GLIBS
19-08-2021
महारानी अस्पताल में मरीजों का होगा बेहतर इलाज, विशेषज्ञ चिकित्सकों सहित सहयोगी स्टाफ के पदों पर मिली स्वीकृति

जगदलपुर। जिला अस्पताल, जो पहले 100 बिस्तर का था उसे उन्नयन कर 200 बिस्तर करने के लिए राज्य सरकार ने आदेश जारी कर दिया है। जिला अस्पताल में विशेषज्ञ चिकित्सकों सहित सहयोगी चिकित्सा स्टाफ के 95 पदों पर नियुक्ति के लिए प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान कर दी गई है। जारी आदेश में विशेषज्ञ चिकित्सकों में मेडिकल, सर्जरी,स्त्री रोग विशेषज्ञ,दंत चिकित्सक,मनोरोग विशेषज्ञ,नाक गला विशेषज्ञ,निश्चेतना विशेषज्ञ,अस्थि रोग विशेषज्ञ, पैथोलॉजी, रेडियोलॉजिस्ट सहित सहयोगी स्टाफ नर्स, आया, वार्ड वाय के 95 पदों की स्वीकृति प्रदान की गई है। संसदीय सचिव रेखचंद जैन एवं राज्य अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण के अध्यक्ष मिथिलेश स्वर्णकार के प्रयासों से हुआ है।


विदित हो की पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने जिला अस्पताल (महारानी अस्पताल) को डिमरापाल मेडिकल कॉलेज अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया था। इससे शहर में चिकित्सा सुविधा ना होने से काफी रोष था।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पहले प्रवास पर संसदीय सचिव रेखचंद जैन एवं छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय उर्जा विकास अभिकरण के अध्यक्ष मिथिलेश स्वर्णकार ने महारानी अस्पताल को पुनः आरंभ करने का निवेदन किया था। इस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महारानी अस्पताल को पुनः सर्वसुविधायुक्त बनाने के निर्देश दिए थे। इसे अब उन्नयन कर 200 बिस्तर का कर दिया गया है।


विधायक जगदलपुर एवं संसदीय सचिव रेखचंद जैन एवं छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय उर्जा विकास अभिकरण के अध्यक्ष मिथिलेश स्वर्णकार ,मछुआ बोर्ड चेयरमैन एमआर निषाद, महापौर सफीरा साहू, निगम अध्यक्ष कविता साहू, शहर जिला अध्यक्ष राजीव शर्मा, ग्रामीण जिला अध्यक्ष बलराम मौर्य सहित कांग्रेस नेताओं ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का आभार व्यक्त किया है। सभी ने कहा कि बस्तर अंचल को यह महत्वपूर्ण उपलब्धि मिलने से स्वास्थय सुविधाओं का विस्तार होने से यहां के लोगों को गुणवत्ता युक्त चिकित्सा सुविधा उपलब्ध हो सकेगी।

 

02-07-2021
टेकारी स्कूल से सेवानिवृत्त हुए प्राचार्य को स्टाफ और ग्रामीणों ने दी विदाई

रायपुर। विकास खंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय आरंग के अधीन आने वाले उच्चतर माध्यमिक शाला टेकारी 'कुंडा' में पदस्थ प्राचार्य जे कूजूर सेवानिवृत्त हो ‌‌‌गए। उन्होंने लगभग 4 वषों तक प्राचार्य के रूप में विद्यालय को‌ अपनी सेवाएं दी। सेवानिवृत्त पर उन्हें विद्यालयीन परिवार ‌‌‌‌सहित ग्रामीणों ने भावभीनी विदाई दी। पूर्व प्राचार्य कूजूर ने कहा कि अपने कार्यकाल के दौरान स्टाफ व‌ ग्रामवासियों से मिले सहयोग व‌ स्नेह के लिए आभार व्यक्त करता हूं। अपने कार्यकाल के‌ दौरान अनुशासन बनाएं रखने के‌ प्रयास में अनजाने में हुए किसी भूल को दिल में न रखने का आग्रह स्टाफ सहित ग्रामवासियों से किया। बता दें कि सन ‌‌2017 के 22 अगस्त को कूजूर ने टेकारी के शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला में प्राचार्य पद पर कार्यभार ग्रहण किया था। विदाई समारोह में उच्चतर, उच्च , पूर्व माध्यमिक व प्राथमिक विद्यालय के स्टाफ सहित शाला विकास समिति के अध्यक्ष हुलास राम वर्मा, ग्रामीण सभा अध्यक्ष रामानंद पटेल व कोषाध्यक्ष अशोक नायक, पूर्व सरपंच गणेशराम लहरे, छेदन वर्मा व किसान संघर्ष समिति के संयोजक भूपेन्द्र शर्मा शामिल ‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌हुए। इस दौरान खौली केन्द्र के डीडीओडी एल साहू विशेष रूप से ‌‌‌‌‌उपस्थित‌ रहे। कार्यक्रम का संचालन व्याख्याता शोहित वर्मा ने किया।

