GLIBS
15-09-2020
ट्रैफिक सिग्नल को नजरअंदाज करना पड़ेगा महंगा, 2-3 सेकंड पहले निकलने पर की हड़बड़ी भी पड़ेगी भारी

रायपुर। स्मार्ट सिटी की तर्ज पर शहर की यातायात व्यवस्था और चौक चौराहों को स्मार्ट बनाने व सुरक्षित यातायात व्यवस्था बनाने के लिए यातायात पुलिस रायपुर लगातार नित नए प्रयोग कर रही है, व्यवस्था बनाई जा रही है। इसी क्रम में स्मार्ट सिटी की ओर से लगाए गए आईटीएमएस कैमरों के माध्यम से नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालाक के विरुद्ध ई चालान नोटिस जारी की जा रही है। यह चालान नोटिस वाहन चालक को अनिवार्य रूप से पटाना होगा। यदि वह चालान नहीं पटाता तो आरटीओ से मिलने वाली समस्त सेवाएं बाधित रहेगी।  इसके अतिरिक्त एक ही नियम को बार-बार उल्लंघन करने पर ने दोगुना चालान पटाना पड़ेगा। सिग्नल उल्लंघन करने पर मोटर व्हीकल एक्ट के तहत 200 का चालान बनता है, किंतु यही गलती दोबारा करने पर वह चालान 1000 तक भरना पड़ेगा। कोरोना संकट के कारण संक्रमण की रोकथाम और उल्लंघन करता वाहन चालकों की सुविधा के लिए यातायात पुलिस रायपुर की ओर से आनलाइन ई पेमेंट की सुविधा जारी की गई है। इसके तहत नियमों को उल्लंघन करने वाले चालकों को घर बैठे मोबाइल एप के माध्यम से चालान भरने की सुविधा दी गई है।

बताया गया है कि, ई चालान जारी होने वाले ज्यादातर उल्लंघन करता वाहन 2 से 3 सेकंड  पूर्व यलो लाइट में ही सिग्नल पार कर रहे हैं। वाहन चालकों से अपील की गई है कि, ट्रैफिक सिग्नल को नजरअंदाज ना करें। सिग्नल ग्रीन होने पर ही आगे बढ़े। ग्रीन सिग्नल के पहले निकलने पर ई चालान जनरेट हो सकता है। यातायात पुलिस के मुताबिक ज्यादातर उल्लंघन करने वाले वाहन चालक यह मानकर की चौक पर कोई पुलिस अधिकारी कर्मचारी नहीं है, सिग्नल तोड़कर चले जाता है किंतु चौक पर लगे सीसीटीवी कैमरों की नजर से नहीं बच पाता। उसे तहत ई चालान नोटिस जारी हो जाता है। स्मार्ट सिटी की ओर से स्थापित आईटीएमएस सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से यातायात पुलिस रायपुर को ई चालान नोटिस जारी करते 1 वर्ष से भी अधिक समय हो चुका है। इन 1 वर्षों में ई चालान  उल्लंघन करता वाहन चालकों की संख्या में लगातार कमी होनी शुरू हो चुकी है। लोग जागरूक हो रहे हैं और चौक चौराहों पर यातायात नियमों का पालन करने लगे हैं। शहर में अनुशासन दिखने लगा है और चौक चौराहों में भी वाहन चालक सिग्नल का पालन कर रहे हैं।

 

14-09-2020
Video: नगरवासी कर रहे शहर को लॉक डाउन करने की मांग

जांजगीर चाम्पा। शिवरीनारायण में कोरोना का कहर पिछले महीने से जारी है। नगर के एक डॉक्टर और सरकारी खाद गोदाम के कर्मचारी की मौत कोरोना से हुई। इसके बाद नगरवासी कुछ दिनों के लिए शहर को लॉक डाउन करने की मांग कर कर रहे,जिससे कोरोना संक्रमण पर काबू पाया जा सके। 

 

13-09-2020
 दुर्ग शहर की दुर्दशा के लिए प्रशासनिक नहीं विधायक की राजनीतिक असफलता जिम्मेदार : अजय वर्मा

