GLIBS
01-09-2020
दोस्त बनकर अस्मत लूटी फिर वीडियो बनाकर किया वायरल,जबर्दस्ती साथ ले जाने आधी रात घर पहुंचा, मामला दर्ज

महासमुन्द। फाइनेंस कम्पनी में काम करने वाले युवक ने पहले लडक़ी से दोस्ती की और फिर दुष्कर्म किया। वीडियो बना कर बदनाम करने व जान से मारने की धमकी देकर लगातार दैहिक शोषण करता रहा। इतने से भी मन नहीं भरा तो लडक़ी व उसके परिवार को बदनाम करने की नियत से वीडियो सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। आरोपी इतने में ही शांत नहीं हुआ और आधी रात अपने दोस्तों के साथ लडक़ी के घर पहुंच कर उसके जबरदस्ती अपने साथ ले जाने का प्रयास करने लगा। आरोपी के कृत्य से परेशान लडक़ी व उसके परिजनों ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी। पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ भादवि की धारा 354, 376 (2), 456, 506, 66 (ई) कायम कर लिया गया है। पुलिस को प्रार्थियां ने बताया कि पिथौरा थाना लाखागढ़ निवासी युवक एक फाइनेंस कम्पनी में काम करता था,जिससे युवती की जान पहचान थी। 4 मई को वह ग्राम बरोली आया हुआ था,जिसके साथ युवती ने अपने मामा के घर लाखागढ़ पिथौरा उसके मोटर साइकिल में छोडऩे की बात कही और युवक ने उसे सकुशल लाखागढ़ छोड़ देने की बात करते हुए अपने साथ मोटर साइकिल में लाखागढ़ पिथौरा के लिए ले गया।

आरोपी युवक ने रास्ते में युवती को एक सुनसान स्थान पर ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया और अश्लील वीडियो और फोटो अपने मोबाइल में बनाकर रख लिया। साथ ही युवती को धमकी दी की इस बारे में किसी को बताया तो वह उसका यह वीडियो सोशल मीडिया में वायरल कर उसे बदनाम कर देगा साथ ही उसे जान से भी मारने की धमकी दी। लोक लाज के डर से युवती ने अपने साथ हुए बलात्कार के विषय में किसी से कुछ नहीं कहा। इस बात का नाजायज फायदा उठाते हुए आरोपी युवक ने युवती के साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव बनाता रहा,जिस पर युवती ने मना कर दिया। युवती के मना करने पर बौखलाए आरोपी युवक ने युवती को बदनाम करने की नियत से युवती की अश्लील वीडियो वायरल कर दी और कुछ पाम्पलेट बांटकर कर युवती को पूरे गांव में बदनाम कर दिया। वायरल वीडियो युवती के भाई तक पहुंच गया। इसी बीच आरोपी युवक ने अपने मित्रों के साथ बीती रात युवती के के कमरे में घुस गया और उसे जबरदस्ती अपने साथ उठाकर ले जाने लगा। युवती ने अपने बचाव में अपने भाई और पिता को आवाज लगाई तो आरोपी युवक और उसके मित्र युवती को छोड़ कर भागने लगे। इसमें से एक आरोपी को ग्रामीणों पकड़ कर उसकी पिटाई कर पुलिस को सौंप दिया। बहरहाल पुलिस मामले में आरोपी युवक की तलाश कर रही है।

19-08-2020
दोस्तों के साथ बालक गया था नदी में नहाने, तेज बहाव में बह गया, ढूंढ़ने में जुटी पुलिस

कवर्धा। सकरी नदी पुल के ऊपर से पानी बहने लगा। कई घंटों तक मार्ग बाधित रहा। वही बुधवार की दोपहर नदी में नहाते वक्त एक बालक पानी में बह गया। इससे अफरा तफरी मच गई। मिली जानकारी अनुसार रंजीत उमरा उम्र 10 वर्ष नहाने के लिए दोस्तों के साथ नदी में गया था,जहां तेज बहाब में पानी में बह गया। इसकी जानकारी मिलने पर परिवार के लोग ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंच कर बालक को ढूढ़ने का काम शुरू कर दिया है।

 