23-05-2021
राजभवन में स्टाफ और उनके परिजनों को लगाया गया टीका,राज्यपाल ने दिया प्रमाण पत्र

रायपुर। राजभवन के दरबार हॉल में रविवार को अधिकारी एवं कर्मचारी और उनके परिजनों के लिए (18 से 44 आयु वर्ग) कोविड वैक्सीनेशन शिविर लगाया गया। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने शिविर अवलोकन किया। उन्होंने सभी के अच्छे  स्वास्थ्य की कामना की। उन्ब्होंने कहा कि  पूरा देश कोरोना संक्रमण से जूझ रहा है। इस समय कोरोना से बचने के लिए जागरुकता की आवश्यकता है। सभी कोरोना से बचाव के लिए शासन की ओर से दिए गए निर्देशों का पालन करें। कोरोना का टीका अवश्य लगाएं। वैक्सीन लगाने के बाद कोरोना के संक्रमण से बचाव होता है। यदि किसी को संक्रमण हो भी गया तो वे जल्द ही ठीक हो जाते हैं। वैक्सीन लगाने के पूर्व चिकित्सकों के दिशा-निर्देशों का पालन करें और वैक्सीन लगाने के बाद भी मास्क अवश्य पहने, हाथ धोते रहें और सामाजिक दूरी का पालन करें। राज्यपाल ने टीका लगाने वाले नागरिकों को वैक्सीनेशन का प्रमाण पत्र का भी वितरण किया। शिविर में 178 लोगों का वैक्सीनेशन किया गया। राजभवन के चिकित्सा अधिकारी डॉ. रूपल पुरोहित, चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुनीति मंगरूलकर और डॉ. शिशिर साहू उपस्थित थे।

 

04-05-2021
कोरोना संक्रमित महिला ने दिया स्वस्थ बच्ची को जन्म,सफल प्रसव से मां और नवजात को मिली नई जिंदगी  

रायपुर। राज्य में स्वास्थ्य अमले के चिकित्सक व समस्त स्टाफ अपनी पूरी क्षमता से कोरोना के मरीजों का दिन रात  उपचार कर रहे है। इसके सुखद परिणाम  मिले है। गरियाबंद जिले में कोरोना के लगभग 80 प्रतिशत मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं।  कोरोना संक्रमण के दौरान अनेक गर्भवती  महिलाएं भी कोरोना से संक्रमित होकर उपचार के लिए जिला चिकित्सालय गरियाबंद में भर्ती होती है। ऐसे में डॉक्टरों और स्वास्थ्य अमले पर दोहरी जिम्मेदारी होती है। एक तो गर्भवती महिला को कोविड से मुक्त करना और सुरक्षित प्रसव कराना ताकि दोनों को नया जीवन मिल सके।

गरियाबंद जिले में स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों के प्रयासों से जिले में 8 कोरोना संक्रमित गर्भवती महिलाओं की सफल डिलीवरी हो चुकी है। विगत दिनों जिला हॉस्पिटल गरियाबंद  में  ऐसे ही सुखद किलकारी एक बार फिर गूंजी । फिंगेश्वर विकासखंड अंतर्गत ग्राम बरभाठा की 24 वर्षीय कोरोना संक्रमित अनिता यादव ने एक स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया। मां और बच्चे दोनों पूरी तरह से स्वस्थ हैं।

 स्वास्थ्य विभाग की डीपीएम डॉ रीना ने बताया कि  जिले में यह कोरोना संक्रमित गर्भवती महिलाओं का आठवां सफल और सुरक्षित प्रसव है। सुरक्षित प्रसव के बाद  हॉस्पिटल के नर्स, स्टाफ और डॉक्टर ने खुशी जाहिर करते हुए अनिता और उनके परिवार को बधाई दी है।

 उल्लेखनीय है कि विगत 26 अप्रैल को भी गरियाबंद ग्राम कोचबाय की ममता कश्यप, 29 अप्रैल को मैनपुर की रूखमणी ध्रुव और 1 मई को छुरा पाटसिवनी की भुनेश्वरी सोरी ने भी स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया है । इस तरह जिला हॉस्पिटल और  डेडीकेटेड हॉस्पिटल गरियाबंद में कोरोना संक्रमित महिला की यह आठवीं सफल डिलीवरी है। इससे ड्यूटी में तैनात समस्त  स्टाफ उत्साहित है। सुरक्षित प्रसव  में डॉ अजय जांगड़े, डॉ मयंक देवांगन  एवं स्टाफ नर्स सनत मंडावी,प्रतीक्षा यादव  एवं पूजा साहू की विशेष भूमिका रही है।

