GLIBS

GLIBS Exclusive
03-06-2020
CH / SHOWS
09:04pm

खरी-खरी। बेमौसम बरसात ने शहर की सफाई व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त कर दिया।  शहर के चेहरे पर लगे बदबूदार दाग साफ कर दिए और चकाचक धोकर शहर को साफ सुथरा कर दिया शुक्रिया बादलों ऐसे ही आते रहना मेरे शहर कम से कम सड़क के तो धुली हुई दिखेंगी।

02-06-2020
CH / SHOWS
09:13pm

खरी खरी। भाजपा संगठन में बहुप्रतीक्षित फेरबदल हो ही गया है। विक्रम उसेंडी गए और विष्णुदेव साय नए अध्यक्ष होंगे। गौर से देखा जाए तो संगठन में हुआ परिवर्तन कुल मिलाकर रमन सिंह के ताकतवर बने रहने का संकेत देता है। डॉ रमन सिंह के खिलाफ सालों से मोर्चा खोल बैठा एक बड़ा गुट इस बार भी  नाकाम रहा है और उसके सारे मंसूबों पर डॉ रमन सिंह ने अपनी सियासी चाल से पानी  फेर दिया है।

01-06-2020
CH / SHOWS
08:24pm

खरी खरी। 3 दिन की बच्ची को एक दूध की बोतल के भरोसे सड़क पर छोड़ गए कुछ लोग। पता नहीं क्या कारण था? क्या उनके हाथ नहीं कांपे? क्या उनकी ममता ने जोर नहीं मारा? क्या इंसानियत मर गई थी? क्या यह मानवता पर कलंक नहीं? आखिर ऐसी क्या मजबूरी थी जो ममता पर हावी हो गई? एक बच्ची को छोड़कर उसे जन्म देने वाले क्यो भाग खड़े हुए?

01-06-2020
CH / NEWS
08:03pm

रायपुरI राजधानी के ऐतिहासिक सप्रे शाला मैदान का अस्तित्व अब संकट में नजर आ रहा है।  बूढ़ातालाब सौंदर्यीकरण के लिए इस मैदान का एक बड़ा हिस्सा सड़क चौड़ीकरण की भेंट चढ़ जाएगा। सप्रे मैदान पर असर पड़ने से नागरिकों में नाराजगी भी देखी जा रही है। वहीं दूसरी ओर महापौर एजाज ढ़ेबर इसे सौंदर्यीकरण के लिए जरूरी बताकर तीन चरणों में काम पूरा होने की बात कह रहे हैं। 

31-05-2020
CH / SHOWS
08:51pm

खरी खरी। विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाने  की औपचारिकता पूरी कर ली गई। यह चोचला हर साल किया जाता है। साल में 1 दिन तंबाकू का टोकन विरोध करने के  बाद सब लग जाते हैं तंबाकू का सेवन करने में। तंबाकू बेचने में। गुटका हुक्का पिलाने में। क्या सिर्फ तम्बाखू की चीजों पर सिर्फ चेतावनी लिख देना काफी है? बंद क्यों नहीं कर देते उन चीजों की बिक्री जो हानिकारक होती है।

30-05-2020
CH / SHOWS
08:29pm

खरी खरी। नक्सलियों से लोहा लेना छोड़ हमारे जवान आपस में लड़ रहे है। कल हुए खूनी संघर्ष में 2 जवानों की जान चली गई एक बुरी तरह घायल है। जिन जवानों को नक्सलियों का खून बहाना है नक्सलियों पर गोली चलाना है वे आपस में एक दूसरे पर गोली चला रहे हैं। एक दूसरे का खून बहा रहे है। ऐसे में सिर्फ यह देना कि आपसी तनाव के कारण ऐसा हुआ है क्या काफी है? तनाव कम करने के उपाय भी तो जरूरी है।फिर आखिर उनमें तनाव है ही क्यो?

29-05-2020
CH / NEWS
09:16pm

रायपुर। अजीत जोगी छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री थे। वे आईएएस थे और आईपीएस भी थे। वे इंजीनियरिंग कॉलेज में प्राध्यापक भी  रहे है। बहुमुखी प्रतिभा के धनी अजीत जोगी जब राजनीति में आए तो फिर उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। उनके बचपन की दुर्लभ तस्वीर से लेकर प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेई के साथ तस्वीर उनके आत्मविश्वास को दर्शाती है। तस्वीरों में देखिए अजीत जोगी  का सफर

29-05-2020
CH / SHOWS
08:58pm

खरी खरी। अजीत जोगी आम आदमी के नेता नहीं आम आदमी जैसे ही नेता थे। आम आदमी उन्हें अपने जैसा ही समझता था और अपना ही मानता था। आम आदमी से इतने करीब से जुड़ने वाला पहले खास आदमी थे अजीत जोगी। अजीत जोगी अब इस दुनिया में नहीं है। उनकी कमी हमेशा खलेगी। छत्तीसगढ़ के विकास के लिए हर पल सोचने वाले जोगी को शत-शत नमन।

29-05-2020
CH / NEWS
08:15pm

छत्तीसगढ़ के माटीपुत्र प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री अजीत जोगी का लम्बे संघर्ष के बाद निधन हो गया। उनके पार्थिव शरीर को शुक्रवार रात तक रायपुर निवास में चाहने वालों के दर्शनार्थ रखा जाएगा। छत्तीसगढ़ सरकार ने उनके निधन पर तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया है। 30 मई को राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार गौरेला में किया जाएगा। 

23-05-2020
CH / SHOWS
08:26pm

खरी-खरी। कोरोना बहुत तेजी से छत्तीसगढ़ में पैर पसार रहा है। उसकी रफ्तार डराने वाली है। ऐसे में जरूरत है संयम की हौसले की और जिम्मेदारी की। ये बात सिर्फ जनता पर नहीं बल्कि नेताओं पर और उसके साथ ही मीडिया पर भी लागू होती है। ऐसे दौर में खबरों को जांच परख कर ही जारी करना चाहिए खासकर कोरोना के मामले की खबरों को। बेवजह विवाद खड़ा हो गया है स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव के बयान पर। अब मंत्री कह रहे हैं मैंने ऐसा नहीं कहा तो फिर मीडिया ने क्यों ऐसा दिखाया। दोनों में से कोई न कोई तो ग़लत जरूर है और इस तरह की गलती प्रदेश के लिए नुकसानदेह है।

16-05-2020
CH / SHOWS
08:11pm

खरी-खरी। कोरोना चीन से निकला और यूरोप व मिडिल ईस्ट होते हुए भारत पहुंचा। भारत में कोरोना अमीर लेकर आए और अमीरों की बीमारी को अब गरीब ढो रहे हैं। गरीबों कि किस्मत में शायद मरना ही लिखा है वो बीमारी से मर रहे है या फिर सड़क हादसों में। मर तो गरीब ही रहा है इस देश मे।

15-05-2020
CH / SHOWS
09:36pm

खरी खरी। ऐसा लगने लगा था कि छत्तीसगढ़ ने कोरोना पर विजय हासिल कर ली है। कोरोना मुक्त होने जा रहा था छत्तीसगढ़ मात्र तीन पेशेंट बचे थे पर अचानक बालोद में एक पॉजिटिव मिला और फिर जांजगीर में पांच और कोरिया में एक और पॉजिटिव मिल गया। कहां तो छत्तीसगढ़ कोरोना मुक्त होने जा रहा था और अब यंहा 10 पॉजिटिव पेशेंट है। क्या कोरोना पॉजिटिव की संख्या बढ़ने के लिए हमारी लापरवाही जिम्मेदार नहीं है?