GLIBS
30-06-2020
अनंतनाग में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी ढेर

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर से आतंकवादियों का सफाया लगातार जारी है। दक्षिण कश्मीर के बिजबेहरा के वाघामा गांव में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई है। अनंतनाग के वाघामा इलाके में सुरक्षा बलों ने दो आतंकवादियों को ढेर कर दिया है। इस एनकाउंटर में जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना के जवान शामिल थे। जोन की पुलिस ने ट्वीट कर बताया कि एनकाउंटर की शुरुआत अनंतनाग के वाघा इलाके में हुई। बता दें कि हाल के दिनों में सुरक्षा बलों ने आतंक के खिलाफ कार्रवाई और तेज कर दी है। जम्मू-कश्मीर के डीजी ने बताया कि वाघमा बिजबेहारा में एक मुठभेड़ में, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवान और एक 5 वर्षीय बच्चे की हत्या करने वाले दो आतंकवादियों को मार गिराया गया

26 जून को सीआरपीएफ की टीम पर हुआ था हमला :

अनंतनाग में शुक्रवार को सीआरपीएफ की टीम पर आतंकी हमला हुआ था। इस हमले में एक सीआरपीएफ का जवान शहीद हो गए, जबकि एक बच्चे की भी मौत हो गई है। सीआरपीएफ की यह टीम अनंतनाग के बिजबेहरा पर हाईवे की सुरक्षा में में तैनात थी। सीआरपीएफ की टीम पर हुए आतंकी हमले के बाद पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गई थी। इस हमले में शामिल दोनों आतंकवादियों को आज सुरक्षाबलों ने ढेर कर दिया।

29-06-2020
जम्मू-कश्मीर : आतंकियों से मुक्त हुआ डोडा जिला, अनंतनाग में तीन आतंकी ढेर

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की शामत आ चुकी है। त्राल के बाद डोडा डिस्ट्रिक्ट को सुरक्षाबलों ने आतंकियों से मुक्त कर दिया है। कश्मीर में आतंक का गढ़ माने जाने वाले त्राल सेक्टर के बाद अब भारतीय सुरक्षाबलों को डोडा जिले में बड़ी कामयाबी हासिल की है। सोमवार को सुरक्षाबलों ने अनंतनाग जिले के खुलचोहर में सोमवार तड़के हिजबुल मुजाहिदीन के तीन आतंकियों को ढेर कर दिया, जिसमें एक कमांडर भी शामिल है। सुरक्षा बलों और जम्मू-कश्मीर पुलिस के संयुक्त अभियान में इन आतंकवादियों को मार गिराया गया है। मारे गए आतंकवादियों के पास से एक एके राइफल और दो पिस्तौल बरामद हुई है। जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने कहा कि हिजबुल मुजाहिदीन (एचएम) के कमांडर मसूद को एनकाउंटर में ढेर कर दिया है, जिसके बाद से डोडा पूरी तरह से 'आतंकवादी मुक्त' जिला बन गया है

सिंह ने कहा ने कहा कि स्थानीय आरआर यूनिट के साथ पुलिस ने अनंतनाग के खुलचोहर क्षेत्र में आज के ऑपरेशन को अंजाम दिया। इसमें एक जिला कमांडर और एक एचएम कमांडर मसूद सहित 2 लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादियों को ढेर कर दिया और जम्मू का डोडा जिला पूरी तरह से एक बार फिर से आतंकवाद मुक्त हो गया। डीजीपी ने कहा कि डोडा जिले का रहने वाला मसूद बलात्कार के मामले में आरोपी था और वह तब से फरार चल रहा था। वह बाद में हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया था और ऑपरेशन के क्षेत्र को कश्मीर में स्थानांतरित कर दिया था। 

इससे पहले त्राल को किया था आतंक मुक्त :

जम्मू-कश्मीर के त्राल क्षेत्र से सुरक्षाबलों ने 26 जून को एक ऑपरेशन में हिजबुल मुजाहिदीन के तीन आंतवादियों को ढेर कर दिया था। कश्मीर पुलिस के आईजीपी ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि त्राल क्षेत्र से हिजबुल मुजाहिदीन के आंतवादियों का खात्मा हो गया और 1989 के बाद ऐसा पहली बार हुआ है।

