GLIBS
25-05-2020
डैम में डूबने से युवक की मौत

राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र की सीमा पर बोरतलाव के पास एक डैम में डूबने से युवक की मौत हो गई। पुलिस ने गोताखोरों की सहायता से काफी मशक्कत के बाद शव को खोज निकाला। हादसे से डोंगरगढ़ में सनसनी फैल गई है। दोनों राज्यों की सीमा पर दरेकसा एवं बोरतलाव के पास बेवर टोला बांध में डोंगरगढ़ निवासी युवक मो.तस्लीम शेख उम्र करीब 19 साल है। वह वहां नहाने गया हुआ था तभी वहां डूबने से उसकी मौत हो गई। खबर है कि दरेकसा स्थित हाजरा फॉल झरने का पानी इसी बांध में पहुंचता है,जहां पर कुछ युवक घूमने गए थे। इसी दौरान वहां उंचाई से गिरने एवं बांध में डूबने के कारण उक्त युवक की मौत हो गई। घटना 24 मई की है लेकिन रात हो जाने व नक्सल प्रभावित क्षेत्र होने से शव को 25 मई को निकाला जा सका।

 

11-05-2020
श्रमिक सहायता केंद्रों में रखा जाएगा सत्तू और सोनपापड़ी

दुर्ग। दूसरे राज्यों से छत्तीसगढ़ आ रहे तथा इस रास्ते अन्य राज्यों में जा रहे श्रमिकों की सहायता के लिए श्रमिक सहायता केंद्र बार्डर एवं महत्वपूर्ण स्थलों में जिला प्रशासन ने आरंभ किए हैं। इनमें दो दिनों से श्रमिकों को नाश्ता एवं आगे की यात्रा के लिए सूखा नाश्ता दिया जा रहा है। जो लोग पैदल हैं उनके लिए बस की व्यवस्था की जा रही है। सोमवार को व्यवस्था की मानिटरिंग करने आईजी विवेकानंद सिन्हा, कलेक्टर अंकित आनंद, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक  अजय यादव एवं नगर निगम कमिश्नर ऋतुराज रघुवंशी पहुंचे। इस मौके पर आईजी ने अधिकारियों को कहा कि जिनके पास जाने की व्यवस्था नहीं हैं उन्हें चिन्हांकित कर उनके लिए बस की सुविधा उपलब्ध करा दें। कलेक्टर ने इन्हें मंगल भवन में ठहराने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने अधिकारियों को कहा कि जिनके जाने  के साधन नहीं हैं ऐसे लोगों का चिन्हांकन कर रूट बनाकर उन्हें भेज दें तथा स्वास्थ्य जांच जैसे प्रोटोकाल के साथ यह करें। अधिकारियों ने पूछा कि किन राज्यों के लोग अधिक आ रहे हैं। इस पर सहायता केंद्र में बैठे कर्मचारियों ने बताया कि सबसे ज्यादा झारखंड के लोग आ रहे हैं। चूंकि झारखंड के लोग सबसे ज्यादा सत्तू पसंद करते हैं इसलिए सबसे अच्छी चीज छत्तीसगढ़ की ओर से उन्हें सत्तू दी जाए ताकि वे पसंद से इसे खायें तथा उन्हें सफर में किसी तरह की दिक्कत न आए। इसी मौके पर कुछ झारखंड के लोग भिलाई-चरौदा में रूके। उन्होंने बताया कि फिलहाल तो वे लिफ्ट लेकर आए हैं। आगे के लिए ट्रक देखेंगे। कलेक्टर ने कहा कि आप लोगों को जिला प्रशासन रामानुजगंज तक छोड़ देगा, आज रात आपके रूकने की व्यवस्था मंगल भवन में होगी। इन्हें सूखा नाश्ता भी दिया गया और पैकेट आइटम भी दिए गए। झारखंड के यह लोग गढ़वा के थे, उन्होंने कहा कि आप लोगों की यह स्नेह हमें हमेशा याद रहेगा। इसके बाद अधिकारी अंजोरा बार्डर पर पहुंचे। यहां भी लोगों को सूखा राशन दिया गया। बच्चों को चाकलेट और बिस्किट दिये गये। यहां इन्होंने स्वास्थ्य अमले से रैपिड टेस्ट एवं अन्य विषयों की जानकारी ली। साथ ही अंजोरा बार्डर में अन्य व्यवस्थाओं के संबंध में निगम कमिश्नर दुर्ग बर्मन को आवश्यक निर्देश दिए। आईजी, एसएसपी और कलेक्टर ने यहां काम में लगे अमले को भी बधाई दी और कहा कि कोविड संक्रमण के इस दौर में आप सभी पूरी गंभीरता से अपने काम और सेवा कार्य में लगे हैं। यह बहुत अच्छी बात है। यहां कुछ सेवाभावी लोग भी मिले जो सूखा राशन देना चाहते थे। इसकी कार्ययोजना बनी और उन्होंने कहा कि वे आज देर रात से यह काम शुरू कर देंगे।

