GLIBS
Prisoner Death : हत्या के आरोप में आजीवन कारावास की सजा काट रहे कैदी की मौत

अम्बिकापुर। जिले के केंद्रीय जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे कैदी की मौत हो गई है।

जानकारी के अनुसार लुंड्रा थाना क्षेत्र के ग्राम माझा निवासी सोला राम (40) हत्या के मामले में वर्ष 2008 से सेंट्रल जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहा था। गत दिनों उसकी तबीयत खराब होने पर उसे इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान आज सुबह उसकी मौत हो गई।

डॉक्टरों ने बताया कि मृतक कैदी को खून की कमी थी जिससे उसकी मौत हुई। फिलहाल अस्पताल पुलिस चौकी ने इसकी सूचना कैदी के परिजनों को दे दी है। उनके पहुंचने पर व तहसीलदार SDM की उपस्थिति में कैदी के पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को शव सौंप दिया जाएगा।

Shivraj Singh : सीएम शिवराज सिंह को जान से मारने की धमकी देने वाले दो भाई गिरफ्तार

भोपाल। मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह को जान से मारने की धमकी देने वाले दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों युवकों ने सोशल मीडिया पर धमकी भरी पोस्ट जारी की थी। दोनों ही सगे भाई हैं।

जानकारी के अनुसार दोनों भाइयों ने 2 अगस्त से 7 अगस्त के बीच 5 बार पोस्ट कर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को जान से मारने की धमकी दी थी। ट्वीटर पर इन युवकों ने लिखा था कि यदि मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा और वे मुख्यमंत्री सिवनी आए तो जान से मार दिया जाएगा।

गिरफ्तार किये गए युवक का नाम जीतेन्द्र अर्जुनवार और भारत अर्जुनवार है, यह दोनों सिवनी जिले के बरघाट गांव के रहने वाले है, आश्वासन के बाद भी मदद न मिल पाने से नाराज युवक ने ट्वीटर पर धमकी भरे पोस्ट किये जिसके बाद साइबर सेल एक्टिव हो गया और सुरक्षा के मद्देनजर दोनों को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।

एक आरोपी जितेंद्र का पाकिस्तान से भी संबंध है। वह पाकिस्तान की जेल में बंद रह चुका है। जितेंद्र मई 2018 में ही पाकिस्तान से रिहा होकर भारत आया था।

 

 

Accident : जंगल मे लकड़ी लेने गए ग्रामीण को हाथियों ने कुचला, दुसरे ने भागकर बचाई जान

अम्बिकापुर। हाथियों का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है। वनपरिक्षेत्र उदयपुर अंतर्गत रमपुरहिन घुटरी जंगल मे आज तड़के हाथियों के दल ने धावा बोलकर एक ग्रामीण को कुचलकर मार डाला। हाथियों के आतंक से ग्रामीण डरे व सहमे हुए हैं। 

जानकारी के अनुसार सुबह 5 बजे  ग्राम अमगसी निवासी लक्ष्मी प्रसाद उर्फ करमु जंगल में लकड़ी लेने के लिए गया हुआ था इसी दौरान 6 हाथियों के दल ने उस पर हमला बोल दिया और लक्ष्मीप्रसाद को कुचल कर बुरी तरह से मार डाला। हमले में उसी वक्त जंगल मे मौजूद एक व्यक्ति लबदु पत्थर की ओट लेकर किसी तरह से बच पाया है । घटना की जानकारी चौकीदार के दिए जाने पर वन अमला तत्काल पहुंचा। पुलिस विभाग की टीम भी मौके पर पहुंची। हाथियों के उसी जंगल में होने से शव को लाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

हाथियों का दल लखनपुर वन परिक्षेत्र के ग्राम मांजा से होते हुए वन परिक्षेत्र उदयपुर की सरहद पर स्थित रमपुरहिन घुटरी पहुंचे हुये है।

वन विभाग ने कराई थी मुनादी

वन विभाग ने शनिवार की शाम में हाथियों के संभावित विचरण क्षेत्र जजगा के लोगों को सूचित कर दिया गया था तथा जंगल आसपास निवास करने वाले लोगों को सुरक्षित जगहों पर जाने की सलाह पर आसपास के लोग वहाँ से किनारे चले गए थे।

वन परिक्षेत्र लखनपुर में मचा रहे थे उत्पाद

हाथियों का दल पिछले कुछ दिनों से वन परिक्षेत्र लखनपुर में उत्पात मचाते हुए कई ग्रामीणों के घरों को तोड़ दिया वही फसलों को भी रौंद डालें जिससे  ग्रामीण दहशत के साए में जीने के लिए मजबूर है।

पीड़ित परिवार को दिया गया मुआवजा

वन विभाग ने मृतक के परिजनों को 25 हजार रूपये की तात्कालिक आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई तथा मुआवजा प्रकरण तैयार कर शेष राशि तीन लाख पचहत्तर हजार रुपये उपलब्ध कराने की बात कही गयी।

