GLIBS
11-01-2021
बर्ड फ्लू के नियंत्रण और रोकथाम के लिए कलेक्टर एस.भारतीदासन ने हरसंभव प्रयास करने के दिए निर्देश

रायपुर। संयुक्त संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं रायपुर डॉ.देवेन्द्र नेताम ने बताया कि बर्ड फ्लू रोग पक्षियों का संकामक एवं घातक रोग है ,जिससे बैकयार्ड पोल्ट्री पालन एवं पोल्ट्री व्यवसायों को अत्यधिक हानि होती है। यह रोग मनुष्यों को भी संक्रमित करता है। शीत ऋतु में राज्य के सीमा पार से बर्ड फ्लू रोग के प्रवेश रोकने एवं पक्षियों में असामान्य बीमारी एवं मृत्यु रोकने के लिए सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने इस दृष्टि से बर्ड फ्लू रोग के प्रवेश रोकने संबंधी पूरी तैयारी एवं सतर्कता सुनिश्चित करने को कहा है। देश के अनेक राज्यों में पाये गये मृत पक्षियों (बतख, कौव एवं प्रवासी पक्षियों) में बर्ड फ्लू रोग की पुष्टि होने के बाद केन्द्र और राज्य शासन के द्वारा दिये गये दिशा निर्देश अनुसार कलेक्टर रायपुर डॉ एस. भारतीदासन ने रायपुर जिले के पशु चिकित्सा विभाग के सभी पशु चिकित्सालयों और विभागीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों को रोग नियंत्रण एवं रोकथाम के लिए हरसंभव प्रयास करने के निर्देश दिए गए है।संयुक्त संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं रायपुर डॉ. देवेन्द्र नेताम ने बताया कि बर्ड फ्लू रोग पक्षियों का संकामक एवं घातक रोग है,जिससे बैकयार्ड पोल्ट्री पालन एवं पोल्ट्री व्यवसायों को अत्यधिक हानि होती है। यह रोग मनुष्यों को भी संक्रमित करता है। शीत ऋतु में राज्य के सीमा पार से बर्ड फ्लू रोग के प्रवेश रोकने एवं पक्षियों में असामान्य बीमारी एवं मृत्यु रोकने के लिए सतर्क रहने की जरूरत है।

उन्होनें इस दृष्टि से बर्ड फ्लू रोग के प्रवेश रोकने संबंधी पूरी तैयारी एवं सतर्कता सुनिश्चित करने को कहा है।उन्होंनें जिले में विकासखण्डवार पशु-पक्षी, बाजारों, कुक्कुट उत्पादां के वितरण श्रृंखला ऐसे स्थान बतखों की संख्या ज्यादा है, जल स्त्रोतो तथा प्रवासी-जंगली पशुओं की सर्वेक्षण कर इन क्षेत्रों के पक्षियों के सिरोलॉजीकल एवं वायरोलॉजीकल सैम्पल, लैब टेस्टिंग के लिए नियमित रूप से प्रयोगशाला भेजने को कहा है। उन्होंने बताया कि प्रवासी पक्षियों बर्ड फ्लू के प्रसारण की दृष्टि से महत्वपूर्ण होते है। अतः जिले के प्रवासी पक्षी की सभी शरण स्थली असामान्य मृत्यु के लिए सतत् निगरानी करें साथ ही वन विभाग के द्वारा प्रवासी पक्षी शरण स्थली स्थानों की सूची कार्यालय को उपलब्ध करावें।इसी तरह जिले में कुक्कुट-पक्षी पालकों को बीमारी के सर्व सामान्य जानकारी, बायेसिक्यूरटी भेजने जैसे निजी कुक्कुट पालकों को अपने प्रक्षेत्रों में बाहरी व्यक्तियों, वाहन एवं अन्य सामग्री के आने-जाने में प्रतिबंध लगाने एवं मृत पक्षियों के असामान्य संख्या को निकटतम पशु चिकित्सालय में सूचित करने एवं निदान कराने एवं मृत पक्षियों के शवों/पक्षी अवशिष्ट का उचित समुचित प्रबंधन का प्रचार-प्रसार करने को कहा है।उन्होंने जिले के सभी विकासखण्ड एवं क्षेत्राधिकारियों को निर्देशित है कि वे अपने क्षेत्र में कुक्कुट पक्षियों के असामान्य बीमारी अथवा असामान्य मृत्यु के सबंध में सतत् सर्वेक्षण कर प्रतिवेदन एवं बीमार पक्षियों के शीरम नमुने जांच के लिए जिला रोग अन्वेषण प्रयोगशाला, रायपुर को भेजा जाना सुनिश्चित करें। जिले में बर्ड फ्लू रोकथाम हेतु जिला रोग प्रभारी रोग अन्वेषण प्रयोगशाला रायपुर को जिला नोडल अधिकारी नियुक्त किया जाता है, उनका दूरभाष कमांक 75871-57066 है। उन्होंने इसी तरह वाईल्ड लाईफ सेंचुरी, नेशनल पार्क – जल स्त्रोत जहां प्रवासी पक्षियों की शरण स्थली है, का निरीक्षण भी करने को कहा है।

