GLIBS
04-03-2021
लाखों की धोखाधड़ी करने वाला आरोपी गिरफ्तार, सोना बताकर बेचते थे पीतल

महासमुन्द। सोना बता कर पीतल बेच के लाखों रुपए की धोखाधड़ी करने वाले धोखेबाज को सरायपाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया है कि प्रार्थी दीपक कुमार खर्रा से 14 जुलाई 2020 को थाना सरायपाली क्षेत्रांतर्गत दो व्यक्ति जीतू सूर्यवंशी और चैतन लसार ने सोने का गुम्बद है,जिसे बेचना है कह कर लालच देकर 5,70,000 रूपए का सौदा किया। रूपए लेकर पालिश चढ़ा हुआ गुम्बद देकर ठगी कर फरार हो गए। प्रार्थी दीपक कुमार खर्रा घर आकर गुम्बद में तेजाब डालकर और घीसकर जांच की तो वह गुम्बद पीतल का निकला। प्रार्थी ने इसकी सूचना पुलिस को दी। थाना सरायपाली की टीम ने आरोपी के निवास स्थल जांजगीर चाम्पा में दबिश देकर दोनों आरोपी जीतू सूर्यवंशी उम्र 49 वर्ष और चैतन लसार उम्र 49 वर्ष निवासी ग्राम पिसौद थाना जांजगीर चाम्पा को पकड़कर थाना सरायपाली में उनके विरूद्ध अपराध क्र. 85/21 धारा 420,34 भादवि का प्रकरण दर्ज कर न्यायिक रिमांड पर जेल दाखिल किया।

 

04-03-2021
धोखाधड़ी के आरोप में राखी सावंत और भाई पर एफआईआर दर्ज

मुंबई/रायपुर। एक्ट्रेस राखी सावंत और उसके भाई आनंद सावंत के खिलाफ विकासपुरी थाने में एफआईआर दर्ज करवाई गई है। दोनों पर 6 लाख रुपए के फ्रॉड का आरोप लगा है। यह एफआईआर बिजनेसमैन शैलेन्द्र श्रीवास्तव ने दर्ज करवाई है। शैलेन्द्र का आरोप है कि राखी सावंत और उनके भाई ने मिलकर इंस्टिट्यूट्स खोलने और मूवी रिलीज करने के नाम पर उनसे 6 लाख रुपए इन्वेस्ट कराए थे। कोई भी काम पूरा नहीं हो पाया और बिजनेसमैन को नुकसान उठाना पड़ा। इस मामले में राखी ने खुद को निर्दोष बताया है। उन्होंने इसे एक पब्लिसिटी स्टंट बताया है। राखी ने शिकायतकर्ता के खिलाफ मानहानि का केस ठोकने की बात कही है।

11-02-2021
जमीन के सीमांकन कराने के लिए तहसील कार्यालय में आवेदन करने पहुंची तो पावर ऑफ अटॉर्नी निकला फर्जी

रायपुर। इनकम टैक्स इंस्पेक्टर आशीष अग्रवाल के परिवार से 23 लाख रुपयों से अधिक की धोखाधड़ी हुई है। बीती रात दर्ज हुए मामले में पुलिस ने बताया कि यह मामला वर्ष 2015 का है। जब दलदल सिवनी निवासी आरोपी रफी अहमद ने आयकर विभाग में निरीक्षक के पद पर पदस्थ आशीष अग्रवाल की पत्नी कविता अग्रवाल जो ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी के पद पर पदस्थ है। उससे भावना नगर हाउसिंग बोर्ड के पास स्थित सरकारी ज़मीन को अपने हक एवं स्वामित्व की भूमि बताकर 23 लाख 23 हजार रुपए ऐंठ लिए। जब कविता ने उक्त जमीन के सीमांकन कराने के लिए तहसील कार्यालय में आवेदन दी तो पूरे मामले का खुलासा हुआ। जहां से उन्हें पता चला को आरोपी रफी अहमद द्वारा कूटरचित मुख्तयारनामा(पावर ऑफ अटॉर्नी) तैयार कर जमीन के एवज में कुल 23,23,750 रुपए ले लिया और उक्त सरकारी जमीन की रजिस्ट्री भी करवा दिया। धोखाधड़ी का शिकार हुई ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी कविता अग्रवाल ने जब रफी से पैसे वापस करने की बात कही तो आरोपी द्वारा बार-बार आश्वासन देकर मामले को टालता रहा जिसके बाद कविता ने खम्हारडीह थाना पुलिस को पूरे मामले की शिकायत की जिस पर आरोपी रफी अहमद के खिलाफ धोखाधड़ी की धारा में अपराध दर्ज किया गया। फिलहाल आरोपी फरार बताया जा रहा है। गौरतलब है कि रोजाना इसी तरह सैकड़ों लोग ठगी के शिकार होते हैं। बावजूद इसके लोग सचेत नहीं रहते हैं।

