GLIBS
02-12-2020
मुख्यमंत्री की संवेदनशील पहल : सुदुर अंचल के छात्रों को निजी मेडिकल काॅलेजों में सरकार कराएगी प्रवेश

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक ओर संवेदनशील पहल करते हुए प्रदेश के सुदुर अंचल जहां नेटवर्क और अन्य तकनीकी कारणों से नीट क्वालिफाई होनहार छात्र-छात्राएं जो काउंसलिंग के लिए निर्धारित समय पर अपना पंजीयन नहीं करा सके थे। अब उन्हें प्रदेश के निजी काॅलेजों में पेमेंट सीट पर प्रवेश दिलाने के निर्देश दिए हैं। इन होनहार बच्चों का भविष्य अब सरकार संवारेगी। छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के बाद यह पहली बार है कि एमबीबीएस के लिए निजी काॅलेजों के पेमेंट सीट में बच्चों को राज्य सरकार के खर्च पर दाखिला दिलाया जाएगा।मुख्यमंत्री बघेल ने कहा है कि किसी भी बच्चे के भविष्य के साथ कोई समझौता नहीं होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने प्रदेश के दूरस्थ आदिवासी अंचलों के ऐसे सभी होनहार बच्चों के एमबीबीएस मेें दाखिला के लिए जिला प्रशासन को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए है। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संज्ञान में जैसे ही यह बात आयी कि दंतेवाड़ा जिले के 27 होनहार छात्र-छात्राएं जिन्होंने नीट क्वालिफाई किया है लेकिन नेटवर्क प्राब्लम के कारण प्रथम काउंसलिंग में उनका रजिस्ट्रेशन नहीं हो सका था।

इस संबंध में जानकारी मिलते ही जिला प्रशासन की ओर से अपने स्तर पर पंजीयन कराने का प्रयास किया गया और राष्ट्रीय स्तर पर द्वितीय काउंसलिंग पूर्व इनका रजिस्ट्रेशन कराया गया लेकिन ये छात्र चयन से वंचित रह गए। राज्य में पंजीयन के लिए द्वितीय अवसर नहीं होने से उनका पंजीयन नहीं कराया जा सका। प्रथम काउंसलिंग के पश्चात इसमें दो छात्रा कुमारी पदमा मडे और पीयूषा बेक एमबीबीएस में प्रवेश की पात्रता रखती हैं। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद कलेक्टर दंतेवाड़ा द्वारा इन छात्राओं का प्रदेश के निजी काॅलेजों में दाखिला की कार्यवाही की जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आगे भी यदि इनमें से कोई छात्र कटअप के बाद प्रवेश के लिए पात्र पाया जाता है तो उन्हें भी निजी काॅलेजों की पेमेंट सीट पर दाखिला दिलाया जाएगा और इसका खर्च राज्य सरकार वहन करेगी।

22-11-2020
कोरोना के कारण जा रही हैं हर दिन 10 लोगों की जान : भाजपा

रायपुर। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा है कि प्रदेश सरकार पहले भी कोरोना को लेकर संवेदनशील नहीं रही है और न ही अब है। कौशिक ने कहा कि एक बार फिर से कोरोना का विस्तार हो रहा है तो प्रदेश की सरकार इलाज करने में देरी होने के कारण कोरोना में मौतों की संख्या अधिक होने की बात कह रही है।नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि कोरोना स हो रही मौतों के लिए प्रदेश की सरकार की नीतियां जिम्मेदार हैं और अपनी कुनीतियों व विफलताओं पर पर्दा डालने के लिए प्रदेश सरकार गलत तथ्यों का सहारा ले रही है। कौशिक ने कहा कि  कोरोना को लेकर प्रदेश की सरकार ने जनता से दूरी बना ली है और प्रदेश की जनता मजबूरी में जीने को विवश है। कौशिक ने कहा कि कोरोना के सक्रिय मामलों में प्रदेश सातवें स्थान पर है और हम गुजरात, मध्यप्रदेश जैसे राज्यों से भी आगे हैं। अब तक करीब 2,691 लोगों की मौत केवल करोना की वजह से हुई है।

करीब हर दिन 10 लोगों व हर तीसरे घंटे एक संक्रमित की मौत कोरोना के कारण पिछले 9 माह के भीतर हुई है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि बदलते के मौसम में कोरोना का  प्रभाव जब बढ़ने की बातें हो रही हैं तो प्रदेश सरकार को इससे निपटने के लिए पुख़्ता इंतज़ाम करना था, लेकिन यह सरकार तो सत्ता-सुख भोगने में ही मस्त है। कौशिक ने कहा कि पूरे प्रदेश में कोरोना की रोकथाम के लिये आवश्यक सामग्रियों का नि:शुल्क वितरण किया जाना चाहिये। साथ ही कोरोना जांच का दायरा भी बढ़ाया जाना चाहिये। जिन जिलों में पहले कोरोना के केस ज्यादा समाने आये थे, उन सबकी समीक्षा कर कारगर योजना बनाने की जरूरत है। इसके साथ ही कोरोना के रोकथाम में तैनात सभी का एक-एक करोड़ रूपये का सामूहिक बीमा भी किया जाना चाहिए।

