GLIBS

लोकप्रिय
26-01-2021
VIDEO: खेत के दलदल में मिली सरपंच की लाश, जांच में जुटी पुलिस

रायपुर/बालोद। खेत के दलदल में एक युवक की लाश मिली है। मृतक का नाम ओमकार साहू बालोद जिले के करहीभदर का सरपंच बताया जा रहा है। ग्रामिणों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस को सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई है। मिली जानकारी के अनुसार बालोद जिले में खेत के दलदल में एक  सरपंच की लाश मिली है। इससे सरपंच संघ और ग्रामीणों में आक्रोशित है। पुलिस ने जैसे तैसे आक्रोशित भीड़ को काबू किया। पुलिस ने बताया कि लाश को बाहर निकाला गया तो लाश के सिर से खून बह रहा था। जमीन विवाद के कारण हत्या की आशंका बताई जा रही है। वहीं सोमवार शाम पुलिस ने 7 संदिग्ध लोगों को शक के आधार पर हिरासत में लिया है। इन संदिग्ध लोगों में 2 महिलाएं भी शामिल है। फिलहाल लाश को खेत से निकलकर मरचुरी गृह में रखा गया है।

27-01-2021
Video : प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में होगा इजाफा, लिस्ट में जोड़े जाएंगे छूटे 6 हजार नाम

रायपुर। स्वास्थ्य विभाग ने 6 हजार लोगों के नाम निकाले हैं। ये लोग पूर्व में संक्रमित हुए थे, लेकिन नाम परिवर्तन, निजी अस्पताल में इलाज जैसे कारणों से शासकीय आंकड़ों में शामिल नहीं किए जा सके थे। इन 6000 लोगों के नाम सूचीबद्ध कर अब प्रदेश के कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की सूची में जोड़े जाएंगे। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा है कि कोरोना संक्रमण के संपर्क में आए एक भी प्रदेशवासी का नाम छूटने नहीं देंगे। उन्हें सूची में शामिल कर पूरे आंकड़े छत्तीसगढ़वासियों के साथ साझा किए जाएंगे। बता दें कि 26 जनवरी की स्थिति में प्रदेश में कुल 297429 मरीजों की पहचान हो चुकी है। इनमें 189173 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। 3644 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। प्रदेश में एक्टिव केस 5021 है।

27-01-2021
VIDEO: महिला ने कांग्रेस के युवा नेता को जड़ा थप्पड़, सर्किट हाउस में मौजूद थे मंत्री डॉ. डहरिया

अंबिकापुर। गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम के बाद सर्किट हाउस में अफरा तफरी मच गई। सर्किट हाउस में प्रभारी मंत्री  डॉ. शिव डहरिया की मौजूदगी में एक महिला और उसकी बेटी ने कांग्रेस युवा नेता अनिमेष को अचानक आकर थप्पड़ जड़ दिया। मां ने आरोप  लगाया है  कि युवा नेता अनिमेष सिन्हा ने महिला की बड़ी बेटी को रायपुर में बलपूर्वक रखा है। पूरे मामले को स्पष्ट करते हुए सरगुजा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओम चंदेल ने बताया कि अंबिकापुर निवासी महिला की  बड़ी बेटी हैं बालिग है और रायपुर में रहती हैं। महिला की लड़की ने  शिकायत दर्ज कराई थी कि उसके माता -पिता शादी कहीं और कराना चाहते हैं। दूसरी तरफ लड़की की मां का आरोप हैं कि अनिमेष बलपुर्वक दबाव डालकर लड़की को रखा हुआ है और मिलने नहीं देता है । महिला ने यह भी आरोप लगाया है कि एक दिन सकर्पियो वाहन से जाने के दौरान इन्हें रोककर अनिमेष ने मारपीट भी की थी।

महिला की शिकायत पर अंबिकापुर नगर कोतवाली में एफआईआर दर्ज की गई थी। लड़की बालिग है और अंबिकापुर आना नहीं चाहती है।  रायपुर एसपी के समक्ष भी लड़की बयान दे चुकी है। लड़की ने कहा है कि कि माता पिता शादी कहीं और करना चाहते हैं, जो वह करना नहीं चाहती। यहीं कारण है किं लड़की अंबिकापुर आना नहीं चाहती है। एएसपी ओम चंदेल ने बताया कि पुलिस एक टीम महिला थाना प्रभारी को रायपुर में लड़की के पास भेजकर मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान कराएगी। बयान के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।

27-01-2021
हरियाणा के तीन जिलों में इंटरनेट सेवाएं बंद, दिल्ली में किसानों के हंगामे के बाद हरियाणा सरकार एलर्ट मोड़ में

