GLIBS
30-06-2020
विचाराधीन कैदी की मौत की होगी दण्डाधिकारी जांच, कलेक्टर ने जारी किया आदेश

कोरबा। जिले की कटघोरा उप जेल में निरूद्ध विचाराधीन बंदी रामकुमार चौहान की मौत की दण्डाधिकारी जांच होगी। जिला दण्डाधिकारी किरण कौशल ने इसके आदेश जारी कर दिये हैं। दण्डाधिकारी जांच के लिए कटघोरा की एसडीएम सूर्यकिरण तिवारी को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है। जांच के उपरांत प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के लिए 30 दिन की समय सीमा निर्धारित की गई है। उल्लेखनीय है कि उप जेल कटघोरा में निरूद्ध विचाराधीन बंदी रामकुमार चौहान की तबियत खराब होने के कारण उसे जेल प्रहरियों द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कटघोरा भेजा गया था। 21 जून को विचाराधीन बंदी की सुबह सवा चार बजे उपचार के दौरान मृत्यु हो गई थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए कलेक्टर ने इसके दण्डाधिकारी जांच के निर्देश जारी किये हैं।

जांच के दौरान विचाराधीन बंदी को पहले से किसी बीमारी से पीड़ित होने, इलाज कराने संबंधी पड़ताल भी की जायेगी। इसके साथ ही विचाराधीन बंदी किस धारा में कब से जेल में निरूद्ध था, हवालात में उसे किसी प्रकार की शारीरिक यातना तो नहीं दी गई, बंदी के इलाज के दौरान ड्यूटी पर उपस्थित प्रहरियों की भी जानकारी जांच के दौरान ली जायेगी। प्रकरण की दण्डाधिकारी जांच के दौरान विचाराधीन बंदी के इलाज के संबंध में की गई कार्यवाही, मृत्यु का कारण, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आदि सभी पहलुओं को शामिल कर सूक्ष्म जांच होगी।

29-06-2020
राशन वितरण में लापरवाही और मनमानी, जनप्रतिनिधियों सहित ग्रामीणों ने की एसडीएम से शिकायत...

कोरबा। ग्राम पंचायत पहंदा में राशन वितरण में घोर लापरवाही और मनमानी की शिकायत सरपंच, जनपद सदस्य सहित ग्रामीणों ने अनुविभागीय अधिकारी से की है। शासकीय उचित मूल्य दुकान का संचालन अभी जागृति महिला स्व सहायता समूह द्वारा किया जा रहा है जो राशन वितरण में मनमानी बरतते हैं। आरोप है कि राशन दुकान में खाद्यान्न सामग्री को निर्धारित मूल्य से ज्यादा कीमत मे बेंचा जाता है एवं राशनकार्ड में बने चार्ट में दर्ज भी नहीं किया जाता है। शिकायत पत्र में उल्लेख है कि जून माह में मिट्टी तेल को उसके शासकीय मूल्य 17रु से ज्यादा कीमत 25रु तक में हितग्राहियों को दिया गया है। वही कोविड-19 के कारण हितग्राहियों को दिये जा रहे हैं। अतिरिक्त राशन को आधे से ज्यादा हितग्राहियों को वितरित ही नहीं किया गया है। वही यह भी आरोप लगाया गया है कि महिला स्व सहायता समूह की संचालक हितग्राहियों से अभद्र व्यवहार करते हैं। ग्रामीणों ने महिला स्व सहायता को हटाकर पंचायत या अन्य किसी महिला स्व सहायता समूह से शासकीय उचित मूल्य की दुकान के संचालन की मांग की है।

26-06-2020
मंदिरों को व्यवस्थापन के बाद तोड़ने की मांग, नगरवासियों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

