GLIBS
15-04-2020
धुन का पक्का विनय बैसवाड़े बस खेलता रहा और चमका टेबिल टेनिस का सितारा बनकर,चैंपियनो का चैंपियन

रायपुर। एक बार उसने टेबल टेनिस का बल्ला थामा तो बस वही उसका सबसे प्यारा साथी बन कर रह गया। आज भी टेबल टेनिस के लिए उसका प्यार कम नहीं हुआ है। टेबल टेनिस का चमकता सितारा आज छत्तीसगढ़ में टेबल टेनिस की नई पौध तैयार करने में लगा हुआ है। हम बात कर रहे हैं टेबल टेनिस के शानदार सितारे विनय बैसवाड़े की। स्कूल जीवन से ही टेबल टेनिस से उसका प्यार हुआ जो आज भी बरकरार है। अखंड मध्यप्रदेश में वे तीन बार विजेता रहे और दो बार उपविजेता। जब छत्तीसगढ़ बना तो आपने वर्ग में वह 8 बार विजेता रहे और 5 बार विजेता बनने से चुप कर रनर अप रहे। ऑल इंडिया इंस्टिट्यूशनल टेबल टेनिस टूर्नामेंट में 7 बार उन्होंने कांस्य पदक जीते और अखिल भारतीय पब्लिक सेक्टर टेबल टेनिस टूर्नामेंट में 4 बार विजेता बनकर कप उठाने का गौरव हासिल किया। अखिल भारतीय जीवन बीमा निगम टेबल टेनिस स्पर्धा में 4 बार विजेता और 8 बार उपविजेता रहे विनय बैसवाड़े। 2008 के अखिल भारतीय कारपोरेट ओलंपिक में भी विजेता बनने का गौरव हासिल किया था विनय बैसवाड़े ने। राष्ट्रीय स्तर की स्पर्धाओं में भाग लेने की तो शायद गिनती उन्हें भी याद नही होगी और अखंड़ मध्यप्रदेश व छत्तीसगढ की टेबिल टेनिस टीम के कितनी बार कप्तान रहे ये भी वे शायद बता नही पाएंगे। झारखंड में हुए 34वें. राष्ट्रीय खेलों में उन्होंने छत्तीसगढ़ की टेबल टेनिस टीम की कप्तानी की। कोच तो वे जाने कितनी बार बने और अपनी टीम को पदक भी दिलाते रहे।
 


2005 में पुणे नेशनल रैंकिंग टेबल टेनिस प्रतियोगिता में क्वार्टर फाइनल खेलकर देश के टॉप 08 खिलाड़ियों में स्थान भी बनाया था। वे अंतरराष्ट्रीय अंपायर भी है और उन्होंने बहरीन में हुए टेबल टेनिस के जूनियर वर्ल्ड कप में शानदार बेदाग अंपायरिंग भी की। उनकी खेल प्रतिभा का लाभ टेबल टेनिस संघ के प्रदेश अध्यक्ष शरद शुक्ला ने उन्हें संघ का महासचिव बनाकर उठाया और वे महासचिव के रूप में संघ को लगातार प्रगति की ओर ले जाने में कोई कसर नही छोड़ रहे है। स्वभाव से बेहद शर्मीले विनय सच मे विनय की प्रतिमूर्ती है। छत्तीसगढ़ को अपनी इस विलक्षण खेल प्रतिभा पर गर्व है। टेबल टेनिस संघ का उपाध्यक्ष होने के नाते मुझे भी उनपर गर्व है। सौ सौ सलाम इस शानदार खिलाड़ी को।

15-03-2020
ओमान ओपन अंडर-21 टेबल टेनिस स्पर्धा : जीत चंद्रा बने चैंपियन, मानव ठक्कर को रजत

नई दिल्ली। भारत के युवा टेबल टेनिस खिलाड़ी ने दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी मानव ठक्कर को सीधे सेटों में हराकर ओमान ओपन में अंडर-21 पुरुष एकल स्पर्धा का खिताब अपने नाम किया। दुनिया के 18वें नंबर के खिलाड़ी चंद्रा ने हमवतन ठक्कर को महज 24 मिनट में 11-6 11-7 13-11 से पराजित किया। इससे पहले भारत के सीनियर अचंत शरत कमल ने पहला सेट गंवाने के बाद वापसी करते हुए पुरूष एकल प्री क्वार्टरफाइनल में बेलारूस के आलियाकसांद्र खानिन को 5-11 11-5 11-3 11-5 11-7 से शिकस्त दी। एक अन्य भारतीय खिलाड़ी हरमीत देसाई ने भी क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। इसके लिये उन्होंने मिस्र के उमर असार को रोमांचक मुकाबले में 7-11 11-13 11-9 11-6 8-11 11-5 11-8 से मात दी। वहीं तीन भारतीय जोड़ियों ने भी युगल सेमीफाइनल में स्थान पक्का किया। शरत और देसाई की जोड़ी ने ओमान के मुहानाद अल बालुशी और असद अलराईसी को 11-4 11-3 11-7 से हराया। मानुष शाह ने ठक्कर के साथ मिलकर बेलारूस के आलियाकसांद्र खानिन और पावेल प्लातोनोव को अंतिम आठ के मुकाबले में 12-10 8-11 11-8 11-9 से मात दी। दिया चिताली और अर्चना कामत ने भी महिला युगल वर्ग के सेमीफाइनल में स्थान सुनिश्चित किया।

