GLIBS
03-07-2020
गृह मंत्री ने संजीवनी एक्सप्रेस और एम्बुलेंस को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

रायपुर। गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने शुक्रवार को गरियाबंद जिले में विभिन्न विकास कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने जिला कार्यालय परिसर में राज्य शासन से प्राप्त संजीवनी 108 तथा पांच एम्बुलेंस को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इससे जिले की स्वास्थ्य व्यवस्था मजबूत होगी। जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार और पहुंच में तेजी आयेगी। स्वास्थ्य विभाग के सीएमएचओ ने बताया कि संजीवनी 108 एक्सप्रेस राज्य शासन द्वारा जिला चिकित्सालय गरियाबंद के लिए प्राप्त हुआ है। अब जिला मुख्यालय में दो संजीवनी 108 उपलब्ध हो गये है। वहीं प्रभारी मंत्री की अनुशंसा पर जिला खनिज न्यास निधि से जिले के लिए 5 एम्बुलेंस उपलब्ध कराए गए है। इस अवसर पर राजिम विधायक अमितेश शुक्ल, कलेक्टर छतर सिंह डेहरे,पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल,जिला पंचायत सीईओ विनय लंगेह सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

 

 

03-07-2020
लोक सेवा गांरटी के आवेदनों का समय पर हो निराकरण: गृह मंत्री साहू

रायपुर। प्रदेश के गृह और लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू ने लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत प्राप्त आवेदनों का निराकरण समय-सीमामें करने के निर्देश दिए हैं। साहू ने शुक्रवाक को अपने प्रभार जिले गरियाबंद में चल रहे विभिन्न विकास कार्यो की समीक्षा की। मंत्री साहू ने कहा कि समाज के गरीब, मजदूर और जरूरतमंदों को भटकना न पड़े। बैठक में राजिम विधायक अमितेश शुक्ल भी उपस्थित थे। मंत्री साहू ने कहा कि आमजन यदि किसी समस्या के संबंध में आवेदन दे रहे हैं, तो उनका त्वरित निराकरण सुनिश्चित किया जाए। प्रशासन को गरीबों और जरूरतमंदों के प्रति अधिक संवेदनशील होकर कार्य करना होगा। प्रभारी मंत्री ने बैठक में कोविड-19 के लिए की गई व्यवस्थाओं की समीक्षा भी की। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में बने क्वारेंटाइन सेंटर को पुनः मूल कार्य के लिए तैयार करे। साहू ने लोक निर्माण विभाग की समीक्षा में कहा कि जिले में क्षतिग्रस्त पुल-पुलिया और सड़कों की जानकारी दे, ताकि तत्काल राशि स्वीकृत की जा सके। यदि बड़े कार्य है, तो उसे बजट में शामिल किया जायेगा। बारिश के पश्चात सड़कों के नवीनीकरण और डामरीकरण के लिए भी प्रस्ताव दें। मंत्री साहू ने नामांतरण, बटवारा और सीमांकन के प्रकरणों को प्राथमिकता से निराकरण करने के निर्देश दिये है। समीक्षा के दौरान प्रत्येक ग्राम पंचायतों में खाली जमीन पर फलदार पौधों का रोपण और खेल मैदान के नाम पर जमीन आरक्षित करने के निर्देश दिये है। सड़क किनारे वृक्षारोपण करने भी निर्देश दिये गये हैं। खाद्य विभाग को पहंुचविहिन क्षेत्रों में खाद्यान्न सामग्री पहुंचानें के निर्देश पर जानकारी दी गई कि इन क्षेत्रों में सितम्बर माह तक का खाद्यान्न पहुंचाया जा चुका है। जिला सहकारी बैंक की समीक्षा में खाद-बीज वितरण और फसल बीमा की जानकरी ली गई।