आरंग। नगरवासियों ने निर्माणाधीन गौरवपथ के जद में आने वाले मंदिरों को नहीं तोड़ने की मांग प्रशासन से की है। इस बाबत लोगों ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व विनायक शर्मा को ज्ञापन भी सौंपा है। ज्ञापन सौंपने वाले लोगों ने बताया कि निर्माणाधीन गौरवपथ में मेन रोड के किनारे स्थित कई पुराने मंदिर जद में आ रहे हैं, जो नगर में लोगों में आस्था का केंद्र भी है। पिछले दिनों इसी निर्माण के चलते नगर देवता हरदेव लाल बाबा के मंदिर को व्यवस्थापन के बाद तोड़ा गया, जिसके लिए लोगों ने प्रशासन को धन्यवाद भी ज्ञापित किया है। लोगों का कहना है कि उक्त निर्माण की जद में कई लोगों के घर औऱ व्यावसायिक प्रतिष्ठान भी आ रहे हैं लेकिन व्यापार के विकास और जनभावनाओं के देखते हुए प्रशासन कोई तोड़फोड़ नहीं कर रहा है। ऐसी स्थिति में बस स्टैंड के सामने स्थित हनुमान मंदिर, हाइस्कूल के पास स्थित हनुमान मंदिर, महामाया पारा के पास स्थित नगर के एकमात्र गणेश मंदिर को नही तोड़ने या फिर व्यवस्थापन के लिए लोगों ने प्रशासन से ज्ञापन के माध्यम से गुहार लगाई है।

 

10-06-2020
जर्जर पानी टंकी को विस्फोट कर ढ़हाया जाएगा, एसडीएम समेत कई अधिकारी रहेंगे मौजूद

रायपुर। भांठागांव की जर्जर पानी टंकी को विस्फोट कर आज ढहाया जाएगा। विस्फोट सुबह 11 से दोपहर 1 बजे के बीच होगा। विस्फोट के दौरान एसडीएम रायपुर समेत नगर पुलिस अधीक्षक मौजूद रहेंगे। विस्फोट करने वाले एक्सपर्ट चार्टेड इंजीनियर बी.एस.ग्रेवाल के मार्गदर्शन में विस्फोट कर टंकी को ढहाया जाएगा। रायपुर दंडाधिकारी ने अनुमति देते हुए सीएसपी और एसडीएम को स्थल पर मौजूद रहने कहा है। स्थल के पास सुबह से ही पुलिस बल तैनात करने के निर्देश दिए गए है।

08-06-2020
प्रधानमंत्री आवास योजना के विवाद पर कांग्रेस-भाजपा आमने-सामने

रामानुजगंज। रामचंद्रपुर विकासखंड के ग्राम पंचायत भंवरमाल के हायर सेकेंडरी स्कूल के बन रहे अहाता निर्माण में फंसे प्रधानमंत्री आवास का विवाद इतना बढ़ गया कि भाजपा  और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता इस मामले में कूद पड़े जहां भाजपा से केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह रविवार की शाम अपने समर्थकों के साथ भंवरमाल पहुंची तो वहीं क्षेत्रीय विधायक बृहस्पत सिंह विकास कार्य का हवाला दे निर्माण कराने के लिए मौके पर डटे रहें। हालांकि दोनों नेताओं का आमना सामना इस दौरान नहीं हो पाया। जितनी देर रेणुका सिंह मौके पर डटी रहीं तब तक मौके पर गहमागहमी बनी रही। परंतु गनीमत यह रही कि किसी प्रकार की वाद विवाद की स्थिति निर्मित नहीं हो पाई। प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम भंवरमाल के हायर सेकेंडरी स्कूल में 500 छात्र-छात्राएं अध्ययन करते हैं। यहां लंबे समय से बाउंड्रीवाल की मांग ग्रामीणों के द्वारा की जा रही थी। इस बीच विधायक बृहस्पत सिंह की पहल पर बाउंड्रीवाल का निर्माण पंचायत द्वारा कराया जा रहा था। रविवार की सुबह जब बाउंड्रीवॉल के लिए कालम खड़ा करने के लिए गड्ढा किया गया तो  बाउंड्रीवॉल के अंदर एक सन् 2017-18 में बना प्रधानमंत्री आवास फंस रहा था,जिसे लेकर भाजपा नेताओं ने विधायक बृहस्पत सिंह पर कई गंभीर आरोप मढ़ दिए एवं इसकी जानकारी केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह को दी,जिसके बाद केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह रविवार की शाम भंवरमाल पहुंचीं,जिसके बाद उन्होंने मौके पर उपस्थित एसडीएम, तहसीलदार को तलब कर जानना चाहा कि बाउंड्रीवाल की स्वीकृति राशि कितनी है। प्रधानमंत्री आवास को जो गिराया जाएगा उसके लिए पहले से उसे कोई नोटिस दिया गया कि नहीं। वही रेणुका सिंह ने कार्य रोकने की भी बात कही, जिसके बाद एसडीएम तहसीलदार,विधायक के पास पहुंचे परंतु विधायक बृहस्पत सिंह ने कहा की छत्तीसगढ़ शासन के आदेश पर यहां पर निर्माण कार्य हो रहा है यदि लिखित में कोई आदेश मिलता है तो ही कार्य रुकेगा।