26-04-2021
पीएम से मिले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ,रावत ने कहा- सशस्त्र बलों से सेवानिवृत्त कर्मचारी कोविड केन्द्रों में काम करेंगे

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत ने कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए सशस्त्र बलों द्वारा की गई तैयारियों की समीक्षा की। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ रावत ने कहा कि सशस्त्र बलों से पिछले दो साल में सेवानिवृत्त हुए सभी मेडिकल कर्मचारी अपने घरों के पास स्थित कोविड-19 केन्द्रों में काम करेंगे। कमांड, कोर, डिविजन और नौसेना तथा वायुसेना के समान मुख्यालयों में तैनात सभी मेडिकल अफसर अस्पतालों में तैनात किए जाएंगे। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत ने प्रधानमंत्री मोदी को बताया कि अस्पतालों में डॉक्टरों की मदद के लिए बड़ी संख्या में नर्सिंग स्टाफ को तैनात किया जा रहा है। सशस्त्र बलों के विभिन्न प्रतिष्ठानों के पास उपलब्ध ऑक्सीजन सिलेंडर अस्पतालों को दिए जाएंगे। सशस्त्र बल बड़ी संख्या में मेडिकल प्रतिष्ठान तैयार कर रहे हैं, जहां भी संभव होगा, सेना की मेडिकल सुविधाएं आम लोगों को उपलब्ध करायी जाएंगी। 

 

 

16-03-2021
डीआरएम कार्यालय के स्टाफ मिले कोरोना पॉजिटिव,रेलवे अस्पताल में उपचार जारी 

रायपुर। प्रदेश में कोरोना फिर कहर बरपा रहा है। खासकर राजधानी रायपुर में रोजाना सर्वाधिक मरीज मिल रहे हैं। इसी बीच मंगलवार को रायपुर रेल मंडल कार्यालय के 6 स्टाफ के कोरोना संक्रमित होने की जानकारी मिली है। सभी स्टाफ पर्सनल डिपार्टमेंट के बताए गए हैं। सभी का रेलवे अस्पताल में उपचार जारी है। इधर कोरोना संक्रमण के मामलों के बाद कार्यालय को सैनेटाइज करवाया गया है।

19-11-2020
इस अभिनेता ने किया खुद को आइसोलेट, एक्टर के ड्राइवर सहित दो स्टाफ पाए गए कोरोना पॉजिटिव

मुंबई। अभिनेता सलमान खान के ड्राइवर सहित दो स्टाफ कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। सलमान खान ने खुद को आइसोलेट कर लिया है। सलमान खान ने हाल ही में राधे फिल्म की शूटिंग शुरू की। फिल्म में उनके साथ एक्ट्रेस दिशा पटानी नजर आएंगी। बता दें कि कई बॉलीवुड सेलेब्स ने पिछले 2-3 महीनों में काम फिर से शुरू किया है। कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण फिल्मों की शूटिंग पर विराम लगा था। हालांकि, कोरोना का डर अब भी जारी है। ये केवल एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री ही नहीं बल्कि पूरे देश के खतरा बना हुआ है।

08-11-2020
बाइक से ले जा रहा था 55 पौवा अवैध शराब, चेकिंग में पकड़ा गया

राजनांदगांव। अवैध शराब को पकड़ने के लिए पुलिस लगातार कार्यवाही कर रही है। इसी कड़ी में रविवार को मुखबिर की सूचना पर थाना प्रभारी अजयकांत तिवारी ने स्टाफ के साथ एक मोटरसाइकिल चालक को रोककर पूछताछ की। तलाशी लेने पर उसके पास से 55 पौवा अवैध शराब मिली। पुलिस ने मोटरसाइकिल व शराब जब्त कर आरोपी राजकुमार ठेठवार निवासी बरमपुर थाना  डोंगरगढ़ को गिरफ्तार कर धारा 34(2) के तहत न्यायालय में पेश किया। यहाँ से उसे रिमांड पर जेल भेजा गया।

 

 

20-08-2020
छत्तीसगढ़ जिला स्तर पर कीमोथेरेपी की सुविधा वाला देश का अग्रणी राज्य,डॉक्टरों और स्टाफ नर्सों को विशेष प्रशिक्षण