17-12-2020
नकली सोना को असली बताकर ठगी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़

भिलाई। नकली सोना को असली बताकर धोखाधड़ी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। इसमें एक ठग को गिरफ्तार हो गया है और दूसरे की पतासाजी जारी है। पुलिस ने आरोपी के पास से 10 लाख रुपए नगद और नकली सोना व जेवरात बरामद की है। मिली जानकारी के अनुसार प्रार्थी भोजराम साहू ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि 16 अक्टूबर को एक ज्वेलर्स में अपने दुकान में अपने पिता के साथ थे, तभी एक व्यक्ति ने अपना नाम सेवाराम सोलंकी पता भिलाई 3 वसुंधरा नगर निवासी बताया और विश्वास में लेकर नकली सोना को असली बताकर 10 लाख रुपए की ठगी कर ली।

रिपोर्ट पर पुलिस ने घटना को लेकर अधिकारियों को जानकारी दी। मुखबिर से सूचना मिली कि इस प्रकार के ठगी करने वाले गिरोह के कुछ सदस्य थाना पुरानी भिलाई क्षेत्र के अंतर्गत देवबलोदा पुराना क्षेत्र में अपने परिवार के साथ रहते हैं। इसी दौरान एक परिवार से सख्ती से पूछताछ की गई। इस पर सेवाराम सोलंकी घटना को अंजाम देना स्वीकार किया। पुलिस ने 10 लाख रुपए, नकदी जेवरात बरामद किया। आगे की विवेचना जारी है।

12-12-2020
बैंक मैनेजर धोखाधड़ी मामले में गिरफ्तार, पहुंचीं जेल

जगदलपुर। सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया बेलर शाखा में धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। बडानजी थाना प्रभारी सुरेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि सोनू राम ठाकुर पाथरी निवासी लोहांड़ीगुड़ा ने थाने में शिकायत दर्ज कराई की सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया के बेलर शाखा में बायो गैस प्लांट के लिए लोन लेने के लिए आवेदन दिया था। परंतु लोन देने के नाम पर उससे पैसों की डिमांड की गई। कर्मचारियों की मिलीभगत से उसके नाम पर चांदी की रॉड का बिल 3.50,000 बिल लगा कर  आवेदक के लोन खाते से 3.50,000 रुपये निकाल लिए गए।  आवेदक को अपने बायोगैस पेस्टिसाइट मशीन में किसी भी प्रकार से चांदी की रॉड लगाए जाने की जानकारी नही दी गई। रिपोर्ट के बाद पुलिस अधीक्षक दीपक झा एवं एसडीओपी राकेश कुर्रे के आदेशानुसार थाना प्रभारी ने एक टीम बना कर जांच पड़ताल की।

पुलिस ने बैंक कर्मचारी मीनाक्षी कुमारी, जो कि उस समय सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया बेलर ब्रांच की मैनेजर थीं एवं उसके दो अन्य साथी आरती मिश्रा और मनीष जैन के विरुद्ध धारा 420 के तहत कार्यवाही करते हुए के विरुद्ध मामला बनाया। मीनाक्षी कुमारी को सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के रीजनल ऑफिस से एवं मनीष जैन को जगदलपुर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। एक आरोपी आरती मिश्रा अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर फरार चल रही है। थाना प्रभारी ने कहा कि जल्द ही उसको भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।  

