GLIBS
30-06-2020
पत्नी, प्रेमी और दोस्त ने की थी पति की हत्या, अनुकंपा नौकरी और पैसों के लालच में बनाया था प्लान, अब सलाखों के पीेछे

रायपुर/सूरजपुर। जिले के भटगांव थाना क्षेत्र में सेवानिवृत्ति से तीन दिन पहले एसईसीएल कर्मी की हत्या के मामले का पुलिस ने रहस्य का खुलासा कर दिया है। कॉलरीकर्मी की हत्या उससे 20 साल छोटी तीसरी पत्नी ने प्रेमी व उसके दोस्त से करा दी थी। हत्या का कारण मृत्यु उपरांत मिले रुपयों व अनुकंपा नौकरी से दोनों आगे की जिंदगी पत्नी व उसके प्रेमी ने साजिश की थी। पुलिस ने आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं प्रेमी का दोस्त फरार बताया जा रहा है। बता दें कि सूरजपुर के भटगांव थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बंशीपुर निवासी बाबूलाल शिवानी खदान में पंप ऑपरेटर के पद पर पदस्थ था। वह अपनी तीसरी पत्नी सागरमती 40 वर्ष व 2 बेटों के साथ रहता था।

उसकी तीसरी पत्नी उससे 20 साल छोटी थी। उसने घर के सामने वाले हिस्से में ढाबा भी खोल रखा था जिसे बच्चों के सहयोग से पत्नी चलाती थी। बाबूलाल 31 मार्च को सेवानिवृत्त होने वाला था। इसी बीच 28 मार्च की सुबह घर से कुछ दूर नहर के पास उसकी संदिग्ध अवस्था में लाश मिली थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। एसपी राजेश कुकरेजा के नेतृत्व में पुलिस जांच में पता चला कि पत्नी के प्रेमी मणिरंजन मिश्रा उर्फ पिंटू मिश्रा ने दोस्त सीताराम यादव के साथ मिलकर बाबूलाल की गमछे से गला व मुंह दबाकर हत्या की थी और शव को नहर के पास फेेंक दिया था। इस मामले में पुलिस ने पत्नी सागरमती व प्रेमी मणिरंजन उर्फ पिंटू मिश्रा को गिरफ्तार कर धारा 302, 201, 120बी व 34 के तहत जेल भेज दिया।

23-06-2020
अमेरिका ने भारत को दिया बड़ा झटका, डोनाल्ड ट्रंप ने दिसंबर तक के लिए H-1B वीजा को किया रद्द

नई दिल्ली। अमेरिका में नौकरी कर रहे आईटी प्रोफेशनल्स को बड़ा झटका लगा है। अमेरिका में बढ़ी बेरोजगारी दर के कारण राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने भारत को तगड़ा झटका देते हुए एच1-B वीजा पर पाबंदियों की घोषणा कर दी है। ट्रंप के इस फैसले से ना सिर्फ भारत बल्कि दुनिया की तमाम आईटी फ्रोफेशनल्स को नुकसान होगा। 31 दिसंबर 2020 तक इस पर रोक लगाने की घोषणा की गई है। ट्रंप के इस फैसले से दुनिया भर से अमेरिका में नौकरी करने का सपना देखने वाले करीब ढाई लाख लोगों को धक्‍का लग सकता है।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने H-1B वीजा को निलंबित करने का फैसला लिया है। जानकारी के अनुसार यह निलंबन इस वर्ष के आखिर तक वैध रहेगा, यानि अब H-1B वीजा को अमेरिका में स्वीकार नहीं किया जाएगा। ट्रंप प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि सरकार ने यह फैसला अमेरिका के श्रमिकों के हितों को देखते हुए लिया है। मिली जानकारी के अनुसार यह निलंबन इस वर्ष के आखिर तक वैध रहेगा, यानि अब H-1B वीजा को अमेरिका में स्वीकार नहीं किया जाएगा।

ट्रंप ने किया ऐलान :

सोमवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि यह फैसला काफी आवश्यक था और इस फैसले से उन अमेरिकी लोगों को राहत मिलेगी जो मौजूदा समय में आर्थिक संकट के कारण अपनी नौकरी खो चुके हैं। दरअसल अमेरिका में इसी वर्ष नवंबर माह में चुनाव होना है, लिहाजा चुनाव के ऐलान से पहले माना जा रहा है कि राष्ट्रपति ट्रंप इस तरह के अलग-अलग फैसले ले रहे हैं। H-1B वीजा के निलंबन का फैसला 24 जून से ही लागू हो जाएगा। ऐसे में अमेरिका के इस फैसले से यूएस में काम कर रहे भारतीय प्रोफेशनल्स को बड़ा झटका लगेगा।

09-06-2020
यूपी:अनामिका मामला में शिक्षा मंत्री ने किया खुलासा,कहा-12 लाख से अधिक वेतन का हुआ भुगतान


नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के 25 जिलों में नौकरी करने वाली अनामिका शुक्ला मामले को लेकर राज्य के बेसिक शिक्षा मंत्री सतीष चंद्र द्विवेदी ने अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने बताया कि यह गड़बड़ी शिक्षकों का डेटाबेस बनाते वक्त पकड़ में आई है और अनामिका शुक्ला के दस्तावेज का इस्तेमाल करके आठ अन्य जनपदों के विद्यालयों में अन्य लोगों ने नियुक्तियां हासिल की और उन्हें 12 लाख 24 हजार 700 रुपये का भुगतान हुआ।बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि जांच में यह तथ्य सामने आया है कि अनामिका शुक्ला के दस्तावेज का इस्तेमाल करके वाराणसी, अलीगढ़, कासगंज, अमेठी, रायबरेली, प्रयागराज, सहारनपुर और अम्बेडकरनगर में अन्य जगहों पर अन्य लोगों ने नौकरी हासिल की है।गौरतलब है कि प्रदेश के बागपत स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में तैनात अनामिका शुक्ला नामक शिक्षिका के 25 जिलों के इन विद्यालयों में नौकरी करते हुए 13 महीनेमें एक करोड़ रुपये से ज्यादा का वेतन उठाने का मामला सामने आया है।

इस मामले में पिछले दिनों कासगंज में एक शिक्षिका को गिरफ्तार किया गया था।बेसिक शिक्षा मंत्री ने कहा कि उनमें से किसी ने कहीं पर ज्वाइन नहीं किया, कई जगहों पर नियुक्ति लेकर काम नहीं किया। कुल मिलाकर छह विद्यालयों के माध्यम से अनामिका शुक्ला के दस्तावेज पर नियुक्त हुई शिक्षिकाओं को 12 लाख 24 हजार 700 रुपये का भुगतान हुआ है।द्विवेदी ने बताया कि इस मामले की अभी तक की जांच में यह स्थिति आयी है। कहीं और अनामिका शुक्ला के नाम पर नौकरी हासिल किये जाने की जानकारी अभी नहीं मिली है। कासगंज में पुलिस ने एक शिक्षिका को गिरफ्तार किया है, मगर असल अनामिका शुक्ला अब भी पुलिस की पकड़ से बाहर है।मंत्री ने कहा कि सरकार इस पूरे मामले की गहराई से जांच कराएगी और जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

उन्होंने कहा कि सरकार ने पूरे प्रदेश के 746 कस्तूरबा गांधी विद्यालयों में लगभग पांच हजार शिक्षिकाओं के दस्तावेजों की जांच के आदेश दे दिये हैं, ताकि कहीं और ऐसा मामला हो तो पकड़ा जा सके।मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने भ्रष्टाचार के प्रति बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करने की नीति पर काम किया है। अगर कहीं भ्रष्टाचार का कोई मामला सामने आया तो जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाती है। पूर्ववर्ती सरकारों के कार्यकाल में हुई कुछ फर्जी नियुक्तियों की बात सामने आने पर एसआईटी और एसटीएफ को जांच सौंपी गयी। अब तक 1701 फर्जी शिक्षकों को बर्खास्त किया जा चुका है।

