GLIBS
19-05-2020
3 दिन पहले हो गई थी तेंदुए की मौत विभाग था बेखबर, मेडिकल टीम ने बताया संक्रमण से मौत होने की आशंका

कवर्धा। सहसपुर लोहारा रेंज के कक्ष क्रमांक- 291 अंतर्गत कर्नानाला बांध के डूबान क्षेत्र में सोमवार को एक मादा तेंदूए का शव मिला है। शव देखने में 3 दिन पुरानी होने की आशंका जताई जा रही है, लेकिन इसकी जानकारी विभाग के अधिकारियों को नहीं हुई। जबकि एक वन्य जीव की मौत हो गई। वैसे डॉक्टर तेदुएं की मौत संक्रमण से होने की संका जता रहे है। जिस स्थान पर तेदुएं का शव मिला वहां के आसपास दो शवकों के पंजे के निशान भी मिले हैं। आशंका जताई जा रही है कि दोनों शवक मृत तेंदूए की हो सकती है। खास बात यह है कि बांध के डूबान क्षेत्र में जहां तेंदूए का शव बरामद किया गया, वहां पर 2 फीट ही पानी भरा है।

इतनी कम गहराई में तेंदूए की डूबकर मौत होने की बात गले नहीं उतर रही है। वही डॉक्टरों के हिसाब से तेदुएं की मौत किसी संक्रमण बीमारी से हुई है। ऐसे में मृत तेदुएं का जांच करना आवश्यक हो गया है क्योंकि पूरे देश में कोरोना वायरस फैला हुआ है। कही यह वायरस वन्यजीवों तक तो नहीं फैल गया। पंचनामा के बाद तेंदुए के शव को बानो के वन डिपो में लाया गया जहां वेटनरी डॉक्टर ने पोस्टमॉर्टम किया। इसके बाद डॉक्टर किसी संक्रमण से मौत होने की सनका जता रहे हैं। लोहारा रेंजर संजय रौतिया ने बताया कि विसरा को जांच के लिए भेजा जाएगा। पोस्टमार्टम के बाद शव को डिपो में जलाया गया है। डॉक्टर मौत के कारण किसी संक्रमण से होने की बात कह रहे हैं। यह संक्रमण वन्यजीवों को होने वाला संक्रमण है।

19-04-2020
कुएं में गिरकर तेंदुए की मौत, पानी की तलाश में आया था गांव में

महासमुन्द। ग्राम कसेकेरा के एक कुएं में गिरकर तेदुंए की मौत हो गई है। तेंदुए की मौत के बाद वन विभाग ने पोस्टमार्टम करा कर आगे की कार्रवाई कर रहा है। बताया जा रहा है कि रविवार सुबह कसेकेरा के जंगल के पास एक किसान के कुएं में आज सुबह साढ़े 6 बजे तेंदुआ कूद गया था। जिसे ग्रामीणों ने देखा और वन विभाग को सूचना दी। वन विभाग घटना स्थल पहुंची लेकिन तेंदुए की जान बचाने में कामयाब नहीं हो सके। ग्रामीणों का कहना है कि तेंदुआ कल रात से ही इस क्षेत्र में था और वह प्यासा था आज सुबह पानी पीने के लिए कुएं में कूद गया। कुंए में 10-12 फीट पानी था, इस वजह से तेंदुआ भयभीत हो गया और बाहर निकलने के लिए बहुत ज्यादा ही प्रयास करने लगा था जिस वजह से वह बहुत जल्द थक गया और पानी में डूब जाने से उसकी मौत हो गर्ई।

गौरतलब है कि मामले की जानकारी मिलते ही महासमुन्द के डीएफओ मयंक पांडे घटना स्थल पहुंचे और अपनी निगरानी में ही तेंदुए का पोस्टमार्टम कराया है। पांडे से जब पूछा गया कि क्या तेंदुआ प्यासा था जिस वजह से वह कुंए में पानी पीने कूद गया। इस पर डीएफओ मयंक पांडे ने कहा कि तेंदुआ प्यासा नहीं था। कुएं के पास एक बड़ा सा मेड है जिस वजह से कुंआ दिखाई नहीं देता है। तेंदुआ धोखे से कुएं में गिर गया और बाहर निकलने के लिए लगातार प्यास कर रहा था  इस वजह से वह थक गया था, तेंदुआ कुएं में लगे पाईप से ऊपर निकलने का प्यास करता रहा लेकिन पानी में जाने के बाद वह डूब गया और उसकी मौत हो गई। वन विभाग को घटना की जानकारी मिली तो वन विभाग का अमला तत्काल वहां पहुंच गया था लेकिन तेंदुआ इतना थक चुंका था कि वन विभाग उसे पानी से बाहर निकाल पाता इससे पहले ही उसकी मौत हो गई।

20-06-2019
पेड़ पर बिजली के तार की चपेट में आने से तेंदुए की मौत

नई दिल्ली। करंट लगने से तेंदुए की मौत का मामला समाने आया है। घटना हरियाणा के गुरुग्राम जिले के सोहना स्थित मंडावरा गांव की बताई जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार तेंदुआ एक पेड़ पर चढ़ा था, तभी अचानक से वो बिजली की एक नंगी तार से चिपक गया और करंट लगने से मौके पर ही उसकी मौत हो गई। घटना के बाद लोगों ने वन विभाग को सूचना दी। वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटना स्थल का जायजा लिया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804