GLIBS
13-08-2019
मतदाता स्वयं तैयार करेंगे अपनी मतदाता सूची,सत्यापन कार्यक्रम की राजनीतिक दलों ने की तारीफ

रायपुर। भारत निर्वाचन आयोग के निर्वाचक नामावलियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण अर्हता तिथि 1 जनवरी 2020 के पूर्व मतदाताओं के स्वयं सत्यापन के संदर्भ में छत्तीसगढ़ राज्य के सभी राजनीतिक दलों ने कहा है कि यह एक बहुत अच्छी पहल है। इस कार्य से न केवल सक्रियता बढ़ेगी, बल्कि मतदाता सूची में मतदाता स्वयं अपना नाम शुद्ध कर सकेंगे एवं जोड़ सकेंगे। राजनीतिक दलों ने यह कहा है कि पुनरीक्षण के अंतर्गत शुरू होने जा रहा “मतदाता सत्यापन कार्यक्रम“ सराहनीय पहल है। भारत निर्वाचन आयोग के इस विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण अर्हता कार्यक्रम के संदर्भ में ग्राम स्तर के साथ जिला स्तर पर भी वह मतदाताओं को जागरुक करने के लिए प्रचार प्रसार करेंगे।
उल्लेखनीय है कि भारत निर्वाचन आयोग 1 सितंबर 2019 से मतदाता सत्यापन कार्यक्रम का अत्यंत महत्वपूर्ण और महत्वाकांक्षी कार्यक्रम शुरू करने जा रहा है। इसे ध्यान में रखकर आयोग के निर्देशानुसार मंगलवार को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के सभाकक्ष में प्रदेश के राजनीतिक दलों के साथ महत्वपूर्ण बैठक हुई। 

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने आयोग के द्वारा निर्धारित किए गए मतदाता सत्यापन  कार्यक्रम की विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मतदाता सत्यापन कार्यक्रम की प्रक्रिया हेतु जो समय सारणी निर्धारित की गई है वह 1 सितंबर 2019 से 30 सितंबर 2019 तक है। इसके अंतर्गत मतदाताओं की आधारभूत जानकारी का सत्यापन किया जाएगा। मतदाताओं के परिवार की प्रविष्टियों का सत्यापन किया जाएगा। मतदान केंद्रों के जीआईएस मैपिंग संबंधी कार्य किए जाएंगे। वर्तमान मतदाताओं के संपर्क नंबर एकत्र किए जाएंगे। भावी मतदान केंद्रों के संबंध में अभिमत लिये जाएंगे। मतदान केंद्रों की जानकारी एकत्र की जाएगी। भारत निर्वाचन आयोग की मंशा के अनुरूप शुद्ध मतदाता सूची का निर्माण किया जाएगा। मतदाताओं को उपलब्ध कराए जाने वाली संबंधित सेवाओं में सुधार किया जाएगा। मतदाता सत्यापन कार्यक्रम के अंतर्गत मतदाता स्वयं अपनी आधारभूत जानकारी को सत्यापित कर सकेंगे। इसके तहत मतदाता एनवीएसपी, वोटर हेल्पलाइन एप, सीएससी, ईआरओ ऑफिस एवं कॉल सेंटर के राज्य स्तरीय टोल फ्री नंबर 1800-2331-1950 या जिला स्तरीय टोल फ्री नंबर-1950 के माध्यम से स्वयं अपनी आधारभूत जानकारी को सत्यापित कर सकते हैं। 

