GLIBS
08-03-2020
महिला शक्ति को सलाम, फर्ज के साथ परिवार की जिम्मेदारी औऱ माँ होने का दायित्व भी निभा रही महिला अफसर

धमतरी। एक समय था जब महिलाओं को पुरुषों के मुकाबले कम आंका जाता था। लेकिन अब वक्त बदल गया है। अब महिलाएं पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है। बल्कि कुछ क्षेत्रों में तो महिलाएं पुरुषों से बहुत आगे भी निकल गई है। इसका एक उदाहरण जिले में भी मौजूद है। यहां बात की जा रही है जिले की महिला अफसर एएसपी मनीषा ठाकुर की। जोकि जिले के अहम पद में होने के साथ-साथ एक परिवार की सदस्य भी है और इसके साथ-साथ वह दो बच्चों की मां भी है। इतनी सारी जिम्मेदारियों को वह कैसे संभालती है यह तो वही बेहतर जानेगी लेकिन उनकी कुछ ऐसी बाते हैं,जो दूसरों के लिए किसी सीख से कम नही है। महिला दिवस पर उन्हें सामने इस वजह से लाया जा रहा है बीते वर्ष शहर में दिवाली का माहौल था और वह अपनी जिम्मेदारियों को निभाने के साथ-साथ सुरक्षा व्यवस्था संभालने की जिम्मेदारी भी निभा रही थीं। ठंड के मौसम में दूसरी ओर उनका 5 साल का पुत्र गाड़ी में मम्मी की ड्यूटी खत्म होने का इंतजार कर रहा था। चूंकि रात ज्यादा हो गई थी तो वह नींद में हिचकोले भी खा रहा था उसके बाद भी मम्मी की ड्यूटी खत्म कहां होने वाली थी क्योंकि वह मौक़ा गौरा गौरी विसर्जन का था। जिले के अहम पद में रहने वाली मां अपने घर कैसे जा सकती थी वह सारी रात ड्यूटी करती रही और सारी रात उनका पुत्र गाड़ी में ही मम्मी का इंंतजार करते करते सो गया। दूसरी ओर यदि उनके काम की बात करें तो वह सामुदायिक पुलिसिंग के अलावा अपराधियों को पकड़ने के साथ-साथ अवैध कार्यों में लिप्त लोगों को भी लगातार पकड़ कर गिरफ्तार कर रही है। इसके अलावा कहीं बाहर जाकर अपनी ड्यूटी निभानी हो तो उसमें भी उनका अहम किरदार होता है। फिर जिला नक्सल प्रभावित क्षेत्र है तो जिले में नक्सलियों पर भी खास नजर रखनी पड़ती है। इस मामले में भी वह कम नहीं है जो कि लगातार जिले के दूरस्थ क्षेत्रों में भी अपनी निगाहें जमाये हुए रहती है। अभी हाल ही में उन्ही जंगली क्षेत्रों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव शांतिपूर्ण कराने में भी उनकी खास भूमिका थी। इस संबंध में उनका कहना है कि  फर्ज के साथ अपनी जिम्मेदारियों को निभाना थोड़ा तकलीफदेह जरूर है। मगर घर परिवार से ही बेहतर कार्य करने का हौंसला मिलता है लिहाजा सभी को अपने परिवार के साथ अपने काम औऱ अपनी जिम्मेदारियों को बेहतर ढंग से निभाना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने भी की तारीफ
एएसपी मनीषा ठाकुर को जिले में आये वैसे ज्यादा वक्त नहीं हुआ है। मगर उनके काम की वजह से समूचा जिला उन्हें पहचानता है। खास बात उनके काम की तारीफ तो प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल ने भी की है माघी पुन्नी मेले के दौरान एक महिला का प्रसव पुलिस ने मेले में करा दिया था। इस विकट परिस्थिति में पुलिस के साथ महिला को हौसला देने वाली यही महिला अफसर थी जिनकी पुलिस उच्चाधिकारियों ने भी तारीफ कर पुरस्कार देने की घोषणा की थी। सीएम भूपेश बघेल ने अपने फेसबुक एवं ट्विटर एकाउंट में नारी शक्ति को नमन किया था। उन्होंने नवजात शिशु को गोद में लिए हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे की फोटो पोस्ट की थी।

