GLIBS
18-01-2021
अगर प्राइवेसी पॉलिसी से हो रहा है निजता का उल्लंघन तो डिलीट कर दें वाट्सऐप : दिल्ली हाईकोर्ट

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने वाट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर दायर एक याचिका पर सोमवार को सुनवाई की। न्यायालय ने कहा कि अगर आपकी निजता प्रभावित हो रही है, तो आप वाट्सऐप डिलीट कर दीजिए। याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में कहा था कि व्हाट्सएप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर सरकार को एक्शन लेना चाहिए, ये निजता का उल्लंघन है। वाट्सऐप जैसा प्राइवेट ऐप आम लोगों से जुड़ी व्यक्तिगत जानकारियों को साझा करना चाहता है, जिस पर रोक लगाने की जरूरत है। इसपर दिल्ली हाईकोर्ट की ओर से कड़ी टिप्पणी की गई। दिल्ली उच्च न्यायालय ने कहा कि यह एक प्राइवेट एप है, अगर आपकी निजता प्रभावित हो रही है, तो आप वाट्सऐप को डिलीट कर दीजिए। न्यायालय ने कहा कि क्या आप मैप या ब्राउजर इस्तेमाल करते हैं?  उसमें भी आपका डाटा शेयर किया जाता है।

व्हाट्सएप की प्राइवेसी नीति को लागू करने के खिलाफ एक वकील ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका लगाई है। याचिका में कहा गया है कि ये संविधान द्वारा दिए गए मौलिक अधिकार के खिलाफ है। इसलिए हम इस मामले में चाहते हैं कि कड़ा कानून बने। यूरोपीय देशों में इसको लेकर कड़े कानून हैं, इसलिए व्हाट्सएप की पॉलिसी वहां पर अलग है और भारत में कानून सख्त ना होने के कारण आम लोगों के डाटा को थर्ड पार्टी को शेयर करने पर ऐसे एप को कोई दिक्कत नहीं है। अदालत में वाट्सऐप की ओर से मुकुल रोहतगी ने दलील दी। उन्होंने कहा कि इसका इस्तेमाल पूरी तरह से सुरक्षित है और लोगों की निजता का ध्यान रखा जा रहा है। दो दोस्तों की आपसी बातचीत को किसी भी थर्ड पार्टी को नहीं शेयर किया जाएगा। ये सिर्फ वाट्सऐप बिजनेस से जुड़े ग्रुप के लिए है,जिसमें डाटा और रुचि को देखकर उसे बिजनेस के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। 

 

11-01-2021
केन्द्र सरकार पर उच्चतम न्यायालय की तल्ख टिप्पणी से किसानों और कांग्रेस की बात पर लगी मुहर : विकास उपाध्याय

रायपुर। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव विकास उपाध्याय ने कहा है कि उच्चतम न्यायालय की तल्ख टिप्पणी ने किसानों और कांग्रेस की बात पर मुहर लगा दी है। रायपुर पश्चिम से विधायक विकास उपाध्याय ने बयान जारी किया है। उन्होंने कृषि कानूनों पर सुनवाई के बीच सोमवार दोपहर मोदी सरकार पर उच्चतम न्यायालय की तल्ख टिप्पणियों को केन्द्र सरकार के लिए बेहद ही शर्मनाक बताया है। विकास ने कहा है कि यह टिप्पणी उस बात पर न्यायालय की मुहर है,जिसे देश भर के किसान व कांग्रेस पार्टी सहित अन्य 24 राजनैतिक पार्टियां विरोध करते आ रही है। कृषि कानून और किसानों के प्रदर्शन से जुड़ी याचिकाओं की सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस ने मौजूदा परिस्थिति को निराशाजनक बताया है। कानूनों पर कुछ वक़्त के लिए रोक क्यों ना लगाया जाए ये सवाल अटर्नी जनरल से पूछा है।
विकास उपाध्याय ने कहा कि मोदी सरकार को अब किसानों के हित को लेकर अपनी जिद छोड़ देनी चाहिए। तीनों कृषि कानूनों को रद्द कर देना चाहिए। उन्होंने ये भी कहा ,चूंकि इन कानूनों का सबसे पहले विरोध करने वालों में हमारे नेता राहुल गांधी थे। यही वजह है कि मोदी सरकार ने इसे अपनी प्रतिष्ठा का सवाल बना लिया। जबकि केन्द्र सरकार को चाहिए था कि वह विपक्ष के सुझाये देश हित की बातों को गंभीरता से लेती न कि किसानों के साथ व्यक्तिगत दुश्मनी की तरह पेश आती। भाजपा की इस तरह की रणनीति सीधा-सीधा लोकतंत्र की हत्या करना जैसा है,जो ज्यादा समय तक नहीं चलने वाली। विकास उपाध्याय ने कहा,जो हाल अमेरिका में ट्रम्प का हुआ वही हाल भारत में मोदी का होने वाला है।