 

01-06-2020
हिंसा और अपराध के ग्राफ में हो रही वृद्धि को लेकर जागरूक और संवेदनशील होने की जरूरत : अनिला भेड़िया

रायपुर। महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंड़िया ने एक जून विश्व बाल सुरक्षा दिवस के अवसर पर बच्चों के स्वस्थ और सुखी जीवन की कामना की। मंत्री भेंड़िया ने कहा है कि बच्चों से संबंधित बढ़ते हिंसा और आपराधिक मामलों को देखते हुए हमें उनके प्रति और अधिक जागरूक और संवेदनशील होने की जरूरत है। वर्तमान समय में हम सबकी जिम्मेदारी है कि बच्चों से संबंधित किसी भी तरह के शोषण को रोकने के लिए मामलो को सामने लाए। हमें बच्चों के मानसिक और मनोवैज्ञानिक पहलुओं को जानने और समझने की भी जरूरत है। आज हमारी सतर्कता और व्यवहार ही भावी पीढ़ी का भविष्य है।

 

22-05-2020
तेंदूपत्ता संग्राहकों की बीमा योजना बंद करना आदिवासियों के साथ अन्याय : बृजमोहन अग्रवाल

रायपुर। विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने तेंदूपत्ता संग्राहकों और उनके परिवार के लिए प्रारंभ की गई बीमा योजना बंद किये जाने पर राज्य सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि यह बीमा और उससे लाभ आदिवासियों का अधिकार था। इस अधिकार के हनन से सरकार का आदिवासी विरोधी चेहरा उजागर हो गया है। बृजमोहन ने कहा कि छत्तीसगढ़ के लगभग 13 लाख तेंदूपत्ता संग्राहकों और उनके परिवार के सदस्यों के लिए लागू की गई बीमा योजना का लाभ राज्य सरकार की ओर से प्रीमियम की राशि भुगतान नहीं किए जाने के कारण अब उन्हें नहीं मिल रहा है। 2 लाख रुपए की इस बीमा योजना के तहत मृतक तेंदूपत्ता संग्राहक का परिवार मुआवजे से वंचित है। यहां सरकार ने वनवासियों के साथ अन्याय करते हुए असंवेदनशीलता का परिचय दिया है।बृजमोहन में महासमुंद जिले का जिक्र करते हुए कहा कि 140 संग्राहक मुखिया और 23 समूह परिवार ने बीमा के लिए भुगतान का दावा किया है पर उन्हें राशि नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को वनवासियों के प्रति संवेदनशील होना चाहिए।

 

10-05-2020
श्रमिकों की वापसी पर ताम्रध्वज ने कहा, प्रदेश में मजदूरों की व्यवस्था मुख्यमंत्री का संवेदनशील निर्णय

रायपुर। कोरोना महामारी की इस विकट स्थिति में श्रमिक छत्तीसगढ़ राज्य से होकर अपने गृह राज्य लौट रहे हैं। उन प्रवासी श्रमिकों के भोजन-पानी और सीमा तक छोड़ने की व्यवस्था करने के लिए सभी जिला कलेक्टरों को निर्देशित किया गया है। इस कार्य के लिए गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार प्रकट किया है। उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ के रास्ते श्रमिक विभिन्न राज्यों ओडिसा, झारखंड, उत्तर प्रदेश आदि अपने गृह राज्य लौट रहे हैं। मुख्यमंत्री के इस संवेदनशील निर्णय से उन श्रमिकों को बड़ी राहत मिलेगी।

 

09-04-2020
जिला पंचायत सदस्यों ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिया एक माह का मानदेय

बीजापुर। कोरोना संक्रमितों की सहायता के लिए राज्य में विभिन्न संगठन व व्यक्ति सहायता के लिए आगे आ रहे हैं। इसी कड़ी में जिला बीजापुर के जिला पंचायत सदस्यों ने अपना एक माह का मानदेय मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा करने का निर्णय लिया है। इस तरह कुल 61 हज़ार रुपये कोष में जमा किये जा रहे हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडियम ने बताया कि विश्व सहित पूरा देश इस समय कोरोना वायरस से लड़ रहा है। छत्तीसगढ़ भी इस वायरस के दुष्प्रभाव से अछूता नहीं रहा है। हालांकि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की दूरदृष्टि व संवेदनशील प्रभावी उपायों के चलते राज्य में स्तिथि नियंत्रित कर ली गई।

