GLIBS

21-01-2020
भारतीय टीम न्यूजीलैंड रवाना, खेलेगी पांच टी-20, तीन वनडे और दो टेस्ट मैच

नई दिल्ली। भारतीय टीम ने साल 2020 की शुरुआत घर में लगातार दो सीरीज में जीत दर्ज कर की है। पहले श्रीलंका को टी-20 सीरीज में हराया और फिर ऑस्ट्रेलिया को वनडे में 2-1 से हराकर सीरीज पर कब्ज़ा किया। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जीत से भारतीय टीम का आत्मविश्वास बढ़ा हुआ है। हालांकि साल के पहले कठिन विदेशी दौरे के लिए भारतीय टीम कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है और इसीलिए पूरी तैयारी के साथ न्यूजीलैंड दौरे में भारतीय टीम को शुरुआत में पांच टी-20 मुकाबले खेलने हैं जिसके लिए टीम का चयन पहले ही हो चुका है। इसके बाद वनडे और टेस्ट टीम का चयन होगा जिसमें नए खिलाड़ियों को मौका मिल सकता है। टीम के लिए शिखर धवन, ऋषभ पंत के साथ इशांत शर्मा की चोट भी चिंता का विषय बनी हुई है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी वन-डे में अपना कंधा चोटिल करा बैठे शिखर धवन न्यूजीलैंड दौरे की टी-20 और वन-डे टीम से बाहर हो गए हैं।

 

 

21-01-2020
विडंबना : बच्चे खेलना चाहते हैं क्रिकेट लेकिन उनके पास नहीं है सामान, ऐसे कर रहे अपना शौक पूरा

जगदलपुर। बस्तर के नक्सल प्रभावित क्षेत्र ग्राम बोदली से एक तस्वीर निकल कर सामने आई है। जहां पर स्कूल की छुट्टी के समय बच्चे खेलकूद करने की इच्छा रखते हैं मगर इन बच्चों के पास क्रिकेट का सामान नहीं होने से इन बच्चों ने चप्पल काट के गेंद बनाई और सभी बच्चे के हाथ में बल्ले की जगह लकड़ियां नजर आई बच्चे एक साथ क्रिकेट खेलते नजर आ रहे हैं। बच्चों ने क्रिकेट खेलने का यह नया तरीका अपनाया है बच्चों ने एक चप्पल को काट कर गेद का आकार दिया है और छुट्टी के समय सभी बच्चे एक साथ मिलकर क्रिकेट खेलते नजर आ रहे हैं।

कुछ दिन पहले दंतेवाड़ा के कटेकल्याण बेंगलुर के रहने वाले मडाराम का क्रिकेट खेलते वीडियो वायरल हुआ था जिस पर क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने उन्हें ट्वीट कर बधाई दी थी तभी से मडाराम को पूरी दुनिया जानने लगी थी और सचिन तेंदुलकर ने मडाराम के लिए एक क्रिकेट किट और एक बल्ला जिसमें सचिन तेंदुलकर लिखा हुआ है और एक पत्र भी भेजा है। जिसमें लिखा है कि मडाराम आप खेलते रही है और आगे बढ़ते रहिए शायद अब इन बच्चों की तस्वीरों को देखकर कोई इन बच्चों के लिए भी आगे आएगा और इन बच्चों को खेलने की सामग्री भी शायद दे सकता है। विडंबना यह है कि इन बच्चों को खेलने का शौक तो जरूर है मगर सामान नहीं होने के कारण यह बच्चे इसी प्रकार यह खेल खेलते नजर आ रहे हैं इन बच्चों ने क्रिकेट को नया रूप दिया है। यह सभी बच्चे एक साथ मिलकर बैटिंग और बॉलिंग भी करते नजर आ रहे हैं।

 

20-01-2020
हीरा ग्रुप, भैरव राइजिंग स्टार्स और वीर एवेंजर्स ने जीता फेस्टिवल ऑफ क्रिकेट का खिताब