 

03-03-2020
शराब पीकर मतदान करने आए मतदाताओं के लिए बने सख्त कानून : सौरभ निर्वाणी

रायपुर। सेंटर फॉर सोशल लर्निंग के सह संथापक डॉ.सौरभ निर्वाणी ने राज्य निर्वाचन आयोग को पत्र लिखकर निष्पक्ष और अधिक पारदर्शी चुनाव कराने के लिए सुझाव दिए हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह शराब पीकर वाहन चलाते हुए पाए जाने पर वाहन चालक पर आर्थिक जुर्माना और कारावास का प्रावधान है उसी तरह शराब पीकर मतदान करने आए मतदाता पर भारी आर्थिक जुर्माना या मतदान करने पर अगले 6 साल के लिए प्रतिबंधित करने का प्रावधान होना चहिए। डॉ.निर्वाणी ने राज्य निर्वाचन आयोग को पत्र में लिखा कि उनकी टीम ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में प्रदेश के ग्रामीण अंचलों के चुनाव का अध्ययन किया। इसके निष्कर्ष चौकाने वाले हैं उनकी टीम ने महिला, पुरुष, बुजुर्ग और युवा मतदाताओं से बातचीत कर सर्वे के सैंपल तैयार किए है। डॉ.निर्वाणी ने पत्र में लिखा कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान 97 फीसदी प्रत्याशी इस चुनाव में पंच, सरपंच, जनपद सदस्य या जिला पंचायत के उम्मीदवार चुनाव जीतने के लिए मतदाताओं तक सही समय में शराब पहुंच जाए और बट जाए को लेकर ही चिंतित रहते थे। इनकी शराब सही समय गांवों में पहुंच कर बट जाए वो अपनी जीत को लेकर आश्वस्त रहते थे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक गांव में औसतन 4 से 6 लाख रुपए के मूल्य का शराब मतदान के दिनांक के सप्ताह में खपत हुई है।

 

15-02-2020
विधायक ने ग्रामीणों की सुनी समस्याएं और नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों से की मुलाकात

कोरिया। प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव संपन्न होते ही विधायक गुलाब कमरो अपने कार्यालय में जनदर्शन लगाकर क्षेत्र की समस्याओं का निराकरण कर रहे हैं।  इस दौरान ग्रामीणों के साथ ही विधायक कमरो ने पंचायत चुनाव के नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों से भी मुलाकात की। ग्रामीणों की बिजली, पानी व सड़क की समस्याओं से रूबरू होते हुए विधायक कमरो ने जल्द से जल्द समस्या से निजात दिलाने की बात कही।  इस दौरान विधायक गुलाब कमरो ने विद्युत विभाग की सहायक अभियंता प्रीती एक्का को पूरे विधानसभा क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था ठीक करने के निर्देश दिए। विधायक ने इस दौरान ग्रामीणों को भूपेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में भी जानकारी दी। इस दौरान विधायक के मीडिया प्रतिनिधि रंजीत सिंह, पूर्व सरपंच अमर सिंह, सरपंच समेत ग्रामीण मौजूद रहे।

 

 