दुर्ग। विधायक  दुर्ग निगम के लिए कोई धनराशि सरकार से नहीं ला पाए ऊपर से विधायक के लगातार राजनीतिक हस्तक्षेप से दुर्ग निगम का हाल बेहाल है। दुर्ग निगम नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा ने कहा कि विधायक अरुण वोरा 5 दिन लगातार पानी नहीं मिलने को प्रशासनिक असफलता बताते हैं। जबकि वास्तविकता यह है कि अपने चहेतों को काम दिलाने के लिए विधायक लगातार निगम काम में हस्तक्षेप करते रहते हैं व राजनीतिक विद्वेष वश अधिकारियों को उल्टे सीधे निर्देश देते रहते हैं। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि विधायक का मूल कार्य है कि नगर निगम दुर्ग में विकास कार्य के लिये प्रदेश सरकार से धनराशि लाएं किंतु अभी तक सड़क निर्माण नाली निर्माण इत्यादि विकास कार्यों के लिए फूटी कौड़ी से प्रदेश सरकार से नहीं ला पाए हैं, उल्टे पूर्ववर्ती निगम सरकार के द्वारा जो राशि  शहर विकास के लिए लाई गई थी, उसे प्रदेश सरकार ने वापस मंगा लिया जबकि पड़ोस में भिलाई निगम से वह राशि वापस नहीं मंगाई गई।

नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा ने कहा कि विगत 6 माह से पेयजल व्यवस्था दुर्ग शहर में चरमरा गई है,जिसका मूल कारण अमृत मिशन के सुचारू रूप से चल रहे कार्यों को विधायक के राजनीतिक दबाव के चलते आनन-फानन में पूरे शहर को खोदना पड़ा जिसका परिणाम यह रहा कि विगत एक माह में दो बार पेयजल आपूर्ति पांच, पांच दिनों तक बाधित रहा उनके अनावश्यक हस्तक्षेप के चलते दुर्ग शहर के नागरिकों को न गरमी में पानी मिला और ना ही बरसात में गड्ढा युक्त सड़कों में चलते फिरते बना,बरसात में मध्य शहर खुदवाने से शहर के नागरिक गड्ढों में गिरकर  दुर्घटनाग्रस्त होते रहे। भाजपा पार्षद दल के नेता अजय वर्मा सहित गायत्री साहू,काशीराम कोसरे,चंद्रशेखर चंद्राकर, नरेंद्र बंजारे,देवनारायण चंद्राकर,चमेली साहू,लीना देवांगन, मनीष साहू ,नरेश तेजवानी, अजय वैद्य, ओमप्रकाश राकेश सेन, पुष्पा वर्मा, शशि साहू, कुमारी साहू एवं हेमा शर्मा ने संयुक्त रूप से विधायक से मांग करते हुए कहा कि आप मूलभूत सुविधाओं के लिए प्रदेश सरकार से  राशि लेकर आए ताकि शहर का बुनियादी विकास हो सके भाजपा पार्षद दल ने यह कहा कि दुर्ग निगम के इतिहास में कभी 1500 खंभों में लाइट बंद नहीं रही विधायक के लगातार हस्तक्षेप से महापौर और उनकी परिषद के निगम कार्य से रुचि समाप्त हो गई है । अतः आप महापौर उनकी परिषद को स्वतंत्र रूप से काम करने दे,जिससे शहरवासी राहत महसूस कर सकें।

13-09-2020
अमृत मिशन के गड्ढों में फंसी ट्रक, सीवरेज के बाद अमृत मिशन की खुदाई भी शहर का नासूर बन रही

रायपुर/बिलासपुर। भारतीय जनता पार्टी के शासनकाल में सीवरेज के लिए की गई बेतरतीब और मनमानी खुदाई में जहां शहर की सड़कों गलियों और चौक चौराहों को बर्बाद करके रख दिया था। वही अब कांग्रेस के शासन में अमृत मिशन की अंधाधुन खुदाई ने शहरवासियों की नाक में दम कर दिया है। इस समय शहर का ऐसा कोई मोहल्ला या सड़क नहीं है जहां अमृत मिशन की खुदाई से लोग त्रस्त और हलाकान न हो रहे हो। आए दिन कहीं ना कहीं अमृत मिशन के लिए खोदे गए गड्ढों में मोटर गाड़ियों तथा लोगों के गिरने पढ़ने की खबरें अब बिलासपुर में आम हो गई है। शनिवार की रात को शहर के सिटी कोतवाली थाने के पास अमृत मिशन के गड्ढे में एक ट्रक के फंसने से बहुत बड़ा तमाशा खड़ा हो गया। ट्रक के एक और के टायर जमीन में धंस गए और सुबह तक ट्रक जस की तस वहीं फंसी रह गई।