03-06-2020
नौकरी लगाने व रकम दुगना का झांसा  देने के आरोप में पुलिस ने 3 महिलाओं को गिरफ्तार किया

दुर्ग। नौकरी लगाने एवं रकम दोगुना का झांसा देकर 25 लाख की धोखाधड़ी करने वाली 3 महिलाओं को उतई पुलिस ने गिरफ्तार किया है। प्राप्त जानकारी में ग्राम पतोरा में आरोपी महिलाओं द्वारा नवरंग कला निकेतन तथा ओम साईं फैंसी ड्रेस संस्था की आड़ में पीडि़ता और उसके परिवार से पहले 5 लाख फिर 20 लाख रुपए की धोखाधड़ी की। पीड़िता के पुत्रों को पहले अपनी संस्था में नौकरी में लगाया फिर पक्की नौकरी लगाने के नाम पर धन उगाही की। उक्त रकम 5 लाख के आसपास है। शिकायत मिलने पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव दुर्ग के निर्देशन में थाना उतई की त्वरित कार्यवाही करते हुए धोखाधड़ी करने वाली तीनों महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया। इसमें कांति बाई वर्मा निवासी ग्राम खोपली के लिखित आवेदन प्रस्तुत किया कि छग नवरंग कला निकेतन पतोरा की प्राचार्य एवं उनके दो अन्य सहयोगी के द्वारा प्रार्थिया के दो लड़कों को नौकरी के एवज में दो वर्ष पूर्व 500000 रुपए लिया है एवं रकम दोगुना करने के एवज में 20,00,000 रुपए धोखाधड़ी कर लिया है। आरोपी के द्वारा कहा गया कि हमारी संस्था छग सरकार व इंदिरा संगीत विश्वविद्यालय खैरागढ़ से मान्यता प्राप्त है और ओम सांई फैंसी ड्रेस का बहुत बड़ा व्यवसाय है। हम आपका पैसा एक साल में दोगुना कर देंगे बताकर पैसे की मांग किए। प्रार्थिया द्वारा ग्राम बीसी समिति से ब्याज में पैसा लेकर 10 लाख रुपए एवं 10 लाख रिश्तेदारों से लेकर आरोपियों को दिया है। प्रार्थिया के रिपोर्ट पर थाना उतई में अपराध दर्ज किया गया है।

 

03-06-2020
स्वप्निल को मिला स्वरोजगार का अवसर

रायपुर। शासन की विभिन्न योजनाओं के माध्यम से युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध हो रहे हैं। सरकार युवाओं को स्वरोजगार एवं नौकरी के लिए कई कार्यक्रम चलाकर प्रशिक्षित कर रही है। जगदलपुर शहर के युवा स्वप्निल खेंडुलकर के सपने तब उड़ान भरने लगे जब उन्होंने खुद का एक फ्लेक्स प्रिटिंग व्यवसाय को प्रारंभ किया। उन्हें जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र द्वारा संचालित ’प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना’ अंतर्गत लाभ मिला है। स्नातक की उपाधि प्राप्त स्वप्निल का व्यवसाय प्रारंभ में फोटो स्टुडियो का रहा है। ऑफसेट प्रिटिंग एवं फ्लेक्स प्रिटिंग के वर्तमान में मांग के आधार पर उन्होंने इसकी इकाई स्थापित करने का निश्चय किया। इकाई स्थापना में वित्त की समस्या थी इसी बीच उन्हें शिक्षित बेरोजगार युवाओं के लिए संचालित प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना की जानकारी अपने मित्र के माध्यम से मिली।

