GLIBS
31-10-2020
देवव्रत के बयान पर धर्मजीत ने कहा-हमें किसी की नसीहत की जरूरत नहीं

रायपुर/गौरेला पेंड्रा मरवाही। मरवाही उपचुनाव में जेसीसीजे के भाजपा को समर्थन देने की घोषणा के बाद खैरागढ़ विधायक देवव्रत सिंह का बयान आया है। इस पर पलटवार करते हुए जेसीसीजे विधायक दल के नेता धर्मजीत ने कहा है कि स्व.अजीत जोगी के अपमान का बदला लेने के लिए हमें जिस दल का समर्थन करना पड़ेगा हम करेंगे। इसके लिए हमें किसी की नसीहत की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा है कि देवव्रत सिंह शायद ये भूल गए कि जब कांग्रेस ने उन्हें अपमानित कर विधानसभा चुनावों में टिकट नहीं दिया था। तब स्व. अजीत जोगी ने उन्हें अपनी पार्टी से टिकट दिया और वे चुनाव जीतकर आए। अभी कुछ दिनों पहले ही खैरागढ़ विधानसभा के गंडई क्षेत्र में कांग्रेसी कार्यकतार्ओं ने उनका पुतला जलाया था। इतने अपमान के बाद भी यदि देवव्रत सिंह का कांग्रेस प्रेम बाकी है तो ये प्रेम उन्हें मुबारक हो। जब कांग्रेस अजीत जोगी का अपमान कर रही थी, तब उन्होंने क्यों मौन धारण किया था? जब जोगी जी गंभीर रूप से बीमार थे, तब वे कितनी बार उन्हें देखने आये थे? कोमा में कोई व्यक्ति कैसे किसी पार्टी में प्रवेश करने की इच्छा जाहिर करेगा, ये तो वे ही बता सकते हैं।

31-10-2020
भूपेश बघेल ने कहा-बीजेपी और जेसीसीजे का रिश्ता वर्षों पुराना, आज खुलकर स्वीकार किए

रायपुर। मरवाही उपचुनाव में जेसीसीजे के भाजपा को समर्थन देने के ऐलान के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसे वर्षों का रिश्ता बताया है। मुख्यमंत्री ने मनेंद्रगढ़ में पत्रकारों से चर्चा की। मीडिया से चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि दोनों पार्टियों के मध्य सांठगांठ वर्षों पुरानी है। आज खुलकर सामने आ गई है। पहली बार अमित जोगी और डॉ. रमन सिंह ने इस बात को खुलकर स्वीकार कर रहे हैं। बता दें कि शुक्रवार को जेसीसीजे नेता धर्मजीत सिंह की डॉ. रमन सिंह से बंद कमरे में चर्चा हुई थी। आज सुबह ही जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के अध्यक्ष अमित जोगी ने मरवाही उप चुनाव में भाजपा को समर्थन देने का ऐलान किया है। साथ ही जनता से भी कांग्रेस के विरुद्ध मतदान की अपील की है।

31-10-2020
Breaking : अमित जोगी ने किया ऐलान, मरवाही चुनाव में जेसीसीजे भाजपा के साथ, जनता से की अपील

रायपुर। मरवाही चुनाव से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे ) ने भाजपा को समर्थन दे दिया है। इसकी घोषणा जेसीसीजे अध्यक्ष अमित जोगी ने कर दी है। अमित ने कहा है कि शुक्रवार देर रात विधायक दल के नेता धरमजीत सिंह और विधायक दल के सचिव राजेंद्र राय ने जानकारी दी। उन्होंने भाजपा के प्रत्याशी गंभीर सिंह का समर्थन करने का निर्णय लिया। प्रमोद शर्मा और अधिकांश पार्टी कार्यकर्ता भी इस बात पर अपनी सहमति दे चुके हैं। अमित ने कहा कि उनकी भाजपा के किसी नेता से आज तक इस संबंध में सीधा संवाद नहीं हुआ है। वे अपनी पार्टी के नेताओं की इस राय से पूर्ण रूप से सहमत हैं।