सीवरेज के समान ही अमृत मिशन के लिए किए गड्ढों में रेस्टोरेशन के नाम पर जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है। यही वजह है कि अमृत मिशन की खुदाई से यहां वहां सड़कें और मोटर गाड़ियां धंस रही हैं। आज सुबह सिटी कोतवाली के पास अमृत मिशन के गड्ढे में फंसी ट्रक को देखने वाले तमाशाईयों की भीड़ लगी रही। शहर के हुक्मरानों को इस ओर ध्यान देना चाहिए। वरना जैसे सीवरेज की खुदाई ने पूर्ववर्ती भाजपा सरकार को जमकर बदनाम कर दिया था। कहीं बिलासपुर में अमृत मिशन के लिए चल रही मनमानी खुदाई और रेस्टोरेशन के नाम पर मचा भ्रष्टाचार, सरकार के बदनामी की वजह ना बन जाए।

11-09-2020
शहर में फिर दो दिनों से पानी सप्लाई बंद होने पर भाजपा पार्षदों ने प्रदर्शन की दी चेतावनी

दुर्ग। पानी सप्लाई प्रभावित होने की सूचना के विपरित दो दिनों नल नहीं खुलने के कारण  भाजपा पार्षदों ने महापौर पर हमला बोला। भाजपा पार्षदों ने कहा है कि जनता के प्रति उदासीनता व उनके द्वारा पद के अनुरूप कार्य करने के बजाय व्यवसायिक सोच के चलते आज शहर की जनता बार बार पानी के लिए परेशान हो रही है। इस संबध में भाजपा पार्षद दल नेता अजय वर्मा,गायत्री साहू,देवनारायण चंद्राकर,चन्द्रशेखर चंद्राकर,नरेंद्र बंजारे,कांशीराम कोसरेे,नरेश तेजवानी,लीना दिनेश देवांगन,चमेली साहू,मनीष साहू, ओमप्रकाश सेन,अजित वैद्य,हेमा शर्मा,पुष्पा गुलाब वर्मा,शशि साहू,कुमारी साहू ने संयुक्त रूप से कहा है कि महापौर के कार्यकाल में जनता प्रत्येक सप्ताह पानी समस्या से जूझती है। आलम यह है कि कई बार एक एक हप्ता नलों में पानी नहीं आता और भाजपा द्वारा विरोध करने पर इनका दोष पूर्व के कार्यकाल में मढ़ दिया जाता है। भाजपा पार्षदों ने कहा कि वास्तविकता यह है कि पूर्व में चंद्रिका चंद्राकर कार्यकाल में ही केंद्र की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार द्वारा अमृत मिशन योजना के तहत दिए 147 करोड़ की राशि से शहर के प्रत्येक वार्डो में में घर घर तक पानी पहुंचाने पाइप लाइन बिछाने का कार्य चालू हो गया था।