इस कठिन समय में हम सभी को एक होकर कोरोना के खिलाफ अपना योगदान देना होगा।
जिला पंचायत मुख्यकार्यपालन अधिकारी पोषण चंद्राकर ने बताया कि सदस्यों ने मार्च माह का मानदेय मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा करने का जो निर्णय लिया है, वह स्वागत के योग्य है। जिले में भी शासन के निर्देशानुसार कलेक्टर केडी कुंजाम के मार्गदर्शन में कोरोना वायरस से बचाव के प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री सहायता कोष में जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडियम 15000, उपाध्यक्ष कमलेश कारम 10000, सदस्य बसंतराव टाटी, सरिता चापा, सोमारू राम कश्यप, संतकुमारी मण्डावी, बुधराम कश्यप, बी.पुष्पाराव अपने मानदेय की राशि 6000 को जमा करने जिला पंचायत सीईओ को पत्र सौंपा है।

04-04-2020
 एक किलोमीटर परिधि का क्षेत्र अति संवेदनशील जोन, घर-घर सर्वे का काम शुरू

कोरबा। कटघोरा में पुरानी बस्ती मस्जिद में रूके युवक के कोरोना संक्रमण ग्रस्त होने की रिपोर्ट के बाद मस्जिद के एक किलोमीटर परिधि का क्षेत्र अतिसंवेदनशील जोन घोषित कर दिया गया है। कोरोना नियंत्रण के लिए निर्धारित प्रोटोकाल और दिशा निर्देशों के अनुसार इस क्षेत्र के लगभग दो सौ घरों में स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंचना शुरू हो गई है। क्षेत्र के इन सभी घरों में रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए तीन डाक्टरों के पर्यवेक्षण में दस दल काम पर लगाये गये हैं। दलों द्वारा घरों में जा-जा कर पारिवारिक सदस्यों की जानकारी और उन्हें सर्दी, खांसी, बुखार, श्वास लेने में तकलीफ जैसी परेशानियों के बारे में पूछा जा रहा है। जिन परिवारों के सदस्यों को इस तरह की तकलीफें होंगी उन्हें तत्काल ईलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा जायेगा। घर-घर सर्वे के लिए मितानीन,आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं स्वास्थ्य कर्मियों के दल बनाये गये हैं।संक्रमित युवक और उसके सम्पर्क में आये लोगों की पहचान करने के लिये भी यह दल तेजी से काम कर रहे हैं। दलों को जरूरी चिकित्सा उपकरण और सुरक्षा संबंधी साधन उपलब्ध कराये गये हैं। संक्रमित युवक के सम्पर्क में आने वाले लोगों की जानकारी मिलने पर उन्हें भी होम आईसोलेशन में रखा जायेगा। पूरे कटघोरा शहर में कोरोना वायरस से सुरक्षा और बचाव के संबंध में जरूरी जानकारी आमजनों को मुनादी कराकर उपलब्ध करायी जा रही है।

27-03-2020
संवेदनशील समस्याग्रस्त लोगों को तत्काल राहत पहुंचाने नियंत्रण कक्ष शुरू

कवर्धा। राज्य शासन द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे प्रदेश को लाक डाउन किया गया है। कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने कबीरधाम जिले में संवेदनशील समस्याग्रस्त लोगों को तत्काल राहत पहुंचाने,प्राप्त सूचनाओं, समस्याओं का निराकरण के लिए जिला पंचायत कबीरधाम में नियत्रंण कक्ष की स्थापना की है। जिला पंचायत सीईओ विजय दयाराम के. ने बताया कि इस नियंत्रण कक्ष में राशन नहीं मिलना, पानी नहीं मिलना, स्वास्थ्य का लाभ नहीं मिल पाना या ऐसे कोई भी समस्या होने पर इस दूरभाष नम्बर 07741-232101 पर संपर्क कर अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं।

 

23-03-2020
कलेक्टर पहुंची अचानक जिला अस्पताल, ओपीडी के सामने लगी थी भीड़,भड़की सिविल सर्जन पर

कोरबा। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर जिला अस्पताल में व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंची कलेक्टर किरण कौशल सिविल सर्जन पर भड़की। जिला अस्पताल में चार आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं। इन वार्डों में संदिग्ध मरीजों सहित संक्रमित होने की दशा में कोरोना ग्रसित मरीज के इलाज के सभी इंतजाम किए गए हैं। कलेक्टर किरण कौशल ने सोमवार को अचानक जिला अस्पताल में किए गए इंतजामों का निरीक्षण किया। उन्होंने अस्पताल का भ्रमण कर ओपीडी में मरीजों की लगी भीड़ पर सिविल सर्जन के प्रति गहरी नाराजगी व्यक्त की। कलेक्टर ने अस्पताल जैसी संवेदनशील जगह पर लोगों की भीड़ लगने को अनुचित मानते हुए मौके पर ही सिविल सर्जन डाॅ.अरूण तिवारी के प्रति गहरी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने सभी डाॅक्टरों को अपने-अपने कमरों में बैठकर निर्धारित समय में मरीजों की जांच और ईलाज करने के निर्देश दिए।

