GLIBS
11-12-2019
रेलवे ने संकेतों को लाल अवस्था में पार करने से बचने के उपायों पर रखी संगोष्ठी

रायपुर। उत्पल डे वरिष्ठ मंडल विद्युत अभियंता (परिचालन) रायपुर की अध्यक्षता में संयुक्त चालकदल और गार्ड बुकिंग लॉबी बीएमवाई में संकेतों को लाल अवस्था में पार करने से बचने के उपायों पर आज  एक संरक्षा संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी में रायपुर, भाटापारा व भिलाई  के लगभग 117 विद्युत एवं डीजल चालक, सहचालक एवं गार्ड उपस्थित थे, जो कि विभिन्न अधिकारियों एवं वक्ताओं के विचारों से लाभांवित हुए। संगोष्ठी में सम्मलित चलकर्मियों को लाल अवस्था वाले सिगनल पहुंचने के पूर्व आने वाले संकेत पर विशेषत: सतर्क हो जाने, लाल अवस्था को बार-बार पुकारने एवं आपातकालीन ब्रेक लगाने तैयार रहने को कहा गया जिससे की संकेत को लाल अवस्था मे पार होने से बचा जा सके। इसके अतिरिक्त चलकर्मियों को तनाव मुक्त रहने, कार्य पर आने के पूर्व पर्याप्त विश्राम करने, ट्रेन चलाते समय सतर्क रहने एवं संरक्षा संबंधित सभी नियमों का पालन करने के लिए परामर्शित किया गया। इस दौरान संरक्षा संबंधित विषय पर प्रश्नोतरी प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। इस सरंक्षा संगोष्ठी में डॉ. आर सुदर्शन वरिष्ठ मंडल सरंक्षा अधिकारी उपास्थित थे ।

09-12-2019
भाटापारा में ट्रेन से कटी युवती, एयर ड्रम में फंसकर सर पहुंचा बिलासपुर

 

बिलासपुर। राज्य में आए दिन अजीबोगरीब मामला सामने आता है। अब ऐसा ही मामला सामने आया है बिलासपुर से जहां प्लेटफॉर्म नं.4 में पहुंची भगत की कोठी बिलासपुर एक्सप्रेस के जनरल कोच के एयर ड्रम में युवती का कटा सर फंस कर बिलासपुर पहुंच गया। मामले कि सूचना पर जीआरपी ने जांच शुरु की तो पता चला की हादसा भाटापारा में हुआ है। इसमें एक युवती का सर गायब है। मामले में पूछताछ के बाद कटे सर को भाटापारा भेजा गया है रेलवे स्टेशन में बीते दिनों दोपहर करीब 12 बज कर 24 मिनट में प्लेटफॉर्म नं. 4 में 18244 भगत की कोठी-बिलासपुर एक्सप्रेस दाखिल हुई। ट्रेन की जांच कर रहे कर्मचारी को एयर ड्रम्प में कुछ फसा दिखाई दिया। नजदीक से देखने पर पता चला एक महिला का कटा हुआ सर है।

03-12-2019
Breaking: महिला और बच्चे की अधजली लाश की हुई शिनाख्त

रायपुर।  माना के पास नकटी गांव में सोमवार को महिला और बच्चे की अधजली हालात में मिली लाश की शिनाख्त हो गई है। महिला भाटापारा निवासी बताई जा रहीं है। मिली जानकारी के अनुसार महिला की हत्या उसके प्रेमी ने की थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 

02-12-2019
आम आदमी पार्टी के बाद जेसीसीजे ने जारी की पहली सूची, अब कांग्रेस-भाजपा से इंतजार

रायपुर। प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव का बिगुल बज चुका है। सभी राजनीतिक दल नगरीय निकाय चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं। बैठकों का दौर जारी है, प्रत्याशियों का चयन किया जा रहा है। इसी कड़ी में गत दिवस आम आदमी पार्टी ने 71 पार्षद प्रत्याशियों की सूची जारी की तो वहीं जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने रविवार को 11 प्रत्याशियों की पहली सूची जारी की। अब इंतजार प्रदेश की दो प्रमुख पार्टी भाजपा-कांग्रेस का है,दोनों राजधानी रायपुर के लिए अपने-अपने किन प्रत्याशियों के नाम फाइनल करते हैं।  आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी ने रायपुर, कोरबा, दुर्ग, भाटापारा, बलौदाबजार, जगदलपुर, रतनपुर, सिमगा, मुंगेली, बिलासपुर निकायों में होने वाले चुनावों के लिए 71 पार्षद प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है। रायपुर नगर निगम से पार्षद पद के 14 प्रत्याशी घोषित किए गए हैं। इनके अलावा कोरबा निगम से 7, दुर्ग निगम से 4, भाटापारा से 4, बलौदाबाजार से 9, जगदलपुर से 4, रतनपुर से 5, सिमगा से 12, मुंगेली से 6, बिलासपुर नगर निगम से 5 पार्षद प्रत्याशी घोषित किए गए हैं।