16-07-2020
पत्नी से अवैध संबंध का शक, पति ने दोस्त के साथ मिलकर की युवक की हत्या

रायपुर/बिलासपुर। पेंड्रा थाना क्षेत्र के ग्राम मुरमुर में पत्नी के साथ अवैध संबंध के शक में पति ने दोस्त के साथ मिलकर युवक की हत्या कर दी। मामले में पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर विवेचना शुरू कर दिया है। गौरतलब है कि मामला पेन्ड्रा थाना क्षेत्र के मुरमुर निवासी तेज नारायण पेन्द्रों रायपुर के बेसन फैक्टरी में काम करता था। लॉक डाउन में अपने गांव मुरमुर आया हुआ था। गांव के क्वारंटाइन सेंटर में तय समय सीमा तक रहने के बाद शनिवार को वह अपने घर पहुंचा था। तेज नारायण का पड़ोसी अरविंद पैकरा उस पर अपनी पत्नी के साथ अवैध संबंध होने का शक किया करता था। इस वजह से वह तेज नारायण से दुश्मनी पाल कर रखा हुआ था। बुधवार की शाम अरविंद और उसका दोस्त भगवान दास घर से कुछ दूर पर तेज नारायण के साथ बैठकर बात करते समय उसे जमीन पर पटक दिया और उसके सिर पर पत्थर पटक दिया। इससे उसकी मौके पर मौत हो गई। सुबह ग्रामीणों ने युवक की लहुलुहान लाश को पडे देखा और पुलिस को इसकी सूचना दी। इसके बाद सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों आरोपित अरविंद और भगवान दास को हिरासत में लेकर थाना ले गई।

30-06-2020
पत्नी, प्रेमी और दोस्त ने की थी पति की हत्या, अनुकंपा नौकरी और पैसों के लालच में बनाया था प्लान, अब सलाखों के पीेछे

रायपुर/सूरजपुर। जिले के भटगांव थाना क्षेत्र में सेवानिवृत्ति से तीन दिन पहले एसईसीएल कर्मी की हत्या के मामले का पुलिस ने रहस्य का खुलासा कर दिया है। कॉलरीकर्मी की हत्या उससे 20 साल छोटी तीसरी पत्नी ने प्रेमी व उसके दोस्त से करा दी थी। हत्या का कारण मृत्यु उपरांत मिले रुपयों व अनुकंपा नौकरी से दोनों आगे की जिंदगी पत्नी व उसके प्रेमी ने साजिश की थी। पुलिस ने आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं प्रेमी का दोस्त फरार बताया जा रहा है। बता दें कि सूरजपुर के भटगांव थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बंशीपुर निवासी बाबूलाल शिवानी खदान में पंप ऑपरेटर के पद पर पदस्थ था। वह अपनी तीसरी पत्नी सागरमती 40 वर्ष व 2 बेटों के साथ रहता था।

उसकी तीसरी पत्नी उससे 20 साल छोटी थी। उसने घर के सामने वाले हिस्से में ढाबा भी खोल रखा था जिसे बच्चों के सहयोग से पत्नी चलाती थी। बाबूलाल 31 मार्च को सेवानिवृत्त होने वाला था। इसी बीच 28 मार्च की सुबह घर से कुछ दूर नहर के पास उसकी संदिग्ध अवस्था में लाश मिली थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। एसपी राजेश कुकरेजा के नेतृत्व में पुलिस जांच में पता चला कि पत्नी के प्रेमी मणिरंजन मिश्रा उर्फ पिंटू मिश्रा ने दोस्त सीताराम यादव के साथ मिलकर बाबूलाल की गमछे से गला व मुंह दबाकर हत्या की थी और शव को नहर के पास फेेंक दिया था। इस मामले में पुलिस ने पत्नी सागरमती व प्रेमी मणिरंजन उर्फ पिंटू मिश्रा को गिरफ्तार कर धारा 302, 201, 120बी व 34 के तहत जेल भेज दिया।