बैंक द्वारा साक्षात्कार उपरांत संतुष्ट होकर फ्लेक्स प्रिटिंग के लिए 10 लाख 60 हजार का ऋण प्रदान किया है और उद्योग विभाग द्वारा 1 लाख 60 हजार 305 राशि का अनुदान भी प्राप्त हुआ। स्वप्निल कम्प्यूटर साईस में स्नातक होने के कारण कम्प्यूटर डिजाईनिंग एवं अन्य कार्य स्वयं करते है। कुछ समय बाद इस व्यवसाय के साथ उन्होंने ऑफसेट प्रिटिंग मशीन की भी स्थापना की,जिससे एक छत के नीचे प्रिटिंग कि सभी सुविधा उपलब्ध हो गई। उन्होंने व्यवसाय में सहयोगी के रूप में 7 व्यक्तियों को रोजगार दिया है और नियमित रूप से बैंक का किश्त पटा रहे हैं। वर्तमान में इनका वार्षिक टर्नओवर लगभग 18-20 लाख है।

01-06-2020
नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने वाले को पुलिस ने किया गिरफ्तार

राजनांदगांव। नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने वाले को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ठगी करने वाले ने तीन लोगों को रेलवे में नौकरी लगाने के नाम पर 10 लाख के उपर की ठगी को अंजाम दिया। इसकी रिपोर्ट थाना बसंतपुर में प्रार्थी ईश्वर चंद्राकर उम्र 25 वर्ष निवासी मोहड ने़ दर्ज कराई। रिपोर्ट के आधार पर थाना बंसतपुर नेके अपराध क्रमांक 37/ 20 धारा 420 भादवी में आरोपी सत्येंद्र सिंह उम्र 39 वर्ष निवासी पदमनाभपुर को सोमवार को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा। प्रार्थी ने बताया कि आरोपी सत्येंद्र सिंह ने उससे साढ़े तीन लाख रुपए लिए और नौकरी नहीं लगाई। उसका रायपुर में इंटरव्यू भी हुआ था। इसी प्रकार आरोपी सत्येेंद्र सिंह ने मनीष साहू और सुमित साहू से भी नौकरी लगाने के नाम से रुपये लिए थे। आरोपी ने कुल 10.30 लाख रुपए तीनों प्रार्थी से लिए और रकम मांगने पर वापस नहीं की। आरोपी अपने आप को वकील बताता है। पुलिस ने बताया कि इसके अलावा सत्येंद्र सिंह ने सुरगी क्षेत्र से और भी कई लोगों से पैसा लिया हुआ है तथा नौकरी नहीं लगाई।

 

20-05-2020
एयरपोर्ट में नौकरी लगाने के नाम पर लाखों की ठगी, मामला दर्ज

रायपुर। एयरपोर्ट में ग्राउंड होल्डिंग के पद पर नौकरी लगाने के ​नाम पर लाखों रुपए की ठगी का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार प्रार्थी नोहर कुमार सिन्हा निवासी कोटे कोहरा छुरिया राजनांदगांव को एयरपोर्ट में ग्राउंड हेल्डिंग के पद पर नौकरी लगाने के नाम पर आरोपी उमेश बारले ने दो लाख रुपये की ठगी की है। प्रार्थी द्वारा बार—बार संपर्क करने पर आरोपी ने मोबाइल बंद कर दिया। इसके बाद नोहर ने राखी थाना पहुंचकर मामले की शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 420 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

20-05-2020
रेलवे में नौकरी के नाम पर लाखों की ठगी, मामला दर्ज

रायपुर। रेलवे में टेक्नीशियन के पद पर नौकरी लगाने के नाम लाखों रुपए की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार मामला राखी थाने का है। उमेश बारले ने लक्ष्मीनारायण धृतलहरे को रेलवे टेक्निशियन ग्रुप-डी में नौकरी लगाने का झांसा देकर उससे 4 लाख 10 हजार रुपए की धोखाधड़ी की है। मामले की शिकायत पर राखी थाना पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर लिया है।

16-05-2020
आनंद महिंद्रा ने किया सेना में तीन साल ट्रेनिंग की पहल का समर्थन,कहा-हमारी कंपनी देगी जॉब