इसी तरह जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने रायपुर नगर निगम चुनाव के लिए 11 वार्डों से अपने प्रत्याशियों की घोषणा की है। रविवार शाम हुई बैठक के बाद वार्ड क्रमांक 2 से भगत हरबंस, वार्ड 3 से मनमोहन मनहरे, वार्ड 4 से के. शुभलक्ष्मी, वार्ड 8 से पन्ना साहू, वार्ड 19 से खेमिन संतोष साहू, वार्ड 21 से हरप्रीत सिंह रंधावा, वार्ड 24 से भुवन लाल यादव, वार्ड 29 से प्रसन्न पांडिया, वार्ड 40 से बसंत गिरिपुंजे, वार्ड 53 से देवकी विनोद खेलवार और वार्ड 62 से मो. जाकिर अहमद के नाम फाइनल हुए हैं। कांग्रेस और भाजपा भी अब  जल्द ही राजधानी रायपुर के सभी वार्डों के लिए प्रत्याशियों के नाम घोषित करने वाली है। मैराथन बैठकों का दौर जारी है, कांग्रेस से तो एआईसीसी के प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने स्पष्ट कर दिया है कि 3 दिसंबर तक लगभग सभी नामों की घोषणा कर दी जाएगी। कांग्रेस प्रयास कर रही है कि आपसी सामंजस्य से प्रत्याशी का चयन किया जाए, ताकि किसी भी तरह से विवाद की स्थिति निर्मित ना हो। इसी तरह भाजपा में गत दिवस हुई बैठक में यह तय किया गया है कि पार्टी जिसके नाम पर अंतिम  मुहर लगाएगी, उसके पक्ष में एकजुट होकर प्रयास करना है। अब इंतजार है कि दोनों कब अपने-अपने प्रत्याशियों की घोषणा करते हैं। 

29-11-2019
टिकट दलालों के ठिकानों पर कार्रवाई जारी,1 लाख से अधिक के टिकट बरामद

रायपुर। आरपीएफ की डिटेक्टिव विंग इन दिनों अनाधिकृत रूप से रेलवे आरक्षित टिकट दलालों के विरुद्ध कार्यवाही कर रही है। मुखबिर की सूचना पर दुर्ग शहर में गुरुवार को डिटेक्टिव विंग भिलाई की टीम ने अवैध ई टिकट दलाल के ठिकाने पर  दबिश दी। मौके से 103286.80 रुपए के 66 रेलवे आरक्षित टिकट बरामद किए गए। आरपीएफ के अनुसार डिटेक्टिव विंग भिलाई निरीक्षक निशा भोईर, सहा उप निरीक्षक नरेंद्र ,प्रधान आरक्षक  यू के मिश्रा की टीम ने के ऑनलाइन दुकान में दबिश दी। सागर महोबिया (27) निवासी शंकर नगर ,थाना मोहन नगर जिला दुर्ग को अवैध रूप से आईआरसीटीसी के पर्सनल आईडी का प्रयोग कर आरक्षित ई टिकट बनाने के आरोप में पकड़ा गया। आरोपी के कब्जे से 12 पर्सनल यूजर आईडी से बने  कुल  66 नग रेलवे आरक्षित टिकट बरामद किए गए, जिसकी कुल कीमत 103286.80 रुपए है। साथ ही 1 कंप्यूटर सेट, नगद 250 रुपए के साथ  गिरफ्तार कर आरोपी को उचित कानूनी कार्यवाही के लिए रेलवे सुरक्षा बल पोस्ट  दुर्ग को सुपुर्द किया गया। आरोपी के खिलाफ धारा 143 रेलवे एक्ट  के तहत जुर्म पंजीबद्ध किया गया है।

