GLIBS
11-02-2020
 मो. अकबर ने राजमाता सिंहदेव के निधन पर जताया दुःख

रायपुर। वन, आवास एवं पर्यावरण, परिवहन और विधि-विधायी मंत्री मोहम्मद अकबर ने प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की माता राजमाता देवेन्द्र कुमारी सिंहदेव के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने अपना शोक संवेदना प्रकट करते हुए इसे प्रदेश के लिए अपूरणीय क्षति बताया। वन मंत्री अकबर ने ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति और उनके परिजनों को दुःख की इस घड़ी को सहन करने के लिए प्रार्थना की है।  

 

10-02-2020
अजीत जोगी ने राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव के निधन पर किया दुख व्यक्त,दी श्रद्धांजलि

रायपुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की मां देवेंद्र कुमारी सिंहदेव के निधन पर पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी शोक प्रकट किया है। अजीत जोगी ने दुख व्यक्त करते हुए विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है।

 

10-02-2020
देवेन्द्र कुमारी सिंहदेव के निधन पर अमरजीत भगत ने प्रकट किया शोक

रायपुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की मां देवेन्द्र कुमारी सिंहदेव का सोमवार को निधन हो गया। खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने इस शोक की घड़ी में टीएस सिंहदेव सहित उनके परिजनों के प्रति गहरी संवेदनाएँ प्रकट की और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। बता दें कि राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव ने गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल में अपनी अंतिम सांसें ली, वे लंबे से बीमार थीं। 

 

10-02-2020
Breaking : टीएस सिंहदेव की मां देवेंद्र कुमारी सिहंदेव का निधन

रायपुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की मां देवेंद्र कुमारी सिहंदेव का निधन हो गया। वे लंबे समय से बीमार थीं और उनका इलाज दिल्ली में चल रहा था। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार देवेंद्र कुमारी सिंहदेव का शाम को निधन हुआ। बता दें देवेंद्र कुमारी सिंहदेव लंबे समय से बीमार थीं। उन्हें स्नायु तंत्र की गंभीर शिकायत थी और उनका उपचार मेदांता में जारी था। राजमाता देवेंद्र कुमारी का अंतिम संस्कार 11 फरवरी को गृहनगर में किया जाएगा। 

 

08-02-2020
राजिम माघी पुन्नी मेला कल 9 फरवरी से, महाशिवरात्रि को समापन

रायपुर। छत्तीसगढ़ के प्रयाग के नाम से प्रसिद्ध राजिम माघी पुन्नी मेले की शुरुआत कल 9 फरवरी को माघ पूर्णिमा के दिन से हो रही है। राजिम मेले का समापन 21 फरवरी को महाशिवरात्रि के दिन होगा। मेले के भव्य आयोजन के लिए स्थानीय मेला समिति की ओर से सभी आवश्यक तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं। धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री ताम्रध्वज साहू ने मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को भगवान कुलेश्वरनाथ और राजीव लोचन के दर्शन के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़े इसके लिए समुचित प्रबंध करने के निर्देश जिला प्रशासन को दिए हैं। मेले में होने वाले पारंपरिक खेल-कूद और विभिन्न आयोजनों में प्रदेश के अलग अलग मंत्री मुख्य अतिथि होंगे। राजिम माघी पुन्नी मेला में इस वर्ष भी छत्तीसगढ़ी पारम्परिक खेल-कूल आकर्षण के केन्द्र रहेंगे। मेले में प्रतिदिन शाह 3 बजे से 4 बजे तक बच्चों की ओर से पारम्परिक खेलों - भांवरा, बाटी, बिल्लस, फुगड़ी, तिरी-पासा, पौसम पा, लंगड़ी, गोंटा, पित्तुल, फल्ली और नून आदि खेलों का आयोजन होगा। राजिम माघी पुन्नी मेला के पहले दिन 9 फरवरी को धर्मस्व मंत्री ताम्रध्वज साहू की अध्यक्षता में पंच-सरपंच सम्मेलन होगा। 10 फरवरी को कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे के मुख्य आतिथ्य में किसान सम्मेलन, 12 फरवरी को वन मंत्री मोहम्मद अकबर के मुख्य आतिथ्य में वन समिति का सम्मेलन, 14 फरवरी को खेल मंत्री उमेश पटेल के मुख्य आतिथ्य में युवा सम्मेलन, 16 फरवरी को महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया के मुख्य आतिथ्य में सामुहिक आदर्श विवाह सम्मेलन, 18 फरवरी को पंचायत एवं ग्रामीण विकास और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के मुख्य आतिथ्य में बिहान एवं मितानिन सम्मेलन और 19 फरवरी को स्कूल शिक्षा एवं आदिवासी विकास मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम के मुख्य आतिथ्य में आदिवासी सम्मेलन का आयोजन होगा। इन सम्मेलनों की अध्यक्षता राजिम विधायक अमितेश शुक्ल, अभनपुर विधायक धनेन्द्र साहू, नगरी-सिहावा विधायक डॉ. लक्ष्मी ध्रुव और कोण्डागांव विधायक मोहन मरकाम करेंगे।

