GLIBS
21-01-2021
तांडव के डायरेक्टर अली अब्बास को मिली जमानत, गिरफ्तारी के लिए गई यूपी पुलिस अब तक खाली हाथ

मुंबई/रायपुर। वेब सीरीज तांडव में हिंदू देवी देवताओं और धर्म के खिलाफ की गई टिप्पणियों व सीन को हटाने के लिए जारी विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है। इस मामले में डायरेक्टर अली अब्बास समेत अन्य नामजद आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही के लिए गई यूपी पुलिस मुंबई में अब तक खाली हाथ ही है। उधर डायरेक्टर अली अब्बास को कोर्ट से इस मामले में बड़ी राहत मिल गई है। कोर्ट ने उनकी गिरफ्तारी पर 3 सप्ताह तक के लिए अग्रिम जमानत दे दी है। उधर शिवसेना ने भी तांडव के खिलाफ भाजपा के रवैए पर नाराजगी जाहिर की है। बहरहाल तांडव के खिलाफ तांडव होने की आशंका फिलहाल चलती नजर नहीं आ रही है।

02-12-2020
जमानत के बाद फांसी लगाकर युवक ने की आत्महत्या

रायपुर। राजधानी के मुजगहन क्षेत्र में एक युवक ने देर रात फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। मामले में मृतक युवक के परिजनों ने पुलिस पर डराने धमकाने के आरोप लगाएं हैं। इससे हताश होकर युवक ने आत्महत्या कर ली। गौरतलब है कि फेसबुक में कमेंट के कारण युवक को पुरानी बस्ती थाना पुलिस ने हिरासत में लिया था। इसके बाद युवक की जमानत हुई और युवक ने देर रात मुजगहन में अपने मामा के घर में फांसी लगा ली। फिलहाल युवक के मृत शव को पोस्टमार्टम के लिए मेकाहारा भेजा गया है।

23-11-2020
कॉमेडियन भारती और हर्ष निंबालिया को ड्रग्स केस में कोर्ट से सशर्त जमानत मिली

मुंबई/रायपुर। ड्रग केस में गिरफ्तार कॉमेडियन भारती सिंह और उनके पति हर्ष को मजिस्ट्रेट कोर्ट से जमानत मिल गई है। दोनों को 15-15 हजार के निजी मुचलके पर जमानत मिली है।  सोमवार को एनडीपीएस कोर्ट में भारती सिंह और हर्ष लिंबाचिया के जमानत पर सुनवाई होनी थी लेकिन इस केस के पब्लिक प्रॉसिक्यूटर अतुल सरपांडे की अनुपस्थिति की वजह से आज सुनवाई संभव नहीं थी। कोर्ट में विशेष अनुरोध पर जमानत पर सुनवाई की गई और दोनों को शर्तों के साथ जमानत दी गई है। गौरतलब है कि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने एक पेडलर की निशानदेही पर शनिवार 21 नवंबर के दिन कॉमेडियन भारती सिंह और हर्ष लिंबाचिया के घर, प्रोडक्शन हाउस सहित तीन जगहों पर रेड की थी। इस रेड के दौरान भारती सिंह के घर से 86.5 ग्राम गांजा बरामद हुआ था। इस बरामदगी के बाद दोनों को एनसीबी मुंबई जोनल यूनिट के दफ्तर में लाया गया।

पूछताछ में दोनों ने गांजा सेवन की बात कबूल कर ली। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने शनिवार शाम तक भारती सिंह को गिरफ्तार दिखा दिया और रविवार तड़के सुबह हर्ष लिंबाचिया को भी गिरफ्तार दिखया। दोनों को मेडिकल के बाद कोर्ट में पेश किया गया जहां दोनों को एनडीपीएस कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के तुरंत बाद दोनों ने जमानत की अर्जी दी। हालांकि, जमानत अर्जी पर तत्काल सुनवाई नहीं हो सकी भारती सिंह भायखला के महिला जेल में हैं जबकि हर्ष लिंबाचिया नवी मुंबई के तलोजा जेल में हैं। दोनों आज शाम तक जेल से बाहर आ सकते हैं।

12-11-2020
राणा कपूर की बेटी रोशनी को राहत,कोर्ट ने यस बैंक घोटाले मामले में दी जमानत