रायपुर। वीर स्पोर्ट्स क्लब के तत्वाधान में आयोजित पगारिया ज्वेलर्स फेस्टिवल ऑफ क्रिकेट में आज 3 फाइनल मुकाबले खेले गए। क्लब के अध्यक्ष प्रवीण जैन ने बताया कि जीतो स्वस्तिक जूनियर जेपीएल का फाइनल सन्मति इलेवन और वीर एवेंजर्स के मध्य खेला गया। सन्मति इलेवन ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 4 विकेट पर 83 रन बनाए, जिसके जबाव में वीर एवेंजर्स ने 5 विकेट से यह मुकाबला जीत कर खिताब अपने नाम किया। दिन का दूसरा फाइनल कॉर्पोटेट लीग में हीरा ग्रुप और टाइल्स एन्ड मार्बल्स एसोशिएशन के बीच खेला गया। टॉस गंवाने के बाद हीरा ग्रुप ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 12 ओवर्स में 8 विकेट के नुकसान पर 128 रन बनाए,जिसमें मृत्युंजय ने 15 गेंदों पर 35 बनाये, जबाव में टाइल्स मार्बल्स ने 117 ही 9 विकेटों पर बना सके। हीरा की तरफ से चंद्रशेखर ने 4 विकेट हासिल किए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया। दिन का अंतिम फाइनल मुकाबला जैन प्रीमियर लीग का फाइनल मैच भैरव राइजिंग स्टार और श्रीअरिहंत इलेवन के बीच खेला गया,जिसमें भैरव राइजिंग स्टार ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और निर्धारित 12 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 171 रन बनाए। उसके जवाब में उत्तरी अरिहंत इलेवन की टीम निर्धारित 12 ओवर में सिर्फ 97 रन ही बना सकी और 74 रन से यह मैच हार गई। भैरव रेसिंग स्टार की तरफ से तन्मय जैन ने 45 ऋषभ पारख में 64 और अंकित जैन ने 40 रनों का योगदान दिया और श्रीअरिहंत इलेवन की तरफ से बॉलिंग करते हुए सौरव बाफना ने 19 रन देकर दो विकेट लिए।

अरिहंत इलेवन की तरफ से आकाश ने सबसे ज्यादा 31 रन बनाए और भैरव राइजिंग स्टार की तरफ से बॉलिंग करते हुए अंकित जैन ने 18 रन देकर तीन विकेट लिए। मैन आफ द मैच का पुरस्कार अंकित जैन को दिया गया। सभी फॉर्मेट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के आधार पर खिलाड़ियों को व्यक्तिगत पुरस्कार भी दिए गए। इनमें जूनियर जेपीएल में बेस्ट बॉलर मधुर लुनिया, बेस्ट फिल्डर अक्षत सेठ, बेस्ट बेस्टमैन तन्मय और मैन ऑफ द सीरीज जैनम लुनिया, व्हीलचेयर क्रिकेट में बेस्ट फिल्डर थानेश्वर, बेस्ट बॉलर युधिष्ठिर भोई, बेस्ट बेस्टमैन और सीरीज किशोर नावरंगे, कॉर्पोटेट क्रिकेट में बेस्ट फिल्डर एवं बेस्ट बॉलर एस चंद्राकर, बेस्ट बेस्टमैन विक्कू चंद्राकर, मैन ऑफ द सीरीज पंकज बजाज रहें। जेपीएल सीनियर्स में बेस्ट बॉलर अंकित जैन, बेस्ट फिल्डर ऋषि सेठ और विवेक सांखला, बेस्ट बेस्टमैन ऋषभ पारख, मैन ऑफ द सीरीज और इमर्जिंग प्लेयर का खिताब तन्मय जैन रहे। पुरस्कार वितरण महापौर एजाज ढेबर, सभापति प्रमोद दुबे, चेम्बर के संरक्षक रमेश मोदी, तिलोकचंद बरडिया, अशोक पगारिया, प्रेमचंद लुनावत ने किया।

20-01-2020
आईसीसी ने जारी की एकदिवसीय रैंकिंग, बल्लेबाजी में कोहली और गेंदबाजों में बुमराह शीर्ष स्थान पर

