GLIBS
15-06-2021
राम मंदिर निर्माण पर कुछ लोग जानबूझकर भ्रम फैला रहे : रेणुका सिंह 

रायपुर। केंद्रीय जनजाति विकास राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने राम मंदिर निर्माण में आरोप लगाने वालों पर तीखा हमला किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कुछ लोग जानबूझकर भ्रम फैला रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग भ्रम फैला रहे हैं उन्हें भविष्य में जनता कभी माफ नहीं करेगी। केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह ने अपने ट्वीट में कहा कि भ्रम फैलाने वालों को सबूत तो अरुण जेटली और नितिन गडकरी के खिलाफ भी थे, लेकिन क्या हुआ? उल्टे इन्हें माफी मांगनी पड़ी। उन्होंने कहा कि राम मंदिर के खिलाफ भी जो भ्रम फैला रहे हैं भविष्य में वे भी माफी मांगेंगे पर जनता माफ नहीं करेगी। विदित हो कि राम मंदिर निर्माण के लिए जमीन खरीदी में गड़बड़ी के आरोप लगे हैं। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारियों पर ही भ्रष्टाचार के आरोप लग रहे हैं। पूरे देश में मुद्दे को लेकर चर्चा शुरू हो गया है और इसे लेकर विरोधी राजनैतिक पार्टियों की ओर से आरोप लगाए जा रहे हैं।

10-06-2021
Breaking: सीएम योगी और केंद्रीय गृहमंत्री शाह के बीच हुई डेढ़ घंटे तक बातचीत, अनुप्रिया पटेल ने शाह से की ये मांग 

रायपुर/नई दिल्ली। सीएम योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय गृहमंत्री ​अमित शाह के बीच मुलाकात के दौरान चर्चा तकरीबन डेढ़ घंटे चली। इस बीच अपना दल (एस) की अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल भी अमित शाह से मिलने पहुंचीं। गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर कहा कि अपना दल (एस) की राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल से भेंट की।  अनुप्रिया पटेल ने अमित शाह से मांग की कि राज्य में उनकी पार्टी के दो मंत्री और बनाए जाएं। इसके अलावा केंद्र में भी एक राज्य मंत्री हो। उनकी इस मांग पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने को कहा गया है।

29-05-2021
सशक्त मोदी सरकार के लिए हुई महाआरती, विजय साहू ने कहा-रामराज्य के परम साधक है पवनसुत हनुमान

धमतरी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में दूसरे कार्यकाल के 2 वर्ष पूरे हो गया। उनके केंद्रीय सत्तारूढ़ कार्यकाल को 7 वर्ष भी हो गए। नगर निगम के भाजपा पार्षदों ने पुराना बस स्टैंड स्थित दक्षिण मुखी सिद्ध हनुमान मंदिर में विशेष पूजा -अर्चना कर देश के सुख समृद्धि तथा जनमानस को कोरोना वायरस के समूल नष्ट करने के लिए प्रार्थना की। इस अवसर पर मंदिर को आकर्षक दीपों से सजाया गया था। इस अवसर पर भाजपा शहर मंडल अध्यक्ष विजय साहू भी सम्मिलित हुए। उन्होंने सभी भक्तजनों से कहा कि रामराज्य के वास्तविक साधक पवन पुत्र हनुमान हैं। भाजपा जिला कोषाध्यक्ष चेतन हिंदूजा तथा युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष विजय मोटवानी ने नरेंद्र मोदी  के नेतृत्व में भारत को पुनः विश्व गुरु बनाने के लिए सभी को आध्यात्मिक जागृति लाने के लिये धार्मिक जिम्मेदारी निभाने का आह्वान किया। महाआरती में धनीराम सोनकर, सुशीला तिवारी, भीषन निषाद ,अजय देशलहरे, नीलू डागा, हेमन्त बंजारे ,श्यामा साहू ,प्राची सोनी,सरिता असाई ,मिथलेश सिन्हा,ईश्वर सोनकर शामिल हुए।

 

20-05-2021
राज्य सरकारों से केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने की अपील,कहा- ब्लैक फंगस को घोषित करें महामारी

