GLIBS

सीएम हाऊस से अमीर हाशमी की बोलती नदी अभियान की शुरुआत

ग्लिब्स टीम  | 10 Nov , 2017 08:55 PM
सीएम हाऊस से अमीर हाशमी की बोलती नदी अभियान की शुरुआत

रायपुर। सी.एम. हाऊस में पूर्व राज्य मंत्री पूनम चंद्राकर  की अध्यक्षता में फिल्ममेकर अमीर हाशमी द्वारा चलाए जाने वाले बोलती नदी अभियान का आरम्भ किया गया।  8 लोगों की टीम में छत्तीसगढ़ भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष युधिष्टिर चंद्राकर सहित धार सांसद सावित्री ठाकुर व अन्य के साथ अमीर हाशमी शामिल हुए। वहीं फिल्ममेकर अमीर हाशमी से चर्चा के दौरान सी.एम. डॉ. रमन सिंह  ने हाशमी को उनकी शार्ट फ़िल्म के लिए इसी वर्ष मिले राष्टीय फ़िल्म सम्मान के लिए बधाई दी तथा विगत सभी सामाजिक कार्यों के लिए भी सराहा और जनवरी माह में अभियान के समापन समारोह में आने की सहमति दी, 21 नवम्बर को रायपुर में उद्घाटन समारोह होगा। जिसमें राज्य के लगभग 2000 युवा शामिल होंगे। दोपहर 2 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस, 3 बजे शार्ट फिल्मों की प्रदर्शनी, शाम 4 बजे अमीर हाशमी की कार्यशाला, 5 बजे उद्धाटन समारोह होगा। वहीं शाम 7 बजे के बाद सांस्कृतिक कायर्क्रम होंगे। 

5 लाख युवाओं से जुड़ेगा अभियान
बोलती नदी एक गैरराजनीतिक अभियान है जिसमें अगले 3 महीनों में अमीर हाशमी और मीर फाउंडेशन की इवेंट टीम छ.ग. के सोलह ज़िलों के 150 से ज़्यादा संस्थानों में वर्कशॉप, फिल्म प्रदर्शनी, लेखन, सेमिनार तथा वाद-संवाद का आयोजन करेगी। जिसमें रायपुर संभाग के 1 लाख व् सम्पूर्ण छत्तीसगढ़ के लगभग 5 लाख़ युवा इस अभियान से जुड़ेंगे तथा नदियों की सुरक्षा व् स्वक्षता के लिए "आईडिया फॉर सेव रिवर" पर संवाद करेंगे तथा राज्य के ऊर्जावान युवाओं के बेस्ट कॉन्सेप्ट को माननीय प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर अवगत कराएंगे। 

सदगुरू के रैली फॉर रिवर से बिलकुल अलग है बोलती नदी
हाशमी के बताया कि सदगुरू जी उनके लिए सम्मानीय है और उनका प्रयास सराहनीय है किन्तु रैली फॉर रिवर केवल एक व्यक्ति का आइडिया है जिसे 50 लाख़ के लगभग लोग घर बैठे मिस-कॉल के माध्यम से समर्थन दे रहें है वहीं बोलती नदी अभियान के माध्यम से हम देश के युवाओं से उनकी राय जानेंगे और उन छोटे से छोटे आइडिया को शॉर्टलिस्ट करके राज्य के लगभग 5 लाख ऊर्जावान युवाओं, इंजीनियरिंग के छात्रों और क्रिएटिव माइंड रखने वाले युवाओं के बेस्ट आइडिया को माननीय प्रधामंत्री जी को भेजेंगे। 

16 ज़िलों में होंगे 150 कार्यशालाओं के आयोजन
नवम्बर माह से  होने वाले इस अभियान की शुरूआत रायपुर होगी तथा राज्य के अन्य ज़िलों में इस अभियान को लेकर जाएंगे, जिसमें महासमुंद, कोंडागांव, कवर्धा, राजनांदगॉव, जांजगीर चाम्पा, बालोद, बलौदाबाज़ार, बिलासपुर, धमतरी, गरियाबंद, कांकेर, दुर्ग, बेमेतरा व् रायगढ़ शामिल है, जिनमें से कुछ शहरों में जैसे रायगढ़, दुर्ग, कांकेर, बेमेतरा इत्यादि में मेगा इवेंट्स की तैयारी है। 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.