दिल्ली/रायपुर। गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान जमकर हुए हंगामे और उपद्रव के बाद हरियाणा की मनोहर खट्टर सरकार हाई अलर्ट मोड़ पर आ गई है। दिल्ली से लगे 3 जिले सोनीपत झज्जर और पलवल में टेलीकॉम सेवाएं बाधित कर दी गई है। ऐसा एहतियातन किया जा रहा है। इंटरनेट व मोबाईल सेवाओ पर रोक लगाकर एक प्रकार से उपद्रवियों के संपर्क माध्यम को ध्वस्त करने की कोशिश है। दिल्ली में हुए हंगामे के बाद हरियाणा सरकार की एक उच्च स्तरीय बैठक भी हुई उसके बाद सुरक्षा व्यवस्था के लिए कड़े कदम उठाने के फैसले भी किए गए।

27-01-2021
दिल्ली की सड़कों पर उतर आए थे दो भारत, एक में कर्तव्य और राष्ट्रभक्ति नजर आई तो दूसरे में हिंसा उपद्रव व अधिकार

दिल्ली/रायपुर। दिल्ली के लिए आज का दिन यादगार भी रहेगा और दिल्ली के इतिहास पर कलंक के रूप में भी जाना जाएगा। गणतंत्र दिवस पर एक और राजपथ पर पूरा भारत उतर आया था। वह भारत अपनी प्रगति की कहानी कह रहा था। वह भारत अपनी राष्ट्रभक्ति और कर्तव्य के किस्से बयां कर रहा था। वह भारत अपने राज्यों की उपलब्धियों का बयान कर रहा था। वह भारत जो बहादुरी और शौर्य का गर्व से परचम लहरा रहा था। वह भारत जिस पर सारी दुनिया गर्व कर रही थी। वह भारत जिसको देखकर दुश्मन के हौसले पस्त हो जाते हैं। वह भारत जिसकी धमक से दुश्मनों की रूह कांप जाती हैं और यह एक भारत उतरा था दिल्ली में तो दूसरी ओर एक और भारत उतरा था सड़को पर। जहां था सिर्फ उपद्रव हंगामा और हिंसा। राष्ट्रभक्ति का कहीं अता पता नहीं था। राष्ट्रीय संपत्ति को नुकसान करते हुए लोग नजर आए। जहां स्वार्थ सर्वोपरि था। जहां छुपा हुआ राजनीतिक मुद्दा नजर आया। जहां अराजकता थी। जहां राष्ट्रीय सम्मान तिरंगे को नीचा दिखाने की साजिश भी नजर आई। जहां नजर आया सिर्फ और सिर्फ सरकार के खिलाफ एक साजिश के तहत हंगामा करते लोग। दो दो भारत उतरे थे आज दिल्ली की सड़कों पर। दोनों ही इतिहास में दर्ज हो गए है। एक गौरव के लिए दूसरा कलंक के लिए।

26-01-2021
दिल्ली बॉर्डर में बवाल, किसानों की ट्रैक्टर परेड शुरू

रायपुर/नई दिल्ली। तीन कृषि कानूनों के विरोध में गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों की मंगलवार को ट्रैक्टर रैली हो रही है। दिए गए समय से पहले ही किसानों ने सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर बैरिकेड्स तोड़ दिए, जिसके कारण हंगामा मचा हुआ है। पुलिस ने इससे पहले दावा किया था कि दिल्ली आने वाले सभी बॉर्डर सील है। मंगलवार को आंदोलन का 62वां दिन है। गणतंत्र दिवस की परेड से पहले ही किसानों ने अपना ट्रैक्टर मार्च निकालना शुरू कर दिया है। मुकरबा चौक से किसानों ने रिंग रोड की तरफ बढ़ने की कोशिश की तो पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े। शुरुआती बैरिकेडिंग तोड़ने की कोशिश की गई। रिंग रोड पर करीब 200 से ज्यादा किसानों के वाहन आगे बढ़े हैं। कुछ सिख किसानों ने पुलिस की बस पर लाठियों से अटैक किया है। पुलिस की तरफ से दी गई सभी गाइडलाइन को यहां नजरअंदाज किया जा रहा है।

27-01-2021
पंजाब के सीएम ने कहा हिंसा किसी भी सूरत में सही नहीं और उधर पवार कह रहे सख्ती बरती तो पंजाब के हालात बिगड़ेंगे

दिल्ली/रायपुर। गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में किसान आंदोलन के दौरान जो कुछ भी हुआ उसकी अब निंदा होने लगी है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि हिंसा किसी भी सूरत में ठीक नहीं है। लेकिन उसी के साथ ही चौंकाने वाला बयान शरद पवार की ओर से आया है। एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने कहा है कि अगर सरकार किसानों पर सख्ती बरतती है तो पंजाब के हालात बिगड़ेंगे। शरद पवार महाराष्ट्र में बैठे-बैठे पंजाब के हालात बिगड़ने की बात कहकर पता नहीं क्या संकेत दे रहे हैं? वे क्या कहना चाहते हैं? लेकिन उनके इस बयान से एक बात साफ नजर आती है किसान आंदोलन पर उन्हें सख्ती बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं है। यानी किसानो ने जो आज किया उस पर जो सख्ती हुई उस तरह की सख्ती अगर होती है तो पंजाब के हालात बिगड़ेंगे। यह चेतावनी है यह धमकी ह!यह तो स्पष्ट नहीं कहा जा सकता लेकिन यह बयान कहीं से भी पचने वाला नजर नहीं आता है। जबकि इसी सिलसिले में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह का बयान बेहद सुलझा हुआ और सधा हुआ है। उन्होंने साफ-साफ कहा कि हिंसा किसी भी सूरत में सही नहीं है।

