GLIBS
29-07-2021
राजिम पुल तक 5 किलोमीटर सड़क होगी फोरलेन, अनुपूरक बजट में मिली अनुमति

राजिम। विधायक धनेंद्र साहू ने अभनपुर विधानसभा क्षेत्र के लोक निर्माण विभाग के अंतर्गत विभिन्न ग्रामों की सड़कों का नवीनीकरण, मजबूतीकरण एवं चौड़ीकरण कार्यों को अनुपूरक बजट में शामिल करने के लिए प्रस्तावित किया था। उनमें से सात सड़कों को शामिल किया गया है। इसके तहत निमोरा थनौद नवागांव मार्ग लंबाई 14.70 किलोमीटर का डामर नवीनीकरण के लिए राशि 1200.00 लाख, दुलना पटेवा कुर्रा मार्ग का मजबूतीकरण एवं चौड़ीकरण लंबाई लंबाई 3.80 किलोमीटर के लिए राशि 900 लाख, अभनपुर पाटन मार्ग का नवीनीकरण लंबाई 21 किलोमीटर के लिए राशि 1680 शामिल है। खास तौर पर अभनपुर राजिम मार्ग में ग्राम कुर्रा से लेकर महानदी पुल तक सड़क का फोरलेन निर्माण लंबाई 4.50 किलोमीटर के लिए राशि 2362.50 लाख शामिल है। उल्लेखनीय है कि जिन सड़कों के निर्माण मजबूतीकरण के लिए स्वीकृति मिली है उन सड़कों के लिए लंबे समय से नागरिकों सहित ग्रामीणों की ओर से समय-समय पर मांग की जाती रही है। नगर के मुख्य मार्ग पर धार्मिक नगरी होने के कारण ट्रैफिक का काफी दबाव रहता है। इससे आए दिन जाम की स्थिति बनी रहती है वहीं त्रिवेणी संगम पर अस्थि विसर्जन के साथ ही राजीव लोचन मंदिर दर्शन के लिए देश-विदेश से दर्शनार्थी पहुंचते रहते हैं। राजिम माघी पुन्नी मेला के समय भी ट्रैफिक का काफी दबाव रहता है अब फोरलेन बन जाने से लोगों को काफी राहत मिलेगी।

 

07-07-2021
महापौर ने 45 लाख 26 हजार के घाटे का पेश किया बजट, भाजपा ने किया हंगामा

राजनांदगांव। महापौर हेमा देशमुख ने बुधवार को सामान्य सभा में अपने कार्यकाल का पहला बजट पेश किया। देशमुख ने 45 लाख 26 हजार रूपये के घाटे का बजट पेश किया। पिछले वादे को पूरा नही करने के मामले को लेकर भाजपा पार्षदों ने जमकर हंगामा किया है। नगर निगम का बजट  गहमागहमी के बीच पेश किया गया।  महापौर  हेमा देशमुख के घाटे का बजट पेश करने के दौरान विपक्ष में बैठी भाजपा ने जमकर हंगामा किया। भाजपा पार्षदों ने नारेबाजी की और निगम अध्यक्ष का घेराव किया। भाजपा का आरोप था कि इस बजट में आम नागरिकों को किसी भी प्रकार की राहत नहीं दी जा रही है,जिससे उनके ऊपर कर्ज का बोझ फिर से मंडराता नजर आ रहा है। कांग्रेस ने घोषणा पत्र में लोक लुभावने वादे किए गए थे जिसे भी बजट में नहीं उतारा जा सका है।

 

