द। कोरोना वायरस को लेकर जिला प्रशासन ने 144 धारा लागू कर दिया है। जिले में 8 कोरोना के संदिग्ध व्यक्ति पाए गए है, जिसे आइसोलेशन में रखा गया है। जिला कलेक्टर सुनील जैन व पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र शुक्ला ने गुरुवार को नगर पालिका के साथ मिलकर शहर के भीतर ठेले, गुमटियों में खाद्य पदार्थ बेचने वालों की दुकानें आगामी आदेश तक बंद करा दी है। बता दें कि जिले में कोरोना के 8 संदिग्ध मरीज मिले है, जिनमें से 4 को सरायपाली, 2 को बसना और 2 को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। इनमें से 6 दुबई और 1 आस्ट्रिया के साथ-साथ 1 लंदन के दौरे से लौटे है, प्रशासन सुरक्षा के मद्देनजर सभी को निगरानी में रखा गया है। साथ ही जिले के सरकारी और निजी अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। इसके अलावा जिला अस्पताल परिसर में स्थित एएनएम औऱ जीएनएम ट्रेनिंग सेंटर में भी आइसोलेशन वार्ड बनाया जा रहा है।

जिले में धारा 144 लागू होते ही प्रशासन और पालिका की टीम शहर में घूम घूमकर लोगों को जागरूक करने का प्रयास कर रही है। एसडीएम सुनील कुमार चंद्रवंशी के नेतृत्व में टीम शहर के भीड़ भरे क्षेत्रोंए बस स्टैण्ड और शराब दुकानों पर पहुंचकर लोगों को सुरक्षित रहने, भीड़ एकत्र नहीं करने, ठेले गुमटियां और चखना सेंटर बंद करने के सख्त निर्देश दिए हैं। महासमुंद जिला ओड़िशा सीमा से लगा हुआ है जिसे देखते हुए कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने दूसरे प्रदेशों से चलने वाले अंतर्राज्यीय बस सेवा पर आगामी आदेश तक प्रतिबंध लगा दिया है। साथ ही बंस संचालकों को निर्देशित किया गया है कि आने.जाने वाले लोगों के हाथ धुलाने और उनसे पूछ परख करें ताकि बाहरी प्रदेशों और दूसरे देशों से दौरा कर आने वालों की जानकारी लग सके।

 

 

19-03-2020
महासमुंद जिले में धारा 144 लागू

महासमुन्द। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने गुरूवार को कोरोना से संक्रमण से बचाव के लिए महासमुंद जिले में धारा-144 लागू की है। इसके साथ ही जिले में सभा, धरना, रैली, जुलूस, धार्मिक सांस्कृतिक एवं राजनीतिक कार्यक्रमों के आयोजन पर प्रतिबंध लग गया है। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जैन द्वारा धारा-144 दण्ड प्रकिया संहिता में प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुये जिले के सभी नगरीय सीमा क्षेत्र के तहत महासमुन्द, तुमगाॅव, बागबाहरा, पिथौरा, बसना एवं सरायपाली में धरना प्रदर्शन, रैली प्रदर्शन, सभाए, जुलूस आंदोलन एवं अन्य प्रकार के प्रदर्शनों के लिए प्रतिबंधित क्षेत्र घोषित किया गया है। परिस्थिति के कारण प्रभावितों को सम्यक समय में तामिली संभव नहीं होने के कारण यह आदेश एकपक्षीय रूप से पारित किया गया है। इस आदेश का उल्लंघन करने पर भारतीय दण्ड संहिता में निहित प्रावधानों के तहत दण्डनीय होगा। यह आदेश पुलिस, सीआरपीएफ तथा कानून व्यवस्था में लगे कर्मियों पर लागू नहीं होगा। यह आदेश जिले के लिए तत्काल प्रभावशील होगा, जो 31 मार्च 2020 या अग्रिम आदेश तक प्रभावशील होगा

 

14-03-2020
मुख्य सचिव मंडल ने की महिला स्व-सहायता समूहों के उत्पादों की सराहना

महासमुन्द l प्रदेश के मुख्य सचिव आर.पी. मंडल शनिवार को महासमुन्द जिले के पुरातात्विक पर्यटन एवं ऐतिहासिक महत्व के स्थल सिरपुर पहुंचे तथा सिरपुर में पर्यटन को विशेष रूप से बढ़ावा देने तथा और अधिक विकसित करने के उद्देश्य से पर्यटन, वन सहित जिला प्रशासन के अधिकारियों से विचार-विमर्श कर आवश्यक दिशा- निर्देश दिए। इस दौरान कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने जिले की महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा निर्मित दैनिक उपयोग में आने वाली सामग्री के बारे में मुख्य सचिव को विस्तार से जानकारी दी। उन्होनें बताया कि जिले के महिला स्व-सहायता द्वारा फिनाॅयल, हैण्डवाॅश, विभिन्न प्रकार के साबुन, मिक्चर, आचार सहित अन्य प्रकार की सामग्री तैयार की जा रही है। तथा इसका ब्राण्ड नेम ‘‘हमर विरासत सिरपुर’’ दिया गया है। इस संबंध में कलेक्टर ने बताया कि स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा उत्पादित इन सामानों को विक्रय के लिए जिला स्तर पर शीघ्र ही एक स्टाॅल प्रदाय किया जा रहा है, जहां विक्रय के लिए सामग्री उपलब्ध रहेगी। इसके अलावा भविष्य में विकासखंड मुख्यालय पर भी स्टाॅल उपलब्ध कराया जाएगा।