16-10-2019
जम्मू-कश्मीर : सुरक्षाबलों को मिली सफलता, 3 आतंकी ढेर

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में बुधवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए हैं। यह जानकारी पुलिस सूत्रों के हवाले से मिली है। सुरक्षाबलों को बिजबेहरा क्षेत्र के पजलपोरा गांव में आतंकवादियों के छिपे होने की विशेष सूचना मिली थी, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर लिया। पुलिस अधिकारी ने कहा, “सुरक्षा बलों ने छिपे हुए आतंकवादियों को पकड़ने के लिए जैसे ही घेराबंदी की, उन्होंने गोलीबारी शुरू कर दी। क्षेत्र में अभी भी मुठभेड़ जारी है।” मिली रिपोर्ट के अनुसार, तीन आतंकवादी ढेर हो चुके हैं। हालांकि पुलिस का कहना है उनके शव बरामद होने के बाद ही मौत की पुष्टि की जाएगी। बता दें कि सोमवार को ही शोपियां जिले में एक संदिग्ध पाकिस्तानी नागरिक समेत दो आतंकवादियों ने सेब ला रहे राजस्थान के एक ट्रक ड्राइवर की गोली मारकर हत्या कर दी थी।

 

12-10-2019
श्रीनगर में भरे बाजार पर आतंकियों ने किया ग्रेनेड हमला, 7 घायल

श्रीनगर। जम्मू एवं कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के भीड़ भरे बाजार में शनिवार को आतंकवादियों ने ग्रेनेड से हमला कर दिया, जिसमें 11 नागरिक घायल हो गए। पुलिस ने कहा कि आतंकवादियों ने श्रीनगर में हरिसिंह हाई स्ट्रीट में ग्रेनेड से तब हमला किया, जब वहां खरीदारों की भीड़ लगी थी। पुलिस ने कहा, "ग्रेनेड हमले में कम से कम 11 नागरिक घायल हो गए हैं। सभी घायलों को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।" घटना के तत्काल बाद ही मौके पर भारी मात्रा में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। घटनास्थल पर जम्मू-कश्मीर पुलिस के साथ-साथ सुरक्षबलों की टीम मौजूद है। सुरक्षाबल ग्रेनेड अटैक के बारे में पड़ताल कर रहे हैं। इससे पहले दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों ने पांच अक्टूबर को ग्रेनेड हमला किया था। डीसी ऑफिस के बाहर किए गए हमले में एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी और एक पत्रकार समेत 14 लोग घायल हुए थे। सुरक्षा एजेंसियों के पास इनपुट है कि आतंकी घाटी के अन्य जिलों में भी भीड़भाड़ वाले स्थानों पर हमले कर सकते हैं। पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 खत्म किए जाने के बाद आतंकवादियों ने दुकानदारों, ट्रांसपोर्ट संचालकों और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को दैनिक कार्य नहीं करने के लिए धमकी दे रहे हैं।

 

10-08-2019
राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल पहुंचे अनंतनाग, लोगों से की बातचीत

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हाटने के ऐलान के बाद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल शनिवार को अनंतनाग पहुंचे। यहां उन्होंने स्थानीय लोगों से मुलाकात की और उनके साथ बातचीत भी की। डोभाल ईद के लिए भेड़ों की मंडी में भी पहुंचे। जहां उन्होंने भेड़ों को बचेने वाले चरवाहों से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने चरवाहे से कुछ देर तक बात की। इससे दो दिन पहले डोभाल को शोपियां की सड़को पर आम लोगों से बातचीत की और उनके खाना भी खाया। इससे पहले शुक्रवार को उन्होंने श्रीनगर शहर का दौरा किया था। इस दौरान उन्होंने दो घंटे तक सैनिकों और स्थानीय लोगों से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने उनकी समस्याओं पर चर्चा की। अजित डोभाल ने लोगों को आश्वासन दिया कि आपके बच्चे सुरक्षित रहें यह हमारी प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि आपकी सलामती हमारी जिम्मेदारी है। इतना ही नहीं अजीत डोवल ने आम कश्मीरियों के साथ बातचीत करते हुए उनके साथ भोजन भी किया।  बता दें ईद के मौके पर कश्मीर के सड़कों पर लोग नजर आ रहे हैं।  हालांकि आतंकवाद प्रभावित जिलों में अब भी फूंक-फूंक  कर कदम उठाए जा रहे हैं। 

