GLIBS
28-10-2020
कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा, सड़क के काम दो दिनों में शुरू कराएं, बढ़ाए कार्य की रफ्तार

कोरबा। कलेक्टर किरण कौशल ने निगम आयुक्त एस.जयवर्धन सहित वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक में कोरबा नगर निगम क्षेत्र में स्वीकृत एवं चल रही विभिन्न निर्माण कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने बैठक में कामों की वर्तमान स्थिति की जानकारी ली और तेज गति से काम पूरा करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। किरण कौशल ने राताखार-गेरवाघाट और दर्री से गोपालपुर तक सड़क मरम्मत तथा निर्माण कार्य को अगले दो-तीन दिनों में शुरू करने के निर्देश निगम के अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने यह भी निर्देशित किया कि नगर निगम सीमा क्षेत्र में स्वीकृत सभी प्रकार के कामों के लिये अगले एक सप्ताह में निविदायें जारी कर दी जाएं। उन्होंने आगे से हर सप्ताह नगर निगम के निर्माण कार्यों की समीक्षा करने के निर्देश भी निगम आयुक्त को दिये। बैठक में अपर आयुक्त अशोक शर्मा, निगम के कार्यपालन अभियंता ग्यास अहमद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे।

बैठक में किरण कौशल ने निगम क्षेत्र में स्वीकृत पुल-पुलिया निर्माण के कामों को जनसुविधा को ध्यान में रखते हुए जल्द से जल्द शुरू कराने के निर्देश दिये। श्रीमती कौशल ने राताखार से गेरवाघाट सड़क को मुख्य शहर से दर्री के लिये अतिरिक्त कनेक्टिविटी की दृष्टि से महत्वपूर्ण बताते हुए इसका काम तत्काल शुरू करने के निर्देश दिये। श्रीमती कौशल ने बैठक में दर्री से गोपालपुर सड़क के मरम्मत काम की धीमी गति पर सख्त रूख भी दिखाया और इस सड़क की मरम्मत का काम भी तेज करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने सर्वमंगला-इमलीछापर मार्ग के जीर्णोद्धार काम के लिये सड़क के दोनों ओर बड़े पैमाने पर हुए अतिक्रमण का सर्वे करने के निर्देश भी निगम तथा राजस्व विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होंने सर्वे करने के लिये लोक निर्माण विभाग, राजस्व विभाग और नगर निगम के अधिकारियों का दल बनाने के भी निर्देश बैठक में दिये।

20-09-2020
कोरबा के नगरीय निकाय क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित,बैंक केवल 2 घंटे खुलेंगे

कोरबा। कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए कोरबा 23 सितंबर की सुबह 5 बजे से 2 अक्टूबर रात 12 बजे तक बंद रहेगा। कलेक्टर किरण कौशल ने 10 दिन का कंटेनमेंट जोन घोषित करने का निर्णय लिया है। कोरबा नगर निगम के अलावा दीपका, कटघोरा, छुरी और पाली क्षेत्र भी पूर्णतः बंद रहेगा। इस दौरान सब्जी मार्केट और किराना दुकान भी बंद रहेंगी। पेट्रोल डीजल केवल शासकीय गाड़ी और एम्बुलेंस को ही दिया जाएगा। बैंक भी केवल दो घंटे के लिए ही खुलेंगे।

 

 

30-08-2020
माकपा ने की बारिश प्रभावित ग्रामीणों को राहत देने की मांग

कोरबा। जिले में  तीन दिन की बारिश के कारण ग्रामीण बस्तियां जलमग्न हो गई और गरीबों के कच्चे मकानों को काफी नुकसान पहुंचा है। साथ ही जल जनित बीमारियां फैलने की संभावना बढ़ गई है। वर्षा प्रभावित बस्तियों में कोरबा नगर निगम के अंतर्गत आने वाली मोंगरा बस्ती, बांकी बस्ती, पुरैना, मड़वाढोढा, गंगानगर और भैरोताल गांव आदि भी शामिल है। इस स्थिति से निपटने के लिए मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने वर्षा प्रभावित बस्तियों में ग्रामीणों को तत्काल राहत पहुंचाने की मांग की है।माकपा के कोरबा जिला सचिव प्रशांत झा ने बताया कि माकपा पार्षद सुरती कुलदीप और राजकुमारी कंवर के नेतृत्व में पार्टी के एक दल ने उक्त वर्षा प्रभावित क्षेत्र का दौरा किया और वर्षा से हुई तबाही का जायजा लिया।