अमित ने कहा कि उनका अपना मानना है कि वैचारिक रूप से क्षेत्रीय दल और राष्ट्रीय दल में स्थायी समझौता संभव नहीं है। बशर्ते कि राष्ट्रीय दल हमारी स्वराज की भावना का सम्मान करे। किंतु वर्तमान परिप्रेक्ष्य में जब कांग्रेस ने मेरे स्व. पिता अजीत जोगी के अपमान को अपने प्रचार का मुख्य केंद्र-बिंदु बना ही लिया है और मेरे परिवार को चुनाव के मैदान से छलपूर्वक बाहर कर दिया है, तो ऐसी परिस्थिति में  मुझे मेरे पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का निर्णय स्वाभाविक और सर्वमान्य लगता है। वैसे भी मुझे पूरी उम्मीद है कि ये उपचुनाव न्यायपालिका की चुनाव याचिका की कसौटी में स्वमेव एक साल के भीतर स्थगित हो जाएगा। मरवाही की जनता को अपनी इच्छा अनुसार विधायक चुनने का अवसर एक बार फिर ज़रूर मिलेगा।

अमित ने कहा है कि ऐसे में आज उनके सामने एक ही विकल्प है। अमित ने मरवाही की जनता से अपील की है कि उनके स्व. पिता को अपमानित कर रहे कांग्रेस के लोगों के विरुद्ध वोट दें। अजीत जोगी के मरणोपरांत उनका अपमान करने वाले कांग्रेसियों को सबक सिखाने का इस से बेहतर मौका नहीं मिलेगा। अमित ने कहा है कि उनकी मां डॉ. रेणु जोगी से इस भी संबंध में चर्चा की और वो इस बात से सहमत है। अजीत जोगी के स्वर्गवास के बाद पार्टी- और परिवार में उनका निर्णय अंतिम होता है। कांग्रेस की एक बार फिर जमानत ज़ब्त कराना ही एकमात्र उद्देश होना चाहिए। सही मायने में यही मरवाही के कमिया अजीत जोगी का असली सम्मान होगा। अमित जोगी ने विश्वास व्यक्त किया है कि जनता हमेशा की तरह उनके परिवार के सम्मान की रक्षा करेगी।

24-10-2020
जेसीसीजे और भाजपा के 35 कार्यकर्ता कांग्रेस में शामिल, मरकाम ने किया स्वागत

रायपुर। मरवाही चुनाव के पूर्व लगातार जेसीसीजे और भाजपा के कार्यकर्ता कांग्रेस का हाथ थाम रहे हैं। इसी कड़ी में शनिवार सुबह परासी भर्रा टोला, देवगवां के जोगी कांग्रेस, बीजेपी के 35 कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस प्रवेश किया। संचार विभाग प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने यह जानकारी दी। सभी ने पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम के समक्ष कांग्रेस में प्रवेश किया। इनमें भावसिंह ,शंकरलाल ,मुरली यादव ,महेंद्र यादव ,रमेश सिंह ,राकेश सिंह ,महेंद्र पूरी ,रूपलाल ,दीपक कुमार ,आनंद लाल ,बलराम यादव ,कृष्ण कुमार ,रवि सिंह ,मुकेश कुमार ,राम नरेश ,भीमसेन ,फेयलाश खान ,फैजान खान ,प्यारेलाल ,नीलकंठ तोमर ,धर्मेन्द्र कवर ,हेमलाल केवट ,महाजन लाल केवट बृजेश केवट ,रेवालाल केवट ,निर्मल केवट ,समीर सिंह ,कोमल चौहान ,प्रदीप कुमार केवट ,विवेक केवट ,राकेश केवट ,गौरी प्रशाद केवट शामिल है।

18-10-2020
अमित-ऋचा का नामांकन निरस्त होने पर भड़के जोगी कांग्रेसी,पुतला दहन के दौरान पुलिस के साथ जमकर झूमा झटकी