मौके पर थे यह लोग लोग उपस्थित

घटना स्थल पर एसडीओ फ़ॉरेस्ट एस बी चंदेल, थाना प्रभारी एसके केरकेट्टा, राजस्व अमला तहसीलदार सुधीर खलखो, पटवारी धनेश्वर सिंह, उपेंद्र सिंह, वन विभाग के श्याम बिहारी सोनी, विश्वास दास वैष्णव, मिट्ठू राजवाड़े वनपाल, कमलेश राय उप वन क्षेत्रपाल, वन रक्षक गिरीश बहादुर सिंह, दिनेश तिवारी, बुधसाय राजवाड़े, ऋषि कुमार, दलगंजन यादव, महेंद्र राम, मनोज कुमार, मौजूद रहे। मौके पर पहुंच के जनपद अध्यक्ष राजनाथ सिंह, मण्ड़ल अध्यक्ष राधेश्याम सिंह, अजित सिंह एवं अन्य जनप्रतिनिधियों ने मृतक के परिजनों को ढांढस बंधाया।

Surrender : तीन लाख के इनामी नक्सली ने हथियार समेत किया आत्मसमर्पण

कोण्डागांव। पुलिस को नक्सलियों के खिलाफ चला रहे अभियान में बड़ी सफलता हाथ लगी है। 3 लाख के एक और इनामी नक्सली ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है। उसके खिलाफ 22 अपराधों में उसका नामजद है।

जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक कोण्डागांव के मार्गदर्शन में एसआईबी जगदलपुर के अधिकारी/कर्मचारी ने कुदूर जनताना सरकार अध्यक्ष बालकू को आत्मसमर्पण हेतु लगतार प्रेरित करने पर वह जिला कोण्डागांव  में आत्मसमर्पण किया है। जिस पर शासन द्वारा 03 लाख रूपये का ईनाम घोषित किया गया है। जो काफी समय से मर्दापाल क्षेत्र में सक्रिय था। उसके खिलाफ निम्नाकिंत 22 अपराधो में नामजद होना बताया गया है।

Arrested : कार चुराने वाला शातिर नाबालिग गिरफ्तार

रायपुर। इंडिका विस्टा कार चोरी करने वाला एक शातिर अपचारी बालक को क्राईमब्रांच की टीम ने गिरफ्तार किया है। चोरी करने के बाद अपचारी बालक ने कार को घर के पीछे कपड़ों से ढक कर खड़ी कर दिया था। 
क्राईमब्रांच से मिली जानकारी के अनुसार परमेश्वर मेश्राम प्राईवेट ठेकेदार के अंडर में बिजली ऑफिस में वाहन चालक का काम करता है।

परमेश्वर के पास पुरानी इंडिका विस्टा कार क्रमांक सीजी 10 एफए 1586 है। जिसे वह घर के पास पार्किंग के लिए जगह नहीं होने पर बूढ़ापारा बिजली ऑफिस के पास पार्किंग में रखता है। 25 जुलाई के दोपहर परमेश्वर बिजली ऑफिस के सामने अपनी कार को खड़ी कर ऑफिस के टेबल पर कार का चाबी रख दिया और चेयर पर बैठे-बैठे उसकी आंख लग गई।

तभी 17 वर्षीय एक अपचारी मौका पाकर टेबल पर रखे चाबी उठाया और कार लेकर वहां से भाग निकला। जिस पर परमेश्वर ने इसकी शिकायत कोतवाली थाने में की। मामले में पुलिस ने घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज का अवलोकन किया तो उसमें अपचारी बालक कार को चोरी कर ले जाते दिखा। पुलिस ने फुटेज में दिखे हुलिए के आधार पर अपचारी बालक को पकड़कर पूछताछ किया तो उसने बताया कि चोरी किए कार को वह अपने घर के पीछे छिपाकर रखा है। पुलिस ने आरोपी के पास से कार बरामद कर लिया है।

शार्ट सर्किट से रुई दुकान में लगी आग, लाखों का नुकसान

कोटा। कोटा थाना के सामने खत्री रुई भंडार की दुकान में शार्ट सर्किट से अचानक आग लग गई। आग की बढ़ती लपटों को देखते हुए आसपास के दुकानदारों में हड़कंप गया। आग से दुकान का लाखों रूपए का समान जल कर खाक हो गया।

जानकारी के अनुसार कोटा थाना के सामने स्थित खत्री रुई भंडार में दोपहर बिजली की शाट सर्किट से आग लग गई। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। आनन-फानन में स्थानीय लोगों ने दमकल को सूचना दी जिसके बाद नगर पंचायत कोटा दमकल की गाड़ी ने मौके पर पहुंची मगर दमकल का प्रेसर मोटर खराब था। जिससे आस पास के लोगो की मदत से नाले की पानी से आग बुझाया जा रहा था। घंटो बाद बिलासपुर से पहुँची दमकल फायर कर्मियों ने पहुंचकर आग पर काबू पाना शुरू किया। कई घंटो के बाद आग पर काबू पाया जा सका लेकिन दुकान के मालिक सदरुद्दीन ने बताया कि आग पर काबू पाने तक लाखों का सामान जलकर नष्ट हो चुका है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804
Visitor No.