GLIBS
01-08-2020
जांजगीर-नैला के वार्डों को किया गया कंटेनमेंट जोन घोषित, आवागमन प्रतिबंधित

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी यशवंत कुमार ने नगर पालिका जांजगीर-नैला के वार्ड क्रमांक 6 व 22,  तहसील नवागढ़ के ग्राम कांसा के वार्ड क्रमांक 6, तहसील बलौदा के ग्राम कुरमा के वार्ड क्रमांक 11 व 12 और ग्राम बिरगहनी के चिन्हांकित क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। नगर पालिका जांजगीर-नैला के वार्ड क्रमांक 22 में दो, नगर पालिका जांजगीर-नैला के वार्ड क्रमांक 06, तहसील नवागढ़ के ग्राम कांसा के वार्ड क्रमांक 06 में, तहसील बलौदा के ग्राम कुरमा के वार्ड क्रमांक 11 व 12  में और ग्राम बिरगहनी एक-एक संक्रमित व्यक्ति पाए जाने पर उक्त क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है।

कंटेंनमेंट जोन में अति आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति तथा अपरिहार्य स्वास्थगत आपातकालीन परिस्थितियों को छोड़कर कंटेनमेंट जोन में आने-जाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। कंटेंनमेंट जोन के निवासी बिना अनुमति के अपने घरों से बाहर किसी भी परिस्थिति में नहीं निकलेंगे। क्षेत्र के अंतर्गत सभी दुकानें, आफिस एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगे। वाहनों के आवागमन पर भी पूर्ण का प्रतिबंध लगाया गया है। अति आवश्यक होने पर पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा। कानून-व्यवस्था, कंटेनमेंट जोन को सील करने एवं गश्त करने के लिए आवश्यक पुलिस व्यवस्था के लिए पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी को जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

 

21-07-2020
लोगों को आवागमन में होगी सुविधा, शहर में किया जा रहा सड़कों को चौड़ीकरण

कांकेर। शहर में सड़क चौड़ीकरण के तहत सीसी रोड का निर्माण किया जा रहा है। इसे गुणवत्तापूर्ण ढंग से समय-सीमा में पूर्ण कराने के लिए वाहनों के आवागमन को डायवर्ट किया  गया है। शहरवासियों को आवागमन एवं दैनिक सामग्रियों की खरीदी के लिए शहर के भीतर आने-जाने में किसी प्रकार की परेशानी ना हो, इस बात को ध्यान में रखते हुए वाहन पार्किंग के लिए स्थल का चयन किया गया है। कांकेर विधायक एवं संसदीय सचिव शिशुपाल शोरी, मुख्यमंत्री के संसदीय सलाहकार राजेश तिवारी, कलेक्टर केएल चौहान, पुलिस अधीक्षक  एमआर अहिरे तथा नगर पालिका परिषद कांकेर के पूर्व अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह ठाकुर एवं पार्षदों की उपस्थिति में जिला कार्यालय के सभा कक्ष में बैठक आयोजित की गई। इसमें सड़क चौड़ीकरण एवं शहर के सौंदर्यीकरण पर विचार विमर्श किया गया। सड़क चौड़ीकरण में सीसी रोड का निर्माण किया जा रहा है, जिसे देखते हुए आम लोगों की सुविधा के लिए पुराना कचहरी, एसडीओपी ऑफिस के पास, कृषि उपज मंडी परिसर और पुराना बस स्टेण्ड के पास वाहनों का पार्किंग किया जा सकता है। इस व्यवस्था के प्रचार-प्रसार के लिए कांकेर शहर में मुनादी कराने के लिए मुख्य नगरपालिका अधिकारी डॉ.कल्पना ध्रुव को निर्देशित किया गया है। जिला कार्यालय में बैठक पश्चात सड़क चौड़ीकरण एवं सौंदर्यीकरण कार्य का निरीक्षण भी किया।

 

27-06-2020
 सड़क में पानी भराव से वार्डवासियों को आवागमन में हो रही परेशानी

लखनपुर। साप्ताहिक बाजार रोड में जलभराव होने से वार्डवासियों को आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। साप्ताहिक बाजार सड़क में पानी निकासी नहीं होने से इस मार्ग पर चलने वाले लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लिहाजा वार्डवासियों ने अपनी परेशानी व्यक्त करते हुए नगरीय प्रशासन का ध्यान आकर्षण करवाते हुए वार्ड क्रमांक 8 सप्ताहिक बाजार रोड में नाली निर्माण कराए जाने तथा बारिश के मौसम में होने वाले जलभराव से निजात दिलाने की मांग की है।