रायपुर। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी और ऋचा जोगी का नामांकन निरस्त होने पर जेसीसीजे के लोग भड़क गए हैं। युवा जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के नेता प्रदीप साहू ने आरोप लगाया है कि तानाशाह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आदेशानुसार नामांकन अवैधानिक रूप से निरस्त किए गए। इसके वरोध में रविवार को बड़ी संख्या में जोगी कांग्रेसी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पुतला जलाने धरना प्रर्दशन करने बूढ़ापारा पहुंचे। पुतला को जलाने के दौरान पुलिस बल के साथ झूमाझटकी हुई। पुतला का अस्थि पंजर अलग-अलग हो गया। इसे जोगी कांग्रेसियों ने पुलिस से छीनकर बूढ़ातालाब में बहाकर भड़ास निकाली। प्रदीप साहू ने कहा है कि 17 अक्टूबर का दिन छत्तीसगढ़ के इतिहास में लोकतंत्र का काला दिन के रूप में जाना जाएगा। इस दिन तानाशाह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आदेश पर न सिर्फ हमारे अध्यक्ष अमित जोगी और ऋचा जोगी का नामांकन निरस्त हुआ हैं, बल्कि लोकतंत्र की हत्या भी हुई है। जोगी परिवार को मरवाही से चुनाव लड़ने से रोककर भूपेश बघेल ने स्व. जोगी और मरवाही की जनता का अपमान भी किया है। प्रदीप साहू ने कहा है बात उठेगी तो दूर तलक जाएगी, जोगी परिवार से जाति पूछने वाले पहले अपने गांधी परिवार से पूछे कि खान परिवार, गांधी परिवार कैसे हो गया। 20 साल से मरवाही की जनता को धोखे में रखने का आरोप लगाने वाले पहले यह बताए कि किस परिवार ने देश को 70 साल से धोखा दिया है।


जनता कांग्रेस महिला विभाग की प्रदेश अध्यक्ष अनामिका पॉल ने कहा है कि मरवाही की जनता इतनी बेबस और बेवकूफ नहीं कि कांग्रेस की चाल को नहीं समझ रही है। चुनाव लड़ने से पहले ही कांग्रेस चुनाव हार गई है और जोगी कांग्रेस का मुकाबला करने से कांग्रेस डर गई है। इसलिए उन्होंने अमित जोगी और ऋचा जोगी को नामांकन षडयंत्र पूर्वक निरस्त कर दिया। कार्यक्रम में महेन्द्र चंद्रकार, राजीव कश्यप, संदीप यदु, विक्रम नेताम, अजय देवांगन, हरीश वर्मा, सुजीत डहरिया, नजीब अशरफ , राज नायक, डेमन लाल, अनिल भारती,, सन्नी सालोमन,, मंसु निहाल, सन्नी तिवारी, सन्नी सिंह होरा, दशमु तांडी, राजकिशोर साहू, रोहित नायक, गजेन्द्र कश्यप, संजू धीवर, दुर्गेश सारथी, सनील नेताम, दिलीप राठौर, सतीश नागवानी, मनीराम, मनीष धीवर, प्रसन्न पंडया, राहूल बंजारे, राजेश, राज, मंजीत चेलक, शाहरूख, अफसार कुरैशी, पारस साहू, अजय सेन, अजय चंद्राकर, जयप्रकाश, विवेक बंजारे, योगेंद्र देवांगन, चेतन आडिल सहित बड़ी संख्या में जोगी कांग्रेसी उपस्थित थे।

 

02-01-2020
जेसीसीजे के जिलाध्यक्ष ने पत्नी और कार्यकर्ताओं के साथ थामा भाजपा का दामन

 

सुकमा। जनता जोगी कांग्रेस के सुकमा जिला अध्यक्ष आयता राम अपनी पत्नी पूर्व जनपद अध्यक्ष व वर्तमान जनपद सदस्य व अन्य 12 कार्यकताओं सहित भाजपा में शामिल हो गए है। भाजपा जिलाध्यक्ष हूँगाराम मरकाम ने भाजपा का गमछा पहना के शामिल होने वाले लोगों का स्वागत किया। पूर्व जिलाध्यक्ष मनोज देव, मंडल अध्यक्ष विनोद सिंह बैस, युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष दिलीप पेददी मौजूद रहे।

23-12-2019
मतदान के दौरान कांग्रेस प्रत्याशी की पिटाई, जोगी कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष जेल भेजे गए...