26-06-2020
बच्चों के दोस्त बनकर नशीले पदार्थों के नशे से निकाल सकते हैं बाहर

रायपुर। नशा केवल शराब और तम्बाकू का ही नहीं होता है बल्कि अफीम, चरस, गांजा, हेरोइन जैसे मादक पदार्थों का भी होता है जो लोगों को बुरी तरह प्रभावित करता है। नशीले पदार्थों का प्रयोग आज एक विश्वव्यापी समस्या बन चुकी है। देश में मादक पदार्थों के सेवन के प्रति युवा पीढ़ी ग्लैमर लाईफ स्टाइल की झूठी शान दिखाने के चक्कर में अंधी दौड़ में शामिल हो रही है। शहरी क्षेत्र ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी इसका असर देखने को मिल रहा है। युवा पीढ़ी ज़्यादातर स्कूल-कालेजों के छात्र जीवन में अपने साथियों के कहने या मित्र मंण्डली के दबाव डालने पर या फिर मॉडर्न दिखने की चाह में इनका सेवन शुरू करते हैं। कुछ युवक मादक पदार्थों से होने वाली अनुभूति को अनुभव करने के लिए, तो कुछ रोमांचक अनुभवों के लिए तो कुछ ऐसे लोग होते हैं जो मानसिक तौर पर परेशानी या हताशा के हालात में इनका सेवन शुरू करते हैं। मानव जीवन की रक्षा के लिए बनाई जाने वाली कुछ दवाओं का उपयोग भी लोग अब तो नशा करने के लिए इस्तेमाल करने लगे हैं।

जिला अस्पताल पंडरी में स्थित स्पर्श क्लीनिक के मनोचिकित्सक डॉ. अविनाश शुक्ला ने बताया कोई भी व्यक्ति एक दिन में नशे का आदी नहीं होता है। यह प्रक्रिया धीरे-धीरे होती है। शौक धीरे—धीरे आदी बना देता है जब व्यक्ति नशे की गिरफ्त में आता है। उससे पहले वह कुछ संकेत भी देता है। उन संकेतों को परिवार को समझना बहुत जरूरी होता है। 26 जून को हर वर्ष अंतर्राष्ट्रीय मादक पदार्थ सेवन और तस्करी निरोध दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस वर्ष की थीम "बेहतर देखभाल के लिए बेहतर ज्ञान" है। आदी होने से पूर्व लक्षण जो देखे जाते हैं। खेलकूद और रोजमर्रा के कामों में दिलचस्पी न लेना, भूख कम लगना, वजन कम हो जाना, शरीर में कंपकंपी छूटना, आंखें लाल और सूजी हुई लगना, दिखाई कम देना, चक्कर आना, उल्टी दस्त आना, अत्यधिक पसीना आना, शरीर में दर्द लगना, नींद न आना की समस्या, चिड़चिड़ापन, सुस्ती, आलस्य, निराशा, गहरी चिन्ता, सुई के माध्यम से मादक पदार्थ को लेने वालों व्यक्ति को एड्स का खतरा भी रहता है।

पदार्थ जिनका व्यसन होता है :

शराब, (बियर व्हिस्की रम हंडिया महुआ ठर्रा), तंबाकू उत्पाद (तंबाकू बीड़ी बीड़ी सिगरेट गुड़ाखू गुटका नसवार), गांजा चरस, भांग, अफीम, भुक्की, डोडा, हेरोइन, ब्राउन शुगर, स्मैक फोर्टविन (पेंटाजोसिन) कोकिन, नींद की गोलियां, सांस के माध्यम से लिए जाने वाले पदार्थ जैसे गैस, पेंट, पेट्रोल, गोंद, डेन्ड्राइड व्हाइटनर। डेन्ड्राइड और व्हाइटनर का उपयोग स्कूल के बच्चे, या सड़कों पर कचरा बिनने वाले बच्चे में ज्यादा देखने को मिलता है क्यूंकि ये आसानी से उपलब्ध होता है, और किसी को शक भी नहीं होता है। मादक पदार्थ को कुछ भागों में बांट सकते हैं। अपशामक, मतिभ्रम उत्पन्न करने वाले पदार्थ, निच्श्रेतक और दर्द निवारक मादक पदार्थ, उत्तेजक, भांग से निर्मित मादक पदार्थ, अपशामक - मस्तिष्क की सक्रियता कम कर देते हैं। ये पदार्थ हैं, अल्कोहल, सिकोनाल, नेमब्यूटाल, गाडेर्नाल, वैलियम, लिबियम, मैन्ड्रेक्स, डोरिडेन, N10, एलप्रेक्स, नाइट्रो सन, है। मतिभ्रम उत्पन्न करने वाले पदार्थ - हमारे देखने, सुनने और महसूस करने की क्षमता पर प्रभाव डालते हैं। निच्श्रेतक और दर्द निवारक मादक पदार्थ-अफीम, मॉर्फीन, कोकीन, हेरोइन, ब्राउन शूगर, मेथाजेन, पेथीडीन, मेप्राडीन है।
उत्तेजक - मस्तिष्क के केन्द्रीय तंत्रिका तंत्रों की सक्रियता बढ़ा देते हैं। जैसे, बैंजोड्रिन, डैक्सेड्रिन, मैथेड्रिन, कोकीन, निकोटीन है। भांग से निर्मित मादक पदार्थ - गांजा, हशीश, चरस नशीले पदार्थ और तस्करी के मामले भारत में नारकोटिक ड्रग्स एंड सायकोट्रॉपिक सब्सटनसीज एक्ट (NDPS एक्ट)2014 के अंतर्गत आते हैं। जोलोग नशीले पदार्थों कीतस्करी अथवा व्यापार करते हैं, उनके इस व्यापार/तस्करी से अर्जित की हुए संपत्ति भी सरकार जब्त कर सकती है और सज़ा के साथ-साथ जुर्माने का प्रावधान भी किया गया है। 