बैठक में नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी योजना की प्रगति की समीक्षा की गई। मंत्री साहू ने पुलिस वेलफेयर स्किम के तहत जिले में अन्य स्थानों पर पुलिस पेट्रोल पम्प खोलने की दिशा में पहल करने तथा कर्मचारियों के आवास मरम्मत कराने के निर्देश भी दिये हैं। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा में सीएमएचओ को जिले में कोरोना टेस्टिंग विशेषकर घनी आबादी क्षेत्रों में बढ़ाने कहा। साथ ही प्रोटोकाल को ध्यान में रखते हुए सभी आवश्यक सावधानियां जैसे मास्क, फिजीकल डिस्टेंसिंग पर विशेष ध्यान देने कहा। महिला एवं बाल विकास विभाग को पूरक पोषण आहार, रेडी-टू-ईट की गुणवत्ता पर किसी पर किसी प्रकार की समझौता न हो, इस पर विशेष ध्यान रखते हुए बच्चों में संस्कार व नवाचारी शिक्षा को बढ़ावा देने कहा। उन्होंने उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों को जिले के कृषकों को फूलों की खेती के लिए भी प्रेरित करने कहा। सेतु निर्माण विभाग के अधिकारियों को अवगत कराया कि स्वीकृत सेतु निर्माण के कार्य सरकार की प्राथमिकता में है जिले में स्वीकृत सेतु निर्माण कार्य समय पर पूर्ण कराये। बैठक में कृषि, जल संसाधन, लोक निर्माण, पशु चिकित्सा, खनिज, आरईएस, पीएचई, विद्युत, श्रम विभाग, उद्योग हस्तशिल्प विकास के कार्यो की भी समीक्षा की गई।

 

02-07-2020
संविलियन आदेश जारी करने के लिए संविलियन क्रियान्वयन दीप जलाकर किया ध्यानाकर्षण

गरियाबंद। छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष संजय शर्मा,उपाध्यक्ष देवनाथ साहू,कोषाध्यक्ष शैलेन्द्र पारीक,संयुक्त सचिव यशवंत बघेल,संगठन सचिव विनोद सिन्हा, जिलाध्यक्ष आरिफ मेमन,आईटी सेल पूरन लाल साहू,गिरीश शर्मा ने कहा है कि हमें पूरी उम्मीद है कि मुख्यमंत्री ने जो 3 मार्च को बजट भाषण में 2 वर्ष पूर्ण करने वाले समस्त शिक्षा कर्मियों को संविलियन करने का ऐलान किया था, उस पर शीघ्र अमल होगा। इसी सकारात्मक भरोसे को ध्यान में रखकर गुरुवार को संविलियन से वंचित शिक्षकों के किये संविलियन आदेश जारी करने सकारात्मक तरीके से प्रदेश के मुखिया को दीप प्रज्वलित कर आदेश जारी करने का आग्रह किया गया। शिक्षाकर्मियों द्वारा पूर्ववर्ती राज्य मध्यप्रदेश से लेकर अलग बने राज्य छत्तीसगढ़ में 22 वर्षों तक किए गए दीर्घकालिक संघर्ष के परिणामस्वरूप एक जुलाई 2018 से आठ वर्ष की सेवा पूर्ण करने वाले शिक्षाकर्मियों का स्थानीय निकाय से स्कूल शिक्षा विभाग में संविलियन प्रारम्भ हुआ। इसके बाद एक जुलाई 2019 एवं एक जनवरी 2020 की स्थिति में आठ वर्ष की सेवा पूर्ण करने वाले शिक्षाकर्मियों का संविलियन किया गया।