 

04-02-2020
जो जैसा सोचता है वैसा ही बनता है: राज्यपाल  

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके मंगलवार को मैट्स विश्वविद्यालय के वार्षिक उत्सव ‘मैट्सोत्सव-2020’ में शामिल हुई। उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि महाविद्यालय का यह समय सबसे महत्वपूर्ण होता है। यही से जीवन शुरू होता है। जहाँ आपको जाना है, उसके लिए सोचें लक्ष्य निर्धारित करें। जब तक आप नहीं सोचोगे तब तक लक्ष्य प्राप्त नही कर पायेंगे। जो जैसा सोचता है, वैसा ही बनता है। उन्होंने कहा कि आज मुझे कॉलेज के दिन याद आ रहे हैं, इस दिन का सबको इंतजार रहता है। राज्यपाल ने कहा कि मैंने अपने कॉलेज के समय सामाजिक जीवन से शुरुआत की उस समय तनाव के कई क्षण आये पर उसे चुनौती के रूप स्वीकार किया। मैंने अपनी सकारात्मक सोंच से मेहनत करती रही। उन्होंने कहा कि असफलता ही सफलता की सीढ़ी होती है। हमेशा हौसला बनाये रखें हताश न हो। राज्यपाल ने कहा कि कितने भी बड़े पद पर पहुँच जाए, पर नम्र रहे। संस्कार महत्वपूर्ण होता है।

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि अपने क्षमता के अनुरूप मेहनत करें। अच्छा पढ़ाई करें यह समय दोबारा नही आएगा। अपनी सोच को खुला रखें और पूरी तरह समझ कर किसी चीज को सीखें। उन्होंने मैट्स विश्वविद्यालय के प्रबंधन की सराहना करते हुए कहा कि यह अच्छी बात है कि यहां पर गरीब विद्यार्थियों की मदद की जाती है। शिक्षा के लिए सहयोग करना सबसे पुनीत कार्य है। कार्यक्रम को कुलाधिपति गजराज पगारिया ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया। छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुती भी दी। इस अवसर पर उपकुलपति  दीपिका ढांड, विश्वविद्यालय के निदेशक प्रियेश पगारिया, शिक्षकगण और विद्यार्थीगण भी उपस्थित थे।

04-02-2020
5 फरवरी को टीएस सिंहदेव स्वास्थ्य और पंचायत विभाग की लेंगे बैठक

रायपुर। पंचायत एवं ग्रामीण विकास और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव 5 फरवरी को रायगढ़ में दोनों विभागों के जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक लेंगे। वे 5 फरवरी को सुबह 8:40 बजे रायपुर से हेलीकॉप्टर से रायगढ़ के लिए रवाना होंगे। वे सुबह साढ़े नौ बजे रायगढ़ पहुंचेंगे। स्वास्थ्य मंत्री सुबह साढ़े 11 बजे रायगढ़ पॉलिटेक्निक कॉलेज में आयोजित नेत्रदाताओं के सम्मान समारोह में शामिल होंगे। वे दोपहर 12 बजे मेडिकल कॉलेज के अधिकारियों एवं प्राध्यापकों की बैठक लेंगे। वे दोपहर दो बजे रायगढ़ कलेक्टोरेट में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा खंड चिकित्सा अधिकारियों की बैठक लेंगे। मंत्री सिंहदेव दोपहर तीन बजे पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की बैठक में शामिल होंगे। वे शाम पांच बजे रायगढ़ से हेलीकॉप्टर से रायपुर के लिए प्रस्थान करेंगे। शाम 5:50 बजे वापस रायपुर पहुंचेंगे।