 

26-06-2020
नई लेदरी में बनेगी आरसीसी रोड, लोगों को आवागमन में होगी सुविधा

कोरिया। नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग ने 14वें वित्त आयोग अंतर्गत नगर पंचायत नई लेदरी में आरसीसी रोड कार्य, फुटपाथ निर्माण कार्य,पाइप लाइन विस्तार एवं एक ऑटो टिप्पर के लिए 44 लाख 40 हजार रुपये की विभिन्न कार्य योजना को मंजूरी दी है। नई लेदरी नगर पंचायत  समस्त जनप्रतिनिधि और क्षेत्रवासियों ने इसके लिए नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग का आभार माना है।

 

 

25-06-2020
Breaking: भूपेश सरकार ने दी यात्री बस चलाने की अनुमति, आदेश जारी 

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के जिलों के भीतर और अंतर जिला (1 जिला से दूसरे जिला) आवागमन के लिए यात्री बस को तत्काल प्रभाव से राज्य में संचालन की अनुमति दी है।  परिचालन के लिए सरकार ने दिशा-निर्देश भी जारी किए हैं। इस संबंध में छत्तीसगढ़ परिवहन आयुक्त डॉ. कमलप्रीत सिंह ने आदेश जारी किया है। आदेश के मुताबिक केवल निर्धारित स्टॉप पर ही वाहन का ठहराव होगा। बस में चढ़ते उतरते समय सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। यात्रा के दौरान यात्रियों और चालकों को धूम्रपान, पान, गुटखा, खैनी खाना और थूकना प्रतिबंधित रहेगा।  विस्तृत जानकारी के लिए देखें आदेश की कॉपी

12-06-2020
ग्रामीणों को आवागमन में होगी सुविधा, रानीबोदली से फरसेगढ़ तक सड़क की होगी मरम्मत

बीजापुर। कलेक्टर रितेश कुमार अग्रवाल और पुलिस अधीक्षक कमलोचन कश्यप ने जिले के भैरमगढ़ ब्लाक के अंदरूनी ईलाकों के भ्रमण के दौरान फरसेगढ़ में ग्रामीणों से रुबरु होकर उनकी समस्या-शिकायतें सुनी और निराकरण के लिए आश्वस्त किया।इस दौरान उन्होनें चर्चा कहा कि फरसेगढ़ के सभी लोग जागरूक हैं और सभी लोगों में विकास की अपार उत्सुकता है। इसे मददेनजर रखते हुए फरसेगढ़ ग्राम पंचायत को आदर्श ग्राम पंचायत बनाने के लिए सभी लोग मिलकर सार्थक पहल करें। इस दौरान ग्राम पंचायत फरसेगढ़ के सरपंच समैया उददे ने मलेरिया उन्मूलन सहित कुपोषण मुक्ति के लिए सभी ग्रामीणों की व्यापक सहभागिता सुनिश्चित करने का भरोसा दिलाया। वहीं उन्होंने गांव के सिंचाई तालाब के नहर मरम्मत सहित रानीबोदली से फरसेगढ़ तक सड़क की मरम्मत कराए जाने आग्रह किया।कलेक्टर रितेश अग्रवाल और एसपी कमलोचन कश्यप ने उक्त मांग पर त्वरित कार्यवाही करने आश्वस्त किया और कहा कि बारिश के बाद सिंचाई तालाब के नहर मरम्मत का कार्य शुरू किया जाएगा। वहीं रानीबोदली से फरसेगढ़ तक सड़क का मरम्मत तत्काल आंरभ किया जायेगा, जिससे आवागमन के लिए सहूलियत हो सके। उन्होंने ग्रामीणों की मांग पर उप स्वास्थ्य केन्द्र को नवीन भवन में अतिशीघ्र शिफ्ट करने पंचायत सचिव को निर्देशित किया तथा पुराने भवन में ग्राम पंचायत कार्यालय संचालित किए जाने कहा। कलेक्टर और एसपी ने सिंचाई तालाब में मछलीपालन के लिए तीन से अधिक महिला स्व सहायता समूहों को जोड़ने की  समझाईश ग्रामीणों को दी। वहीं साग-सब्जी उत्पादन के लिए महिला स्व सहायता समूहों को भूमि की उपलब्धता के अनुरूप बाड़ी बनाने सहित साग-सब्जी बीज उपलब्धता कराये जाने और अन्य सहायता मुहैया कराने का निर्देश पंचायत सचिव को दिये। इस दौरान उन्होंने फरसेगढ़ थाना परिसर में आम, कटहल, मुनगा इत्यादि फलदार पौधारोपण करने के लिए उद्यानिकी विभाग के नर्सरी से पौधे शीघ्र उपलब्ध कराये जाने आश्वस्त किया।