जो पूर्ण नियोजित ढंग से तेजी से चल रहा था। उसी प्रकार रायपुर नाका स्थित 24 एमएलडी पुराने फिल्टर प्लांट का रिनेवशन करने जिसमें 25 साल पुराने मोटर पंप,विद्युत ट्रांसफार्मर व पैनल बोर्ड जैसे बड़े मशीनरी कार्यों की भी राशि स्वीकृत थी। इसे चरणबद्ध ढंग से पूरा किया जाना था। किंतु निगम चुनाव के बाद सत्ता बदलते ही महापौर के अनुभवहीनता और अपने चहेते को ठेका का लाभ देने के सोच के चलते सारे कार्य विलम्ब होता चला जा रहा है। इसका एक उदाहरण शहर की जनता तब देखा जब विगत 6 माह पूर्व खरीदी होकर पड़े ट्रांसफार्मर को तब लगाया गया था जब पुराने ट्रांसफार्मर पूरी तरह जल गए और इसके कारण शहर में पहली बार 10 दिनों तक पानी सप्लाई बुरी तरह प्रभावित हुई। उसी प्रकार आज 24 एमएलडी फिल्टर प्लांट में लगे 25 साल पुराने पैनल बोर्ड को तब बदलने कि याद आई जब वह पूरी तरह बैठ गया और इसके लिए निगम ने बकायदा सूचना जारी कर 24 लाख की लागत से लगने वाले पैनल बोर्ड के लिए 8 घंटे का समय लगने व एक पाली में शहर में पानी सप्लाई बंद रहने की सूचना जारी किया था किंतु 48 घंटे बीतने व दो दिनों से पानी सप्लाई नहीं होने से जनता फिर पानी के लिए त्राहि त्रहिं कर रही है। भाजपा पार्षदों ने निरंतर हो रहे जल संकट व वर्तमान में फिल्टर प्लांट में लगभग 24 लाख की लागत से लगाई जा रही पैनल बोर्ड कार्य के 8 घंटे में पूर्ण नहीं होने व चालू नहीं होने पर सवाल खड़ा करते हुए कहा है कि जिस ठेकेदार ने आठ घंटे में उक्त कार्य पूरा करने की बात कही थी वह कम्पनी की लगने वाले सामान सही क्वालिटी का है कि नहीं यह सोच का विषय है जबकि पूर्व में जो पैनल बोर्ड लगाई गई थी वह एक नामी व टिकाऊ कंपनी कम्पनी का था जो लंबे समय तक चला किंतु वर्तमान में लगाई जा रही पैनल बोर्ड दूसरी कम्पनी का है और इसकी गुणवत्ता का मापदंड भी संदेहास्पद है इस प्रकार निगम की पूरी व्यवस्था व कार्य व्यवसायिक सोच के चलते प्रभावित होती प्रतीत हो रही है।भाजपा पार्षदों लगातार पानी संकट होने पर कड़ा आक्रोश प्रकट करते हुए निगम प्रशासन को चेतावनी दी है कि यदि 24 घंटे के अंदर शहर में पानी सप्लाई सामान्य नहीं हुई तो प्रदर्शन व आंदोलन करने पर बाध्य होंगे।

 

12-09-2020
Video: लॉकडाउन के दौरान चोरी करने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार, सवा लाख के जेवरात बरामद

दुर्ग। लॉक डाउन में जब पूरा शहर कोविड-19 से लड़ने के लिए घर में रहकर प्रशासन के नियमों का पालन कर रहा था। तब ये शातिर चोर चोरियों को अंजाम दे रहे थे। लॉकडाउन के दौरान जयंती नगर दुर्ग में मार्च से अप्रैल महीने में चोरियां होने की सूचना दर्ज कराई गई थी। इस दौरान हुर्ई चोरियों को ध्यान में रखते हुए टीम द्वारा बारीकियों से नजर रखी जा रही थी। मोहन नगर थाना प्रभारी बृजेश कुशवाहा ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि मुंबई आवास उरला के कुछ संदिग्ध युवक चोरियों को अंजाम दे रहे हैं। इस पर तीन आरोपियों को आज शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार चोरों से 1 लाख 25 हजार के सोने-चांदी के जेवरात जब्त किया गया। पकड़े गए आरोपियों में सुरेंद्र यादव 23 वर्ष,ईश्वर साहू 20 वर्ष और एक नाबालिग शामिल है। इन आरोपियों के खिलॉफ धारा 457 380 धारा 34 के तहत अपराध कायम कर लिया है।




 

 