क्या कहते हैं आंकड़े :

राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य सर्वे 2015-16के अनुसार छत्तीसगढ़ में 29.86 % लोग तम्बाकू खाने के आदि है जबकि 7.14 % शराब पीने के आदि हैं।

25-06-2020
चाकू की नोक पर दोस्त को लूटने वाले चार आरोपी  चढ़े पुलिस के हत्थे

कोरबा। कोतवाली पुलिस ने उन चार लुटेरों को गिरफ्तार कर लिया है,जिन्होंने शराब के नशे में अपने ही दोस्त को चाकू की नोक पर लूट लिया था। बीती रात राताखार बायपास मार्ग के पास आरोपियों ने अरुण दास नामक युवक से चाकू की नोक पर मोबाइल और नकदी रकम की लूट करने के साथ ही मारपीट की घटना को अंजाम दिया था।शिकायत के बाद हरकत में आई पुलिस ने चारों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए आरोपियों में दीपक,संतोष केंवट, चंदन और टिल्ली है,जिन्हें पुलिस ने वारदात के 24 घंटे के भीतर ही पकड़ लिया। मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी अन्य साथी को लूटने के संबंध में बात कर रहे थे। उनकी बात को किसी ने सुनकर पुलिस को सूचित कर दिया,जिसके बाद पुलिस ने एक एक कर सभी आरोपियों को पकड़ लिया।आरोपियों के पास से पुलिस ने चार हजार रुपए नकदी रकम,धारदार चाकू और मोबाइल को बरामद कर लिया। पुलिस ने  बताया कि चंदन गोण आदतन बदमाश है,जिसके खिलाफ कोतवाली में चोरी,मारपीट सहित अन्य कई मामले दर्ज हैं और वर्तमान में वह दुपहिया वाहन की चोरी के मामले में पैरोल पर जेल से छूटकर आया था।

 

   

 

13-06-2020
दोस्ती में दगाबाजी,दोस्त की बीवी के साथ किया अनाचार

भिलाई। शादी के झांसा देकर दोस्त की बीवी से जबरदस्ती अनाचार करने का मामला प्रकाश में आया है। खुर्सीपार थाने से मिली जानकारी के अनुसार घटना की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 294,363,366,376,450,506 के तहत अपराध कायम किया है। खुर्सीपार टीआई सुरेन्द उके ने बताया कि रायपुर निवासी राजबीर सिंह ट्रांसपोर्टर है। उसकी दोस्ती खुर्सीपार एक ट्रांसपोर्टर से हुई। इस दरम्यान छह माह पहले दोस्त की पत्नी को शादी का झांसा देकर जबरदस्ती अनाचार किया। महिला ने पुलिस को बताया कि आरोपी उसकी फ़ोटो वायरल करने की धमकी भी दिया करता था। इसके अलावा महिला ने पुलिस को बताया कि नांदेड में राजबीर सिंह कई महिला के साथ इस तरह की घटना कर चुका है। इस बात की जानकारी स्वयं राजबीर ने पीड़ित महिला को दिया था।

 

15-05-2020
दस महीने से लापता युवक की पुलिस को मिली लाश, दोस्तों ने ही उतारा था मौत के घाट