 

28-04-2020
1975 में बनी नाले की दीवार जर्जर, महापौर ने कहा-जल्द भेजें प्रस्ताव

रायपुर। महापौर एजाज ढेबर ने मंगलवार को इंदिरा गांधी वार्ड में पोकलेन मशीन की सहायता से बडे नाले की सफाई की प्रगति का जायजा लिया। महापौर ने पोकलेन मशीन से जारी सफाई कार्य को तेजी से करवाने, गंदे पानी का निकास कराने के लिए रोजना मॉनिटरिंग करने के निर्देश जोन 2 कमिश्नर देवांगन को दिए। इस दौरान निगम एमआईसी सदस्य सुरेश चन्नावार, पूर्व नेता प्रतिपक्ष व पार्षद सूर्यकांत राठौड, पूर्व पार्षद राधेश्याम विभार, जोन 2 कमिश्नर विनोद देवांगन, उपायुक्त राजस्व आरके डोंगरे और अन्य संबंधित निगम अधिकारी उपस्थित थे।इसी तरह महापौर ने जोन 2 के रमण मंदिर वार्ड पहुंचकर जोन स्वास्थ्य विभाग द्वारा बडे नालों की मैनुअल सफाई की प्रगति का निरीक्षण किया। उन्होंने इंदिरा गांधी वार्ड के बड़े नाला की पूर्ण सफाई के बाद,रमण मंदिर वार्ड में बडें नाला में पोकलेन मशीन से सफाई तले तक कराने के निर्देश जोन कमिश्नर को दिए।उन्होंने वर्ष 1975 के दौरान रमण मंदिर वार्ड में बड़े नाला की तत्कालीन समय के प्रचलन के अनुसार बनी ईटों की दीवार की जर्जर स्थिति देखी। इस पर महापौर ने जोन 2 कमिश्नर को सर्वे करवाकर तत्काल ईटों की दीवारों की जगह आरसीसी की दीवार बनाने के निर्देश दिए। जोन 2 कमिश्नर ने महापौर को बताया कि इसके लिए सर्वे करके नगर निगम जोन 2 लोककर्म विभाग द्वारा 56 लाख रुपए के अनुमानित व्यय का प्रस्ताव तैयार किया गया है। महापौर ने जोन 2 कमिश्नर को तत्काल प्रस्ताव भेजकर सक्षम स्वीकृति लेकर प्राथमिकता से कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

 

27-04-2020
मुख्यमंत्री राहत कोष में क्षत्रिय समाज ने दी सहायता राशि

रायपुर। कोरोना महामारी के संक्रमण की रोकथाम और जरूरतमंद लोगों की मद्द के लिए क्षत्रिय समाज द्वारा मुख्यमंत्री सहायता कोष में एक लाख 21 हजार रूपए एवं प्रधानमंत्री राहत कोष में ग्राम गोटीटोला विकासखंड चारामा के ग्रामीणों ने 8001 रूपए की सहायता राशि का चेक प्रदान किया गया है। समाज के पदाधिकारियों और ग्रामीणों ने सोमवार को कलेक्टर उत्तर बस्तर कांकेर को सहायता राशि का चेक सौंपा। कलेक्टर केएल चौहान ने इस नेक कार्य के लिए समाज के अध्यक्ष राजीवलोचन ठाकुर सहित समस्त क्षत्रिय समाज और ग्राम बोटीटोला (चंदेली) के सरपंच श्यामसिंह नेताम सहित ग्रामीणजन को धन्यवाद दिया है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के संसदीय सलाहकार राजेश तिवारी भी उपस्थित थे।इस संकटपूर्ण परिस्थितियों में कोरोना संकट से निपटने और विभिन्न राहत कार्यों के लिए विभिन्न संगठनों,समाजसेवी संस्थाओं,अधिकारियों-कर्मचारियों,उद्योगपतियों और आम नागरिकों सहित समाज के हर वर्ग की ओर से मुख्यमंत्री सहायता कोष में लगातार दान दिया जा रहा है।

