GLIBS
04-08-2020
अमित के घर आया जूनियर जोगी,कहा-लगता है पापा आए हैं,बिल्कुल वही आंखें, मुस्कान और उत्साह...  

रायपुर। अमित के घर जूनियर जोगी का आगमन हुआ है। उनकी पत्नि ऋचा जोगी ने बेटे को जन्म दिया है। पिता बनने पर अमित जोगी ने अपनी खुशी को अपने ट्वीटर हैंडल पर साझा किया है। इस खुशी के पल की फोटो के साथ अमित जोगी ने काफी भावुक ट्वीट किया है। अपने ट्वीटर हैंडल पर लिखा है कि, आज ऋचा और मेरे जीवन का सबसे यादगार क्षण है। हमे माता-पिता बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। बिना पापा के आज यह खुशी अधुरी है। अपने पोते की नन्ही आंखें खुलने के बस कुछ दिन पहले पापा की आंखें बंद हो गई। लगता है मानो,पापा फिर से एक नया जीवन,नई उमंग के साथ,छतीसगढ़ महतारी की इस पावन मिट्टी में हमारे बच्चे के रूप में जन्म लेकर आए हैं। बिल्कुल वही आंखें, वही मुस्कान और वही उत्साह! अमित जोगी और ऋचा जोगी ने अपने सभी शुभचिंतकों और वरिष्ठजनों की प्रार्थनाओं और आशीर्वाद के लिए आभार व्यक्त करने के साथ सभी को धन्यवाद दिया है।

13-07-2020
क्या कोरोना की जगह जोगी ने ली है,जो मंत्रालय छोड़कर मंत्री मरवाही घूमने लगे हैं? : अमित जोगी

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने राज्य सरकार के मंत्रियों के मरवाही दौरे पर तंज कसा है। अमित ने अपने ट्विटर हैंडल और फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि क्या कोरोना की जगह जोगी ने ले ली है? क्या कोरोना के डर की जगह जोगी ने ले ली है, जो मंत्रालय छोड़ कर छत्तीसगढ़ शासन के मंत्रीगण मरवाही घूमने लगे हैं? प्रशासनिक दुरुपयोग और जोड़तोड़,अस्वस्थ राजनीति का दुखद हिस्सा बन चुके हैं, किंतु जोगी परिवार का मरवाही से रिश्ता दल तक सीमित नहीं है। बल्कि दिल की गहराइयों का है। यही हमारी असली ताकत है। अमित ने लिखा है कि दुनिया इधर से उधर हो जाए, मुझे पूरा विश्वास है कि पापा का आशीर्वाद-उन्होंने अपनी अंतिम कविता में मुझे लिखा था कि शंखनाद हो चुका है, युद्ध प्रारम्भ है, मैं सारथी बनकर, तुम्हारा रथ चला रहा हूं-अंतिम सांस तक मेरे साथ है,जिसके रथ का सारथी स्वयं अजीत है, वो भले कैसे हार सकता है? मैं पुन: मरवाही पधारे शासन के समस्त मंत्रियों, विधायकों, अधिकारियों और प्रतिनिधियों को अपनी शुभकामनाएं देता हूं।

ईश्वर आपको लंबी उम्र दें।अमित ने लिखा है कि प्रशासन की निष्पक्षता का उदाहरण है कि,जहां मेरे पिता अजीत जोगी की अंत्येष्टि और दसगात्र में कोरोना के नाम पर लाखों को प्रशासन ने उनके अंतिम दर्शन से वंचित रखा, वहीं सत्ताधारी दल कांग्रेस के पूर्णत: राजनीतिक चाय पर चौपाल कार्यक्रम के लिए भीड़ जुटाने वो गाव-गांव अधिकारी नियुक्त कर मुनादी करा रहा हैं और बरसों से पापा से जुड़े भोले-भाले लोगों को लॉलीपॉप देकर बलपूर्वक तोड़ने में लगे हैं।

