GLIBS
18-02-2020
अमेरिका दौरे से लौटने के बाद स्व. देवेंद्र कुमारी सिंहदेव के शोक कार्यक्रम में शामिल होंगे मुख्यमंत्री

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 12 फरवरी से दस दिवसीय अमेरिका दौरे पर चल रहे हैं। इस दौरान सीएम बघेल अमेरिका की हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में आयोजित 17वें वार्षिक भारत सम्मेलन में शामिल हुए। बता दें कि मुख्यमंत्री भूपेश अमेरिका दौरे से 21 फरवरी को वापस रायपुर लौटेंगे। वहीं राजधानी लौटने के बाद सीएम 22 फरवरी को अम्बिकापुर जाएंगे। जहां सीएम बघेल स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव की माता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव के शोक कार्यक्रम में शामिल होंगे।

 

30-01-2020
तालाब में शव मिलने से फैली सनसनी

रायपुर। राजधानी रायपुर के राजा तालाब में शव मिलने से सनसनी फैल गई है। मोहल्ले में शोक का माहौल है। बताया जा रहा है कि मृतक का नाम नितेश सालोमन था जो कि राजा तालाब के पास के ही इलाके में रहता था। परिजनों का कहना है कि मामूली विवाद होने पर वह 23 जनवरी से कहीं चला गया था। काफी खोजबीन करने पर भी पता नहीं चला था। इसके बाद आज सुबह राजा तालाब में नितेश सालोमन का शव मिला।  

 

22-12-2019
मुख्यमंत्री ने विनोद तिवारी के निधन पर किया शोक व्यक्त

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विनोद तिवारी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।विनोद तिवारी (उम्र 86 वर्ष) मुख्यमंत्री के सलाहकार राजेश तिवारी के पिता जी थे, जिनका आज सुबह निधन हो गया। मुख्यमंत्री ने ईश्वर से मृत आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिवारजनों को इस दुख की घड़ी को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है।

16-12-2019
वरिष्ठ पत्रकार कौशिक के निधन पर डॉ. रमन सिंह ने किया शोक व्यक्त  

रायपुर। भाजपा उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मुखर एवं प्रखर पत्रकार रविकान्त कौशिक के निधन पर संवेदना व्यक्त की है। डॉ. सिंह ने इसे अपनी निजी क्षति बताते हुए कहा कि कौशिक उनके अभिन्न पारिवारिक मित्र थे। प्रदेश की पत्रकारिता में स्थापित और अपना विशिष्ट स्थान रखने वाले कौशिक का देहावसान हृदयविदारक है। डॉ. सिंह ने कहा कि पत्रकारिता में वरिष्ठ पत्रकार कौशिक का तेवर, उनकी निष्ठा और ईमानदारी नयी पीढ़ी के लिये प्रेरणा का काम करेगी। वास्तव में उनका जाना प्रदेश की पत्रकारिता के एक विशिष्ट शैली का खत्म हो जाना है। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता और राजनीति समेत समाज का एक बड़ा वर्ग इनके निधन से मर्माहत है। कौशिक अपनी एक अमिट छाप छोड़ कर गए हैं। उन्होंने ईश्वर से प्रार्थना की है कि परिवारजनों को इस पीड़ा को सहन करने की ताकत प्रदान करें। सम्पूर्ण भाजपा परिवार ने रविकान्त कौशिक के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

11-11-2019
एक समय था जब चुनाव आयुक्त साहसी और निर्भीक हुआ करते थे...

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टीएन शेषन के निधन पर शोक जाहिर किया है। शेषन की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने मौजूदा हालात पर भी तंज कसे। उन्होंने कहा कि एक समय था, जब चुनाव आयुक्त साहसी और निर्भीक हुआ करते थे। बता दें कि 86 वर्षीय पूर्व चुनाव आयुक्त टीएन शेषन का रविवार रात हार्ट अटैक से निधन हो गया। वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे। रविवार रात करीब 9:30 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। शेषन को 1990 में चुनाव सुधारों के लिए जाना जाता है। पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त के निधन पर राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि एक समय था जब हमारे चुनाव आयुक्त निष्पक्ष, सम्मानित, साहसी होते थे। उनकी बात सुनी जाती थी। टीएन शेषन उनमें से एक थे। मैं उनके निधन पर उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। वहीं कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि टीएन शेषन के निधन से दुखी हूं। एक सशक्त सिविल सर्वेंट के साथ ही वह कैबिनेट सेक्रेटरी भी रह चुके हैं। एक मजबूत और निष्पक्ष चुनाव आयुक्त के तौर पर शेषन को चुनाव सुधारों के लिए हमेशा याद किया जाएगा। पूर्व चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी ने ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। कुरैशी ने कहा कि वह सच्चे अर्थों में महान थे। कुरैशी ने लिखा कि मैं उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं।

