GLIBS
20-02-2020
किसी और से सगाई करने वाली प्रेमिका की बेवफाई से निराश प्रेमी ने दुनिया ही छोड़ दी

रायपुर। शहर से लगे अभनपुर क्षेत्र में युवक ने अपनी प्रेमिका की सगाई दूसरें से होने के गम में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने घटना की जांच शुरू कर दी है। थाने से मिली जानकारी के मुताबिक 23 वर्षीय धनेंद्र साहू का एक युवती से प्रेम संबंध था। बीते दिन युवती की किसी और युवक से सगाई हो गई। दुखी होकर धनेंद्र ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दिया है।


 

 

23-01-2020
बांध में मिली थी पत्थर बंधी लाश, प्रेमिका और नाबालिग सहित 5 आरोपी गिरफ्तार

कोरबा। एक माह से लापता ग्रामीण की पत्थर बंधी लाश मिलने के मामले को आखिरकार सुलझा लिया गया। उसकी हत्या प्रेमिका ने अपने परिजनों सहित जिसमें नाबालिग भाई भी शामिल है उसके साथ मिलकर की थी और लाश को ठिकाने लगा दिया था। रजगामार पुलिस चौकी अंतर्गत रजगामार बस्ती निवासी कृष्ण कुमार पिता सेधुराम कंवर 35 वर्ष 10 दिसंबर 2019 की दोपहर से कहीं लापता हो गया था। उसकी गुमशुदगी की सूचना सेधुराम पिता भूखाराम 55 वर्ष ने रजगामार चौकी में दर्ज कराई थी। पिछले दिनों 16 जनवरी को श्यांग थाना अंतर्गत ग्राम लबेद के दतार बांध में पत्थर से बंधी एक लाश स्थानीय लोगों ने देखी व इसकी सूचना पुलिस को दी। कमर में पत्थर बांधकर फेंकी गई इस अज्ञात लाश की शिनाख्त लबेद के कोटवार साधराम के साथ पहुंचकर सेधुराम ने अपने पुत्र कृष्ण कुमार के रूप में की। श्यांग पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया जिसकी रिपोर्ट के आधार पर अज्ञात आरोपियों के विरूद्ध षड़यंत्र पूर्वक हत्या एवं साक्ष्य छिपाने के जुर्म में धारा 302, 201 एवं 120 बी भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध किया।

पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह मीणा, एएसपी उदयकिरण के मार्गदर्शन में सुलझा लिया गया। जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय सभाकक्ष में कोरबा सीएसपी राहुल देव शर्मा ने मामले का खुलासा किया। बताया गया कि रजगामार निवासी एवं विवाहित कृष्ण कुमार का प्रेम संबंध ग्राम लबेद निवासी एक युवती से था। युवती की शादी दूसरे से तय हो चुकी थी और सगाई भी हो गई थी कृष्ण कुमार युवती को छोड़ने के लिए तैयार नहीं था लेकिन युवती अपने विवाह को लेकर गंभीर थी। युवती ने कृष्ण कुमार को अपने से दूर रहने के लिए कहा पर वह मान नहीं रहा था। आखिरकार उसने अपने पिता मोहनदास, मामा इतवार दास व पिता के मित्र मंशाराम महतो को सारी बात बताई। इसके उपरांत कृष्ण कुमार को युवती से दूर करने के लिए योजनाबद्ध तरीके से उसके माध्यम से कृष्ण कुमार को 10 दिसंबर को फोन कर गितकुमारी व लबेद के जंगल में मिलने के लिए बुलाया। कृष्ण कुमार जैसे ही वहां पहुंचा, तो वहां पहले से मौजूद लोगों ने मिलकर उसे जमीन पर गिराया और गमछे से गला घोंटकर मार डाला। इसके बाद मोटरसाइकिल मे शव को लेकर दतार बांध पहुंचे और कमर में बड़ा सा पत्थर बांधकर शव को पानी में फेंक दिया। लगभग 36 दिन बाद जब शव पानी की सतह पर आया तब यह मामला उजागर हुआ। पुलिस ने साइबर सेल की मदद से कृष्ण कुमार के कॉल डिटेल एकत्र कर प्रेमिका युवती को हिरासत में लिया। कड़ी पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूल कर हत्या में शामिल अपने नाबालिग भाई, पिता, पिता के मित्र और मामा के नाम भी उगले। 