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच एक नई बीमारी ब्लैक फंगस तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। ऐसे में ब्लैक फंगस यानी Mucormycosis अब नई चुनौती बन रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों से इसे महामारी घोषित करने की अपील की है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसे महामारी रोग अधिनियम 1987 को तहत एक उल्लेखनीय बीमारी के रूप में वर्गीकृत करने को लेकर अपील की है। बता दें कि इससे पहले राजस्थान, महाराष्ट्र और तेलंगाना इस बीमारी को महामारी घोषित कर चुके हैं।

बीमारी के लक्षण
1- नाक से खून बहना, नाक में पपड़ी का जमना और नाक से काले रंग जैसा कुछ निकलना।
2- नाक का बंद होना, आंखों के पास सूजन, धुंधला दिखना, आंख और सिरदर्द, कम दिखाई पड़ना, आंख खोलने में दिक्कत, आंखों का लाल होना।
3- चेहरे में झुनझुनी जैसा महसूस होना या चेहरे का सुन्न होना।
4- ब्लैक फंगस से आप संक्रमित हैं या नहीं इसके लिए प्रतिदिन खुद को चेक करें और अच्छी रोशनी में करें ताकि अगर पता चल सके कि आप सक्रमित हैं या नहीं।
5- दांत का गिरना या मुंह के अंदर सूजना होना।

ब्लैक फंगस से किसे सबसे ज्यादा खतरा
1- जिन मरीजों का डायबिटीज लेवल कंट्रोल में नहीं है या फिर उन्हें स्टेरॉयड या टोकिलीजुमैब दवाई का सेवन किया है उसे इसका सबसे ज्यादा खतरा है।
2- किसी पुरानी बीमारी से ग्रसित या फिर कैंसर के मरीजों को इसका खतरा है।
3- स्टेरॉयड अधिक मात्रा में ले रहे मरीज को इससे खतरा है।
4- कोरोना संक्रमितों या फिर जो वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं उन्हें खतरा है।

ब्लैक फंगस से बचाव

1- ब्लैक फंगस से संक्रमित अगर कोई होता है तो इसे उसे ईएनटी डॉक्टर से संपर्क फौरन करना चाहिए।
2- अपने शुगर लेवल को रेगुलर मॉनिटर करें।
3- किसी अन्य बीमारी से ग्रसित हैं तो उसकी नियमित दवा लेते रहें।
4- स्टेरॉयड का सेवन खुद से न करें, डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

ब्लैक फंगस का इलाज
ब्लैक फंगस के इलाज में केवल एम्फोटेरिसिन बी दवा ही काम आती है।

 

03-05-2021
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा,छत्तीसगढ़,मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र में काबू में आ रहा कोरोना,मरीजों की संख्या घटी

नई दिल्ली। देश में बढ़ते कोरोना के नए मामलों के बीच कुछ राज्यों में इनके मामलों में कमी भी आई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में छत्तीसगढ में दुर्ग, रायपुर, मध्यप्रदेश, लद्दाख, तेलंगाना और महाराष्ट्र के 12 जिलों में कोरोना के मामलों में कमी आई है। सोमवार को प्रेसवार्ता में स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि देश में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए 1500 ऑक्सीजन प्लांट बनाए जा रहे हैं। ऑक्सीजन की उपलब्धता को बढ़ाने के लिए नाइट्रोजन इंडस्ट्री को भी ऑक्सीजन प्लांट में बदलने पर काम किया जा रहा है। देश में ऐसे 14 इंडस्ट्री को चिन्हित किया गया है। उन्होंने बताया कि देश के अस्पतालों व स्वास्थ्य केन्द्रों में रिक्त पदों को जल्दी भरा जाएगा। उन्होंने बताया कि कोरोना मरीजों के इलाज में 100 दिन लगातार काम करने वाले मेडिकल प्रोफेशनल को प्रधानमंत्री अवार्ड से नवाजा जाएगा व उन्हें आगे भर्तियों में प्राथमिकता दी जाएगी।

 

 

20-03-2021
केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री पहुंचे रायपुर,कहा- केन्द्र सरकार ने किसी भी राज्य से नहीं किया भेदभाव

रायपुर। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्वनी चौबे शनिवार को रायपुर पहुंचे। उन्होंने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि केंद्र ने कोरोना पर राज्यों को निर्देश दिए हैं। सभी राज्य सरकारें अच्छा काम कर रही है। राज्य में टीकाकरण और जांच का दायरा बढ़ाने कहा गया है। उन्होंने रहा कि वैक्सीन पर दुष्प्रचार करना गलत है। केन्द्र सरकार ने किसी राज्य से भेदभाव नहीं किया है। हमें गर्व है कि हमने कोरोना की 2 वैक्सीन बनाई है, आज कई देशों में भेज रहे हैं। बता दें कि केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री यहां रायपुर एम्स में लोकार्पण कार्यक्रम में शामिल होने आए हैं।