सीईओ ने भारत निर्वाचन आयोग की मंशा को स्पष्ट करते हुए बताया कि अब मतदाता सूची में अपना नाम जुड़वाना, कटवाना, संशोधन करने का कार्य मतदाता स्वयं कर सकते हैं। अपने परिवार के सदस्यों की जानकारी उपलब्ध करा सकते हैं। इसके अंतर्गत मृत और स्थानांतरित परिवार के पंजीकृत सदस्यों के नाम विलोपन हेतु आवेदन कर सकते हैं। ऐसे भावी मतदाता जो 2 जनवरी 2002 से 2 जनवरी 2003 तक की अवधि में जन्म लिए हैं, ऐसे नागरिकों की जानकारी भारत निर्वाचन आयोग द्वारा एकत्र की जा रही है। बताया गया कि मतदाता सूची कार्य में बूथ लेवल अधिकारियों पर मतदाताओँ की निर्भरता कम करना भी इसका मुख्य उद्देश्य है।
सीईओ ने  बताया कि 1 जनवरी 2020 की तिथि के लिए बूथ लेवल अधिकारियों द्वारा 1 सितंबर 2019 से 30 सितंबर 2019 तक की अवधि में मतदाताओं के सत्यापन का कार्य किया जाएगा। इसके अंतर्गत घर-घर सत्यापन के दौरान मतदाता और उनके परिवार की जानकारी एकत्र की जाएगी। मोबाइल ऐप के माध्यम से मतदाताओं के मकान का अक्षांश-देशांश का जीआईएस लोकेशन एकत्र कराया जाएगा। 1 जनवरी 2002 को या उससे पहले जन्म लिए मतदाताओं का फार्म-6 एकत्रित करने का कार्य किया जाएगा। अर्हता तिथि 1 जनवरी 2020 की स्थिति में पात्र मतदाताओं के फॉर्म-6 एकत्र किए जाएंगे। घर-घर सत्यापन के दौरान मतदाता और उनके परिवार की जानकारी एकत्र की जाएगी। मोबाइल ऐप के माध्यम से मतदाताओं के मकान का अक्षांश-देशाँश का पता एकत्र कराया जाएगा। ऐसे भावी मतदाता जिनकी अर्हता तिथि 1 जनवरी 2020 को पूरी हो रही है, इस तिथि की स्थिति में पात्र मतदाताओं के फार्म-6 एकत्र किए जाएंगे। इसी तरह मृत अथवा स्थानांतरित मतदाताओं के लिए फार्म-7 एकत्र करने का कार्य किया जाएगा एवं संशोधन किए जाने के लिए फार्म-8 एकत्रित किए जाएंगे। डुप्लीकेट एपिक के लिए फॉर्म-001 एकत्रित किए जाएंगे। ओवरसीज मतदाताओं की फॉर्म-6क एकत्रित किए जाएंगे। मतदाताओं से वैकल्पिक अथवा वर्तमान मतदान केंद्र हेतु फीडबैक लिए जाएंगे। मतदाताओं के फोटोग्राफ के भी सुधार का कार्य किया जाएगा। बूथ लेवल अधिकारियों द्वारा मतदान केंद्रों का सभी अनुभाग, रोड, पोस्ट ऑफिस, पुलिस थाना को दर्शाते हुए नज¬़री नक्शा तैयार किया जाएगा। पोस्ट ऑफिस की जानकारी एकत्र की जाएगी।  

अवकाश तिथियों में होंगे विशेष शिविर
आयोग के निर्देशानुसार विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम 15 अक्टूबर 2019 से है एवं 30 नवम्बर 2019 तक मतदाताओं से दावे-आपत्ति लिए जाएंगे। इसके अन्तर्गत अवकाश तिथि 2 नवंबर 2019 शनिवार और 3 नवंबर 2019 रविवार के साथ 9 नवंबर 2019 शनिवार और 10 नवंबर 2019 रविवार को सभी मतदान केंद्रों में विशेष शिविरों का आयोजन किया जाएगा। इन विशेष शिविरों में युवा मतदाता और सभी वर्ग के मतदाता उपस्थित होकर अपना नाम 1 जनवरी 2020 की तिथि में जुड़वा सकते हैं।
भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा निर्वाचक नामावलियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम की अर्हता तिथि 1 जनवरी 2010 को दृष्टिगत रखते हुए सभी राजनीतिक दलों को विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के  निर्धारित कार्यक्रम की विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। इस महत्वपूर्ण बैठक में इंडियन नेशनल कांग्रेस के प्रतिनिधि पदाधिकारी और भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधि पदाधिकारी और मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