बता दें कि रेलवे टिकट दलालों के ठिकानों पर रेलवे पुलिस की दबिश से हड़कंप मचा हुआ है। गत दिवस टीम ने एक अवैध रेलवे- ई-टिकट दलाल को 19 नग रेलवे-ई-टिकट कीमती 40,890 रुपए  के सहित पकड़ कर रेलवे सुरक्षा बल भाटापारा को सुपुर्द किया। इसी तरह  डिटेक्टिव विंग रेलवे सुरक्षा बल भिलाई ने एक अवैध रेलवे- ई-टिकट दलाल को  39 नग रेलवे-ई-टिकट  कीमती 40086.52 रुपए सहित पकड़ कर धारा 143 रेलवे अधिनियम के तहत कार्यवाही की। डिटेक्टिव विंग रेलवे सुरक्षा बल रायपुर ने एक अवैध रेलवे- ई-टिकट दलाल को 121 नग रेलवे-ई-टिकट  कुल  कीमत 378152.73 रुपए व 4 काउंटर टिकट कीमत 20040 रुपए  कुल कीमत 398,192.73 के टिकट सहित पकड़ा था। इसी तरह गोलबाजार क्षेत्र से टिकट दलाल के कब्जे से 43 नग रेलवे आरक्षित -ई -तत्काल/सामान्य टिकट मूल्य 111206 रुपए जब्त किया गया, जिसमें (2 नग लाइव टिकट कीमत 6337 रुपए ) एक नग कम्प्यूटर सेट कीमत 45000 रुपए को मौके पर जब्त किया गया था। 

25-10-2019
रायपुर-रायगढ़-रायपुर के मध्य स्पेशल मेमू एक्सप्रेस अब 30 नवंबर तक

रायपुर। त्यौहार के सीजन में रेलयात्रियों को अधिक से अधिक सुविधा प्रदान करने एवं ट्रेनों में होने वाली अतिरिक्त भीड़ को कम करने के उद्देश्य से इस वर्ष भी भारतीय रेलवे कई स्पेशल ट्रेनें चला रहा है। इसी क्रम में रायपुर-रायगढ़-रायपुर के मध्य 26 फेरों के लिए  06 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक मेमू एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया गया था लेकिन अब इसका विस्तार कर 30 नवंबर तक चलाने का निर्णय लिया गया है। यह गाड़ी उपरोक्त अवधि में 08760/08761 नंबर के साथ रायपुर-रायगढ़ के मध्य प्रतिदिन चलेगी। इस गाड़ी में 08 कोचों की सुविधा उपलब्ष कराई गई है। इस गाड़ी का वाणिज्यिक ठहराव तिल्दा, भाटापारा, बिल्हा, बिलासपुर, अकलतरा, जांजगीर-नैला, चांपा, बाराद्वार, सक्ती एवं खरसिया स्टेशनों में दिया गया है। 

24-10-2019
भारतीय रेलवे यात्रियों की भीड़ को कम करने चला रहा कई स्पेशल ट्रेनें

रायपुर। त्यौहार के सीजन में रेलयात्रियों को अधिक से अधिक सुविधा प्रदान करने एवं ट्रेनों में होने वाली अतिरिक्त भीड़ को कम करने के उद्देश्य से इस वर्ष भी भारतीय रेलवे कई स्पेशल ट्रेनें चला रहा है। इनमें सिकंदराबाद-बरौनी-सिकंदराबाद के मध्य 06 फेरों के लिए साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन 16 अक्टूबर  से 27 नवम्बर तक चलाई जा रही है। यह स्पेशल ट्रेन सिकंदराबाद से 20 एवं 27 अक्टूबर  03, 10, 17 एवं 24 नवम्बर को प्रत्येक रविवार को 07009 नम्बर के साथ तथा बरौनी से 16, 23 एवं 30 अक्टूबर, 2019, 06, 13, 20 एवं 27 नवम्बर, 2019 के बीच प्रत्येक बुधवार को 07010 नम्बर के साथ चलेगी। शालीमार व जयपुर के मध्य साप्ताहिक एसी पूजा स्पेशल ट्रेन प्रत्येक सोमवार शालीमार से जयपुर के लिए 21 एवं 28 अक्टूबर को 08061 नंबर के साथ तथा (प्रत्येक बुधवार) जयपुर से शालीमार के लिए 16, 23 एवं 30 अक्टूबर को 08062 नंबर के साथ चलेगी।