वर्तमान प्रदेश सरकार ने अपने जन घोषणा पत्र के वादा अनुसार संविलियन किए जाने के लिए सेवा अवधि को घटाकर 8 वर्ष से 2 वर्ष करने का निर्णय लिया है, लेकिन इस पर क्रियान्वयन करने का आदेश आज पर्यन्त तक जारी नहीं किया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा था कि हमारी सरकार बनेगी तो हम सभी का संविलियन करेंगे। हड़ताल के बाद पूर्व सरकार ने 8 वर्ष में संविलियन का निर्णय लिया था, और आदेश जारी किया। सम्पूर्ण संविलियन के लिए लगातार बात होती रही। चुनाव पूर्व घोषणा पत्र कमेटी को भेंटकर अवगत कराया जाता रहा। अंततः वर्तमान सरकार के घोषणा पत्र में 2 वर्ष पूर्ण करने वाले शिक्षक संवर्ग के संविलियन करने का विषय प्रमुखता से शामिल किया गया। चूंकि सभी शिक्षक संघ की मांग में सम्पूर्ण संविलियन की मांग ही प्रथमतया है। जनघोषणा पत्र में शिक्षक मांग में यह प्रथमतः है। मुख्यमंत्री ने विपक्ष में रहते सभी शिक्षक के संविलियन की बातें हड़ताल में की थी तो स्वाभाविक तौर पर शिक्षक व कर्मचारी के समस्या निवारण में यह सर्वोपरि मानकर चिन्हित किया गया।

वह सुखद अवसर 3 मार्च को आया, जब विधानसभा के बजट में 2 वर्ष पूर्ण करने वाले शिक्षक संवर्ग का संविलियन 1 जुलाई 2020 को संविलियन करने का विषय शामिल कर घोषणा की गई पर आज यक्ष प्रश्न है कि अब तक संविलियन आदेश जारी हो जाना था किंतु हम सभी आज भी आदेश की प्रतीक्षा ही कर रहे हैं। संघ के प्रांतीय महिला प्रतिनिधि गीता शरणागत,लता ध्रुव,छन्नू सिन्हा, भुवन यदु,अवनीश पात्र, घनश्याम दिवाकर,संजीव साहू,परमेश्वर निर्मलकर, हुलस साहू,संतोष साहू,गोविंद पटेल,लतीफ खान,भागचंद चतुर्वेदी, दिनेश्वर साहू,केशव सेन,जितेंद्र सोनवानी, लोकेश्वर सोनवानी, नितिन बखरिया,नंदकुमार रामटेके,मुकुंद कुटारे,दिनेश निर्मलकर, सुरेश केला,टिकेंद्र यदु,किरण साहू,संजय यादव,प्रहलाद मेश्राम, उबेलाल टण्डन,रामचरण दीवान, छगन पचभिये,विकास झा सहित  जिला एवं ब्लॉक पदाधिकारियो ने मुख्यमंत्री से 2 वर्ष पूर्ण कर चुके  शिक्षक संवर्ग को विधानसभा में  घोषणा के अनुरूप  शिक्षा विभाग में  संविलियन करने के लिए  आदेश  जारी करने की मांग की की है।

 

30-06-2020
गरियाबंद में औसत वर्षा अब तक 308 मि.मी. दर्ज की गई, राजिम में सर्वाधिक 

रायपुर/गरियाबंद। जिले में चालू मानसून सत्र में गत 1 जून से 30 जून तक औसत वर्षा 308 मि.मी. दर्ज की गई है। भू-अभिलेख शाखा गरियाबंद से प्राप्त जानकारी के अनुसार 30 जून को सर्वाधिक वर्षा राजिम तहसील में 82.8 मि.मी. दर्ज की गई है। इसी प्रकार देवभोग तहसील में 48.6 मि.मी., मैनपुर तहसील में 34.3 मि.मी. और छुरा तहसील में 5.3 मि.मी. वर्षा हुई। जबकि गरियाबंद में वर्षा दर्ज नहीं की गई है।

30-06-2020
गरियाबंद, छुरा व राजिम में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद चिन्हित क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित 