नई दिल्ली। भारतीय कप्तान विराट कोहली और उपकप्तान रोहित शर्मा ने सोमवार को जारी आईसीसी एकदिवसीय रैंकिंग की बल्लेबाजी तालिका में पहले दो स्थानों पर अपनी पकड़ मजबूत बनाई रखी है और जबकि जसप्रीत बुमराह ने गेंदबाजों की सूची में शीर्ष स्थान बरकरार रखा है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हाल में समाप्त हुई श्रृंखला में शानदार प्रदर्शन के बाद कोहली ने नंबर एक और रोहित ने नंबर दो रैंकिंग को मजबूती प्रदान की। भारत ने यह श्रृंखला 2-1 से जीती। कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन मैचों की श्रृंखला में 183 रन जबकि रोहित ने 171 रन बनाए। रोहित ने बेंगलुरु में तीसरे वनडे में 119 रन की पारी खेली थी। आईसीसी के रैंकिंग अनुसार कोहली के 886 और रोहित के 868 अंक हैं। उनको क्रमश: दो और तीन रेटिंग अंक मिले। पाकिस्तान के बाबर आजम 829 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर हैं। बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने दो पारियों में 170 रन बनाए और वह सात पायदान ऊपर 15वें स्थान पर पहुंच गए।

कंधे की चोट के कारण वह तीसरे वन-डे में बल्लेबाजी नहीं कर पाए। उनकी जगह पारी का आगाज करने वाले केएल राहुल ने तीन मैचों में कुल 146 रन बनाए और वह 21 पायदान चढ़कर 50वें स्थान पर पहुंच गए। चोट से उबरकर वापसी करने वाले बुमराह गेंदबाजों की सूची में 764 अंक लेकर शीर्ष पर हैं। उनके बाद न्यूजीलैंड के बायें हाथ के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ओर अफगानिस्तान के मुजीब उर रहमान का नंबर आता है। दक्षिण अफ्रीका के कागिसो रबाडा और ऑस्ट्रेलिया के पैट कमिंस शीर्ष पांच में शामिल अन्य गेंदबाज हैं। भारतीय ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा दो पायदान पर 27वें स्थान पर पहुंच गए हैं। उन्होंने श्रृंखला में चार विकेट लिए। जडेजा ने 45 रन भी बनाए, जिससे वह ऑलराउंडर्स की सूची में चार पायदान आगे दसवें नंबर पर पहुंच गए। ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ ने श्रृंखला में सर्वाधिक 229 रन बनाए, जिसमें अंतिम वन-डे में बनाए गए 131 रन भी शामिल है। इससे उन्हें चार स्थान का फायदा हुआ और वह 23वें नंबर पर पहुंच गए हैं। डेविड वार्नर भी एक पायदान ऊपर छठे जबकि कप्तान आरोन फिंच दसवें स्थान पर पहुंच गए। विकेटकीपर अलेक्स कैरी दो पायदान के फायदे से 31वें स्थान पर काबिज हो गए हैं। लेग स्पिनर एडम जांपा ने श्रृंखला में पांच विकेट लिए, जिससे वह 20 पायदान की छलांग लगाकर 37वें स्थान पर पहुंच गए हैं जबकि केन रिचर्डसन 77वें से 65वें स्थान पर पहुंच गए।

 

19-01-2020
रोहित का शतक, शमी ने चटकाए चार विकेट, भारत ने जीती सीरीज

नई दिल्ली। भारत ने बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को सात विकेट से हराकर सीरीज अपने नाम कर ली है। रविवार को खेले गए मुकाबले में भारतीय टीम ने रोहित शर्मा (119), विराट (89) और श्रेयस अय्यर के नाबाद 44 रनों की बदौलत साल की पहली वनडे सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। मैच में टॉस जीतकर ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए स्टीव स्मिथ के 131 रनों की बदौलत 286 रन बनाए। भारत की तरफ से मोहम्मद शमी ने सर्वाधिक चार विकेट चटकाए। 

 

17-01-2020
भारत ने जीता राजकोट वनडे, चिन्नास्वामी में होगा सीरीज का आखरी मुकाबला

नई दिल्ली। राजकोट में खेले गए तीन मैच की वन-डे सीरीज के दूसरे मैच में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से मात दी। टॉस गंवाकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने शिखर धवन (96), विराट कोहली (78) और केएल राहुल (80) की अर्धशतकीय पारी के बूते निर्धारित 50 ओवर्स में छह विकेट खोकर 340 रन बनाए। जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम 49.1 ओवर में 304 रन बनाकर सिमट गई। भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने सर्वाधिक 3, नवदीप सैनी, कुलदीप यादव और रवींद्र जडेजा ने 2-2 विकेट चटकाए। जसप्रीत बुमराह के नाम एक विकेट आया। अब सीरीज का आखिरी और फाइनल मैच रविवार को बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में होगा। जसप्रीत बुमराह ने अपना पहला और ऑस्ट्रेलिया का आखिरी विकेट लेकर भारत को जीत दिला दी। इस तरह वन-डे सीरीज के दूसरे मैच में टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से मात दी। अब सीरीज का आखिरी और फाइनल मैच रविवार को बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में होगा।