हटिया-कुर्ला-हटिया के बीच स्पेशल ट्रेन
यह गाड़ी (प्रत्येक बुधवार) हटिया से कुर्ला के लिए 16, 23 एवं 30 अक्टूबर को 08609 नंबर के साथ तथा प्रत्येक शुक्रवार कुर्ला से हटिया के लिए 18, 25 अक्टूबर एवं 01 नवम्बर को 08610 नंबर के साथ चलेगी। दुर्ग व पटना के मध्य एक फेरे के लिए छठ पूजा स्पेशल ट्रेन  एक छठ पूजा स्पेशल गाड़ी दुर्ग-पटना-दुर्ग के मध्य एक फेरे के लिये चलाई जायेगी। यह गाड़ी दुर्ग से 08793 नंम्बर के साथ तथा पटना से 08794 नम्बर के साथ चलेगी।   08793 दुर्ग-पटना छठ पूजा स्पेशल दुर्ग से 31 अक्टूबर तथा 08794 पटना-दुर्ग छठ पूजा स्पेशल पटना से 03 नवम्बर को छूटेगी। सांतरागाछी एवं हापा के मध्य एक साप्ताहिक एसी स्पेशल ट्रेन  यह गाड़ी प्रत्येक शुक्रवार  सांतरागाछी से हापा के लिए 12, 19, 26 अक्टूबर, 02, 09 एवं 16 नवम्बर तक 02834 नम्बर के साथ चलेगी एवं इसी प्रकार विपरीत दिशा में भी प्रत्येक सोमवार हापा से सांतरागाछी के लिए 15, 22, 29 अक्टूबर,  05, 12 एवं 19 नवम्बर, 2018 तक 02833 नम्बर के साथ चलेगी। इस स्पेशल ट्रेन में रेल नियमानुसार स्पेशल चार्ज लगेगा।
   
हबीबगंज से पूरी के मध्य चल रही स्पेशल ट्रेन
यह स्पेशल गाडी 25 सितम्बर तक चल रही थी, जिसको बढ़ाकर 30 अक्टूबर तक विस्तार किया गया है। यह स्पेशल गाड़ी हबीबगंज से प्रत्येक मंगलवार को  01 से 29 अक्टूबर  तक 01661 नंम्बर के साथ चलेगी। इसी प्रकार पूरी से प्रत्येक बुधवार को  02 से 30 अक्टूबर तक  01662 नम्बर के साथ चलेगी।

रायुपर-रायगढ़-रायपुर के मध्य स्पेशल मेमू एक्सप्रेस
रायपुर-रायगढ़-रायपुर के मध्य 26 फेरों के लिए  06 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक मेमू एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया गया है। यह गाड़ी उपरोक्त अवधि में  08760/08761 नंबर के साथ रायपुर-रायगढ़ के मध्य प्रतिदिन चलेगी। इस गाड़ी में 08 कोचों की सुविधा उपलब्ष कराई गई है। इस गाड़ी का वाणिज्यिक ठहराव तिल्दा, भाटापारा, बिल्हा, बिलासपुर, अकलतरा, जांजगीर-नैला, चांपा, बाराद्वार, सक्ती एवं खरसिया स्टेशनों में दिया गया है।

 

22-10-2019
संचालक लोक शिक्षण ने स्कूली बच्चों के साथ किया मध्यान्ह भोजन  

रायपुर। संचालक लोक शिक्षण संचालनालय एस. प्रकाश ने मंगलवार को महासमुंद, बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के हायर सेकण्डरी, हाई स्कूल, मिडिल और प्रायमरी स्कूल का औचक निरीक्षण किया। एस. प्रकाश ने कसडोल विकासखंड के ग्राम बल्दाकछार में स्कूली बच्चों के साथ बैठक कर मध्यान्ह भोजन किया, ई-साक्षरता केन्द्र बलौदाबाजार के शिक्षार्थियों से रू-ब-रू भी हुए। संचालक लोक शिक्षण सुबह महासमुंद जिले के बेलसोंडा हाईस्कूल पहुंचे और वहां अटल टिंकरिंग लैब का अवलोकन कर छात्र-छात्राओं से बातचीत की। संचालक लोक शिक्षण इसके पश्चात अचानक मीडिल स्कूल छपोराडीह पहुंचे। यहां 11 शिक्षकों में से 9 शिक्षक उपस्थित मिले, एक शिक्षक अवकाश पर और दूसरा शिक्षक मान्यता के काम से माध्यमिक शिक्षा मंडल कार्यालय में काम से जाने की जानकारी दी गई। उन्होंने नाराजगी जताई कि जब सब कुछ ऑनलाईन हो रहा है तो तो जाने की क्या आवश्यकता है। स्कूल में 'लर्निंग आऊट कम' अर्थात बच्चों की दक्षता संबंधी जानकारी दीवार पर नहीं लिखे जाने पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए इस जानकारी को चस्पा करने और उसकी फोटो खींचकर भेजने के निर्देश संबंधित को दिए।