 

28-06-2019
अमरनाथ यात्रा को लेकर अनंतनाग में बढ़ाई सुरक्षा, चप्पे-चप्पे पर जवान तैनात

नई दिल्ली। पहली जुलाई से शुरू हो रही अमरनाथ यात्रा से पहले जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इसके साथ ही सुरक्षाबलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है और खानबल पहलगाम सड़क को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। इसके साथ ही चप्पे-चप्पे पर सीआरपीएफ, बीएसएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवानों की तैनाती की गई है। बता दें, शुक्रवार को अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले का अलर्ट आया। इसके बाद यात्रा के मार्ग पर जगह-जगह जवानों की तैनाती कर दी गई है। किसी भी आतंकी घटना से निपटने के लिए सीसीटीवी कैमरों की भी मदद ली जा रही है। इसके अलावा केपी रोड पर सभी प्रकार के वाहनों को उचित जांच के बाद ही संचालन की अनुमति दी जा रही है।
पहली जुलाई से शुरू हो रही अमरनाथ यात्रा से पहले जम्मू कश्मीर के अनंतनाग जिले में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। इसके साथ ही सुरक्षाबलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है और खानबल पहलगाम सड़क को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। इसके साथ ही चप्पे-चप्पे पर सीआरपीएफ, बीएसएफ और जम्मू कश्मीर पुलिस के जवानों की तैनाती की गई है।

12-06-2019
पाक आतंकियों के घातक हमले में सीआरपीएफ  के पांच जवान शहीद

श्रीनगर। दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जिले में बुधवार को आतंकियों के हमले में सीआरपीएफ  के पांच जवान शहीद हो गए। आतंकियों ने सीआरपीएफ  की पिकेट पर पहले अंधाधुंध गोलियां बरसाईं फिर ग्रेनेड हमला किया। हमले में अनंतनाग के एसएचओ भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं। मौके पर मौजूद एक महिला को भी चोट पहुंची है। जवाबी कार्रवाई में एक पाकिस्तानी आतंकी मारा गया है। घटना व्यस्ततम खन्नाबल-पहलगाम रोड पर अनंतनाग बस स्टेशन से एक किलोमीटर दूर महिला कालेज के पास की है। दो आतंकियों ने वहां पिकेट पर तैनात सीआरपीएफ के जवानों को निशाना बनाकर अंधाधुंध फायरिंग की। गोलियों की आवाज सुनकर एसएचओ और डिवीजनल ऑफिसर, रक्षक वाहन से वहां पहुंचे तो आतंकियों ने दोनों गाडिय़ों को निशाना बनाकर ग्रेनेड दागे।  एसएचओ की गाड़ी से टकराकर ग्रेनेड फट गया, जिसमें एसएचओ अरशद खान घायल हो गए। डिविजनल ऑफिसर की गाड़ी को निशाना बनाकर दागा गया ग्रेनेड नहीं फटा। बताते हैं कि आतंकी मोटरसाइकिल से वहां पहुंचे थे। घटना के बाद एक आतंकी मौके से भाग निकला।  हमले में घायल जवानों को तत्काल अस्पताल ले जाया गया जहां पांच ने दम तोड़ दिया। एसएचओ को गंभीर अवस्था में सेना के श्रीनगर स्थित 92 बेस अस्पताल में ले जाया गया है। सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेर लिया है। इलाके में व्यापक पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। 
 