रायपुर/गरियाबंद। जिले में विगत रविवार एवं सोमवार को कोरोना के पॉजिटिव मरीज मिलने के पश्चात संबंधित क्षेत्र के चौहद्दी को कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी छतर सिंह डेहरे द्वारा कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में कंटेनमेंट जोन के उक्त चिन्हित क्षेत्र अंतर्गत सभी दुकाने एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश पर्यन्त तक बन्द रहेंगे। प्रभारी अधिकारी द्वारा घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर सुनिश्चित की जायेगी। सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पूर्ण प्रतिबन्ध रहेगा। मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किन्हीं भी कारणों से घर के बाहर निकलना प्रतिबंधित रहेगा। जारी आदेश के अनुसार गरियाबंद नगर पालिका वार्ड क्र-01, वार्ड क्र-13, ग्राम आमदी तथा छुरा विकासखंड अंतर्गत नगर पंचायत छुरा के वार्ड क्र-10, ग्राम गोंदलाबाहरा वार्ड क्र-07 और नगर पंचायत राजिम वार्ड क्र-14 में 28 एवं 29 जून को नए पॉजिटिव कोरोना मरीज मिलने की पुष्टि पश्चात सम्बंधित क्षेत्र के चिन्हित चौहद्दी को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। वहीं 3 किमी के दायरे को बफर जोन घोषित किया गया है।

आदेश के तहत उक्त क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग के मानकों के अनुरूप व्यवस्था हेतु पुलिस पैट्रोलिंग सुनिश्चित की जायेगी। स्वास्थ्य विभाग के निदेशनुसार आवश्यक सर्विलांस, कान्टेक्ट, ट्रेसिंग एवं सैम्पल जांच आदि की कार्यवाही की जायेगी। साथ ही जोन में कार्यवाही हेतु अधिकारियों को दायित्व सौंपा गया है। केवल एक प्रवेश एवं निकास हेतु बैरिकटिंग हेतु कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग, प्रवेश एवं निकास सहित क्षेत्र की सैनिटाइजिंग व्यवस्था एवं आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं मुख्य नगर पालिका अधिकारी को दायित्व सौंपा गया है। कान्टेक्ट ट्रेसिंग के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी गरियाबंद को दायित्व सौंपा गया है। खण्ड चिकित्सा अधिकारी को स्वास्थ्य टीम को दवा, मास्क, पीपीई कीट इत्यादि उपलब्ध कराने एवं बॉयोमेडिकल अपशिष्ट प्रबंधन तथा महिला एवं बाल विकास विभाग गरियबांद के पर्यवेक्षक को घरों का एक्टिव सर्विलांस व विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी को खंड स्तर पर स्थापित नियंत्रण कक्ष में व्यवस्था हेतु दायित्व सौंपा गया है। पुलिस विभाग के अनुविभागीय अधिकारी को दुकाने बन्द करवाने और आवागमन प्रतिबंधित करने दायित्व सौंपा गया है। उक्त जोन की निगरानी एवं समन्यव के लिए पर्यवेक्षण अधिकारी नियुक्त किया गया है। अनुविभागीय दण्डाधिकारी संबंधित क्षेत्र के संपूर्ण प्रभार में रहेंगे। उपरोक्त समस्त अधिकारी-कर्मचारी आपस में समन्यव बनाकर समस्त दायित्वों का निर्वहन करेंगे। आवश्यकता पड़ने पर उपरोक्त कार्यों हेतु अन्य स्थानीय अमलों की ड्यूटी लगाने हेतु अधिकृत होंगे।

29-06-2020
Breaking : छत्तीसगढ़ में 47 नए कोरोना पॉजिटिव की पहचान, राजनांदगांव से सबसे अधिक 

रायपुर। छत्तीसगढ़ में सोमवार को 47 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई है। इनमें जिला राजनांदगांव से 23, दुर्ग से 9, गरियाबंद से 6, रायपुर से 5, महासमुंद से 3 और बलौदाबाजार से 1 मरीज शामिल है। सभी मरीजों की भर्ती प्रक्रिया जारी है।