बोरिद प्रायमरी स्कूल में एक भी बच्चा ड्रॉप आऊट नहीं
संचालक एस. प्रकाश दूरस्थ अंचल के हाथी प्रभावित क्षेत्र में 5 किलोमीटर कच्चे रास्ते से जाकर ग्राम बोरिद के प्रायमरी स्कूल पहुंचे। यहां एक शिक्षकीय स्कूल के बच्चों के परफारमेंस ने उन्हें अभिभूत कर दिया। यहां उन्होंने सभी बच्चों को प्रोत्साहन स्वरूप चॉकलेट का वितरण किया। स्कूल के छात्र-छात्राओं ने न केवल कविता सुनाई बल्कि पुस्तकों के पाठों का पठन भी अच्छे से किया। स्कूल के शिक्षक बाबूलाल ध्रुव विद्यालय से संबंधित सभी जानकारी टीम्स-टी-एप में समय-समय पर अपलोड भी करते हैं। प्रकाश ने शिक्षक की मेहनत की तारीफ की इस गांव की आबादी लगभग 400 है और स्कूल की विशेषता यह है कि एक भी बच्चा ड्रॉप आऊट नहीं है। संचालक एस. प्रकाश के निरीक्षण के दौरान उनके साथ लोक शिक्षण संचालनालय के सहायक संचालक महेश नायक और राज्य साक्षरता मिशन के सहायक संचालक प्रशांत पाण्डेय भी थे। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा विभाग के संबंधित क्षेत्र के अधिकारी भी उपस्थित थे।

 

 

25-09-2019
प्रभारी मंत्री सिंहदेव ने ली डीएमएफ की पहली बैठक, किया 70 करोड़ की कार्ययोजना का अनुमोदन

रायपुर। पंचायत एवं ग्रामीण विकास, स्वास्थ्य तथा बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव ने बुधवार को बलौदाबाजार में जिला खनिज संस्थान न्यास (डीएमएफ) के शासी निकाय की पहली बैठक ली। बैठक में चालू वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए लगभग 70 करोड़ रूपए की कार्ययोजना का अनुमोदन किया गया। इनमें करीब 49 करोड़ रूपए उच्च प्राथमिकता वाले कामों में और लगभग 21 करोड़ रूपए अन्य कार्यो में खर्च किये जाएंगे। बैठक में डीएमएफ के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2016-17, 2017-18 एवं 2018-19 में स्वीकृत लगभग 156 करोड़ रूपए के हो चुके कामों का भी अनुमोदन किया गया। राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, विधायकगण चंद्रदेव राय, प्रमोद शर्मा, शिवरतन शर्मा और शकुन्तला साहू, पूर्व विधायक जनकराम वर्मा तथा बरडीह की सरपंच अमृतबाई वर्मा सहित शासी निकाय के अन्य सदस्य भी बैठक में मौजूद थे। प्रभारी मंत्री सिंहदेव ने कहा कि राज्य सरकार के नए दिशा-निर्देशों के मुताबिक अब डीएमएफ की राशि खर्च की जाएगी। उन्होंने बताया कि नए नियमों के अंतर्गत निर्माण कार्यों से ज्यादा प्राथमिकता सेवा संबंधी कार्यों को दिया गया है। अस्पतालों में डॉक्टर, नर्स और टेक्नीशियन के रिक्त पदों की पूर्ति डीएमएफ मद से की जाएगी। उन्होंने कहा कि जिन कार्यों के लिए सरकार से नियमित रूप से बजट नहीं मिल पाता है, उनके लिए गैप-फिलिंग के तौर पर डीएमएफ का उपयोग किया जाएगाबैठक में बलौदाबाजार जिले के एनीमिया ग्रस्त महिलाओं को पूरक पोषण आहार डीएमएफ से दिए जाने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया। प्रारंभिक अनुमान के अनुसार जिले में लगभग 10 हजार महिलाएं एनीमिक के रूप से चिन्हित की गई हैं। आदिवासी-अनुसूचित जाति आश्रम एवं छात्रावासों में बच्चों को शुद्ध पानी उपलब्ध कराने के लिए आरओ मशीन भी लगाए जाएंगे। बैठक में नगरीय क्षेत्रों में सौंदर्यीकरण के लिए हाई मास्ट लाइट और मशीनों से तालाब गहरीकरण जैसे कार्यों की सैद्धांतिक स्वीकृति भी प्रदान की गई कलेक्टर एवं खनिज संस्थान न्यास (डीएमएफ) के शासी निकाय के सदस्य-सचिव कार्तिकेय गोयल ने बताया कि जिले में खनन प्रभावित 66 गांव हैं। उपलब्ध राशि का आधा हिस्सा इन गांवों में खर्च किए जाने का प्रावधान किया गया है। उच्च प्राथमिकता के अंतर्गत पेयजल आपूर्ति, पर्यावरण संरक्षण, स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा, कृषि एवं संबद्ध गतिविधियां, महिला एवं बाल विकास, वृद्ध एवं निःशक्तजन कल्याण, कौशल विकास एवं रोजगार, स्वच्छता, जनकल्याण के काम, सतत जीविकोपार्जन और इन कामों को संपादित करने के लिए मानव संसाधन की आपूर्ति शामिल हैं। बैठक में शासी परिषद के सदस्यगण आशीष पन्पालिया, कमल शर्मा, भुनेश्वर वर्मा और पुलिस अधीक्षक नीतू कमल सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