ग्राम भंवरमाल में अहाता निर्माण स्थल में विधायक बृहस्पत सिंह के पूर्व से बैठे रहने एवं मौके पर केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह के आने की सूचना पर मौके पर एसडीएम तहसीलदार सहित प्रशासनिक अमला एवं पुलिस बल मौके पर तैनात रहा जब तक केंद्रीय मंत्री भंवरमाल में रही तब तक प्रशासन भी सकते में था। दोनों जनप्रतिनिधियों के मौके से जाने के बाद ही प्रशासन ने राहत की सांस ली। केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह के साथ भाजपा व्यापार प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष अरुण केसरी भाजपा जिला महामंत्री ओमप्रकाश सोनी, सांसद प्रतिनिधि अमित गुप्ता मंटू, पूर्व जिला पंचायत सदस्य धीरज सिंह देव, रोशनलाल मनी, भाजपा मंडल अध्यक्ष रामानुजगंज शर्मिला गुप्ता, सुभाष केसरी अशर्फी यादव इरफान अंसारी लड्डू कश्यप, राजेश सिंह। केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह अपने एक समर्थक के घर के बाहर पहुंचने के बाद करीब 2 घंटे तक बैठे रहीं वहीं वहां से 300 मीटर की दूरी पर अहाता निर्माण स्थल के दूसरी ओर विधायक बृहस्पत सिंह भी बैठे रहे। इस संबंध में केंद्रीय मंत्री रेणुका सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना प्रधानमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है। पंचायत ने तय कर प्रधानमंत्री आवास हितग्राही को प्रदान किया था। प्रधानमंत्री आवास का एक ईंट भी निकालने का दुस्साहस कोई न करें। रेणुका सिंह ने आगे कहा कि विधायक भय का वातावरण पैदा कर खुद जेसीबी लेकर प्रधानमंत्री आवास को तोड़ने पहुंचे थे। हम स्कूलों के बाउंड्रीवॉल बनाने की विरोधी नहीं है परंतु जिस प्रकार से विधायक द्वारा अन्याय एवं बदला की भावना से कार्य किया जा रहा है उसके हम विरोधी हैं। भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ जो भेदभाव एवं अन्याय हो रहा है उसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।

 

05-06-2020
बिना परमिशन के क्वारेंटाइन सेंटर का निरीक्षण करना भाजपा नेताओं को पड़ा भारी, 14 दिन के लिए होम क्वारेंटाइन

सराईपाली। सराईपाली विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कलेण्डा के क्वारेंटाइन सेंटर का निरीक्षण करना भाजपा नेताओं को भारी पड़ गया। प्रशासन से बिना अनुमति लिए क्वरेंटाइन सेंटर पहुंचकर लोगों का हालचाल जान रहे थे। इसकी जानकारी सराईपाली एसडीएम को लगते ही तत्काल वे क्वारेंटाइन सेंटर पहुंचे और कलेक्टर कार्तिकेया गोयल के आदेश पर सभी नेताओं के रैपिड टेस्ट किट से जांच करवाया गया। सभी की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद सभी को होम क्वारेंटाइन में भेज दिया गया है। इसमें भाजपा जिलाध्यक्ष रूपकुमारी चौधरी सहित पूर्व विधायक विमल चोपड़ा, पूर्व विधाय​क त्रिलोचन पटेल, पूर्व विधाय​क रामलाल चौहान, मंडल अध्यक्ष धनेश नायक, कामता पटेल, विपिन उपोवेजा सहित भाजपा नेता मौजूद थे। बता दें कि विगत दिनों कलेण्डा क्वारेंटाइन सेंटर में एक महिला की मौत हुई थी। इसके बाद आज भाजपा के आला नेता क्वारेंटाइन सेंटर पहुंचकर लोगों का हालचाल जानने पहुंचे थे।  