09-12-2020
दूसरे की जमीन पर कारोबारी दंपति और बेटे ने किया निर्माण,  मामला दर्ज

 

रायपुर। कारोबारी दंपति और बेटे ने रसूख दिखाकर दूसरे की जमीन पर कब्जा कर निर्माण करा दिया। मामले की जानकारी होते ही पीड़ित ने राज्यपाल, नगर निगम, नगर निवेश संचालक, कलेक्टर और पुलिस को दी। जानकारी के मुताबिक कारोबारी के खिलाफ पुरानी बस्ती निवासी पीड़ित ने शिकायत की थी। पीड़ित की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल पूरे मामले के आरोपी प्रकाश केडिया, अनुपम केडिया और मंजू केडिया फरार है।

02-12-2020
गैंग ऑफ वासेपुर, छलांग, हलचल फिल्म के स्क्रिप्ट राइटर जीशान कादरी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज

रायपुर/मुंबई। फिल्म गैंग्स ऑफ वासेपुर, छलांग और हलचल जैसी फिल्मों के स्क्रीन राइटर जीशान कादरी के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। जानकारी के मुताबिक, जीशान के खिलाफ अंबोली पुलिस स्टेशन में धारा 420 के तहत धोखाधड़ी के आरोप में मामला दर्ज कराया गया है। उनकी कंपनी Friday to friday एंटरटेनमेंट पर डेढ़ करोड़ रुपए की हेराफेरी का मामला है। मामले की जानकारी देते हुए प्रोड्यूसर जतिन सेठी ने बताया कि उनकी कंपनी नाद फिल्म्स प्रोडक्शन हाउस और जीशान कादरी की कंपनी में पैसे की यह डील एक वेब सीरीज को लेकर हुई थी। लेकिन जीशान कादरी ने उस वेब सीरीज में यह पैसा इन्वेस्ट ही नहीं किया।

12-11-2020
राणा कपूर की बेटी रोशनी को राहत,कोर्ट ने यस बैंक घोटाले मामले में दी जमानत

मुंबई। यस बैंक मामले में धोखाधड़ी के आरोपी राणा कपूर की बेटी रोशनी कपूर को मुंबई की एक मजिस्ट्रेट अदालत से गुरुवार को बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने 3700 करोड़ रुपए के कथित घोटाले के मामले में रोशनी कपूर को जमानत दे दी है। बता दें कि धोखाधड़ी मामले में कोर्ट ने पिछले महीने रोशनी को तलब किया था, इस केस में सीबीआई द्वारा दायर चार्जशीट में नामजद आठ लोगों में से एक नाम रोशनी का भी हैं। रोशनी के वकील सुभाष जाधव ने बताया कि उनके क्लाइंट को मजिस्ट्रेट की कोर्ट ने बेल दी है। बता दें कि कोर्ट ने सीबीआई द्वारा दायर चार्जशीट में सभी आठ आरोपियों को समन जारी कर अदालत में पेश होने का निर्देश दिया था।

इन लोगों को घोटाला मामले में गिरफ्तार नहीं किया गया था। रोशनी के वकील सुभाष के मुताबिक धोखाधड़ी से जुड़े मामले में कोर्ट ने जमानत दे दी है। बता दें कि यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर पर आरोप है कि उन्होंने रिश्वत के बदले में कुछ कंपनियों के ऋण मंजूर किए। कपूर, उनकी पत्नी और तीन बेटियों के खिलाफ कथित रूप से नियंत्रित कंपनी घोटाले से प्रभावित दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (डीएचएफएल) से जुड़ी एक इकाई से 600 करोड़ रुपये प्राप्त करने की जांच कर रही है। 

04-11-2020
महिलाओं ने नौकरी लगाने के नाम पर युवक से की ठगी, ऐंठे 4 लाख से अधिक रुपए