 

24-05-2019
मोदी की जीत की धमक दुनिया में, विदेशी मीडिया ने लिखा- मोदी की जीत, धार्मिक राष्ट्रवाद की जीत 

नई दिल्ली। विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र के चुनाव नतीजों पर पूरी दुनिया की नजर टिकी हुई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी ने आम चुनाव में विपक्ष को धाराशायी करते हुए अभूतपूर्व जीत हासिल की है। इस जीत की चर्चा भारतीय मीडिया के साथ-साथ विदेशी मीडिया में भी दिखी। वॉशिंगटन पोस्ट ने शीर्षक 'राष्ट्रवाद की अपील के साथ भारत के मोदी ने जीता चुनाव' के साथ लिखा, भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी ने दुनिया के सबसे बड़े चुनाव में भारी जीत हासिल की।

भारतीय मतदाताओं ने मोदी की शक्तिशाली और गर्वान्वित हिंदू की छवि पर मुहर लगा दी। अखबार ने लिखा, मोदी की जीत उस धार्मिक राष्ट्रवाद की जीत है जिसमें भारत को धर्मनिरपेक्षता की राह से अलग हिंदू राष्ट्र के तौर पर देखा जाता है। भारत में 80 फीसदी आबादी हिंदू है लेकिन मुस्लिम, ईसाई, सिख, बौद्ध व अन्य धर्मों के लोग भी रहते हैं।

19-05-2019
सिर से जुड़ी बहनों को मिला अलग-अलग वोट डालने का अधिकार

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने सिर से जुड़ी दो बहनों को अलग-अलग वोट डालने का अधिकार दे दिया है। बता दें कि सिर जुड़ा होने के कारण इनकी पहचान अभी तक एक के ही रूप में की जाती थी, लेकिन अब उन्हें जुड़वा होते हुए भी दो का दर्जा प्राप्त हो गया है और अब वो अलग-अलग वोट डाल पाएंगीं। 

बिहार की राजधानी पटना के समनपुरा इलाके में रहने वाली 23 साल की सबाह और फराह सिर से जुड़ी हुई हैं। दोनों अभी तक एक ही पहचान मिली हुई थी। इसी के चलते साल 2015 के विधानसभा चुनावों में उन्हें अलग ना मानते हुए एक ही मतदाता पहचान पत्र जारी किया था। यानि दोनों बहनों को एक ही वोट डालने का अधिकार प्राप्त था, लेकिन इस बार लोकसभा चुनावों में उन्हें अलग-अलग मतदाता के रूप में पहचान मिल गई है। अब दोनों बहनें अपने-अपने पसंदीदा प्रत्याशी के पक्ष में वोट डाल सकेंगी। दोनों बहनों का नाम पटना साहिब लोकसभा सीट के दीघा विधानसभा क्षेत्र की मतदाता सूची में दर्ज है। 

05-05-2019
कल 1.19 करोड़ मतदाता एमपी के सौ से ज्यादा प्रत्याशियों के भाग्य का करेंगे फैसला

भोपाल। मध्यप्रदेश में दूसरे चरण के चुनाव में सात लोकसभा सीटों पर चुनाव होंगे। इनमें टीकमगढ़, होशंगाबाद, दमोह, खजुराहो, सतना, रीवा और बैतूल शामिल हैं। इन सीटों पर सौ से ज्यादा प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।  एक करोड़ 19 लाख वोटर्स उम्मीदवारों के भविष्य तय करेंगे। चुनाव के लिए 15240 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। बता दें कि खजुराहो में भाजपा ने बीडी शर्मा तो कांग्रेस ने कविता राजेश सिंह को चुनावी मैदान में उतारा है। इस संसदीय क्षेत्र में 8 विधानसभा शामिल हैं। दमोह में भाजपा प्रत्याशी प्रहलाद पटेल और कांग्रेस उम्मीदवार प्रताप सिंह लोधी हैं। होशंगाबाद से भाजपा ने सांसद राव उदय प्रताप सिंह तो कांग्रेस ने शैलेंद्र इवान को प्रत्याशी बनाया है। बैतूल में भाजपा ने दुर्गादास पर वहीं कांग्रेस ने राम के नाम पर दांव लगाया है। सतना में भाजपा ने गणेश सिंह जबकि कांग्रेस ने  राजाराम त्रिपाठी को मैदान में उतारा है। बसपा ने अच्छे लाल कुशवाहा को टिकट दिया है। टीकमगढ़ संसदीय क्षेत्र में भाजपा से केंद्रीय मंत्री वीरेंद्र कुमार जबकि कांग्रेस से किरण अहिरवार उम्मीदवार हैं। रीवा में भाजपा ने जनार्दन मिश्रा को तो कांग्रेस ने सिद्धार्थ तिवारी को खड़ा किया है।