13-02-2020
पंचायत चुनाव में जीत पर मरकाम को बधाई देने पहुंचे कांग्रेसी

रायपुर। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव समाप्त होने के बाद जनपद अध्यक्ष-उपाध्यक्ष का चुनाव हुआ। इसमें काँग्रेस ने अधिकांश सीटों पर अपना कब्जा जमाया है। बताया गया कि जनपद अध्यक्ष के चुनाव होने के बाद सामने आ रहे आंकड़ों में 145 सीटों में से 109 सीटों पर काँग्रेस की जीत हुई है। इस अवसर पर शहर जिला काँग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गिरीश दुबे ने प्रदेश काँग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम और प्रदेश काँग्रेस कमेटी के प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन को मिठाई खिलाई। इस जीत के लिए बधाई देकर उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने भूपेश बघेल की सरकार द्वारा जनहित में लिए गए निर्णय पर मुहर लगाई है। उन्होंने इस जीत का श्रेय प्रदेश काँग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम को दिया है। इस अवसर पर सूर्यमणि मिश्रा, बैद्यनाथ चंद्राकर, पंकज मिश्रा, बंशी कन्नौजे सहित कार्यकर्त्ता उपस्थित थे। 

13-02-2020
धमतरी, मगरलोड और कुरूद जनपद में कांग्रेस का कब्जा, नगरी में भाजपा ने मारी बाजी

धमतरी। नगरीय निकाय चुनाव में मिली जीत को बरकरार रखते हुए कांग्रेस ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में भी परचम लहराने में कामयाब रहा। जिले के चारों जनपद पंचायत के लिए आज गुरुवार को अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए चुनाव हुए। इसमें धमतरी, कुरूद और मगरलोड जनपद पंचायत पर कांग्रेस का कब्जा हुआ। वही नगरी जनपद पंचायत में भाजपा अध्यक्ष बनाने में कामयाब रहा। बता दें कि आज भारी गहमागहमी के बीच चारों जनपद पंचायत में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए मतदान हुआ। अध्यक्ष,उपाध्यक्ष चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस और भाजपा के बड़े नेता जनपद में डटे रहे। वही धमतरी जनपद पंचायत में क्रास वोटिंग की संभावना पहले से ही था। मतदान के वक्त भाजपा समर्थित एक जनपद सदस्य ने कांग्रेस के पक्ष में क्रास वोटिंग कर दिया। मगरलोड जनपद पंचायत में भी कांग्रेस का कब्जा हुआ है। कांग्रेस समर्थित अध्यक्ष के दावेदार ज्योति ठाकुर को 25 में से 13 वोट मिला तो भाजपा को 12 वोट।
सिहावा विधानसभा अंर्तगत जनपद पंचायत नगरी में हुए जनपद चुनाव में भाजपा और कांग्रेस समर्थित दस-दस उम्मीदवारों ने जीत हासिल की थी। इसके साथ ही 5 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने विजय प्राप्त की थी। बताया जा रहा है कि यहां भी कांग्रेस का जनपद अध्यक्ष बनना लगभग तय था लेकिन कांग्रेस पार्टी के कुछ आला नेताओं से नाराजगी के चलते दिनेश्वरी नेताम ऐन वक्त में भाजपा का दामन थाम लिया। जिसे भाजपा ने अपना अध्यक्ष के लिए दावेदार बनाया और दिनेश्वरी नेताम ने जीत हासिल की। नगरी जनपद में दिनेश्वरी नेताम को 13 मत मिले। वही भाजपा का गढ़ कहे जाने वाले जनपद पंचायत कुरूद में भाजपा को नगरीय निकाय चुनाव के बाद पंचायत चुनाव में भी करारी शिकस्त मिली है। नगर पंचायत को गंवाने के बाद भाजपा ने यहां जनपद पंचायत भी इनके हाथों से निकल गई। आज जनपद पंचायत के अध्यक्ष के लिए हुए मतदान में कांग्रेस के शारदा साहू को 13 मत मिले। बहरहाल जिले के चार जनपद पंचायतों में से तीन जनपद पंचायत में कांग्रेस समर्थित प्रत्याशियों को जीत मिलने से कांग्रेस काफी गदगद नज़र आ रही है और पार्टी में जश्न का माहौल है।

 

11-02-2020
भाजपा ने कि पर्ववेक्षकों की नियुक्ति, देखें किन्हें मिला मौका....