कलेक्टर ने कहा कार्यवाही होंगी
कलेक्टर से इस बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि क्वारंटीन के नियम बिल्कुल स्पष्ट हैं और जो लोग इस केन्द्र के भीतर गए हैं उन्हें अनिवार्य रूप से चौदह दिन क्वारंटीन रहना होगा, जो कि उनकी खुद की सेहत के लिए और बाकी तमाम लोगों की सेहत के लिए जरूरी है। उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति हो, क्वारेंटीन की शर्तों से किसी को छूट नहीं मिल सकती। उन्होंने माना कि केन्द्र के बाहर ताला लगाकर रखा गया है और सबकी कोरोना जांच के लिए कार्रवाई चल रही है।

04-06-2020
699 क्वारेंटाइन सेंटर में रखे गए 4080 श्रमिक

रायपुर/जशपुरनगर। जिले में विभिन्न विकासखंडों में लगभग 699 क्वारेंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। क्वारेंटाइन सेंटर में लगभग 4080 श्रमिकों को रखा गया है। इसमें पुरूषों की संख्या 3436 एवं महिलाओं की संख्य 644 शामिल है। इनमें जशपुर विकासखंड के 58 क्वारेंटाइन सेंटर में 448 लोगों को रखा गया हैं। इसी प्रकार मनोरा के 57 क्वारेंटाइन सेंटर में 272 लोगों को, दुलदुला विकासखंड के 90 क्वारेंटाइन सेंटर में 464 लोगों को, कुनकुरी विकासखंड के 153 क्वारेंटाइन सेंटर में 479 लोगों को, फरसाबहार विकासखंड के 55 क्वारेंटाइन सेंटर में 1103 लोगों को कासंबेल विकासखंड के 55 क्वारेंटाइन सेंटर में 445 लोगों को, पत्थलगांव विकासखंड के 128 क्वारेंटाइन सेंटर में 436 लोगों को एवं बगीचा विकासखंड के 103 क्वारेंटाइन सेंटर में 433 लोगों को रखा गया है।कलेक्टर महादेव कावरे के निर्देश पर एसडीएम, जनपद सीईओ और नगरीय निकाय के अधिकारियों द्वारा क्वारेंटाइन सेंटर में पानी,बिजली,शौचालय,भोजन के साथ बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। साथ ही उनका स्वास्थ्य परीक्षण एवं निंग कराई जा रही है। इसके बाद 14 दिनों के क्वारेंटाइन अवधि में उन्हें रखा जा रहा है। इस दौरान मेडिकल टीम के द्वारा उनकी सतत् निगरानी की जा रही है।

03-06-2020
ट्रांजिट हॉस्टल खाली कराना प्रशासन को पड़ा महंगा, मुख्य मार्ग पर धरने पर बैठे सैकड़ों लोग

रायपुर/बिलासपुर। निगम प्रशासन द्वारा सरकंडा क्षेत्र के बंधवा पारा इमलीभाठा में रहने वाले लोगों को वहां से बेदखल करने की कार्रवाई के खिलाफ आज सबुह साढ़े 11 बजे बजे सैकड़ों पुरुष और महिलाएं कलेक्ट्रेट के सामने मुख्य मार्ग जाम कर बीच सड़क पर धरने में बैठ गए। निगम प्रशासन के द्वारा इमली भांठा सरकंडा के ट्रांजिट हॉस्टल में बेजा कब्जा कर रहने वाले सैकड़ों परिवारों को आज सुबह एकाएक वहां से बेदखल कर दिया गया। करीब 200 घरों में रहने वाले लोगों पर हुई कार्रवाई के खिलाफ बड़ी संख्या में वहां रहने वाले पुरुष और महिलाएं पहले कलेक्ट्रेट पहुंचे। फिर कमिश्नर दफ्तर पहुंच गए। जब कोई अधिकारी नहीं मिला तब वे कलेक्ट्रेट के सामने मुख्य मार्ग को जाम कर सड़क पर ही धरने पर बैठ गए। एकाएक हुए सड़क जाम और धरने से प्रशासन में हडकंप मच गया है। पुलिस प्रशासन और जिला प्रशासन के एसडीएम के द्वारा दी गई समझाइश के बाद चक्का जाम खत्म हुआ और गाड़ियों की आवाजाही शुरू हो गई।