 

29-04-2019
राजस्थान में नौ बजे तक तेरह सीटों पर तेरह प्रतिशत से अधिक मतदान

जयपुर। राजस्थान में पहले चरण में लोकसभा की तेरह सीटों पर मतदान के पहले दो घंटों में तेरह प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। निर्वाचन विभाग के अनुसार इन सीटों पर सुबह सात बजे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान शांतिपूर्ण शुरू हुआ और नौ बजे तक 13़ 22 प्रतिशत मतदान हुआ।

इस दौरान टोंक-सवाईमाधोपुर संसदीय क्षेत्र में 11़ 72, अजमेर में 12़ 62, पाली में 12़43, जोधपुर में 13़ 90, बाड़मेर 13़ 33, जालोर 13़ 68, उदयपुर 12़ 08, बांसवाड़ा 14़ 67, चित्तौड़गढ 14़ 31, राजसमंद 13़ 25, भीलवाड़ा 12़ 80, कोटा 13़ 74 एवं झालावाड़-बारां में 13़ 68 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया। इस दौरान कई मतदान केन्द्रों पर ईवीएम मशीन खराबी की सूचनाएं आई लेकिन मौके पर उन्हें दुरुस्त कर दिया गया।

23-04-2019
मतदाता बढ़ चढ़कर मतदान में ले रहे हिस्सा 

रायपुर। प्रदेश के तीसरे चरण के चुनाव के मतदान जारी है। देश और प्रदेश सहित राजधानी में मतदाताओं में भारी उत्साह है। लोगों सुबह से मतदान केंद्रों में लाइन लगाकर मतदान के लिए इंतजार कर रहे हैं। मंगलवार को पुरानी बस्ती सरस्वती स्कूल में मतदाता बढ़ चढ़कर मतदान में हिस्सा ले रहे हैं। 

 

23-04-2019
रायगढ़ लोकसभा में 17 लाख से अधिक मतदाता तय करेंगे प्रत्याशियों का भाग्य

रायगढ़। अनुसूचित जनजाति के लिए सुरक्षित लोकसभा सीट रायगढ़ में कुल 17 लाख 31 हजार 655 मतदाता 23 अप्रैल को लोकतंत्र की मजबूती के लिए अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इसमें पुरुष मतदाता 8 लाख 63 हजार 319, महिला मतदाता-8 लाख 68 हजार 308 तथा थर्ड जेन्डर के 28 मतदाता एवं 17901 दिव्यांग मतदाता शामिल है। यहां कुल 625 अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्र तथा वेबकास्टिंग के लिए चिन्हांकित 460 मतदान केन्द्र बनाए गए है। लोकसभा संसदीय क्षेत्र क्रमांक 2-रायगढ़ (अ.ज.जा.)अंतर्गत जशपुर एवं रायगढ़ जिला शामिल है। इसमें शामिल जशपुर विधानसभा में पुरूष मतदाता 1 लाख 11 हजार 203 एवं महिला मतदाता 1 लाख 10 हजार 775 एवं 01 अन्य मतदाता, विधानसभा क्षेत्र कुनकुरी (अजजा) में पुरूष मतदाता 96 हजार 669 एवं महिला मतदाता 98 हजार 390 तथा विधानसभा क्षेत्र पत्थलगांव (अजजा)में पुरूष मतदाता 1 लाख 5 हजार 945, महिला मतदाता 1 लाख 309 मतदाता शामिल है। इस तरह जिला-जशपुर में कुल 6 लाख 32 हजार 294 मतदाता है। जिनमें पुरूष मतदाता 3 लाख 13 हजार 817, महिला मतदाता 3 लाख 18 हजार 474 मतदाता शामिल है।