20-08-2019
700 साल पुराना ग्लेशियर इस कारण हो गया खत्म, शोक में डूबे लोग

नई दिल्ली। आइसलैंड का 700 साल पुराना ओकजोकुल ग्लेशियर जलवायु परिवर्तन के कारण पिघलकर पूरी तरह खत्म हो गया है। वैज्ञानिकों का दावा किया है कि जलवायु परिवर्तन के कारण खत्म होने वाला यह दुनिया का पहला ग्लेशियर है। वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि अगर हम जलवायु परिवर्तन को लेकर कुछ नहीं करेंगे तो इस क्षेत्र में स्थित अन्य ग्लेशियरों का भी यही हाल होगा। इस साल दुनियाभर में जुलाई का महीना सबसे गर्म रहा था। रविवार को ग्लेशियर की याद में आइसलैंड के लोगों ने शोक मनाया। सरकार ने उसके नाम की कांस्य की पट्टिका बनाकर स्थापित की। प्रधानमंत्री कैटरीन जोकोबस्दोतियर के साथ मंत्रियों ने ग्लेशियर को श्रद्धांजलि भी दी। पीएम ने शोक संदेश में कहा कि जो हुआ वह ठीक नहीं है। हमें एकजुट होकर जलवायु परिवर्तन को लेकर जरूरी कदम उठाने की जरूरत है। प्रधानमंत्री के साथ संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार की आयुक्त मैरी रॉबनसन और स्थानीय लोग मौजूद रहें।  पट्टिका शिलालेख पर लिखा है कि यह भविष्य के लिए एक पत्र है और इसका उद्देश्य ग्लेशियरों की गिरावट और जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के बारे में जागरुकता बढ़ाना है। पट्टिका में आगे लिखा है कि अगले 200 वर्षों में हमारे सभी ग्लेशियर इस तरह पिघल जाएंगे। यह स्मारक आपको याद दिलाएगा कि हम जानते हैं कि क्या हो रहा है और क्या करने की आवश्यकता है। दावा किया गया है कि मई में 415 पीपीएम की कार्बन डाई ऑक्साइड पर्यावरण में दर्ज की गई। साथ ही यह भी कहा गया है कि जल्द ही अगर कदम नहीं उठाए गए तो 400 ग्लेशियर इसी तरह खत्म हो सकते हैं। आइसलैंड में हर साल 11 अरब टन बर्फ पिघल रही है जो समुद्र का जलस्तर भी बढ़ा रही है। इंटरनेशनल यूनियन फॉर कंजर्वेशन ऑफ नेचर के बताया है कि गैसों का उत्सर्जन कम नहीं किया गया तो अगले 100 साल में दुनिया के आधे से अधिक ग्लेशियर पिघल जाएंगे। 

 

02-08-2019
परमवीर चक्र विजेता शहीद अब्दुल हमीद की पत्नी रसूलन बीबी नहीं रहीं,  गाजीपुर में शोक 

गाजीपुर। सन् 1965 में भारत-पाकिस्तान युद्ध का पासा पलटने वाले परमवीर चक्र विजेता शहीद अब्दुल हमीद की पत्नी रसूलन बीबी का शुक्रवार को निधन हो गया। रसूलन बीबी काफी समय से बीमार चल रही थीं।  गाजीपुर के दुल्लहपुर क्षेत्र के धामूपुर गांव के रहने वाले परमवीर चक्र विजेता अब्दुल हमीद ने 1965 में हुए भारत-पाकिस्तान युद्ध में अपने अदम्य साहस का लोहा मनवाया था। अब्दुल हमीद की 95 वर्षीय पत्नी रसूलन बीबी ने अपने आवास पर शुक्रवार को अंतिम सांस ली। परिजनों के मुताबिक वह पिछले कई दिनों से बीमार चल रही थीं। शुक्रवार की दोपहर डेढ़ बजे अपने दुल्लहपुर स्थित आवास पर उनका निधन हो गया। उनके निधन की सूचना होने के बाद शोक संवेदनाओं का सिलसिला शुरू हो गया है। 

