GLIBS
23-01-2020
किसान भिखारी नहीं हैं, सिर्फ कर्जमाफी से नहीं होगा समस्या का समाधान : नाना पाटेकर

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता नाना पाटेकर ने कहा कि किसान भिखारी नहीं हैं और अकेले कर्जमाफी से महाराष्ट्र के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के किसानों की आत्महत्या की समस्या का समाधान नहीं होगा। यह बातें बुधवार को उन्होंने चिंचवाड़ के एक कार्यक्रम के दौरान कहीं। जिसका आयोजन कलारंग संस्था ने अपनी 21वीं वर्षगांठ के अवसर पर किया था। पाटेकर ने कहा, 'यदि राजनेता पैसे नहीं देते हैं तो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। किसानों को कर्जमाफी नहीं चाहिए। हमें उन्हें भावनात्मक सपोर्ट और धीरज देना चाहिए।

हमें उनसे बात करनी चाहिए। अकेले कर्जमाफी से कुछ नहीं होगा। किसान भिखारी नहीं हैं।' इस कार्यक्रम में विधायक महेश लांडगे, लक्ष्मण जगताप, शिक्षाविद् पीडी पाटिल और उप महापालिकाध्यक्ष तुषार हिंज भी मौजूद थे। पाटेकर ने यह भी कहा कि एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार हमेशा एक हीरो रहे हैं। उन्होंने कहा, 'वह भारतीय राजनीति के चाणक्य हैं।' उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह को नाम फाउंडेशन की मदद करने के लिए धन्यवाद दिया। फिल्म अभिनेता ने कहा, 'मेरे सभी पार्टियों में दोस्त हैं। चाहे वह शरद पवार हों, उद्धव ठाकरे हों या देवेंद्र फडणवीस। सभी मेरे दोस्त है।'

16-08-2019
बाढ़ पीड़ितों के लिये 500 घर बनाएंगे नाना पाटेकर

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता नाना पाटेकर महाराष्ट्र के बाढ़ पीड़ितो के लिये 500 घर बनाने जा रहे हैं। महाराष्ट्र में बारिश ने जमकर तबाही मचाई है। पश्चिमों महाराष्ट्र के जिलों में हजारों लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। इस भयंकर स्थिति में कई लोगों के घर तहस-नहस हो गए। नाना पाटेकर उनकी मदद करने के लिए आगे आए हैं। नाना पाटेकर, नाम फाउंडेशन नाम का एनजीओ चलाते हैं। इस एनजीओ के माध्यम से वह बाढ़ पीड़ितों के लिए घर बनाएंगे। नाना पाटेकर ने एक कार्यक्रम में बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात की। वहां पर उन्होंने 500 घर बनाने का ऐलान किया। नाना पाटेकर ने कहा , चिंता मत करिए. एक बार आपको छत मिल जाएगी तो सब कुछ ठीक हो जाएगा। सरकार ने हमें कुछ फंड दिया है। नाम फाउंडेशन पैसे इकट्ठा कर रहा है। जो भी काम हो सकता है हम कर रहे हैं। हम साथ मिलकर काम कर रहे हैं। कई लोग खुद आकर सहायता करने की पहल कर रहे हैं। नाना पाटेकर ने कहा , कई लोग आर्थिक मदद रूप से मदद कर रहे हैं। वह इसलिए आगे आ रहे हैं क्योंकि उन्हें विश्वास है. जब कभी भी किसी को कोई जरूरत होगी हम सभी मदद करने के लिए उनके साथ खड़े होंगे। जब मैं शिरोल आया तो वहां पर मुझे स्थिति का पता चला। इसलिए हमने 500 घर बनवाने का फैसला किया है।

13-06-2019
मी टू कैंपेन : कोर्ट ने दी नाना पाटेकर को राहत, आरोपों को ठहराया बेबुनियाद 

मुंबई। बॉलीवुड एक्ट्रेस तनुश्री दत्ता मी टू कैंपेन के तहत नाना पाटेकर पर यौन शोषण का आरोप लगाया था। इसके बाद यह मामला कई दिनों तक सुर्खियों में बना रहा। लेकिन इस मामले में अब नाना पाटेकर को बड़ी राहत मिली है। मुंबई पुलिस ने अदालत में बी समरी रिपोर्ट फाइल की है। पुलिस ने माना कि नाना के खिलाफ गलत मामला बनाया गया और शिकायतकर्ता ने दुर्भावना के नाते ये शिकायत दर्ज कराई थी। बता दें कि "बी" समरी का मतलब आरोपी के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804