GLIBS
30-06-2020
पत्नी, प्रेमी और दोस्त ने की थी पति की हत्या, अनुकंपा नौकरी और पैसों के लालच में बनाया था प्लान, अब सलाखों के पीेछे

रायपुर/सूरजपुर। जिले के भटगांव थाना क्षेत्र में सेवानिवृत्ति से तीन दिन पहले एसईसीएल कर्मी की हत्या के मामले का पुलिस ने रहस्य का खुलासा कर दिया है। कॉलरीकर्मी की हत्या उससे 20 साल छोटी तीसरी पत्नी ने प्रेमी व उसके दोस्त से करा दी थी। हत्या का कारण मृत्यु उपरांत मिले रुपयों व अनुकंपा नौकरी से दोनों आगे की जिंदगी पत्नी व उसके प्रेमी ने साजिश की थी। पुलिस ने आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं प्रेमी का दोस्त फरार बताया जा रहा है। बता दें कि सूरजपुर के भटगांव थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बंशीपुर निवासी बाबूलाल शिवानी खदान में पंप ऑपरेटर के पद पर पदस्थ था। वह अपनी तीसरी पत्नी सागरमती 40 वर्ष व 2 बेटों के साथ रहता था।

उसकी तीसरी पत्नी उससे 20 साल छोटी थी। उसने घर के सामने वाले हिस्से में ढाबा भी खोल रखा था जिसे बच्चों के सहयोग से पत्नी चलाती थी। बाबूलाल 31 मार्च को सेवानिवृत्त होने वाला था। इसी बीच 28 मार्च की सुबह घर से कुछ दूर नहर के पास उसकी संदिग्ध अवस्था में लाश मिली थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। एसपी राजेश कुकरेजा के नेतृत्व में पुलिस जांच में पता चला कि पत्नी के प्रेमी मणिरंजन मिश्रा उर्फ पिंटू मिश्रा ने दोस्त सीताराम यादव के साथ मिलकर बाबूलाल की गमछे से गला व मुंह दबाकर हत्या की थी और शव को नहर के पास फेेंक दिया था। इस मामले में पुलिस ने पत्नी सागरमती व प्रेमी मणिरंजन उर्फ पिंटू मिश्रा को गिरफ्तार कर धारा 302, 201, 120बी व 34 के तहत जेल भेज दिया।

21-04-2020
मां ने डांट कर कहा मेरी बेटी से दूर रहना तो कर दी हत्या, पढ़िए पूरी खबर

रायपुर। शहर के तेलीबांधा थाना क्षेत्र के हीरानगर बस्ती में एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका की माँ को मौत के घाट उतार दिया। मामले की जानकारी देते हुए थाना प्रभारी मोहसिन खान ने बताया कि उक्त आरोपी प्रेमी प्रकाश उर्फ छोटू को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी ने हत्या करने का कारण मृतिका द्वारा अपनी बेटी से दूर रहने के लिए डांटना बताया है।

23-12-2019
तन्दूर बना समाज, शैतान भी शर्मा जाए इंसानी क्रूरता से, जिंदा जला दिया युवती को, कैसे बर्दाश्त हुई होंगी चीखे उसकी

रायपुर। शैतान भी शरमा जाएगा इंसानी क्रूरता को देखकर। जैसे मुर्गी/मछली भूनते हैं वैसे एक युवती को जिंदा भून दिया गया। युवती का दोष इतना वह अपने प्रेमी से मिलने उसके घर गई थी। और उसकी बस इतनी सी गलती पर उसके प्रेमी के रिश्तेदारों ने उसे मिट्टी तेल डालकर जला दिया। थोड़ा सा गर्म पानी भी बर्दाश्त नहीं होता इंसानी शरीर को। थोड़ी सी तापमान की गर्मी बर्दाश्त नहीं होती है। गर्म हवा तक बर्दाश्त नहीं होती है। सोचिए उस युवती ने कैसे बर्दाश्त किया होगा अग्निस्नान को? कितना चिखी होगी? कितना तड़पी होगी वह जान बचाने के लिए? कितना संघर्ष किया होगा उसने? और हैरानी की बात देखिए उसे जलाने वाले उसके प्रेमी के मां-बाप और भाभी तमाशा देखते खड़े रहे। उन्हें जरा भी दया नहीं आई। उन्हें जरा भी दर्द महसूस नहीं हुआ। क्या यह इंसान होने का प्रमाण है? क्या यह शैतान होने का सबूत नहीं है? क्या ऐसी हैवानियत कभी किसी ने सोची होगी? एक युवती को जिंदा जला देना और उसे बचाने की कोशिश भी नहीं करना हैवानियत की सारी हदें पार करता है। और यह पहला मामला नहीं है। राजधानी के करीब इससे पहले भी एक प्रेमी ने नकटी गांव की राइस मिल के पीछे अपनी प्रेमिका और उसके बच्चे को जला कर फेंक दिया था। जबलपुर में भी एक युवती को छेड़छाड़ के विरोध करने पर जिंदा जला देने की जानकारी सामने आ रही है। क्या समाज अब तंदूर हो गया है? क्या बेटियां ऐसे ही भून दी जाएंगी? क्या ऐसे राक्षस समाज को कलंकित करते रहेंगे? क्या इंसानियत ऐसे ही शर्मसार होती रहेगी? या फिर ऐसे लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करना जरूरी हो गया है।