नई दिल्ली। उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने युवाओं को सेना में तीन साल तक सेवा देने संबंधी प्रस्ताव का समर्थन किया है। केवल इतना ही नहीं महिंद्रा ने भारतीय सेना को ईमेल लिखकर कहा है कि यदि ऐसा किया जाता है तो सेना में तीन साल तक 'टूर ऑफ ड्यूटी' करके आने वाले युवाओं को उनके समूह में नौकरी देने में तरजीह दी जाएगी।सेना को लिखे ईमेल में महिंद्रा ने लिखा, हाल ही में मुझे पता चला है कि भारतीय सेना 'टूर ऑफ ड्यूटी' संबंधी नए प्रस्ताव पर विचार कर रही है। इसके तहत युवाओं, फिट नागरिकों को स्वैच्छिक आधार पर सेना के साथ बतौर जवान या अफसर के तौर पर जुड़कर ऑपरेशनल एक्सपिरियंस (संचालन अनुभव) लेने का मौका मिलेगा। महिंद्रा ने लिखा, मुझे इस बात का पूरा यकीन है कि टूर ऑफ ड्यूटी के तौर पर सैन्य प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद जब वे कार्यस्थल पर आएंगे तो यह काफी फायदेमंद साबित होगा।

भारतीय सेना में चयन और प्रशिक्षण के सख्त मानकों के मद्देनजर सैन्य प्रशिक्षण लेने वाले युवाओं को महिंद्रा समूह नौकरी देने पर विचार करेगा। दरअसल, नागरिकों में देश सेवा की भावना बढ़ाने और आम लोगों को भारतीय सेना से जोड़ने के लिए टूर ऑफ ड्यूटी का प्रस्ताव लाने पर विचार किया जा रहा है। यदि यह प्रस्ताव पारित हो जाता है तो ये देश के इतिहास में एक बड़ा क्रांतिकारी कदम होगा। इसके तहत युवाओं को तीन साल के लिए देश सेवा का मौका दिया जाएगा,जिससे सेना को अरबों रुपये की बचत होगी।फिलहाल इस प्रस्ताव पर शीर्ष सैन्य अधिकारियों के बीच मंथन चल रहा है, लेकिन सैन्य प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद के मुताबिक, यदि इसे मंजूरी मिलती है तो पहले चरण में टेस्ट प्रोजेक्ट के तौर पर 100 अधिकारियों व 1000 जवानों की भर्ती की जाएगी।

शुरुआत में ट्रायल के आधार पर टूर ऑफ ड्यूटी के तहत 100 अफसरों और एक हजार जवानों को सेना में तीन साल के कार्यकाल के लिए रखने की योजना है।इसके जरिए भारतीय सेना देश के बेहतरीन प्रतिभा को अपने कुनबे में शामिल करना चाहती है। वर्तमान में शॉर्ट सर्विस कमिशन के जरिए सेना में शामिल होने वालों को कम से कम 10 साल नौकरी करनी होती है। सेना के शीर्ष अधिकारी शॉर्ट सर्विस कमिशन के प्रावधानों की भी समीक्षा कर रहे हैं जिससे कि युवाओं के लिए इसे ज्यादा आकर्षक बनाया जा सके।

16-05-2020
पत्नी ने लगा ली आग, बचाने गया पति भी झुलसा, दोनों की हालत गंभीर

भिलाई। आर्थिक तंगी और बेरोजगारी के कारण रोज पति और पत्नी में विवाद होता था। भिलाई 3 थाना अंतर्गत शुक्रवार को पति-पत्नी में विवाद के बाद गुस्से में आकर पत्नी ने अपने ऊपर मिट्टी तेल डालकर आग लगा ली। पत्नी को जलता देख पति जब बचाने गया तो वह भी आग से झुलस गया। मोहल्लेवासियों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंचकर दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया है।पुलिस के अनुसार लॉक डाउन के कारण पति बेरोजगार हो जाने से आर्थिक तंगी के चलते रोज घर में विवाद होता था। भिलाई 3 पुलिस ने बताया कि एकता नगर भिलाई 3 निवासी खिलावन वर्मा (43साल) नागपुर में नौकरी करता है। वह 21 मार्च को भिलाई अपने घर आ गया था। लेकिन लोक डाउन के चलते वह नौकरी पर नहीं जाने से बेरोजगार हो गया था। आर्थिक तंगी चलते पति पत्नी के बीच आए दिन विवाद होता था।