10-09-2020
जिले में कोरोना संक्रमण के 29 नए मामले आए सामने

कांकेर। शहर में भी कोरोना संक्रमण का ग्राफ दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। गुरुवार को शहर में कोरोना संक्रमण 16 नए मामले सामने आये हैं। रेपिड एन्टीजन टेस्ट में 13 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, वहीं आरटीपीसीआर टेस्ट में 1 तथा ट्रू नॉट टेस्ट में 2 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिले में कुल 29 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। जिला स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी की ओर से जारी बुलेटिन में गुरूवार को कोरोना पॉजिटिव मरीजों की सूची में शहर के आमापारा, अघनगर, संजयनगर, ठेलकाबोड़, आरईएस कॉलोनी, टिकरापारा, अन्नपूर्णापारा से कोरोना वायरस संक्रमण के 1-1 मरीज मिले हैं। वहीं मांझापारा, बरदेभाटा से 2-2 मरीज तथा ग्रामीण क्षेत्रों में शहर से सटे गोविंदपुर व ब्लॉक के पोटगांव से भी कोरोना संक्रमण के 2-2 नए मामले सामने आए हैं। ब्लॉक मुख्यालय कांकेर से 16, अंतागढ़ से 1, भानु. पुर से 3, चारामा से 4, दुर्गूकोंदल से 3, नरहरपुर से 2 नए मामले सामने आए हैं।

 

09-09-2020
जिले में आज 35 कोरोना संक्रमितों की पहचान, 12 हुए डिस्चार्ज

धमतरी। जिले में आज बुधवार को कोरोना पॉजिटिव 35 लोगों की पहचान की गई है। वहीं शहर के नवागांव से एक बुजुर्ग की मृत्यु हुई है। इसमें मौत का आंकड़ा अब 14 हो चुका है। जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी  डॉक्टर  डी.के तुर्रे  ने बताया कि आज 35 पॉजिटिव की पहचान हुई है, उसमे धमतरी शहर के रत्नाबांधा रोड के निजी अस्पताल से 1, मराठा पारा से 2, अमलतास पुरम से 1, विवेकानंद कॉलोनी से 1, सीनेटसिटी से 1, सिविल लाइन से 1, बठेना वार्ड से 2, डाक बंगला से 1 संक्रमितों की पहचान हुई है। धमतरी ग्रामीण से 6,मगरलोड से 3, नगरी से 12 जिसमें 7 लोग थाने से व 1 पीएचई विभाग के कर्मचारी एवं अन्य 4 लोग नगरी क्षेत्र से मिले है। कुरूद से 5 संक्रमित मिले हैं। वहीं जिले में कुल संक्रमितों की संख्या 712 पहुंच गई है। जिले में कुल एक्टिव केस की संख्या 361 है।धमतरी कोविड-19 अस्पताल में 47 मरीजों का उपचार किया जा रहा है। वहीं आज 12 लोगो को स्वस्थ्य होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है,कुल 337 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है।

 

09-09-2020
मास्क नहीं लगाने वाले 27 लोगों पर 13100 रुपए जुर्माना, निगम की टीम ने शहर में घूम-घूम कर की कार्यवाही

भिलाई। कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम एवं नियंत्रण के तहत घर से बाहर निकलने वाले सभी व्यक्तियों को मास्क लगाना तथा सोशल डिस्टेंस का पालन अनिवार्य रूप से किया जाना है। नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ निगम प्रशासन सख्त कार्यवाही कर रहा है। निगमायुक्त ऋतुराज रघुवंशी के निर्देश पर निगम के कर्मचारियों ने विभिन्न क्षेत्रों का निरीक्षण किया। निगम के सभी जोन के राजस्व विभाग की टीम सार्वजनिक स्थान पर मास्क से मुंह को कवर किए बिना निकलने वाले व्यक्तियों पर अर्थदंड की कार्यवाही की! निगम की टीम ने बाजार क्षेत्र, दुकानों व ग्राहकों का  भी निरीक्षण किया। लोगों के अधिक आवागमन वाले चौक चौराहों का निरीक्षण करते हुए कार्यवाही की गई। आज निगम के विभिन्न क्षेत्रों मे 27 लोगों से 13100 रुपए अर्थदंड वसूला गया! निगम की टीम ने शहर में घूम-घूम कर निरीक्षण करते हुए बिना मास्क लगाए घूमने वालों तथा सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन करने वालों पर अर्थदंड की कार्यवाही किए। निगम के जोन क्रमांक 1 की टीम ने 14 लोगों पर कार्यवाही करते हुए 3700 रुपए जुर्माना वसूल किया, जोन क्रमांक 3 मदर टैरेसा नगर क्षेत्र में टीम ने कार्यवाही करते हुए 8 लोगों से 8700 रुपए जुर्माना वसूल किया, जोन क्रमांक 4 वीर शिवाजी नगर की टीम ने 7 लोगों से 700 रुपए जुर्माना वसूल किया।

