GLIBS

ताज़ा खबरें
25-01-2020
नजरबंद उमर अब्दुल्ला की फोटो हुई वायरल, बढ़ी दाढ़ी में पहचानना मुश्किल

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्‍दुल्‍ला और उनके पिता फारूख अब्‍दुल्‍ला को घाटी से आर्टिकल 370 हटाने के बाद से केंद्र सरकार ने नजरबंद रखा है। नजरबंद के बाद छह माह बाद उमर अब्‍दुल्‍ला की एक फोटो वायरल हुई है। इसमें उनकी दाढ़ी बढ़ी हुई है और हमेशा स्टाइलिश रहने वाले उमर को पहचानना मुश्किल हो रहा है। बता दें कि उमर अब्‍दुल्‍ला काफी स्‍टाइलिश हैं और वह अक्‍सर क्‍लीन शेव ही देखे गए हैं। उमर और घाटी के कुछ और नेता चार अगस्‍त से ही नजरबंद हैं। उमर की इससे पहले भी एक फोटोग्राफ सामने आई थी। इस समय उमर के अलावा राज्‍य के दो पूर्व मुख्‍यमंत्री फारूक अब्‍दुल्‍ला और महबूबा मुफ्ती भी नजरबंद हैं। तीन बार जम्‍मू कश्‍मीर के मुख्‍यमंत्री रहे फारूख अब्‍दुल्‍ला को इस समय श्रीनगर स्थित उनके घर में रखा गया है। फारूख, पांच अगस्‍त से ही घर से बाहर नहीं निकले हैं।

25-01-2020
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव: पुलिस प्रशासन ने किया अतिसंवेदनशील ग्रामों का दौरा

आरंग। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए प्रथम चरण का चुनाव 28 जनवरी को होना है। विकासखण्ड आरंग में होने वाले पंचायत चुनावों के मद्देनजर अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी विनीत नंदनवार और अनुविभागीय दंडाधिकारी विनायक शर्मा  ने एसडीओपी एवं पुलिस बल सहित आरंग विकासखंड के संवेदनशील एवं अतिसंवेदनशील ग्रामों का सघन दौरा किया। इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी ने बताया कि कानून व्यवस्था बनाए रखने और किसी भी प्रकार की गड़बड़ी से निपटने के लिए प्रशासन मुस्तैद है। मतदान दिवस के दिन कानून व्यवस्था भंग करने वालों पर कठोर कार्यवाही की जाएगी। दौरे पर अधिकारियों ने ग्राम गुल्लू, समोदा, चपरिद, रानीसागर, कुरूद, कुटेला, मोहमेला, कागदेही, अमसेना, कोड़ापार, भंडारपुरी, कोरासी, भैंसा में फ्लैग मार्च भी किया।

 

25-01-2020
बिलासपुर में छात्रों से मारपीट, एबीवीपी ने राज्यपाल के नाम सौंपा ज्ञापन

 

रायपुर। बिलासपुर स्थित गुरु घासीदास विश्व विद्यालय में छात्र संघ चुनावों के लिए नामांकन के दौरान छात्रों के बीच मारपीट का मामला सामने आया था। इस घटना में अभाविप ने आरोप लगाया कि विद्यार्थी परिषद के छात्रों को टारगेट कर उनसे मारपीट की गई। प्रदेश मंत्री शुभम जायसवाल ने कहा कि एबीवीपी के पूर्व प्रदेश मंत्री सन्नी केसरी सहित अन्य के साथ मारपीट की गई। जिसमें वे और अन्य छात्र जख्मी हुए हैं। जानकारी देने के बाद भी पुलिस ने मामले में कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की है। मामले में कार्रवाई के लिए अभाविप के प्रतिनिधि मंडल ने राज्यपाल अनुसुइया उइके के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान रायपुर महानगर मंत्री विभोर सिंह ठाकुर भी मौजूद रहे।

 

25-01-2020
म्यूजिक एल्बम द फॉरगॉटन आर्मी ने बनाया गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड

मुंबई। बहुप्रतीक्षित अमेज़न ओरिजिनल सीरीज़ "द फॉरगॉटेन आर्मी अजादी के लिए" लॉन्च को चिह्नित करते हुए प्राइम वीडियो ने सबसे बड़े भारतीय सिनेमेटिक म्यूजिकल बैंड के साथ सफलतापूर्वक इस शो के एल्बम पर प्रतिष्ठित लाइव परफॉर्मेंस देते हुए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बना लिया है। अमेज़न प्राइम वीडियो ने 1000 लाइव कलाकारों के साथ एक विशाल लाइव म्यूज़िकल इवेंट का आयोजन किया था। यहाँ 1000 गायक और वाद्य यंत्र एक साथ अमेज़न ओरिजिनल सीरीज़ "द फॉरगॉटन आर्मी आज़ादी के लिए" के एल्बम पर परफॉर्म करते हुए नजर आए, जो संगीत के उस्ताद प्रीतम चक्रवर्ती द्वारा रचित है।

निर्माता और निर्देशक, कबीर खान ने कहा, यह प्रवीणता के उच्चतम स्तर के साथ एक शानदार परफॉर्मेंस थी। प्रीतम ने साझा किया-"मैं आजाद हिंद फौज के बहादुर सैनिकों की याद में आयोजित, प्रतिभाशाली संगीतकारों के इस सामूहिक प्रदर्शन के साथ इस अनोखे परफॉर्मेंस का हिस्सा बनने का अवसर पाकर रोमांचित महसूस कर रहा हूं। इस गणतंत्र दिवस, आइए, हम सभी इस भूले-बिसरे इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय सेना के बलिदान को समझने की एक कोशिश करते है।"  इस लाइव बैंड के जरिये देश भर से 1000 संगीतकारों को पेश किया गया है जो द फॉरगॉटन आर्मी के लोकाचार को जीवंत करता है और अपने सामान्य लक्ष्य से बंधे हुए है। एल्बम और इस संगीत कार्यक्रम ने द लार्जेस्ट इंडियन सिनेमैटिक म्यूज़िकल बैंड के रूप में एक प्रतिष्ठित गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाकर इतिहास रच दिया है। 

 

25-01-2020
मलेरिया के उन्मूलन से कुपोषण और एनीमिया से मिलेगी मुक्ति: भूपेश बघेल  

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि बस्तर दुनिया के सबसे खूबसूरत जगहों में से एक है और उससे भी ज्यादा अच्छे यहां के लोग हैं। सब कुछ अच्छा होने के बावजूद यहां कुछ कमियां है। इनमें कुपोषण, एनीमिया और मलेरिया प्रमुख है। उन्होंने कहा कि मलेरिया से पीड़ित होने पर शरीर के पोषक तत्वों में कमी हो जाती है, जिससे एनीमिया और कुपोषण जैसी समस्याएं उत्पन्न होती है। इसलिए यदि मलेरिया का उन्मूलन कर दिया जाए तो एनीमिया और कुपोषण से भी मुक्ति मिल सकती है। मुख्यमंत्री बघेल आज दंतेवाड़ा के कारली पुलिस लाईन में आयोजित मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के कार्यक्रम में उपस्थित जनसमूह हो सम्बोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुपोषण को दूर करने के लिए जून 2019 से हम मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान चला रहे हैं, जिसे आप सबकी भागीदारी से अच्छी सफलता मिल रही है। उन्होंने कहा कि 15 जनवरी से पूरे बस्तर संभाग में मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान शुरू किया गया है, जिसमें आप सभी की भागीदारी जरूरी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मलेरिया के सर्वाधिक प्रकरण बस्तर संभाग में पाए जाते हैं इसलिए यह अभियान बस्तर से शुरू किया गया है। आजकल देखने में यह आया है कि मलेरिया होने के बावजूद भी इसके लक्षण दिखाई नहीं देते। इसलिए सभी को चाहे बुखार हो या ना हो मलेरिया की जांच अवश्य करानी चाहिए, तभी हम बस्तर को मलेरिया मुक्त बना सकते हैं। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य कार्यकर्ता विपरीत भौगोलिक परिस्थितियों के बावजूद हर गांव और घर तक पहुंच रहे हैं। इन कार्यकर्ताओं का सहयोग कर अभियान में भागीदार बनें। उन्होंने मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान में लगे सभी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को बधाई दी। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि अभियान के दौरान मलेरिया की जांच और उपचार तो हो ही रहा है। यह कोशिश की जानी चाहिए कि मलेरिया को होने ही नहीं दिया जाए। इसके लिए घर के आसपास सफाई और मच्छर के लार्वा को नष्ट करें। इसके साथ ही सभी लोग मच्छरदानी लगाकर सोने की आदत डालें। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी लोगों को मलेरिया मुक्त बस्तर बनाने की शपथ दिलाई।

