GLIBS
14-06-2021
पुलकित सम्राट ने सुशांत सिंह राजपूत की पुण्यतिथि पर दिल पसीजने वाला मैसेज पोस्ट किया

रायपुर/मुंबई। पिछले साल 14 जून को दुनिया और समय जैसे पूरी तरह थम गया था, जब टैलेंटेड और यंग एक्टर, एसएसआर ने अपनी जान ले ली और सभी को सदमे, उदासी और दहशत की स्थिति में डाल दिया। एक एक्टर, जो इस खबर के बाद भावनात्मक रूप से खालीपन महसूस करता है, वह है पुलकित सम्राट। दोनों ही युवा एक सूटकेस और सपनों का बैग लेकर बॉलीवुड की प्रतिस्पर्धी दुनिया को जीतने की उम्मीद के साथ मुंबई आए थे। हालाँकि, इन दोनों में से एक की यात्रा बीच में ही खत्म हो गई, जिसका कारण आज तक कोई भी नहीं जान पाया है। अपने सोशल मीडिया के माध्यम से फुकरे स्टार कहते हैं, "दुनिया को आपको खोए हुए एक साल हो गया है, और मेरा दिमाग बार-बार उस समय के पन्ने पलट देता है, जब हम एक अवॉर्ड फंक्शन में एक-दूसरे से मिले थे। हमने हाथ मिलाया और अपने-अपने रास्ते चले गए। यादें, भावनाओं को जगाने का एक अजीब तरीका है। मुझे अभी-भी याद है जब मैंने यह खबर सुनी कि आप नहीं रहे, यह वास्तव में खुद को खो देने की तरह लगा। उस दिन की याद आज फिर से मुझे भावुक कर गई।"


वे आगे कहते हैं, "दुनिया ने आपको खो दिया, लेकिन आप अभी-भी उन लोगों के लिए एक प्रेरणा के रूप में मौजूद हैं जो बड़े सपने देखने की हिम्मत करते हैं। आप हर छोटे शहर के व्यक्तियों की आशाओं और आकांक्षाओं में मौजूद हैं, जो इसे पूरा करने का सपना देखते हैं। आप उन सभी के लिए मौजूद हैं, जो यह मानते हैं कि मनुष्य दया करने में सक्षम हैं। आप उन सभी के लिए मौजूद हैं, जो सपने देखने की हिम्मत करते हैं। मुझे इस जीवन में आपको जानने का कभी मौका नहीं मिल पाया, लेकिन यदि हम एक से अधिक बार जीते हैं, तो मैं फिर से उस दुनिया का हिस्सा बनना चाहता हूँ, जहाँ आप मौजूद हैं, एक ऐसी दुनिया जो इससे कहीं ज्यादा दयालु हो। सुशांत सिंह राजपूत, आपको हमेशा याद रखा जाएगा।"
यह एक वर्ष, जो लगभग सभी के लिए दुखद रहा है, जो देश में मृत्यु और निराशा से घिरा रहा। 14 जून का दिन हमेशा एसएसआर से जुड़े सभी लोगों के लिए काला दिन होगा। पुलकित की पोस्ट निश्चित रूप से इस बात पर प्रकाश डालती है कि एसएसआर को हमेशा याद किया जाएगा।

 

14-06-2021
सुशांत की मौत से सदमे में गई एक्स गर्लफ्रेंड अंकिता लोखंडे की जिंदगी वापस पटरी पर लौटी, सुशांत की बरसी पर कराई पूजा

मुंबई/रायपुर। यादो में जिंदा एक्टर सुशांत सिंह राजपूत को गुजरे सोमवार को एक साल पूरे हो गए हैं। सुशांत की एक्स-गर्लफ्रेंड और को-स्टार रहीं अंकिता लोखंडे भी एक्टर के निधन से सदमे में चली गई थी। समय के साथ अंकिता ने खुद को संभाला और अब उनकी जिंदगी वापस पटरी पर आ गई है। सुशांत की पुण्यतिथ‍ि पर उन्होंने घर में पूजा करवाई है। अंकिता लोखंडे ने सुशांत सिंह राजपूत की पहली पुण्यतिथ‍ि पर घर में यज्ञ-हवन करवाया। उन्होंने इंस्टाग्राम स्टोरी पर इसकी झलक साझा की है। सोशल मीडिया पर उनके साथ बिताए हुए पालो के साथ पोस्ट शेयर की है, जिसमें सुशांत को याद करते हुए कैप्शन में लिखा है "14 जून यह हमारी यात्रा थी !!!! फिर मिलेंगे चलते चलते।"

13-06-2021
अंग्रेजों का विरोध करने वाले क्रांतिकारी नानक भील की पुण्यतिथि आज

रायपुर। अंग्रेजों का विरोध करने वाले क्रांतिकारी विचारों के नानक भील की रविवार को पुण्यतिथि है। 13 जून 1922 को एक किसान सभा के दौरान अंग्रेजों ने उन्हें गोली मार दी थी। उनकी शहादत के बाद अंग्रेजों की शासन व्यवस्था में कुछ परिवर्तन आया और किसानों और आम जनता को राहत मिली और उनमें एक नवजागृति पनपी। अमर शहीद नानक भील की स्मृति में मूर्तियां स्थापित की गई और मेले होता है। बता दें कि अमर शहीद नानक भील का जन्म 1890 ई. में बराड़ के धनेश्वर गांव में हुआ था। इनके पिता का नाम भेरू था। यह बचपन से ही बहादुर निडर साहसी और एक जागरुक व्यक्ति रहे। नानक भील गोविंद गुरु और मोतीलाल तेजावत की ओर से चलाए जा रहे आंदोलन से काफी प्रभावित थे। उन्होंने अपने क्षेत्र में आम किसानों, जनता को अपने अधिकारों और अंग्रेजों से स्वतंत्रता के लिए जागरुकता किया। नानक भील ने अपने क्षेत्र में झंडा गीतों के माध्यम से अंग्रेजों का विरोध किया और अपने क्षेत्र के आम लोगों को अंग्रेजों के खिलाफ विरोध करने के लिए प्रेरित किया। यह अपने झंडा गीतों के माध्यम से लोगों में एक नया उत्साह भर देते थे।