07-07-2020
जाति मामले में जिला छानबीन समिति ने अमित जोगी को किया तलब

रायपुर। अमित जोगी की जाति को लेकर की गई दो शिकायतों पर जांच शुरू हो गई है। अमित को अपना पक्ष रखने के लिए 10 जुलाई को बुलाया गया है। गौरेला पेंड्रा मरवाही में जिला स्तरीय छानबीन समिति ने जांच प्रक्रिया की शुरुआत करते हुए अमित जोगी को तलब किया है। गौरतलब है कि अमित जोगी को साल 2013 में जारी किए गए जाति प्रमाण पत्र को लेकर समीरा पैकरा और संत कुमार नेताम ने आवेदन देकर आपत्ति जताई थी। इसके बाद अमित जोगी से उनका पक्ष रखने के लिए कहा गया है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

29-06-2020
अजीत जोगी की श्रद्धांजलि सभा में शामिल हुए मंत्री गुरु रूद्रकुमार

रायपुर। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार सोमवार को प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत प्रमोद कुमार जोगी की आत्मा की शांति के लिए आयोजित सर्वधर्म प्रार्थना और श्रद्धांजलि सभा में शामिल हुए। मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने अजीत जोगी के छायाचित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। दिवंगत जोगी की पत्नी डॉ. रेणु जोगी और पुत्र श्री अमित जोगी से मिलकर अपनी संवेदनाएं व्यक्त की। उन्होंने कहा कि इस दु:ख की घड़ी में हम सभी जोगी परिवार के साथ हैं। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, सांसद ज्योत्सना महंत सहित अनेक विशिष्ट जन उपस्थित थे।

26-06-2020
अमित जोगी ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र, शिक्षकों और पुलिस बल की भर्ती प्रक्रिया को पूर्ण करने किया अनुरोध

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के अध्यक्ष अमित जोगी ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखा है। अमित जोगी ने लिखा है कि सालों से 14580 शिक्षकों और 48761 जिला पुलिस बल की भर्ती प्रक्रिया अधूरी है। अमित जोगी ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया है कि कोरोना काल में पूरे विश्व की अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान हुआ है। ऐसे में प्रदेश के लाखों शिक्षित बेरोजगारों को उनके रोजगार के वैधानिक अधिकार से वंचित करना बेहद दुखद है। इन विषयों को गंभीरता से लेने समुचित कार्यवाही की जाए।

 

 

02-06-2020
अमित जोगी ने पूरी की पिता की अंतिम इच्छा,नर्मदा संगम में किया पिंडदान

रायपुर। छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी की कब्र की मिट्टी को उनके पुत्र अमित जोगी ने नर्मदा संगम में विसर्जित कर अपने पिता की अंतिम इच्छा पूरी की। मंगलवार दोपहर 12 बजे पावर हाउस तिराहा, मुक्तिधाम पेंड्रारोड से लेकर अमरकंटक के रामघाट, नर्मदा, अरंडी संगम, सोन नदी व अचानकमार के माटिनाला व पीढ़ा में विसर्जित किया गया। इसके साथ ही अमरकंटक में पुत्र अमित जोगी ने अजीत जोगी का पिण्डदान भी किया। अजीत जोगी ने मृत्यु के पश्चात अपने कब्र की मिट्टी को अमरकंटक के रामघाट, नर्मदा अरंडी संगम, सोनमुड़ा के सोनभद्र नदी,अचानकमार के माटीनाला और पीढ़ा में विसर्जित किए जाने की इच्छा जताई थी। उनके इच्छा के अनुरूप उनके पुत्र अमित जोगी व पत्नी डॉ.रेणु जोगी सहित उनके पैतृक गांव जोगीसार के पारिवारिक सदस्यों और कवंर समाज के लोगों ने मिट्टी कलश यात्रा निकली। यह कलश यात्रा,गौरेला के पावर हाउस तिराहा के पास कब्रिस्तान से सैकड़ों गाड़ियों के काफिले के साथ निकलकर जलेश्वर मार्ग होते हुए अमरकंटक पहुंची। इस बीच गौरेला, पुराना गौरेला, अंजनी, चुकतीपानी आदि जगह मे रोकर कर लोगों ने कलश के दर्शन भी किए।
अमरकंटक में कलश की कुछ मिट्टी नर्मदा संगम में प्रवाहित की गई। इसी संगम में अमित जोगी ने धार्मिक रीति रिवाज के अनुसार स्व.अजीत जोगी का पिण्डदान भी किया। इसके बाद इस कलश की मिट्टी को नर्मदा अरंडी संगम, अचानकमार के माटीनाला, केवंची व पीढ़ा के जंगलों में भी छिड़का गया। इस दौरान अजीत जोगी की पत्नी डॉ.रेणु जोगी, पुत्र अमित जोगी के अलावा लोरमी विधायक धर्मजीत सिंह, बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा और जोगी परिवार के अन्य सदस्य और सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