उद्योग एवं वाणिज्यिक कर मंत्री कवासी लखमा ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। लखमा ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल हर बड़े अभियान या कार्यक्रम की शुरुआत बस्तर से करते हैं। चाहे मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान हो या मुख्यमंत्री हाट बाजार योजना। अब मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान की शुरुआत भी बस्तर से की गई है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जो भी अभियान और कार्यक्रम शुरू करते हैं वह सफल होता है। यह कार्यक्रम भी आप सबकी भागीदारी से सफल होगा। कार्यक्रम को स्थानीय विधायक देवती कर्मा ने भी संबोधित किया।

स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह ने मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बस्तर में परजीवी सूचकांक सबसे ज्यादा है। प्रदेश में मलेरिया के प्रकरणों में से 72 प्रतिशत प्रकरण बस्तर से आते हैं। इसलिए इस अभियान की शुरुआत बस्तर से की जा रही है। उन्होंने कहा कि मलेरिया की जांच और उपचार के लिए पूरे संभाग में 1720 मलेरिया दलों का गठन किया गया है। अब तक पांच लाख से अधिक लोगों की जांच की जा चुकी है, जिसमें से 22 हजार 777 व्यक्ति मलेरिया से पीड़ित पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि जनवरी, जुलाई और नवम्बर में मलेरिया ज्यादा होता है। जनवरी में अभियान का यह पहला चरण है। जुलाई और नवम्बर में मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान का दूसरा और तीसरा चरण प्रारंभ किया जाएगा। कार्यक्रम के अंत में राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन की संचालक प्रियंका शुक्ला ने आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर कमिश्नर अमृत कुमार खलखो, पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी., कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा, पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव, सहित अनेक वरिष्ठ अधिकारी और नागरिक उपस्थित थे।
 

मुख्यमंत्री ने कराई मलेरिया की जांच
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कारली पुलिस लाईन स्थित कार्यक्रम में मलेरिया जांच के लिए लगाए गए शिविर का अवलोकन किया। उन्होंने स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं से बात की। स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के आग्रह पर मुख्यमंत्री ने अपने खून की जांच कराई, जिसमें उन्हें मलेरिया निगेटिव पाया गया। मुख्यमंत्री ने शिविर स्थल पर सेल्फी जोन में फोटो भी खिचाई और सिग्नेचर जोन में अपने हस्ताक्षर किए।

 

25-01-2020
गणतंत्र दिवस पर सम्मानित होंगे सेना के 5 जाबांज जवान

नई दिल्‍ली। गणतंत्र दिवस पर भारतीय सेना के पांच सैनिकों को सर्वोच्‍च सैन्‍य पुरस्‍कार शौर्य चक्र से सम्‍मानित किया जाएगा। सरकार की तरफ से शनिवार को इस बात की घोषणा की गई है। इसमें दो ऑफिसर, दो जेसीओ और एक जवान है को शौर्य चक्र से सम्‍मानित किया जाएगा। इसमें लेफ्टिनेंट कर्नल ज्‍योति लामा, मेजर केबी सिंह, नायब सूबेदार एन.सिंह, नायक एस. कुमार और सिपाही कर्मदेओ ओराओन के नाम शामिल हैं। नायब सूबेदार नरेंद्र सिंह पैराशूट रेजीमेंट के हैं। एलओसी पर उन्‍होंने एक ऑपरेशन के दौरान दो आतंकियों को मारा था और एक आतंकी को घायल किया था। इनमें से एक आतंकी एलओसी पर स्थित सेना की पोस्‍ट्स पर निशाने की साजिश कर रहा था। लेफ्टिनेंट कर्नल ज्‍योति लामा ने पिछले वर्ष जुलाई में मणिपुर में हुए एक ऑपरेशन के दौरान दो आतंकियों को ढेर कर दिया था।

ऑपरेशन के दौरान 14 खतरनाक आतंकियों की गिरफ्तारी का श्रेय भी लेफ्टिनेंट कर्नल ज्‍योति लामा को दिया जाता है। सिपाही कर्मदेओ ओराओन के सिर पर एलओसी पर जारी एक ऑपरेशन के दौरान सिर पर गोली लग गई थी। उन्‍होंने बुलेट प्रूफ पटका (एक तरह की टोपी) पहनी हुई थी। इसके बाद उन्‍होंने नौ ग्रेनेड फेंके,जिसमें दो आतंकी मारे गए थे और इस तरह से चार आतंकियों की तरफ से हुआ हमला फेल हो गया था। जाट रेजीमेंट के नायब सूबेदार सोमबिर सिंह को मरणोपरांत शौर्य चक्र से सम्‍मानित किया गया है। उन्‍होंने जम्‍मू कश्‍मीर में हुए एक एनकाउंटर में पाकिस्‍तान के आतंकी को ढेर किया था।