11-06-2021
बैलगाड़ी पर स्कूटी और सिलेंडर रखकर निकले कांग्रेसी, पेट्रोल पंप में ब्लॉक कांग्रेस खरोरा ने किया जोरदार प्रदर्शन

खरोरा। ब्लॉक कांग्रेस कमेटी खरोरा ने शुक्रवार को शहीद विद्याचरण शुक्ल की पुण्यतिथि पर विधायक कार्यालय में श्रद्धांजलि सभा की। स्व.शुक्ल की ओर से छतीसगढ़ व कांग्रेस कार्यकर्ताओं के लिए किए गए असंख्य कार्यों को याद किया गया। विधायक अनिता शर्मा व ब्लॉक अध्यक्ष सौरभ मिश्रा सहित समस्त कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भावभिनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके बाद छतीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी व जिला कांग्रेस कमेटी (रायपुर ग्रामीण) के निर्देशानुसार डीजल-पेट्रोल व रसोई गैस में हुई मूल्य वृद्धि के विरोध में केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ विधायक कार्यालय से इंडियन आॅयल के पेट्रोल पंप कनक फ्यूल्स  रायपुर रोड तक मोदी विरोधी नारे लगाते हुए जुलूस निकाला गया। पेट्रोल पंप में जाकर धरना प्रदर्शन किया गया। जुलूस में बैलगाड़ी पर स्कूटी और गैस सिलेंडर रखकर विरोध दर्ज किया गया।

प्रदर्शन के दौरान पेट्रोल पंप में पेट्रोल भरवाने आए लोगों को नारियल भेंट व तिलक लगाया गया। इतना महंगा पेट्रोल भरवाने के लिए विधायक व ब्लॉक अध्यक्ष ने सभी का सम्मान किया। आज के कार्यक्रम में विधायक अनिता शर्मा, ब्लॉक काँग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सौरभ मिश्रा, वरिष्ठ कांग्रेसी मंडल दास गिलहरे, बलराम नशीने, अरविंद देवांगन, अश्वनी वर्मा, तुलेश्वर साहू, संतोष शाह,धनेश राम वर्मा, बबलू भाटिया, सुरेंद्र गिलहरे, संत नवरंगे,अंबिका बंछोर, सरोजनी वर्मा, खूबी डहरिया, जितेंद्र चंद्राकर, सीता चौहान, फिरोज खान, गोलू यादव, बिसौहा यादव, राजेश स्वामी, राम कुमार साहू, राजेश साहू, किरण ठाकुर, गब्बर नेताम, ओमकार पांडेय, मुकुट राम वर्मा, रेशम वर्मा सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्तिथ थे ।

11-06-2021
विद्याचरण शुक्ल के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता कहा भूपेश बघेल ने, तैलचित्र पर पुष्पाजंलि अर्पित कर किया नमन

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व. विद्याचरण शुक्ल की पुण्यतिथि पर उनके तैलचित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर नमन किया। मुख्यमंत्री ने स्व. विद्याचरण शुक्ल को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि स्व. शुक्ल अनेक वर्षों तक केंद्र में छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व करते रहे, छत्तीसगढ़ के लिए उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। इस दौरान गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर भी उपस्थित थे।

10-06-2021
भूपेश बघेल ने स्व.विद्याचरण शुक्ल की पुण्यतिथि पर किया नमन

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 11 जून को पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व.विद्याचरण शुक्ल को उनकी पुण्यतिथि के अवसर पर विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए नमन किया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि स्व. शुक्ल अनेक वर्षों तक केंद्र में छत्तीसगढ़ का प्रतिनिधित्व करते रहे। छत्तीसगढ़ के लिए उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता।

 

10-06-2021
आदिवासी छात्र युवा संगठन ने वीर शहीद बिरसा मुंडा की पुण्यतिथि मनाई

कांकेर। जिले के पखांजूर क्षेत्र के ग्राम पेनकोड़ो में बिरसा मुंडा की 121वीं पुण्यतिथि पर बिरसा मुंडा के चित्र पर माल्यार्पण कर पंचायत भवन में  शहादत दिवस मनाया गया। इस मौके पर गायता पटेल और आदिवासी छात्र  युवा संगठन के पदाधिकारियों ने वीर शहीद बिरसा मुंडा के पद चिन्हों पर चलने की अपील की। वक्ताओं ने कहा हमें अपनी विरासत एवं कला संस्कृति के साथ जल जंगल जमीन की लड़ाई को जारी रखना होगा। इस अवसर पर आदिवासी छात्र युवा संगठन (ASYU )की सचिव संगीता दुग्गा, विनोद कुमेटी,गायता सोमारू कड़ियाम,सरपंच बसंती कड़ियाम, सुराज़ कड़ियाम, शिवा कड़ियाम, मंगतू कड़ियाम, आयतु गावड़े,मंगतू दुग्गा, ब्रिजलाल कड़ियाम, रामको बाई कड़ियाम, गिन्जा बाई दुग्गा और अन्य ग्रामीण मौजूद थे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804