12-06-2019
अनंतनाग में आतंकियों ने फिर किया हमला, सीआरपीएफ के 4 जवान घायल

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों ने सीआरपीएफ की टीम पर हमला कर दिया है। अनंतनाग में बस स्टैंड के पास हुए इस हमले में तीन जवान घायल हो गए हैं। बताया जा रहा है कि अनंतनाग में बाइक सवार 2 नकाबपोश आतंकी आए और सीआरपीएफ और पुलिस बल के जवानों पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी जिसमें तीन जवान घायल हो गए। इसमें हमले में सीआरपीएफ के तीन और राज्य पुलिस बल का एक जवान घायल हुआ है। एक जवान की स्थिति गंभीर बताई जा रही है, जबकि इस गोलीबारी में आतंकवादी मारा गया है वहीं दूसरे आतंकवादी की तलाश जारी है। एनकाउंटर जारी है। बता दें कि इससे पहले जम्मू-कश्मीर के पुंछ में पाकिस्तान ने सोमवार को सीजफायर का उल्लंघन किया, जिसमें एक जवान शहीद हो गया। गोलीबारी में एक जवान घायल भी हुआ है। पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी शुरू की गई, जिसका भारतीय सेना ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया। ज्ञात हो कि पाकिस्तान के जरिए कई बार सीजफायर का उल्लघंन किया गया है। हद तो तब हो गई जब पाकिस्तान ने ईद का दिन भी नहीं छोड़ा और उस दिन भी पाकिस्तान की तरफ से सीजफायर का उल्लंघन किया गया। ईद के पाक दिन कश्मीर घाटी के शांत रहने की उम्मीद थी, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। पुलवामा में पत्थरबाजों ने सेना के गश्ती दल पर पथराव किया, वहीं पुंछ में पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन किया।

29-04-2019
अनंतनाग में बूथों के बाहर पत्थरबाजी के बीच हुआ 10 फीसदी मतदान

जम्मू। अनंतनाग लोकसभा के दूसरे चरण में सोमवार को कुलगाम जिले में हिंसक झड़पों के बीच 10 फीसदी मतदान हुआ। कई बूथों के बाहर पत्थरबाजी की घटनाएं हुईं। कुजर कुलगाम में प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पैलेट गन का इस्तेमाल करना पड़ा, जिसमें चार लोग घायल हो गए।  खुडवानी, बुगाम तथा कुछ अन्य स्थानों पर भी पत्थरबाजी की खबरें हैं। दो चरणों में इस लोकसभा सीट पर 20 फीसदी मतदान हुआ है। सीईओ शैलेंद्र कुमार ने बताया कि कुल चार लाख मतदाताओं में से 35,524 ने मतदान किया। 434 मतदान केंद्र बनाए गए थे। इनमें चार महिला मतदान केंद्र और 20 मॉडल मतदान केंद्र थे।

25-04-2019
अनंतनाग में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों में मुठभेड़, दो आतंकी ढेर 

जम्मू-कश्मीर। अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच गुरुवार को मुठभेड़ हुई। इसमें सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को ढेर कर दिया। रिपोर्ट के मुताबिक, दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग जिले के बिजबेहारा कस्बे में हुई इस मुठभेड़ में दो आतंकवादी मार गिराए गए हैं। यहां सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन जारी है। आतंकियों की लाश के पास से हथियार और गोला बारूद बरामद हुआ है। आतंकियों की पहचान की जा रही है। इससे पहले 20 अप्रैल को जम्मू और कश्मीर के बारामूला जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया था। बता दें कि बुधवार को श्रीनगर में हुई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जीओसी केजेएस ढिल्लन ने बताया था कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद से सेना ने कश्मीर घाटी में अपनी कार्रवाई तेज की है। 

 

23-11-2018
Terrorists : अनंतनाग मुठभेड़ में 6 आतंकी ढेर, सर्च आॅपरेशन शुरू 

जम्मू कश्मीर। अनंतनाग जिले के सेतकीपोरा के बिजबिहाड़ा में जारी मुठभेड़ में 6 आतंकी मारे गए। दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों को कई आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली, जिसके बाद सर्च आॅपरेशन शुरू किया गया।
पुलिस सूत्रों के अनुसार लंबे चले एनकाउंटर में सुरक्षा बलों ने 6 आतंकियों को मार गिराया है. जिन 6 आतंकियों को ढेर किया गया है, उसमें पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या में शामिल आतंकी आजाद मलिक का नाम भी है। आजाद मलिक के अलावा उनैस शाखी, शाहिद बशीर, बसित इश्तियाक, आकिब नजर, फिरदौर नजर को सेना ने ढेर कर दिया है। आतंकियों ने इस साल जून में शुजात बुखारी की हत्या की थी।
शव को बरामद कर लिया गया है। हालांकि सुरक्षा बलों की ओर से फायरिंग रोक दी गई है और सर्च आॅपरेशन अभी जारी है। घटनास्थल से हथियार और गोला-बारूद बरामद किए गए हैं। सूत्रों का कहना है कि मारे गए आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हो सकते हैं, लश्कर पिछले कुछ दिनों से क्षेत्र में सक्रिय था। शवों की पहचान की जानी है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804