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी प्रदेशाध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की दृष्टि से जिला के पर्यवेक्षक की नियुक्ति की है। इसमें रायपुर ग्रामीण-बृजमोहन अग्रवाल,बलौदाबाजार- राजीव अग्रवाल,गरियाबंद-नीलू शर्मा,महासमुंद-श्रीचंद सुंदरानी, धमतरी-भरत वर्मा, दुर्ग-अशोक बजाज, बेमेतरा-संदीप शर्मा,बालोद-शंकर अग्रवाल, राजनांदगांव-केदार गुप्ता, कवर्धा-संजय श्रीवास्तव, कांकेर-सच्चिदानंद उपासने, कोण्डागांव-श्रीनिवास राव मद्दी, नारायणपुर-सतीश लाटिया, बस्तर-किरण देव, दंतेवाड़ा-संजय पाण्डेय, गौतम गोल्छा, सुकमा-मनोज देव, बीजापुर-महेश गागड़ा, बिलासपुर-गौरीशंकर अग्रवाल,मुंगेली-दीपक पटेल, जांजगीर चांपा-गिरधर गुप्ता, कोरबा -श्यामबिहारी जायसवाल, रायगढ़-डॉ.कृष्णमूर्ति बांधी, जशपुर-अनुराग सिंहदेव, सरगुजा-अमर अग्रवाल,सूरजपुर-लखनलाल साहू, बलरामपुर-रजनीश सिंह, कोरिया-भूपेन्द्र सवन्नी को पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए है।

 

11-02-2020
नकुलनार पंचायत के नवनिर्वाचित सरपंच-पंच ने ली पद की गोपनीयता की शपथ  

दन्तेवाड़ा। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के परिणाम के बाद अब पंचायतो में नवगठित पंचायत सदस्य अपने दायित्वों का निर्वहन करने में जुट गये है। इसी के तहत ग्राम पंचायत नकुलनार में इस बार जीती महिला सरपंच रंजना कश्यप और 13 वार्डों के पंचों ने छग पंचायत के अधिनियम 1995 के नियम 47 के तहत पद और गोपनीयता की सभी ने शपथ ग्रहण की। शपथ ग्रहण समारोह में दन्तेवाड़ा की आराध्य देवी दंतेश्वरी माँ के छायाचित्र पर पूजा अर्चना के साथ शुरू हुई। कार्यक्रम में बीआरसी रामकुमार मोहंती कर साथ पंचायत के सचिव समर ठाकुर ने सभी को शपथ दिलवाया। शपथ ग्रहण समारोह में भाजपा के वरिष्ठ नेता रामबाबू सिंह गौतम ने सभी को सम्बोधित करते हुए कहा कि नकुलनार ग्राम पंचायत को आदर्श और पूरे कुआकोंडा ब्लाक मुख्यालय के अनुकरणीय पंचायत बनाना है।

अधूरे सभी कार्यो को पूरा करना है। सबसे बड़ी बात इसी शपथ ग्रहण समारोह में नवनिर्वाचित सरपंच रंजना कश्यप ने अपने पहले वक्तव्य में कहा कि सबसे पहले ग्राम सफाई अभियान चलाया जायेगा। स्वछता पर पूरा ध्यान दिया जाएगा। इसके साथ ही ग्राम विकास निधी को बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। पुराने सरपंच ने अपने कार्यकाल में पंचायत की दुकानों में काबिज लोगो से वर्षों से किराया ही नही लिया सभी से वसूली के लिए नोटिश चलवाया जायेगा। ताकि पंचायत निधी में बढोत्तरी हो सके। जानकारी के मुताबिक नकुलनार ग्राम पंचायत में अधिकांश पंचायत के अधीन काम्प्लेक्स पर बैठे दुकानदार किराया तक वर्षो से नही पटाये है। जिन्हें वसूलने की प्राथमिकता की बात भी नई सरपंच रंजना कश्यप कर रही है। शपथ ग्रहण समारोह में वार्ड क्र. 2 के पंच दलीप चौहान, वार्ड क्र. 03 के पंच भास्कर राठौर, वार्ड क्र. 04 के पंच रचना भदौरिया, वार्ड क्र.13 के पंच बेला नेताम और वार्ड क्र.12 के पंच गोदावरी नेताम के साथ भाजपा के युवा नेता सुमित भदौरिया, मनोज राठौर के साथ ग्राम पंचायत के कई ग्रामीण मौजूद रहे।