09-12-2019
नाबालिगों से सामूहिक दुष्कर्म, पुलिस ने किया आरोपियों को गिरफ्तार

बालौदाबाजार। प्रदेश में महिला प्रताड़ना के मामले समाने आ रहे हैं। कोरबा में हुई वारदात के बाद अब बालौदाबाजार में नाबालिग बालिकाओं के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आई है। मिली जानकारी के अनुसार जिले के सरसीवा थाना क्षेत्र युवकों ने घटना को अंजाम दिया। बताया जा रहा है कि अपने प्रेमी से मिलने गई दो नाबालिग को बंधक बनाकर प्रेमी के दोस्तों ने दुष्कर्म किया। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

 

03-12-2019
Breaking: महिला और बच्चे की अधजली लाश की हुई शिनाख्त

रायपुर।  माना के पास नकटी गांव में सोमवार को महिला और बच्चे की अधजली हालात में मिली लाश की शिनाख्त हो गई है। महिला भाटापारा निवासी बताई जा रहीं है। मिली जानकारी के अनुसार महिला की हत्या उसके प्रेमी ने की थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 

21-10-2019
पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर की थी पति की हत्या, 9 साल बाद गिरफ्तार हुआ आरोपी

कोरिया। जिले के मनेंद्रगढ़ में पत्नी द्वारा पति को दूध में जहर देकर हत्या के मामले में फरार आरोपी और महिला के प्रेमी को पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को गिरफ्तार करने में पुलिस ने 9 साल बाद सफलता हासिल की है। बता दें कि नौ साल पहले 6 फरवरी 2010 को मनेंद्रगढ़ के काली मंदिर रोड में रहने वाले अरविंद चौहान की संदेहास्पद परिस्थितियों में मौत हो गई थी। इस मामले में जब पुलिस की जांच में तो पता चला कि मृतक की पत्नी सुधा चौहान ने अपने पति को जो दूध पीने के लिए दिया था उसमें जहर मिला हुआ था। मृतक की पत्नी का प्रेमी इस घटना के बाद से फरार हो गया था। आरोपी रामकृष्ण मिश्रा निवासी सेवरा लंबे समय से फरार चल रहा था। पुलिस लगातार आरोपी की पतासाजी कर रही थी लेकिन पुलिस को सफलता नहीं मिल रही थी। इस मामले में उच्चाधिकारियों के निर्देश पर थाना प्रभारी तेजनाथ सिंह ने सक्रियता दिखाते हुए एक पुलिस टीम का गठन किया। इस टीम में एएसआई लक्ष्मी कश्यप, आरक्षक दीप तिवारी, राजकुमार सेन और प्रमोद यादव को शामिल किया गया। टीम ने आरोपी को पकड़ने के लिए अपने मुखबिरों को सक्रिय रखा। इस बीच उन्हें सूचना मिली कि आरोपी रामकृष्ण मिश्रा अपने घर आया हुआ है। सूचना पर पुलिस की टीम ने घेराबंदी कर रामकृष्ण मिश्रा को हिरासत में ले लिया है। आपको बता दें इस मामले में 18 जून 2010 को मृतक की पत्नी सुधा चौहान की गिरफ्तारी हुई थी जो आजीवन कारावास की सजा भुगत रही ।

 

08-08-2019
प्रेमी ने की प्रेमिका की हत्या, शव को फेंका झाड़ियों में, पुलिस ने धर दबोचा आरोपी को