इसी तरह जिला रायगढ़ अंतर्गत विधानसभा क्षेत्र लैलूंगा (अजजा) में पुरूष मतदाता 97 हजार 812 एवं महिला मतदाता 97 हजार 580, विधानसभा , रायगढ़ में पुरूष मतदाता 1 लाख 26 हजार 383, महिला मतदाता 1लाख 24 हजार 281 मतदाता, विधानसभा सारंगढ़ (अजा.)में पुरुष मतदाता 1 लाख 22 हजार 997, महिला मतदाता 1 लाख 22 हजार 927 एवं मतदाता, विधानसभा क्षेत्र खरसिया में पुरूष मतदाता 1 लाख 359, महिला मतदाता 1लाख 2 हजार 838 मतदाता एवं विधानसभा धरमजयगढ़ (अजा.)में पुरूष मतदाता 98 हजार 951, महिला मतदाता 1 लाख 2 हजार 208 एवं मतदाता शामिल है। इस तरह रायगढ़ लोकसभा में महिला मतदाताओं की संख्या पुरुष मतदाताओं से अधिक है। जिले में बनाए गए दिव्यांग, संगवारी एवं आदर्श मतदान केन्द्र:- लोकसभा संसदीय क्षेत्र रायगढ़ (अ.ज.जा.) अंतर्गत जिला-जशपुर में 3 दिव्यांग मतदान केन्द्र, 15 संगवारी मतदान केन्द्र एवं 16 आदर्श मतदान केन्द्र बनाए गए है। इसी तरह जिला-रायगढ़ में 5 दिव्यांग मतदान केन्द्र, 25 संगवारी मतदान केन्द्र एवं 25 आदर्श मतदान केन्द्र बनाए गए है।

22-04-2019
तीसरे चरण में प्रदेश के 1.27 करोड़ से अधिक मतदाता 15,408 मतदान केन्द्र में कर सकेंगे मतदान

रायपुर। लोकसभा निर्वाचन-2019 के अंतर्गत तीसरे चरण में मंगलवार 23 अप्रैल को छत्तीसगढ़ के सात लोकसभा क्षेत्रों के मतदान होगा। इस चरण में रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग, कोरबा, रायगढ़, सरगुजा तथा जाँजगीर लोकसभा क्षेत्रों के लिए कुल एक करोड़ 27 लाख 13 हजार 816 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। सभी सातों लोकसभा क्षेत्र में मतदाता सुबह सात बजे से शाम 5 बजे तक मतदान कर सकेंगे। मतदान के लिए मतदाताओं को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मान्य 12 दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज पहचान पत्र के तौर पर लेकर मतदान केन्द्र में जाना होगा।

 सातों लोकसभा क्षेत्रों में मतदान के लिए कुल 15 हजार 408 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। निर्वाचन को सफल बनाने के लिए इन मतदान केन्द्रों में 67 हजार 796 मतदानकर्मी अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं। इस चरण में 617 मतदान केन्द्र को संवेदनशील घोषित किया गया है। इन सात लोकसभा क्षेत्रों में 288 संगवारी बूथ बनाए गए हैं, जहाँ मतदान दल में शामिल सभी अधिकारी तथा कर्मचारी महिला होंगी। इसके अलावा तीसरे चरण में कुल 333 आदर्श मतदान केन्द्र तथा 60 दिव्यांग मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। इस चरण के कुल मतदान केन्द्रों में से तीन हजार 200 मतदान केन्द्रों से मतदान का सीधा प्रसारण किया जाएगा।