 

03-01-2020
लिव इन में रह रहे प्रेमी ने प्रेमिका को उतारा मौत के घाट, फिर खुद झूला फांसी के फंदे पर

रायपुर। शहर के पचपेढ़ी नाका क्षेत्र में युवक ने प्रेमिका को चाकू से छल्ली-छल्ली कर मौत के घाट उतार दिया। प्रेमिका के मौत के बाद युवक खुद भी फांसी पर झूल गया। सूचना के बाद घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव को बरामद कर लीया है। मिली जानकारी के अनुसार दोनो प्रेमी-प्रेमिका किराए के कमरे में रहते थे। दोनों शहर के एक होटल में वेटर का काम करते थे।  बताया जा रहा है कि दोनो के बीच कहा सुनी इतनी बढ़ गई कि आरोपी प्रेमी ने घर मे रखे सब्जी काटने वाले चाकू से प्रेमिका पर लगातार वारकर मौत के घाट उतार दिया। प्रेमिका की मौत के बाद उसने खुद भी फांसी के फंदे पर झूलकर आत्महत्या कर ली। स्थानीय रहवासियों ने मामले की सूचना टिकरापारा थाना पुलिस को दी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अंबेडकर अस्पताल भेजा है।

 

 

23-12-2019
तन्दूर बना समाज, शैतान भी शर्मा जाए इंसानी क्रूरता से, जिंदा जला दिया युवती को, कैसे बर्दाश्त हुई होंगी चीखे उसकी

रायपुर। शैतान भी शरमा जाएगा इंसानी क्रूरता को देखकर। जैसे मुर्गी/मछली भूनते हैं वैसे एक युवती को जिंदा भून दिया गया। युवती का दोष इतना वह अपने प्रेमी से मिलने उसके घर गई थी। और उसकी बस इतनी सी गलती पर उसके प्रेमी के रिश्तेदारों ने उसे मिट्टी तेल डालकर जला दिया। थोड़ा सा गर्म पानी भी बर्दाश्त नहीं होता इंसानी शरीर को। थोड़ी सी तापमान की गर्मी बर्दाश्त नहीं होती है। गर्म हवा तक बर्दाश्त नहीं होती है। सोचिए उस युवती ने कैसे बर्दाश्त किया होगा अग्निस्नान को? कितना चिखी होगी? कितना तड़पी होगी वह जान बचाने के लिए? कितना संघर्ष किया होगा उसने? और हैरानी की बात देखिए उसे जलाने वाले उसके प्रेमी के मां-बाप और भाभी तमाशा देखते खड़े रहे। उन्हें जरा भी दया नहीं आई। उन्हें जरा भी दर्द महसूस नहीं हुआ। क्या यह इंसान होने का प्रमाण है? क्या यह शैतान होने का सबूत नहीं है? क्या ऐसी हैवानियत कभी किसी ने सोची होगी? एक युवती को जिंदा जला देना और उसे बचाने की कोशिश भी नहीं करना हैवानियत की सारी हदें पार करता है। और यह पहला मामला नहीं है। राजधानी के करीब इससे पहले भी एक प्रेमी ने नकटी गांव की राइस मिल के पीछे अपनी प्रेमिका और उसके बच्चे को जला कर फेंक दिया था। जबलपुर में भी एक युवती को छेड़छाड़ के विरोध करने पर जिंदा जला देने की जानकारी सामने आ रही है। क्या समाज अब तंदूर हो गया है? क्या बेटियां ऐसे ही भून दी जाएंगी? क्या ऐसे राक्षस समाज को कलंकित करते रहेंगे? क्या इंसानियत ऐसे ही शर्मसार होती रहेगी? या फिर ऐसे लोगों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करना जरूरी हो गया है।

02-11-2019
40 साल के प्रेमी ने 15 साल की प्रेमिका के साथ खाया जहर, परिजनों ने युवक पर लगाए गंभीर आरोप