 

 

30-01-2020
पाकिस्तान : पोलियो वेक्सीन देने वाली 2 महिलाओं की गोली मारकर हत्या

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में पोलियो की वेक्सीन पिलाने वाली दो महिलाओं की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। इसमें शकीला बीवी की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं गोली लगने से गंभीर रूप से घायल घुनचा गुल की बाद में अस्पताल में मौत हो गई। समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, महिलाएं वेक्सीन किटें जमा करने अस्पताल जा रही थी,तभी बाइकसवार हमलावरों ने उनपर हमला कर दिया। पुलिस ने कहा कि वे खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के स्वाब जिला में परमोली कस्बे में बच्चों को पोलियो की वेक्सीन पिलाती थीं। स्थानीय पुलिस के अनुसार,यह क्षेत्र उच्च संवेदनशील स्थानों में नहीं होने के कारण यहां पोलियो वेक्सीन देने वालों के साथ सुरक्षाकर्मी उपलब्ध नहीं कराए गए थे। परमोली स्टेशन प्रमुख जिहाद खान ने एफे को बताया,"ड्यूटी करने के बाद दोनों महिलाएं अपनी किटें जमा करने टहलते हुए जा रही थीं कि एक बाइक पर दो अज्ञात बंदूकधारियों ने उन पर पीछे से गोली चला दी।" पुलिस अधिकारी ने बताया कि गुल को शुरुआत में स्वाब स्थित कालू खान हॉस्पिटल ले जाया गया, जिसके बाद उसे पेशावर स्थित लेडी रीडिंग हॉस्पिटल के लिए रेफर कर दिया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

28-01-2020
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए मतदान प्रक्रिया प्रारंभ

कोंडागांव। त्रिस्तरीय चुनाव के पहले चरण में कोंडागांव जिले के कोंडागांव विकासखंड के 275 मतदान केंद्रो में सुबह से मतदान शुरू हो चुका है। जहां मतदान करने ग्रामीणों की भीड़ है। बताया जा रहा है कि, करीब 1000 मतदान कर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। जिनकी रवानगी कल से ही हो गई थी। बताया जा रहा है कि, इस जिले के लगभग सभी मतदान केंद्र संवेदनशील है। चुनाव के पहले चरण में प्रदेश के सभी 27 जिलो में पंचायत चुनाव होना है। सामान्य बूथों में सुबह 7 बजे से 3 बजे तक मतदान किया जाएगा। वहीं अतिसंवेदनशील बूथों में 6.45 से 2 बजे तक रहेगा। सामान्य परिस्थितियों में तुरंत ही मतगणना की जाएगी । अगर स्थिति खराब हुए तो दूसरे दिन मतगणना होगी।

04-12-2019
'जयेशभाई जोरदार' की पहली झलक, दिखा रणवीर का ये अंदाज

मुंबई। रणवीर सिंह एक बार फिर दर्शकों को चौंकाने आ रहे हैं। अब रणवीर आनेवाली फिल्‍म 'जयेशभाई जोरदार' को लेकर चर्चा में हैं,जिसमें वे एक गुजराती युवक की भूमिका में दिखेंगे। फिल्म के पोस्‍टर पर रणवीर के लुक को देखकर साफ है कि उन्‍होंने इस फिल्‍म के लिए कई किलो वजन कम किया है। रणवीर ने इस किरदार के बारे में बात करते हुए कहा,'जयेशभाई एक असंभावित नायक हैं, एक साधारण व्यक्ति, जो एक असाधारण स्थिति में मुश्किल आने पर कुछ असाधारण करते हुए इसे समाप्‍त करता है। वह संवेदनशील और दयालु है। पुरुषों और महिलाओं के बीच समान समाज में समान अधिकारों में विश्वास करता है, जो पितृसत्तात्मक आदर्शों और प्रथाओं में गहराई से निहित है। इस फिल्‍म में रणवीर के साथ अर्जुन रेड्डी से डेब्‍यू करनेवाली अभिनेत्री शालिनी पांडे हैं। अपने किरदार के बारे में रणवीर सिंह कहते हैं, चार्ली चैपलिन ने कहा था- हंसने के लिए इंसान को अपना दर्द सामने लाने में सक्षम होना चाहिए और इसके साथ खेलने की ताकत उसमें होनी चाहिए।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804