दुर्ग। नौकरी लगाने के नाम पर धोखाधड़ी का मामला सामने आया। इसमें 3 महिलाओं के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। मामला उतई थाना क्षेत्र का है। ग्राम डूमरडीह निवासी अनिल साहू ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई की स्कूल में क्लर्क की नौकरी लगाने के नाम पर महिलाओं ने 4 लाख 30 हजार रुपए ठग लिए। 4 साल तक नौकरी लगाने का झांसा देती रही और पैसे भी वापस नहीं किए। इस पर प्रार्थी ने महिलाओं के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने 3 महिलाओं के खिलाफ 420 का अपराध दर्ज किया है।  

 

13-10-2020
पहले बड़े भाई ने नदी में कूदकर दी जान, तीन दिन बाद छोटे भाई ने उसी जगह पर की आत्महत्या

उज्जैन। उज्जैन में एक ही परिवार के दो सगे भाइयों ने बारी-बारी से खुदकुशी कर ली। बड़े भाई की मौत के बाद छोटे भाई ने भी वहीं जाकर खुदकुशी कर ली,जहां बड़े भाई ने अपनी जान दी थी। अब दोनों भाइयों की खुदकुशी मामले में कुंडली कनेक्शन सामने आया है।घटना शहर की सांईधाम कॉलोनी की है। जहां तीन दिन के भीतर एक ही परिवार के दो सदस्यों ने खुदकुशी कर ली। मामला कर्ज, धोखाधड़ी और मानसिक तनाव के साथ अंधविश्वास से भी जुड़ा है। यहां रहने वाले दवा दुकान के संचालक व ज्योतिष प्रवीण चौहान (48) ने 10 अक्तूबर को नृसिंह घाट पुल से नदी में कूदकर जान दे दी थी। इसके बाद सोमवार (12 अक्तूबर) को प्रवीण के छोटे भाई पीयूष (38) ने भी उसी जगह से नदी में छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। जानकारी के मुताबिक, बड़े भाई ने सुसाइड नोट में कुंडली बनाकर लिखा था- 'आत्महत्या का योग है'। छोटे भाई ने मरने से पहले सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखा- 'पापा आप भी आ जाना।'सोमवार को बड़े भाई प्रवीण का उठावना था। परिजन व रिश्तेदार चक्रतीर्थ से सारी राख समेटकर घर आए थे।

सांईधाम कॉलोनी में दोपहर को उठावना था, इसी बीच पीयूष चौहान ने घर वालों से कहा कि भाई की तस्वीर पर हार चढ़ाना है, मैं अभी लेकर आता हूं। यहां से वह नृसिंह घाट पहुंचा और शिप्रा नदी में छलांग लगा दी। राहगीरों ने उसे नदी में कूदते देख पुलिस को सूचना दी। इस बीच पीयूष की सोशल मीडिया पर सुसाइड नोट वाली पोस्ट का पता चला। जिसके बाद दोस्त व परिजन नृसिंह घाट पहुंच गए।
दोपहर को पोस्टमार्टम के दौरान रिश्तेदार व दोस्त यही बोले कि दो रात से वह भाई के गम में सोया नहीं था। उसका दिमाग डायवर्ट करने के लिए उसे घुमाने ले जाने का प्रयास भी किया पर उसने मना कर दिया। एक दोस्त ने बताया कि दस दिन पहले पीयूष ने बोला था कि अब जीवन को शिप्रा को समर्पित कर दूंगा, कुछ नहीं बचा है, लेकिन उसके हंसमुख स्वभाव को देखकर इसे गंभीरता से नहीं लिया।पुलिस अब आत्महत्या, कर्ज और सूदखोरी के एंगल से इस मामले की जांच कर रही है, क्योंकि सुसाइड नोट में भारी भरकम कर्ज और उसे चुकाने के बाद भी ब्याज लेने की बात की गई है। इस मामले को लेकर मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि 'एफआईआर दर्ज कर ली गई है, इस मामले में दो लोग गिरफ्तार किए गए हैं। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804