 

17-03-2021
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा,16 राज्यों के 70 जिलों में 150 फीसदी तक बढ़े कोरोना संक्रमण के मामले

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में फिर से आई तेजी ने चिंता बढ़ा दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को एक प्रेसवार्ता में देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति की जानकारी दी। यहां केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि देश में कोरोना के कुल सक्रिय मामलों का 60 फीसदी हिस्सा महाराष्ट्र में है। भूषण ने बताया कि पिछले 15 दिनों में 16 राज्यों के 70 जिलों में कोविड-19 के मामले में 150 फीसदी तक बढ़त देखी गई है।  पिछले 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 400 से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं। यहां सकारात्मकता दर एक फीसदी से कम है। हालांकि, यह अब 0.6 फीसदी हो गई है जो पहले 0.4 फीसदी थी। उन्होंने कहा कि नए कोविड-19 मामलों का न्यूनतम बिंदु नौ फरवरी था। आज, कोविड-19 के नए मामलों में सप्ताह दर सप्ताह करीब 43 फीसदी वृद्धि हुई है। कोरोना के चलते होने वाली नई मौतों के मामलों में सप्ताह दर सप्ताह करीब 37 फीसदी बढ़त हुई है। अभी तक वैक्सीन की कुल 3.51 करोड़ खुराकें लगाई जा चुकी हैं। 

राजेश भूषण ने बताया कि 15 मार्च को पूरी दुनिया में कोविड-19 वैक्सीन की 83.4 लाख खुराकें लगाई गई थीं। इसमें से 36 फीसदी टीकाकरण अकेले भारत में हुआ था। उन्होंने कहा कि भारत में कुल 6.5 फीसदी वैक्सीन की बर्बाद हो रही है। तेलंगाना में वैक्सीन की बर्बादी 17.6 तो आंध्र प्रदेश में यह 11.6 फीसदी दर्ज की गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि कर्नाटक में कोरोना वायरस सकारात्मकता दर 1.3 फीसदी है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक सरकार को हमारी सलाह है कि जांच बढ़ाएं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मृत्यु दर अभी भी दो फीसदी से कम बनी हुई है, जबकि कुछ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में संक्रमण के प्रसार में तेजी आई है। भूषण ने पंजाब में कोरोना की स्थिति को लेकर कहा कि यहां सकारात्मकता दर इस समय 6.8 फीसदी है, जो कि चिंताजनक है। उन्होंने कहा कि यह दिखाता है कि यहां कोविड-19 के मुताबिक व्यवहार का पालन नहीं किया जा रहा है और कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए बनाए गए नियम भी नहीं माने जा रहे हैं।

26-02-2021
केंद्रीय जेल में मिले 17 मोबाइल और 18 सिम

जोधपुर। केंद्रीय कारागार में विचाराधीन कैदियों से 17 मोबाइल फोन और 18 सिम कार्ड और तीन चार्जर जब्त किए गए। जेल अधिकारियों के चलाए गए अभियान में यह कार्रवाई की गई। इतनी बड़ी मात्रा में जेल में मोबाइल और सिम मिलने पर राजस्थान के कारागार महानिदेशक राजीव दासोत ने मामला की जांच करने को कहा है।

 

05-02-2021
प्रेमसाय सिंह टेकाम ने केंद्रीय निकाय के कैलेंडर का किया विमोचन

रायपुर। शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने छत्तीसगढ़ व्याख्याता संघ के केंद्रीय निकाय के कैलेंडर का विमोचन किया। इस अवसर पर राज्य के व्याख्याता और प्राचार्याें को शुभकामनाएं दी। पदोन्नति के संबंध में पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि पदोन्नति की प्रक्रिया चल रही है। छत्तीसगढ़ व्याख्याता संघ ने पदोन्नति की प्रक्रिया प्रारंभ करने पर शिक्षा मंत्री को धन्यवाद ज्ञापित किया। विमोचन कार्यक्रम के प्रारंभ में संघ के प्रांताध्यक्ष राकेश शर्मा ने शिक्षा मंत्री का स्वागत किया। कार्यक्रम में ओएसडी गायत्री नेताम, प्रांतीय महामंत्री राजीव वर्मा, गोवर्धन झा, प्रांतीय सचिव सुरेश अवस्थी, केके शर्मा, कार्यालयीन सचिव फणींद्र शर्मा, आर के देशमुख, एम मिंज, रेखा साहू, जिलाध्यक्ष अरुण साहू, प्रांतीय कोषाध्यक्ष टीआर वर्मा, पीएल सेन, काशी विश्वनाथ राव सहित संघ के अन्य नेता उपस्थित थे।

