GLIBS
20-06-2021
भूपेश बघेल ने किया डायबेटिक योगा पोस्टर का विमोचन और जनजागरुकता अभियान का शुभारंभ 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की पूर्व संध्या अपने निवास कार्यालय में डायबेटिक योगा पोस्टर का विमोचन किया। साथ ही योग के माध्यम से मधुमेह रोग की रोकथाम के लिए चिकित्सकों के समूह की ओर से संचालित किए जाने वाले जनजागरुकता अभियान का शुभारंभ किया। चिकित्सकों का यह समूह डॉक्टर सत्यजीत साहू के नेतृत्व में मुख्यमंत्री निवास कार्यालय पहुंचा था। डॉ. साहू एवं अन्य चिकित्सकों ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर डायबेटिक योगा जनजागरुकता अभियान के बारे विस्तार से जानकारी दी और डायबेटिक योगा पोस्टर के विमोचन आग्रह किया। 


मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने डॉ. सत्यजीत साहू के नेतृत्व में जनजागरुकता के लिए संचालित किए जाने वाले अभियान की सराहना की। उन्होंने  इसके लिए टीम को बधाई और शुभकामनाएं दी। डॉ. सत्यजीत ने बताया कि उनका अभियान एलियोपैथी और योग के संयमित प्रयोग पर आधारित है। उन्होंने कहा कि योग को अपनाकर डायबेटिक रोग के प्रति प्रतिरोधक क्षमता विकसित की जा सकती है। डायबेटिक मरीज नियमित रूप से योगाभ्यास करके इस पर नियंत्रण पा सकते हैं। डायबेटिक योगा ऐसे लोग जिन्हें भविष्य में डायबेटिक रोग होने की आशंका है अथवा जो लोग इस रोग से पीड़ित है, दोनों के लिए यह लाभप्रद है। इस दौरान डॉ. संगीता कौशिक, डॉ. भूमिसूता, डॉ. राहुल सूर, डॉ. सूरज दुबे एवं अन्य लोग मौजूद थे।

20-06-2021
भूपेश बघेल 21 जून को वन्यजीव बोर्ड की लेंगे बैठक, योग शिविर का करेंगे शुभारंभ 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 21 जून को पूर्वान्ह 11:30 बजे अपने निवास कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से छत्तीसगढ़ राज्य वन्यजीव बोर्ड की बैठक लेंगे। मुख्यमंत्री इसके बाद दोपहर 12:30 बजे से 2:45 बजे तक बस्तर, सुकमा एवं बीजापुर जिले में वर्चुअल रूप से आयोजित लोकार्पण-भूमिपूजन के कार्यक्रम में शामिल होंगे। वे तीनों जिलों को 642 करोड़ रुपए के विकास कार्यों की सौगात देंगे। मुख्यमंत्री संध्या 5:30 बजे आॅनलाइन योग शिविर का शुभारंभ एवं आरोग्य छत्तीसगढ़ पुस्तक विमोचन करेंगे।

20-06-2021
भूपेश बघेल 22 जून को जलजीवन मिशन के विभिन्न कार्यो का करेंगे शुभारंभ,जशपुर में 143 करोड़ रुपए से अधिक के कार्य शामिल

जशपुरनगर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 22 जून को प्रदेश में जल जीवन मिशन के अंतर्गत जिलों में किये जा रहे एकल नल जल योजना, रेट्रोफिटिंग कार्य सहित अन्य कार्यो का वर्चुअल शुभारंभ करेंगे। इसके अंतर्गत जशपुर जिले में लगभग 143 करोड़ 53 लाख 26 हजार की लागत के कुल 435 कार्य शामिल है। कलेक्टर एवं अध्यक्ष जिला जल एवं स्वच्छता मिशन महादेव कावरे के मार्गदर्शन में सचिव व  कार्यपालन अभियंता जिला जल स्वच्छता मिशन  व्हीके उरमलिया ने जल जीवन मिशन क्रियान्वयन के लिए विभिन्न ग्राम, बसाहटों में एकल ग्राम नल जल योजना एवं ग्राम के अंदर रेट्रोफिटिंग कार्यों के लिए सर्वेक्षण कर कुल 435 कार्य स्वीकृत की गई है। इसकी कुल लागत लगभग 143 करोड़ 53 लाख 26 हजार है। इसका मुख्यमंत्री बघेल 22 जून को दोपहर 12 बजे शुभारंभ करेंगे। जिले के विधायक, जनप्रतिनिधि सहित अधिकारीगण कलेक्टेªट कार्यालय के एनआईसी कक्ष में ऑनलाइन के माध्यम से कार्यक्रम में शामिल होंगे। 