नई दिल्ली। प्यार में लोग अंधे हो जाते है ये कहावत तो आप सबने सुनी ही होगी, लेकिन आज हम आपको एक ऐसी खबर के बारे में बताने जा रहे है जिसे पढ़ और सुनकर आपके पैरो टेल जमीन खिसक जाएगी। दरअसल खीरी के मैलानी थाना क्षेत्र में रहने वाला 40 वर्षीय मुकेश अपने ही गांव की 15 वर्षीय युवती से प्यार करता था। लेकिन अंतर्जातीय और मुकेश के शादीशुदा होने के कारण किशोरी के घरवालों को यह मंजूर नहीं था। बताया जा रहा है कि मुकेश किशोरी को अपने साथ भगा ले गया और कुछ देर बाद दोनों ने जहर खा लिया। इससे प्रेमिका की मौत हो गई। उसका शव गांव के बाहर पड़ा हुआ पाया गया। जबकि प्रेमी की हालत नाजुक है। उसे पीएन सिंह अस्पताल पूरनपुर में भर्ती कराया गया है। किशोरी के परिजन युवक पर बलात्कार कर हत्या किए जाने का आरोप लगा रहे हैं। पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस किशोरी के शव का पोस्टमार्टम करवा रही है।

बता दें कि गांव से करीब डेढ़ किलोमीटर दूर एक मचान के पास किशोरी का शव पड़ा मिला। मुकेश बेसुध हालत में पड़ा था। उसके घरवाले मुकेश को उठा ले गए और उसे पीएन सिंह अस्पताल पूरनपुर जिला पीलीभीत में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। इधर किशोरी के परिजनों ने पुलिस को कोई सूचना नहीं दी।

किशोरी के भाई हरियाणा में काम करते हैं। वह बीते गुरुवार की रात घर आ गए। तब कहीं जाकर शुक्रवार की सुबह पुलिस को सूचना दी गई। सूचना पाकर सीओ गोला आरके वर्मा फोर्स के साथ मौके पर पहुँच गए। किशोरी के परिजन आरोप लगा रहे हैं कि बुधवार की रात करीब दो बजे मुकेश उसे उठा ले गया और गांव के बाहर ले जाकर उसके साथ रेप किया फिर हत्या कर दी। परिजनों ने पुलिस को तहरीर दी है। तहरीर के आधार पर पुलिस मुकदमा दर्ज करने की तैयारी में है।

 