मुंबई। यस बैंक मामले में धोखाधड़ी के आरोपी राणा कपूर की बेटी रोशनी कपूर को मुंबई की एक मजिस्ट्रेट अदालत से गुरुवार को बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने 3700 करोड़ रुपए के कथित घोटाले के मामले में रोशनी कपूर को जमानत दे दी है। बता दें कि धोखाधड़ी मामले में कोर्ट ने पिछले महीने रोशनी को तलब किया था, इस केस में सीबीआई द्वारा दायर चार्जशीट में नामजद आठ लोगों में से एक नाम रोशनी का भी हैं। रोशनी के वकील सुभाष जाधव ने बताया कि उनके क्लाइंट को मजिस्ट्रेट की कोर्ट ने बेल दी है। बता दें कि कोर्ट ने सीबीआई द्वारा दायर चार्जशीट में सभी आठ आरोपियों को समन जारी कर अदालत में पेश होने का निर्देश दिया था।

इन लोगों को घोटाला मामले में गिरफ्तार नहीं किया गया था। रोशनी के वकील सुभाष के मुताबिक धोखाधड़ी से जुड़े मामले में कोर्ट ने जमानत दे दी है। बता दें कि यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर पर आरोप है कि उन्होंने रिश्वत के बदले में कुछ कंपनियों के ऋण मंजूर किए। कपूर, उनकी पत्नी और तीन बेटियों के खिलाफ कथित रूप से नियंत्रित कंपनी घोटाले से प्रभावित दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (डीएचएफएल) से जुड़ी एक इकाई से 600 करोड़ रुपये प्राप्त करने की जांच कर रही है। 

26-10-2020
नीरव मोदी की जमानत याचिका ब्रिटेन की अदालत ने की सातवीं बार खारिज

नई दिल्ली। ब्रिटेन की एक अदालत ने भगोड़े नीरव मोदी की जमानत याचिका सातवीं बार खारिज कर दी है। बता दें कि नीरव मोदी भारत में पंजाब नेशनल बैंक से 14 हजार करोड़ रुपए से अधिक के लोन की धोखाधड़ी और मनी-लॉन्ड्रिंग के मामले का आरोपी है और उसे भगोड़ा घोषित किया जा चुका है। वहीं इससे पहले इस महीने की शुरुआत में ब्रिटेन की अदालत ने चल रही प्रत्यर्पण की सुनवाई को तीन नवंबर तक के लिए बढ़ा दिया था, लेकिन नीरव मोदी बार-बार जमानत पाने के लिए याचिका लगा रहा है। हालांकि उसे इस बार भी सफलता नहीं मिल सकी। गौरतलब है कि लंदन की पुलिस ने 19 मार्च को नीरव मोदी को गिरफ्तार किया था और उसके बाद से वह लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में बंद है। वहीं वर्ष 2018 में पीएनबी घोटाले में नाम सामने आने से कुछ महीने पहले ही वह भारत से फरार हो गया था। भारत सरकार द्वारा नीरव मोदी के प्रत्यर्पण की हरसंभव कोशिश की जा रही है, ताकि जल्द से जल्द उसे भारत लाया जा सके।

 

 

07-10-2020
ड्रग्स कनेक्शन : शौविक की याचिका खारिज, रिया चक्रवर्ती को मिली जमानत

मुंबई। ड्रग्स मामले में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को बॉम्बे हाईकोर्ट ने बुधवार को सशर्त जमानत दे दी है। वहीं रिया के भाई शौविक की जमानत याचिका खारिज हो गई है। इसके अलावा ड्रग पेडलर बासित परिहार की जमानत याचिका को भी कोर्ट ने खारिज कर दिया है। रिया चक्रवर्ती को करीब एक महीने पहले एनसीबी ने 8 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। लेकिन अब रिया को जमानत मिल गई है। रिया को एक लाख के निजी मुचलके पर जमानत मिली है। उन्हें अपना पासपोर्ट जमा करना होगा। अगर उन्हें मुंबई से बाहर जाना है तो मंजूरी लेनी होगी। रिया को जब भी पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा उन्हें हाजिर होना होगा। हाल ही में सुशांत सिंह राजपूत से जुड़े ड्रग्स केस में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती को एक बार फिर से कोर्ट से बड़ा झटका लगा था। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद ड्रग्स मामले में गिरफ्तार सुशांत की प्रेमिका रिया चक्रवर्ती उनके भाई शौविक चक्रवर्ती सहित 18 लोगों की न्यायिक हिरासत 20 अक्टूबर तक बढ़ा दी थी।

17-06-2020
थप्पड़ कांड: सोनाली फोगाट हुईं गिरफ्तार, पेश की गईं अदालत में, मिल गई जमानत