 

08-09-2020
Video: शहर की साफ सफाई की व्यवस्था को लेकर जनता कांग्रेस ने सौंपा महापौर को ज्ञापन

अम्बिकापुर। शहर में बढ़ते कचरे को देखते हुए जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने महापौर को ज्ञापन सौंपा। इसमें शहर की साफ सफाई और शराब दुकान हटाने की बात कही है। बता दें कि अम्बिकापुर शहर स्वच्छता में हमेशा अव्वल रहा है लेकिन शराब दुकान और रोजगार कार्यालय के आसपास शराबियों का जमावड़ा लगा रहता है और इसी कारण गंदगी का भी अम्बार लगा रहता है। लेकिन इस ओर नगर निगम कोई ध्यान नहीं देता। इसे लेकर मंगलवार को जनता कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने महापौर को ज्ञापन सौंप कर कार्यवाही करने की मांग की है। महापौर अजय कुमार तिर्की ने कहा कि तत्काल सफाई कर्मचारियों को भेजा जा रहा है। शराब दुकान के आसपास के दुकानदारों को साफ सफाई करने की समझाइश दी जाएगी। तिर्की ने कहा कि शराब दुकान हटाने की बात है तो इसके लिए जिला प्रशासन से बात की जाएगी।

06-09-2020
दो किलो गांजा के साथ चार आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। शहर के टिकरापारा थाना पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर संतोषी नगर ओवरब्रिज चौक के पास कार से गांजा ले जाते चार तस्करों को गिरफ्तार किया है। तलाशी के दौरान उनके कब्जे से दो किलो गांजा जब्त किया गया। पुलिस के मुताबिक स्वीप्ट कार सवार बस्तर के नियानार, परपा के अजमन सेठिया, आमापारा के रवि वर्मा, सुरजीत कुमार सिंह और बस्तर के बोधघाट इलाके के तेतरखुटी निवासी मुरलीधर विश्वकर्मा को पकड़ा गया।

05-09-2020
कोरोना से धमतरी जिले में दो और मौत, कुल मौत का आंकड़ा 11 हुआ...

धमतरी। धमतरी जिला कोरोना से अब सुरक्षित नहीं रहा बल्कि वायरस जानलेवा साबित होने लगा है। कोरोना से आज दो लोगों की मौत हो गई। इसमे एक शहर के सुन्दरगंज वार्ड निवासी तथा दूसरा नगरी ब्लॉक के ग्राम सोनामगर का निवासी है। सुन्दरगंज वार्ड के मृतक की उम्र 60 साल है, उसकी रिपोर्ट करीब 10 दिन पहले पॉजिटिव आई थी, उसे अन्य बीमारी भी होने के चलते रायपुर में भर्ती कराया गया था,जहां इलाज के दौरान मौत हो गई। सोनामगर के मृतक की उम्र 45 वर्ष है, उसे अन्य बीमारी के चलते धमतरी के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, कल ही उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई और रात में मौत हो गई। धमतरी में अब तक कुल 11 मौत हो चुकी है। इसमें बठेनापारा वार्ड का बुजुर्ग, बोदाछापर का व्यक्ति, मराठापारा का बुजुर्ग, सांकरा का बुजुर्ग, विवेकानंद वार्ड का बुजुर्ग, हाउसिंग बोर्ड कालोनी का रिटायर्ड अधिकारी,सिहावा का डॉक्टर तथा कोष्टापारा वार्ड की बुजुर्ग महिला शामिल है। इसकी पुष्टि जिला स्वास्थ्य सर्विलेंस अधिकारी डॉ.विजय फूलमाली ने की है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804