 

 

03-06-2020
अंतर्राज्यीय और अंतर जिला आवागमन के लिए ई-पास रहेगा जरूरी

कोरिया। कलेक्टर एस.एन.राठौर ने बताया कि कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए लॉक डाउन को चरणबद्ध ढंग से खोलने के संबंध में तथा 30 जून तक संशोधित लॉक डाउन लागू करने के संबंध में भारत सरकार के गृह मंत्रालय द्वारा दिशा-निर्देशों के तारतम्य में छत्तीसगढ़ शासन के सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा विस्तृत निर्देश जारी किए गए हैं। कलेक्टर राठौर ने बताया कि सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी निर्देश में यह स्पष्ट किया गया है कि व्यक्तियों के अंतर्राज्यीय परिवहन के बारे में प्रतिबंध पूर्व अनुसार जारी रहेगा। इस संबंध में ई-पास के माध्यम से अनुमति प्राप्त होने पर आवागमन हो सकेगा। व्यक्तियों के अंतर जिला आवागमन के लिए भी नियमानुसार ई-पास के माध्यम से अनुमति प्राप्त करना आवश्यक होगा। राज्य के सार्वजनिक पार्क, स्पोर्टस कॉम्लेक्स एवं स्टेडियम 7 जून तक बंद रहेंगे। राज्य के भीतर एवं अंतर्राज्यीय बस परिवहन सेवाओं के बारे में परिवहन विभाग और क्लब एवं बार के संचालन के बारे में आबकारी विभाग द्वारा पृथक से आदेश जारी किया जाएगा। इस संबंध में कलेक्टर राठौर ने जिले के पुलिस अधीक्षक सहित सभी अनुविभागीय दण्डाधिकारी एवं सभी विभाग प्रमुखों को पत्र जारी कर दिये हैं।

25-05-2020
छाँन्दनपुर सड़क की हालत ख़राब, ग्रामीणों को हो रही आवागमन में परेशानी

बसना। विकासखंड बसना के छाँन्दनपुर रोड की सड़क की हालत विगत पाँच वर्षों से ख़राब है । इसकी शिकायत क्षेत्रवासियों द्वारा कई बार की जा चुकी है परंतु आज पर्यन्त इस पर कोई ध्यान नहीं देने से ग्रामीणजनो में निराशा के साथ आक्रोश पैदा होता नजर आने लगा हैं ।बता दें कि उक्त सड़क पीडब्लूडी की है,जिसकी लम्बाई महज़ पाँच किमी है,जो बसना नगर से होते हुए खेमड़ा,छाँन्दनपुर,रेमड़ा होते हुए तिलांजनपुर को जोड़ती है। इस सड़क का निर्माण विगत पंद्रह वर्षों पूर्व शासन द्वारा करवाया गया था। इसके बाद से आज पर्यन्त इस सड़क नवीनीकरण तो दूर मरम्मत तक नहीं हुई। यह सड़क दूर नक्सल प्रभावित क्षेत्र की सड़कों सी दिखाई देने लगी है। उक्त मार्ग की स्थिति इतनी भयावह है कि इस पर पैदल चलना तक दूभर हो चुका है। यह सड़क विकासखंड बसना और पिथौरा को जोड़ती है,जिससे ग्रामीण अपने रोज़मर्रा के कार्य के लिए ब्लाक मुख्यालय व अन्य कार्यालय अपने कार्यों के लिए जाने में विवश है ।पिथौरा विकासखंड के जनपद सदस्य एवं रेमड़ा निवासी सोहन पटेल से इस सम्बंध मे चर्चा कि गई तो उन्होंने बताया की भाजपा के शासन काल में तत्कालीन मुख्यमंत्री को सड़क निर्माण के लिए ज्ञापन सौंपा गया था परंतु कुछ नहीं हुआ। अब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है राज्य मुखिया सहित प्रमुख कार्यालयों में सड़क निर्माण के संबंध में आवेदन दिया गया परंतु निर्माण तो दूर इसकी मरम्मत पर भी कोई ध्यान नही दे रहा है ।