सूरजपुर। जिले के विश्रामपुर थाना क्षेत्र के माइनस कालोनी में हुई हत्या खुलासा किया हैं और आरोपी को पकड़ कर जेल भेजा है। पुलिस ने हत्या के आरोपी को 48 घण्टे के अंदर गिरफ्तार कर रिमांड में जेल भेज दिया हैं। मिली जानकारी के अनुसार 5 अगस्त को अमर सिंह ने रात्रि में थाना आकर रपट लिखवाया कि उसकी मुंहबोली बहन राजकुमारी का शव रेलवे पटरी के पास एसईसीएल नर्सरी माईनस कालोनी विश्रामपुर झाड़ी में पड़ा है। पुलिस ने रिपोर्ट पर मर्ग क्रमांक 53/19 चाक कर पंचनामा कार्यवाही में लिया। पुलिस ने पीएम रिपोर्ट के अवलोकन पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध धारा 302, 201 तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया। पुलिस ने जांच में पाया कि आरोपी फिलमोन मिंज व मृतिका के मध्य अवैध संबंध था। मृतिका आरोपी के अलावा अन्य लोगों से भी अवैध संबंध था, जो आरोपी को नागवार था। घटना दिवस पर आरोपी ने अन्य आदमियों के साथ संबंध बनाने की बात को लेकर मृतिका के साथ विवाद किया। विवाद बढ़ने पर आरोपी आवेश में आकर वहीं पड़े पत्थर को उठाकर मृतिका राजकुमारी के सिर में संघातिक प्रहार कर हत्या कर दिया तथा शव को झाड़ियों में फेंक दिया। पुलिस ने प्रकरण की विवेचना दौरान आरोपी के मेमोरण्डम पर घटनास्थल से घटना में प्रयुक्त पत्थर तथा उसके घर से घटना दिवस को पहने कपड़े को जब्त किया। आरोपी फिलमोन मिंज के विरूद्ध को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया है। बता दें कि विश्रामपुर थाना प्रभारी कपिलदेव पांडे ने इसी सप्ताह लाखों के अवैध कबाड़ की खेप पकड़ा था। साथ ही थाना प्रभारी द्वारा क्षेत्र में अवैध नशीली दवाई, अन्य  नशीली पदार्थ के बिक्री की सूचना पर कार्यवाही की जा रही है। 

 

16-04-2019
खाप पंचायत ने प्रेमी जोड़े को एक घंटे तक मुर्गा बनाकर रखा

प्रतापगढ़। उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में एक खाप पंचायत ने एक प्रेमी जोड़े को पूरे गांव के सामने एक घंटे तक मुर्गा बनने का तालिबानी फरमान सुना दिया। प्रेमी जोड़ा कुछ दिन पहले गांव से फरार हो गया था। वापस आने पर गांववालों ने यह सजा सुना दी। जब प्रेमी जोड़े को सजा देने का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो हड़कंप मच गया। एसपी एस. आनंद ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए जांच के आदेश दिए हैं। एसपी ने दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने का भी आश्वासन दिया है। जानकारी के अनुसार यह घटना महेशगंज थाना के गुजवर गांव की है जहां के प्रधान पर तालिबानी सजा सुनाने का आरोप है। बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले जब फरार महिला और उसका प्रेमी गांव वापस लौटे तो घरवाले पुलिस में शिकायत करने की बात करने लगे। इसके बाद गांव में पंचायत बुलाई गई। महिला को अपने पति के साथ रहने का फरमान सुनाया गया जिस पर सभी राजी हो गए। फिर पंचायत ने प्रेमी जोड़े को एक घंटे तक मुर्गा बनने की सजा सुना दी। युवक और महिला को सबके सामने मुर्गा बनने पर मजबूर होना पड़ा।

09-01-2019
Murder Case : खारून नदी में मिले लाश की हुई शिनाख्ती, प्रेमी निकला हत्यारा

रायपुर। गत 15 दिसंबर को ग्राम बाना स्थित खारून नदी में मिले युवती की शव की शिनाख्ती पुलिस ने कर ली है। मामले में पुलिस ने जांच के दौरान युवती के प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है। उरला थाना प्रभारी से मिली जानकारी के अनुसार 15 दिसंबर को पुलिस ने ग्राम बाना के खारून नदी से एक युवती का शव बरामद किया था। जिसमें पुलिस ने युवती की शिनाख्ती देववती मरकाम (22) निवासी ग्राम डिंडौरी मध्यप्रदेश के रूप में की।

पुलिस ने बताया कि मृतका अपने प्रेमी यशवंत परवार उर्फ अमित के साथ पिछले दो माह से उरला में रह रही थी और वही ईट भट्ठी में काम करती थी। 14 दिसंबर की रात दोनों में किसी बात को लेकर विवाद हुआ। जिसके बाद यशवंत में युवती के दुपट्टा से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। जिसके बाद वह अपने दोस्त रमेश के साथ मिलकर मोपेड में युवती के शव को लेकर खारून नदी में फेंक आया। वहां से वापस आने के बाद यशवंत अपने दोस्त के साथ भाग निकला और मोबाईल बंद कर दिया। 

इस तरह हुआ पुलिस को शक-

उरला पुलिस ने जब मृतका की शिनाख्ती की, उसके बाद मृतका के बारे में पूरा डिटेल निकाली। उसके बाद पुलिस को उसके प्रेमी पर शक हुआ। पुलिस ने उसके प्रेमी को हिरासत में लेकर जब कड़ाई से पूछताछ किया तो उसने अपना गुनाह कबूल किया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804