11-04-2021
Breaking : प्रदेश का बजट न्याय की अवधारणा को आगे बढ़ाने वाला : भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लोकवाणी की 17वीं कड़ी में कहा कि प्रदेश का बजट न्याय की अवधारणा को आगे बढ़ाने वाला है। इसमें कोरोना काल के सबक ग्लोबल इंसानियत तथा लोकल संसाधनों से स्थानीय लोगों के सशक्तीकरण पर जोर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने ‘नया बजट-नए लक्ष्य’ विषय पर श्रोताओं के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में इस वर्ष सभी वर्ग के लोगों के हित को ध्यान में रखकर बजट पेश किया गया है। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना का उद्देश्य प्रदेश में विभिन्न फसल लेने वाले किसान भाइयों को किसी न किसी तरीके से सशक्त बनाना है। पहले साल हमने 2500 रूपए प्रति क्विंटल की दर से धान का भुगतान किया। दूसरे साल समर्थन मूल्य पर खरीदी के नियम के अनुसार समर्थन मूल्य का भुगतान किया और राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से धान, मक्का, गन्ना आदि फसल लेने वाले लगभग 19 लाख किसानों को 5 हजार 628 करोड़ का भुगतान किया गया। इस साल हमने 20 लाख 53 हजार किसानों से 92 लाख मीट्रिक टन धान खरीदी की है, जो प्रदेश के इतिहास में धान खरीदी का सबसे बड़ा कीर्तिमान है। इस वर्ष भी हमने राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत किसानों को नगद सहायता देने के लिए 5 हजार 703 करोड़ रुपए का बजट प्रावधान रखा है। 

इसके अलावा चिराग योजना के तहत 7 आदिवासी बहुल जिलों और मुंगेली जिले के 14 विकासखण्डों में पोषण सुरक्षा व किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए 150 करोड़ रुपए का बजट प्रावधान रखा गया है। किसानों को बिना ब्याज ऋण देने के लिए इतिहास में सबसे बड़ा लक्ष्य 5 हजार 900 करोड़ रूपए ऋण वितरण का रखा है, जिसके लिए बजट प्रावधान किया गया है। किसानों को रियायती तथा निःशुल्क बिजली देने के लिए 2 हजार 500 करोड़ रुपए का प्रावधान रखा गया है। वहीं सिंचाई पम्पों के ऊर्जीकरण पर लगभग 1000 करोड़ रुपए खर्च होंगे। सोलर पम्पों के लिए 530 करोड़ रुपए का प्रावधान है तो लगभग 35 हजार लंबित सिंचाई पम्प कनेक्शन देने का काम भी पूर्ण किया जाएगा, जिसमें करीब 350 करोड़ रुपए खर्च होंगे। उद्यानिकी फसलों के विकास के लिए अनुदान सहायता पर 495 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। किसानों की जेब में जो पैसा डाला जा रहा है, वह उनकी शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वावलम्बन और खुशहाली में लगे। इस तरह किसानों की आय बढ़ाने, खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए हमारी सरकार कृत-संकल्पित है।

20-03-2021
सामान्य सभा की बजट बैठक में जनहित के मुद्दों को पुरजोर तरीके से उठाएगी भाजपा :अजय वर्मा

दुर्ग। नगर निगम 27 मार्च को होने वाली सामान्य सभा की बजट बैठक में प्रश्नकाल के जरिए कांग्रेस शासित सत्तापक्ष को घेरने प्रश्नावली तैयार कर रही है। शनिवार को भाजपा पार्षदों कि संयुक्त बैठक नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा की अध्यक्षता में हुई। इसमें पूर्व सभापति व जिला भाजपा मंत्री दिनेश देवांगन प्रमुख रूप से मौजूद थे। इस अवसर पर भाजपा पार्षदों ने बैठक के 7 दिन पूर्व सदन मे प्रश्न लगाने निगम सचिव द्वारा दिए 21 मार्च के अंतिम तिथि पर एक साथ सभी पार्षदों ने लिखित में सवाल दागने जनहित के विभिन्न ज्वलंत मुद्दों को लेकर प्रश्नावली तैयार किया। इसे सोमवार को सचिवालय में जमा करने का निर्णय लिया। प्रश्नावली तैयार करने आहूत बैठक में पार्षद गायत्री साहू,देवनारायण चंद्राकर,कांशी राम कोसरे,चंद्रशेखर चंद्राकर,नरेंद्र बंजारे,नरेश तेजवानी,मनीष साहू,ओमप्रकाश राकेश सेन,अजित वैद्य,चमेली साहू,लीना दिनेश देवांगन,शशी द्वारिका साहू,हेमा जगदीश शर्मा,कुमारी साहू,पुष्पा गुलाब वर्मा,राकेश साहू, प्रमुख रूप से मौजूद थे।

 

18-03-2021
बजट के लिए 22 मार्च तक सुझाव देकर नगर विकास में सहभागी बनें : हेमा देशमुख