 

16-06-2021
बच्चों को निमोनिया से बचाने पीवीसी टीकाकरण कार्यक्रम का हीरामादला से हुआ शुभांरभ

कोंडागाँव। जिले में राज्य शासन के निर्देशानुसार स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा कलेक्टर पुषेन्द्र कुमार मीणा के निर्देशन पर न्यूमोकोकल कॉन्जूगेट (पीसीवी) टीकाकरण कार्यक्रम का शुभारंभ को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.टीआर कुंवर ने किया। पीसीवी टीके द्वारा 0 से 01 वर्ष तक के बच्चों का टीकाकरण किया जाना है। इस टीके को बच्चों के नियमित टीकाकरण कार्यक्रम स्वास्थ्य विभाग द्वारा शामिल किया गया है। यह टीका 0 से 1 वर्ष तक के बच्चों को तीन चरणों में लगाया जायेगा। इसका प्रथम टीका 6 सप्ताह पूर्ण होने के उपरांत, दूसरा टीका 14 सप्ताह पूर्ण होने के उपरांत एवं अंतिम तीसरा बुस्टर टीका 09 महीने में लगाया जाना है। ज्ञात हो कि इस पीवीसी टीके के लगाने से निमोनिया से बचाव किया जा सकता है। निमोनिया जैसी गंभीर बीमारी के जिले में अब तक 6521 निमोनिया केस पाये गये है। इसमें से 692 बच्चे गंभीर अवस्था में पाये गये है। यह टीका जिला के समस्त स्वास्थ्य संस्थान जैसे जिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य, केन्द्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, उप स्वास्थ्य केन्द्र, आगंनबाड़ी केन्द्रों में 15 जून से 0 से 01 वर्ष तक के सभी बच्चों को न्यूमोकोकल कॉन्जूगेट (पीवीसी) टीका लगाने का कार्यक्रम प्रारंभ किया गया है। टीकाकरण कार्यक्रम के शुभांरभ के अवसर पर जिला कार्यकम प्रबंधक सोनल ध्रुव, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ रूद्र कश्यप, खण्ड चिकित्सा अधिकारी डॉ.सूरज सिंह राठौर, विकासखण्ड कार्यक्रम प्रबंधक, खण्ड विस्तार एवं प्रशिक्षण अधिकारी, जनप्रतिनिधि, संरपच महादेव कश्यप एवं अन्य ग्रामवासी तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे। इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने आमजनों से अपील की है कि निमोनिया जैसी गंभीर बीमारी से बचाव के लिए अपने बच्चों को नियमित टीकाकरण सत्र स्थल पर ले जाकर न्यूमोकोकल कॉन्जूगेट (पीवीसी) का टीका आवश्यक लगवायें।

13-06-2021
मुख्यमंत्री ने किया शुभारंभ,24 घंटे मिलेगा शुद्ध पेयजल,पार्षदों ने दिया धन्यवाद 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को 24 घंटे सतत शुद्ध पेयजल प्रदान करने की महत्वाकांक्षी योजना का शुभारंभ किया।  स्मार्ट सिटी योजना के तहत रायपुर के हृदय स्थल में बसे पुरानी बस्ती, रामनगर, ब्राम्हणपारा, सदर बाजार, मौदहापारा, गोल बाजार सहित 14 वार्डों  में 160 किमी पाइप लाइन से 24 हजार घरेलू कनेक्शन से जल शुद्ध पेयजल मिलेगा। 74 करोड़ रुपए की लागत से शुरू हो रही इस जल आवर्धन योजना से आम नागरिकों को मिलने वाले लाभ के संबंध में  पार्षद रितेश त्रिपाठी एवं सूर्यमणी मिश्रा ने मुख्यमंत्री को क्षेत्र की जनता की ओर से धन्यवाद दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा कि इससे जनता को बहुत सुविधा मिलेगी। शुद्ध पानी से बीमारियों से भी निजात मिलेगी। हैजा, पीलिया जैसी बीमारी की रोकथाम भी होगी।

05-06-2021
6 जून को भूपेश बघेल करेंगे मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना का औपचारिक शुभारंभ, जानिए फायदे