 

25-01-2020
CH / NEWS
04:50pm

छत्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय द्वारा राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर राजधानी रायपुर में राज्य स्तरीय समारोह हुआ।

25-01-2020
गबन और धोखाधड़ी मामले में पूर्व संचालकों के खिलाफ एफआईआर

रायपुर। शहर के जेंटल इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के पूर्व के चार संचालकों के खिलाफ राजेन्द्रनगर थाना पुलिस ने कूटरचना कर कंपनी के 43 लाख रुपए के गबन करने और धोखाधड़ी के मामले में एफआईआर दर्ज की है। चारों पूर्व संचालकों पर राशि गबन कर वर्षों तक कंपनी को गुमराह करने का आरोप है। फिलहाल पुलिस चारों को तलाश कर रही है। राजेन्द्र नगर थाना पुलिस के मुताबिक संतोष पांडे, मनोज उपवेचा, नवीन शर्मा और जयपाल सिंह गुलाटी जेंटल इंटरटेनमेंट कंपनी के पूर्व संचालक थे। उस समय इन चारों ने भिलाई की अपना केबल नेटवर्क प्रालि. को पर्याप्त संख्या में सेटअप बॉक्स कंपनी की आड़ लेकर बेचा था। घालमेल उजागर होने पर कंपनी के संचालक रिंकू कुमार कहार ने विक्रय किए गए सेटअप बॉक्स का हिसाब और रकम की जानकारी चारों आरोपियों से मांगी तो वे टालमटोल करने लगे। कई महीनों बाद भी ना तो हिसाब दिया ना जानकारी दी।

 

25-01-2020
ट्रेन से कटकर छात्रा की मौत, हेडफोन बनी वजह...

रायपुर। शहर के सरस्वती नगर थाना क्षेत्र में एनआईटी की छात्रा की ट्रेन से कटकर मौत हो गई। बता दें कि छात्रा आंध्रप्रदेश की रहने वालीं है। एनआईटी से इंजीनिरिंग की पढ़ाई कर रहीं थीं। छात्रा के कानों में हेडफोन लगा हुआ था, जिसकी वजह से उसे ट्रेन की आवाज़ सुनाई नहीं दी और लापरवाही के चलते उसकी जान चली गई।

25-01-2020
त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव: विधायक ने सांसद पर किया कटाक्ष, पढ़े पूरी खबर  

बलरामरपुर। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की जंग छिड़ चुकी है। सभी नेता अपनी-अपनी पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के प्रचार प्रसार में जुट गए है। रामानुजगंज विधायक बृहस्पत सिंह चुनावी जनसम्पर्क के दौरान राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम पर निशाना साधा है। बृहस्पत सिंह ने कहा कि राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम राष्ट्रीय स्तर के नेता होने के बाद भी क्षेत्र की राजनीति से मोह नही छोड़ रहे हैं। बृहस्पत सिंह ने कहा कि रामविचार नेताम अपनी पत्नी और बेटी को चुनाव जीताकर एक बार फिर सरकारी खजाने के पैसे को लूटकर दिल्ली लेना चाहते है। हालांकि विधायक बृहस्पत सिंह के इस बयान के बाद राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम की किसी प्रकार की प्रतिक्रिया नही मिल पायी है। बता दें कि राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम की बेटी जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 2 से सदस्य पद के लिए चुनाव लड़ रही है। वहीं उनकी पत्नी जिला पंचायत क्षेत्र क्रमांक 6 से चुनाव मैदान में है।  

 

25-01-2020
बच्चे की मौत का मामला : लापरवाही बरतने पर अधीक्षक निलंबित

 

बीजापुर। जिले के तोयनार आवासीय विद्यालय में मलेरिया से हुई छात्र प्रमोद कुड़ियाम की मौत के बाद कलेक्टर ने अधीक्षक को निलंबित कर दिया। इस मामले को जिला प्रशासन ने गंभीरता से लिया और बीजापुर एसडीएम और तहसीलदार की एक टीम को तोयनार भेजा था। टीम ने अधीक्षक, शिक्षकों और बच्चों से जानकारी प्राप्त की। जांच में अधीक्षक की लापरवाही सामने आने आई। इसके बाद कलेक्टर केडी कुंजाम ने तोयनार पोटाकेबिन अधीक्षक सुशील हेमला को कार्य में लापरवाही बरतने के चलते निलंबित कर दिया।