02-01-2021
नववर्ष के पहले दिन ग्रामीणों की हुई कोरोना जांच, रोकथाम के संबंध में दी गई जानकारी

कुरूद। ग्राम चर्रा में नववर्ष के शुभारंभ में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के संम्पर्क में आने वालों की जांच की गई। इसमें गांव वालों को रोकथाम की भी जानकारी दी गई। सिविल अस्पताल के सीएमओ डॉ. नवरत्न ने कोरोना जांच टीम नववर्ष पर भेजी। इसमें ग्रामीणों की कोरोना जांच की गई। सभी की एण्टीजेन रिपोर्ट निगेटिव आई तथा आरटीपीसीआर जांच रायपुर भेजी गई। इसकी रिपोर्ट चार से पांच दिन में आएगी। कुल 22 कोरोना जांच की गई। इसमें एण्टीजेन 11 और आरटीपीसीआर 11 सम्मिलित है। कोरोना जांच के  समय जांच टीम ने गांव वालों को आवश्यक जानकारी दी।

 

21-12-2020
साइबर अपराध की रोकथाम के लिए जागरूकता रथ, कोरबा पुलिस की अभिनव पहल

कोरबा। पुलिस द्वारा आम जनों को साइबर ठगी से बचाने के लिए साइबर जागरूकता रथ निकाला गया। इसके तारतम्य में सोमवार को जिला पुलिस ने थाना दर्री से विभिन्न क्षेत्र एनटीपीसी कॉलोनी, सीएसईबी कॉलोनी, साडा कॉलोनी, जमनीपाली एवं ग्रामीण क्षेत्रों के साथ भ्रमण कर थाना कुसमुंडा, थाना बांकीमोंगरा, चौकी हरदीबाजार के क्षेत्रों में भ्रमण कर साइबर संबंधी जागरूकता वीडियो एवं फोटोग्राफ्स लोगों को दिखाकर जागरूक करने साइबर जागरूकता रथ कार्यक्रम के मुख्यअतिथि अभिषेक मीणा पुलिस अधीक्षक कोरबा एवं विश्वरूप बासु मुख्य महाप्रबंधक एनटीपीसी के द्वारा झंडा दिखाकर रवाना किया गया। कार्यक्रम में कीर्तन राठौर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, खोमनलाल सिन्हा नगर पुलिस अधीक्षक दर्री, थाना प्रभारी दर्री एवं कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

 

 