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 6 जून को दोपहर 12 बजे राजधानी स्थित अपने निवास कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना का औपचारिक शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री बघेल इस दौरान दुर्ग वनमंडल के अंतर्गत फुंडा (पाटन) में जैव विविधता पार्क का भूमिपूजन भी करेंगे। साथ ही वे कार्यक्रम में जनप्रतिनिधियों सहित विभिन्न वनमंडलों के वन प्रबंधन समिति के सदस्यों और किसानों से वर्चुअल संवाद करेंगे। वर्चुअल संवाद में बस्तर, बिलासपुर, बलरामपुर, कांकेर, महासमुंद व कवर्धा वनमंडल के अंतर्गत जनप्रतिनिधि और वन प्रबंधन समिति के सदस्य और कृषक शामिल होंगे। मुख्यमंत्री बघेल इस दौरान बटरफ्लाई ट्रेजर आॅफ छत्तीसगढ़ नामक पुस्तक का विमोचन भी करेंगे। 
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत जिन किसानों ने खरीफ वर्ष 2020 में धान की फसल ली है, यदि वे धान फसल के बदले अपने खेतों में वृक्षारोपण करते हैं, तो उन्हें आगामी 3 वर्षों तक प्रतिवर्ष 10 हजार रुपए प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इसी तरह ग्राम पंचायतों के पास उपलब्ध राशि से यदि वाणिज्यिक वृक्षारोपण किया जाएगा, तो एक वर्ष बाद सफल वृक्षारोपण की दशा में संबंधित ग्राम पंचायतों को शासन की ओर से 10 हजार रुपए प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इससे भविष्य में पंचायतों की आय में वृद्धि हो सकेगी। इसके अलावा संयुक्त वन प्रबंधन समितियों के पास उपलब्ध राशि से यदि वाणिज्यिक आधार पर राजस्व भूमि पर वृक्षारोपण किया जाता है, तो पंचायत की तरह ही संबंधित समिति को एक वर्ष बाद 10 हजार रुपए प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। वृक्षों को काटने व विक्रय का अधिकार संबंधित समिति का होगा।

30-05-2021
Breaking:  मुख्यमंत्री करेंगे 31 मई को वर्चुअल योगाभ्यास कार्यक्रम का शुभारंभ

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ योग आयोग द्वारा कोविड-19 की चिकित्सा से स्वस्थ हुए व्यक्तियों, होम आइसोलेशन एवं क्वारेंटाइन में रह रहे व्यक्तियों, उनके परिवार के सदस्यों, वैक्सीन का प्रथम डोज ले चुके व्यक्तियों एवं वरिष्ठ नागरिकों सहित जन सामान्य में कोविड-19 के प्रभावों को कम करने एवं रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के उद्देश्य से वर्चुअल योगाभ्यास एवं योग परामर्श कार्यक्रम का 31 मई को दोपहर 12 बजे अपने निवास कार्यालय से वर्चुअल शुभारंभ करेंगे। इस अवसर पर समाज कल्याण मंत्री एवं अध्यक्ष छत्तीसगढ़ योग आयोग अनिला भेंड़िया, सचिव समाज कल्याण विभाग रीना बाबा साहेब कंगाले, संचालक समाज कल्याण पी. दयानंद सहित छत्तीसगढ़ योग आयोग और समाज कल्याण विभाग के वरिष्ठ अधिकारी वर्चुअल उपस्थित रहेंगे।

कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ योग आयोग के प्रमुख योग प्रशिक्षक एवं समाज कल्याण विभाग के फिजियोथेरैपिस्ट प्रत्यक्ष उपस्थित होकर योगाभ्यास एवं ब्रिदिंग का अभ्यास कराएंगे। योगाभ्यास का वर्चुअल प्रसारण राज्य संसाधन एवं पुनर्वास केन्द्र माना कैम्प रायपुर में स्थापित रिकार्डिंग रूम से किया जाएगा। इस कार्यक्रम का लाइव प्रसारण छत्तीसगढ़ योग के फेसबुक पेज (https://www.Facebook.com/chhattisgarhYogAayog) एवं यू-टयूब चैनल (https://youtube.com/channel/UCWGvHhPOpc4zÛHVt8qCcUuQ) पर किया जाएगा। योगाभ्यास समाप्त होने के पश्चात् वीडियो को फेसबुक एवं यू-टयूब चैनल में अपलोड किया जाएगा। इसे लक्षित हितग्राहियों एवं जन सामान्य द्वारा किसी भी समय देखा जा सकता है। कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए हितग्राहियों को गूगल लिंक (https:/forms.gle/cTMpwNVMwMHoktkX7) पर निशुल्क ऑनलाइन पंजीयन कराना होगा। पंजीकृत हितग्राहियों को लिंग एवं आयु वर्ग के अनुसार वर्गीकृत करके 5 से 20 के समूह में कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए वर्चुअल योगाभ्यास कराया जाएगा। योग की कक्षाएं 31 मई से निरंतर जारी रहेगी। सम्पूर्ण कार्यक्रम की निगरानी छत्तीसगढ़ योग-आयोग के तकनीकी विशेषज्ञ द्वारा की जाएगी। समय-समय पर कार्यक्रम का मूल्यांकन किया जाएगा एवं अध्यक्ष छत्तीसगढ़ योग आयोग द्वारा इसकी समीक्षा की जाएगी।

 

24-05-2021
जिले में मरीजों को मिलेगी बेहतर इलाज की सुविधा, मो.अकबर ने किया कोविड-19 हॉस्पिटल का शुभारंभ

रायपुर। परिवहन और राजनांदगांव जिले के प्रभारी मंत्री मो. अकबर ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए सोमवार को सोमनी स्थित मॉडल कालेज कोविड-19 हॉस्पिटल (संस्कारधानी कोविड ट्रीटमेंट सेन्टर) 200 बेड का शुभारंभ किया। उन्होंने जिले में नई स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए बधाई एवं शुभकामनाएं दी। वन मंत्री अकबर ने कहा कि कोविड-19 की दूसरी लहर में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही थी, जिसे नियंत्रित करने के लिए जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग, स्थानीय जनप्रतिनिधि, पत्रकारों, स्वयंसेवी संस्थाओं एवं सामाजिक संस्थाओं ने लगातार कार्य किया है। कोविड-19 के नियंत्रित होने से कोरोना से होने वाली कठिनाईयां दूर हुई हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर बनाने के लिए राशि प्रदान की गई है। उन्होंने कहा कि नये हास्पिटल में 200 बेड और 5 वेंटिलेटर की सुविधा दी गई है, जिसका उपयोग भविष्य में आने वाली कठिनाईयों से निपटने में हो सकेगा। वेंटिलेटर संचालन के लिए पर्याप्त डॉक्टर की टीम एवं टेक्निशियन टीम की व्यवस्था रहे। इसके लिए चिकित्सकों को प्रशिक्षण अवश्य दिलाएं।

कोविड-19 से जंग के लिए बीते महीनों में जो तैयारियां की गई है, वे आने वाले समय के लिए महत्वपूर्ण होगी। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने जानकारी दी कि सोमनी स्थित मॉडल कालेज कोविड-19 हॉस्पिटल में स्वास्थ्य विभाग द्वारा 200 बेड की व्यवस्था की गई है। इसमें 100 ऑक्सीजन बेड है, 60 ऑक्सीजन बेड के लिए पाइप लाइन बिछाया गया है। इसके माध्यम से ऑक्सीजन सप्लाई मरीजों के बेड तक पहुंचेगी। वहीं 40 ऑक्सीजन सिलेंडर के माध्यम से ऑक्सीजन उपलब्ध कराया जाएगा और 100 सामान्य बेड रहेंगे। साथ ही 5 वेंटिलेटर संचालन की सुविधा दी गई है। उन्होंने कहा कि हास्पिटल के लिए पर्याप्त डॉक्टर की टीम उपलब्ध है एवं वेंटिलेटर के लिए टेक्निशियन को प्रशिक्षण दिया गया है। हास्पिटल भवन में सभी सुविधाएं पर्याप्त है। यह हास्पिटल शहर के पास होने के कारण सुविधाजनक होगा, इसका लाभ जिलेवासियों को मिलेगा। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों, स्वयंसेवी संस्थानों, सामाजिक संगठनों, औद्योगिक संस्थानों का लगातार सहयोग मिल रहा है। इससे यहां कोविड केयर सेंटर संचालित होता रहा है, जिसमें ऑक्सीजन और सामान्य बेड की सुविधा दी गई थी। इस अवसर पर कोविड केयर संचालक शाहिद खान, जनपद सदस्य तुलदास साहू, पीकू साहू,भागवत साहू, सरपंच टेड़ेसरा दानी साहू, सरपंच सोमनी पिंटू यादव सहित जनप्रतिनिधि तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.मिथलेश चौधरी, एसडीएम राजनांदगांव मुकेश रावटे व अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

