GLIBS
01-08-2020
अवैध रूप से रेत परिवहन करने पर वाहनों को किया गया जब्त

गुंडरदेही। शहर में चेकिंग पॉइंट लगाकर पुलिस वाहनों की चेकिंग कर रही है। चेकिंग के दौरान अवैध रूप से रेत का परिवहन तथा वैध कागजात नहीं होने पर कई वाहनों को जब्त कर खनिज विभाग बालोद भेजा गया। एक ट्रक के द्वारा खतरनाक ढंग से वाहन के ऊपर पीछे अगल-बगल बेतरतीब ढंग से भूसा भरकर ले जाने पर उस पर विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई की गई और न्यायालय में पेश किया गया l

शब्बीर रिजवी की रिपोर्ट

20-07-2020
हेल्थ स्पेशल : खाली पेट इन चीजों के सेवन से बचे, सेहत के लिए है खतरनाक

रायपुर। हेल्दी बॉडी के चक्कर में कई लोग सुबह उठकर काली पेट अंकुरित अनाज और ड्राई फ्रूट्स खाते हैं जबकि कुछ ऐसे हैं जो खाली पेट फ्रूट्स खाते हैं। लेकिन खाली पेट बिल्कुल इन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। आपकी सेहत पर इसका काफी बुरा असर पड़ सकता है। एक्सपर्ट की माने तो जिन लोगों की भी पाचन शक्ति कमजोर है। उन्हें खाली पेट अमरूद का सेवन नहीं करना चाहिए। खाली पेट अमरूद का सेवन करने से पेट में गैस बनती है और पेट फूलने लगता है। सर्दियों में इसे खाली पेट खाएंगे तो पेट दर्द जैसी समस्‍या हो सकती है। इसी तरह टमाटर में बहुत अधि‍क मात्रा में अम्लीयता होती है। इस वजह से इसका अधिक इस्तेमाल एसिडिटी का कारण हो सकता है और इससे सीने में जलन की शि‍कायत रहने लगती है। टमाटर के बहुत अधिक सेवन से पेट दर्द और गैस की समस्या हो जाती है। 

सुबह भूलकर भी न करे खट्टे फलों का सेवन :

सुबह के समय खाली पेट खट्टे और फाइबर से युक्‍त फल जैसे अमरूद और संतरे आदि खाने से बचना चाहिए। इसका पाचन तंत्र पर अच्‍छा असर नहीं पड़ता। इसी तरह दही भी खाली पेट ना खाएं, वरना यह सेहत पर बुरा असर डाल सकता है।

27-05-2020
कोविड-19 को लेकर डब्ल्यूएचओ की बड़ी चेतावनी, कोरोना महामारी का दूसरा दौर होगा और भी खतरनाक 

नई दिल्ली। दुनिया भर में जानलेवा कोरोना वायरस का कहर जारी है। विश्व भर में नोवेल कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है। कोविड-19 दुनिया के 200 से अधिक देशों में फैल चुका है। दुनिया भर में इस वायरस से मरने वालों की संख्या तीन लाख 52 हजार से ज्यादा हो गई है और संक्रमितों की संख्या 56 लाख 84 हजार से ज्यादा हो गई है जबकि 24 लाख 30 हजार से ज्यादा लोगों ने कोरोना को मात दी है। इस महामारी से दुनिया में सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका में मृतकों की संख्या एक लाख को पार कर गई है और 17 लाख 25 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हैं। इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डल्बूएचओ) ने उन देशों को चेतावनी दी है जहां कोरोना संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक जहां मामले घट रहे है, वहां ये अचानक बढ़ भी सकते हैं।