20-09-2019
बैंकिंग कामकाज सवेरे 10 से शाम 4 बजे तक, 1 अक्टूबर से होगा प्रभावशील

बलौदाबाजार। ग्राहकों की सुविधा के लिए जिले में बैंकों के कामकाज का समय सवेरे 10 से शाम 4 बजे तक होगा। यह निर्णय 1 अक्टूबर से प्रभावशील होगा। कलेक्टर कार्तिकेया गोयल की अध्यक्षता में जिला स्तरीय परामर्शदात्री समिति की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया। बैठक में रिजर्व बैंक के प्रतिनिधि नवीन तिवारी, जिला पंचायत के सीईओ आशुतोष पांडेय, एलडीएम प्रसाद सहित बैंक प्रबंधक और जिला स्तरीय वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर गोयल ने कार्यसूची के अनुरूप एक-एक योजनाओं में चालू वित्तीय वर्ष में अब तक की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने बैंकर्स से कहा कि विभागीय अधिकारियों द्वारा जो प्रकरण ऋण स्वीकृति के लिए भेजे जाते हैं, उन पर तत्काल निर्णय लें। यदि स्वीकृति लायक केस नहीं हैं तो कारण सहित तत्काल वापस कर दिया जाए। अपने स्तर पर लंबित नहीं रखा जाने चाहिए। उन्होंने स्टैंड-अप योजना में लोन देने में रुचि नहीं दिखाने पर बैंकों के प्रति नाराजगी जाहिर की। उल्लेखनीय है कि इस योजना में अनुसूचित जाति-जनजाति के उद्यमियों को 10 लाख से लेकर 1 करोड़ तक का ऋण दिया जाता है। प्रत्येक बैंक शाखा को एक साल में 2 प्रकरण बनाने के निर्देश हैं जबकि पूरे जिले की लगभग 40 बैंक शाखाओं द्वारा अब तक केवल 2 प्रकरण तैयार किये गए हैं।  कलेक्टर ने राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अंतर्गत समूह के प्रकरणों को प्राथमिकता देने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों और बैंकर्स से कहा कि इस साल के लक्ष्य को दिसम्बर अंत तक हासिल कर लिया जाए। स्वीकृति के साथ वितरण भी हो जाये, तो राज्य सरकार से अतिरिक्त लक्ष्य की मांग किया जाएगा। भाटापारा इलाके के बैंकों द्वारा सामूहिक प्रकरणों में रुचि नहीं लेने की बात उठी। उन्होंने कहा कि ग्राहकों और उपभोक्ताओं से ही बैंकों का अस्तित्व है, लिहाजा उनसे विनम्रता और सम्मानजनक व्यवहार किया जाना चाहिए। कलेक्टर ने अंत्यवसायी विकास समिति की योजनाओं को बाड़ी विकास की योजनाओं से जोडऩे के प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए। बैठक में बैंकिंग से जुड़े अन्य काम-काज और समस्याओं के निराकरण पर भी चर्चा की गई। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804