16-12-2020
इंदिरा बैंक संघर्ष समिति ने नार्को टेस्ट की सीडी न्यायालय में पेश करने के निर्णय का किया स्वागत

रायपुर। इंदिरा बैंक घोटाला मामले में नार्को टेस्ट की सीडी न्यायालय में पेश किए जाने का निर्णय अंतत: इंदिरा बैंक के खातेदारों को न्याय दिलाने की दिशा में बढ़ता एक कदम है। इंदिरा बैंक संघर्ष समिति के अध्यक्ष कन्हैया अग्रवाल ने कहा है कि समिति ने लगातार नार्को टेस्ट की सीडी को न्यायालय में पेश करने के लिए प्रत्येक स्तर पर प्रयास किया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल,गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू सहित पुलिस महानिदेशक पुलिस महानिरीक्षक और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मिलकर भी नार्को टेस्ट की सीडी न्यायालय में पेश करने की मांग की गई थी। अंतत पुलिस की ओर से सीडी न्यायालय में पेश करने का निर्णय लिया गया है। इंदिरा बैंक संघर्ष समिति इसका स्वागत करती है। इस पर शीघ्र कार्रवाई हो व खातेदारों का बकाया जमा राशि मिले यही अपेक्षा करते हैं।

 

 

13-12-2020
भालू का शिकार और अंगों की अवैध तस्करी मामले में आरोपी महिला को किया गया न्यायालय में प्रस्तुत

रायपुर\कांकेर। वनमण्डल कांकेर के परिक्षेत्र कांकेर अंतर्गत उप परिक्षेत्र पुसवाड़ा के पटौद परिसर के ग्राम बेवरती के खार में परसूराम पिता रतिराम के खेत में एक भालू के मृत अवस्था में पड़े होने की सूचना प्राप्त होने पर वन विभाग के अधिकारी के माध्यम से घटना स्थल पर पहुंचकर मौके पर निरीक्षण किया गया। परीक्षण उपरांत पंचनामा तैयार कर मृत भालू का पोस्टमार्डम कराया गया। परिसर रक्षक पटौद के माध्यम से वन्यप्राणी भालू का अवैध शिकार तथा अंगो की अवैध तस्करी संबंधी अपराध के लिए 8 दिसंबर दर्ज किया गया। अपराध विवेचना के दौरान परिक्षेत्र अधिकारी कांकेर के माध्यम से घटना स्थल में खून लगे 2 नग लकड़ी के टुकड़े बरामद किये गये, जिसके आधार पर अचानकमार टाईगर रिजर्व के डॉग स्कावड की मदद से अपराध महिला को पकड़ा गया। जिनके के माध्यम से उक्त भालू के मांस और नाखून काटकर लाना कबूल किया गया। वन मण्डलाधिकारी कांकेर से प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपी महिला को  न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया।

 

 