सात लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में से रायपुर में 2343, बिलासपुर में 2221, रायगढ़ में 2327, कोरबा में 2008, जांजगीर-चांपा में 2173, दुर्ग में 2183 एवं सरगुजा में 2153 मतदान केन्द्र स्थापित किए गए हैं। इस चरण के लिए कुल 123 उम्मीदवार मैदान में हैं। रायपुर और बिलासपुर में 25-25, रायगढ़ में 14, कोरबा में 13, जांजगीर-चांपा में 15, दुर्ग में 21 और सरगुजा में दस प्रत्याशी मैदान में हैं।

कुल मतदाताओं में से रायपुर लोकसभा के 21 लाख 11 हजार 104, बिलासपुर के 18 लाख 75 हजार 904, रायगढ़ के 17 लाख 31 हजार 655, कोरबा के 15 लाख सात हजार 779, जांजगीर-चांपा के 18 लाख 95 हजार 232, दुर्ग के 19 लाख 38 हजार 319 एवं सरगुजा लोकसभा के 16 लाख 53 हजार 283 मतदाता शामिल हैं।

सात लोकसभा क्षेत्रों में से रायपुर में पुरूष मतदाताओं की संख्या दस लाख 71 हजार 921 है वहीं दस लाख 38 हजार 886 महिला मतदाता हैं जबकि तृतीय लिंग के 297 और 16 हजार 931 दिव्यांग मतदाता हैं। बिलासपुर में पुरूष मतदाता नौ लाख 52 हजार 657 हैं, वहीं नौ लाख 23 हजार 156 महिला मतदाता तथा तृतीय लिंग के 91 और 17 हजार 953 दिव्यांग मतदाता हैं।

 रायगढ़ में आठ लाख 63 हजार 319 पुरूष मतदाता वहीं आठ लाख 68 हजार 308 महिला मतदाता हैं। रायगढ़ में तृतीय लिंग के 28 और 18 हजार 487 दिव्यांग मतदाता हैं। कोरबा में पुरूष मतदाता सात लाख 58 हजार 198 वहीं सात लाख 49 हजार 526 महिला मतदाता हैं। यहाँ तृतीय लिंग के 55 और 15 हजार 817 दिव्यांग मतदाता हैं। इसके अलावा जांजगीर-चांपा में पुरूष मतदाताओं की संख्या नौ लाख 64 हजार 113 है वहीं  नौ लाख 31 हजार 94 महिला मतदाता हैं। यहाँ तृतीय लिंग के 25 और 16 हजार 34 दिव्यांग मतदाता हैं।                  

 दुर्ग में नौ लाख 76 हजार 652 पुरूष तथा नौ लाख 61 हजार 601 महिला मतदाता हैं। दुर्ग में तृतीय लिंग के 66 और 11 हजार 893 दिव्यांग मतदाता हैं। सरगुजा में पुरूष मतदाता आठ लाख 29 हजार 392 हैं वहीं आठ लाख 24 हजार 421 महिला मतदाता हैं यहाँ तृतीय लिंग के दस और आठ हजार 847 दिव्यांग मतदाता हैं।

17-04-2019
मतदाता पर्ची बांटते हुए शिक्षक को पड़ा दिल का दौरा, मौत

रायपुर। निर्वाचन आयोग की  तरफ  से मतदाता पर्ची बांट रहे स्कूल शिक्षक की हार्टअटैक से मौत हो गई। जानकारी के अनुसार प्रियदर्शनी नगर निवासी शिक्षक जीसी शर्मा गंज क्षेत्र के शासकीय स्कूल में शिक्षक थे। बताया जाता है कि शर्मा आज निर्वाचन आयोग की तरफ  से मतदाता पर्ची बांट रहे थे और सुभाष नगर मौहदापारा के बूथ क्रमांक 171, 172 में तैनात थे। बताया जाता है कि सुबह करीब 11.30 बजे अचानक उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना की सूचना पर पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