इसलिए सिर्फ देखते न रहे। सरकारों को चाहिए कि वे महामारी रोकने के उपायों के साथ तैयार रहे। डब्ल्यूएचओ के इमरजेंसी प्रमुख डॉ. माइक रेयान ने कहा कि दुनिया कोरोना संक्रमण की पहली लहर से जूझ रही है। कई देशों में मामले घट रहे हैं। मध्य और दक्षिण अमेरिका, दक्षिण एशिया और अफ्रीका में मामले बढ़ रहे हैं। रेयान ने कहा कि महामारी वेब्स यानी लहरों के रूप में आती है। इसका मतलब है कि ये इसी साल उन क्षेत्रों में दोबारा आ सकती है, जहां मामले थम रहे हैं। अगर वर्तमान में चल रहे संक्रमण के पहले दौर को रोक भी लिया गया तो भी अगली बार संक्रमण की दर बेहद तेज हो सकती है। डॉक्टर रेयान के मुताबिक यह समझने की जरूरत है कि महामारी दोबारा उभर सकती है। हम सिर्फ ये मानकर नहीं बैठ सकते कि आंकड़ों में कमी आ रही और संकट कम हो रहा है। इसका दूसरा दौर भी आ सकता है।

24-05-2020
दंतैल हाथी को पहनाया गया कालर आईडी, खतरनाक दंतैल को किया गया ट्रेंकुलाइज

कोरबा। ट्रेंकुलाइज के लिए पीछा कर रही वन विभाग की टीम के हाथ हिंसक गणेश हाथी तो हाथ नहीं लगा,लेकिन रायगढ़ में आतंक का पर्याय बन चुके दंतैल हाथी कुदमुरा के जंगल में हाथ लग गया। कुमकी हाथी तीरथ राम की मदद से दंतैल को काबू में कर पहली बार छत्तीसगढ़ के वन विभाग की टीम ने ट्रेंकुलाइज कर रेडियो कॉलर आईडी लगाने में सफल रही हैं।इसके पहले तक देहरादून से टीम यहां पहुंचती थी और उनकी मदद से ट्रेंकुलाइज किया जाता रहा है। इस मामले में अब छत्तीसगढ़ आत्मनिर्भर हो गया है। पहली बार किसी हाथी को सफलतापूर्वक ट्रेंकुलाइज किए जाने की वजह से हाथी का नाम प्रथम रखा गया है।

18-05-2020
चक्रवाती तूफान 'अम्फन' का बढ़ा खतरा, पीएम मोदी आज करेंगे हाईलेवल बैठक

नई दिल्ली। बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती तूफान 'अम्फन' ने सोमवार को खतरनाक रूप ले लिया। चक्रवात अम्फन की स्थिति की समीक्षा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम 4 बजे गृह मंत्रालय और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ बैठक करेंगे। इस तूफान के कारण अब ओडिशा के तटीय इलाकों में तेज हवाएं चलने के साथ ही भारी बारिश हो सकती है। इस चेतावनी के बाद राज्य सरकार 11 लाख लोगों को इन इलाकों से निकालने की तैयारी में जुट गई है।

04-05-2020
जिस ऐप को केंद्र ने खतरनाक माना उसका ही इस्तेमाल करने जा रहे कौशिक : कांग्रेस

रायपुर। कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा है कि जिस ज़ूम चाइनीस ऐप को केंद्र सरकार ने खतरनाक माना है और खतरे की चेतावनी देते हुए राष्ट्रव्यापी एडवाइजरी जारी की है। उसी जूम ऐप का इस्तेमाल आज नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से की जाने वाली पत्रकारवार्ता के लिए कर रहे हैं। क्या धरमलाल कौशिक अपनी ही केंद्र सरकार के निर्देशों की अवहेलना नहीं कर रहे हैं? क्या धरमलाल कौशिक यह संदेश देना चाहते हैं कि वे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बड़े नेता हैं? कांग्रेस पार्टी भाजपा के राष्ट्रीय नेतृत्व  से यह मांग करती है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय की एडवाइजरी के खिलाफ जाकर एक खतरनाक चाइनीज ऐप का इस्तेमाल करने वाले नेता प्रतिपक्ष के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जाए, ताकि आम जनता में यह संदेश पहुंच सके कि केंद्र और राज्य सरकार के निर्देशों का पालन गंभीरतापूर्वक करना चाहिए।