23-11-2020
अब तक कोरिया जिले के 3190 लोगों ने दी कोरोना को मात

कोरिया। कोविड-19 के संक्रमण से रोकथाम एवं बचाव के लिए जिला प्रशासन सतत रूप से प्रयासरत है। कलेक्टर एसएन राठौर के मार्गदर्शन में स्वास्थ्य विभाग द्वारा अथक मेहनत करते हुए मरीजों का उपचार किया जा रहा है। इसी का परिणाम है कि कोरिया जिले के 3190 लोगों ने कोरोना को मात दे दी है। वहीं कलेक्टर के निर्देश पर जिले के स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रतिदिन मेडिकल बुलेटिन जारी किया जा रहा है। इसके अनुसार कुल 20 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किये गये हैं। इसमें से 2 मरीज कोविड हास्पिटल तथा 18 मरीज होम आइसोलेशन में थे। जिले में अब तक कुल 3642 कोरोना पाजीटिव मरीजों की पहचान की गई है। वहीं आज की स्थिति में कुल 1073 सैंपल कलेक्शन किया गया,जिसमें कुल 23 एक्टिव केस की पहचान की गई है, तथा जिले में 201 एक्टिव केस का इलाज जारी है। साथ ही 188 मरीजों का होम आइसोलेशन में उपचार किया जा रहा है। कोविड अस्पताल, बैकुण्ठपुर में 100 बेड एवं 7 आईसीयू, एचडीयू 10 आईसीयू, 6 वेंटीलेटर उपलब्ध हैं।

आज की स्थिति में यहां भर्ती मरीजों की संख्या 13 तथा 87 बेड उपलब्ध हैं। इसी तरह एसईसीएल हास्पिटल, चरचा में बेड की संख्या 50 है। यहां भर्ती मरीजों की संख्या 0 तथा 50 बेड उपलब्ध हैं। होम आइसोलेट किए गए कोरोना संक्रमित मरीजों को स्वास्थ्य विभाग के द्वारा निशुल्क होम केयर आइसोलेशन किट का वितरण किया जा रहा है। साथ ही मरीजों से वीडियो कॉल के जरिए बातचीत कर उनकी देख-रेख की जा रही है। उल्लेखनीय है कि जिले में लगातार कोरोना सर्वे भी संचालित जारी रखा गया है। जिले में अब तक जिले में आरटीपीसीआर के द्वारा 11138, ट्रूनाट के द्वारा 6781 तथा रैपिड एंटिजन के द्वारा 39223 टेस्ट किये जा चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना मरीजो को लाने के लिए एंबुलेंस की सुविधा भी दी जा रही है।

 

07-11-2020
प्रदेश में बढ़ेंगे 4827 ऑक्सीजनयुक्त बेड,अधिकारियों ने सुविधाओं की दी जानकारी

रायपुर। कोरोना संक्रमण की बेहतर रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग लगातार प्रयास कर रहा है। राज्य में शासकीय स्वास्थ्य केन्द्रों में दो हजार 686 ऑक्सीजनयुक्त बेड है। 4827 बेड और बढ़ाने की तैयारियां की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कहा है कि राज्य में वर्तमान में 25196 जनरल बेड, 1120 आईसीयू बेड, 724 एचडीयू बेड उपलब्ध है। कोविड मरीजों को लाने ले जाने के लिए 213 एबुंलेंस है। इनमें 193 बेसिक लैब सुविधाओं वाली और 20 आधुनिक लैब सुविधाओं से लैस है। मुक्तांजलि के तहत 60 वाहन उपलब्ध है। राज्य में 29 डेडिकेटेड कोविड केयर अस्पताल, 127 कोविड केयर सेंटर है।

 

03-11-2020
पदभार ग्रहण करते ही गरियाबन्द  कलेक्टर नीलेश क्षीरसागर ने बैठक लेकर कोविड की रोकथाम की जानकारी ली