नई दिल्ली। बहुचर्चित थप्पड़ कांड में कार्रवाई करते हुए भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट को बुधवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। सोनाली के साथ पांच अन्य आरोपी भी गिरफ्तार किए गए थे। सभी को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें जमानत मिल गई। सोनाली को 20 हजार रुपये के मुचलके पर जमानत मिली है।उधर, सोनाली फोगाट की गिरफ्तारी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मार्केट कमेटी सचिव सुल्तान सिंह ने कहा कि लोगों का उन्हें साथ मिला है, यह लोकतंत्र की जीत है। उन्हें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है और उन्हें न्याय जरूर मिलेगा। गौरतलब है कि पांच जून को हिसार जिले के बालसमंद में भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट द्वारा मार्केट कमेटी सचिव सुलतान सिंह को पीटा गया था। इस मारपीट का वीडियो भी वायरल हुआ था। सुलतान सिंह बिनैन खाप से आते हैं और मूल रूप से सच्चाखेड़ा गांव के ही हैं। ऐसे में उनकी खाप ने सुलतान सिंह का साथ देने का फैसला लिया है।

विवाद को लेकर सोमवार को तीसरी बार बिनैन खाप की पंचायत हुई थी। पंचायत में सरकार को अल्टीमेटम देते हुए फैसला लिया गया था कि 22 जून तक सोनाली फोगाट की गिरफ्तारी नहीं होती है तो 23 जून से खाप धरना शुरू कर देगी। इस कड़ी में कार्रवाई करते हुए बुधवार को पुलिस ने भाजपा नेत्री को गिरफ्तार कर लिया।बता दें कि भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट के खिलाफ हिसार कृषि मार्केट कमेटी सचिव सुल्तान सिंह की शिकायत पर कार्य में बाधा डालने तथा अन्य आरोपों के तहत मामला दर्ज हुआ है। सोनाली फोगाट व पांच अन्य आरोपियों पर आईपीसी की धारा 147,149,186,332,353 व 506 के तहत केस दर्ज किया गया है। अधिकारी ने फोगाट पर उन्हें चप्पल से पीटने का आरोप लगाया। इसके अलावा सुल्तान सिंह के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है, जिन पर सोनाली फोगाट ने अभद्र टिप्पणी करने का आरोप लगाया है।

 

 

16-04-2020
बाल संप्रेक्षण गृह से 22 बालक हुए जमानत पर रिहा

रायपुर/बिलासपुर। कोविड-19 के कारण शहर के बाल संप्रेक्षण गृह में रह रहे विधि से संघर्षरत 22 बालकों को हाईकोर्ट के निर्देश पर जमानत में रिहा कर उनके अभिभावकों को सौंपा गया है।कोविड-19 के फैलाव को रोकने देश भर में लॉक डाउन कर जेलों में बंद बंदियों को भी जमानत पर छोड़ने का निर्देश दिया गया। इसके तहत छत्तीसगढ़ की जेलों में बंद जमानत योग्य मामलो के विचाराधीन बंदियों को अंतरिम जमानत पर छोड़ा गया है। इसी कड़ी में छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यपालक अध्यक्ष जस्टिस प्रशांत कुमार मिश्रा ने बाल संप्रेक्षण गृह में रह रहे बालकों के सुरक्षा प्रबंध का निरीक्षण करने का निर्देश दिया। इसी कड़ी में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष जिला एवं सत्र न्यायाधीश एनडी तिगाला ने बाल संप्रेक्षण गृह का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में कोरोना से बचाव के लिए यहां उठाए गए कदम से संतुष्ट होते हुए विधि से संघर्ष कर रहे 22 बालकों को जमानत पर रिहा करने निर्देश दिया। गुरुवार को बालकों के अभिभवकों को बुलाकर उनके सुपुर्द किया गया।बाल संप्रेक्षण गृह बिलासपुर में 22 बालकों को रिहा करने के बाद 7 बालक ही शेष है। इन बालकों को एक कमरे में दो तीन की संख्या में रखने निर्देश दिया गया है। सभी को मास्क, सेनेटाइजर उपलब्ध कराया गया है। 

 

03-04-2020
पैरोल और अंतरिम जमानत पर छत्तीसगढ़ की जेलों से 584 कैदी रिहा, ये है कारण...

रायपुर। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए राज्य की विभिन्न जेलों से अब तक कुल 584 कैदियों को छोड़ा जा चुका है। इनमें से 391 कैदियों को अंतरिम जमानत पर, 154 कैदियों को पैरोल पर और 39 कैदियों को सजा पूरी करने पर विभिन्न जेलों से छोड़ा गया है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जेलों में कैदियों की संख्या कम करने का निर्णय लिया गया था। इससे जेलों में बंद कैदियों में कोरोना वायरस का खतरा कम किया जा सके। इसी क्रम में 2 अप्रैल तक इन कैदियों को कुछ शर्तों के अधीन अंतरिम जमानत और पैरोल पर छोड़ा गया है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804