04-04-2020
देश में 24 घंटों में आए कोविड-19 के 355 नए मामले  


 नई दिल्ली। देश में जानलेवा कोरोना वायरस से हाहकार मचा हुआ है। पूरी दुनिया में कहर मचाने वाले खतरनाक कोविड-19 का प्रकोप भारत में लगातार बढ़ता जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह 9 बजे तक के आंकड़ों के अनुसार पिछले 12 घंटों में देश में कोरोना वायरस से जुड़े 355 नए मामले सामने आए हैं। इससे देश में कोविड-19 के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 2,902 हो गई, जबकि मरने वालों की संख्या बढ़कर 68 हो गई है। बता दें कि शनिवार को उत्तर प्रदेश के आगरा में 25, राजस्थान में 12 और गोवा में एक नए मामले सामने आए हैं। वहीं, राजस्थान और मध्यप्रदेश में एक-एक की मौत हो गई है।

राजस्थान में 12 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं, जिनमें से दो बंसवाड़ा, दो चुरु, एक भीलवाड़ा, एक बीकानेर और 6 झुनझुनू से हैं। चुरु और झुनझुनू के पॉजिटिव केस तबलीगी जमात वाले हैं। बीकानेर केस में 60 वर्षीय महिला की कोरोना से मौत हो गई है। राजस्थान में अब कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 191 हो गई है। आगरा में 25 नए कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है, जिसके बाद यहां कोविड-19 लोगों की संख्या 45 हो गई है। वहीं मध्यप्रदेश के मोरेना में दस नए संक्रमित पाए गए हैं। कलेक्टर प्रियंका दास ने बताया कि सभी संक्रमित दुबई से लौटे संक्रमित युगल के रिश्तेदार हैं। हालांकि परिवार के 18 सदस्यों के रिपोर्ट नेगेटिव आए हैं।

01-02-2020
मुंबई में बेवजह हॉर्न पर पनिशिंग सिग्नल से लगाम की तैयारी

मुुंबई। दुनिया के सबसे ज्यादा ध्वनि प्रदूषण वाले शहरों में मुंबई का नाम भी शामिल है। मुंबई में होने वाले ध्वनि प्रदूषण में सबसे ज्यादा प्रदूषण ट्रैफिक सिग्नल के चलते ही होता है। ट्रैफिक पुलिस ने सड़क पर बेवजह हॉर्न बजाने वालों पर लगाम लगाने के लिए एक अनोखी पहल की है। कुछ वाहन चालक सिग्नल रेड होने के बावजूद भी हॉर्न बजाते रहते हैं। इनके लिए यह कदम उठाया गया है। देश की आर्थिक राजधानी में बढ़ते ध्वनि प्रदूषण पर लगाम लगाने के लिए उन ट्रैफिक सिग्नल पर डेसिबल मीटर लगाए हैं, जहां ज्यादा ट्रैफिक रहता है। पुलिस ने इस कैंपेन को पनिशिंग सिग्नल नाम दिया है।
ज्वॉइंट पुलिस कमिश्नर मधुकर पांडेय ने बताया कि डेसिबल मॉनिटर ट्रैफिक सिग्नल से जुड़े हुए हैं। ज्यादा हॉर्न बजाने से जैसे ही डेसिबल लेवल 85 के खतरनाक स्तर पर पहुंचेगा सिग्नल का टाइम दोबारा रिसेट हो जाएगा जिससे वाहन चालकों को सिग्नल पर दोगुना इंतजार करना पड़ेगा। एफसीबी इंटरफेस के साथ मिलकर हमने यह पहल की है। इससे बेवजह हॉर्न बजाने की समस्या पर कुछ काबू किया जा सके।
डेसिबल मीटर को मुंबई के प्रमुख जंक्शन जैसे छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस, मरीन ड्राइव, पेडर रोज, हिंदमाता सिनेमा दादर और बैंड्रा पर लगाया गया है। मुंबई पुलिस ने इस पहल को लेकर एक वीडियो भी शेयर किया है। अब यह वीडियो वायरल हो रहा है। मुंबई ट्रैफिक पुलिस की इस पहल की तारीफ करते हुए ध्वनि प्रदूषण के खिलाफ मुहिम चला रही सुमैरा अब्दुल अली ने कहा कि इतने सालों में पहली बार पुलिस ने कुछ ऐसा कदम उठाया है जिसकी हम इतने सालों से मांग कर रहे थे। एफसीबी ग्रुप चेयरमैन और सीईओ रोहित ओहरी ने कहा कि वाहन चालकों के बीच जागरुकता फैलाने और व्यवहार बदलने के लिए यह एक बहुत अच्छी पहल है।