15-04-2019
Voters : अब मतदाता ऑनलाइन देख सकते हैं मतदाता सूची में अपना नाम

रायपुर। राज्य का कोई भी मतदाता जिनका नाम मतदाता सूची में दर्ज है, वे अपना नाम मतदाता सूची में देख सकते हैं। इसके लिए मतदाता सेवा पोर्टल, वोटर हेल्पलाइन एप्लीकेशन, कॉल सेन्टर या निशुल्क एसएमएस सेवा का उपयोग कर सकते हैं। भारत निर्वाचन आयोग ने देश के 87.5 करोड़ अपने मतदाताओं की सहूलियत के लिए वोटर हेल्पलाइन एंड्रायड एप्लिकेशन शुरू किया है। भारत निर्वाचन अयोग ने अपनी वेबसाइट में मतदाताओं की सुविधा के लिए अब वोटर सर्च  का विकल्प उपलब्ध करा दिया है। इसके माध्यम से मतदाता अपनी खुद की जानकारी सर्च कर सकते हैं। आयोग द्वारा वोटर हेल्पलाइन मोबाइल एप्लीकेशन भी लांच किया गया है, जिसे प्ले-स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इस एप के माध्यम से मतदाता एक ही स्थान से भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट, स्वीप, एनवीएसपी, मतदाता सर्च एवं एनजीएसपी (शिकायत पोर्टल) का उपयोग कर सकते हैं। मतदाता सीधे टोल फ्री नंबर 1950 पर सीधे कॉल कर मतदाता सूची संबंधी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
इसके अलावा मोबाइल सेवा से जुड़े आम मतदाताओं के लिए शार्ट मैसेज सर्विस (एसएमएस) की सुविधा भी उपलब्ध है। इसके तहत मतदाता, मतदाता सूची से संबंधित जानकारियाँ सिर्फ एक एसएमएस के माध्यम से प्राप्त कर सकता है। आयोग की यह सेवा निःशुल्क है। इसके तहत मतदाता अपने मोबाइल से आयोग के निःशुल्क  नंबर 1950 में एसएमएस कर अपनी प्राथमिक जानकारियां सहित निर्वाचन क्षेत्र, मतदान केन्द्र, सरल क्रमांक के साथ ही बूथ लेवल अधिकारी का मोबाइल नंबर भी प्राप्त कर सकते हैं।  
मतदाता यह जानकारी हिन्दी या स्थानीय अथवा अंग्रेजी भाषा में प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए मतदाता को अपने मोबाइल के  मैसेज बाक्स में जाकर अंग्रेजी में ECI लिखकर स्पेस देना होगा। उसके बाद EPICNUMBER अर्थात मतदाता पहचान पत्र की संख्या  लिखना / टाइप करना है। इसके बाद चाही गई जानकारी हिन्दी अथवा स्थानीय भाषा के लिए 1 तथा अंग्रेजी के लिए 0 टाइप करना है। याने ECI EPICNO 1 अथवा 0 टाइप करके लिखे हुए इस मैसेज को आयोग के निशुल्क  नम्बर 1950 में भेज देना है । इसके बाद मतदाता को एक संदेश प्राप्त होगा, जिसमें मतदाता सूची अनुसार संबंधित मतदाता का नाम, उम्र,निर्वाचन क्षेत्र तथा राज्य का नाम अंकित होगा। यदि मतदाता अपने मतदान केन्द्र की जानकारी चाहता है, तो उसे मैसेज बाक्स में जाकर ECIPS लिख कर स्पेस देना होगा और फिर अपना मतदाता पहचान संख्या याने EPIC NUMBER लिखना है। फिर स्पेस देकर उसके बाद भाषा का चयन करते हुए याने हिन्दी या स्थानीय भाषा के लिए 1 या और अंग्रेज़ी भाषा के लिए 0 अर्थात ECIPS EPICNO 1 अथवा 0 टाइप करना है। फिर लिखे/ टाइप किए गए इस मैसेज को आयोग के निशुल्क नम्बर 1950 में भेज देना है । ऐसा करने से मतदाता को मतदान केन्द्र की जानकारी मिल जाती है ।
इसके अलावा यदि मतदाता को अपने क्षेत्र के बूथ लेवल अधिकारी से मतदाता सूची से संबंधित जानकारी के लिए संपंर्क करना हो तो उसका मोबाइल नंबर भी प्राप्त किया जा सकता है। इसके लिए मतदाता को अपने मोबाइल के मैसेज बाक्स पर जाकर ECICONTACT लिखना होगा फिर स्पेस देकर अपना मतदाता पहचान संख्या EPIC NUMBER टाइप करना होगा तथा स्पेस देते हुए चाही गई जानकारी हिन्दी या स्थानीय भाषा  के लिए 1 या और अंग्रेज़ी भाषा के लिए 0 टाइप करना है । याने  ECICONTACT EPICNO 1 या शून्य 0 टाइप कर आयोग के निशुल्क नम्बर 1950 में मैसेज भेजना है । इस प्रकार एसएमएस सेवा के माध्यम से मतदाता घर बैठे मतदाता सूची से संबंधित अपनी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।
 