26-06-2020
Video: अच्छी बारिश के साथ शुरू हुआ किसानों का किसानी कार्य

गरियाबंद। अंचल में लगातार अच्छी बारिश होने के साथ ही किसानों ने खेतों में बुवाई कार्य प्रारंभ कर दिया है। गरियाबंद क्षेत्र में 1 हफ्ते से लगातार बारिश हुई जिससे खेतों में धान बुवाई के लिए खेतों का सुधार कार्य, जुताई, मताई कार्य लगाता चल रहा है। गरियाबंद के सरपंच संघ अध्यक्ष मनीष ध्रुव ने भी अपने खेतों में हल चलाकर धान बुवाई की शुरुआत की और बताया कि हमारे क्षेत्र में एक अच्छी वर्षा होने से सभी किसान खुश नजर आ रहे हैं। वहीं किसानों ने अपने खेतों में धान की बुवाई की कार्य लगातार कर रहे हैं। मनीष ने बताया कि इस बार अच्छी वर्षा होने की शुभ संकेत नजर आ रहे हैं, जिससे हमारे क्षेत्र के सभी किसान उत्साहित नजर आ रहे हैं। मालगांव के किसान व जनप्रतिनिधि दुलेश ध्रुव ने बताया कि हमारे गांव में लगभग 80% किसानों ने अपना बुआई कार्य प्रारंभ कर चुके हैं। वहीं किसानों ने अच्छी पैदावार के लिए प्रमाणित बीजों का उपयोग कर रहे हैं।

कोविड-19 के कारण लॉक डाउन होने से गरीब किसान आम लोगों का अर्थव्यवस्था बिगड़ गई है। वही बारिश का भी आगमन हो गया है, जिससे किसानों ने अपने खेतों में धान बुवाई का कार्य प्रारंभ किया है। शुरुआत से ही अच्छी बारिश होने से किसानों के चेहरे में खुशी नजर आ रही है और एक अच्छी फसल पैदावार होने की संभावना लेकर किसानों ने अपना धान बुवाई का कार्य खुशी खुशी कर रहे हैं। विशेष बात यह है कि किसानों ने पुराना पद्धति हल से जुताई छोड़कर किसानी कार्य को जल्दी खत्म करने के लिए ट्रैक्टर, रोटो का ज्यादातर उपयोग कर रहे हैं ताकि अपना वह आए कार्य जल्द से जल्द खत्म कर ले वह समय से धान की बुवाई हो सके इस प्रकार लगातार किसान तेजी से अपने अपने खेतों की जुताई बुवाई कार्य कर रहे हैं।

22-06-2020
बरसात का कहर,30 घंटे से 15 गांव में ब्लैकआउट, पेयजल आपूर्ति में बाधा

गरियाबंद। कोचबाय फीडर के तहत आने वाले लगभग 15 गांव में कल शाम बंद हुई विद्युत लाइन अब तक प्रारंभ नहीं हुई हैं। विद्युत विभाग के टीम जगह जगह गिरे पेड़-पौधे को हटाकर अवरूद्ध हुई लाइन को सुधारने में जुटी हुई हैं। मगर सफलता अभी नहीं मिली है। खास बात यह है कि विद्युत अवरोध के चलते कई गांवों में पेयजल की दिक्कत होने लगी है। क्योंकि अब ज्यादा गांव पेयजल के लिए ग्राम पंचायत द्वारा नल जल योजना के बोर से अथवा टंकी से होने वाली सप्लाई पर आश्रित को चुके हैं। गांव कोचवाय, हरदी, कासरबाय, घुटकूनवापारा, बहेराबूढ़ा, मालगांव, कोदोबतर, बारूका,सड़क परसुली, कसेरू, कोसमी में लगभग 30 घंटे से विद्युत बंद है। कोचवाय सब स्टेशन से लगभग 15 गांव को लाइट कनेक्शन आवंटित है। लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के कारण और पेड़ गिरने के कारण 33 केबी लाइन में खराबी आने के कारण लगभग 24 घंटे से विद्युत बंद है। इसके सुधार के लिए विद्युत कर्मी लगातार लगे हुए हैं। कई जगहों पर विद्युत लाइन में पेड़ जुड़ने के चलते 15 गांव के लोग बीते 30 घंटे से अंधेरे में रहने को मजबूर हैं। वही सभी गांव में नल-जल योजना जब से प्रारंभ हुआ है तब से लोग नल-जल का ही पानी उपयोग करते हैं और नल जल योजना की सप्लाई विद्युत मोटर या ओवर हेड टैंक में विद्युत मोटर से पानी चढ़ा कर की जाती है और 24 घंटे से लाइट नहीं आने के कारण लोगों के घरेलू उपयोग के लिए  पीने के लिए पानी भी नहीं भर पाए हैं,जिसके कारण लोगों को अनेकों परेशानी आई है। विद्युत विभाग के अधिकारियों ने बताया कि सुधार कार्य चल रहा है और लाइट जल्द आने की संभावना है।