जांजगीर चाम्पा। नगर पालिका के वार्ड 7 से कांग्रेस के पार्षद प्रत्याशी गोविंद देवांगन की पिटाई और कांग्रेस नेता दीपक गुप्ता से मारपीट व दुर्व्यवहार करने वाले जनता कांग्रेस छग (जेसीसीजे) के पूर्व जिलाध्यक्ष इब्राहिम मेमन को चाम्पा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं उसका आरोपी बेटा खालिद फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। कांग्रेस के पार्षद प्रत्याशी की पिटाई और कांग्रेस नेता से बदसलूकी के बाद कांग्रेसियों ने चाम्पा थाने का घेराव कर दिया। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी पारुल माथुर, चाम्पा थाने पहुंची और इब्राहिम मेमन की गिरफ्तारी के बाद मामला शांत हुआ। इससे पहले चाम्पा के वार्ड 7 के बूथ क्रमांक 10 के पास विवाद बढ़ने के बाद पुलिस ने लाठी के बल पर भीड़ को तीतर-बीतर किया। इस दौरान एसडीओपी पद्मश्री तंवर ने मौके पर मोर्चा संभाला और लाठी लेकर हंगामा कर रही भीड़ को खदेड़ा। जेसीसीजे के पूर्व अध्यक्ष इब्राहिम मेमन पर आरोप है कि मतदान केंद्र के पास मतदाताओं को रिझा रहे थे।

इस पर कांग्रेस प्रत्याशी गोविंद देवांगन ने आपत्ति की तो मेमन और उसके बेटे ने आपा खो दिया और कांग्रेस प्रत्याशी की पिटाई कर दी। कुछ देर बाद सूचना पर नपा अध्यक्ष राजेश अग्रवाल और कांग्रेस नेता दीपक गुप्ता ने मौके पर पहुंचकर समझाइश देने पहुंचे तो यहां दीपक गुप्ता से भी दुर्व्यवहार करते हुए मारपीट की गई। इस घटना के बाद कांग्रेसी चाम्पा थाने पहुंच गए और कार्रवाई की मांग को लेकर थाने का घेराव कर दिया। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी पारुल माथुर थाने पहुंची, जिसके बाद आरोपी इब्राहिम मेमन की गिरफ्तारी की गई। फरार आरोपी बेटे खालिद की तलाश की जा रही है।

09-12-2019
नाम वापसी का अंतिम दिन आज, बागी उम्मीदवारों को मनाने में जुटे पार्टी नेता

लोरमी/ रायपुर। नगरी निकाय चुनाव के उम्मीदवारों के नाम वापसी का आज अंतिम दिन है। ऐसे में सभी सियासी दलों के नेता बागियों को मनाने में लगे हुए हैं। अगर हम बात करें लोरमी नगर पंचायत की तो यहां के 15 वार्डों में होने वाले पार्षद पद के चुनाव को लेकर कांग्रेस,भाजपा समेत जेसीसीजे पार्टी ने सभी वार्डों में अपने प्रत्याशी मैदान में उतारे हैं लेकिन इन पार्टियों का समीकरण बागी उम्मीदवार कई वार्डों में बिगाड़ के नजर आ रहे हैं। हालात यह है कि पार्टी के नेता बागियों को मनाने में लगे हुए हैं। लोरमी में नगर पंचायत के 4 वार्ड ऐसे हैं जहां बागी उम्मीदवार कांग्रेस के लिए मुसीबत का सबब बने हुए हैं। ऐसा ही हाल बीजेपी में है बीजेपी के सबसे ज्यादा बागी वार्ड क्रमांक सात और 5 में नजर आ रहे हैं। वहीं जेसीसीजे के भी लगभग 5 वार्ड बागी उम्मीदवारों के चलते नए समीकरण को जन्म दे रहे हैं। पूरे मामले में जहां कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष बागियों को मनाने की बात कर रहे हैं। वहीं बीजेपी भी पार्टी के बड़े नेताओं के साथ मिलकर नाराज चल रहे बागी उम्मीदवारों को मना लेने की बात कहते नजर आ रहे हैं।