15-04-2019
कमिश्नर चुरेंद्र ने मतदाता जागरुकता बाइक रैली को दिखाई हरी झण्डी

 रायपुर। मतदाता जागरुकता अभियान के तहत प्रतिदिन आयोजित होने वाले लोकसेवकों की बाइक रैली को सोमवार को कमिश्नर जीआर चुरेंद्र ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। बाइक रैली का नेतृत्व जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और स्वीप के नोडल अधिकारी डॉ गौरव कुमार सिंह ने किया। रैली घड़ी चौक, मोतीबाग, कालीबाड़ी, सप्रे स्कूल होते हुए बूढ़ा तालाब उद्यान में समाप्त हुई। सुबह भ्रमण में निकले नागरिकों को मतदान शपथ दिलाई गई। इस बाइक रैली में शामिल लोक सेवक 18 अप्रैल को सुबह 8 बजे अनुपम उद्यान स्थित नेकी की दीवार जाएंगे और वहां सभी अपनी ओर से नेकी का मतदान जागरुकता कार्यक्रम के तहत खुद के घरों से लाए खेल सामग्री, कपड़े व अन्य जरूरी सामान भेंट कर 23 अप्रैल को मतदान करने के लिए शपथ दिलाएंगे।

 

 

15-04-2019
Voter Signature: मतदाता हस्ताक्षर प्रतियोगिता में प्रीति और डॉ. चुन्नीलाल ने मारी बाजी 

रायपुर। जिला प्रशासन द्वारा संचालित मतदाता जागरुकता कार्यक्रम 'मोर रायपुर वोट रायपुर' के अतंर्गत मतदाताओं को जागरूक करने के लिए जिले के महाविद्यालयों में विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं। इसी कड़ी में सोमवार को डॉ. राधाबाई कॉलेज मठपारा रायपुर में मतदाता हस्ताक्षर अभियान का आयोजन किया गया जिसमें महाविद्यालय की छात्राओं तथा प्राध्यापकों ने अपने परिवार, रिश्तेदारों, पड़ोसियों तथा आमजनों के साथ शपथ पत्र पर हस्ताक्षर कर मतदान करने का वचन लिया। महाविद्यालय द्वारा आयोजित इस प्रतियोगिता सह जागरुकता कार्यक्रम में विज्ञान विभाग की छात्रा प्रीति सपहा ने 60 मतदाताओं से हस्ताक्षर करवाकर प्रथम स्थान प्राप्त किया। वहीं प्राध्यापक वर्ग में स्वीप नोडल अधिकारी डॉ. चुन्नीलाल साहू ने 74 मतदाताओं के हस्ताक्षर करवाकर प्रथम स्थान प्राप्त किया। संस्था की प्राचार्य डॉ. अरुणा पल्टा ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों एवं प्राध्यापकों को पुरस्कार तथा प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804