इस दल में किसान सभा नेता जवाहर सिंह कंवर, दिलहरण बिंझवार, आनंद, मोहपाल, श्याम सुंदर आदि भी शामिल थे। माकपा ने कहा कि वर्षा के कारण ग्रामीण घरों को नुकसान पहुंचा है और कई कच्चे मकान ढह गए हैं। माकपा सचिव झा ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र के दौरे के बाद एक प्रतिनिधिमंडल ने इन गांवों के संबंधित पटवारियों से भी मुलाकात की है तथा इन गांवों में होने वाले नुकसान से अवगत कराया है और उनसे शासन के प्रावधानों के अनुसार तत्काल मुआवजा प्रकरण बनाने की मांग की है। माकपा ने इन गांवों और बस्तियों से तत्काल दूषित जल की निकासी, नालियों की सफाई और दवाईयों के छिड़काव की मांग निगम प्रशासन से की है। बारिश के कारण जिन घरों को नुकसान पहुंचा है, उन प्रभावित ग्रामीणों को तत्काल आर्थिक मदद दी जाएं।

01-07-2020
कोरबा नगर निगम में एमआईसी बैठक का बहिष्कार करेगी माकपा पार्षद

कोरबा। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने कहा है कि बिना किसी एजेंडा की सूचना दिए महापौर द्वारा एमआईसी की बैठक बुलाना गलत और एमआईसी सदस्यों के अधिकारों का हनन है। हर एमआईसी बैठक से पूर्व एजेंडे को जानना सदस्यों का अधिकार है, ताकि वे आम जनता के पक्ष में अपनी बात रख सके। चूंकि यह लोकतांत्रिक प्रक्रिया कोरबा महापौर द्वारा नहीं अपनाई जा रही है, आज आहूत एमआईसी बैठक का माकपा पार्षद सुरती कुलदीप बहिष्कार करेगी। माकपा के कोरबा जिला सचिव प्रशांत झा ने यह जानकारी दी। एमआईसी बैठक के बहिष्कार का निर्णय दोनों माकपा पार्षदों राजकुमारी कंवर और सुरती कुलदीप के साथ बैठक करने के बाद और माकपा प्रतिनिधियों के प्रति निगम अधिकारियों और महापौर के रवैये को देखते हुए लिया गया है। माकपा पार्षद सुरती कुलदीप ने कहा कि आज निगम की एमआईसी बैठक का बहिष्कार कर विरोध जताया जा रहा है और आने वाले समय में यदि आम जनता के मुद्दों पर चर्चा नहीं होगी, तो सड़क की लड़ाई लड़ी जाएगी।

10-01-2020
10 नगर निगमों में कांग्रेस की जीत, मरकाम ने ट्वीट कर कहा....

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने 10 नगर निगम में कांग्रेस की जीत होने पर ट्वीट कर कहा कि कांग्रेस टीम का प्रत्येक खिलाड़ी “मैन ऑफ द मैच“ है। सुशासन और विकास की रफ्तार अब बुलेट ट्रेन से भी अधिक होगी। कोरबा नगर निगम में कांग्रेस प्रत्याशी राजकिशोर प्रसाद की जीत के साथ छत्तीसगढ़ प्रदेश के सभी 10 नगर निगम में अब कांग्रेस महापौर है।

 

09-01-2020
मोहन मरकाम का बयान, कहा- कोरबा में कांग्रेस का महापौर बनने के साथ बनेगा इतिहास

कोरबा। कोरबा को छोड़कर बाकी अन्य नगर निगमों में महापौर चुन लिए गए हैं। कोरबा में शुक्रवार को महापौर और सभापति का चुनाव होना है। इस बीच कोरबा पहुंचे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने पार्टी की जीत पर बयान दिया है। पीसीसी चीफ ने कहा कि कोरबा नगर निगम में कांग्रेस प्रत्याशी महापौर बनने के साथ इतिहास बनेगा। कांग्रेस सभी 10 नगर निगमों में जीत दर्ज कर यह इतिहास रचेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने सरकार की उपलब्धि और विकास कार्यों पर मुहर लगा दी है। नगरीय निकाय चुनाव में भाजपा 47 निकायों में सिमटी है। शहर में भाजपा के प्रभाव का मिथक टूटा है। वहीं कोरबा नगर निगम के महापौर और सभापति प्रत्याशी के नामों को लेकर उन्होंने कहा कि शुक्रवार को ही इसकी घोषणा कर दी जाएगी। बता दें कि इससे पहले बिलासपुर में पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा था कि बीजेपी के अभी 9 विकेट गिरे हैं,10 वां विकेट कोरबा में गिरेगा।