27-01-2020
मछली ने किया युवक पर हमला, गर्दन से हुई आरपार, निडल फिश को हाथ में पकड़ अस्पताल पहुंचा घायल

नई दिल्ली। इंडोनेशिया में एक बेहद ही हैरान करने वाली खबर सामने आई है, जिसके बारे में जानकर आप भी सिहर उठेंगे। दरअसल, यहां एक मछली ने 16 साल के एक लड़के पर हमला कर दिया। यह हमला इतना खतरनाक था कि मछली का जबड़ा लड़के की गर्दन के आरपार चला गया, लेकिन इससे भी हैरान करने वाली बात ये है कि वो उसी हालत में मछली को पकड़े अस्पताल पहुंच गया और अपना इलाज करवाया। दिल दहला देने वाली यह घटना सुलावेसी प्रांत के दक्षिणी हिस्से में स्थित बुटोन गांव की है, जो पिछले शनिवार को घटी थी। दरअसल, 16 वर्षीय मोहम्मद ईदुल अपने एक दोस्त के साथ फिशिंग (मछली पकड़ना) करने गया था। इस दौरान दोनों बोट में बैठकर समुद्र में करीब आधा किलोमीटर अंदर चले गए। तभी एक 75 सेंटीमीटर लंबी निडल फिश ने मोहम्मद ईदुल की गर्दन पर हमला किया, जिससे उसका जबड़ा ईदुल की गर्दन में धंस गया। अब इसके बाद मछली उसके गर्दन से अपना जबड़ा बाहर निकालती, उससे पहले ही ईदुल ने उसे अपने हाथ से पकड़ लिया।

फिर ईदुल अपने दोस्त की मदद से समुद्र के किनारे पहुंचा, जिसके बाद वह गांव के ही एक अस्पताल में पहुंचा। लेकिन अस्पताल के पास इलाज के लिए पर्याप्त साधन नहीं थे, इसलिए ईदुल को मकास्सर के प्रांतीय अस्पताल में रेफर कर दिया गया। गांव से इस प्रांतीय अस्पताल में पहुंचने में ईदुल को 90 मिनट लगे। इस दौरान उसने मछली को पकड़े रखा था। फिर डॉक्टरों ने सर्जरी की और मछली के जबड़े को ईदुल की गर्दन से बाहर निकाला। फिलहाल उसकी हालत ठीक है।

वहीं डॉक्टरों का कहना था कि इससे पहले उन्होंने ऐसा हैरान करने वाला मामला कभी नहीं देखा था। ईदुल की गर्दन की धंसी निडल फिश की तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं। हालांकि यह पहला मामला नहीं है जब किसी निडल फिश ने इंसान पर हमला किया हो। इससे पहले साल 2018 में भी एक निडल फिश ने थाईलैंड के एक नौसैनिक की गर्दन पर हमला बोल दिया था और अपना जबड़ा उसकी गर्दन में धंसा दिया था। इस हमले में नौसैनिक की मौत हो गई थी। 

 