राजनांदगांव। महापौर हेमा देशमुख ने अपील की 22 मार्च तक आगामी बजट के लिए आम नागरिक अपने सुझाव दे सकता है। वर्ष 2021-22 के बजट के लिए नगर पालिक निगम राजनांदगांव द्वारा प्रक्रिया की जा रही है। इसमें गत वर्ष की तरह इस वर्ष भी नगर विकास के लिये नागरिकों के सुझाव आमंत्रित किया जाना हैं। बजट के संबंध में हेमा देशमुख ने बताया कि नगर निगम राजनांदगांव के इस वित्तीय वर्ष के बजट में नागरिकों  के सुझावों का समावेश किया जाना है। उन्होंने कहा कि गढबो नवा छत्तीसगढ़ के तर्ज पर गढबो नवा राजनांदगांव की परिकल्पना को साकार करना है। यह परिकल्पना नागरिकों के सुझाव के बिना अधूरी होगी। इसे पूरा करने गत वर्ष की तरह इस वर्ष भी नागरिकों का सुझाव बजट के लिए आमंत्रित किए गए हैं। चूंकि इस वर्ष कोरोना काल चल रहा है और वर्तमान में कोरोना पुनः बढते चरण में है इसलिये इस वर्ष सुझाव के लिए नागरिकों की बैठक आहूत करना संभव नहीं है। बजट सुझाव के लिए मेयर हेल्प लाइन नं. 07744 222214, हमर मयारू राजनांदगांव फेस बुक पेज एवं निगम सुझाव पेटी के माध्यम से 22 मार्च तक सुझाव आमंत्रित किए गए है। उन्होंने शहर के नागरिकों, जनप्रतिनिधियों, सामाजसेवी संस्थाओं, उद्योगपतियों से अपील की है कि निर्धारित तिथि तक उपरोक्त माध्यम अनुसार सुझाव देकर नगर विकास में सहभागी बने।

18-03-2021
संशोधनों के साथ एमआईसी ने पारित किया बजट

दुर्ग। महापौर एवं मेयर इन काउंसिल धीरज बाकलीवाल की अध्यक्षता में गुरुवार को एमआईसी की बैठक साढ़े पांच घंटा चली। बैठक में एमआईसी प्रभारियों के विभागवार मदों और विकास, निर्माण कार्य के प्रस्तावों पर विस्तार से चर्चा की। बैठक में आयुक्त हरेश मंडावी, सभापति राजेश यादव, एमआईसी प्रभारी अब्दुल गनी, संजय कोहले, सत्यवती वर्मा, भोला महोबिया, मनदीप सिंह भाटिया, जयश्री जोशी, जमुना साहू, शंकर सिंह ठाकुर, अनुप चंदानियाॅ, कार्यपालन अभियंता सुशील कुमार बाबर, मोहनपुरी गोस्वामी एवं अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे । महापौर बाकलीवाल ने 27 मार्च को निगम की बजट बैठक आहूत किये जाने की जानकारी बैठक में दी।  

राजस्व/पूंजीगत आय-व्यय पर हुई चर्चा
बजट एमआईसी की बैठक में महापौर धीरज बाकलीवाल के निर्देशानुसार नगर पालिक निगम दुर्ग के राजस्व एवं पूंजीगत आय-व्यय पर मदवार विस्तार से चर्चा की गई। कुछ मदों में संशोधन करने के निर्देश दिये गये । बैठक में निगम स्वामित्व की दुकानों के आवंटन पर विचार-विमर्श कर उसका दर निर्धारित कर विक्रय करने प्रस्ताव संशोधित किया गया । बैठक में भवन अनुज्ञा शुल्क पर भी नियम और शर्तो के साथ शुल्क लिये जाने का प्रस्ताव पर संशोधन किया गया ।