 

08-02-2020
खैरझीटी मतदान केन्द्र प्रकरण में 15 गिरफ्तार,पुलिस ने बोइरडीह से दबिश देकर पकड़ा

जांजगीर चम्पा। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के प्रथम चरण में जैजैपुर ब्लाक अंतर्गत हुए पंचायत चुनाव में ग्राम खैरझीटी के मदातन केन्द्र में मतगणना में गड़बड़ी का मिथ्या आरोप लगाकर मतदान दल को बंधक बनाया गया था। मतदान दल एवं पुलिस बल के उपर लाठी,डंडा एवं पत्थरों से हमला किया गया था। वही डायल 112 वाहन पर भी पत्थर से तोड़फोड़ कर क्षतिग्रस्त किया गया था। इसमें उप निरीक्षक घनश्याम पटेल व अन्य पुलिसकर्मियों को चोटें आई थी। आहत उप निरीक्षक घनश्याम पटेल एवं मतदान केन्द्र के पीठासीन अधिकारी सागर वर्मा की रिपोर्ट पर थाना हसौद में आरोपियों के विरुद्ध पृथक-पृथक अपराध पंजीबद्ध किया गया। आज उसी मामले में पुलिस ने 15 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और न्यायिक रिमांड पर भेज  दिया है। दरसअल 28 फरवरी को प्रथम चरण के चुनाव के बाद मतगणना में गड़बड़ी का आरोप लगाकर मतदान दाल को बंधक बनाकर मारपीट तोड़फोड़ और 112 को तोड़फोड़ किया था। शनिवार को पुलिस टीम ने कार्यवाही करते हुए जांजगीर एवं चंद्रपुर/डभरा अनुविभाग के पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ ग्राम बोईरडीह में दबिश देकर उक्त दोनो प्रकरणों के आरोपीयों सम्मेलाल साहू,फिरत यादव,गायत्री यादव,सिरमती सिदार,हेमलता निराला,हिमेन्द्र धिरे,बलराम सिदार,अजय नेताम, संतोष यादव,राजेश यादव,सुनील यादव,ईश्वर प्रसाद चंद्रा,खेलकुमार साहू,ननकी राउत, राजकुमार साहू को विभिन्न धाराओं में गिरफ्तार किया जाकर न्यायालय प्रस्तुत किया गया।

 

07-02-2020
मोदी, शाह के किसान विरोधी कृत्य के महापाप का प्रायश्चित कर रही भाजपा : धनंजय