26-01-2021
सरपंच के ससुर की नक्सलियों ने की हत्या,मुखबिरी का आरोप 

राजनांदगांव। कोहका थाना क्षेत्र के ग्राम कंदाडी में देर रात सरपंच के ससुर की मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने कुल्हाड़ी से मार कर हत्या कर दी। मृतक का नाम इंदर साई मंडावी (75)निवासी कामखेड़ा थाना कोहका है। मानपुर एसडीओपी ने घटना की पुष्टि की है।आरोपियों की पतासाजी की जा रही है।

26-01-2021
लॉन्च हुआ मेड इन इंडिया गेम FAU-G, यहां से करें डाऊनलोड

रायपुर/नई दिल्ली। लंबे इंतजार के बाद आज गणतंत्र दिवस के मौके पर मेड इन इंडिया गेम FAU-G को लॉन्च कर दिया है। इस गेम के लॉन्चिंग की जानकारी कंपनी ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए दिया है। इसके साथ कंपनी ने एक वीडियो भी शेयर किया है, जिसमें गेम के थीम के बारे में बताया है। टीजर में लद्दाख घाटी के गालवान घाटी को दिखाया गया है, जहां चीन और भारत के सैनिकों के बीच हाथापाई हुई थी। इस टीजर में भारतीय सैनिकों को दुश्मनों से लड़ते दिखाया गया है। माना जा रहा है कि इसमें कुछ टास्क दिए जाएंगे और वहां ही आपको जाना होगा और आतंकियों से लड़ना होगा। ये वो हीप्लेस हैं, जहां भारतीय सेना कई ऑपरेशन कर चुकी है। गेम में युद्ध के साजो-सामान को देखा जा सकेगा। यह गेम गूगल प्ले स्टोर पर लाइव हो गया है और इसका साइज 460 MB का है। ऐप को डाउनलोड करने के लिए आपको गूगल प्ले स्टोर को ओपन करना होगा। इसके बाद आपको FAU-G सर्च करना होगा। फिर सर्च रिजल्ट में जाकर आपको FAU-G पर क्लिक करना होगा। इसके अलावा आप इस  https://bit.ly/37hijcQ लिंक को क्लीक कर भी इस गेम को डाउन लोड कर सकते हैं।
 

27-01-2021
किसान नेताओं ने दिन भर के हंगामे उपद्रव और हिंसा के बाद शाम को ट्रेक्टर परेड वापस ली

दिल्ली/रायपुर । देश की राजधानी दिल्ली की सड़कों पर दिन भर बेहद शर्मनाक ढंग से हुए हंगामे उपद्रव और हिंसा के बाद देर शाम संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने ट्रैक्टर परेड वापस देने की बात कही। ट्रैक्टर परेड वापस लेने का बयान तब सामने आया जब तक सारे उपद्रवी सड़कों को छोड़ कर वापस जा चुके थे और पुलिस ने स्थिति पर नियंत्रण पा लिया था। तब तक किसान नेताओं का कहीं अता पता नहीं था। लेकिन शाम होते होते वे सामने भी आए और उन्होंने सारा दोष अनजान अराजक तत्वों पर मढ दिया और ट्रैक्टर परेड वापस लेने की बात कही साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हमारा आंदोलन शांतिपूर्ण ढंग से चलता रहेगा। लेकिन सवाल ये उठता है कि परेड वापस लेने की बात तब क्यो नही की गई जब उपद्रव हो रहा था, आंदोलनकारियों को जब हंगामा और हिंसा चरम पर था तब वापस आने के लिए क्यो नहीं कहा गया।

26-01-2021
लालबाग परेड मैदान में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को गणतंत्र दिवस पर बस्तर के संभागीय मुख्यालय जगदलपुर के लालबाग परेड मैदान में आयोजित मुख्य समारोह में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली।

 

27-01-2021
सचिन सहवाग और विराट ने दी देशवासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई, कोहली ने कहा आइये देश की ताकत बने

दिल्ली/रायपुर। 72 वें गणतंत्र दिवस पर देशवासियों को तमाम दिग्गजों ने बधाई दी है। क्रिकेट के बेताज बादशाह सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग और भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने भी देशवासियों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी। विराट कोहली ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर कहा कि आइए हम सब मिलकर देश की ताकत बने।