GLIBS
10-01-2021
छोटे छोटे बच्चों की फर्राटेदार अंग्रेजी से प्रभावित हुए भूपेश बघेल, बच्चों के साथ ली सेल्फी

बीजापुर। बीजापुर जैसे सुदूर वनांचल में छोटे छोटे बच्चों के मुंह से फर्राटेदार अंग्रेजी सुनकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंत्रमुग्ध हो गए। रविवार को जिला मुख्यालय बीजापुर में स्वामी आत्मानंद में शासकीय इंग्लिश स्कूल का विधिवत लोकार्पण के समय छोटे छोटे बच्चों ने फर्राटेदार अंग्रेजी में बातचीत करके मुख्यमंत्री को पूरी तरह विस्मित कर दिया।उन्होंने यहां बच्चों के साथ सेल्फी ली और जनप्रतिनिधियों के साथ कैरम खेल का आनंद भी लिया।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जिला मुख्यालय बीजापुर में स्वामी आत्मानंद में शासकीय इंग्लिश स्कूल का विधिवत लोकार्पण किया। उन्होंने इस अवसर पर परिसर में जनप्रतिनिधियों के साथ वृक्षारोपण भी किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इंग्लिश स्कूल में संचालित गतिविधियों की सराहना करते हुए वहां विजिटर्स बुक में विद्यालय की शिक्षकों तथा छात्र छात्राओं को प्रोत्साहित करने वाली पंक्तियां लिखी। इस अवसर पर राजस्व व आपदा प्रबंधन मंत्री जय सिंह अग्रवाल, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विक्रम शाह मंडावी और संतराम नेताम,जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडियम, नगरपालिका अध्यक्ष बेनहूर रावतिया, बस्तर संभाग के कमिशनर जीआर चुरेंद्र,आईजी पी.सुंदरराज,कलेक्टर रितेश अग्रवाल,पुलिस अधीक्षक कमलोचन कश्यप, विद्यालय के प्राचार्य अमित गांधरला सहित छात्र छात्राएं तथा अभिभावकगण उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लोकार्पण के बाद विद्यालय का भ्रमण किया और छात्र छात्राओं के लिए उपलब्ध सुविधाओं का जायजा लिया। उन्होंने विद्यालय के छात्राओं के द्वारा तैयार किए गए आकर्षक रंगोली और छात्र.छात्राओं ने कबाड़ से जुगाड़, छत्तीसगढ़ का आर्थिक विकास पर आधारित मॉडल का भी अवलोकन किया। उन्होंने अंग्रेजी माध्यम उत्कृष्ट विद्यालय को उनके नाम के अनुरूप आने वाले समय में उत्कृष्टता प्रदान करने के लिए प्रेरित किया। स्वामी आत्मानंद शासकीय इंग्लिश स्कूल में कक्षा पहली से बारहवीं तक की कक्षाएं संचालित है। विद्यालय में 500 विद्यार्थी अध्ययनरत है। विद्यालय में विद्यार्थियों के लिए मॉडयूलर फर्निचर और आधुनिक प्रयोगशालाए खेल संसाधन की पूरी सुविधा उपलब्ध है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कराटे प्रदर्शन को सराहा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज बीजापुर प्रवास के दौरान स्वामी आत्मानंद शासकीय इंग्लिश स्कूल के मैदान में बीजापुर स्कूल आकादमी कराटे टीम के द्वारा किए गए उत्कृष्ट प्रदर्शन को देख कर काफी प्रभावित हुए।

 

31-12-2020
कैबिनेट उप समिति ने सक्रिय किसान संगठनों से की चर्चा,रविन्द्र चौबे ने कहा-यही हाल रहा तो प्रभावित होगी धान खरीदी