02-12-2020
मानव तस्करी मामले में एक और आरोपी राजस्थान से गिरफ्तार

डोंगरगढ़। जिले में पिछले दिनों हुए मानव तस्करी के मामले के खुलासे के बाद से लगातार आरोपियों की गिरफ्तारी का सिलसिला जारी है। दुर्ग आईजी ने इस के लिए एक टीम बनाई है, जो इस मामले की जांच और आरोपियों कि पतासाजी में लगी हुई है। वहीं बुधवार को राजस्थान और हरियाणा गई पुलिस टीम को पांच दिनों के प्रयास के बाद आरोपी सुरेश को राजस्थान के पिलौद जिला झुनझुन से गिरफ्तार किया है। वहां से उसे डोंगरगढ़ ट्रांजिट रिमांड पर लाया गया। थाना प्रभारी अलेक्जेंडर किरो ने बताया कि आरोपी सुरेश ही वह व्यक्ति है, जिसे पीड़िता महिला को पूर्व में पकड़े गए 5 आरोपियों ने बेचा था। आरोपी को आज न्यायालय में पेश किया जाएगा।

20-11-2020
कोंडागांव में इन दोनों ने विवाह पंजीकरण के लिए आवेदन किया है, अगर किसी की असहमति हो तो आपत्ति दर्ज करा सकते हैं

रायपुर/कोण्डागांव। विवाह पंजीयन के विरूद्ध आपत्ति आवेदन के​ लिए सूचना जारी है। न्यायालय अपर कलेक्टर व विशेष विवाह अधिकारी के अनुसार ओमप्रकाश उम्र 26 वर्ष और राजबती शोरी उम्र 30 वर्ष से विशेष विवाह अधिनियम 1954 के अध्याय-5 के तहत विवाह पंजीकरण के लिए आवेदन प्रस्तुत किया गया है। इस प्रस्तावित पंजीकरण के विरुद्ध कोई भी व्यक्ति यदि आपत्ति दर्ज कराना चाहता हो तो लिखित आपत्ति 16 दिसंबर के पूर्व न्यायालय अपर कलेक्टर में प्रस्तुत कर सकता है। निर्धारित अवधि के बाद प्राप्त आपत्ति आवेदन पर कोई सुनवाई नहीं की जाएगी।

17-11-2020
कोरोना संकट काल में बंद अदालतों का काम मंगलवार से हुआ शुरू

बिलासपुर\रायपुर। कोरोना संकटकाल में बंद न्यायालयों का काम मंगलवार से फिर शुरू हुआ। अदालतों का काम रोटेशन आधार पर शुरू किया गया है। वहीं बिलासपुर हाईकोर्ट में सुनवाई की प्रक्रिया मंगलवार से शुरू हुई। कोरोना महामारी को देखते हुए हाईकोर्ट में कुल 15 बैंच में काम होगा। इसमें 3 डबल बैंच तो 12 सिंगल बैंच में कार्य होगा। प्रदेश के अन्य न्यायालयों में रोटेशन प्रक्रिया के तहत कार्य होगा। इनमें रायपुर, दुर्ग और बिलासपुर शामिल हैं। अदालतों में कार्य के दौरान गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। न्यायालयों में सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क लगाकर आना होगा। 

 

02-11-2020
जिला शिक्षा अधिकारी को हाईकोर्ट ने दिया अवमानना का नोटिस

रायपुर/बिलासपुर। ​हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी शासकीय शिक्षक को समयमान वेतनमान का लाभ नहीं देने को लेकर दायर अवमानना याचिका की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने बलौदाबाजार के जिला शिक्षा अधिकारी को अवमानना का नोटिस जारी किया है। गौरतलब है कि बलौदाबाजार जिले के रामकुमार ध्रुव शासकीय विद्यालय में शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं। शासन के आदेश के बाद भी उन्हें उच्च वेतनमान नहीं मिल रहा था। इस संबंध में उन्होंने विभाग के अफसरों के समक्ष आवेदन पत्र प्रस्तुत किया।