रायपुर/गरियाबंद। कलेक्टर निलेशकुमार क्षीरसागर ने पदभार ग्रहण करने के पश्चात जिला प्रमुख अधिकारियों की परिचयात्मक बैठक लेकर विभाग से संचालित कार्यो और जिले में कोविड-19 की रोकथाम व नियंत्रण के लिए की गई व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अनुविभाग और विकासखंड स्तर के अधिकारियों से भी परिचय प्राप्त किया। कलेक्टर क्षीरसागर ने कहा कि सरकार की मंशा के अनुरूप कोविड-19 के नियंत्रण के साथ-साथ विभागीय योजनाओं के कार्यो को भी संचालित किया जाना है। इसके लिए कोविड-19 के प्रोटोकॉल के अनुसार सभी आवश्यक सावधानियां भी हमें बरतनी है। उन्होंने कहा कि अधिकारी टीम भावना के साथ कार्य करते हुए और नागरिक सुविधाओं को ध्यान में रखकर जनता की समस्याओं का तत्परता पूर्वक निराकरण करना सुनिश्चित करें। कलेक्टर क्षीरसागर ने कहा कि शासन की प्राथमिकता के कार्यो पर गंभीरतापूर्वक ध्यान देवें अधिकारी।

उन्होंने डायवर्सन व राजस्व वसूली शत्-प्रतिशत करने, शासकीय जमीन व शाला परिसर से अतिक्रमण हटाने और कंडम शासकीय भवन को प्रक्रिया के तहत डिस्मेंटल कराने सभी अनुविभागीय दण्डाधिकारी को निर्देशित किया। कलेक्टर ने कहा कि जिले के नगरीय निकाय व विकासखंड मुख्यालय में भी शासकीय अंग्रेजी माध्यम विद्यालय प्रारंभ करने आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि अनुविभागीय दण्डाधिकारी और कृषि विभाग के अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि जिले में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना अंतर्गत किसानों की फर्जी एण्ट्री न हो। गिरदावरी रिपोर्ट गलत न हो इसका एक बार पुनः परीक्षण करा लिया जाए। कलेक्टर ने समिति स्तर पर पीडीएस खाद्यान भण्डारण पश्चात डिमाण्ड ड्राफ्ट जमा कराने सभी अनुविभागीय दण्डाधिकारी और खाद्य अधिकारी को निर्देशित किया। कलेक्टर ने अधिकारियों को कार्यालयों की सफाई, सुव्यवस्थित बैठक व्यवस्था और कार्यालयीन समय पर कार्यालय में उपस्थिति पर विशेष ध्यान देने कहा।

 

31-10-2020
कोविड-19 के रोकथाम और उपचार के लिए सीएसआर मद से औद्योगिक इकाईयों से मिली सहायता

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर यशवंत कुमार की पहल पर जिले में स्थापित विभिन्न औद्योगिक समूहों द्वारा सीएसआर मद से कोविड-19 के संक्रमण के रोकथाम, सुरक्षा एवं समुचित उपचार के लिए सामग्री व अन्य उपकरण उपलब्ध कराया गया है। इनमें मुख्यतः 4 नग वेंटिलेटर, मरीजों के लिए भोजन नाश्ता की व्यवस्था, पीपीई किट, एन 95 मास्क, एम्बुलेंस खरीदने के लिए सहयोग राशि सहित अन्य उपकरण व सामग्री शामिल है। उप संचालक जिला योजना एवं सांख्यिकी से प्राप्त जानकारी के अनुसार औद्योगिक इकाई मड़वा द्वारा 1 नग वेंटिलेटर, 38 मजदूरों को नाश्ता,भोजन की व्यवस्था और एम्बुलेंस क्रय करने के लिए सहयोग राशि उपलब्ध कराई गई है।

इसी प्रकार केएसके महानदी पावर कंपनी द्वारा 1 नग वेटिलेटर, चिकित्सालय के लिए बेड शीट एवं तकिया कवर, कोविड केयर सेंटर आईटीआई अकलतरा में मरीजों के लिए भोजन व्यवस्था,एम्बुलेंस क्रय के लिए राशि, महावीर कोलवासरी प्राईवेट लिमिटेड द्वारा 100 नग पीपीई किट एवं एम्बुलेंस के लिए राशि, हिन्द एनर्जी-250 नग पीपीई किट एवं एम्बुलेंस के लिए राशि, आरकेएम पॉवर जेन-150 नग पीपीई किट एवं कोविड केयर सेंटर दिव्यांग स्कूल पेण्ड्रीभांठा एवं लाईब्रेरी भवन में मरीजों के लिए भोजन व्यवस्था। प्रकाश इण्डस्ट्रीज चांपा ने 01 नग वेटिलेटर, एम्बुलेंस के लिए राशि, डीबी पॉवर लिमिटेड ने 1 नग वेटिलेटर और एम्बुलेंस क्रय करने के लिए राशि, क्लीन कोल. प्राईवेट लिमिटेड ने 670 एन-95 मास्क एवं एम्बुलेंस क्रय के लिए राशि, महेन्द्रा पॉवर प्राईवेट लिमिटेड ने 250 नग पीपीई किट और श्याम वेयर हाऊसिंग ने 667 नग एन-95 मास्क प्रदाय किया गया।