रायपुर। धान खरीदी के लिए गठित मंत्रि मंडलीय उप समिति के साथ गुरुवार को  मंत्रालय महानदी भवन में सक्रिय किसान संगठनों की आपात बैठक हुई।  बैठक में एफसीआई की ओर से चावल जमा नहीं करने और बारदानें की कमी के कारण धान खरीदी में आ रही दिक्कतों के संबंध में चर्चा हुई। कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि राज्य में धान खरीदी का काम सुचारू रूप से चल रहा है। लगभग साढ़े ग्यारह लाख पंजीकृत किसान धान बेच चुके हैं। प्रदेश में 50 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है। इस वर्ष गत वर्ष के अपेक्षा ज्यादा धान खरीदी होने का अनुमान है। बैठक में वन मंत्री मोहम्मद अकबर, सहकारिता डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल एवं खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने धान खरीदी में आ रही समस्याओं से किसानों को अवगत कराया। इस मौके पर नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया भी मौजूद थे। कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि धान खरीदी छत्तीसगढ़ सरकार का सबसे महत्वपूर्ण कार्य है। केन्द्र सरकार ने आज पर्यन्त तक एफसीआई में चावल लेने की अनुमति नहीं दी है। इसकी वजह से धान खरीदी और कस्टम मिलिंग का पूरा सिस्टम बाधित होने लगा है। यही स्थिति रही तो आने वाले समय में धान खरीदी प्रभावित होगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 30 दिसंबर को धान खरीदी के संबंध में मंत्रि-मंडल के सदस्यों के साथ आपात बैठक की। इसमें राज्य में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की अद्यतन स्थिति को लेकर गहन विचार-विमर्श किया गया।

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री और कृषि मंत्री से एफसीआई में धान जमा कराने की अनुमति के संबंध में बातचीत की है। मंत्री रविन्द्र चौबे ने बताया कि केन्द्र सरकार ने छत्तीसगढ़ राज्य को 60 लाख मीट्रिक टन चावल जमा करने की सैद्धांतिक सहमति दी है, किन्तु एफसीआई में चावल जमा करने की सहमति आज तक नहीं मिली है। इस कारण कस्टम मिलिंग प्रभावित हो रही है। चावल जमा न होने तथा कस्टम मिलिंग प्रभावित होने से बारदाने की रिसाईकलिंग नहीं हो पा रही है। इस कारण धान खरीदी के लिए बारदाने की भी समस्या हो रही है। कस्टम मिलिंग प्रभावित होने से धान खरीदी केन्द्रों में उपार्जित धान इकट्ठा हो गया है। संग्रहण केन्द्रों में धान जाम होने और बारदानें की समस्या के कारण धान खरीदी में दिक्कत आ सकती है। राज्य सरकार अपनी स्तर पर बारदानें की व्यवस्था कर धान खरीदी कर रही है। केन्द्र सरकार से अब तक केवल 1 लाख 5 हजार गठान बारदानें मिला है। बैठक में प्रदेश के सभी जिलों से लगभग 300 किसान शामिल हुए। किसानों ने एक मत से सरकार के साथ पूर्ण से सहयोग करने का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि वे सभी परिस्थितियों में धान खरीदी कार्य में सहयोग करेंगे। किसान समय बढ़ाकर धान बेचने के लिए भी तैयार है। धान बेचने के लिए अपने बारदाना भी देंगे। धैर्य से काम लेंगे। किसानों ने यह भी कहा कि वे केन्द्र सरकार के नाम राज्यपाल को ज्ञापन सौंपेंगे। एफसीआई में तत्काल चावल जमा कराने की अनुमति देने का आग्रह करेंगे। इसके अलावा क्षेत्रीय सांसदों से भी अनुमति दिलाने के संबंध में उनसे आग्रह करेंगे। बैठक में खाद्य विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह, कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ. एम.गीता, एमडी मार्कफेड अंकित आनंद सहित अन्य संबंधित आधिकारी मौजूद थे।

 