 

03-02-2020
स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने ली रायपुर और बिलासपुर आयुर्वेदिक कॉलेज के स्वशासी समिति की बैठक 

रायपुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने सोमवार को रायपुर आयुर्वेदिक कॉलेज में रायपुर और बिलासपुर आयुर्वेदिक कॉलेज के स्वशासी कार्यकारिणी समिति की बैठक ली। उन्होंने बैठक में दोनों कॉलेजों के संचालन और व्यवस्थाओं की समीक्षा की। स्वास्थ्य मंत्री को दोनों कॉलेजों के प्राचार्यों ने बेहतर संचालन तथा अध्यापन के लिए अपनी संस्थाओं की जरूरतों से भी अवगत कराया। सिंहदेव ने स्वशासी कार्यकारिणी समिति की बैठक हर तीन महीने में आयोजित करने के निर्देश दिए। बैठक में दोनों आयुर्वेदिक कॉलेजों में फीस, शिष्यवृत्ति, छात्रावास व्यवस्था, इंटर्नशिप तथा प्राध्यापकों व अन्य स्टॉफ के मानदेय के युक्तिसंगत निर्धारण पर विचार-विमर्श किया गया। प्राध्यापकों के रिक्त पदों को राज्य लोक सेवा आयोग के माध्यम से भरने पर भी चर्चा की गई। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने रायपुर आयुर्वेदिक कॉलेज की लाइब्रेरी को आधुनिक बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने यहां ई-लाइब्रेरी विकसित करने और विभिन्न विषयों की छात्रोपयोगी अधिक से अधिक किताबें खरीदने कहा। सिंहदेव ने आयुर्वेद के विशद अध्ययन-अध्यापन के लिए यहां के प्राध्यापकों और छात्र-छात्राओं को अन्य राज्यों का भ्रमण करने कहा। उन्होंने आयुर्वेद के विभिन्न पहलुओं पर मंथन और विद्यार्थियों के बहुमुखी शिक्षण के लिए दूसरे राज्यों के विशेषज्ञों को यहां आमंत्रित करने के सुझाव भी दिए। सिंहदेव ने स्वशासी समितियों द्वारा रायपुर और बिलासपुर आयुर्वेदिक कॉलेज के संचालन और वहां शिक्षण के लिए की गई व्यवस्थाओं पर संतोष जाहिर किया। उन्होंने रायपुर आयुर्वेदिक कॉलेज परिसर में साफ-सफाई की भी प्रशंसा की। बैठक में स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह, संचालक आयुष जीएल बदेशा, रायपुर आयुर्वेदिक कॉलेज के प्राचार्य डॉ. जीएस बघेल, रजिस्ट्रार डॉ. संजय शुक्ला और बिलासपुर आयुर्वेदिक कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आरपी गुप्ता सहित दोनों स्वशासी समिति के सदस्य मौजूद थे।