 

17-01-2020
रायपुर को हराकर दुर्ग विश्वविद्यालय ने जीता इंटर कॉलेज गर्ल्स टूर्नामेंट

रायपुर। वीर स्पोर्ट्स क्लब के तत्वाधान में आयोजित पगारिया ज्वेलर्स फेस्टिवल ऑफ क्रिकेट में आज इंटर गर्ल्स कॉलेज का फाइनल मुकाबला दुर्ग विश्विद्यालय और गुरुकुल कन्या महाविद्यालय रायपुर के मध्य खेला गया, क्लब के अध्यक्ष प्रवीण जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि रायपुर ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का फैसला किया, पहले बल्लेबाजी करते हुए दुर्ग ने पल्लवी के 24 और अलका के 11 रनों की बदौलत 4 विकेट पर 61 रनों का लक्ष्य तैयार किया जिसमें रायपुर की ओर से माधुरी ने 2 विकेट लिए। जबाव में गुरुकुल की टीम 4 विकेट पर 51 रन ही बना सकी। पल्लवी मैन ऑफ द मैच चुनी गई। इस मैच में उद्योग मंत्री कवासी लखमा ने खिलाड़ियों को पुरस्कृत किया। दिन का दूसरा मैच हीरा ग्रुप और रबर इंडस्ट्री के मध्य खेला गया, टॉस जीतकर रबर इंडस्ट्री ने पहले हीरा ग्रुप को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। हीरा ग्रुप की ओर से सुमित 80 और सावंत के 30 रनो की बदौलत 2 विकेट के नुकसान पर 152 रनों के लक्ष्य रखा। जबाव में रबर इंडस्ट्री की पूरी टीम 8.5 ओवर में 76 रनों पर ही सिमट गई। हीरा की ओर से चंद्रशेखर ने तीन विकेट लिए  सुमित को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

 

 

17-01-2020
सबसे तेज सात हजारी ओपनर बने रोहित, सचिन-सौरव का यह रिकॉर्ड तोड़ने से चुके  

नई दिल्ली। भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज का दूसरा वन-डे राजकोट के मैदान पर खेला जा रहा है। इस मुकाबले में टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने एक विश्व रिकॉर्ड अपने किया, तो वहीं एक खास रिकॉर्ड अपने नाम करने से चूक गए। रोहित ने वन-डे इंटरनेशनल क्रिकेट में बतौर सलामी बल्लेबाज एक वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। वह वन-डे अंतरराष्ट्रीय में बतौर ओपनर सबसे तेज सात हजार रन बनाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं। रोहित इस मुकाबले में और चार रन बना लेते तो वह टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली, महान भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर और दिग्गज कैरेबियाई बल्लेबाज ब्रायन लारा को पीछे छोड़ देते। रोहित शर्मा ने राजकोट के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 18वां रन बनाते ही वन-डे इंटरनेशनल क्रिकेट में बतौर सलामी बल्लेबाज सात हजार रन का आंकड़ा पार कर लिया। इसी के साथ वह वन-डे क्रिकेट में बतौर ओपनर सबसे तेज सात हजार रन बनाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए। इस मामले में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका पूर्व ओपनर हाशिम अमला और भारतीय दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर को पछाड़ दिया। 32 साल के रोहित ने 137वीं पारी में ओपनिंग करते हुए सात हजार रन पूरे किए, जबकि हाशिम अमला ने ये मुकाम 147 पारियों में हासिल किया था। सचिन तेंदुलकर ने 160 पारियों में ओपनिंग करते हुए वन-डे क्रिकेट में सात हजार रन बनाए थे। रोहित शर्मा अगर राजकोट के मैदान पर 46 रन बनाने में सफल हो जाते, तो वह अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय में सबसे तेज 9 हजार रन पूरे करने वाले तीसरे बल्लेबाज बन जाते। रोहित इस मामले में सचिन, सौरव और ब्रायन लारा को पीछे छोड़ देते। हिटमैन इस रिकॉर्ड को अपने नाम करने से महज चार रन से चूक गए। वे 44 गेंदों में 42 रन बनाकर आउट हुए।  इस मैच से पहले इंटरनेशनल वन-डे में करियर में रोहित ने 8954 रन बनाए थे। इसके लिए उन्होंने 215 पारियां खेली हैं। सचिन तेंदुलकर ने 9 हजार एकदिवसीय रन का आंकड़ा 235 पारियों में पूरा किया था। सौरव गांगुली को 9 हजार रन बनाने के लिए 228 पारियों की जरूरत पड़ी थी। वहीं ब्रायन लारा ने ये कारनामा 239 वन-डे की पारियों में किया था। एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय में सबसे तेज 9 हजार बनाने का रिकॉर्ड टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के नाम है। कोहली ने 194 पारियों में इस रिकॉर्ड को अपने नाम किया था। वहीं दूसरे नंबर दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान एबी डीविलियर्स हैं। जिन्होंने 205 पारियों में ये मुकाम हासिल किया था।