23-11-2020
लोन वर्राटू योजना से प्रभावित होकर 1 इनामी सहित 5 माओवादियों ने किया आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा। लोन वर्राटू योजना से प्रभावित होकर सोमवार को 5 माओवादियों ने आत्मसमर्पण किया है। जिले में चलाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के तहत लोन वर्राटू योजना से प्रभावित होकर और माओवादियों के खोखले विचारधारा से तंग आकर समाज के मुख्यधारा में जुड़ने के उद्देश्य सेआत्मसमर्पण किया है। इसमें दरभा डिवीजन डीव्हीसी दलम सुरक्षा का प्लाटून सेक्शन डिप्टी कमांडर सोमहू वेट्टी उम्र 22 वर्ष, छोटे गुडरा पंचायत जनमिलिशिया सदस्य बामन उम्र 40 वर्ष, नहाड़ी ककाड़ी पंचायत जनमिलिशिया सदस्य देवा मड़कम उम्र 30 वर्ष, ग्राम डुवाली कड़का सीएनएम सदस्य लक्ष्मण सोड़ी उम्र 20 वर्ष, ग्राम डुवाली कड़का सीएनएम सदस्या कुमारी मड़कम बोज्जो उम्र 20 वर्ष है। आत्मसमर्पित माओवादियों ने उप पुलिस महानिरीक्षक केरिपू बल दंतेवाड़ा विनय कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा डॉ अभिषेक पल्लव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा यू उदय किरण और कमांडेंड स्टाफ अधिकारी केवल कृष्ण तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र जायसवाल के समक्ष आत्मसमर्पण किया। छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास नीति के तहत आत्मसमर्पण के बाद समाज के मुख्यधारा में जुड़ने के बाद आत्मसमर्पित माओवादियों को 10-10 हजार रुपए प्रोत्साहन राशि दिया गया।

18-11-2020
लोन वर्राटू योजना से प्रभावित होकर सक्रिय माओवादी ने किया आत्मसमर्पण

 दंतेवाड़ा। जिले में चलाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के तहत बुधवार को लोन वर्राटू योजना से प्रभावित होकर मलांगिर एरिया कमेटी में सक्रिय माओवादी बण्डी लेकाम उम्र 26 वर्ष ने लोन वर्राटू योजना से प्रभावित होकर आत्मसमर्पण किया। बंडी लेकाम ने माओवादियों के खोखली विचारधारा से तंग आकर समाज के मुख्यधारा में जुड़ने के उद्देश्य से पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा डॉ.अभिषेक पल्लव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा यू.उदय किरण एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा राजेन्द्र जायसवाल के समक्ष आत्मसमर्पण किया। छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास नीति के तहत आत्मसमर्पण पश्चात समाज के मुख्यधारा में जुड़ने के बाद आत्मसमर्पित माओवादी को 10 हजार रुपए प्रोत्साहन राशि दी गई।

 

 

16-11-2020
किसान आंदोलन के कारण प्रभावित होगी दो पूजा स्पेशल ट्रेन,रद्द की जाएगी अंतिम स्टेशनों के पूर्व

रायपुर। किसान आंदोलन के कारण दो पूजा स्पेशल ट्रेन का परिचालन प्रभावित होगा। दोनों ट्रेन अपने गंतव्य के पूर्व ही समाप्त की जाएगी। रेलवे से मिली जानकारी के मुताबिक 17 और 18 नवंबर को कोरबा से छूटने वाली 08237 कोरबा-अमृतसर त्रि-साप्ताहिक पूजा स्पेशल ट्रेन मेरठ सिटी रेलवे स्टेशन में समाप्त होगी। इसी तरह 19 नवंबर को अमृतसर से छूटने वाली 08238 अमृतसर-बिलासपुर त्रि-साप्ताहिक पूजा स्पेशल ट्रेन अमृतसर के स्थान पर मेरठ सिटी रेलवे स्टेशन से ही बिलासपुर के लिए रवाना होगी। ये गाड़ियां उपरोक्त तिथियों को मेरठ सिटी-अमृतसर-मेरठ सिटी के बीच रद्द रहेगी। इसी प्रकार 18 नवंबर को दुर्ग से छूटने वाली 08215 दुर्ग-जम्मूतवी साप्ताहिक पूजा स्पेशल ट्रेन जम्मूतवी के स्थान पर नई दिल्ली स्टेशन में समाप्त होगी। नई दिल्ली-जम्मूतवी के मध्य रद्द रहेगी।

 

13-11-2020
नक्सल मोर्चे पर तैनात जवानों को छत्तीसगढ़ वॉरियर प्रशस्ति पत्र से नवाजा जाएगा, रूबरू हुए डीजीपी