23-09-2019
फौजी ने प्रेमिका को पैसे देने अपने ही घर में कर डाली चोरी

कांकेर। हल्बा चौकी अंतर्गत हाराडुला के फौजी युवक ने अपनी प्रेमिका को पैसे देने अपने ही घर में चोरी कर डाली। जानकारी के अनुसार हाराडुला निवासी प्रकाश जुर्री पिता रघुनाथ (38) ने हल्बा चौकी में रिपोर्ट दर्ज करायी थी कि 21 सितंबर की दरम्यिानी रात उसके घर में अज्ञात चोर ने घुसकर लोहे  की पेटी में रखा 1 नग चांदी का सुत्ता, 2 नग सोने का खिनवा, 1300 के सिक्के सहित नगदी 50 हजार की चोरी कर ली है। पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ  जुर्म पंजीबद्ध कर लिया और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर, एसडीओपी आकाश मरकाम, हल्बा चौकी प्रभारी पुरुषोत्तम कुर्रे, सायबर सेल प्रभारी होम नागरची, डॉग स्क्वायड प्रभारी प्रभुलाल जैन, दिलीप जेठवा की टीम जांच के लिए मौके पर पहुंची। जांच के दौरान डॉग स्क्वायड  द्वारा ट्रेकर डॉग बेला से घटनास्थल का ट्रेकर करवाया गया तो डॉग घटनास्थल से निकलकर प्रार्थी के मकान के पीछे करीब 100से 150 मीटर दूर तालाब के पार के चक्कर लगाकर वापस मकान में आकर प्रार्थी के भाई आरोपी व्यासकुमार जुर्री के पास आ जाता था। डॉग ने ये प्रक्रिया दो बार की जिसके बाद पुलिस के शक की सुई व्यासकुमार पर टिक गयी। पहले तो आरोपी अनाकानी करने लगा लेकिन पुलिस द्वारा सख्ती से पूछताछ करने पर उसने अपनी कृत्य कबूल कर लिया। यहां यह बताना लाजमी है कि चोरी का आरोपी फौजी अपने बड़े भाई के साथ रिपोर्ट लिखाने हल्बा चौकी पहुंचा था। परिजनों को थोड़ा भी संदेह नहीं था कि वह चोर निकलेगा। आरोपी ने बताया कि जब घर के सभी लोग सो गये तो अपनी महिला मित्र को पैसे देने अपनी मां के कमरे में घुसा और वहां लोहे की पेटी को उठाकर घर के पीछे शीतला तालाब के पास ले गया। वहां र्इंट से पेटी का कुंदा तोड़ा फिर उसमें रखी नगदी व गहने निकाल लिये। खाली पेटी को वहीं छुपाकर रख दिया। फिर दूसरे दिन स्वयं भाई के साथ रिपोर्ट लिखाने हल्बा चौकी पहुंचा। आरोपी व्यासकुमार ग्वालियर में फौज में है। कुछ दिनों पहले ही वह छुट्टी पर अपने घर हाराडुला आया था। उसने पुलिस को बताया कि उसकी पे्रमिका का भाई बीमार था। उसके इलाज के लिए प्रेमिका ने उससे 50 हजार रुपए उधार मांगे थे। आरोपी युवक ने चोरी करने के बाद 36 हजार रुपए युवती को दे दिया था जबकि 14 हजार रुपए उसने अपने पास रखे थे। पुलिस ने गहनों सहित रुपए बरामद कर लिए हैं। आरोपी ने पुलिस को यह भी बताया कि छुट्टी पर घर आने के बाद घर में पैसे दिये थे। जिसे मांगने में उसे संकोच लगा।  इस संबंध में हल्बा चौकी प्रभारी पुरुषोत्तम कुर्रे ने बताया कि आरोपी को घर में रुपए मांगने में तो संकोच लगा पर चोरी करने में संकोच नहीं? आरोपी युवक फौज में नौकरी करता है। उसने अपने महिला मित्र को पैसे देने चोरी करना बताया है। गिरफ्तार कर उसके कब्जे से गहने व नगदी बरामद की गई है। उसे जेल भेज दिया गया है।  

नरेश भीमगज की रिपोर्ट

23-08-2019
होटल में प्रेमिका के साथ रंगरलिया मना रहा था पति, पत्नी ने किया यह हाल

बिलासपुर। जशपुर के एक आरक्षक का शादीशुदा बेटा अपनी पत्नी को छोड़कर गर्लफ्रेंड के साथ रंगरलिया मनाते हुए बिलासपुर में रंगेहाथों पकड़ा गया। पत्नी को अपने पति पर कई दिनों से शक था। बिलासपुर में अपने पति के गर्लफ्रेंड के साथ रहने की जानकारी लग गई। वह अपने घरवालों के साथ बिलासपुर पहुंची और पति और उसकी प्रेमिका को पकड़ लिया। इसके बाद पत्नी और उसके घरवालों ने दोनों की जमकर धुनाई की। जानकारी के अनुसार जशपुर निवासी आरक्षक-पुत्र प्रीतम की शादी दो साल पहले हुई थी। प्रीतम का जशपुर की ही एक युवती से प्रेमप्रसंग था। शादी के बाद इसकी जानकारी उसकी पत्नी को भी हो गई। कई बार मना करने के बाद भी जब प्रीतम नहीं माना तो पत्नी ने पति पर नजर रखना शुरू कर दिया। बताया जा रहा है कि घटना के एक दिन पहले प्रीतम बहाना बनाकर जशपुर से निकला था। उसके बाद उसकी प्रेमिका भी थी। बिलासपुर में प्रीतम ने प्रेमिका के लिए तोरवा क्षेत्र के एक होटल में कमरा बुक कराया था। प्रीतम वहां पहुंचा। परिवारवालों से बचने के लिए उसने अपना मोबाइल बंद कर दिया था। इस बीच पत्नी ने उसकी पतासाजी की। जैसे ही उसे भनक लगी कि उसका पति होटल में अपनी प्रेमिका के साथ है तो वह देर रात परिजनों को लेकर बिलासपुर पहुंची और होटल पहुंच गई। वहां पति (प्रीतम) और युवती मौजूद थे। इसके बाद सबने मिलकर दोनों की धुनाई शुरू कर दी और फिर बाद में दोनों को पुलिस के हवाले कर दिया। इस पूरे मामले में पूछे जाने पर बिलासपुर एएसपी संजय ध्रुव ने बताया कि शिकायतकर्ता पत्नी और उसके परिवार वालों ने तोरवा थाने में समझौता करा लिया है। 