25-04-2020
सामाजिक संगठनों को जरूरतमंद तक सहायता सामग्री सीधे नहीं पहुंचाने का फरमान वापस ले सरकार : श्रीचंद सुंदरानी

रायपुर। पूर्व विधायक श्रीचंद सुंदरानी ने कहा है कि तुगलकी फरमान जारी कर लॉकडाऊन से प्रभावित गरीब व जरूरतमंदों को गैर-सरकारी स्वयंसेवी सामाजिक संस्थाओं की ओर से राशन, भोजन और अन्य सहायता सामग्री सीधे मुहैया कराने पर रोक लगाने वाली सरकार अपने मार्फत भी यह सहायता जरूरतमंद परिवारों तक नहीं पहुँचा पा रही है। सुंदरानी ने कहा कि जो सरकार अपनी ही स्थापित व्यवस्था पर अमल तक नहीं कर पा रही है, उस सरकार से कोई भी उम्मीद रखना बेमानी ही है।सुंदरानी ने कहा कि प्रदेश सरकार के आदेश के बाद सभी गैर-सरकारी संस्थाओं व संगठनों ने अपने स्तर पर एकत्रित सहायता सामग्री स्टेडियम में जमा करा दी है लेकिन प्रदेश सरकार और उसकी प्रशासनिक मशीनरी उक्त सामग्रियाँ जरूरतमंद परिवारों तक नहीं पहुँचा पा रही हैं। उन्होंने कहा कि सहायता सामग्रियों से स्टेडियम भरा पड़ा है पर इन सामग्रियों का समय पर वितरण नहीं करा पाना प्रदेश सरकार की विफलता है। सुंदरानी ने कहा कि इससे यह एकदम साफ हो गया है कि प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण के खिलाफ जारी लड़ाई में आधे-अधूरे मन से काम कर रही है और केंद्र सरकार के प्रयासों को अपना बताकर झूठा आत्म-प्रचार कर रही है।

 

24-04-2020
धरमलाल कौशिक ने सरपंच की आत्महत्या को बताया दुर्भाग्यपूर्ण, परिवार के लिए मांगी सहायता राशि

रायपुर। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने दुर्ग जिले की अमेरी ग्राम पंचायत के सरपंच की आत्महत्या को अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने सरपंच की आत्महत्या पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी है। कौशिक ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री और गृहमंत्री के जिले में यह घटना प्रदेश सरकार के लिए आत्म मूल्यांकन करने की जरूरत पर बल देती है। कौशिक ने कहा कि प्रथमदृष्टया यह मामला प्रताड़ना को इंगित करने वाला है। मुख्यमंत्री को इस मामले के सभी पहलुओं को खंगाल कर तथ्यों की पड़ताल कराना चाहिए। कौशिक ने मृतक पीड़ित परिवार के लिए सहायता राशि की मांग की है।

22-04-2020
कोरोना प्रभावितों की सहायता के लिए कमिश्नर ने कलेक्टर को दी राशन सामग्री

रायपुर। इंडोर स्टेडियम पहुंचकर रायपुर संभाग के कमिश्नर जीआर चुरेन्द्र ने बुधवार को डोनेशन आन व्हील्स के लिए 115 खाद्यान्न पैकेट कलेक्टर रायपुर डॉ.एस. भारती दासन को प्रदान किए। यह राशन सामग्री कमिश्नर कार्यालय के सभी अधिकारी-कर्मचारियों की ओर से एकत्रित 32 हजार रुपए से प्रदान की गई है। कलेक्टर ने कोरोना प्रभावितों की सेवा एवं सहायता के लिए मिली इस सहायता पर आभार व्यक्त किया है। उन्होंने बताया कि पूरे रायपुर जिले में विभिन्न विभागों की ओर से सहायता पहुंचाई जा रही है। इस दौरान अपर आयुक्त, उपायुक्त सरिता तिवारी, जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ.गौरव सिंह भी उपस्थित थे।