बता दें कि उक्त सड़क पर छाँन्दनपुर गाँव के पास बने पुल के टूट जाने से आगामी बारिश के समय क्षेत्र के लोगों को आवगमन भारी समस्या का सामना करना पड़ेगा। क्योंकि पुल के टूट जाने से अभी रपटें का निर्माण कर आवगमन जारी है परंतु बारिश होते ही पानी के बहाव से उक्त रपटा भी बह जाएगा,जिससे ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। ग्रामीणों का कहना है कि इसे समय रहते ना ठीक किया गया तो वे आंदोलन तक कर सकते हैं ।नीता रामटेके (एसडीओ/पीडब्लूडी) ने कहा, पुल निर्माण के लिए टेंडर रीकाल किया गया है और सड़क निर्माण के लिए इसटीमेट बना कर दे दिया गया। शासन से इसकी अभी स्वीकृति नहीं मिली है। 
संजय अग्रवाल की रिपोर्ट

 

 

16-05-2020
नहीं मिला साधन, पिता ने चारपाई को बनाया स्ट्रेक्चर,बीमार बेटे को लादकर पैदल ही निकल पड़े

कानपुर। लॉक डाउन में आवागमन के साधन के अभाव में मजदूरों और गरीबों को पदैल ही अपने गृह राज्यों की निकलने को मजूबर होना पड़ रहा है। ऐसे में किसी गरीब के यहां कोई बीमार हो तो विकट स्थिति का सामना करना पड़ता है। ऐसा ही एक मार्मिक वाक्या कानपुर में सामने आया है। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में एक पिता अपने बीमार बेटे को चारपाई पर लिटाकर कंधों पर लादकर ले जाता दिखाई दे रहा है।बीमार बेटा चारपाई पर लेटा हुआ है, मुंह पर मास्क लगा है। चारपाई के चारों पांवों को रस्सी से बांधकर कंधों पर टांगकर ले जाता नजर आ रहा है। ये परिवार लुधियाना से पैदल चलकर आ रहा है। बीती शाम को जब कानपुर के रामादेवी हाईवे पर इस परिवार को ऐसे जाते हुए एक थाना प्रभारी ने देखा, तो उन्हें रोका और बातचीत की तब पिता की आंखों से आंसू बहने लगे। असहाय पिता बोला, लॉक डाउन ने हमसे सबकुछ छीन लिया है। इसके बाद थाना प्रभारी ने उनके लिए वाहन की व्यवस्था कराई गई और उन्हें घर भेजा गया।मध्यप्रदेश के सिंगरौली गांव के रहने वाले राजकुमार लुधियाना में मजदूरी करते थे। उनका 15 वर्षीय बेटा बृजेश बीमार था। गर्दन में चोट लगी होने के कारण वो पैदल नहीं चल सकता था। लॉकडाउन के कारण रोजी-रोटी पर आन पड़ी, तो इस परिवार से लुधियाना से निकलने की ठान ली। वाहन नहीं मिला, तो पिता अपने बेटे को चारपाई पर लिटाकर रस्सी से बांधकर उसे कंधों पर लादकर पैदल निकल पड़ा। इस परिवार को मिलाकर गांव के 18 लोग और भी साथ पैदल चल रहे थे। सब बारी-बारी चारपाई को कंधे पर उठाकर बीमार बेटे को पैदल लेकर घर जा रहे थे।

 

 

15-05-2020
स्वास्थ्य सचिव ने सभी कलेक्टर को लिखा पत्र, कहा—डॉक्टर सहित मेडिकल स्टॉफ को आवागमन में ना हो परेशानी

रायपुर। स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह ने कोविड एवं नॉन-कोविड चिकित्सा सुविधाओं के सुचारू संचालन के लिए डॉक्टरों एवं पैरा-मेडिकल स्टॉफ के सुगम आवागमन के लिए कलेक्टरों को पत्र लिखा है। उन्होंने केन्द्रीय गृह मंत्रालय के पत्र का उल्लेख करते हुए कहा है कि कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए राज्यों में कई तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं। इसके कारण डॉक्टरों और पैरा-मेडिकल स्टॉफ को आने-जाने में कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। स्वास्थ्य सचिव ने सभी कलेक्टरों को स्वास्थ्य सेवाओं के निर्बाध और सुचारू संचालन के लिए शासकीय और निजी अस्पतालों के डॉक्टरों, पैरा-मेडिकल स्टॉफ, नर्सों व एंबुलेंस के सुगम आवागमन के जरूरी निर्देश जारी करने कहा है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804