रायपुर। भाजपा के आंदोलन पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने भाजपा के आंदोलन को विफल करार देते हुए आरोप लगाया है कि मोदी और शाह ने किसानों के साथ विश्वासघात किया है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा मोदी, शाह के किसान विरोधी कृत्य के महापाप का प्रायश्चित कर रही है। मोदी भाजपा ने लोकसभा चुनाव में स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिश के अनुसार लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देने और आय दोगुनी करने का वादा किया था लेकिन 6 साल बाद भी बजट में उसका प्रावधान नहीं कर किसानों के साथ धोखा छल कपट प्रपंच किया। किसान सम्मान निधि के नाम से किसानों का अपमान किया।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा के नेता सड़क में किसानों की हित की बड़ी बड़ी बात करते हैं लेकिन भाजपा के सांसदों को सदन में सांप सूंघ जाता है, जो चुप रहते हैं। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि 15 साल के रमन सरकार और बीते 6 साल में मोदी सरकार ने किसानों की आमदनी बढ़ाने के लिए कुछ भी नहीं किया। किसानों के नाम से राजनीति करने वाले भाजपा के नेता बताएं जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसानों को धान का 2500 रुपए  मूल्य दे रही थी, तब केंद्र के मोदी सरकार ने उसमें अड़ंगा लगाने का काम किया। उस दौरान प्रदेश के राज्यपाल को 20 लाख किसानों का पत्र सौंपकर प्रधानमंत्री से आग्रह किया गया कि सेंट्रल पूल के नियम को शिथिल रखा जाए ताकि राज्य सरकार को धान के 2500 रुपए प्रति क्विंटल दाम देने में कोई दिक्कत ना हो। तब भाजपा के 9 सांसद और भाजपा के नेता किस गुफा में छुपे बैठे थे? भाजपा के 9 सांसद और भाजपा नेताओं में हिम्मत है, वास्तविक में किसानों का भला चाहते हैं, मोदी शाह के सामने खड़े होकर छत्तीसगढ़ के किसानों की हित की बात करें। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार पर धान खरीदी में विफल होने का आरोप लगाने वाली भाजपा को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जनता ने जवाब दे दिया है।

 

07-02-2020
पंचायत चुनाव में मतदानकर्मियों से मारपीट के 41 आरोपी गए जेल

जांजगीर-चांपा। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान मतदान केन्द्रों में मतदान कर्मियों के साथ मारपीट और केन्द्र में तोड़फोड़ करने वाले वाले आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। थाना कोतवाली के जांजगीर चौकी नैला के ग्राम औराईकला, थाना पामगढ़ के ग्राम झुलन, थाना मुलमुला के ग्राम जेयरा के मतदान केन्द्रों में मतदानकर्मियों के साथ मारपीट हुई थी। इसमें शासकीय कार्य में बाधा, पथराव, बलवा,कर्मचारियों से मारपीट सहित सरकारी सम्पत्तियों को नुकसान पहुंचाने के मामले में अपराध कायम किया गया है। बताया गया कि इस कार्रवाई में थाना कोतवाली जांजगीर चौकी नैला के ग्राम औराईकला के मतदान केन्द्र पर पथराव बलवा तोड़फोड़ करने वाले 13 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया।

थाना पामगढ़ क्षेत्र के ग्राम झूलन मतदान केन्द्र पर पंचायत चुनाव उपरांत हुए उपद्रव पर दर्ज मामलों में 6 आरोपी भुनेश्वर डहरिया, कौशिल्या कश्यप, जोगेन्द्र कुमार, शिवा उर्फ शिवकुमार, उमा बाई और राधाबाई को गिरफ्तार किया गया है। थाना मुलमुला क्षेत्र के ग्राम जेवरा में मतदान केन्द्र में उपद्रव करने वाले 22 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। इसमें अमित कुमार, संदीप कुमार, प्रकाश बांधी, दुजराम कश्यप, रामकुमार, साहेबलाल, व्यासनारायण, कल्लू कश्यप, किशुन कुमार, धमेन्द्र कश्यप, अयोध्या प्रसाद, लक्ष्मण प्रसाद, गोलू कश्यप, सोनाउ कश्यप, छतराम, राजू कश्यप, अमृतलाल, सुकबाई, यशोदा बाई, सावित्री, जानकी बाई, गणेशी बाई को गिरफ्तार किया। इस मामले में अब तक 41 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने वालों पर पुलिस सख्त कार्रवाई कर रही है।

06-02-2020
छत्तीसगढ़ में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के साथ समाप्त हुई आचार संहिता