फिर भी कोई पहल नहीं की गई। इस पर उन्होंने हाईकोर्ट में याचिका दायर की।बीते जनवरी माह में सुनवाई के बाद 60 दिनों के भीतर विभाग को मामले का निराकरण करने का आदेश दिया था। लेकिन निर्धारित समय के बाद भी विभाग ने उनके अभ्यावेदन का निराकरण नहीं किया। इस पर याचिकाकर्ता ने अपने वकील दीपाली पांडेय व अतुल पांडेय के माध्यम से अवमानना याचिका दायर कर दी। जस्टिस गौतम भादुड़ी की एकलपीठ ने मामले की प्रारंभिक सुनवाई के बाद बलौदाबजार के जिला शिक्षा अधिकारी सीएस ध्रुव को न्यायालय की अवमानना नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

31-10-2020
दो अलग-अलग जगहों पर लूट करने वाले दो आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे

धमतरी। अलग-अलग दो जगहों पर लूट करने वाले दो आरोपियों पुलिस ने गिरफ्तार किया है।आरोपियों से लूट का 1 मोबाइल, नगदी रकम एवं घटना में प्रयुक्त चाकू व मोटरसाइकिल बरामद की है। 29 अक्टूबर को प्रार्थी आदित्य सोनी निवासी रामसागर पारा धमतरी ने थाना कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि गुरुवार की रात्रि मोहल्ले के दद्दू रजक व सागर ढीमर एक मोटरसाइकिल में आए और उसे धक्का मारकर जमीन में गिरा दिए तथा उसके जेब में रखे 2250/-रुपये को जबरदस्ती लूट लिये। सागर ढीमर ने चाकू निकालकर उस पर हमला करके भाग गए। इसी प्रकार प्रार्थी शशांक सिंह निवासी कोष्टापारा धमतरी ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि टिकरापारा आमातालाब रोड में रात को एक अज्ञात व्यक्ति मोटरसाइकिल से आया और उसे चाकू दिखाकर मोबाइल को लूट लिया। विरोध करने पर चाकू से उसके जांघ में वार करके भाग गया।

दोनों ही मामलो पर अज्ञात आरोपी के विरुद्ध धारा 394 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। पता तलाश के दौरान मुखबिर से सूचना के आधार पर घेराबंदी करते हुए सागर ढीमर व नंदकुमार उर्फ दद्दू रजक को अभिरक्षा में लेकर कड़ाई से पृथक-पृथक पूछताछ की गई। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने की अपराध स्वीकार किया। सागर ढीमर के कब्जे से लूटा हुआ मोबाइल एवं घटना में प्रयुक्त चाकू बरामद किया गया। आरोपी नंद कुमार रजक के कब्जे से लूटी गई रकम, घटना में प्रयुक्त चाकू एवं मोटरसाइकिल को बरामद किया। साथ ही आरोपियों की शिनाख्त कार्यवाही भी कराई गई। दोनों मामलों में पृथक-पृथक गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड के लिए न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा।

 

30-10-2020
दुष्कर्म मामले में पुलिस ने 7 दिन में जांच की पूरी, न्यायालय के समक्ष किया चालान

जगदलपुर। दुष्कर्म के मामले में पुलिस ने विवेचना पूरी कर न्यायालय में चालान पेश किया है। कुछ दिनों पहले 3 वर्षीय बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म मामले में पुलिस ने 7 दिनों में ही चालान पेश कर दिया है। बोधघाट थाना प्रभारी राजेश मरई ने बताया कि पुलिस अधीक्षक दीपक झा एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश शर्मा एवं नगर पुलिस अदिक्षाक हेमसागर सिदार के नेतृत्व में विवेचना करते हुए सात दिनों के अंदर जांच पूरी की गई। गौरतलब है कि 22 अक्टूबर को 3 वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ था। इसके बाद बोधघाट पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल जांच शुरू की और दूसरे ही दिन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। सात दिन के भीतर जांच पूरी करते हुए 29 अक्टूबर को पुलिस ने न्यायालय में चालान पेश किया।