 

22-06-2020
Video: 18 घंटे से लगातार हो रही बारिश ने किसानों की बढ़ाई चिंता, बढ़ सकता है पैरी-सोडूल का जलस्तर

गरियाबंद। बारिश का मौसम आते ही लगातार 18 घण्टों से मूसला धार बारिश हो रही है, जिसके कारण गरियाबंद के आसपास के क्षेत्रों के गांव में किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें छा गई है। खेतों में लबालब पानी भरा हुआ है। कुछ किसान तो धान की बुवाई भी कर चुके हैं, जिसके खराब होने का डर किसानों को सता रहा है। लगातार हो रही बारिश के कारण पैरी-सोडूल नदी के जलस्तर लगातार बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही है। इसको देखते हुए शासन प्रशासन अलर्ट पर है। साथ ही बाढ़ नियंत्रण टीम भी अपनी तैयारी पूरी कर ली है। मौसम विभाग ने अगले 12 से 15 घंटे तक और बारिश होने का अनुमान जताया है, जिसके मद्देनजर गरियाबंद के आसपास के गांवों में मुनादी भी करा दी गई है।

15-06-2020
16 जून को दुर्ग, रायगढ़ और गरियाबंद में भाजपा करेगी जनसंवाद

रायपुर। केंद्र सरकार के दूसरे कार्यकाल के निर्णयों और उपलब्धियों के एक वर्ष पूर्ण होने पर भाजपा की जन संवाद कार्यक्रम कर रही है। 16 जून को प्रदेश के दुर्ग, रायगढ़ और गरियाबंद में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जनसंवाद किया जाएगा। भाजपा वर्चुअल रैली के प्रदेश संयोजक राजेश मूणत ने बताया कि सुबह 11 बजे पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी दुर्ग जिले की, दोपहर 2 बजे पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह रायगढ़ जिले की और शाम 4.30 बजे प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय गरियाबंद जिले की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सभाओं को बतौर मुख्य वक्ता संबोधित करेंगे। भाजपा की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सभाओं का यह क्रम 22 जून तक चलेगा जिसमें प्रतिदिन तीन सभा होगी।

 

15-06-2020
Video: दो कोरोना मरीज मिलने से मचा हड़कंप, नगर को किया जा रहा सैनिटाइज