24-05-2021
अमरजीत भगत ने 1 करोड़ की लागत से मल्टी एक्टिवीटी गतिविधियों का किया शुभांरभ, समूह की महिलाओं से की बात

रायपुर। खाद्य नागरिक आपूर्ति मंत्री अमरजीत भगत ने जिले के गौठानों में 1 करोड़ की लागत से मल्टी एक्टिवीटी गतिविधियों का वर्चुअल शुभारंभ किया। वर्चुअल से संसदीय सचिव यूडी मिंज, पत्थलगांव विधायक रामपुकार सिंह और जशपुर विधायक विनय भगत, कलेक्टर महादेव कावरे और जिला पंचायत सीईओ केएस मण्डावी, जनप्रतिनिधि सभी एसडीएम, जनपद सीईओ और गौठानों से स्व-सहायता समूह की महिलाएं और समाजसेवी सूरज चैरसिया जुड़े थे। अमरजीत भगत ने मनोरा विकासखंड के सोनक्यारी और कुनकुरी विकासखंड के जोरातराई स्व-सहायता समूह की महिलाओं से बात करके गौठान की गतिविधियों की जानकारी ली और उन्हें प्रोत्साहित किया। साथ ही सभी को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जशपुर जिले में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशानुसार गौठानों में स्व-सहायता समूह की महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने के लिए सार्थक प्रयास किया जा रहा है। महिलाओं को मुर्गी पालन, बकरी पालन, चैन फिनिसिंग, रेशम पालन, वर्मी कम्पोस्ट खाद का निर्माण, मशरूम उत्पादन सिलाई मशीन, मिनी राईस मिल का भी संचालन करवाया जा रहा है। राज्य शासन की ओर से अब स्व-सहायतासमूह की महिलाओं को सुपर कम्पोस्ट खाद तैयार करने के लिए भी प्रोत्साहित किया जा रहा है। ताकि महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बन सके। उन्होंने कहा कि जशपुर जिले के जनप्रतिनिधि जिला प्रशासन और कलेक्टर कावरे के मार्गदर्शन में कोरोना संक्रमण की सुरक्षा के दौरान बेहतर कार्य किए गए। अब गौठानों को भी मूर्तरूप दिया जा रहा है। किसी भी कार्य की सफलता में सबकी सहभागिता जरूरी रहती है तो निश्चित ही उस कार्य में सफल मिलती है।  अमरजीत भगत ने कलेक्टर को निर्देश देते हुए कहा कि जिन गौठानों में पानी की सुविधा नहीं है वहां पानी की सुविधा उपलब्ध कराएं। साथ ही गौठानों में बिजली भी सुविधा उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए। कोरोना संक्रमण की सुरक्षा को देखते हुए जिन स्वास्थ्य केन्द्रों में एम्बुलेंस या अन्य सुविधाओं की आवश्यकता है, उस पर भी विशेष ध्यान देकर आपूर्ति करने के निर्देश दिए हैं।  

18-05-2021
प्रेस क्लब में शुरू हुआ वैक्सीनेशन शिविर,गुरूचरण सिंह होरा ने किया उद्घाटन, पूर्व अध्यक्ष अनिल पुसदकर ने जताया आभार