 

30-12-2019
कोरबा नगर निगम में महापौर के लिए हुई भाजपा की बैठक

कोरबा। जिला भाजपा कार्यालय टी.पी नगर में नगर निगम कोरबा में महापौर की ताजपोशी को लेकर जिला भाजपा की अहम बैठक रखी गई। इसमें भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष सच्चिदानंद उपासने और महामंत्री भूपेंद्र सवन्नी प्रमुख रूप से सम्मिलित हुए। भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष सच्चिदानंद उपासने ने कांग्रेस पर सत्ता और प्रशासन का दुरुपयोग कर महापौर चुनाव में देरी का आरोप लगाते हुए कहा कि जनता का जनादेश भाजपा के पक्ष में हैं और कांग्रेस को कोरबा की जनता ने इस बार बाहर का रास्ता दिखा दिया है। कांग्रेस निराशा और हताशा में उलूल- जूलूल बयान बाजी कर रही है। उन्होंने कहा कि नगर निगम में भाजपा अपना बहुमत साबित करेगी। भाजपा अपने निर्वाचित 31 पार्षदों के कुनबे को संगठित रखने में और बहुमत के लिए आवश्यक संख्या बल की व्यवस्था में सफल रही है। भाजपा के प्रदेश महामंत्री भूपेंद्र सवन्नी ने कहां की नगर निगम कोरबा के सभी निर्वाचित पार्षदों की जीत जिले के समस्त कार्यकर्ताओं की जीत है। इसमें केवल पार्षदों की मेहनत ही नहीं अपितु भाजपा की विचारधारा, भाजपा के प्रति विश्वास और कार्यकर्ताओं की मेहनत का परिणाम है। नगर निगम कोरबा में महापौर और सभापति कौन होगा इस पर उन्होंने कहा की महापौर और सभापति के लिए भाजपा उम्मीदवारों का नाम प्रदेश से तय होगा। जो सबको मान्य होगा। बैठक में रामपुर विधायक एवं पूर्व गृह मंत्री ननकीराम कंवर, जिला भाजपा अध्यक्ष अशोक चावलानी, पूर्व महापौर जोगेश लांबा, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष बनवारी लाल अग्रवाल, मनोज पराशर, पूर्व संसदीय सचिव लखन लाल देवांगन, राजेंद्र अग्रवाल, विकास महतो, अमित टमकोरिया, प्रफुल्ल तिवारी, मनोज मिश्रा, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष मीना शर्मा, संजू देवी राजपूत सहित विभिन्न मंडलों से आए अध्यक्ष एवं महामंत्री गण उपस्थित रहे।

 

18-12-2019
व्यय लेखा प्रस्तुत नहीं करने वाले 459 उम्मीदवारों को नोटिस जारी

रायपुर। प्रदेश में नगरीय निकाय निर्वाचन के दौरान व्यय प्रेक्षकों द्वारा उम्मीदवारों के खर्चों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। जांच के लिए प्रथम व्यय लेखा प्रस्तुत नहीं करने वाले 459 उम्मीदवारों को नोटिस जारी की गई है। नगर निगमों, नगर पालिकाओं और नगर पंचायतों में निर्वाचन के लिए प्रदेश भर में कुल 10 हजार 167 उम्मीदवार मैदान में हैं।  प्रथम लेखा जांच के बाद व्यय प्रेक्षकों से प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक किसी अभ्यर्थी द्वारा अधिकतम खर्च की गई राशि एक लाख 10 हजार 810 रूपए है। कोरबा नगर निगम के एक अभ्यर्थी द्वारा यह राशि व्यय की गई है। नगर पालिका में बड़े बचेली में एक उम्मीदवार द्वारा अधिकतम राशि 46 हजार 457 रूपए और बरमकेला नगर पंचायत में 26 हजार 110 रूपए की अधिकतम राशि एक उम्मीदवार द्वारा खर्च की गई है। नगर पंचायत में अब तक किसी उम्मीदवार द्वारा व्यय की गई न्यूनतम राशि 500 रूपए है। इसी तरह नगर पालिका में उम्मीदवार द्वारा न्यूनतम डेढ़ हजार रूपए और नगर निगम में न्यूनतम ढाई हजार रूपए की राशि के व्यय की जानकारी व्यय प्रेक्षकों को प्राप्त हुई है।
 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804