 

17-01-2020
कुछ देर में भारत-आस्ट्रेलिया के बीच शुरू होगा मुकाबला, टीम इंडिया करेगी पहले बल्लेबाजी

रायपुर। राजकोट के मैदान में कुछ ही देर में भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करने उतरेगी। तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला का दूसरा मैच आज खेला जाएगा, भारत के लिए सीरीज बचाने के लिए आज जीत जरूरी है। आस्ट्रेलिया के कप्तान एरोन फिंच ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया है। आज के मैच के लिए भारतीय टीम में चोटिल रिषभ पंत की जगह प्लेइंग इलेवन में मनीष पांडे को शामिल किया गया है जबकि शार्दुल ठाकुर को बाहर कर नवदीप सैनी को टीम में जगह दी गई है। सीरीज का आखिरी मैच बेंगलुरु में रविवार 19 जनवरी को खेला जाएगा।

भारत का प्लेइंग इलेवन

रोहित शर्मा, शिखर धवन, केएल राहुल, विराट कोहली (कप्तान), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी

आॅस्ट्रेलिया का प्लेइंग इलेवन

डेविड वार्नर, एरोन फिंच (कप्तान), मार्नस लाबुशाने, स्टीव स्मिथ, एश्टन टर्नर, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), एश्टन एगर, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, केन रिचर्ड्सन, एडम जाम्पा

 

16-01-2020
खेलो इंडिया में छत्तीसगढ़ को चार पदक, मुख्यमंत्री और खेल मंत्री ने दी बधाई  

रायपुर। असम में आयोजित खेलो इंडिया प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ के खिलाड़ियों ने अपने बेहतर खेल प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुये चार पदक अपने नाम करने में कामयाब रहे हैं। खिलाड़ियों के इस उपलब्धि के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और खेल मंत्री उमेश पटेल ने बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।  खेलो इंडिया प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ से 13 खेलों में 102 खिलाड़ियों के दल ने भाग लिया है। 17 व 21 वर्ष आयु वर्ग के बालिका कबड्डी खेल प्रतियोगिता में कांस्य पदक प्राप्त हुआ है, वहीं जूडो में अनमोल को 80 किलो ग्राम वजन वर्ग में कांस्य पदक व भारोत्तोलन में ज्ञानेश्वरी यादव को 45 किलोग्राम वजन वर्ग में रजत पदक प्राप्त हुआ है। ज्ञानेश्वरी ने 61 किलो स्नेच व 76 किलो जर्क कुल 137 किलोग्राम वजन उठाकर राज्य के लिए ये उपलब्धि अर्जित की। खेलो इंडिया के पदक विजेता को मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप व्यक्तिगत खेलो में रजत पदक विजेता को 1.75 लाख रुपए, कास्य पदक विजेता को 1.50 लाख रुपए एवं दलीय खेल कबड्डी के प्रत्येक सदस्य को 50-50 हजार रूपए का नगद पुरस्कार, खेल दिवस पर आयोजित सम्मान समारोह में दिया जाएगा

Please Wait... News Loading