अनुदान, योगदान, सब्सीडी पर हुई चर्चा
महापौर बाकलीवाल के निर्देशानुसार नगर पालिक निगम दुर्ग को विभिन्न विकास कार्यो, आयोजनों, जनहित कार्यो, मूलभूत आवश्यकताओं तथा योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए राज्य शासन एवं केन्द्र शासन से मिलने वाली अनुदान, योगदान और सब्सीडी राशि पर भी विस्तार से एमआईसी सदस्यों के साथ चर्चा किया गया । बैठक में वित्त एवं अंकेक्षण विभाग, सामान्य प्रशासन विभाग, लोक कर्म विभाग, जलकार्य विभाग, राजस्व विभाग, विद्युत यांत्रिकी विभाग, शिक्षा एवं खेलकूद युवा विभाग, पर्यावरण एवं उद्यानिकी विभाग, गरीबी उपशमन विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, संस्कृति एवं पर्यटन विभाग, स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विभाग द्वारा शहर में कराये जाने वाले जनहित के कार्यो के लिए मिलने वाली अनुदान, योगदान और सब्सीडी राशि पर चर्चा कर विभागवार कुछ मदों में संशोधन कर प्रस्तुत बजट को सामान्य सभा में रखे जाने पारित किया गया। बैठक में प्रभारी लेखाधिकारी राजकमल बोरकर, सचिव शरद रत्नाकर, प्रभारी कार्यपालन अभियंता राजेश पाण्डेय, भवन अधिकारी प्रकाशचंद थवानी, स्वास्थ्य अधिकारी दुर्गेश गुप्ता, प्र.सहा. अभियंता एआर राहंगडाले, राजस्व अधिकारी आरके बंजारे एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

05-03-2021
Video: महापौर ने किया नगर निगम का पहला बजट, विपक्ष ने किया हंगामा

धमतरी। 138 साल बाद निगम की कुर्सी पर कांग्रेस की सत्ता बैठी है,साथ ही निगम की सत्ता में आने के बाद निगम के महापौर विजय देवांगन द्वारा उनके कार्यकाल का आज पहला बजट पेश किया गया है। इस बीच विपक्ष में बैठे भाजपा नेता प्रतिपक्ष और पार्षदों द्वारा जमकर हंगामा किया। बजट सत्र के दौरान 46 प्रश्नों की लिस्ट बनाई गई थी,लेकिन पक्ष और विपक्ष के हंगामे के चलते 9 प्रश्न ही हो पाए। पक्ष और विपक्ष द्वारा जमकर हंगामा करते हुए एक दूसरे के ऊपर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए वहीं विपक्षी 17 पार्षदों द्वारा बजट का विरोध किया गया,वहीं सत्तापक्ष के 22 पार्षदों द्वारा हामी भरी गई है। हंगामे के बीच आज निगम का बजट पेश किया गया है। बजट में बरसात में नालियों और कुछ वार्डों में पानी भरने की समस्या, तालाब सौन्दर्यीकरण,हाईटेक बस स्टैंड, बाला चौक में स्थित शॉपिंग काम्प्लेक्स समेत कई सवाल पूछे गए। शुक्रवार को नगर निगम के सभा कक्ष में प्रश्नकाल आयोजित किया गया। इसके पश्चात महापौर विजय देवांगन द्वारा बजट प्रस्तुत करते हुए उद्बोधन किया। महापौर ने 30 लाख 54 हजार लाभ का बजट प्रस्तुत किया। 2021-22 के लिए कुल आय 421 करोड़ 83 लाख 34 हजार रुपये अनुमानित है। वहीं कुल व्यय 421 करोड़ 52 लाख 80 हजार रुपये अनुमानित है।