 रायपुर। पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने गुरुवार को अभिनव पहल की। उन्होंने बस्तर के सभी जिलों में स्थित कैम्पों में पदस्थ जवानों से वर्चुअल माध्यम बात की। उन्होंने कहा कि नक्सल मोर्चे पर तैनात असाधारण कार्य के लिए जवानों को पुलिस मुख्यालय की तरफ से छत्तीसगढ़ वॉरियर के प्रशस्ति पत्र से नवाजा जाएगा। डीजीपी ने कहा कि जवानों की वीरता और साहस का कोई मोल नहीं है। नक्सल मोर्चे पर तैनात जवानों को उल्लेखनीय कार्यों के लिए आउट ऑफ टर्न प्रमोशन एवं अन्य सम्मान मिल जाते हैं, लेकिन कई ऐसे जवान हैं जिन्हें यह सम्मान नहीं मिल पाता है। ऐसे में पुलिस मुख्यालय की ओर से असाधारण वीरता का प्रदर्शन करने वाले जवानों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा। पुलिस के जवान हर दिन , हर पल लड़ाई लड़ते हैं। सभी दिवाली के त्यौहार पर अपने परिवार से दूर नक्सल मोर्चे पर मुस्तैदी से तैनात हैं। उन्होंने कहा कि दीपावली के बाद मैं प्रत्येक कैम्प में आकर सभी से मुलाकात करूंगा और हर समस्या का तत्काल हल किया जाएगा।

यह पहला अवसर है जब डीजीपी से अपनी बात सुदूर वनांचल स्थित नक्सल प्रभावित इलाकों से जुड़े करीब एक हजार जवानों ने अपनी बात रखी। दिवाली से पहले अपने मुखिया से रूबरू होकर और समस्याओं का तत्काल निराकरण होने पर जवानों में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला। वर्चुअली मुलाकात में सुकमा के फुलबागड़ी कैंप, दंतेवाड़ा के पालनार कैंप, पुलिस लाइन, बीजापुर के गुदमा कैंप, बस्तर के तिरिया कैंप, बास्तानार कैंप, कोंडागांव के मर्दापाल कैंप, कांकेर के अरगूर कैंप, नारायणपुर के एसपी ऑफिस और राजनांदगाव के मानपुर थाना, गातापार थाना से जवानों ने अपनी बात रखी। इस दौरान डीजीपी अवस्थी ने नक्सल प्रभावित इलाकों में तैनात जवानों के त्याग और कर्तव्यनिष्ठा को सलाम किया। उन्होंने कहा कि नक्सल मोर्चे पर महिला कमांडो भी उल्लेखनीय कार्य कर रही हैं। डीजीपी के समक्ष जवानों ने आवास, स्थानान्तरण, अग्रिम राशि और अन्य मांगे रखीं, जिनका तत्काल निराकरण किया गया।

12-11-2020
संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव पहुंचीें बिहान बाजार,हस्तनिर्मित उत्पादों को देखकर हुईं प्रभावित

कोरिया। बैकुंठपुर में बिहान बाजार में महिला स्व सहायता समूहों हस्तनिर्मित उत्पादों का विक्रय कर रहीं है। बिहान बाजार में महिलाएं गोबर से बने रंग-बिरंगे दीए व टेराकोटा की कलाकृतियों के साथ ही बांस से बने एवं अन्य हस्तनिर्मित उत्पाद भी विक्रय कर रही हैं। संसदीय सचिव व बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव गुरुवार को बिहान बाजार में पहुंचीं। यहां उन्होंने हस्तनिर्मित उत्पादों को देखा और प्रभावित हुईं। उन्होंने महिलाओं को प्रोत्साहित किया। कलेक्टर एसएन राठौर और सीइओ जिला पंचायत तूलिका प्रजापति बिहान बाजार पहुंचीं और बिहान योजना से जुड़ी महिलाओं का हौसला बढ़ाया। बैकुंठपुर में जिला एवं सत्र न्यायालय के पास यह बाजार लगाया गया है।