29-05-2020
राज्यपाल ने सागौन बंगला पहुंच अजीत जोगी को अर्पित की श्रद्धांजलि

रायपुर। प्रदेश की राज्यपाल अनुसुईया उइके ने पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के निवास सागौन बंगला पहुंचकर उनके पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। उन्होंने स्व.जोगी की आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। राज्यपाल ने अजीत जोगी की पत्नी रेणु जोगी और पुत्र अमित जोगी से मिलकर अपनी संवेदना व्यक्त की।

29-05-2020
भूपेश बघेल, मंत्री और विधायकों ने सागौन बंगला पहुंच अजीत जोगी को अर्पित की श्रद्धांजलि

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार देर शाम सागौन बंगला पहुंचे। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। उन्होंने अजीत जोगी की धर्मपत्नी रेणु जोगी और पुत्र अमित जोगी से मिलकर शोक संवेदना व्यक्त की और उन्हें ढांढस बंधाया। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री जोगी के जीवन को वे तीन हिस्सों में देखते हैं, जिसमें वे मेधावी छात्र, दक्ष प्रशासनिक अधिकारी और अच्छे राजनेता के रूप में नजर आते हैं।  विपरीत परिस्थिति में भी उन्होंने संघर्ष का दामन नहीं छोड़ा। लगातार समस्याओं से जूझने वाले बहुत ही जीवट और संघर्षशील व्यक्तित्व के धनी थे। छत्तीसगढ़ के माटीपुत्र अजीत जोगी के निधन से अपूरणीय क्षति हुई है। मुख्यमंत्री बघेल ने आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। इसी तरह छत्तीसगढ़ मंत्रिमंडल के सदस्यों और विधायकों ने भी अजीत जोगी के पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

 

29-05-2020
पिता के निधन पर बेटे का भावुक ट्वीट, केवल मैंने नहीं छत्तीसगढ़ ने खोया अपना पिता


रायपुर। अजीत जोगी के निधन की सूचना देते हुए उनके बेटे अमित जोगी ने ट्वीट किया है। अमित ने लिखा है कि 20 वर्षीय युवा छत्तीसगढ़ राज्य के सिर से आज उसके पिता का साया उठ गया। केवल मैंने ही नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ ने नेता नहीं,अपना पिता खोया है। अजीत जोगी ढाई करोड़ लोगों के अपने परिवार को छोड़ कर,ईश्वर के पास चले गए। गांव-गरीब का सहारा,छत्तीसगढ़ का दुलारा,हमसे बहुत दूर चला गया। वेदना की इस घड़ी में मैं निशब्द हूं। परमपिता परमेश्वर अजीत जोगी की आत्मा को शांति और हम सबको शक्ति दे। उनका अंतिम संस्कार उनकी जन्मभूमि गौरेला में 29 मई को होगा। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रदेश प्रवक्ता भगवानू नायक ने बताया कि शनिवार को अजीत जोगी का पार्थिव शरीर सुबह 9 बजे सागौन बंगला रायपुर से बिलासपुर मरवाही सदन 11 बजे पहुंचेगा। यहां से कोटा रतनपुर केंदा मार्ग होते हुए उनके गृह ग्राम जोगिसार से गौरेला के पैतृक जोगी निवास पहुंचने के बाद सेनेटोरियम(मरवाही विधानसभा) में अंतिम संस्कार किया जाएगा। लॉक डॉउन के नियमों भी ध्यान रखा जाएगा।