बीते रोज भी इसी बात को लेकर खिलावन वर्मा अपनी पत्नी नीलू वर्मा (40साल) से भी बात करने लगा। दोनों के बीच विवाद के चलते पत्नी ने अपने ऊपर मिट्टी तेल डालकर आग लगा ली। अपनी पत्नी को जलता देख खिलावन उसे बचाने गया तो वह भी झुलस गया। मोहल्ले वालों ने आनन-फानन में इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंचकर दोनों को सेक्टर-9 अस्पताल में भर्ती कराया है। बर्न यूनिट प्रभारी डॉ.उदय कुमार ने बताया कि दोनों पति पत्नी 80 फ़ीसदी से ज्यादा झुलस गए हैं। दोनों की ही स्थिति गंभीर है।

14-05-2020
नौकरी के नाम पर युवकों से ठगी, एक गिरफ्तार एक फरार 

राजनांदगांव। प्रार्थी देवेश वर्मा पिता ललित वर्मा उम्र 25 वर्ष निवासी बरबसपुर थाना घुमका ने रिपोर्ट करवाई है कि उसके और अन्य आठ साथियों का आरोपी आकाश यादव निवासी स्टेशन पारा ने टाइपिंग कंपनी में काम दिलाने को लेकर सिक्योरिटी अमाउंट ले लिया। उसके बदले में टाइपिंग करने वाले को 9000 तथा नान टाइपिंग स्टाफ को 6000 रुपये वेतन देने का आश्वासन दिया। प्रत्येक को पांच कैंडिडेट जोड़ने का निर्देश देकर चैनल बनाकर और कैंडिडेट जुड़वाया।

इसके बाद लगभग 9 लोगों से और उनके अन्य कैंडिडेट का सिक्योरिटी मनी लगभग 40 लाख रुपए जमा करने के बाद वेतन देना बंद कर दिया और फरार हो गया। आरोपी आकाश यादव ने चिखली में एक सुसाइड नोट भी छोड़ा जिसमें गुम इंसान पंजीबद्ध कर जांच में लिया गया है। आरोपी आकाश यादव का पार्टनर शाहरुख खान गौरी नगर राजनांदगांव इस के अकाउंट में एनईएफटी के माध्यम से 1 लाख 40 हजार प्रार्थीओं ने जमा किया था को सहयोगी के रूप में बुधवार को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया मामले का मुख्य आरोपी आकाश यादव फरार है, जिसकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है।

14-04-2020
तीन मई तक बढ़ाया गया लॉक डाउन : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

दिल्ली/रायपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉक डाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया है। उन्होंने कहा है कि जिस अनुशासन से हमने कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ी है उससे कोरोना से होने वाले नुकसान को तो हमने सीमित कर लिया है लेकिन उसका पूरी तरह खात्मा करने के लिए अभी लॉक डाउन की और जरूरत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा है कि जहां कोरोना का खतरा कम नजर आ रहा है उन राज्यों की स्थितियों का सूक्ष्म निरीक्षण करने के बाद 20 अप्रैल के बाद कोई छूट देने पर विचार किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साफ-साफ कहा है कि बाहर निकलने के नियम बहुत सख्त होंगे। उन्होंने यह भी कहा है कि लॉक डाउन की तमाम गाइडलाइन केंद्र सरकार कल जारी करेगी। उन्होंने मास्क का उपयोग अनिर्वाय रूप से करने कहा और सोशल डिस्टेंसिंग का भी सख्ती से पालन करने की हिदायत दी। बुजुर्गों का ख्याल रखे। गरीब व उनके परिवार की मदद करें। किसी को नौकरी से न निकाले। कोरोना से जंग लड़ रहे योद्धाओं का सम्मान करें। उन्होंने सात बातों के लिए देशवासियों से साथ मांगा और कहा जंहा है व​हीं रहे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804