 

25-11-2018
Table Tennis : सागर घाटगे और सुरभि मोदी ने जीता स्टेट टेबल टेनिस2018 का खिताब

रायपुर। छत्तीसगढ़ टेबल टेनिस संघ ने 23 से 25 नवंबर तक सप्रे शाला में 16वीं स्टेट एवं डिस्ट्रिक्ट लेवल टेनिस प्रतियोगिता-2018 रविवार को सम्पन्न हुआ। इस बात की जानकारी टेबल टेनिस संघ के सचिव विनय बैसवाड़े ने जानकारी दी। साथ ही इन्होंने बताया कि  प्रतियोगिता के समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह के मुख्य अतिथि नगर पालिक निगम रायपुर के महापौर प्रमोद दुबे रहे।

कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ टेबल टेनिस संघ अध्यक्ष शरद शुक्ला, उपाध्यक्ष किशोर जादवानी, उपाध्यक्ष गिरिराज बागड़ी, जिला सचिव कपिल शुक्ला, सचिव उमेश गोस्वामी, एच के ओबेराय एवं मुख्य निर्णायक विमल नायर उपस्थित थे। 

16वीं स्टेग छत्तीसगढ़ राज्य एवं अंतर जिला टेबल टेनिस प्रतियोगिता में विजेता इस प्रकार रहे-

पुरुष वर्ग में विजेता सागर घाटगे रायपुर से, वही उपविजेता ए संतोष दुर्ग से।

महिला वर्ग में विजेता सुरभि मोदी रायपुर से, उपविजेता प्रियंका सिंह  रायपुर से।  

युथ बालक वर्ग में विजेता एम. रविराज दुर्ग से, उपविजेता गजेंद्र चौहान रायपुर से।

बालिका वर्ग में विजेता आर. देवांशी बिलासपुर, उपविजेता सागरिका दासगुप्ता रायपुर से,  

जुनियर बालक वर्ग में विजेता ऋषभ नागवानी  रायपुर से, वही उपविजेता रोहन लालवानी बिलासपुर से,     

जुनियर बालिका वर्ग में विजेता अनन्या दुबे रही। वही उपविजेता सुरभि रायदास रही।  

सब जुनियर बालक वर्ग में विजेता ओम गौतम,   उपविजेता रामजी कुमार रायपुर से,  

सब जुनियर बालिका वर्ग में विजेता सुस्मिता सोम बिलासपुर से, उपविजेता सुरभि रायदास दुर्ग से,

कैडेट बालक वर्ग में विजेता एंड्र्यू रायपुर से,      

कैडेट बालिका वर्ग  में विजेता विनिशा सिहानी।              

  साथ ही प्रतियोगिता में उदीयमान खिलाड़ी का विशेष पुरस्कार बालक वर्ग में दुर्ग  के रोशिष जैन एवं बालिका वर्ग में रायपुर की कु. चहक कटारिया  को प्रदान किया गया।

Attachments area

30-08-2018
Table Tennis : धमतरी की बालिकाओं ने टेबल टेनिस चैंपियनशिप में जीता गोल्ड

धमतरी। दो दिवसीय राज्यस्तरीय चतुर्थ 11 स्पोर्ट्स इंटरस्कूल टेबल टेनिस चैंपियनशिप का  आयोजन 29, 30 अगस्त को सप्रे शाला रायपुर में किया गया था।जिसमे शिव सिंह वर्मा शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय धमतरी की जूनियर गर्ल्स जानवी, भुनेश्वरी , सोनम, एकता की टीम ने सेमीफाइनल मैच में चावरा स्कूल कोण्डागाँव को 3-0 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया।फाइनल मुकाबला डी.पी.एस.बिलासपुर को टक्कर देकर 3-2से मैच अपने नाम कर इस चैंपियनशिप की विजेता बनी ।

वहीं सिंगल प्रतियोगिता में भुनेश्वरी ने ब्रांस मेडल और जानवी ने सिल्वर मेडल जीत कर जीत की खुशी को दुगुना कर दिया ।पूरी प्रतियोगिता के दौरान टीम के साथ कोच मैनेजर के रूप में जे०पी०देव,राजेश शर्मा  रहे। टेबल टेनिस के इस राज्यस्तरीय प्रतियोगिता में टीम इवेंट में गोल्ड मैडल जीतने पर संस्था प्रमुख बी मैथ्यू , एन गजेन्द्र, एस के  साहू, सोनिया साहू,  बी थवाईत एवं समस्त स्टॉफ ने बधाई दी है। टीम के कोच ने बताया कि टेबल टेनिस में शासकीय स्कूलों के बच्चों का गोल्ड जितना एक बड़ी उपलब्धि होती है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804