 

 

22-04-2020
लॉक डाउन में फंसे श्रमिकों को दी गई 20.56 लाख रुपए की सहायता

रायपुर। नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के वैश्विक संक्रमण के दौरान लागू लॉक डाउन के कारण कई राज्यों में काम के लिए गए श्रमिक वापस अपने घरों को नहीं लौट पाये हैं। छत्तीसगढ़ शासन की ओर से राज्य से बाहर गए इन श्रमिकों की मदद के लिए हरसंभव प्रयास किया जा रहा है। राज्य से बाहर गये श्रमिकों को सहायता पहुंचाने के उद्देश्य से सीधे मजदूरों के खातों में राशि स्थानांतरित की जा रही है। बेमेतरा जिले के छः हजार से ज्यादा श्रमिकों को सीधे उनके खातें में अब तक 20 लाख 56 हजार छह सौ रुपए का स्थानांतरण किया जा चुका है। इस माह की 20 तारीख को जिले के 411 श्रमिकों के खाते में 2 लाख 35 हजार रुपए का अंतरण किया गया। जरूरतमंदों की मदद के लिए विधायकों, जनप्रतिनिधियों एवं जनता ने बढ़-चढ़ कर अपना सहयोग दिया है। श्रमिकों के मदद करने के लिए राज्य हेल्पलाईन के अलावा कलेक्टर शिव अनंत तायल की ओर से जिला हेल्पलाइन स्थापित किया गया है।

प्रशासन की ओर से की जा रही मदद से राज्य के बाहर फंसे श्रमिक लॉक डाउन में भी रोजमर्रा की अवश्यकता जैसे राशन, सब्जी, दवाईयों की की पूर्ति कर रहे हैं। यह मदद केवल मजदूरों के खातें में राशि अंतरण तक सीमित नही है,बल्कि मजदूरों से प्रतिदिन आत्मीय बातचीत कर उनके सुख-दुख के साथ उनके भोजन, राशन, दवाई आदि की उपलब्धता के संबंध में जानकारी प्राप्त की जा रही है। इसके साथ ही लॉकडाउन की परिस्थिति में जो जहां है,वहीं रहने की समझाईश भी दे रहे है। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ में अन्य जिले एवं अन्य राज्यों के श्रमिकों को भी सहायता पहुंचाई जा रही है। बेमेतरा जिले में श्रमिकों को शासकीय अमलों और स्व-सहायता समूहों के संयोजन से दैनिक उपभोग की समाग्री का वितरण भी किया गया है।

 

21-04-2020
नपा अध्यक्ष ने हितग्राहियों को राष्ट्रीय परिवार सहायता चेक का किया वितरण

कवर्धा। जनकल्याणकारी योजना राष्ट्रीय परिवार सहायता योजनांतर्गत हितग्राहियों को नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा ने 20-20 हजार रूपए का चेक वितरित किया। नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा चलाए जा रहे जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ लोगों को मिल रहा है राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना अंतर्गत मृतक के आश्रित परिवार को छग सरकार द्वारा 20 हजार रूपये का सहायता राशि प्रदान किया जाता है। इस योजना के तहत आज नगर के 14 परिवारों को चेक वितरित किया गया। उन्होनें बताया कि लाॅक डाउन के चलते अलग-अलग दिवस हितग्राहियों को चेक प्राप्त करने के लिए बुलाया गया था ताकि किसी प्रकार का कोई परेशानी न हो। जनकल्याण शाखा प्रभारी अजय सिंह ठाकुर से प्राप्त जानकारी के अुनसार परिवार के कमाने वाले मुखिया के मृत्यु उपरांत उनके आश्रित सदस्यों को नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा व पालिका जनप्रतिनिधियों द्वारा चेक वितरित किया गया। इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि कुमार शर्मा, उपाध्यक्ष जमील खान, सभापति महिला एवं बाल विकास अरूंधति चंद्रवंशी, नरेन्द्र देवांगन, अशोक सिंह, सुनील साहू उपस्थित थे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804