गरियाबंद। रविवार रात गरियाबंद में दो कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने से प्रशासन बेहद सक्रिय हो गया है। अमलीपदर थाने का एक जवान कोरोना पॉजिटिव मिला तो वही इंदा गांव क्वारंटाइन सेंटर में बाहर से लौटी एक गर्भवती महिला भी कोरोना पॉजिटिव मिली है। प्रशासन जहां दोनों को इलाज के लिए भेजने की तैयारी कर रहा है तो वहीं अमलीपदर थाना कंटेनमेंट जोन में आने के कारण इस थाना क्षेत्र की सारी कार्यवाही अब देवभोग थाने से संचालित करने का निर्णय लिया गया है। थाने के सभी जवान तथा पुलिस अधिकारियों के मेडिकल चेकअप की तैयारी है। भवन को सैनिटाइज करवाने की भी तैयारी की जा रही है। खास बात यह है कि जवान का तबादला अमलीपदर से गरियाबंद होने के कारण वह एक घंटा पहले गरियाबंद पहुंचा था और खबर लगते ही उसे क्वारेंटाइन सेंटर भेज दिया गया। इसके कारण अब नगर पालिका गरियाबंद के अध्यक्ष गफ्फू मेमन समेत पालिका की पूरी टीम शहर के सभी प्रमुख मार्गों को सैनिटाइज करने में जुटी है।

12-06-2020
Video: दोहरे हत्याकांड का पर्दाफाश, चाचा और दो भाईयों ने दिया था हत्या की वारदात को अंजाम, पढ़े पूरी खबर...

गरियाबंद। सिटी कोतवाली क्षेत्र के नागाबुडा गांव में 15 दिन पूर्व परिजनों की रिपोर्ट पर मर्ग कायम करने के बाद सघन छानबीन एवं पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में युवती के 3 माह का गर्भ होना पाया गया,जिसके बाद पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में एक टीम गठित कर सघन छानबीन की गई। इसमें दो भाई और चाचा को इस दोहरे हत्याकांड में प्रेमी—प्रेमिका की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। शुक्रवार को इस मुद्दे को लेकर पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल ने पत्रकारवार्ता कर घटना की सिलसिलेवार जानकारी दी।घटना के संबंध में बताया गया कि 23 मई की रात को गरियाबंद से 6 किलोमीटर दूर नागाबुडा गांव के मन्नूलाल साहू ने गरियाबंद थाना आकर बतलाया कि उसकी भतीजी अपने कमरे में मृत पाई गई है,जिसके मुंह से झाग निकल रहा है और उसने जहर का सेवन कर लिया है। इस पर गरियाबंद थाना ने मर्ग कायम कर विवेचना जारी रखी। इसी दौरान दूसरे दिन 24 मई को पुनः  मृत युवती के घर के बाजू में रहने वाले युवक भूपेंद्र कुमार का शव उसके ही घर के पैरावेट के नीचे दबा हुआ पाया गया था,जिसके पोस्टमार्टम के बाद जानकारी मिली की युवक की दम घुटने से मौत हो गई है। पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल ने बताया कि संदिग्ध परिस्थिति एवं दोनों के पोस्टमार्टम के रिपोर्ट मिलने के बाद पता चला कि युवती को 3 माह का गर्भ था। पुलिस अधीक्षक ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुखनंदन सिंह राठौर व थाना प्रभारी आरके साहू के नेतृत्व में टीम गठित कर सघन पूछताछ की। इसमें ज्ञात हुआ कि भूपेंद्र कुमार एवं दामिनी का प्रेम प्रसंग था। मृतिका के चाचा मुन्नूलाल साहू और मृतिका का भाई अमृत साहू और चचेरा भाई सूरज साहू को हिरासत में लेने के बाद जब उनसे पूछताछ की तो तीनों ने  इस घटना को संबंध में बताया कि दोनों के बीच प्रेम प्रसंग था। इसके चलते युवती को जहर दे दिया गया तथा युवक की पिटाई के बाद बेहोश हालत में पैरावट के नीचे छुपा दिया गया,जिसके चलते दम घुटने से उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मारपीट में प्रयुक्त डंडे व अन्य साक्ष्य बरामद किया। शुक्रवार को तीनों आरोपियों पर 302, 201, 315 ,34 लगाकर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा। 15 दिनों के अंदर इस दोहरे हत्याकांड को सुलझाने पर पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल ने टीम को 10 हजार रुपए का पुरस्कार देकर उनके कार्यों की प्रशंसा की है।

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804