03-09-2019
बढ़ते आवारा कुत्ते और मंडराता बच्चों पर मौत का खतरा

रायपुर। आवारा कुत्तों की संख्या पर नियंत्रण रखने के लिए किए गए उपाय अब तक कारगर साबित नहीं हुए है और उनकी संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। अपने ही शहर रायपुर में आवारा कुत्तों ने एक नही कई बार बच्चो पर हमला कर उन्हें ज़ख़्मी किया है और एक बार तो एक मासूम को ज़िंदा ही नोच कर खा चुके हैं। आवारा कुत्तों की नसबंदी का अभियान पता नही कहां और कैसे चलाया जाता है मगर एक बात तो तय है उससे आवारा कुत्तों की संख्या नियंत्रित होने की बजाए बढ़ती ही दिख रही है। शहर के किसी भी इलाक़े में आवारा कुत्तों का झुंड बेखौफ खौफ फैलाता नज़र आ जायेगा। कुत्तों के झुंड कई बार बछड़ों व सुअर के बच्चों पर जिस तरह घेर कर हमला करते दिखते है, वो बेहद खतरनाक है। आवारा कुत्तों को पकड़ कर दूसरे इलाके में छोड़ने की मुहिम का भी अता पता नहीं है। सड़क पर आते जाते वाहन चालकों को भी अचानक आवारा कुत्तों का झुंड दौड़ा देता है, जिससे गम्भीर दुर्घटना की आशंका बनी रहती है।

14-08-2019
बड़े और खतरनाक कारखानों का होगा संयुक्त निरीक्षण :  कलेक्टर पाठक

जांजगीर-चांपा। जांजगीर-चांपा कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक ने आज यहां बताया कि जिले में स्थापित बड़े और खतरनाक कारखानों में नियोजित श्रमिकों की कार्य के दौरान होने वाले प्राणांतक एवं गंभीर दुर्घटनाओं की रोकथाम तथा दुर्घटनाओं के पश्चात कारखानों में निर्मित हो सकने वाली किसी अप्रिय स्थिति को रोकने के लिए अपर कलेक्टर के नेतृत्व में गठित टास्कफोर्स द्वारा कारखानों का संयुक्त निरीक्षण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिले के ग्राम हथनेवरा पोस्ट चांपा में मेसर्स प्रकाश इंडस्ट्रीज लिमिटेड, ग्राम बनारी नैला में मेसर्स श्याम वेयर हाउसिंग एण्ड पावर प्राइवेट लिमिटेड, ग्राम अमझर पोस्ट चांपा में मेसर्स छत्तीसगढ़ स्टील एण्ड पावर लिमिटेड, ग्राम बिरगहनी चांपा में मेसर्स मध्यभारत पेपर्स लिमिटेड, गोपालनगर में मेसर्स नुवोको बिस्टास कार्पोरेशन लिमिटेड (लाफार्ज इंडिया लिमिटेड), सक्ती में मेसर्स डी मनोहरलाल सैलाख प्राइवेट लिमिटेड, विकासखण्ड डभरा के ग्राम बड़ादरहा में मेसर्स डीबी पावर लिमिटेड, तहसील अकलतरा के ग्राम नरियरा में मेसर्स केएसके महानदी पावर लिमिटेड, ग्राम महुदा में मेसर्स शांति जीडी इस्पात एण्ड पावर प्राइवेट लिमिटेड, तहसील डभरा घुरकोट के ग्राम उचपिंडा में मेसर्स आर के एम पावरजने प्राइवेट लिमिटेड, ग्राम तेन्दूभांठा पोस्ट सरखों में मेसर्स 2म500 मेगावाट मड़वा तेन्दूभांठा थर्मल पावर प्रोजेक्ट, ग्राम मड़वा पोस्ट बसंतपुर में मेसर्स शौर्य रिसायकलिंग प्राइवेट लिमिटेड, ग्राम बनारी में मेसर्स श्याम ऑयल एक्ट्रेशन प्राइवेट लिमिटेड और ग्राम मड़वा तहसील चांपा में मेसर्स महिन्द्रा पावर प्राइवेट लिमिटेड की कारखाने स्थापित है। यहां विभिन्न प्रकार के निर्माण किए जाते हैं। कलेक्टर पाठक ने अपर कलेक्टर को जिले में स्थापित इन कारखानों का निरीक्षण कर निरीक्षण प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804