25-01-2020
स्वास्थ्य विभाग की टीम मलेरिया की जांच करने पहुंची गांवों तक  

जगदलपुर। जिले के अबूझमाड़ के दुरूह गांवों तक हेल्थ टीम पहुंचने लगी है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की एमडी और जिले की प्रभारी सचिव डॉ. प्रियंका शुक्ला ने मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के क्रियान्वयन की समीक्षा की। मलेरिया जांच करने क्षेत्र के दूरस्थ इलाक़ो तक पहुंच रहे मैदानी अमले की प्रशंसा भी की गई। प्रभारी सचिव के आगमन उपरांत यूनीसेफ और न्यूट्रीशन इंटरनेशनल की ओर से सुपोषण के संबंध में एक कार्यशाला का आयोजन भी किया गया। इसके बाद शाम को डॉ. प्रियंका शुक्ला जिला अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंची। उनके साथ आए राज्य स्तरीय दल को उन्होंने जिला अस्पताल की आवश्यकताओं का आंकलन कर आवश्यक सहयोग प्रदान करने के लिए निर्देशित किया। प्रभारी सचिव डॉ. शुक्ला देर रात तक सर्किट हाऊस में जिले के स्वास्थ्य अफसरों की बैठक लेकर मातृत्व और शिशु स्वास्थ्य को लेकर कार्ययोजना तैयार करने में व्यस्त थीं। उन्होंने हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारियों से अभिमत लिया और सुपोषण के लिए किए जा रहे प्रयासों को प्रभावी नवाचार से जोड़ने के लिए कई महत्वपूर्ण सुझाव भी दिए। जिले के पहुंच विहीन और दूरस्थ गांवों तक डिपार्टमेंट की पहुंच कायम होने को बड़ी उपलब्धि के तौर पर देखा जा रहा है। इससे न केवल लोगों की सेहत संवारी जा सकेगी, बल्कि उन गांवों में मातृ और शिशु स्वास्थ्य की दिशा में भी बेहतर कामकाज करने में मदद मिलेगी। डॉ. शुक्ला ने मलेरिया जांच के लिए सघन अभियान चलाने और किसी भी ग्रामीण को न छूटने पर जोर दिया। पॉजीटिव पाए जाने वालों को तत्काल उपचार मुहैया करवाने निर्देशित किया। उनका मानना है कि बस्तर संभाग में मलेरिया की बड़ी वजह कुपोषण और एनीमिया है, लिहाजा टीम भावना के साथ सभी को मिलकर काम करने की जरूरत है।

बच्चे करेंगे जागरूक

छोटे बच्चों को मलेरिया के विषय में कविताओं के माध्यम से जागरूक करने का प्रयास किया जा सकता है। स्कूल सहित अन्य प्रमुख सार्वजनिक स्थलों पर स्थानीय भाषा में नारे लिखकर भी लोगों तक संदेश पहुंचाया जा सकता है। जिले के प्रत्येक हिस्से तक मलेरिया मुक्त अभियान की पहुंच कायम करने डॉ शुक्ला ने जोर दिया।

बनेगी कार्ययोजना

महिला बाल विकास, एसएचजी, स्वास्थ्य विभाग के साथ ही दूसरे विभागों की संयुक्त बैठक में कुपोषण दूर करने और स्थानीय लोगों के खान पान को समझकर क्षेत्र आधारित कार्ययोजना तैयार करने निर्देशित किया। स्वास्थ्य सुविधा और अन्य राष्ट्रीय कार्यक्रमों की पहुंच दूरस्थ और कठिनतम् क्षेत्रों (अबूझमाड़) में रह रहे प्रत्येक जन तक पहुंच रही सेवाओं की कवरेज पर अधिकारी, कर्मचारी और फील्ड स्टाफ के काम पर प्रसन्नता व्यक्त किये। कलेक्टर पीएस एल्मा ने कार्य वृतांत बताया। जिपं सीईओ प्रेमप्रकाश पटेल, एसडीएम निलेश नाग बैठक में मौजूद थे। एक दिवसीय भ्रमण पर नारायणपुर पहुंचीं प्रभारी सचिव ने मलेरिया मुक्त अभियान के अंतर्गत फील्ड स्टाफ से फीडबैक प्राप्त किया।