08-12-2019
कांग्रेस और जेसीसीजे के प्रत्याशी समेत 6 लोगों का नामांकन किया गया निरस्त

जांजगीर-चाम्पा। 30 नवंबर से 6 दिसंबर तक अभ्यर्थियों के द्वारा नामांकन दाखिल करने के बाद 7 दिसंबर शनिवार दिन को स्कूटनी की गई। जहां जिले भर में भरे गए अभ्यार्थियों के द्वारा नामांकन की जांच की गई। जिले में 1 हजार 38 नामांकन दाखिल किए गए थे। जिले के 15 नगरीय निकाय में 6 नामांकन को निरस्त किया गया है। इसमें खरौद नगर पंचायत के वार्ड 11 की कांग्रेस प्रत्याशी का नामांकन निरस्त किया गया है। वहीं सक्ती नगर पालिका के वार्ड 15 के जनता कांग्रेस छग के प्रत्याशी का नामांकन निरस्त किया गया है। जिले में 1 हजार 38 नामांकन दाखिल किए गए थे, जिसमें 6 नामांकन को निरस्त किया गया है। सोमवार 9 दिसम्बर तक नाम वापस लिए जाएंगे, इसके बाद वार्ड में चुनावी दंगल की सुरुवात हो जाएगी जहा प्रत्याशी जोर आजमाइश कर करने की जोद्दोजहत में लग जायेंगे। वहीं मुकाबले की तस्वीर भी साफ हो जाएगी कि चुनावी मुकाबला किनके-किनके बीच होगा। इसके बाद 21 को मतदान और 24 को मतगणना की कर प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला हो जाएगा।

06-12-2019
Breaking : जेसीसीजे ने रायपुर के 28 वार्डों के लिए जारी की दूसरी सूची

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने रायपुर नगर निगम के लिए दूसरी सूची जारी की है। जेसीसीजे के रायपुर शहर जिला अध्यक्ष डॉ. ओमप्रकाश देवांगन ने रायपुर नगर निगम के 28 वार्डों के लिए प्रत्याशियों की घोषणा की है।

05-12-2019
जेसीसीजे ने जारी किए पार्षद प्रत्याशियों के नाम

बीजापुर। नगर पालिका बीजापुर हेतु जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के पार्टी सुप्रीमो अजीत जोगी के मार्गदर्शन और प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी के निर्देश अनुसार  अनुमोदन के बाद वार्ड पार्षद प्रत्याशियों की सूची जारी की गई है। इस सूचि में 9 लोगों के नाम पर मुहर लगाई गयी है। सूची में दिए गए नाम इस प्रकार है -

1-वार्ड क्रमांक- 03 बीजा हल्बा वार्ड - ST (म.)कौशल्या हिकमी
2-वार्ड क्रमांक- 06 इंदिरा गांधी वार्ड अनारक्षित (म.) सुनीता तिवारी
3-वार्ड क्रमांक- 08 डा.राजेन्द्र प्रसाद वार्ड ST (मुक्त)ज्योति कुड़ियम
4-वार्ड क्रमांक- 09 चन्द्रशेखर आजाद वार्ड अनारक्षित(म.)अंजना येरोला
5-वार्ड क्रमांक- 10 श्यामाप्रसाद मुखर्जी वार्ड अनारक्षित (मुक्त)बालकिशन बजाज
6-वार्ड क्रमांक- 11स्व.मोहनलाल नेताजी वार्ड अनारक्षित (मुक्त)रामचंद्रम ऐरोला
7-वार्ड क्रमांक- 13 प्रवीरचंद वार्ड अनारक्षित (मुक्त) सेल्मैया अंगनपल्ली
8-वार्ड क्रमांक- 14 चिकट राज नगर वार्ड ST (म.) गंगा मुड़मा
9- वार्ड क्रमांक- 15 शहीदवीरनारायण नगर वार्ड अनारक्षित (मुक्त) के.जी.सुधाकर।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804