इस अनोखे बाजार में विभिन्न उत्पाद मौजूद हैं, जिसमें टेराकोटा उत्पाद, बांस निर्मित उत्पाद, गोबर के दिए एवं अन्य उत्पाद के साथ साथ घरेलू उपयोग के सामान जैसे- हर्बल साबुन, हैंडवाश, फिनॉल, हार्पिक, डिटर्जेंट पावडर, डिश वॉश लिक्वीड एवं अन्य उत्पाद शामिल हैं। इतना ही नहीं यहां साज सजावट के सामान जैसे- झुमर, पैरदान, थाल पोस, गुलदस्ता, माईक्रोम से बने उत्पाद एवं अन्य उत्पाद भी मिलते हैं। बाजार में दीपावली विशेष के अंतर्गत मूर्ति, अगरबत्ती, डिजाइनर मोमबत्ती, बाती एवं अन्य पूजन सामग्री भी उपलब्ध है। 

 

 

08-11-2020
महापौर ने 38 हितग्राहियों को सौंपा आवंटन पत्र,सड़क चौड़ीकरण के दौरान हुए थे प्रभावित

भिलाई। नगर पालिक निगम भिलाई क्षेत्र अंतर्गत पावर हाउस ओवर ब्रिज के नीचे कई सालों से अवैध रूप से व्यवसाय करने वाले व्यवसायियों को व्यवस्थापन के तहत महापौर एवं भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव ने आवंटन पत्र सौंपा। अब बेझिझक यहां पर व्यवसाय कर पाएंगे। विगत 8 साल पूर्व सड़क निर्माण एवं चौड़ीकरण के दौरान पावर हाउस ओवर ब्रिज के नीचे गुमटी के माध्यम से व्यवसाय करने वाले व्यवसायियों के दुकानों को राजस्व विभाग द्वारा हटा दिया गया था। सड़क निर्माण पश्चात पुनः व्यवसायी अवैध रूप से व्यवसाय करने लगे और इसी स्थान पर पुनः आवंटन की मांग करने लगे। मामला संज्ञान में आने पर महापौर  देवेंद्र यादव एवं आयुक्त  ऋतुराज रघुवंशी ने दीनदयाल उपाध्याय योजना के व्यवस्थापन के तहत प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए थे। निगम ने प्रभावित लोगों का सर्वे कराकर 38 व्यवसायियों का चयन किया, जो अतिक्रमण से प्रभावित हुए थे। व्यवस्थापन का प्रकरण तैयार कर जिला चयन समिति दुर्ग को प्रेषित किया गया। स्वीकृति मिलने के पश्चात प्रभावित हितग्राहियों को महापौर ने आबंटन पत्र वितरित कर दिया है। उल्लेखनीय है कि 6*5 साइज की गुमटी का आबंटन हितग्राहियों को पूर्व में किया गया था, वर्ष 2014 में सड़क निर्माण के दौरान इन्हें हटा दिया गया था। अब आवंटन पत्र मिलने से निर्भीक होकर हितग्राही दुकान का संचालन कर पाएंगे। 

 

07-11-2020
पीड़ित पुनर्वास योजना के तहत प्रभावित लोगों को तत्काल रोजगार उपलब्ध कराने के निर्देश दिया कलेक्टर महादेव कावरे ने

रायपुर/जशपुरनगर। कलेक्टर महादेव कावरे ने कल पीड़ित पुर्नवास योजना के संबंध में अफसरों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। कलेक्टर ने पीड़ित पुर्नवास योजना के तहत् प्रभावित लोगों को रोजगार से जोड़ने के लिए प्रशिक्षण देने के लिए भी कहा। उन्हें कम्प्यूटर, ड्राईविंग और कौशल योजना से जोड़कर हुनरमंद बनाने के निर्देश दिए है। साथ ही जिन्होंने अपनी अधूरी पढ़ाई करके छोड़ दी है। उन्हें शिक्षा से जोड़कर उनकी रूचि के अनुसार विषय में शिक्षा देने के लिए भी कहा है। बैठक में पीड़ित पुर्नवास योजना के तहत् एक प्रभावित व्यक्ति को भृत्य के नौकरी देने का निर्णय लिया गया है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक बालाजी राव, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  के.एस.मण्डावी, अपर कलेक्टर आईएल ठाकुर, डिप्टी कलेक्टर आकांक्षा त्रिपाठी, कृषि विभाग, पशुपालन विभाग, वन विभाग और शिक्षा विभाग के अधिकार उपस्थित थे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804