10-06-2019
साहित्यकार व फिल्म निर्देशक गिरीश कर्नाड के निधन पर तीन दिवसीय राजकीय शोक 

बेंगलुरु। दिग्गज साहित्यकार, फिल्म निर्देशक और अभिनेता गिरीश कर्नाड के 81 साल की उम्र में निधन के बाद कर्नाटक की विश्वेश्वरैया टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी  में 10 जून को 1:30 बजे होने वाला एग्जाम कैंसिल कर दिया गया। ये एग्जाम गिरीश कर्नाड की मौत की खबर के बाद कैंसिल किया गया। यूनिवर्सिटी की ओर से कहा गया कि कैंसिल हुए एग्जाम की नई तारीख जल्द ही सूचित कर दी जाएगी। इस बीच, राज्य सरकार ने कर्नाड के निधन के बाद कर्नाटक के स्कूलों और कॉलेजों को छुट्टी देने का आदेश दिया है। राज्य में तीन दिवसीय शोक मनाया जा रहा है। बता दें कि दिग्गज साहित्यकार और फिल्म निर्देशक गिरीश तीन सालों से बीमारी से जूझ रहे थे। गिरीश का निधन बेंगलुरू में उनके निवास स्थान पर हुआ। उनके निधन के बाद देशभर से प्रतिक्रियाएं आईं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके निधन पर शोक जताते हुए कहा कि गिरीश कर्नाड अपनी विविध अभिनय क्षमता के लिए याद किए जाएंगे।वो 10 बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीत चुके हैं। गिरीश कर्नाड ने न  केवल हिंदी बल्कि तमिल, तेलुगु और कन्नड़ भाषा में भी काम किया। कर्नाड फिल्मों से तो पहचाने गए ही, लेकिन उनकी प्रसिद्धि एक नाटककार के रूप में ज्यादा है। कन्नड़ भाषा में लिखे उनके नाटकों का अंग्रेजी समेत कई भारतीय भाषाओं में अनुवाद हो चुका है। उनके द्वारा लिखे नाटक तुगलक (1964) से उन्हें बहुत प्रसिद्धि मिली। इसका कई भारतीय भाषाओं में अनुवाद हुआ।

10-06-2019
सीएम भूपेश बघेल व राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने गिरीश कर्नाड के निधन पर जताया शोक 

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने   देश के सुप्रसिद्ध फिल्म अभिनेता, नाटककार, लेखक एवं रंगकर्मी गिरीश कर्नाड के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया। भूपेश बघेल ने कहा कि गिरीश कर्नाड के निधन का समाचार सुनकर अत्यंत दुख हुआ। पद्मभूषण और ज्ञानपीठ पुरस्कार से नवाजे गए गिरीश कर्नाड द्वारा साहित्य, रंगकर्म और रंगमंच को दिए गए योगदान को हमेशा याद किया जाएगा। बघेल ने शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की है और ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करने की प्रार्थना की है। इसी तरह राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने प्रसिद्ध कलाकार गिरीश कर्नाड के निधन पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है कि  कर्नाड का भारतीय रंगमंच तथा साहित्य में अतुलनीय योगदान था। वे बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी थे। उन्होंने कई कलात्मक फिल्में निर्देशित कीं और उनमें अभिनय भी किया, जिन्हें प्रतिष्ठित पुरस्कारों से नवाजा गया। राज्यपाल ने  कर्नाड के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए मृतात्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।

30-04-2019
ज्योत्सना महंत ने ठाकुर बलराम सिंह के निधन पर जताया शोक

कोरबा। लोकसभा कांगेस की कोरबा से लोकसभा प्रत्याशी ज्योत्सना चरणदास महंत ने तखतपुर के पूर्व विधायक ठाकुर बलराम सिंह के निधन पर अपनी गहरी संवेदना की है। उन्होंने मृतात्मा की शांति और परिजनों को शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804