सुभाष रतनपाल की रिपोर्ट  

28-10-2020
अश्लील मैसेज भेजने वाला आरोपी गिरफ्तार

बेमेतरा। मोबाइल से अश्लील मैसेज करने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बीते दिनों बेमेतरा सिटी कोतवाली में एक युवती ने लिखित आवेदन देकर बताया कि कुछ दिनों से कोई व्यक्ति मेरे नाम से अश्लील मैसेज मामा के मोबाइल पर भेज रहा है। युवती की शिकायत पर पुलिस अपराध पंजीबद्ध कर जांच कार्यवाही में लग गई। इसमें पुलिस टीम को पता चला कि बिलासपुर जिला अंतर्गत बिल्हा के रहने वाले आरोपी शंकर पटेल ने अश्लील मैसेज युवती के नाम से भेजा जा रहा है। उसे पकड़कर पूछताछ करने पर आरोपी ने अपराध करना कबूल किया। वही पुलिस ने आरोपी को न्यायालय पेश किया, जहाँ से आरोपी को जेल भेजा गया।

27-10-2020
अधिवक्ता ने कोर्ट में वाहन मालिक की जगह बेटे को किया खड़ा और पकड़ा गया, जूनियर, फर्जी मालिक फरार

कोरबा। सुपुर्दनामा के लिए अधिवक्ता ने वाहन मालिक की जगह बेटे को न्यायालय में खड़ा कर दिया। दरअसल ट्रेलर वाहन की जब्ती के मामले में न्यायालय से सुपुर्दनामा पर प्राप्त करने के लिए वाहन मालिक की जगह उसके पुत्र को मालिक बनाकर खड़ा करने के मामले में मुख्य आरोपी अधिवक्ता को जेल दाखिल कराया गया है। जबकि जूनियर और फर्जी मालिक फरार है।मिली जानकारी के अनुसार फरवरी माह में हरदीबाजार चौकी पुलिस के द्वारा सड़क पर बेतरतीब तरीके से ट्रेलर वाहन क्रमांक सीजी -12 एफ-6148 को खड़ी करने पर धारा 283 भादवि का जुर्म दर्ज वाहन की जब्ती की गई थी। इस वाहन को सुपुर्दनामा आदि के संबंध में वाहन मालिक रामफल शर्मा के द्वारा अधिवक्ता राजेश राठौर निवासी टॉवर मोहल्ला पाली को नियुक्त किया गया। न्यायिक दण्डाधिकारी प्रथम श्रेणी, पाली के समक्ष सुपुर्दनामा के लिए अधिवक्ता राजेश राठौर, जूनियर अधिवक्ता ने आवेदन प्रस्तुत किया।

इस दौरान मूल वाहन स्वामी रामफल शर्मा के स्थान पर उसके पुत्र विकास वशिष्ठ को रामफल शर्मा बनाकर न्यायालय में उपस्थित कराया गया और छलपूर्वक सुपुर्दनामा आदेश पारित करा लिया। कार्यवाही के दौरान वाहन मालिक का आधार कार्ड, आईडी प्रूफ आदि में से कोई एक दस्तावेज पेश करने कहा गया जो तत्काल नहीं होने की बात कह लाकर जमा कराने का झांसा दिया। इसके बाद दस्तावेज नहीं सौंपे गए। न्यायालय ने छल होना जानकर इसकी जांच का निर्देश पाली थाना को दिया। पुलिस ने जांच के दौरान पाया कि मूल वाहन स्वामी के स्थान पर उसके पुत्र को वाहन स्वामी बताकर छलपूर्वक सुपुर्दनामा पारित कराया है। अधिवक्ता राजेश राठौर उसकी जूनियर अधिवक्ता एवं विकास वशिष्ठ के विरूद्ध विभिन्न धाराओं के तहत जुर्म दर्ज कर आरोपी राजेश राठौर को गिरफ्तार कर जेल भेजा। पाली टीआई लीलाधर राठौर ने बताया कि प्रकरण के 2 आरोपी फरार है, जिनकी तलाश की जा रही है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804