30-01-2020
टीएस सिंहदेव को संवैधानिक मर्यादा रखनी चाहिए : भाजपा

रायपुर। भाजपा नेता सत्यम दुवा ने कहा कि रायपुर के जय स्तंभ चौक पर सीएए के विरोध में मुठ्ठी भर लोगों के जमावड़े को समर्थन देने प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का उस स्थान पर जाना और उन्हें समर्थन देना पूरी तरह संविधान और लोकतंत्र का अपमान है। भाजपा नेता ने प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री के इस कृत्य की निंदा की है। उन्होंने कहा कि देश में कानून बनाने का पूर्ण अधिकार देश की संसद को है। जब देश का संसद कोई कानून बनाता है और उस पर देश के राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के उपरांत शासकीय गजट में प्रकाशन हो जाता है तो यह अधिनियम पूरे देशवासियों के लिए लागू हो जाता है। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री को इस बात की जानकारी होना चाहिए कि वे जिस संविधान की शपथ लेकर विधायिका और मंत्री परिषद् का पद धारण किए हुए हैं वे उसी संविधान की अवहेलना कर रहे हैं। टीएस सिंहदेव को अपने संवैधानिक मर्यादा को बनाए रखना चाहिए। भारतीय जनता पार्टी यह लगातार कहती आ रही है कि देश में सीएए के विरोध के पीछे कांग्रेस पार्टी पूरी तरह शामिल है। केन्द्र में कांग्रेस की सरकार नहीं है जिससे कांग्रेस का केन्द्रीय नेतृत्व तिलमिलाया हुआ है और उसके नीचे के सभी संगठनात्मक ढांचे को और कांग्रेस शासित राज्यों को इस कानून का विरोध करने के लिए झोंक दिया है। सिंहदेव का विरोध करने वालों को समर्थन कांग्रेस आलाकमान के निर्देशों के तहत ही है। 

30-01-2020
मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई खेल विकास प्राधिकरण की गवर्निग बॉडी की प्रथम बैठक, शुरू होगी एडवांस खेल अकादमियां  

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज गुरुवार को उनके निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण की गवर्निग बॉडी की प्रथम बैठक हुई। बैठक में निर्णय लिया गया कि खिलाड़ियों को अत्याधुनिक खेल सुविधाएं और प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए प्रदेश में अत्याधुनिक खेल अकादमियां प्रारंभ की जाएगी। इन आकदमियों के लिए स्टेडियमों के चयन का दायित्व मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित प्राधिकरण की कार्यकारिणी समिति को सौंपा गया है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से खेल आकदमियों के लिए स्टेडियमों का चयन शीघ्र करने के निर्देश दिए। बैठक में यह निर्णय भी लिया गया की खिलाड़ियों को विभिन्न खेल गतिविधियों के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए प्रदेश में मुख्यमंत्री खिलाड़ी प्रोत्साहन योजना प्रारंभ की जाएगी।
छत्तीसगढ़ के पारंपरिक खेलों-गेंडी, भौंरा, फुगड़ी जैसे खेलों को प्रोत्साहित किया जाएगा। प्रदेश के महत्वपूर्ण खेल स्टेडियम अब छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण के आधीन रखे जाएंगे। खेल अकादमी का संचालन सीएसआर मद के माध्यम से किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने इसके लिए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित प्राधिकरण की कार्यकारिणी समिति को सौंपा। छत्तीसगढ़ खेल प्राधिकरण में दो सांसदों, पांच विधायकों और दो उत्कृष्ट खिलाड़ियों के मनोनयन के लिए मुख्यमंत्री बघेल को अधिकृत किया गया। बैठक में छत्तीसगढ़ में हॉकी, तीरंदाजी, एथलेटिक, क्रिकेट, स्विमिंग, आर्चरी, इंडोर गेम्स, फुटबॉल, बास्केटबॉल, टेबल टेनिस, कबड्डी और खो-खो की अकादमी प्रारंभ करने का निर्णय भी लिया गया।

बैठक में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविंद्र चौबे, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत, नगरीय विकास मंत्री डॉ शिव डहरिया, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंडिया, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्र कुमार, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उमेश पटेल सहित अपर मुख्य सचिव अमिताभ जैन, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, खेल एवं युवा कल्याण विभाग के सचिव सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी, सचिव खाद्य डॉ कमलप्रीत सिंह, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी सचिव अविनाश चम्पावत, नगरीय विकास विभाग की सचिव अलरमेल मंगई डी, सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव डी.डी. सिंह, संचालक खेल श्वेता सिन्हा तथा संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

29-01-2020
स्वास्थ्य मंत्री ने मेडिकल कॉलेज अस्पताल को नए भवन में शिफ्ट करने के दिए निर्देश

रायपुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज अस्पताल को 15 अप्रैल तक नए भवन में शिफ्ट करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मेडिकल कॉउंसिल ऑफ इंडिया के मानदंडों के अनुरूप मेडिकल कॉलेज और मेडिकल कॉलेज अस्पताल के लिए भविष्य की जरूरतों के हिसाब से मास्टर प्लान तैयार करने कहा है। उन्होंने बुधवार को राजनांदगांव में मेडिकल कॉलेज स्वशासी समिति की बैठक में स्वास्थ्य विभाग और लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को इसके लिए निर्देशित किया। राजनांदगांव की महापौर हेमा देशमुख, खुज्जी की विधायक छन्नी साहू, स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह और दुर्ग संभाग के कमिश्नर दिलीप वासनीकर भी बैठक में शामिल हुए। स्वास्थ्य मंत्री ने बैठक में चरणबद्ध ढंग से मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अलग-अलग विभागों को शिफ्ट करने कहा। उन्होंने बजट के अनुसार विभागों को बारी-बारी से व्यवस्थित ढंग से शुरू करने के निर्देश दिए। उन्होंने प्राथमिकता के आधार पर विभागवार जरूरी संसाधन उपलब्ध कराने को कहा। मेडिकल कॉलेज की डीन डॉ.रेणुका गहिने ने पॉवर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के जरिए मेडिकल कॉलेज में मौजूद सुविधाओं और बेहतर अध्ययन व इलाज के लिए नई जरूरतों से अवगत कराया। बैठक में छात्र-छात्राओं द्वारा ऑनलाइन फीस जमा करने की सुविधा, मल्टी जिम की स्थापना, सीटी स्कैन व एमआरआई की व्यवस्था, डॉक्टरों की वेतन वृद्धि, वाहन व्यवस्था, बाह्य परीक्षकों के लिए मानदेय की व्यवस्था, भवन निर्माण के लिए शासन से राशि के विमुक्तिकरण एवं नए चिकित्सालय भवन में शिफ्टिंग के लिए बजट व्यवस्था पर भी चर्चा हुई।
स्वशासी समिति की बैठक में राजनांदगांव के कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य, मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक डॉ.प्रदीप बेक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.मिथलेश चौधरी, स्वशासी समिति के सदस्यगण शारदा तिवारी,कुलदीप छाबड़ा,आसिफ खान,अशोक फर्नांडिस और  प्रशांत दुबे सहित मेडिकल कॉलेज, मेडिकल कॉलेज अस्पताल एवं लोक निर्माण विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

27-01-2020
स्वास्थ्य मंत्री ने किया आयुर्वेद अस्पताल का निरीक्षण

अंबिकापुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने सोमवार को आयुर्वेदिक जिला अस्पताल का निरीक्षण किया तथा वहां पर चल रहे निर्माण कार्य एवं वहां पर पिछले 5 वर्षों में चिकित्सीय जांच सुविधा, प्रत्येक माह आने वाले मरीजों की संख्या, अस्पताल में स्टाफ की उपस्थिति, सहित मांग एवं अन्य निरीक्षण किया गया। सीजीएमसी के औषधि भंडार गृह(वेयर हाउस) का निरीक्षण कर यहाँ की व्यवस्थाओं का जायजा लिया तथा यहाँ पर उपलब्ध दवाओं की जानकारी ली। एक्सपायरी दवाओं की जानकारी ली तथा विभिन्न अस्पतालों में उपलब्ध दवा, मांग सहित विभिन्न प्रकरणों की ऑनलाईन जानकारी का निरीक्षण किया। वेयर हाउस के व्यवस्थित व्यवस्था पर संतोष जताया और ऐसे ही कार्य करने के लिए कर्मचारियों और अधिकारियों को प्रोत्साहित किया। साथ ही बिशुनपुर के शहरी स्वास्थ्य केंद का निरीक्षण कर वहां पर दी जा रही सेवाओं की जानकारी ली। इस दौरान सीएमओ पूनम सिंह सिसोदिया, आदित्येश्वर सिंहदेव, डॉ.अमीन फिरदोशी, सी.अनिल सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804