25-01-2021
केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने पुराने वाहनों पर ग्रीन टैक्स लगाने की दी मंजूरी

नई दिल्ली। केंद्रीय परिवहन और हाइवे मंत्री नितिन गडकरी ने 8 साल से पुराने वाहनों पर ग्रीन टैक्स लगाने की मंजूरी दे दी है। 8 साल से पुराने वाहनों पर फिटनेस सर्टिफिकेट के रिन्यूअल के दौरान यह टैक्स वसूला जाएगा। नियम को नोटिफाइ करने से पहले राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास इस प्रस्ताव को भेजा जाएगा। परिवहन मंत्रालय ने सोमवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि इस टैक्स से मिलने वाले राजस्व का इस्तेमाल प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए किया जाएगा। मंत्री ने सरकारी विभाग और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के स्वामित्व वाले वाहनों की डिरजिस्ट्रेशन और स्क्रैपिंग की नीति को भी मंजूरी दी, जो 15 वर्ष से अधिक आयु के हैं। नए नियमों को 1 अप्रैल 2022 को नोटिफाइ किया जाएगा

। मंत्रालय ने कहा, 'यह अनुमान लगाया जाता है कि वाणिज्यिक वाहन, जो कुल वाहन बेड़े का लगभग 5 प्रतिशत हिस्सा हैं, कुल वाहन प्रदूषण में लगभग 65-70 प्रतिशत योगदान करते हैं। वर्ष 2000 से पहले निर्मित वाहन कुल बेड़े का 1 प्रतिशत है, लेकिन कुल वाहनों के प्रदूषण में इनका योगदान 15 फीसदी है।'' 8 साल से पुराने परिवहन वाहनों का फिटनेस सर्टिफिकेट रिन्यू करते समय रोड टैक्स के 10 से 25 फीसदी तक ग्रीन टैक्स लगाया जा सकता है। निजी वाहनों पर 15 सालों के बाद रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट रिन्यू करते समय ग्रीन टैक्स लगाया जाएगा। सार्वजनिक परिवहन के वाहनों जैसे सिटी बसों पर कम ग्रीन टैक्स लगेगा। सरकार ने अत्यधिक प्रदूषित शहरों में पंजीकृत वाहनों के लिए अधिक टैक्स प्रस्तावित किया है।

 

24-12-2020
केंद्रीय परिवहन मंत्री ने की घोषणा, 1 जनवरी से सभी वाहनों के लिए फास्टैग अनिवार्य

नई दिल्‍ली। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को ऐलान किया है कि 1 जनवरी 2021 से देश में सभी वाहनों के लिए फास्टैग को अनिवार्य होगा। उनका कहना है कि यह यात्रियों के लिए उपयोगी है क्योंकि उन्हें नकद भुगतान,समय की बचत और ईंधन के लिए टोल प्लाजा पर रुकने की आवश्यकता नहीं होगी। गडकरी ने बताया कि टोल नाका पर अब तक जो छूट गाड़ियों को दी जा रही थी वो बंद की जा रही है। साल 2021 के पहले दिन यानि कि एक जनवरी से सभी वाहनों के लिए फास्टैग जरूरी कर दिया गया है। बता दें कि केंद्र सरकार ने इस साल नवंबर में एक जनवरी से सभी वाहनों के लिए फास्टैग प्रणाली अनिवार्य करने संबंधी अधिसूचना जारी कर दी थी। फास्टैग प्रणाली 2011 में लागू की गई थी और 2018 तक 34 लाख से ज्यादा वाहन फास्टैग का इस्तेमाल कर रहे थे। वर्ष 2017 के बाद खरीदे जाने वाले सभी वाहनों के लिए फास्टैग को जरूरी कर दिया था। उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था से सभी वाहनों को टोल प्लाजा पर टोल के नकद भुगतान के लिए नहीं रुकना पड़ेगा और यात्रा में समय की बचत होगी

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804