भाजपा के आमापारा पार्षद विजय मोटवानी ने प्रश्नकाल के दौरान पूछा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में आज तक कितनी राशि का भुगतान हुआ है और कितने हितग्राहियों को भुगतान लंबित है। इस पर एमआईसी मेम्बर राजेश ठाकुर ने बताया कि वर्तमान में किसी भी हितग्राहियों का भुगतान लंबित नहीं है और 40 करोड़ 90 लाख से अधिक का पेमेंट हो चुका है। इस पर पलटवार करते हुए पार्षद मोटवानी ने कहा कि राज्य शासन से राशि मिली ही नहीं है तो कैसे भुगतान किया गया। महापौर विजय देवांगन द्वारा बताया गया कि बजट में नगर विकास सहित आम नागरिकों की सुविधाओं का विशेष ध्यान रखा गया है। गड़बो नवा धमतरी के परिकल्पना को सार्थक बनाते हुए इस बजट में अनेक प्रकार के विकास कार्य को शामिल किया गया है। इसमें मुख्य रुप से महिमासागर पारा वार्ड स्थित ट्रेचिंग ग्राउण्ड लिगेसी वेस्ट का निष्पादन कार्य 131.68 लाख का प्रावधान किया गया है। सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट स्थापना कार्य 2506.68 लाख रूपये का प्रावधान किया गया है। जल आवर्धन योजना 3400 लाख रुपये का प्रावधान किया गया है। क्षेत्रातंर्गत पौनी पसारी बाजार निर्माण कार्य 1 करोड़, गौठान निर्माण कार्य 50 लाख, सीसी रोड निर्माण कार्य 10 करोड, नाली निर्माण कार्य 10 करोड़, बी.टी. रोड निर्माण कार्य 2 करोड़, विभिन्न तालाबों का विकास एवं सौंदर्याकरण कार्य 6 करोड, सोरम में गोकुल नगर विकास कार्य 1 करोड़ 14 लाख, हाईटेक बस स्टैण्ड निर्माण कार्य 6 करोड़ 35 लाख, नागरिक सहकारी बैंक के पास पार्किंग निर्माण का 10 करोड़ 4 लाख, ट्रांसपोर्ट नगर निर्माण कार्य 15 करोड़ 34 लाख, स्विमिंग पुल निर्माण कार्य 3 करोड़ 92 लाख 48 हजार, सामुदायिक / सांस्कृतिक भवन निर्माण कार्य 4 करोड, विद्युतीकरण योजना 5 करोड़ व् आदि कार्यो का प्रावधान किया गया है।

 

05-03-2021
सराफा एसोसिएशन ने किया बजट का स्वागत, कहा-एक ही छत के नीचे सारी सुविधाएं मिलेंगी

रायपुर। सराफा एसोसिएशन रायपुर के अध्यक्ष हरख मालू ने छत्तीसगढ़ सरकार के नए वित्तीय वर्ष 2021-22 के बजट का स्वागत किया। एसोसिएशन ने इसके लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की प्रशंसा की। उन्होंने बजट में राजधानी रायपुर के पंडरी में जेम्स एंड ज्वेलरी पार्क की स्थापना के लिए 350 करोड़ रूपए का प्रावधान किए जाने की घोषणा का स्वागत किया है। मालू ने इस बात पर भी खुशी जताई है कि इस पार्क का निर्माण सार्वजनिक-निजी सहभागिता अर्थात पीपीपी मॉडल पर किया जाएगा। हरख मालू ने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल ने अपने प्रथम कार्यकाल के तीसरे बजट में शिक्षा, कृषि और अधोसंरचना के साथ-साथ सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवाओं पर भी विशेष रूप से ध्यान दिया है। इसके साथ ही उनका यह बजट सराफा कारोबारियों के लिए भी खुशियां लेकर आया है। उन्होंने कहा कि पंडरी में जेम्स एंड ज्वेलरी पार्क निर्माण की घोषणा से सराफा व्यापारियों को कारोबार के लिए एक ही छत के नीचे सारी सुविधाएं मिलेंगी और उन्हें कहीं भी आना-जाना नहीं पड़ेगा। इसके साथ ही ग्राहकों को भी एक ही छत के नीचे हर प्रकार के रत्न और आभूषण उचित मूल्य पर प्राप्त हो सकेंगे। मालू ने कहा कि यह मुख्यमंत्री की एक ऐतिहासिक घोषणा है।

 

 

04-03-2021
ये हमारे विभाग का तीसरा बजट है,जो सुझाव मिले हैं उनसे आगामी समय में काम करने में सहूलियत होगी: ताम्रध्वज साहू

रायपुर। विधानसभा के हंगामेदार माहौल के बाद सभी मंत्रियों के बयान सामने आ रहे हैं। इसी कड़ी में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने भी अपना बयान दिया है। मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि जो सुझाव मिले हैं उनसे आगामी समय में काम करने में सहूलियत होगी। सभी विभागों में योजना बनाकर काम किया और उपलब्धि हासिल की। ये हमारे विभाग का तीसरा बजट है। इस बार वित्तीय वर्ष की बजट में 4972 करोड़ 39 लाख का प्रावधान गृह विभाग के लिए किया गया है। साइबर क्राइम के लिए 1 करोड़ 32 लाख प्रस्तावित है। थानों के लिए 21 लाख नक्सल क्षेत्र के लिए है। हमारी कोशिश है कि बस्तर के युवाओं को बंदूक की जगह हल पकड़ाए। बस्तर अंचल में विकास कार्य किए जा रहे हैं।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804