जगदलपुर। शहर के रेलवे कालोनी में रहने वाला 23 वर्षीय युवक अचानक जुलाई 2019 में गायब हो गया था। पुलिस ने काफी प्रयास किया लेकिन युवक का कुछ भी पता नहीं चला। लेकिन अचानक 10 माह बाद बस्तर एसपी ने मामले को जल्द से जल्द हल करने और आरोपियों की पतासाजी करने की बात कही जिसके बाद बोधघाट पुलिस हरकत में आई और युवक के हत्या के मामले को हल करने में सफलता हासिल की। बताया जा रहा है कि हत्या करने में उसके साथियों का ही हाथ था। सूत्रों के अनुसार 9 जुलाई 2019 को रेल्वे कालोनी में रहने वाला शेखर सेना अपनी मोटर साइकिल लेकर घर से दोस्तों के साथ पार्टी मनाने जाने की बात कहते हुए निकल गया था। उसके बाद उसकी मोटरसाइकिल टूटी फूटी हालत में मोतीतालाब पारा के पास एक होटल के पास सड़क किनारे से बरामद की गई थी।

शुरुआत में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और परिजनों से लेकर उसके दोस्तों से पूछताछ की, लेकिन समय के साथ मामले पर अधिकारियों ने ध्यान नहीं दिया। इसके बाद मामला ठंडे बस्ते में चला गया था। पुलिस ने परिजनों से लेकर दोस्तों तक का नार्को टेस्ट तक करने की बात कही थी, लेकिन लॉक डाउन के कारण मामला रुक गया था। बस्तर पुलिस अधीक्षक दीपक झा ने फिर से मामले की जांच शुरू कराई जिसके बाद वापस शेखर के 2 दोस्तों के साथ पूछताछ शुरू की। जहां 3 दिनों के बाद दोस्तों ने ही हत्या करने की बात कबूली। पुलिस एसडीआरएफ की मदद से शव को खोज निकालने में जुटी है। मामले के बारे में जानकारी देते हुए बोधघाट थाना प्रभारी राजेश मरई ने बताया कि शेखर सेना और उसके दोस्तों के बीच गाँजा पीने के दौरान किसी बात को लेकर विवाद हो गया और उसने चाकू मारकर उसकी हत्या कर दिया, जिसके बाद शव को बोरे में भरकर उसे बैलाबाजार के पास बने अग्रसेन भवन के पीछे तालाब में फेंक दिया गया था।

05-05-2020
दोस्तों ने छीने पैसे तो शराब के नशे में पुलिस चौकी पहुंचा युवक, खुद को किया आग के हवाले

नई दिल्ली। यूपी के हापुड़ जिले की पिलखुआ कोतवाली क्षेत्र के रहने वाले एक युवक ने शराब पीने के बाद पुलिस चौकी के पास पहुंच कर खुद को आग लगा ली। चौकी इंचार्ज ने दौड़ कर जलते युवक की आग बुझाई और उसे अस्पताल में भर्ती कराया। 40 दिन बाद खुले शराब के ठेके की लेकर जहां भीड़ उमड़ने पर पुलिस को लाठी फटकारनी पड़ी। वहीं देर शाम कस्बा निवासी एक युवक शराब पीने के बाद छिजारसी पुलिस चौकी के पास पहुंच गया। अपने ऊपर कोई पदार्थ डालकर आग लगा ली। युवक को जलता देख चौकी में तैनात दरोगा ने दौड़ लगा दी। दरोगा ने युवक को बचाते हुए किसी तरह आग बुझाई। इस दौरान दरोगा भी झुलस गए। पुलिस ने झुलसे युवक को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया। सीओ पिलखुवा ने बताया कि युवक शराब के नशे में अपने दोस्तों के साथ जुआ खेल रहा था। उसका आरोप है कि उसके दोस्तों ने उसका पैसा और मोबाइल छीन लिया। वापस न करने पर उसने खुद को आग लगाई है। सीओ ने बताया कि युवक 20 प्रतिशत जला है जो अब खतरे से बाहर है।

21-04-2020
कलयुगी दोस्त ने दोस्त की बेटी से किया अनाचार, मामला दर्ज

रायपुर। कलयुग बोले या फिर कलयुगी दोस्त जो अपने ही दोस्त की 9 वर्षीय मासूम बेटी के साथ अनाचार की घटना को अंजाम दिया। बता दें कि महादेवघाट में 9 वर्षीय मासूम के साथ पिता के ही दोस्त ने अनाचार की घटना को अंजाम दिया।
थाने से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी प्रदीप चौधरी पेशे से धोबी है। आरोपी ने पीड़िता के पिता से दोस्ती कर ली थी। मौका मिलते ही एक दिन 9 वर्षीय मासूम को अकेले देखकर उसके साथ अनाचार की घटना को अंजाम दिया। आरोपी के खिलाफ पुलिस ने धारा 376,पास्को एक्ट को धारा 4,6 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर मामले की विवेचना शुरू कर दी है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804