रायपुर। रायपुर प्रेस क्लब में पत्रकार और उनके परिवार वालों के लिए कोरोना वैक्सीनेशन शिविर का शुभारंभ हो गया है। मंगलवार को शिविर में 18 से 44 उम्र वाले पत्रकारों और उनके परिजनों का वैक्सीनेशन किया गया। इस मौके पर छत्तीसगढ़ ओलम्पिक संघ के महासचिव और ग्रैंड न्यूज के चेयरमैन गुरुचरण सिंह होरा कार्यक्रम में मुख्यअतिथि के रूप में शामिल हुए। होरा ने टीकाकरण करवाने आए पत्रकारों से चर्चा कर उनका हालचाल जाना। इसके बाद पत्रकारों के लिए कोरोना से लड़ने दवाइयों के पैकेट दिए और आवश्यकता पड़ने पर हरसंभव मदद देने का आश्वासन दिया। होरा ने इस मौके पर कहा कि प्रेस क्लब अध्यक्ष से वे 15 दिनों से लगातार सम्पर्क में थे। आज प्रेस क्लब में वैक्सीनेशन कार्य प्रारंभ हुआ। प्रेस क्लब अध्यक्ष लगातार मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव समेत सभी अधिकारियों से चर्चा करते रहे जिसका सार्थक परिणाम यह निकला की आज प्रेस क्लब में वैक्सीनेशन का कार्य शुरू हो गया है। उन्होंने कहा कि प्रेस क्लब में मीडियाकर्मियों के लिए वैक्सीनेशन शिविर लगाने में स्वास्थ्य सचिव डॉ.आलोक शुक्ला और कलेक्टर डॉ.एस.भारतीदासन का विशेष सहयोग रहा है। मुख्यमंत्री बघेल के अथक प्रयास का नतीजा है कि छत्तीसगढ़ कोरोना संक्रमण दर रोकने में पूरे देश में दूसरे नंबर पर आया हैं। उन्होंने पूर्व प्रेस क्लब अध्यक्ष अनिल पुसदकर और प्रेस क्लब अध्यक्ष का प्रेस क्लब में टीकाकरण केंद्र की स्वीकृति देने पर आभार प्रकट किया। वहीं पूर्व प्रेस क्लब अध्यक्ष अनिल पुसदकर और प्रेस क्लब अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और छत्तीसगढ़ ओलम्पिक संघ के महासचिव और ग्रैंड न्यूज के चेयरमैन गुरुचरण सिंह होरा का आभार जताया है।

 

 

07-05-2021
जिला अस्पताल के नए भवन में आक्सीजनयुक्त कोविड अस्पताल शुरू, राजस्व मंत्री ने किया शुभारंभ

कोरबा। राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने शुक्रवार को जिला अस्पताल के नए भवन में 35 आक्सीजनयुक्त कोविड अस्पताल का शुभारंभ किया। जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मरीजों के लिए यह नया अस्पताल एक अतिरिक्त सुविधा होगी। इस नये कोविड अस्पताल में आक्सीजन युक्त बेड उपलब्ध होने से अब माॅडरेट संक्रमण वाले कोविड मरीजों को इलाज के लिए ईएसआईसी कोविड अस्पताल या बालाजी अस्पताल में रिफर नहीं करना पड़ेगा। अस्पताल मे सेंट्रल आक्सीजन वितरण प्रणाली के तहत 25 बिस्तरों पर अभी आक्सीजन सप्लाई की सुविधा है। वहीं 10 बिस्तरों पर सिलेंडर लगाकर मरीजों को आक्सीजन दी जा सकेगी। अस्पताल में अगले दो दिनों में मरीजों की भर्ती भी शुरू हो जायेगी। इस अवसर पर कलेक्टर  किरण कौशल, नगर निगम के सभापति श्यामसुंदर सोनी,सिविल सर्जन डाॅ अरूण तिवारी, नोडल अधिकारी आशीष देवांगन, हास्पिटल कंसलटेंट डॉ.देवेन्द्र गुर्जर एवं अन्य मेडिकल स्टाफ भी मौजूद रहे।
मंत्री अग्रवाल ने कहा कि जिले में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए सभी बेहतर सुविधाएं उपलब्ध हैं। कोरबा जिले में कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए 15 कोविड अस्पतालों में सुविधाएं विकसित कर ली गई हैं। निजी, शासकीय अस्पतालों और आइसोलेशन सेंटरों को मिलाकर लगभग एक हजार 800 बिस्तरों की क्षमता कोरबा जिले में पिछले दो महिने में ही विकसित की गई है। अग्रवाल ने कहा कि जिले में आक्सीजन और स्वास्थ्य संसाधनों की कोई कमी नहीं है। मेडिकल स्टाफ, दवाईयां एवं आक्सीजीनेटेड बिस्तरों की पर्याप्त उपलब्धता जिले के कोविड अस्पतालों में सुनिश्चित की गई है। उन्होंने कहा कि इस नए अस्पताल में अगले एक सप्ताह में गंभीर कोरोना मरीजों के पूर्ण इलाज के लिए पांच नए वेंटिलेटर और 15 नाॅन इनवेंसिव वेंटिलेटर यूनिट भी लगाई जाएंगी।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804