 

08-08-2019
प्रेमी ने की प्रेमिका की हत्या, शव को फेंका झाड़ियों में, पुलिस ने धर दबोचा आरोपी को

सूरजपुर। जिले के विश्रामपुर थाना क्षेत्र के माइनस कालोनी में हुई हत्या खुलासा किया हैं और आरोपी को पकड़ कर जेल भेजा है। पुलिस ने हत्या के आरोपी को 48 घण्टे के अंदर गिरफ्तार कर रिमांड में जेल भेज दिया हैं। मिली जानकारी के अनुसार 5 अगस्त को अमर सिंह ने रात्रि में थाना आकर रपट लिखवाया कि उसकी मुंहबोली बहन राजकुमारी का शव रेलवे पटरी के पास एसईसीएल नर्सरी माईनस कालोनी विश्रामपुर झाड़ी में पड़ा है। पुलिस ने रिपोर्ट पर मर्ग क्रमांक 53/19 चाक कर पंचनामा कार्यवाही में लिया। पुलिस ने पीएम रिपोर्ट के अवलोकन पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध धारा 302, 201 तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया। पुलिस ने जांच में पाया कि आरोपी फिलमोन मिंज व मृतिका के मध्य अवैध संबंध था। मृतिका आरोपी के अलावा अन्य लोगों से भी अवैध संबंध था, जो आरोपी को नागवार था। घटना दिवस पर आरोपी ने अन्य आदमियों के साथ संबंध बनाने की बात को लेकर मृतिका के साथ विवाद किया। विवाद बढ़ने पर आरोपी आवेश में आकर वहीं पड़े पत्थर को उठाकर मृतिका राजकुमारी के सिर में संघातिक प्रहार कर हत्या कर दिया तथा शव को झाड़ियों में फेंक दिया। पुलिस ने प्रकरण की विवेचना दौरान आरोपी के मेमोरण्डम पर घटनास्थल से घटना में प्रयुक्त पत्थर तथा उसके घर से घटना दिवस को पहने कपड़े को जब्त किया। आरोपी फिलमोन मिंज के विरूद्ध को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया है। बता दें कि विश्रामपुर थाना प्रभारी कपिलदेव पांडे ने इसी सप्ताह लाखों के अवैध कबाड़ की खेप पकड़ा था। साथ ही थाना प्रभारी द्वारा क्षेत्र में अवैध नशीली दवाई, अन्य  नशीली पदार्थ के बिक्री की सूचना पर कार्यवाही की जा रही है। 

 

13-06-2019
पत्नी को पता चला सौतन के बारे में तो जमकर मचा बवाल, पति ने गुस्से में उठाई बंदूक और... 

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली के पास नोएडा में ऐसा हादसा हुआ जिसने हर किसी को हैरान कर दिया। नोएडा में सौतन का विरोध करने पर फौजी ने पत्नी को गोली मार दी। गंभीर हालत में उसको अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस उपाधीक्षक (ग्रेटर नोएडा) अमित किशोर श्रीवास्तव ने बताया कि थाना दनकौर क्षेत्र के गांव देवटा के रहने वाले शिव कुमार भारतीय सेना में तैनात हैं। उनकी तैनाती फिलहाल असम में है। छुट्टियों में शिव कुमार घर आया हुआ है। मंगलवार रात को उसकी पत्नी रिंकी से उसका विवाद हो गया। रिंकी का आरोप है कि उसके पति ने पायल नाम की एक महिला को दूसरी पत्नी के रूप में रखा है।

विवाद इतना बढ़ा की फौजी ने अपनी लाइसेंसी पिस्तौल से पत्नी पर गोली चला दी। गोली उसके पैर में लगी है। सीओ ने बताया कि इस मामले में शिव कुमार व उसकी प्रेमिका पायल के खिलाफ हत्या के प्रयास का मुकदमा थाना दनकौर में दर्ज हुआ है। घटना की रिपोर्ट दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804