 

18-05-2020
साहू समाज ने जोगी के शीघ्र स्वस्थ होने के लिए किया महामृत्युंजय जाप

रायपुर। गंभीर हालत में भर्ती पूर्व मुख्यमंत्री व जोगी कांग्रेस छत्तीसगढ़ के सुप्रीमों अजीत जोगी के स्वास्थ्य लाभ को लेकर साहू समाज के अध्यक्ष मेघराज साहू के नेतृत्व में योगाचार्य साहू द्वारा 108 दीप प्रज्वलित कर वेद मंत्रों के साथ महामृत्युंजय जाप करते हुए हवन पूजन किया गया। साहू समाज के नेता प्रदीप साहू ने बताया सर्वसमाज के हितैषी अजीत जोगी ने प्रदेश के सभी समाज को सम्मान दिलाने का काम किया है। साहू समाज के विकास में जोगी का अहम योगदान है। उनके अस्वस्थ्य होने से सारा समाज चिंतित है। उनके स्वास्थ्य लाभ के लिए हिंदू धर्म के प्राचीन परंपरा के अनुसार मृत्यु से भी जीतने के लिए श्री 108 महामृत्युंजय जाप और महायज्ञ समाज ने भक्त माता कर्मा धाम में किया है। इसमें 108 दीप जला कर समाज ने पूजा अर्चना और हवन किया गया। महायज्ञ में बड़ी संख्या में सामाजिक लोगों ने भाग लेकर आहुति दी है।

महायज्ञ में प्रमुख रूप से अध्यक्ष मेधराज साहू, योगाचार्य योगिराज साहू, सामाजिक कार्यकर्ता सभापति रामलखन साहू, कार्यवाहक अध्यक्ष नारायण साहू,महासचिव अश्वनी साहू ,उपाध्यक्ष पीके साहू, कोषाध्यक्ष महावीर साहू, संगठन सचिव सोमनाथ साहू , सँयुक्त सचिव नीलकंठ साहू, कार्यालय प्रभारी तोरण साहू,मीडिया प्रभारी विष्णु साहू,युवा-प्रकोष्ठ के सलाहकार प्रदीप साहू, नंद कुमार साहू, रिकू साहू समेत बड़ी संख्या में समाज के लोग उपस्थित थे। समाज के प्रतिनिधिमंडल आज नारायणा हॉस्पिटल पहुंचकर रेणु जोगी व अमित जोगी से भेंट कर अजीत जोगी के स्वास्थ्य की जानकारी ली।

18-05-2020
अमित जोगी का मार्मिक पोस्ट - पापा, उठों न पापा, आंखें खोलों...

रायपुर। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का उपचार जारी है। डॉक्टर उनके दिमाग में गतिविधि जागृत करने की कोशिश कर रहे हैं। प्रदेश सहित देश में लोग अजीत जोगी के जल्द स्वस्थ्य होने की कामना कर रहे हैं। इस बीच उनके बेटे अमित जोगी का मार्मिक पोस्ट आया है। अमित ने लिखा है कि "पापा, उठो न पापा, आंखें खोलो!
कुछ तो बोलो,पापा। 
आज 9 दिन हो गए,आपकी बंद आंखों को देखते देखते। हर पल ऐसा लगता है,एकदम से उठोगे और कहोगे,अमित बेटा!
इतनी गहरी नींद मत सो पापा।जी घबरा रहा है!
आपके बिना कुछ अच्छा नहीं लगता।
उठ जाओ न पापा, 
देखो,छत्तीसगढ़ की आंखे रो-रो कर कितनी लाल हो गई है, इस इंतज़ार में कि उसका बेटा 'अजीत जोगी' कब आंखे खोलेगा..."

Advertise, Call Now - +91 76111 07804