रायपुर। प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की प्रक्रिया पूर्ण होने के साथ ही आचार संहिता भी समाप्त हो गई है। नगरीय निकाय चुनाव के बाद त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के कारण लगातार आचार संहिता लागू थी। गुरुवार को राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने कहा कि भारत के संविधान के तहत राज्य निर्वाचन आयोग को सौंपे गए संवैधानिक दायित्व के अनुरूप त्रिस्तरीय पंचायतों का आम निर्वाचन 2019-20 पूर्ण कराया गया है। छत्तीसगढ़ के 27 जिलों और 146 जनपद पंचायतों में कुल 175768 पद हैं। इनमें से कुल 175433 पदों के लिए निर्वाचन की कार्रवाई की गई। आयुक्त ने बताया कि नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की प्रक्रिया के दौरान कुल 576 पदों के लिए कोई नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत नहीं हुआ। 136 पदों के लिए सभी नाम निर्देशन पत्र खारिज हो गए। मतदान की प्रक्रिया पूर्ण कराने के लिए राज्य में कुल 29757 मतदान केन्द्र बनाए गए थे, जिनमें 8908 संवेदनशील और 3448 अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्र रहे। उन्होंने कहा कि सुरक्षा की दृष्टि से एलडब्ल्यूई प्रभावित बस्तर संभाग के 353 मतदान केन्द्रों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित किया गया। बस्तर के 50 मतदान केन्द्र ऐसे थे, जिसमें मतदान दलों के परिवहन के लिए हेलीकॉप्टर का उपयोग किया गया। राज्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान हिंसा, बलवा, लूट, बूथ पर कब्जे की कोई भी घटना नहीं हुई। आचार संहिता के उल्लंघन की 36 शिकायतें मिली, जिसमें से 15 शिकायतें तत्काल निराकृत की गई और शेष में जांच जारी है।

 

06-02-2020
जिला और जनपद पंचायत अध्यक्ष पद के लिए शुरू हुई जद्दोजहत

मुंगेली। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की समाप्ति के बाद अब जिला पंचायत अध्यक्ष और जनपद अध्यक्ष के लिये मारामारी शुरू हो गई है दोनो ही पार्टियां अपने -अपने प्रत्याशियों के लिये जुगाड़ जमाने मे लग गई है मुंगेली जिले में जहां जिला पंचायत की 12 सीटें है। इसमें 6 कांग्रेस को 5 भाजपा को व 1 जोगी कांग्रेस को मिली है। वहीं मुंगेली ब्लाक में जनपद की 25 सीट है, जिसमे 10 सीट कांग्रेस को 10 सीट भाजपा के और 5 पर अधिकृत न किये जाने से नाराज हो बागी के रूप में जीते हैं। गौरतलब हो कि इस बार भी दोनो अध्यक्ष का पद महिलाओं के लिए सुरक्षित है, जहां जिला पंचायत सामान्य महिला के लिये सुरक्षित है। वहीं जनपद अध्यक्ष पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित है।

फिर सताने लगा क्रॉस वोटिंग का डर

जिस तरह मुंगेली नगरपालिका अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के चुनावों में खरीद फरोख्त और क्रॉस वोटिंग की छाया रही वही डर अब जिला पंचायत अध्यक्ष और जनपद अध्यक्ष पद के लिए भी सताने लगा है जिस तरह सरकार में मुंगेली को छोड़ बाकी ब्लाकों में कांग्रेस का दबदबा रहा और ग्रामीण जनता ने कांग्रेस के कार्यो की सराहना करते हुए एक बार फिर कांग्रेस पर भरोसा दिखाते हुए भाजपा को सिरे से खारिज किया। वहीं दोनो ही पार्टी के नामचीन लोगो को भी हार का मुंह देखना पड़ा है।

कुछ जगहों पर निर्विरोध चुने गए प्रतिनिधि

जहां लाखो का खर्च कर प्रत्याशियों ने दम खम दिखाया। वहीं ब्लॉक में कुछ ऐसे भी पंचायत रहे जहां आपसी सामंजस्य में सरपंच और पंच बना कर एक मिशाल दी, जो कहि न कहि शासन के व्यय को बचाते हुए सकारात्मक संदेश देता है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804