इस संबंध में मुख्य सचिव मंडल ने महिला स्व-सहायता समूहों की सराहना की। उन्होनें निर्देश देते हुए कहा कि जिले के आश्रम, छात्रावासों, आंगनबाड़ी केन्द्रों में इन सामानों को विशेषकर साबुन, फिनाॅयल सहित अन्य सामान की आपूर्ति अनिवार्य रूप से किया जाए। इससे महिला स्व-सहायता समूहों को एक निश्चित आमदनी होती रहेगी। उल्लेखनीय है कि कलेक्टर सुनील कुमार जैन के दिशा-निर्देश एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ. रवि मित्तल के मार्गदर्शन में जिले की महिला स्व-सहायता समूहों के उत्पादों के विक्रय के लिए उपयुक्त मंच उपलब्ध कराया जा रहा है। इस अवसर पर प्रधान मुख्य वन संरक्षक आर.के. चतुर्वेदी, प्रधान वन संरक्षक एस.एस.डी. बड़गैया, पर्यटन विभाग के सचिव पी. अनबलगन, कलेक्टर सुनील कुमार जैन, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डाॅ. रवि मित्तल, वन मण्डलाधिकारी मयंक पाण्डेय, अपर कलेक्टर शरीफ मोहम्मद खान सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

12-03-2020
3 से 7 अप्रैल तक नवजीवन के अन्तर्गत नवजीवन प्रतियोगिता का आयोजन

महासमुन्द। कलेक्टर सुनील कुमार जैन के मार्गदर्शन में जिला प्रशासन के अभिनव पहल नवजीवन के अन्तर्गत नवजीवन प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। इसके तहत कैरम, चेस, निबंध एवं चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। इसका आयोजन ग्राम पंचायत, संकुल, विकासखंड एवं जिला स्तर पर होगा। नवजीवन प्रतियोगिता का आयोजन विभिन्न स्तरों पर अलग-अलग तिथियों में किया जाएगा। इस संबंध में कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने बताया कि ग्राम पंचायत स्तर पर होने वाली नवजीवन प्रतियोगिता आगामी 3 से 7 अप्रैल तक आयोजित की जाएगी। इसके लिए सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक, स्थानीय ग्राम पंचायत स्तर के विद्यालयों के प्रधान पाठक-प्राचार्य, नवजीवन सखी-सखा एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संयोजक होंगें। संकुल स्तर पर होने वाली नवजीवन प्रतियोगिता 9 से 13 अप्रैल तक आयोजित होगी। इसके लिए सरपंच (संकुल स्तर के ग्राम पंचायत स्तर के सरपंच), सचिव (संकुल स्तर के ग्राम पंचायत के सचिव), करारोपण अधिकारी, स्थानीय संकुल स्तर के विद्यालयों के प्रधान पाठक-प्राचार्य, संबंधित संकुल समन्वयक एवं पर्यवेक्षक आंगनबाड़ी संयोजक होंगी।

इसी तरह विकासखंड स्तर पर होने वाली नवजीवन प्रतियोगिता 15 से 17 अप्रैल तक आयोजित की जाएगी। इसके लिए अनुविभागीया अधिकारी राजस्व, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, तहसीलदार, विकासखंड शिक्षा अधिकारी, विकासखंड स्त्रोत केन्द्र समन्वयक एवं विकासखंड चिकित्सा अधिकारी समन्वयक होंगे। जिला स्तर पर होने वाली नवजीवन प्रतियोगिता 27 से 28 अप्रैल तक आयोजित की जाएगी। इसके लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, जिला शिक्षा अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास, जिला खेल अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी और महिला एवं बाल विकास अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक (स्वास्थ्य विभाग), जिला परियोजना अधिकारी लोक शिक्षण समिति एवं नेहरू युवा केन्द्र संयोजक होंगे। इस प्रतियोगिता के लिए स्तर तय किए गए है, जिसमें प्राथमिक शाला स्तर, उच्च प्राथमिक शाला स्तर, हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्ड्री शाला स्तर और ओपन स्तर निर्धारित किया गया है। ग्राम पंचायत स्तर से कैरम, चेस, चित्रकला एवं निबंध प्रतियोगिता में चयनित प्रथम एवं द्वितीय प्रतिभागी संकुल स्तर पर, संकुल स्तर से चयनित प्रतिभागी विकासखंड स्तर पर तथा विकासखंड स्तर से चयनित प्रतिभागी जिला स्तर पर अपना प्रतिनिधित्व करेंगे। इस प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए कलेक्टर जैन ने संबंधित सभी अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए हैं।

25-02-2020
कलेक्टर ने लिया अंग्रेजी माध्यम के शिक्षकों का इंटरव्यू

महासमुन्द। कलेक्टर सुनील कुमार जैन एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ.रवि मित्तल की उपस्थिति में मंगलवार को जिला पंचायत के सभाकक्ष में अंग्रेजी माध्यम में अध्यापन कराने वाले दक्ष शिक्षकों के चयन के लिए साक्षात्कार लिया गया। शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि राज्य शासन के निर्देशानुसार आगामी समय में शासकीय स्कूलों पर विद्यार्थियों को अंग्रेजी माध्यम में अध्यापन कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि आगामी शिक्षा सत्र 2020-21 कक्षा पहली से बारहवीं तक अंग्रेजी माध्यम में स्कूल संचालन किया जाएगा। इसके लिए जिला मुख्यालय स्थित शासकीय हाई स्कूल नयापारा को जिला प्रशासन एवं शिक्षा विभाग द्वारा चिन्हांकित किया गया है। अंग्रेजी माध्यम में अध्यापन कार्य कराने वाले दक्ष विषयवार शिक्षकों के चयन के लिए साक्षात्कार लिया गया। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी बीएल कुर्रे, सहायक संचालक एमजे सतीश नायर सहित शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।




 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804