 

29-10-2020
कोरोना से बचाव के लिए आयुष काढ़ा और होम्योपैथिक दवाएं खरीदी जाएगी, मुहरबन्द निविदाएं  आमंत्रित

रायपुर/बीजापुर। वैश्विक महामारी नोवेल कोरोना वायरस से बचाव व रोकथाम के लिए आयुष काढ़ा व होम्योपैथी औषधी क्रय और आपूर्ति करने के लिए पंजीकृत संस्थाओं/फर्मों से निर्धारित दर पर कार्यालय से मुहरबंद निविदा आमंत्रित की जाती है। निविदा प्रपत्र बिक्री की अंतिम तिथि 3 नवम्बर शाम 5:30 बजे तक, निविदा जमा करने की अंतिम तिथि 5 नवम्बर शाम 5ः30 बजे तक एवं निविदा खोलने की तिथि 6 नवम्बर सुबह 11 बजे तक किया जाएगा। निविदा प्रपत्र प्राप्ति के लिए आवश्यक शर्तों के साथ जिला आयुर्वेद कार्यालय बीजापुर से किसी भी कार्यालयीन दिवस पर सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक 750 रुपए निविदा प्रपत्र मूल्य का नगद या डीडी जो कि नॉन रिफन्डेबल है। जमा कर प्रपत्र प्राप्त किया जा सकता है। निविदा की शर्ते व नियम की जानकारी जिले के विभागीय वेबसाईट https://bijapur.gov.in से प्राप्त की जा सकती है। डीडी कार्यालय जिला आयुर्वेद अधिकारी बीजापुर के नाम से ही स्वीकार किया जाएगा।

22-10-2020
बिना मास्क लगाए घूम रहे लोगों से वसूला गया अर्थदंड

राजनांदगांव। कोविड 19 की रोकथाम के जिला प्रशासन ने अभियान चलाकर नियमों का उल्लंघन करने वालों से जुर्माना वसूला। गुरुवार को पुलिस थाना बोरतलाव अन्तर्गत जिला पुलिस बल, राजस्व विभाग एवं ग्राम पंचायत बोरतलाव ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए विशेष अभियान चलाया। चेकिंग कार्यवाही में बिना मास्क लगाए घूमने वालों व दुकानदारों पर चालानी कार्यवाही की गई है। इसमें कुल 38 लोगों से 3800 रुपये समन शुल्क वसूला गया। थाना प्रभारी ने बताया कि नवरात्रि समाप्त होने के बाद कोविड-19 के रोकथाम के लिए कार्यवाही जारी रहेगी।

 

21-10-2020
कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए नगर निगम ने बस्ती के घरों से एकत्र किया कचरा

रायपुर। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए नगर निगम बस्तियों की साफ सफाई की ओर विशेष ध्यान दे रहा है। नगर निगम की सहायक स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.तृप्ति पाणीग्रही बुधवार को जोन 4 के निरीक्षण करने पहुंचीं। यहां उन्होंने कंपनी के कर्मचारियों से बस्ती में व्हील बीन से घर-घर जाकर कचरा एकत्र करवाया। उन्होंने बस्ती के रहवासियों को कचरा सड़क पर नहीं फेंकने, मास्क लगाने एवं हाथ साबुन से धोने की समझाइश दी। सफाई के बाद बस्ती में चूना, ब्लीचिंग, एंटी लार्वा का छिड़काव किया। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804