02-06-2020
गुलाब कमरो ने किया कांटेक्टलेस सैनिटाइजर डिस्पेंसर मशीन का शुभारंभ

कोरिया। विधायक गुलाब कमरो ने मंगलवार को कांटेक्ट लेंस सैनिटाइजर डिस्पेंसर मशीन का शुभारंभ किया। इसमें मनेन्द्रगढ़ में एसडीएम,तहसील,जनपद,हॉस्पिटल व थाने में लगी मशीन का विधायक ने शुभारंभ किया। इस अवसर पर एसडीएम आरपी चौहान, तहसीलदार सुधीर खलखो,एसडीओपी कर्ण कुमार उइके,थाना प्रभारी सचिन सिंह, नपाउपाध्यक्ष कृष्णमुरारी तिवारी, अंकुर प्रताप सिंह, अमर सिंह,सतेंद्र सिन्हा,सोमेंद्र मण्डल,बीपीएम सुलेमान खान,रविन्द्र सोनी,रंजीत सिंह उपस्थित थे। विधायक निधि से 22 विकासखंडों के लिए उक्त मशीन की स्वीकृति प्रदान की गई है।

 

29-05-2020
किसान बाजार के सब्जी विक्रेता अशोक पटेल की मृत्यु, दिल का दौरा पड़ने की आशंका 

धमतरी। कुरूद विकासखंड के ग्राम उड़ेना निवासी सब्जी विक्रेता अशोक पटेल की मृत्यु आज सुबह स्थानीय एकलव्य खेल परिसर में सब्जी बेचते समय हो गई। इस संबंध में एसडीएम धमतरी ने बताया कि किसान बाजार के पंजीकृत सब्जी विक्रेता अशोक पटेल आज सुबह सात स्थानीय एकलव्य खेल परिसर में अस्थायी रूप से लगाए जा रहे किसान बाजार में पसरे पर बैठे हुए अचानक आगे की ओर झुके और एक बार हिचकी आई। वहां मौजूद अन्य सब्जी विक्रेताओं व प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि हिचकी आने के बाद उनकी मृत्यु मौके पर ही हो गई थी, जिसकी पुष्टि जिला अस्पताल में चिकित्सकों ने की।

एसडीएम ने बताया कि मृतक के स्वास्थ्य संबंधी पूछताछ के लिए उनके गृहग्राम उडेना में जाकर परिजनों से चर्चा की गई तो यह ज्ञात हुआ कि उनकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है। उनके परिजन लेखराम पटेल, हितेश पटेल तथा भूपेंद्र पटेल ने बताया कि मृतक अशोक पटेल न तो किसी रोग से ग्रस्त थे, ना ही किसी प्रकार की दवाई का सेवन करते थे। साथ ही किसी प्रकार का नशापान नहीं किए जाने की बात परिजनों ने अपने बयान में कही। सिविल सर्जन सह अस्पताल अधीक्षक ने बताया की सब्जी विक्रेता अशोक पटेल की मृत्यु प्रथम दृष्ट्या हृदयाघात से होना प्रतीत हो रहा है। विस्तृत परीक्षण उपरांत ही वास्तविक कारणों का पता चल पाएगा।

18-05-2020
सीपीआई ने कलेक्टर के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

बीजापुर। सीपीआई के जिला सचिव कमलेश झड़ी ने ज्ञापन के माध्यम से जिला प्रशासन से ये मांग की है कि विगत दो दिन पहले ग्राम पुसगुड़ी के ग्रामीण पीडीएस के तहत मिलने वाले राशन लेने मोदकपाल राशन की दुकान गए हुए थे। इसकी दूरी करीब 7 किमी है। राशन को लेकर जाते वक्त राशन से भरी ट्रेक्टर पलट गई, जिसमें सवार आंनदराव यालम की मौके पर ही मौत हो गई, अन्य तेरह ग्रामीण गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। इस मामले को लेकर सीपीआई जिला प्रशासन से ये मांग करती है कि मृतक परिवार एवं घायलों को प्रशासन की ओर से उचित मुआवजा कि राशि दी जानी चाहिए जिससे उनकी आर्थिक मदद हो सके, साथ ही हम ये भी माँग करते हैं कि राशन की दुकान गांव से इतने दूरी पर न हो कि ग्रामीणों को आने जाने और राशन निर्यात के परेशनियों का सामना न करना पड़े। भविष्य में ऐसे हादसों का सिकार ग्रामीण न हो। वहीं एसडीएम हेमेंद्र भुआर्य ने आश्वासन देते हुए कहा है कि इस मामले को गम्भीरता से लेते हुए क्लेक्टर से चर्चा कर सड़क बनाना, राशन को गांव तक पहुंचाने जैसे समस्या का जल्द ही निवारण किया जाएगा।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804