रायपुर। छत्तीसगढ़ में दीर्घायु योजना के माध्यम से कैंसर मरीजों के लिए जिला स्तर पर कीमोथेरेपी सुविधा का विस्तार किया जा रहा है। प्रदेश के नौ जिला अस्पतालों में डे-केयर कीमोथेरेपी की सुविधा शुरू की गई है,जहां विभिन्न तरह के कैंसर से पीड़ितों की निःशुल्क कीमोथेरेपी की जा रही है। पहले कैंसर मरीज़ों को बड़े शहरों या मेडिकल कॉलेजों में बार-बार जाकर इलाज करवाना पड़ता था,जिससे उन्हें कई परेशानियां उठानी पड़ती थीं। कैंसर मरीजों को राहत देने और स्थानीय स्तर पर ही इलाज उपलब्ध कराने राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, छत्तीसगढ़ द्वारा नवाचार कर इस वर्ष मार्च में दीर्घायु योजना शुरू की गई है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने इस योजना का शुभारंभ किया था। कैंसर के इलाज में कीमोथेरेपी की महत्वपूर्ण भूमिका है। पहले इसके उपचार के लिए पीड़ितों को रायपुर आकर या प्रदेश से बाहर जाकर निजी अस्पतालों में कीमोथेरेपी कराने में हजारों खर्च करने पड़ते थे। परिवहन और अन्य खर्चों को मिलाकर मरीजों पर बहुत अधिक आर्थिक भार आता था। पर अब राज्य के नौ जिलों रायपुर, दुर्ग, कांकेर, जशपुर,  कोंडागांव, कोरिया, नारायणपुर, बस्तर और सूरजपुर में डे-केयर कीमोथेरेपी सुविधा के शुरू हो जाने से मरीजों को यह सुविधा निशुल्क मिल रही है।

पहले चरण में 9 जिलों के डॉक्टरों एवं स्टाफ नर्सों को दी गई विशेष कैंसर ट्रेनिंग

दीर्घायु योजना के लिए पहले चरण में नौ जिलों के 21 चिकित्सा अधिकारियों और 54 स्टाफ नर्सो को राज्य के बाहर विशेष कैंसर प्रशिक्षण केंद्र में भेजकर प्रशिक्षण दिलाया गया है। इन प्रशिक्षित चिकित्सकों व स्टाफ़ नर्सों के माध्यम से राज्य में पहली बार जिला स्तर पर दीर्घायु योजना के माध्यम से कीमोथेरेपी की सेवाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं।

छत्तीसगढ़ जिला स्तर पर कीमोथेरेपी की सुविधा वाला अग्रणी राज्य

दीर्घायु योजना के फलस्वरूप आज छत्तीसगढ़ देश के उन अग्रणी राज्यों में है,जहां कैंसर पीड़ितों को जिला स्तर पर कीमोथेरेपी सुविधा दी जा रही है। प्रदेश के विभिन्न जिला अस्पतालों में अब तक 103 मरीजों ने इस सुविधा का लाभ उठाया है। मुंह के कैंसर, ब्लड-कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर व अन्य तरह के कैंसर मरीजों को अपने-अपने जिलों में ही कीमोथेरेपी सुविधा मिल रही है। कोरोना संक्रमण के समाप्त होने के बाद देश के विशेषज्ञ केंद्रों में प्रशिक्षण प्रारम्भ होते ही शेष टीमों को प्रशिक्षण दिलवाकर दूसरे चरण में राज्य के बाकी जिलों में भी निःशुल्क डे-केयर कीमोथेरेपी की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

 

20-08-2020
सदभावना दिवस पर एसपी और एएसपी ने पुलिस कार्यालय में स्टाफ को दिलाई शपथ

धमतरी। 20 अगस्त को पूर्व प्रधानमंत्री स्व.राजीव गांधी के जन्मदिवस को "सद्भावना दिवस" के रूप में मनाया जा रहा है। वर्तमान में कोविड-19 के संक्रमण को ध्यान में रखकर सुरक्षात्मक तरीके अपनाते हुए अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा सद्भावना बनाए रखने संबंधी शपथ ली जाएगी। पुलिस अधीक्षक द्वारा सद्भावना दिवस मनाये जाने के उद्देश्य को बताते हुए शपथ दिलाई गई कि हम सभी जाति, सम्प्रदाय, क्षेत्र, धर्म अथवा भाषाओं का भेदभाव किये बिना सभी भारतवासियों की भावनात्मक एकता और सद्भावना के लिए कार्य करेंगे एवं क्षेत्रों के लोगों के बीच राष्ट्रीय एकीकरण की भावना को जागृत करना और हिंसा के विचार को छोड़ते हुए लोगों के बीच बिना किसी प्रकार के मतभेद बातचीत संवैधानिक माध्यम से सुलझाने एवं सद्भाभाव को बढ़ावा देना है।आज सद्भावना दिवस के अवसर पर पुलिस अधीक्षक बीपी राजभानू एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर रावटे सहित पुलिस कार्यालय के समस्त पुलिस अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804